Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

29 June 2020

टिड्डियों को ड्रोन से काबू करने वाला भारत दुनिया का पहला देश

केंद्रीय कृषि मंत्रलय ने कहा है कि भारत पहला देश है जिसने सारे प्रोटोकॉल को पूरा करने और वैधानिक अनुमति मिलने के बाद टिड्डियों को काबू करने के लिए ड्रोन का प्रयोग किया। उपकरण आयात करने की सीमाओं में वृद्धि के साथ, कृषि सहयोग और किसान कल्याण विभाग (DAC & FW) के मशीनीकरण और प्रौद्योगिकी प्रभाग ने टिड्डी नियंत्रण के लिए स्वदेशी व्हीकल माउंटेड ULV (अल्ट्रा लो वॉल्यूम) स्प्रेयर विकसित करने के लिए पहल शुरू की। स्वदेशी रूप से विकसित इस प्रोटोटाइप ने परीक्षणों को सफलतापूर्वक पूरा किया है। राजस्थान के अजमेर और बीकानेर जिलों में परीक्षण किए गए।

लजारूस चकवेरा बने मलावी के राष्ट्रपति

अफ्रीकी देश मलावी के नए राष्ट्रपति के रूप में लजारुस चकवेरा का शपथ ग्रहण हुआ। उन्होंने गत सप्ताह हुए चुनाव में सत्तारूढ़ राष्ट्रपति पीटर मुथारिका को मात दी थी। पिछले साल हुए चुनाव में मुथारिका की जीत को अदालत ने अवैध करार दिया था। इसके बाद देशभर में फिर से चुनाव कराने की मांग को लेकर महीनों तक प्रदर्शनों का दौर चला।

‘आयुध निर्माणी बोर्ड’ का निगमीकरण

रक्षा मंत्रालय (भारत सरकार) के रक्षा उत्पादन विभाग की एक उच्च स्तरीय आधिकारिक समिति ने आयुध निर्माणी बोर्ड (Ordnance Factory Board- OFB) का निगमीकरण करने से संबंधित चिंताओं को दूर करने के लिये कर्मचारी संघों/संगठनों से बातचीत की। आयुध निर्माणी बोर्ड का निगमीकरण करना ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ का एक भाग है जिसकी घोषणा भारत सरकार ने 16 मई, 2020 को की थी। इसका निगमीकरण करने से आयुध आपूर्ति की स्वायत्तता, जवाबदेही एवं दक्षता में सुधार होगा।रक्षा उत्पादन विभाग के तहत आयुध निर्माणी बोर्ड 41 आयुध कारखानों के साथ देश भर में फैला हुआ है। सामूहिक रूप से 41 आयुध कारखानों का कॉरपोरेट मुख्‍यालय कोलकाता स्थित आयुध निर्माणी बोर्ड (OFB) है। OFB सशस्त्र बलों को हथियार एवं गोला-बारूद तथा अन्य उपकरणों की आपूर्ति करता है। उल्लेखनीय है कि पहला आयुध कारखाना वर्ष 1801 में कोलकाता के कोसीपोर में स्‍थापित किया गया था जिसे अब ‘गन एंड शेल फैक्ट्री’ के रूप में जाना जाता है।

छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा ‘गौधन न्याय योजना’ की शुरुआत की जाएगी

शीघ्र ही छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा राज्य में पशु मालिकों से गाय के गोबर को खरीदने के लिये ‘गौधन न्याय योजना’ की शुरुआत की जाएगी। छत्तीसगढ़ राज्य में ‘गौधन न्याय योजना’ की शुरुआत 11 जुलाई, 2020 से राज्य के लोकप्रिय ‘हरेली त्यौहार’ (Hareli Festival) के दिन की जाएगी। इस योजना के सुचारु क्रियान्वयन के लिये एक पाँच सदस्यीय कैबिनेट उप समिति का गठन किया गया है। यह समिति राज्य में किसानों, पशुपालकों, गौ-शाला संचालकों एवं बुद्धिजीवियों के सुझावों के अनुसार गोबर की क्रय दर निर्धारित करेगी। गोबर खरीद से लेकर उसके वित्तीय प्रबंधन और वर्मी कम्पोस्ट के उत्पादन से लेकर उसके विक्रय तक की प्रक्रिया के निर्धारण के लिये मुख्य सचिव की अध्यक्षता में प्रमुख सचिव एवं सचिवों की एक कमेटी गठित की गई है। राज्य सरकार द्वारा किसानों, पशुपालकों एवं बुद्धिजीवियों से राज्य में गोबर खरीद की दर निर्धारण के संबंध में अपने सुझाव देने का भी आग्रह किया गया है।

भारत, संयुक्त राष्ट्र के गरीबी उन्मूलन गठबंधन के संस्थापक सदस्य के रूप में शामिल

भारत, संयुक्त राष्ट्र के गरीबी उन्मूलन गठबंधन के संस्थापक सदस्य के रूप में शामिल हो गया है। इस गठबंधन का लक्ष्य कोरोना वायरस (COVID-19) वैश्विक महामारी के पश्चात् वैश्विक अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के प्रयासों पर ध्यान केंद्रित करना है। संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74वें सत्र के अध्यक्ष तिजानी मोहम्मद बंदे 30 जून को औपचारिक रूप से ‘गरीबी उन्मूलन गठबंधन’ की शुरुआत करेंगे। गठबंधन में संस्थापक सदस्य के तौर पर शामिल होते हुए भारत ने स्पष्ट किया कि केवल मौद्रिक मुआवज़े से गरीबी उन्मूलन संभव नहीं है, गरीबों के लिये गुणवत्तापूर्ण शिक्षा, स्वास्थ्य सेवा, स्वच्छ जल, स्वच्छता, उचित आवास एवं सामाजिक सुरक्षा सुनिश्चित करना भी काफी आवश्यक है। ध्यातव्य है कि गरीबी उन्मूलन के लिये आर्थिक असमानता एक बड़ी चुनौती के रूप में मौजूद है, एक अनुमान के मुताबिक विश्व की 60 प्रतिशत से अधिक धन-संपत्ति मात्र 2,000 अरबपतियों के पास मौजूद है।

महाराष्‍ट्र में सबसे बड़े प्‍लाज्‍मा थेरेपी सुविधा केन्‍द्र का उद्घाटन किया जाएगा

महाराष्‍ट्र में कोविड-19 से संक्रमित लोगों की संख्‍या बढने के बीच राज्‍य के मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि महाराष्‍ट्र में कोविड-19 के रोगियों का इलाज करने के लिए सबसे बड़े प्‍लाज्‍मा थेरेपी सुविधा केन्‍द्र का उद्घाटन किया जाएगा। श्री ठाकरे ने सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक के जरिए राज्‍य के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि प्‍लाज्‍मा थेरेपी कोविड-19 के रोगियों को स्‍वस्‍थ करने में सफल रही है। इसके जरिए दस में से नौ लोग ठीक हो रहे हैं।

उत्‍तराखंड में सीमा सड़क संगठन ने भारत-चीन सीमा के निकट मिलाम रोड पर पुल का पु‍नर्निर्माण पांच दिन में पूरा किया

उत्‍तराखंड में सीमा सड़क संगठन ने पिथौड़ागढ़ जिले में भारत-चीन सीमा के निकट मुंसियारी मिलाम रोड पर एक महत्‍वपूर्ण पुल का पु‍नर्निर्माण पांच दिन के रिकॉड समय में पूरा किया है। यह पुल पिछले सोमवार को उस समय क्षतिग्रस्‍त हो गया जब एक अर्थमूवर इसके ऊपर से गुजर रहा था। इस पुल का निर्माण प्राथमिकता के आधार पर किया गया है क्‍योंकि यह एक महत्‍वपूर्ण सामरिक सेतु है। सौ फुट लंबा यह पुल चीन के साथ सीमा पर उच्‍चतर हिमालयी चौकियों पर सेना और आई टी बी पी कार्मिकों के आने-जाने के लिए यह एकमात्र रास्‍ता है। इससे करीब तीस टन भार वाले वाहन गुजर सकते हैं।

एक जुलाई से सभी जिलों में ‘किल कोरोना अभियान’ शुरू होगा

कोरोना को मध्यप्रदेश से पूरी तरह समाप्त करने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी जिलों में 1 जुलाई से 'किल कोरोना अभियान' शुरू करने के निर्देश दे दिए हैं। अब डोर-टू-डोर सर्वे किया जाएगा, जिसमें कोरोना के साथ ही अन्य रोगों से संबंधित परीक्षण भी किया जाएगा। भोपाल में शनिवार 27 जून से इसकी शुरुआत हो गई है।

झारखंड में मिला विशाल मैंगनीज का भंडार

झारखंड में पूर्वी सिंहभूम जिले के चाकुलिया प्रखंड के बंगाल सीमा से सटे हाथीबेड़ा पहाड़ी पर विशाल मैंगनीज भंडार का पता चला है। भूतत्व विभाग ने साल भर पूर्व मिट्टी सर्वे का काम शुरू किया था। इसी क्रम में यहां मैंगनीज भंडार होने की पुष्टि हुई है। अब विभाग ने यहां डिलिंग करने के लिए पत्र लिख कर वन विभाग से अनुमति मांगी है। इस मैंगनीज भंडार के मिलने से चीन समेत दूसरे देशों पर निर्भरता कम होगी। भारत खुद मैंगनीज उत्पादन करेगा। इससे हजारों लोगों को रोजगार मिलेगा। झारखंड सरकार को भी राजस्व प्राप्त होगा। भूतत्व विभाग ने अपने पत्र में लिखा है कि 68.7 हेक्टेयर जमीन पर डिलिंग की जरूरत है। मैंगनीज काफी महत्वपूर्ण पोषक तत्व है, जो शरीर के समुचित कार्य के लिए जरूरी है। यह खनिज शरीर में कई रासायनिक प्रक्रियाओं को बढ़ावा देता है। हालांकि शरीर अपने आप ही मैंगनीज का उत्पादन करने में असमर्थ है। मैंगनीज, जब कैल्शियम और विटामिन डी के साथ मिलता है तो हड्डियों को मजबूती मिलती है।

स्पेन में सीवर के पानी में मिला कोरोना का जीनोम, पिछले साल मार्च में एकत्र किए गए नूमनों के अध्ययन में सामने आई बात

कोरोना वायरस की उत्पत्ति को लेकर एक नई जानकारी सामने आई है। इसके मुताबिक चीन में पहली बार सामने आने से बहुत पहले ही यूरोप के देश स्पेन में कोरोना वायरस मौजूद था। स्पेन के प्रतिष्ठित बार्सिलोना विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं को 12 मार्च, 2019 को एकत्र किए गए सीवर के पानी के नमूने में कोरोना वायरस मिला है। विश्वविद्यालय की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया है कि दुनिया के किसी भी कोने में कोविड-19 के किसी मरीज के सामने आने से बहुत पहले यह वायरस मौजूद था। ऑनलाइन प्लेटफार्म मेडआरक्सिव पर यह शोध अध्ययन प्रकाशित हुआ है। इससे पहले कहा जा रहा था कि चीन के वुहान में बीते साल दिसंबर में कोरोना मिला था। नए दावे ने कोरोना वायरस की उत्पत्ति को लेकर चल रही बहस को नया मोड़ दे दिया है। यहां यह बात भी गौर करने वाली है कि इस शोध की अभी तक समीक्षा नहीं की गई है, जो किसी भी वैज्ञानिक अध्ययन में प्रकाशन से पहले की प्रक्रिया का यक एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता है। स्पेन में आधिकारिक रूप से कोरोना का पहला केस फरवरी में आया लेकिन एक अन्य अध्ययन में यह भी दावा किया गया कि यहां मध्य जनवरी में सीवर के पानी में कोरोना वायरस का जीनोम मिला।

बायजूस हुआ डेकाकॉर्न क्लब में शामिल

बायजू रविंद्रन का एडुटेक स्टार्टअप बायजूस अब डेकाकॉर्न क्लब में शामिल हो गया है। 10 अरब डॉलर का वैल्यूएशन हासिल करने वाले स्टॉर्टअप को डेकाकॉर्न कहा जाता है। स्टार्टअप के लिए यह बहुत ही सम्मानजनक उपलब्धि है। सिलिकॉन वैली की निवेशक और एनालिस्ट मैरी मीकर्स की इनवेस्टमेंट कंपनी बांड कैपिटल ने बायजूस में 10.5 अरब डॉलर के वैल्यूशन पर निवेश किया है। 10.5 अरब डॉलर 79,409 करोड़ रुपए के बराबर होता है।

मानुषी छिल्लर बनीं यूनिसेफ इंडिया के अर्जेंट हेल्प कैंपेन की आवाज

यूनिसेफ इंडिया ने बच्चों को तत्काल सहायता उपलब्ध कराने की मुहिम शुरू की है। मानुषी छिल्लर इस कैंपेन की आवाज बनने जा रही हैं। एक्ट्रेस देश के नागरिकों से अपील कर रही हैं कि वे बेहद जरूरतमंद बच्चों की मदद के लिए हाथ बढ़ाएं।

जी 7 में द. कोरिया को शामिल करने पर जापान को आपत्ति

जापान ने जी 7 में दक्षिण कोरिया को शामिल करने के अमेरिकी प्रस्ताव पर आपत्ति जताई है। उसका कहना है कि चीन और उत्तर कोरिया से संबंधित अहम मुद्दों पर दक्षिण कोरिया, जी 7 के देशों से अलग राय रखता है।

वैज्ञानिकों ने रंगीन कपास को विकसित करने में सफलता पाने का दावा किया

ऑस्ट्रेलिया के वैज्ञानिकों ने रंगीन कपास को विकसित करने में सफलता पाने का दावा किया है। उनका कहना है कि इस रिसर्च से अब कपड़ाें में रासायनिक रंगाें के इस्तेमाल की जरूरत नहीं पड़ेगी। कॉमनवेल्थ साइंटिफिक एंड इंडस्ट्रियल रिसर्च ऑर्गनाइजेशन ने कहा कि हमने कपास के आणविक रंग के जेनेटिक कोड को पाने में सफलता हासिल कर ली है। फिलहाल हमने अलग-अलग रंगों के पौधों के टिश्यू काे तैयार कर लिया है। अब इसे खेतों में उगाया जा रहा है।

संयुक्त राष्ट्र चार्टर पर हस्ताक्षर करने की 75वीं वर्षगाँठ

26 जून, 2020 को वैश्विक समुदाय ने संयुक्त राष्ट्र चार्टर (U.N. Charter) पर हस्ताक्षर करने की 75वीं वर्षगाँठ मनाई। संयुक्त राष्ट्र संघ की स्थापना 24 अक्तूबर, 1945 को संयुक्त राष्ट्र अधिकार-पत्र के माध्यम से की गई थी किंतु इसे 26 जून, 1945 में एक घोषणा पत्र पर सदस्‍य देशों के हस्‍ताक्षर के बाद संयुक्त राष्ट्र चार्टर (U.N. Charter) के रूप में स्‍वीकार किया गया था। इस घोषणा पत्र पर संयुक्त राज्य अमेरिका के सैन फ्रांसिस्‍को में 50 देशों ने हस्ताक्षर किये थे। पोलैंड बाद में चार्टर पर हस्ताक्षर करके उसके संस्थापक सदस्यों में शामिल हुआ था। संयुक्त राष्ट्र एक अंतर्राष्ट्रीय संगठन है। संयुक्त राष्ट्र के मिशन और कार्य इसके चार्टर में निहित उद्देश्यों एवं सिद्धांतों द्वारा निर्देशित होते हैं।

Start the Quiz

« Previous Next Affairs »

Current Affairs Quiz

Here you can find Month Wise Quiz.

Quiz

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Exam

Here You can find previous year question paper and model test for practice.

Start Exam

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2020 RajasthanGyan All Rights Reserved.