Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

8 October 2020

इमैनुएल चार्पियर और जेनिफर ए. डोडना को रसायन विज्ञान का नोबेल पुरस्कार

इस साल का Chemistry (रसायन विज्ञान) का नोबेल पुरस्कार जीनोम एडिटिंग नई पद्धति खोजने के लिए इमैनुएल चार्पियर (Emmanuelle Charpentier) और जेनिफर ए. डोडना (Jennifer A. Doudna) को दिया गया है। रसायन विज्ञान के लिए दिया जाने वाला नोबेल पुरस्कार रॉयल एकेडमी ऑफ साइंसेज, स्टॉकहोम, स्वीडन द्वारा प्रदान किया जाता है। इमैनुएल चार्पियर (Emmanuelle Charpentier) और जेनिफर ए. डोडना (Jennifer A. Doudna) ने CRISPR-Cas9 DNA कैंची के रूप में पहचाना जाने जाना वाला जीनोन एडिटिंग (gene-editing) तकनीक को विकसित किया है। इनके प्रयोग से शोधकर्ता जानवरों, पौधों और सूक्ष्मजीवों के डीएनए को अत्यधिक उच्च परिशुद्धता के साथ बदल सकते हैं। इस तकनीक का जीवन विज्ञान पर एक क्रांतिकारी प्रभाव पड़ा है, नए कैंसर उपचारों में योगदान कर रहा है और विरासत में मिली बीमारियों के इलाज के सपने को सच कर सकता है।

डीके खारा एसबीआइ के चेयरमैन नियुक्त

सरकार ने दिनेश कुमार खारा को भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआइ) का चेयरमैन नियुक्त किया। उन्होंने रजनीश कुमार की जगह ली, जिन्होंने तीन वर्षो का कार्यकाल पूरा कर लिया। खारा वर्ष 2017 में भी चेयरमैन पद के दावेदारों में शामिल थे। उन्हें अगस्त, 2016 में तीन वर्षो के लिए एसबीआइ का एमडी नियुक्त किया गया था। बाद में प्रदर्शन की समीक्षा के आधार पर उन्हें दो वर्षो का सेवा विस्तार मिला। वित्त मंत्रलय ने कहा कि खारा की नियुक्ति सात अक्टूबर या उसके बाद उनके पदभार ग्रहण करने की तिथि से अगले तीन वर्षो तक के लिए होगी।

भारत पोस्ट पेमेंट्स बैंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी, सीईओ के रूप में जे वेंकटरामू की नियुक्ति

कैबिनेट पैनल ने जे वेंकटरमू को तीन साल के लिए इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के प्रबंध निदेशक (एमडी) और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) के रूप में नियुक्त किया। वेंकटरामु के पास भुगतान, मोबाइल बैंकिंग, खुदरा बैंकिंग उत्पादों जैसे बैंकिंग सेवाओं में 22 वर्षों का कार्य अनुभव है और उन्होंने डिजिटल वित्तीय परियोजनाओं का प्रबंधन भी किया है।

एम ए गणपति नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो के नए महानिदेशक

मंत्रिमंडल की नियुक्‍ति‍ समिति ने नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो (बीसीएएस) के महानिदेशक पद पर एम ए गणपति की नियुक्‍त‍ि का अनुमोदन कर दिया है। वे इस पद पर 29 फरवरी 2024 को अपनी सेवानि‍वृत्ति तक या अगले आदेश तक रहेंगे। श्री गणपति 1986 बैच के उत्‍तराखंड संवर्ग के भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी हैं। नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो के महानिदेशक का पद अगस्‍त में खाली हुआ था जब श्री राकेश अस्‍थाना को सीमा सुरक्षा बल का महानिदेशक नियुक्‍त किया गया था।

निर्मला सीतारमण ने लॉन्च किया इंडियन बैंक का बिजनेस मेंटरिंग प्रोग्राम 'MSME Prerana'

इंडियन बैंक ने एमएसएमई (सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग) सेक्टर के लिए 'एमएसएमई प्रेरणा' नाम से एक ऑनलाइन बिजनेस मेंटरिंग प्रोग्राम शुरू किया है। बैंक का कहना है कि यह देश में एमएसएमई सेक्टर के लिए किसी भी बैंक द्वारा शुरू किया गया इस तरह का पहला कार्यक्रम है। एमएसएमई प्रेरणा को आधिकारिक तौर पर केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लॉन्च किया है। इस प्रोग्राम को स्थानीय भाषाओं में उपलब्ध कराया जाएगा। एमएसएमई प्रेरणा का मकसद स्किल डेवलपमेंट और कैपिसिटी बिल्डिंग वर्कशॉप्स के जरिए उद्यमियों को मजबूत बनाना है।

गुजरात में नाबार्ड और एसबीआई के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्‍ताक्षर

गुजरात में राष्‍ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक-नाबार्ड ने सार्वजनिक क्षेत्र के भारतीय स्‍टेट बैंक के साथ विभिन्‍न परियोजनाओं के लिए ऋण सुविधा का विस्‍तार करने के समझौता ज्ञापन पर हस्‍ताक्षर किए हैं। गुजरात में नाबार्ड के मुख्‍य महाप्रबंधक डी के मिश्रा और भारतीय स्‍टेट बैंक के अहमदाबाद सर्कल के मुख्‍य महाप्रबंधक दुखबंधु रथ ने नाबार्ड के अध्‍यक्ष जी आर चिंताला की उपस्थित में समझौता ज्ञापन पर हस्‍ताक्षर किए। समझौता ज्ञापन के अनुसार संयुक्‍त दायित्‍व समूहों और स्‍वयं सहायता समूहों को वित्‍तीय सहायता तथा किसान-उत्‍पादक संगठनों को ऋण सहायता उपलब्‍ध कराने के अलावा जलग्रहण क्षेत्र विकास परियाजनाओं को आर्थिक मदद दी जा सकेगी।

पीएम स्‍वनिधि पोर्टल और एसबीआई के मुद्रा पोर्टल के बीच एप्लीकेशन प्रोग्रामिंग इंटरफेस, इंटीग्रेशन की शुरूआत

आवासन और शहरी मामलों के सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने ऋण आवेदनों को मंजूरी देने की प्रक्रिया आसान बनाने के लिए प्रधानमंत्री स्‍वनिधि पोर्टल और स्टेट बैंक ऑफ इंडिया पोर्टल के बीच एप्लीकेशन प्रोग्रामिंग इंटरफेस(API), इंटीग्रेशन की शुरूआत की। इससे पीएम स्‍वनिधि पोर्टल और एसबीआई के ई मुद्रा पोर्टल के बीच जानकारी का सहज और सुरक्षित प्रवाह हो पाएगा और ऋण की मंजूरी और इसके वितरण की प्रक्रिया में तेजी आएगी। इससे पीएम स्‍वनिधि योजना के तहत कार्यशील पूंजी ऋण प्राप्त करने वाले पथ विक्रेताओं को लाभ होगा।

‘इंडिया पीवी एज-2020’ विषय पर संगोष्ठी आयोजित

नीति आयोग, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय तथा इन्वेस्ट इंडिया ने 6 अक्टूबर को विश्वभर के पीवी उद्योग के लिए भारत में अवसर के बारे में सूचित करने के उद्देश्य से ‘इंडिया पीवी एज-2020’ विषय पर सौर पीवी के विनिर्माण पर आधारित एक संगोष्ठी आयोजित की। इस कार्यक्रम में वैश्विक पीवी निर्माताओं, डेवलपरों, निवेशकों, थिंक टैंक और शीर्ष नीति-निर्माताओं के साथ-साथ लगभग 60 प्रमुख भारतीय और वैश्विक सीईओ शामिल हुए। इन सत्रों के बाद सोलर विनिर्माण के क्षेत्र में पूंजी जुटाने के तरीकों पर विचार-विमर्श के लिए निवेशकों का एक गोलमेज सम्मेलन आयोजित किया गया। इस आयोजन में भारत को सौर पीवी विनिर्माण के लिए वैश्विक तकनीकों को सफल तकनीकों के साथ और स्थानीय तथा वैश्विक फर्मों द्वारा गीगा-स्केल कारखानों को स्थापित करने के लिए एक प्रणाली उपलब्ध करने की क्षमता के बारे में चर्चा की गई। भारत में अब दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी सौर ऊर्जा की स्थापित क्षमता है। यह ऐसे कुछ देशों में से एक है, जो अपने तीन प्रमुख एनडीसी लक्ष्यों को पूरा करने की स्थिति में है, जैसे- वर्ष 2030 तक, 40 प्रतिशत गैर-जीवाश्म ईंधन आधारित बिजली क्षमता प्राप्त करना, उत्सर्जन में 30 से 35 प्रतिशत कमी लाना और 2.5 से 3 अरब टन कार्बन डाइऑक्साइड का कार्बन सिंक तैयार करना। भारत इन लक्ष्यों तक शीघ्र ही पहुंचने वाला है।

जामिया ने विकसित की कोरोना की नई जांच किट

जामिया मिल्लिया इस्लामिया के शोधकर्ताओं ने लार के जरिये कोरोना वायरस की जांच के लिए किट विकसित की है। शोधकर्ताओं का दावा है कि यह दुनिया की पहली लार आधारित जांच किट है, जिसकी मदद से कोई भी व्यक्ति घर पर ही कोरोना संक्रमण की जांच कर सकेगा। शोधकर्ताओं ने इसे एमआइ-एसईएचएटी (मोबाइल इंटीग्रेटेड सेंसिटिव एस्टीमेशन एंड हाइस्पेसिफिसिटी एप्लिकेशन टेस्टिंग) नाम दिया है।

गश्ती पोत विग्रह हुआ लांच, श्रृंखला का अंतिम पोत

भारतीय तटरक्षक दल के सातवें गश्तीदल ‘विग्रह’ का औपचारिक रूप से कट्टूपल्ली में अनावरण किया है। अत्याधुनिक नौवहन एवं संचार उपकरणों से लैस यह पोत भारतीय तटीय सीमाओं की निगरानी बढ़ाने में मदद करेगा। मार्च, 2021 में इसे भारतीय तटरक्षक दल में शामिल कर लिया जाएगा। लार्सन एंड टूब्रो लिमिटेड ने 98 मीटर लंबे और 15 मीटर चौड़े जहाज को यहां अपने यार्ड में तैयार किया है। विग्रह एलएंडटी का विकसित सातवां और इस श्रृंखला का अंतिम पोत है जिसके लिए वर्ष 2015 में रक्षा मंत्रलय के साथ 1432 करोड़ रुपये का करार हुआ था। विग्रह पोत का इस्तेमाल समुद्री सीमा की निगरानी, तस्करों की धरपकड़ और गैरकानूनी गतिविधियों की रोकथाम है। इसलिए इसकी अधिकतम रफ्तार 26 नॉट्स है और यह एक बार में बिना रुके 10,000 किलोमीटर की यात्र पर जा सकता है। इससे पहले, लार्सन एंड टूब्रो लिमिटेड ने आइसीजीएस विक्रम, आइसीजीएस विजया, आइसीजीएस वीरा, आइसीजीएस वराह, आइसीजीएस वरड और आइसीजीएस वज्र का भी निर्माण किया है।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने कठोर जैविक प्रदूषकों के बारे में स्‍टॉकहोम संधि के तहत सूचीबद्ध सात रसायनों पर प्रतिबंध की पुष्टि को मंजूरी दे दी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने कठोर जैविक प्रदूषकों के बारे में स्‍टॉकहोम संधि के तहत सूचीबद्ध सात रसायनों((i)क्‍लोरडीकोन,(ii)हेक्‍साब्रोमोडीफिनाइल,(iii)हेक्‍साब्रोमोडीफिनाइल इथर औरपेंटाब्रोमोडीफिनाइल (कमर्शियल पेंटा-बीडीई),(v)पेंटाक्‍लोरोबेंजीन,(vi)हेक्‍साब्रोमोसाइक्‍लोडोडीकेन,और(vii)हेक्‍साक्‍लोरोबूटाडीन) पर प्रतिबंध की पुष्टि को मंजूरी दे दी है। मंत्रिमंडल ने इस संबंध में पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन तथा विदेश मंत्रालय को स्‍टॉकहोम संधि के तहत रसायनों पर प्रतिबंध की पुष्टि के अधिकार भी प्रदान कर दिए। स्‍टॉकहोम संधि अंतर्राष्‍ट्रीय संधि है जिसमें कठोर जैविक प्रदूषकों से मानव स्‍वास्‍थ्‍य और पर्यावरण की सुरक्षा का प्रावधान किया गया है। संधि के तहत ऐसे रासायनिक पदार्थों की पहचान की गई है जो पर्यावरण में बने रहते हैं, सूक्ष्‍म जीवों के शरीर में प्रवेश कर जाते हैं और मानव स्‍वास्‍थ्‍य पर बुरा असर डालते हैं। ऐसे पदार्थ लम्‍बे समय तक पर्यावरण में मौजूद रहते हैं। इनसे कैंसर, प्रजनन क्षमता में गड़बड़ी और शिशु तथा बच्‍चों के विकार में बाधा जैसे दुष्‍प्रभाव होते हैं।

त्वरित कार्य बल- आरएएफ की 28वीं वर्षगांठ

त्वरित कार्यबल की स्थापना 7 अक्तूबर 1992 में दस इकाइयों के साथ हुई थी। इसमें पहली जनवरी 2018 में पांच और इकाइयों को शामिल किया गया। इन इकाइयों का गठन दंगा और दंगे जैसी स्थिति से निपटने के लिए किया गया जिससे समाज के सभी वर्गों में विश्वास बढ सके।

रूस ने हाइपरसोनिक क्रूज मिसाइल जिरकॉन का सफल परीक्षण किया

रूस ने हाइपरसोनिक क्रूज मिसाइल जिरकॉन का सफल परीक्षण किया है। रूस के रक्षा मंत्रालय ने बताया कि इस मिसाइल का परीक्षण बैरंट सागर में किया गया है। इस मिसाइल ने ध्‍वनि की तुलना में 8 गुना ज्‍यादा स्‍पीड (मैक 8) से 450 किमी की दूरी तय की और अपने नकली लक्ष्‍य को तबा‍ह किया। रूस ने यह परीक्षण ऐसे समय पर किया है जब उसका अमेरिका के नेतृत्‍व वाले नाटो देशों के साथ तनाव चल रहा है। इस हाइपरसोनिक मिसाइल की रेंज 450 किमी रही। मिसाइल ने 28 किमी की ऊंचाई से उड़ान भरी और 4.5 म‍िनट में 450 किमी की दूरी को तय करते हुए अपने लक्ष्‍य को तबाह कर दिया। इस दौरान मिसाइल ने 8 मैक की स्‍पीड हासिल की। बता दें कि हाइपरसोनिक मिसाइल की दुनिया में सबसे आगे रूस चल रहा है। रूस ने अपनी 3M22 जिरकॉन मिसाइल को तैनात करना शुरू कर दिया है।

एनडीडीबी, लद्दाख ने डेयरिंग को बढ़ावा देने के लिए सर्वेक्षण करने के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में डेयरी और ग्रामीण आजीविका को बढ़ावा देने के उद्देश्य से, राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड (एनडीडीबी) और लद्दाख के केंद्रीय टेरीटरी प्रशासन ने नवगठित केंद्र शासित प्रदेश में एक बेंचमार्क सर्वेक्षण करने के लिए एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए। एनडीडीबी के डेयरी संभावित सर्वेक्षण से केंद्र शासित प्रदेश में डेयरी को बढ़ावा देने के लिए एक रोड मैप तैयार करने में मदद मिलेगी और पर्वतीय सीमा क्षेत्रों में ग्रामीण आबादी की आय बढ़ाने में मदद मिलेगी।

अमरीका ढाका में अपना विदेशी वाणिज्यिक सेवा कार्यालय खोलेगा

अमरीका, बांग्‍लादेश के साथ आर्थिक संबंध मजबूत करने के लिए ढाका में अपना विदेशी वाणिज्यिक सेवा कार्यालय खोलेगा। अमरीका के आर्थिक विकास, ऊर्जा और पर्यावरण के उपमंत्री कीथ क्रैच और बांग्‍लादेश की प्रधानमंत्री के निजी उद्योग और निवेश संबंधी मामलों के सलाहकार एफ रहमान के बीच वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हुई उच्‍चस्‍तरीय बैठक के बाद इसकी घोषणा की गई।

राष्ट्रीय स्टार्ट-अप पुरस्कार 2020

वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने नई दिल्ली में राष्ट्रीय स्टार्ट अप पुरस्कारों के पहले संस्करण के परिणाम जारी कर दिये हैं। ये पुरस्कार 12 विभिन्न क्षेत्रों में दिये गए हैं, जिनमें कृषि, शिक्षा, उद्यम प्रौद्योगिकी, ऊर्जा, वित्त, खाद्य, स्वास्थ्य, उद्योग और शहरी सेवाएँ शामिल हैं। कृषि उत्पादकता श्रेणी में पुरस्कार नव डिजाइन और इनोवेशन प्राइवेट लिमिटेड को दिया गया है जबकि फसल कटाई के बाद की श्रेणी में पुरस्कार इंटैलो लैब प्राइवेट लिमिटेड को दिया गया। स्वच्छ ऊर्जा क्षेत्र का पुरस्कार एलोय ई-सेल प्राइवेट लिमिटेड ने प्राप्त किया है। उपग्रह प्रौद्योगिकी क्षेत्र के तहत पुरस्कार बैलाट्रिक्स ऐरोस्पेस प्राइवेट लिमिटेड को मिला है। इस अवसर पर श्री गोयल ने कहा कि इन पुरस्‍कारों से युवा उद्यमियों में नया उत्‍साह आएगा और उन्‍हें स्टार्ट-अप्स के जरिए कुछ नया करने की प्रेरणा मिलेगी। उन्‍होंने कहा कि यह समारोह देश में विकसित किये जा रहे नये कामकाजी माहौल को बढावा देने के लिये आयोजित किया गया है। उन्‍होंने कहा कि भारत आज दुनिया में स्‍टार्टअप के लिये अनुकूल माहौल वाला तीसरा सबसे बडा देश बन गया है।

कैबिनेट ने जूलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया और कनाडा के एक नॉट फॉर प्रोफिट कॉरपोरेशन, इंटरनेशनल बारकोड ऑफ लाइफ के बीच समझौता को मंजूरी प्रदान की

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय कैबिनेट ने पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन के अन्तर्गत आने वाले भारतीय प्राणि सर्वेक्षण (जेडएसआई) और कनाडा के एक नॉट फॉर प्रॉफिट कॉर्पोरेशन इंटरनेशनल बारकोड ऑफ लाइफ (आईबीओएल) के बीच जून 2020 को हस्ताक्षर हुए एक समझौता पत्र (एमओयू) के बारे में जानकारी दी। जेडएसआई और आईबीओवी डीएनए बारकोडिंग में आगे के प्रयासों के लिए एक साथ आए हैं। डीएनए बारकोडिंग मानकीकृत जीन क्षेत्रों के एक छोटे खंड को क्रमबद्ध करके और संदर्भ अनुक्रम के लिए व्यक्तिगत अनुक्रमों की तुलना करके प्रजातियों की तेजी और सही पहचान करने की एक पद्धति है। आईबीओएल एक अनुसंधान सहयोग है जिसमें राष्ट्र शामिल हैं जिन्होंने वैश्विक संदर्भ डेटाबेस के विस्तार, सूचना विज्ञान प्लेटफार्मों के विकास को सक्षम करने के लिए मानव और वित्तीय संसाधन दोनों को प्रतिबद्ध किया है और / या विश्लेषणात्मक प्रोटोकॉल को संदर्भ पुस्तकालय का उपयोग सूची, मूल्यांकन और जैव विविधता का वर्णन करने के लिए आवश्यक है।

दिल्ली में स्टबल बर्निंग का मुकाबला करने के लिए बायो-डीकम्पोजर का छिड़काव का उपयोग किया जायेगा

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घोषणा की कि दिल्ली सरकार स्टबल बर्निंग का मुकाबला करने के लिए बायो-डीकम्पोजर का छिड़काव का उपयोग करेगी। भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, पूसा के वैज्ञानिकों ने एक कम लागत वाली तकनीक बायो-डीकंपोजर छिड़काव का आविष्कार किया गया है। दिल्ली सरकार 11 अक्टूबर से इस समाधान को अपनाएगी। वैज्ञानिकों ने बायो-डीकंपोजर कैप्सूल की खोज की है। फसल के अवशेषों पर छिड़काव करने पर ये कैप्सूल उन्हें खाद में बदल देंगे। इससे मिट्टी की उर्वरता बढ़ती है और उर्वरकों का उपयोग कम होता है। दिल्ली सरकार के अनुमान के अनुसार, इस विधि के माध्यम से 700 हेक्टेयर क्षेत्र में फसलों के अवशेष का प्रबंधन करने के लिए केवल 20 लाख रुपये की आवश्यकता है। इस लागत में तैयारी, परिवहन और छिड़काव की लागत शामिल है।

उच्‍चतम न्‍यायालय ने कहा-विरोध प्रदर्शन के लिए सार्वजनिक स्‍थानों का इस्‍तेमाल करना स्‍वीकार्य नहीं, ऐसे स्‍थानों पर अनिश्चित काल तक विरोध प्रदर्शन नहीं किये जा सकते

उच्‍चतम न्‍यायालय ने कहा है कि विरोध प्रदर्शन के लिए शाहीन बाग जैसे सार्वजनिक स्‍थानों का इस्‍तेमाल करना स्‍वीकार्य नहीं है और ऐसे स्‍थानों पर अनिश्चित काल तक विरोधप्रदर्शन नहीं किये जा सकते। न्‍यायालय का ये फैसला नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन के विरोध में दायर याचिका पर आया है। पिछले साल दिसम्‍बर में राजधानी स्थित शाहीन बाग में एक सड़क को प्रदर्शनकारियों ने अवरूद्ध कर रखा था। न्‍यायमूर्ति एस के कौल की अध्‍यक्षता वाली खण्‍डपीठ ने कहा कि सार्वजनिक स्‍थानों को शाहीन बाग की तरह अनिश्चित समय तक अवरूद्ध नहीं रखा जा सकता।

दक्षिण मध्‍य रेलवे ने स्‍वर्णिम चतुर्भुज और गोल्‍डन डायोग्‍नल मार्गों के कुछ खण्‍डों पर अधिकतम स्‍वीकृत गति के उन्‍नयन का कार्य शुरू किया

दक्षिण मध्‍य रेलवे ने स्‍वर्णिम चतुर्भुज और गोल्‍डन डायोग्‍नल मार्गों के कुछ खण्‍डों पर अधिकतम स्‍वीकृत गति के उन्‍नयन का कार्य शुरू किया है। ये खण्‍ड बल्‍लारशाह-काजीपेट-विजयवाड़ा, गुडूर और विजयवाड़ा-विशाखापट्टनम तथा वाडि-गूटि-रेनिगुंटा हैं और दक्षिण मध्‍य रेलवे के क्ष‍ेत्राधिकार में आते हैं। बल्‍लारशाह-काजीपेट-विजयवाड़ा और काजीपेट-सिकन्‍दराबाद खण्‍ड पर मौजूदा अधिकतम स्‍वीकृत गति एक सौ 20 किलोमीटर प्रति घंटा है, जबकि विजयवाड़ा-गुंटूर और वाडि-गूटि-रेनिगुंटा खण्‍ड पर एक सौ 10 किलोमीटर प्रतिघंटा है। रेलवे बोर्ड के निर्देश के अनुसार इन खण्‍डों पर रेलगाडि़यों की गति बढ़ाकर एक सौ 30 किलोमीटर प्रति घंटा करने का कार्य चल रहा है। इस परियोजना के तहत पटरी पर मानदण्‍डों की जांच का आरंभिक कार्य लखनऊ का अनुसंधान डिजाइन और मानक संगठन-आरडीएसओ कर रहा है।

बिहार विधानसभा चुनाव में भाजपा, विकास शील इन्‍सान पार्टी से गठबंधन करेगी

भारतीय जनता पार्टी ने कई दौर की बातचीत के बाद मुकेश सहानी के नेतृत्‍व वाली विकासशील इंसान पार्टी के साथ गठबंधन की आज औपचारिक घोषणा कर दी। पटना में भारतीय जनता पार्टी और विकासशील इंसान पार्टी की संयुक्‍त पत्रकार वार्ता में भाजपा के प्रदेश अध्‍यक्ष संजय जायसवाल ने कहा कि पार्टी अपने कोटे की 11 विधानसभा सीटें विकासशील इंसान पार्टी को देने पर सहमत हो गई है। जनता दल यूनाइटेड के साथ सीट बंटवारे में बिहार की विधानसभा के लिए भाजपा को 121 सीटें मिली हैं।

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री ने पुद्दुचेरी में अरुमपार्थापुरम रोड ओवर ब्रिज-राष्ट्र को समर्पित किया

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से पुद्दुचेरी में अरुमपार्थापुरम रोड ओवर ब्रिज-राष्ट्र को समर्पित किया। सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार इस एक किलोमीटर लंबे पुल का निर्माण 35 करोड़ रुपये की लागत से किया गया है। सड़क परिवहन और राजमार्ग राज्यमंत्री डॉ. विजय कुमार सिंह और पुद्दुचेरी की उपराज्‍यपाल किरण बेदी वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से समारोह में शामिल हुई जबकि राज्‍य के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी और उनके कैबिनेट सहयोगी तथा संसद सदस्य भी समारोह में उपस्थित रहे।

भारत और जापान के बीच साइबर सुरक्षा के क्षेत्र में सहयोग समझौता पर हस्ताक्षर

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भारत और जापान के बीच साइबर सुरक्षा के क्षेत्र में एक सहयोग समझौते (एमओसी) पर हस्ताक्षर करने के लिए अपनी मंजूरी दे दी है। एमओसी आपसी हित के क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाएगा, जिसमें अन्य बातों के साथ—साथ, साइबरस्पेस के क्षेत्र में क्षमता निर्माण, महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचे की सुरक्षा, उभरती प्रौद्योगिकियों में सहयोग, साइबर सुरक्षा खतरों/घटनाओं और दुर्भावनापूर्ण साइबर गतिविधियों के बारे में जानकारी साझा करने के साथ-साथ उनका मुकाबला करने के लिए सर्वोत्तम अभ्यास, सूचना संचार प्रौद्योगिकी (आईसीटी) बुनियादी ढांचे आदि की सुरक्षा के लिए साइबर खतरों को कम करने के वास्ते व्यावहारिक सहयोग के लिए संयुक्त तंत्र का विकास करना शामिल है।

आयुष मानक उपचार प्रोटोकॉल लांच किया गया

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने “आयुष मानक उपचार प्रोटोकॉल” जारी किया। इसमें निवारक स्वास्थ्य उपायों पर स्व-देखभाल के दिशानिर्देश शामिल हैं। इस प्रोटोकॉल का शुभारंभ केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने किया। इसके साथ ही आयुष मंत्रालय के प्रोटोकॉल भी अपग्रेड किए गए। यह भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद और वैज्ञानिक व औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) के साथ समन्वय में किया गया था। मंत्री ने COVID-19 के प्रबंधन के लिए आयुर्वेद और योग पर आधारित राष्ट्रीय नैदानिक ​​प्रबंधन प्रोटोकॉल भी जारी किया। आयुर्वेद और योग पर राष्ट्रीय नैदानिक ​​प्रबंधन प्रोटोकॉल आयुष मंत्रालय द्वारा गठित एक राष्ट्रीय कार्य बल द्वारा की गई सिफारिशों के आधार पर विकसित किया गया था। कटोच समिति द्वारा की गई सिफारिशों के आधार पर टास्क फोर्स की स्थापना की गई थी। समिति द्वारा की गई सिफारिशों के अधिकांश क्रियान्वित किए गए थे। यह प्रोटोकॉल उच्च जोखिम वाली आबादी के लिए गुडुची घाना वटी, च्यवनप्राश और अश्वगंधा जैसी दवाओं के उपयोग का सुझाव देता है। COVID-19 संक्रमित रोगियों को पिप्पली, गुडूची और आयुष की 64 गोलियाँ प्रदान की जाएंगी। भारत के नागरिकों के लिए अच्छी प्रतिरक्षा प्रणाली विकसित करना आवश्यक है। COVID-19 रोगियों के लिए योग प्रोटोकॉल में शामिल हैं। प्रोटोकॉल में ली जाने वाली दवाओं की खुराक का भी उल्लेख है।

सूचना व प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने मानक परिचालन प्रक्रिया (एसओपी) जारी की

लगभग सात माह बाद देशभर में सिनेमा हॉल खुलने का रास्ता साफ हो गया है। सरकार ने 15 अक्टूबर से सिनेमा हॉल को खोलने के लिए विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इसके तहत सिनेमा हॉल 50 फीसद क्षमता के साथ खुलेंगे और दो दर्शकों के बीच की सीट खाली रहेगी। सिंगल स्क्रीन सिनेमा हॉल में टिकट बेचने की छूट दी गई है, लेकिन मल्टीप्लेक्स को सिर्फ ऑनलाइन बुकिंग की इजाजत होगी। सूचना व प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने मानक परिचालन प्रक्रिया (एसओपी) जारी करते हुए कहा, सिनेमा हॉल में शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करना होगा और अंदर जाने के पहले थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी।

भारतीय पुरुष और महिला मुक्केबाज़ प्रशिक्षण और प्रतियोगिता के लिए इटली और फ्रांस की यात्रा करेंगे

भारत के विशिष्ट पुरुष और महिला मुक्केबाज़ विदेश में प्रशिक्षण और अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भाग लेने के लिए अक्टूबर से दिसंबर तक 52 दिनों की अवधि के लिए इटली और फ्रांस की यात्रा करेंगे। सरकार ने विदेशी प्रशिक्षण और प्रदर्शन के लिये लगभग 1.31 करोड़ रुपये की मंजूरी दी है। यात्रा करने वाले 28 सदस्यीय दल में 10 पुरुष मुक्केबाज़ और 6 महिला मुक्केबाज़ों के साथ सहायक कर्मचारी भी शामिल होंगे। भाग लेने वाले मुक्केबाज़ों में अमित पंघाल, आशीष कुमार, सतीश कुमार, सिमरनजीत कौर, लवलीना बोरगोहाई और पूजा रानी शामिल हैं। इन सभी ने टोक्यो ओलंपिक के लिए कोटा स्थान अर्जित किया है। भारत को अभी चार स्पर्धाओं (पुरुषों का 57 किलोग्राम, पुरुषों का 81 किलोग्राम, पुरुषों का 91 किलोग्राम और महिलाओं का 57 किलोग्राम) में कोटा जीतना बाकी है। इन वर्गो के मुक्केबाज़ भी यात्रा दल का हिस्सा होंगे। इस दल में पुरुष टीम 8 कोच और सहयोगी स्टाफ तथा महिला टीम में 4 कोच और सहायक कर्मचारी शामिल होंगे।

विश्व कपास दिवस: 07 अक्टूबर

साल 2019 के बाद से 7 अक्टूबर को विश्व स्तर पर World Cotton Day (WCD) यानि विश्व कपास दिवस मनाया जाता है। इस अंतरराष्ट्रीय दिवस को मनाए जाने का उद्देश्य कपास के फायदों के बारे में बताने के लिए मनाया जाता है, जो इसके गुणों से लेकर इसके उत्पादन, परिवर्तन, व्यापार और उपभोग से प्राप्त होने वाले लाभों के लिए एक प्राकृतिक फाइबर के रूप में है। इस दिन को मनाए जाने की घोषणा 7 अक्टूबर, 2019 को जेनेवा में विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) द्वारा की गई थी। WCD की शुरुआत कपास के 4 देशों के समूह बेनिन, बुर्किना फासो, चाड और माली द्वारा कपास के महत्व को वैश्विक वस्तु के रूप में मान्यता देने के लिए की गई थी।

दिग्गज बॉलीवुड अभिनेता विशाल आनंद का निधन

दिग्गज बॉलीवुड अभिनेता विशाल आनंद का निधन। वह 1976 के सुपर-हिट गीत और फिल्म 'चलते चलते' से लोकप्रिय हुए थे। उनका असली नाम भीष्म कोहली था। उन्होंने अपने अभिनय करियर के दौरान 11 हिंदी फिल्मों जैसे हिंदुस्तान की कसम और टैक्सी ड्राइवर में अभिनय किया था। एक्टिंग के अलावा, आनंद ने कुछ फिल्मों का निर्देशन और प्रोडूस भी किया था, जिसमें चलते चलते फिल्म भी शामिल हैं।

अफगानिस्तान के क्रिकेटर नजीब तारकई का निधन

अफगानिस्तान के दाएं हाथ के बल्लेबाज नजीब तारकई (Najeeb Tarakai) का हाल ही में एक सड़क दुर्घटना में निधन हो गया। उन्होंने 2014 के T20 विश्व कप से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू करने के बाद अफगानिस्तान के लिए 12 T20 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेले। उन्होंने 2017 में आयरलैंड के खिलाफ अपना एकमात्र एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय मैच खेला था।

कोल ब्लॉक आवंटन घोटाले में पूर्व केंद्रीय मंत्री दिलीप रे दोषी करार

पूर्व केंद्रीय कोयला राज्य मंत्री दिलीप रे को राउज एवेन्यू की एक विशेष अदालत ने कोयला घोटाले से जुड़े एक मामले में दोषी करार दिया है। यह मामला 1999 में झारखंड कोयला ब्लॉक के आवंटन में अनियमितता से जुड़ा है। कोर्ट ने दिलीप रे को भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत दोषी करार दिया है।

Start the Quiz

« Previous Next Affairs »

Current Affairs Quiz

Here you can find Month Wise Quiz.

Quiz

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Exam

Here You can find previous year question paper and model test for practice.

Start Exam

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2020 RajasthanGyan All Rights Reserved.