Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

21 August 2020

इंदौर ने लगातार चौथी बार सबसे साफ-सुथरा शहर होने का खिताब जीतकर रिकार्ड बनाया

आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा किए गए वार्षिक स्वच्छता शहरी सर्वेक्षण के पांचवें संस्करण- स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के अनुसार मध्य प्रदेश के इंदौर ने भारत के सबसे स्वच्छ शहर का प्रतिष्ठित खिताब जीता, सूरत(गुजरात) और नवी मुंबई(महाराष्ट्र) ने क्रमशः (1 लाख जनसंख्या श्रेणी में) दूसरा और तीसरा स्थान प्राप्‍त किया। इंदौर ने यह पुरस्‍कार लगातार चौथी बार प्राप्‍त किया है। गंगा नदी के तट पर बसे शहरों में वाराणसी को सबसे स्‍वच्‍छ शहर का पुरस्‍कार मिला। नई दिल्‍ली को देश की सबसे स्‍वच्‍छ राजधानी शहर के लिए पुरस्‍कृत किया गया। छत्‍तीसगढ़ को सौ से अधिक शहरों वाले राज्‍यों की श्रेणी में पहला स्‍थान मिला और झारखंड को सौ से कम शहरों वाले राज्‍य की श्रेणी में प्रथम पुरस्‍कार मिला। जालंधर छावनी बोर्ड को देश के सबसे स्‍वच्‍छ छावनी बोर्ड का पुरस्‍कार दिया गया। चालीस लाख से अधिक आबादी वाले सबसे स्‍वच्‍छ शहरों में गुजरात का अहमदाबाद शीर्ष पर रहा। पुरस्‍कारों का विस्तृत विवरण www.swachhsurvekshan2020.org पर उपलब्ध है। केन्‍द्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने वर्चुअल माध्‍यम से आयोजित समारोह में ये पुरस्‍कार प्रदान किए।

बीकानेर में खुला दुर्लभ प्रामाणिक दस्तावेज का संग्रहालय

राजस्थान के बीकानेर शहर में एक विश्वस्तरीय अभिलेख संग्रहालय खोला गया है। इसमें करीब 3500 दुर्लभ और ऐतिहासिक दस्तावेज प्रदर्शित किए गए हैं। इनमें छत्रपति शिवाजी महाराज और औरंगजेब के बीच हुई पुरंदर संधि का दुर्लभ 22 फीट लंबा दस्तावेज भी है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये इसका उद्घाटन किया। यह देश में अपनी तरह का पहला अभिलेख संग्रहालय है। राजस्थान में सरकार के अधीन एक राज्य अभिलेखागार विभाग है। इसमें राज्य के महत्वपूर्ण अभिलेखों को संरक्षित रखा जाता है। इसका मुख्यालय बीकानेर में है। इसी विभाग ने 4.12 करोड़ रुपये की लागत से इस संग्रहालय को तैयार किया है। आजादी से पूर्व के विविध राजपूत-रजवाड़ों के मूल दस्तावेज तथा मुगलकालीन इतिहास के कई दुर्लभ और ऐतिहासिक दस्तावेज यहां सुरक्षित हैं। इनमें मुगलकालीन फरमान, निशान मन्सूर, अर्जदास्त, ताम्रपत्र, रजत पत्र, सियाह हुजूर, अखबार, वकील रिपोर्ट्स, तोजिये बहियां, रक्के, परवाने और रिकॉर्डस, प्रदेश के स्वतंत्रता सेनानियों की संघर्ष यात्र, प्रजामंडल आंदोलन की जानकारियां आदि शामिल हैं।

भारतीय डाक सेवा ने भारत में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों पर जारी किए डाक टिकट

भारतीय डाक सेवा ने 74 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर 15 अगस्त 2020 को भारत में स्थित यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों के पांच स्मारक डाक टिकटों का एक सेट और एक लघु पत्रक जारी किया है। यह श्रृंखला का तीसरा भाग है। ये टिकट भारत के पांच सांस्कृतिक स्थलों का चित्रण करते हैं -

  1. अहमदाबाद का ऐतिहासिक शहर
  2. गोवा के चर्च और कांवेंट्स
  3. पट्टदकल के स्मारक समूह
  4. खजुराहो के स्मारक समूह
  5. कुतुब मीनार

आंध्र के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने ग्राम, वार्ड सचिवालय में UPI- आधारित भुगतान सुविधाओं का शुभारंभ किया

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से 15,004 गाँव और वार्ड सचिवालयों में यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (यूपीआई) के माध्यम से डिजिटल भुगतान सेवाओं का शुभारंभ किया। आंध्र प्रदेश सरकार ने इस डिजिटलकरण प्रक्रिया के लिए नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) और केनरा बैंक के साथ समझौता किया है। इस डिजिटलकरण प्रक्रिया के तहत भुगतान के लिए लगभग 545 प्रकार की सेवाएं उपलब्ध होंगी।

केन्द्रीय MSME मंत्री नितिन गडकरी ने किसानों द्वारा प्रचारित ऑनलाइन पोर्टल VedKrishi.com लॉन्च किया

केन्द्रीय MSME मंत्री नितिन गडकरी ने एक ऑनलाइन पोर्टल VedKrishi.com लॉन्च किया। इस पोर्टल के जरिए ग्राहक ग्रॉसरी को सीधे किसानों से खरीद सकेंगे। इस प्लेटफॉर्म को नागपुर की वेदकृषि फार्मर प्रॉड्यूसर कंपनी ने स्थापित किया है। VedKrishi.com के जरिए डेयरी उत्पादों, सब्जियों, अनाज, दालों, अचार, जूस, सॉस आदि ग्रॉसरी प्रॉडक्ट्स की होम डिलीवरी होगी। कंपनी किसानों को इस प्लेटफॉर्म के जरिए सीधे उपभोक्ताओ से जोड़ेगी। रजिस्टर्ड उपभोक्ता एक साल पहले से एडवांस में अपने ऑर्डर शिड्यूल कर सकेंगे। इसके अलावा वेदकृषि अन्य किसानों को भी ऑर्गेनिक ​खेती से जुड़ी उम्दा प्रणालियों को लेकर परामर्श के जरिए सहयोग देगी। अभी VedKrishi.com पोर्टल परिचालन में नहीं आया है। इसकी सर्विस लॉन्च होने में थोड़ा वक्त लगेगा।

अहमदाबाद के दो पुलों का नाम स्वर्गीय अरुण जेटली और सुषमा स्वराज के नाम पर रखा गया

गुजरात में, अहमदाबाद शहर के दो ओवर ब्रिजों का नाम स्वर्गीय अरुण जेटली और सुषमा स्वराज के नाम पर रखा गया है । शहर के रानिप क्षेत्र में रेलवे ओवर ब्रिज को आत्मनिर्भर गुजरात रेलवे फ्लाईओवर के नाम से जाना जाएगा ।इनकम टैक्स सर्कल में नए बने फ्लाईओवर को अरुण जेटली फ्लाईओवर के रूप में जाना जाएगा , जबकि अंजलि चौराहे पर एक और फ्लाईओवर सुषमा स्वराज ब्रिज के नाम से जाना जाएगा ।

श्री अर्जुन मुंडा ने महाराष्ट्र के रायगढ़ और छत्तीसगढ़ के जगदलपुर में ट्राइफेड की ट्राइफूड परियोजना वर्चुअल तरीके से लांच की

केंद्रीय जनजातीय मामले मंत्री श्री अर्जुन मुंडा ने राज्य मंत्री श्रीमती रेणुका सिंह, महाराष्ट्र के जनजातीय मामले मंत्री श्री के. सी. पदवी, ट्राइफेड के अध्यक्ष श्री रमेश चंद मीणा और ट्राइफेड के प्रबंध निदेशक श्री प्रवीर कृष्णा की उपस्थिति में महाराष्ट्र के रायगढ़ और छत्तीसगढ़ के जगदलपुर में ट्राइफेड की ट्राइफूड परियोजना के तृतीयक प्रसंस्करण केंद्रों को ई-लांच किया। खाद्य प्रसंस्करण मंत्रालय के सहयोग से जनजातीय मामले मंत्रालय के ट्राइफेड द्वारा कार्यान्वित किए जा रहे ट्राइफूड परियोजना का लक्ष्य जनजातीय वन संग्रहकर्ताओं द्वारा संग्रहित एमएफपी के बेहतर उपयोग एवं मूल्य वर्धन के जरिये जनजातीयों की आय को बढ़ाना है। इसे अर्जित करने के लिए, आरंभ में, दो गौण वन ऊपज (एमएफपी) तृतीयक प्रसंस्करण इकाइयां स्थापित की जाएंगी। महाराष्ट्र के रायगढ़ की इकाई का उपयोग महुआ, आंवला, कस्टर्ड सेब एवं जामुन के मूल्य वर्धन के लिए किया जाएगा तथा यह महुआ पेय, आवंले का जूस और कस्टर्ड सेब पल्प का उत्पादन करेगी। छत्तीसगढ़ के जगदलपुर की मल्टी कमोडिटी प्रोसेसिंग सेंटर का उपयोग महुआ, आंवला, शहद, काजू, हल्दी, अदरक, लहसुन एवं अन्य फलां तथा सब्जियों के लिए किया जाएगा। इन्हें महुआ पेय, आंवला जूस, कैंडी, शुद्ध शहद, लीउुन-अदरक पेस्ट एवं फलां तथा सब्जियों के पल्प में रूपांतरित किया जाएगा।

सरदार पटेल राष्ट्रीय एकता पुरस्कार के लिए नामांकन की तिथि 31 अक्टूबर 2020 तक बढ़ी

सरदार पटेल राष्ट्रीय एकता पुरस्कार के लिए ऑनलाइन नामांकन प्रक्रिया को बढ़ाकर अब 31 अक्टूबर 2020 तक कर दिया गया है। यह भारत की एकता और अखंडता में योगदान के क्षेत्र में दिया जाने वाला सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार है। गृह मंत्रालय की वेबसाइट https://nationalunityawards.mha.gov.in. पर नामांकन ऑनलाइन प्राप्त किए जा रहे हैं। भारत सरकार ने इस पुरस्कार को सरदार वल्लभ भाई पटेल के नाम पर शुरू किया है। यह पुरस्कार राष्ट्रीय एकता और अखंडता को बढ़ावा देने के लिए और एक मजबूत तथा अखंड भारत के मूल्यों को मजबूती प्रदान करने के लिए उल्लेखनीय और प्रेरणादायक योगदान की पहचान करता है।

भारत में COVID-19 के कारण 41 लाख युवाओं ने नौकरी खोई : ILO-ADB की रिपोर्ट

अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन और एशियाई विकास बैंक ने “Tackling COVID-19 Youth employment crisis in Asia and Pacific” पर एक संयुक्त रिपोर्ट तैयार की। यह रिपोर्ट कहती है कि COVID-19 संकट के कारण लगभग 41 लाख भारतीय युवाओं को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा है। अंतर्राष्ट्रीय संगठनों द्वारा संयुक्त रूप से तैयार की गई रिपोर्ट कहती है कि नौकरी के नुकसान का बड़ा प्रतिशत खेत और निर्माण क्षेत्र से जुड़े श्रमिकों को झेलना पड़ सकता है। एशिया और प्रशांत क्षेत्र के 13 देशों में, लगभग 1-1.5 करोड़ युवा अपनी नौकरी खो सकते हैं। रिपोर्ट के अनुसार एशिया और प्रशांत क्षेत्र में पाकिस्तान में सबसे ज्यादा नौकरियां जायेंगी, इसके बाद भारत का स्थान है। भारत में बेरोजगारी की दर बढ़कर 32.5% हो गई है। हालांकि, इस क्षेत्र के सभी देशों में, श्रीलंका को 37.8% की दर से अधिकतम बेरोजगारी का सामना करना पड़ता है 15 से 24 वर्ष की आयु के युवाओं को वयस्कों की तुलना में अधिक अधिक नुकसान उठाना पड़ रहा है। भारत में, तीन-चौथाई इंटर्नशिप और दो-तिहाई फर्म-स्तरीय प्रशिक्षुता पूरी तरह से बाधित हो गई।

बंदरगाह और समुद्रीय क्षेत्र में कौशल विकास के लिए शिपिंग और कौशल विकास मंत्रालय के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए

समुद्रीय क्षेत्र में रोजगार के बड़े अवसरों का लाभ उठाने और अपने कौशल प्रमाणित करने के दृष्टिकोण से शिपिंग मंत्रालय और कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय के बीच डिजिटल रूप से एक समझौता ज्ञापन पर हस्‍ताक्षर किए गए। इस समझौता ज्ञापन पर कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री डॉ. महेन्‍द्रनाथ पांडेय और शिपिंग (स्वतंत्र प्रभार) एवं रसायन और उर्वरक राज्‍य मंत्री श्री मनसुख मंडाविया और विद्युत तथा नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा (स्‍वतंत्र प्रभार) और कौशल विकास तथा उद्यमिता राज्‍य मंत्री श्री आर.के.सिंह तथा वरिष्‍ठ अधिकारियों की उपस्थिति में हस्‍ताक्षर किए गए। समझौता ज्ञापन का उद्देश्य जहाजरानी उद्योग में मानव शक्ति में कौशल विकसित करना और तटीय इलाकों और वहां के लोगों का विकास करना है।

राष्ट्रीय कैंसर रजिस्ट्री कार्यक्रम रिपोर्ट, 2020

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने “नेशनल कैंसर रजिस्ट्री प्रोग्राम रिपोर्ट”, 2020 जारी किया। इस रिपोर्ट के अनुसार, भारत में कैंसर रोगियों की संख्या 2025 तक बढ़कर 15.7 लाख हो जाएगी। रिपोर्ट यह भी कहती है कि 2020 के अंत तक, देश में 13.9 लाख कैंसर रोगी होंगे। 2012 और 2016 के बीच 58 अस्पताल-आधारित कैंसर रजिस्ट्रियों और 28 जनसंख्या-आधारित कैंसर रजिस्ट्रियों से प्राप्त आंकड़ों के आधार पर रिपोर्ट का अनुमान लगाया गया है। 2020 में तम्बाकू से संबंधित कैंसर भारत के कुल कैंसर बोझ का 27.1% है। इसमें गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल कैंसर का 19.7% और गर्भाशय ग्रीवा के कैंसर का 5.4% शामिल है। भारत में कैंसर होने की सबसे अधिक घटनाएँ उत्तर पूर्व क्षेत्र में देखी गई। इस रिपोर्ट के अनुसार, अरुणाचल प्रदेश में 0 से 74 साल के बीच के चार व्यक्तियों में से एक को कैंसर होने की संभावना है। पुरुषों में पेट, फेफड़े, मुंह और अन्नप्रणाली के कैंसर आम हैं। दूसरी ओर, महिलाओं में गर्भाशय ग्रीवा और स्तन के कैंसर आम है। स्तन कैंसर के सबसे अधिक मरीज़ चेन्नई, हैदराबाद, दिल्ली और बेंगलुरु में हैं।

भारतीय रेलवे ने रेल बाइसाइकल नाम की नयी प्रणाली शुरु की

रेल बाइसाइकल

भारतीय रेलवे ने यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए रेल बाइसाइकल नाम की नयी प्रणाली शुरु की है जिसके जरिए रेल पटरियों की जांच, निगरानी और मरम्‍मत के लिए तकनीकी कर्मचारी निर्धारित स्‍थान तक पहुंच सकेंगे। रेल मंत्रालय ने कहा है कि बरसात के मौसम में कभी कभी स्थिति बड़ी कठिन हो जाती है जिससे रेल सेवाओं को स्‍थगित करना पड़ता है। लेकिन रेल बाइसाइकल के जरिए आसानी से पटरियों की टूट-फूट वाले स्‍थान पर पहुंच कर मरम्‍मत का काम किया जा सकेगा। आपात स्थिति के अलावा गर्म मौसम में पटरियों पर गश्‍त के लिए भी यह प्रणाली बेहद उपयोगी साबित होगी और इससे रेल मार्गों की रोजाना निगरानी की जा सकेगी।

उच्‍चतम न्‍यायालय ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मृत्‍यु के मामले में सीबीआई जांच को वैध बताया

उच्‍चतम न्‍यायालय ने व्‍यवस्‍था दी है कि सुशांत सिंह राजपूत की मृत्‍यु के सिलसिले में अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती के खिलाफ की जाने वाली केन्‍द्रीय अन्‍वेषण ब्‍यूरो-सीबीआई की जांच वैध है। शीर्ष न्‍यायालय ने मुम्‍बई पुलिस को आदेश दिया है कि वह इस मामले से संबंधित सभी साक्ष्‍य सीबीआई को सौंप दे।

सेनेटर कमला हैरिस अमरीकी उपराष्‍ट्रपति पद के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्‍मीदवारी स्‍वीकार करने वाली पहली भारतीय अमरीकी बनी

भारतीय मूल की सीनेटर कमला हैरिस ने उपराष्ट्रपति पद के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवारी स्वीकार कर ली है। इसी के साथ वह किसी प्रमुख राजनीतिक दल से इस अहम पद का टिकट पाने वाली पहली भारतीय-अमेरिकी और पहली अश्वेत महिला बन गई हैं। अपने संबोधन में कमला हैरिस ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को असफल नेता बताया।

डीबीएस बैंक इंडिया लिमिटेड ने प्रशांत जोशी को राष्ट्रीय वितरण के एमडी और प्रमुख के रूप में नियुक्त किया

डीबीएस बैंक इंडिया लिमिटेड ने प्रशांत जोशी को प्रबंध निदेशक (एमडी) और राष्ट्रीय वितरण प्रमुख के रूप में नियुक्त किया है। वह डीबीएस बैंक इंडिया लिमिटेड के प्रबंध निदेशक और सीईओ सुरजीत शोम को रिपोर्ट करेंगे।

शेरोन स्टोन का संस्मरण "The Beauty of Living Twice" मार्च 2021 में रिलीज़

हॉलीवुड अभिनेत्री शेरोन स्टोन(Sharon Stone) ने मार्च 2021 में अपने संस्मरण The Beauty of Living Twice के विमोचन की घोषणा की। उन्होंने ट्विटर पर पुस्तक के कवर का अनावरण किया। पुस्तक पेंसिल्वेनिया में दर्दनाक बचपन से लेकर मार्टिन स्कोर्सेसे के डकैत महाकाव्य 'Casino' जैसी फिल्मों में अभिनय करने के उनके अनुभव तक की यात्रा को दर्शाएगी जिसने उन्हें अकादमी पुरस्कार नामांकन और गोल्डन ग्लोब पुरस्कार दिया।

वर्चुअली आयोजित किया गया संसद के स्पीकरों का 5 वां विश्व सम्मेलन

संसद के अध्यक्षों के 5 वें विश्व सम्मेलन (5WCSP) का आयोजन वर्चुअली किया गया है। जिनेवा के अंतर-संसदीय संघ (IPU) और ऑस्ट्रिया की संसद ने संयुक्त रूप से संयुक्त राष्ट्र (UN) की सहायता से इस दो दिवसीय सम्मेलन का आयोजन किया। यह सम्मेलन लोगों और पृथ्वी के लिए शांति और सतत विकास प्रदान करने के लिए "Parliamentary leadership for more effective multilateralism" के विषय पर आयोजित किया गया था। सम्मेलन बेहतर दुनिया के पुनर्निर्माण के लिए बहुपक्षवाद और अंतर्राष्ट्रीय सहयोग को मजबूत करने के मुख्य उद्देश्य के साथ आयोजित किया गया था। भारत की ओर से लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सम्मेलन के उद्घाटन समारोह में हिस्सा लिया।

लुइस एबिनडर चुने गए डोमिनिकन रिपब्लिक के नए राष्ट्रपति

लुइस रोडोल्फो एबिनडर कोरोना (Luis Rodolfo Abinader Corona) ने डोमिनिकन रिपब्लिक के 54 वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली है। वह लिबरेशन पार्टी के डैनिलो मदीना का स्थान लेंगे। एबिनडर की मॉडर्न रिवोल्यूशनरी पार्टी (PRM) ने हाल में हुआ चुनाव में 53% वोट अपने नाम किया, जबकि सत्तारूढ़ PLD के उम्मीदवार रहे गोंज़ालो कैस्टिलो को कुल 37.7% वोट मिले। 53 वर्षीय लुइस रोडोल्फो एबिनडर को 5 जुलाई को चार साल के कार्यकाल के लिए चुना गया, जिसने सेंटर-लेफ्ट डोमिनिकन लिबरेशन पार्टी (पीएलडी) की 16 साल से चली आ रही सत्ता का अंत किया। 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में वह दूसरे स्थान पर रहे थे।

लक्ष्मी विलास बैंक ने इंस्टेंट खाता खोलने की सुविधा "LVB DigiGo" का किया शुभारंभ

लक्ष्मी विलास बैंक (LVB) ने ग्राहकों को इंस्टेंट बचत खाता खोलने में सक्षम बनाने के लिए एक नई डिजिटल पहल LVB DigiGo लॉन्च की है। बैंक की नई पहल से लोगों को वेबसाइट के माध्यम से जरुरी बैंकिंग सेवाओं का तुरंत लाभ उठाने में मदद मिलेगी। कोई भी लक्ष्मी DigiGo ग्राहक, अपने निकटतम एलवीबी शाखा जाकर अपने "लक्ष्मी डिजीगो" खाते को बदलकर पूरी तरह से चुनिंदा नियमित खाता और चेक बुक, डेबिट कार्ड और अन्य सुविधाओं का लाभ भी उठा सकता है।

यस बैंक ने शुरू की विशेष सुविधा ‘Loan Against Securities’

यस बैंक द्वारा अपने लोन इन सेकंड्स प्लेटफॉर्म के तहत एक विशेष डिजिटल समाधान ‘Loan against Securities’ लॉन्च किया गया है। "Loan against Securities" ग्राहकों के पास रखी उनकी प्रतिभूतियों के एवज में ऋण सुविधा का लाभ उठाने में सक्षम बनाएगा। इसमें ग्राहकों को अपनी प्रतिभूतियों को बेचने के बजाय केवल गिरवी रखकर ऋण मिल सकेगा। यस सुचारू लेन-देन करने के लिए ग्राहक के नाम पर एक चालू खाता खोलेगा। "Loan against Securities" सुविधा के तहत मान्य प्रतिभूतियां होंगी: शेयर, इक्विटी और डेब्ट म्यूचुअल फंड, किसान विकास पत्र (KVP), फिक्स्ड मैच्योरिटी प्लान (FMP), LIC एवं चयनित निजी कंपनियां द्वारा जारी बीमा पॉलिसियां, गैर-परिवर्तनीय डिबेंचर(NCD), कर मुक्त बांड (RBI, NABARAD, NHAI, PFC, IRFCL, HUDCO, IIFCL, NHB, REC, और IREDA)।

मुथूट फाइनेंस ने COVID-19 कवर देने के लिए कोटक जनरल इंश्योरेंस के साथ किया समझौता

मुथूट फाइनेंस ने गोल्ड लोन के साथ 1 लाख रुपये तक का COVID-19 इंश्योरेंस कवर प्रदान करने के लिए कोटक महिंद्रा जनरल इंश्योरेंस के साथ हाथ मिलाया है। कंपनी मुथूट ग्रुप की एक विशेष पहल मुथूट फाइनेंस आयुष गोल्ड लोन के माध्यम से अपने पात्र ग्राहकों को कॉम्प्लीमेंटरी COVID-19 बीमा कवर प्रदान करेगी। यह विशेष कवर केवल सुपर लोन योजना के तहत गोल्ड ऋण लेने वाले इच्छुक ग्राहकों के लिए उपलब्ध होगा।

पंजाब के मुख्यमंत्री ने कहा कि सतलज यमुना लिंक नहर मुद्दा राष्ट्र की सुरक्षा को प्रभावित कर सकता है

हाल ही में पंजाब के मुख्यमंत्री ने सतलज यमुना लिंक नहर [Sutlej Yamuna Link (SYL) Canal] परियोजना का विरोध और यमुना नदी के जल के लिये दावा करते हुए केंद्र सरकार से कहा कि यदि इस परियोजना के साथ आगे बढ़ने के लिये मजबूर किया गया तो पंजाब की आतंरिक स्थिति बिगड़ सकती है। सतलज यमुना लिंक नहर परियोजना से संबंधित मुद्दे पर एक प्राधिकरण के गठन की मांग करते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री ने कहा कि SYL मुद्दा राष्ट्र की सुरक्षा को प्रभावित कर सकता है। उल्लेखनीय है कि भारत के पंजाब राज्य की लगभग 425 किलोमीटर लंबी पश्चिमी सीमा पाकिस्तान से संबद्ध है। 28 जुलाई, 2020 को उच्चतम न्यायालय द्वारा पंजाब एवं हरियाणा के मुख्यमंत्रियों को SYL नहर मुद्दे पर आपस में बातचीत एवं इसका निपटारा करने का निर्देश देने के बाद यह मुद्दा फिर से चर्चा के केंद्र में आ गया।इससे पहले इस मुद्दे से संबंधित दोनों राज्यों के मुख्य सचिवों के बीच बैठकें हो रही थीं। उच्चतम न्यायालय ने केंद्र सरकार की मध्यस्थता में उच्चतम राजनीतिक स्तर पर बैठक करने के लिये कहा ताकि SYL नहर मुद्दे पर एक आम सहमति बनाई जा सके।परिणामतः केंद्रीय जल शक्ति मंत्री ने 18 अगस्त, 2020 को दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों के बीच बैठक आयोजित की।‘एसवाईएल कारजीवनाल (SYL Carajivnal) का निर्माण पूरा हो जाना चाहिये’ इस मुद्दे को लेकर यह बैठक अनिर्णायक रही। पंजाब में आतंकवाद की शुरुआत 1980 के दशक की शुरुआत में हुई जब सतलज यमुना लिंक नहर परियोजना पर कार्य शुरू हुआ।जब अप्रैल, 1982 में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने पंजाब के कपूरी गांव में SYL का निर्माण कार्य शुरू करवाया तो अकाली दल ने पानी के प्रस्तावित बँटवारे के विरोध में कपूरी मोर्चा (Kapoori Morcha) के रूप में आंदोलन चलाया।जुलाई 1985 में, तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी और तत्कालीन शिअद (शिरोमणि अकाली दल) प्रमुख हरचंद सिंह लोंगोवाल ने नए न्यायाधिकरण के लिये एक समझौते पर हस्ताक्षर किये। जिसके बाद 20 अगस्त, 1985 को हरचंद सिंह लोंगोवाल की आतंकवादियों ने हत्या कर दी।इसके बाद SYL परियोजना के निर्माण में लगे इंजीनियरों की भी आतंकवादियों ने हत्या की।

कोझिकोड विमान हादसे की जांच के लिए पैनल का गठन

विमान दुर्घटना जांच बोर्ड (एएआईबी) ने केरल के कोझिकोड में हुए विमान हादसे की परिस्थितियों की जांच करने के लिए पांच सदस्यीय पैनल का गठन किया है। यह पैनल पांच महीने में अपनी रिपोर्ट देगा। इस हादसे में 18 लोगों की मौत हो गई थी। पूर्व नामित परीक्षक एसएस चहर को हादसे की जांच के लिए गठित इस पैनल का प्रमुख बनाया गया है।

चीन के सिचुआन प्रांत में 70 वर्षों की सबसे भीषण बाढ़ आई

चीन के सिचुआन प्रान्‍त में भीषण बाढ़ से चैंगदू के निकट एक चट्टान पर स्‍थापित भगवान बुद्ध की प्रतिमा के चरणों तक बाढ़ का पानी पहुंच गया। पिछले 70 वर्षों में ये सबसे भीषण बाढ़ है। एक लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित स्‍थानों पर पहुंचाया गया है। बुद्ध की ये प्रतिमा लोकप्रिय पर्यटक स्‍थल है।

सांस्कृतिक क्षेत्र में सहयोग बढ़ाएंगे भारत और इजरायल

भारत और इजरायल ने अपने रणनीतिक द्विपक्षीय संबंधों को नई मजबूती देने के लिए एक सांस्कृतिक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। इससे दोनों देशों के बीच, साहित्य, शिक्षा, सिनेमा आदि के क्षेत्र में सहयोग के नए दरवाजे खुलेंगे। इस तीन वर्षीय कार्यक्रम का मूल उद्देश्य दोनों देशों के लोगों के बीच सहयोग और आदान-प्रदान को बढ़ावा देना है। समझौते पर इजरायल के विदेश मंत्री गाबी अश्केनजी और भारत के राजदूत संजीव सिंगला ने दस्तखत किए। अश्केनजी ने कहा कि फिल्म निर्माण के क्षेत्र में हम बॉलीवुड से हाथ मिलाने जा रहे हैं।

पचास वर्षो बाद मिला छछूंदर हाथी

अफ्रीका में छछूंदर हाथी मिलने की घटना काफी चर्चा में है। विज्ञानियों के मुताबिक यह प्राणी करीब 50 वर्षो से नहीं देखा गया था इसलिए इसे लगभग विलुप्त मान लिया गया था। देखने में ये न तो हाथी है और न ही छछूंदर है। अमेरिका के ड्यूक यूनिवर्सटिी के शोधकर्ता स्टीवन हेरिटेज ने इसकी पहचान की है। इस नन्हे से जीव की छोटी सी टांगें बहुत मजबूत होती हैं और यह एक घंटे में तीस किमी तक दौड़ सकता है। इसकी नुकीली नाक चट्टानी क्षेत्र में भोजन को गहराई तक ढूंढ सकती हैं। सोमाली (पहले इस जीव के सिर्फ सोमालिया में मिलने के कारण ये नाम मिला) को अंतिम बार 1970 में देखा गया था। इसी के चलते इस प्रजाति को विलुप्तप्राय प्रजातियों की सूची में शामिल कर लिया गया था। इस जीव के मिलने के बाद स्थापित हो गया कि यह प्रजाति सोमालिया के बाहर भी विद्यमान है।

प्रकाश पर्व : 19 अगस्त

19 अगस्त, 2020 को भारतीय प्रधानमंत्री ने पवित्र ग्रंथ ‘गुरु ग्रंथ साहिब’ (Guru Granth Sahib) के प्रकाश पर्व (Prakash Purab) पर देशवासियों को शुभकामनाएँ दी। वर्ष 1604 में, प्रथम प्रकाश पर्व उत्सव हरमंदिर साहिब (Harmandir Sahib) में गुरु ग्रंथ साहिब (Guru Granth Sahib) की स्थापना के रूप में मनाया गया था जिसे स्वर्ण मंदिर (Golden Temple) के नाम से भी जाना जाता है। सिख धर्म में गुरु ग्रंथ साहिब को शाश्वत गुरु का दर्जा दिया गया है इसी कारण इसे ‘आदि ग्रंथ’ के रूप में भी जाना जाता है। यह सिख धर्म का प्रमुख धार्मिक ग्रंथ है। आदि ग्रंथ (पहला प्रतिपादन) को सिख धर्म के पाँचवें गुरु ‘गुरु अर्जुन देव’ द्वारा संकलित किया गया था। इस आदि ग्रंथ में सिख धर्म के दसवें गुरु ‘गुरु गोविंद सिंह’ ने अपना कोई भजन नहीं जोड़ा। हालाँकि उन्होंने नौवें सिख गुरु ‘गुरु तेग बहादुर’ के सभी 115 भजनों को जोड़ा और उनके उत्तराधिकारी के रूप में पाठ की पुष्टि की। इस दूसरी प्रस्तुति को गुरु ग्रंथ साहिब के रूप में जाना जाता है और कभी-कभी इसे आदि ग्रंथ भी कहा जाता है। गुरु ग्रंथ साहिब को गुरमुखी लिपि में विभिन्न भाषाओं में लिखा गया है, जिसमें लाहंडा (Lahnda), ब्रजभाषा, कौरवी, संस्कृत, सिंधी एवं फारसी शामिल हैं। ‘गुरु ग्रंथ साहिब’ की रचना मुख्य रूप से 6 सिख गुरुओं (गुरु नानक, गुरु अंगद, गुरु अमर दास, गुरु राम दास, गुरु अर्जुन देव एवं गुरु तेग बहादुर) द्वारा की गई थी। इसमें भक्ति आंदोलन से संबंधित 13 संत कवियों एवं दो सूफी मुस्लिम कवियों की काव्य शिक्षाएँ भी शामिल हैं। गुरु ग्रंथ साहिब की मूल चेतना ‘किसी भी प्रकार के उत्पीड़न के बिना दैवीय न्याय (Divine Justice) पर आधारित समाज की स्थापना’ पर आधारित है।वर्ष 1604 में आदि ग्रंथ का पहला संस्करण पूरा हुआ जिसे आधिकारिक रूप से गुरु अर्जुन देव द्वारा अनुमोदित किया गया और इसे स्वर्ण मंदिर में स्थापित किया गया था जहाँ बाबा बुद्ध (Baba Buddha) इसके पहले ग्रन्थि या पाठक थे।

भारतीय अक्षय ऊर्जा दिवस: 20 अगस्त

हर साल 20 अगस्त को भारतीय अक्षय ऊर्जा दिवस या अक्षय ऊर्जा दिवस मनाया जाता है। यह दिन भारत में अक्षय ऊर्जा संसाधनों के महत्व को चिह्नित करने के लिए मनाया जाता है। भारत सरकार, देश को ऊर्जा की एक स्थायी मात्रा प्रदान करने के लिए विकास अथवा नवीकरणीय ऊर्जा स्रोतों के महत्व से अवगत है। ऐसे में समय में उन लोगों के बीच नवीकरणीय संसाधनों के बारे में जागरूकता को बढ़ावा देना महत्वपूर्ण बन जाता है जो इस विषय से अनभिज्ञ हैं। भारतीय अक्षय उर्जा दिवस की शुरुआत साल 2004 में अक्षय ऊर्जा विकास कार्यक्रमों का समर्थन करने और ऊर्जा के पारंपरिक स्रोतों के बजाय इसके उपयोग को बढ़ावा देने के लिए की गई थी। तत्कालीन प्रधान मंत्री मनमोहन सिंह ने 2004 में इस अवसर पर एक स्मारक डाक टिकट जारी किया, और 12,000 स्कूली बच्चों ने अक्षय ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए एक मानव श्रृंखला बनाई। 20 अगस्त को अकारण ही नही चुना गया बल्कि इस दिन को भारत के पूर्व प्रधान मंत्री राजीव गांधी की जयंती के रूप में चुना गया था।

सदभावना दिवस: 20 अगस्त

देश भर में प्रत्येक वर्ष 20 अगस्त को राजीव गांधी की जयंती को सदभावना दिवस या सद्भाव दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस वर्ष 20 अगस्त 2020 को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 76 वीं जयंती मनाई जा रही हैं। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने उनकी मृत्यु के एक साल बाद 1992 में राजीव गांधी सद्भावना पुरस्कार की शुरुआत की थी। हर साल यह दिन स्वर्गीय राजीव गांधी की याद में मनाया जाता है, जो 40 साल की उम्र में भारत के सबसे युवा प्रधानमंत्री बने थे। भारत के लिए उनके विचारों को श्रद्धांजलि देने के लिए, इस अवसर पर समाज की बेहतरी में योगदान दिया जाता है।

शंकर दयाल शर्मा

19 अगस्त, 2020 को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. शंकर दयाल शर्मा की जयंती पर राष्ट्रपति भवन में उन्हें श्रद्धांजलि दी। पूर्व राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा का जन्म 19 अगस्त, 1918 को हुआ था। वर्ष 1947 में स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद शंकर दयाल शर्मा स्वतंत्र भारत के राजनीतिक वातावरण में सक्रिय हो गए और उन्होंने राज्य तथा राष्ट्रीय स्तर पर कई महत्त्वपूर्ण राजनीतिक पदों पर कार्य किया। शंकर दयाल शर्मा ने वर्ष 1992 से वर्ष 1997 तक देश के नौवें राष्ट्रपति के तौर पर कार्य किया, उन्हें वर्ष 1984 में आंध्रप्रदेश का राज्यपाल नियुक्त किया गया था। तत्कालीन प्रधानमंत्री और अकाली दल के अध्यक्ष के बीच लोंगोवाल-राजीव समझौते के मद्देनज़र शंकर दयाल शर्मा को वर्ष 1985 में पंजाब का राज्यपाल बनाया गया था। इसके बाद वे 3 सितंबर, 1987 से भारत के आठवें उप-राष्ट्रपति और राज्यसभा के पदेन सभापति बने, इसके बाद उन्होंने वर्ष 1992 में राष्ट्रपति पद की शपथ ग्रहण की। शंकर दयाल शर्मा का 26 दिसंबर, 1999 को नई दिल्ली में 81 वर्ष की उम्र में निधन हो गया।

ब्रिटिश टेनिस स्टार एंजेला बक्सटन का निधन

पूर्व ब्रिटिश टेनिस खिलाड़ी, दो बार की ग्रैंड स्लैम डबल्स चैंपियन और समानता अधिकार की समर्थक एंजेला बक्सटन (Angela Buxton) का निधन। बक्सटन ने 1956 में रोलैंड गैरोस और विंबलडन दोनों में एल्थिया गिब्सन के साथ महिला डबल जीता था। बक्सटन विंबलडन 1956 में सिंगल फाइनल में पहुंच गई, लेकिन उन्हें उसमे अमेरिकी शर्ली फ्राई से हार का सामना करना पड़ा था।

श्री संतोष गंगवार ने श्रम ब्यूरो का लोगो लॉन्च किया

श्रम और रोजगार राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री संतोष कुमार गंगवार ने श्रम शक्ति भवन में श्री हीरालाल सामरिया,सचिव,श्रम और रोजगार मंत्रालय, श्रम ब्यूरो महानिदेशक श्री डी. पी. एस. नेगी और मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों की मौजूदगी में श्रम और रोजगार मंत्रालय के संबद्ध कार्यालयश्रम ब्यूरो के विज़न और उद्देश्यों को दृष्टिगत रूप से बताने के लिए उसके आधिकारिक लोगो को लॉन्च किया। श्रम ब्यूरो की स्थापना 1941 में शिमला में कॉस्ट ऑफ लिविंग निदेशालय के रूप में की गई थी,जिसका उद्देश्य एकसमान आधार पर देश के महत्वपूर्ण केंद्रों के लिए फैमिली बजट की जांच करवाने और कॉस्ट ऑफ लिविंग सूचकांक नंबरों का संकलन करना था। श्रम नीति के निर्माण के संदर्भ में अधिक व्यापक श्रम आंकड़ों की आवश्यकता महसूस होने के बाद कुछ अन्य कार्यों को जोड़ते हुए कॉस्ट ऑफ लिविंग निदेशालय को फिर से संगठित करके 1 अक्टूबर, 1946 को श्रम ब्यूरो की स्थापना की गई।

हॉकी इंडिया कोविड महामारी को देखते हुए 61 जरूरतमंद खिलाडियों को दस हजार रूपये की आर्थिक मदद देगी

हॉकी इंडिया कार्यकारी बोर्ड ने कोरोना संकट को देखते हुए बेरोजगार सीनियर एवं जूनियर 61 खिलाड़ियों को तत्काल 10-10 हजार रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। जिन 61 खिलाड़ियों को आर्थिक सहायता मिलेगी उनमें 30 जूनियर और चार सीनियर महिला खिलाड़ी के साथ 26 जूनियर और एक सीनियर पुरुष खिलाड़ी शामिल हैं। हॉकी इंडिया के कार्यवाहक अध्यक्ष ज्ञानेंद्रो निंगोमबम है।

आपात ऋण गारंटी योजना के अंतर्गत बैंकों ने एक लाख 50 हजार करोड़ रूपये से अधिक राशि के ऋण मंजूर किये

आपात ऋण गारंटी योजना के अंतर्गत सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के बैंकों ने एक लाख 50 हजार करोड़ रूपये से अधिक राशि के ऋण मंजूर किये हैं। वित्त मंत्रालय ने कहा है कि एक लाख करोड़ रूपये से अधिक ऋण दिये जा चुके हैं। कोविड-19 महामारी और लॉकडाउन से हुई वित्तीय कठिनाइयों को कम करने के लिए सरकार के आत्मनिर्भर भारत पैकेज के तहत विभिन्न क्षेत्रों विशेषकर सूक्ष्म,लघु और मध्यम उद्यमों को यह ऋण दिये गये हैं। इस योजना के तहत सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों ने 76 हजार करोड़ रूपये से अधिक ऋण मंजूर किये गये हैं। इनमें से 56 हजार करोड़ रूपये से अधिक राशि वितरित की जा चुकी है। इस योजना के तहत सबसे अधिक ऋण भारतीय स्टेट बैंक, केनरा बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया और एचडीएफसी बैंक लिमिटेड ने दिए हैं।

Start the Quiz

« Previous Next Affairs »

Current Affairs Quiz

Here you can find Month Wise Quiz.

Quiz

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Exam

Here You can find previous year question paper and model test for practice.

Start Exam

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2020 RajasthanGyan All Rights Reserved.