Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

10 November 2020

प्रधानमंत्री ने वाराणसी में विभिन्न विकास परियोजनाओं का उद्घाटन किया और आधारशिला रखी

प्रधानमंत्री ने वाराणसी में तीस विकास परियोजनाओं में से अनेक का उद्घाटन किया और कई परियोजनाओं की आधारशिला रखी। प्रधानमंत्री ने जिन परियोजनाओं का उद्घाटन किया उनमें सारनाथ लाइट एंड साउंड शो, लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल, रामनगर का उच्चीकरण, सीवरेज लाइनों से संबंधित कार्य, गायों के संरक्षण और संवर्धन के लिए बुनियादी ढांचा सुविधाओं का निर्माण, बहु-उद्देशीय बीज गोदाम, 100 मीट्रिक टन क्षमता वाला कृषि उत्पाद भंडार, समन्वित विद्युत विकास योजना के द्वितीय चरण, सम्पूर्णानंद स्टेडियम में खिलाड़ियों के लिए आवासीय परिसर, वाराणसी शहर में स्मार्ट लाइटों से संबंधित कार्य, 105 आंगनवाड़ी केंद्रों की स्थापना और 102 गौ-आश्रय केंद्रों का निर्माण शामिल है। इन परियोजनाओं की कुल लागत 614 करोड़ रुपये है। जिन परियोजनाओं की आधारशिला रखी गई उनमें दशाश्वमेध घाट और खिड़किया घाट परियोजनाएं, गिरिजा देवी संस्कृत संकुल में बहु-उद्देश्यीय हाल के उच्चीकरण की परियोजना, बेनियाबाग पार्क में पार्किंग सुविधा का विकास, प्रादेशिक सशस्त्र पुलिस- पीएसी की बैरकों का निर्माण और सड़कों तथा पर्यटन स्थलों के विकास के कार्य की शुरुआत शामिल हैं।

15वें वित्‍त आयोग ने 2021-26 की अवधि के लिए राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद को रिपोर्ट सौंपी

15वें वित्‍त आयोग ने 2021-26 की अवधि के लिए राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद को रिपोर्ट सौंपी। एन. के. सिंह की अध्‍यक्षता में वित्‍त आयोग ने राष्‍ट्रपति से मुलाकात की और रिपोर्ट सौंपी। यह रिपोर्ट केन्‍द्र और राज्‍य सरकारों, स्‍थानीय निकायों, पिछले वित्‍त आयोगों के अध्‍यक्षों और सदस्‍यों, आयोग की सलाहकार परिषद, अन्‍य विशेषज्ञों और प्रमुख तथा बहुपक्षीय शैक्षिक संस्‍थाओं के साथ व्‍यापक विचार-विमर्श के बाद तैयार की गई है। वित्‍त आयोग प्रधानमंत्री को भी इस रिपोर्ट की प्रति सौंपेगा। वित्‍तमंत्री यह रिपोर्ट और इस पर की गई सरकार की कार्रवाई का विवरण संसद के पटल पर रखेंगी। राष्‍ट्रपति ने एन. के. सिंह की अध्‍यक्षता में 15वें वित्‍त आयोग का गठन किया था। आयोग के सदस्‍यों में अजय नारायण झा, प्रोफेसर अनूप सिंह, डॉक्‍टर अशोक लाहि‍ड़ी और डॉक्‍टर रमेश चन्‍द शामिल हैं। यह रिपोर्ट चार खंडों में विभाजित की गई है। पहले और दूसरे खंड में मुख्‍य रिपोर्ट है। तीसरा खंड केन्‍द्र सरकार को समर्पित है जिसमें मध्‍यावधि चुनौतियों का परीक्षण और भविष्‍य की रूपरेखा दी गयी है। चौथा खंड पूरी तरह से राज्‍यों को समर्पित है। आयोग ने पूरे विस्‍तार से प्रत्‍येक राज्‍य की वित्‍तीय व्‍यवस्‍था का विश्‍लेषण किया है और अलग-अलग राज्‍य के समक्ष प्रमुख चुनौतियों से निपटने के लिए विस्‍तृत विचार-विमर्श प्रस्‍तुत किया है।

नव-निर्वाचित अमरीकी राष्‍ट्रपति जो बाइडेन ने कोविड से निपटने के लिए पूर्व सर्जन जनरल विवेक मूर्ति की सह-अध्‍यक्षता में 12 सदस्‍यों के कार्यदल की घोषणा की

अमरीका के नव-निर्वाचित राष्‍ट्रपति जो बाइडेन ने कोविड-19 महामारी से प्रभावी तरीके से निपटने के लिए 12 सदस्‍यों के कोरोना वायरस कार्यदल के गठन की घोषणा की है। कोरोना वायरस से अमरीका में लाखों व्‍यक्ति संक्रमित हुए हैं और अमरीकी अर्थव्‍यवस्‍था को व्‍यापक नुकसान हुआ है। कार्यदल की सह-अध्‍यक्षता पूर्व सर्जन जनरल विवेक मूर्ति, खाद्य और औषध प्रशासन के पूर्व आयुक्‍त डेविड केस्‍लर और येल विश्‍वविद्यालय में जन स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की प्रोफेसर मार्सेला नूनेज स्मिथ द्वारा की जायेगी। कार्यदल में ओबामा प्रशासन के पूर्व स्‍वास्‍थ्‍य सलाहकार इजेकियल इमैनुएल को भी शामिल किया गया है। विवेक का जन्म इंग्लैंड में हुआ था, उनके माता-पिता कर्नाटक के प्रवासी थे।

वर्जिन हाइपरलूप की पहली पैसेंजर राइड सफल रही

वर्जिन हाइपरलूप जिसने 25 मिनट में मुंबई और पुणे को जोड़ने की योजना बनाई है, उसने अपनी पहली सफल पैसेंजर राइड का संचालन किया। यह परीक्षण लास वेगास में आयोजित किया गया था। हाइपरलूप परिवहन का एक नया तरीका है जो प्रति घंटे 1000 किलोमीटर तक की गति तय करता है। इस विचार की कल्पना टेस्ला और स्पेसएक्स ने 2012 में की थी। कई कंपनियां हैं जो इस तकनीक पर काम कर रही हैं। हालांकि, वर्जिन हाइपरलूप एकमात्र कंपनी है जो भारत में परिवहन का विकास कर रही है।

अरुणाचल प्रदेश में हुआ भारत की पहली सौर-आधारित जल आपूर्ति परियोजना का शुभारंभ

केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने अरुणाचल प्रदेश में भारत की पहली सौर-आधारित एकीकृत बहु-ग्राम जल आपूर्ति परियोजना (Integrated Multi-Village Water Supply Project) का शुभारंभ किया है। सौर-आधारित लिफ्ट जलापूर्ति परियोजना देश में अपनी तरह की पहली परियोजना है, जिसे 28.50 करोड़ रुपये की लागत से शुरू किया गया है। हालांकि, इस तरह की परियोजनाएं देश के अन्य हिस्सों में भी शुरू की जाएंगी। यह परियोजना अरुणाचल प्रदेश के दिबांग घाटी जिले के निचले 39 गांवों के 17,480 लोगों को पीने का पानी प्रदान करेगी।सौर-आधारित एकीकृत बहु-ग्राम जल आपूर्ति परियोजना को तीन कार्यक्रमों -पीने के पानी, हरित ऊर्जा और पर्यटन की एकीकृत परियोजना के रूप में डिजाइन किया गया है।इस परियोजना में ग्रीन एनर्जी-सोलर ग्रिड, स्काडा ऑटोमेशन सिस्टम, प्री-फैब्रिकेटेड जिंक एलम स्टोरेज टैंक और मेन, सब-मेन और डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्किंग सिस्टम के लिए एचडीपीई कंडेक्ट का उपयोग किया गया है। इस परियोजना में स्विमिंग पूल, एम्फीथिएटर, फव्वारे और बैठने के लिए मनोरंजन पार्क भी शामिल हैं।

उत्तराखंड : टिहरी झील पर डोबरा-चांठी पुल का उद्घाटन

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री द्वारा टिहरी-गढ़वाल ज़िले में टिहरी झील (Tehri lake) पर लंबे समय से प्रतीक्षित डोबरा-चांठी पुल (Dobra Chanthi Bridge) का उद्घाटन किया गया। यह देश का सबसे लंबा सिंगल लेन मोटरेबल सस्पेंसन ब्रिज (Motorable Suspension Bridge) है। 725 मीटर लंबे इस पुल को सार्वजनिक उपयोग के लिये खोल दिया गया है। यह टिहरी और प्रताप नगर के बीच यात्रा के समय में 1.5-2 घंटे की कटौती करेगा। 2.96 करोड़ रुपए की लागत से टिहरी झील के ऊपर बने इस सस्पेंशन ब्रिज से टिहरी ज़िले के प्रताप नगर और थौलधार (Thauldhar) के लगभग 2.50 लाख लोगों को लाभ मिलने की उम्मीद जताई गई है। टिहरी बाँध के निर्माण के साथ प्रताप नगर को ज़िला मुख्यालय से जोड़ने वाला पुल टिहरी झील में जलमग्न हो गया था और क्षेत्र के स्थानीय लोगों को 100 किलोमीटर की अतिरिक्त दूरी तय करने के लिये मजबूर होना पड़ रहा था। टिहरी बांँध भारत का सबसे ऊँचा और दुनिया के सबसे ऊँचे बाँधों में से एक है। यह उत्तराखंड में टिहरी के पास भागीरथी नदी पर बनाया गया है।

केरल ने मछुआरों की आजीविका में सुधार के लिए “परिवर्तनम” योजना का किया शुभारंभ

केरल सरकार ने मछली पकड़ने वाले समुदाय की आजीविका में सुधार करने के लिए 'परिवर्तनम' नामक एक अग्रणी पर्यावरणीय कार्यक्रम की शुरूआत की है। इस योजना का उद्देश्य समुद्र तट के किनारे युवाओं के आजीविका कौशल में सुधार करना है और मछुआरा समुदाय के सामाजिक-आर्थिक उत्थान को सक्षम बनाना है। परिर्वतनम, जिसका अर्थ है बदलाव है, केरल राज्य के तटीय क्षेत्र विकास निगम (KSCADC) के नेतृत्व में आयोजित किया जाएगा।यह योजना साफ और ताजा मछली उत्पादों के प्रसंस्करण और विपणन को बढ़ावा देगी।परिवर्तनम भी उचित मुआवजे के रूप में मछली पकड़ने वालों को एक निश्चित मूल्य की गारंटी दी जाएगी।यह कॉलेज से निकलने वाले युवाओं और कोविड-19 के कारण घर लौटने वाले प्रवासी कामगारों को भी रोजगार प्रदान करेगी।इसके अलावा, केंद्रीय सरकार के केंद्रीय मत्स्य प्रौद्योगिकी संस्थान (CIFT) इसकी गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए मछली खरीद और प्रसंस्करण की निगरानी भी करेगा।

पूर्व एसपीजी अधिकारी ने ट्रांसजेंडर्स पर लिखा "Rasaathi" उपन्यास

पूर्व एसपीजी अधिकारी ससिंद्रन कल्लिंकेल द्वारा "Rasaathi: The Other Side of a Transgender" नामक एक उपन्यास लिखा गया है। बुकमित्र द्वारा प्रकाशित इस उपन्यास में मुख्य किरदार, एक ट्रांसजेंडर है, जिसका नाम रसाथी है, जो दक्षिण भारत के एक अच्छे परिवार में पैदा होता है। रसाथी, जिसका अर्थ राजकुमारी है, 40 के दशक के अंत में है, जो चाहते हैं कि लोग प्यार, स्नेह, सहानुभूति की बौछार करके लोगों के साथ ट्रांसजेंडरों का इलाज करें और उनके दयनीय और भयानक जीवन को पहचानें। ससिंद्रन कल्लिंकेल 23 साल तक केंद्रीय रिजर्व पुलिस के साथ रहे और अटल बिहारी वाजपेयी और मनमोहन सिंह के कार्यालय में वरिष्ठ सुरक्षा अधिकारी के रूप में विशेष सुरक्षा समूह (SPG) (प्रधानमंत्री सुरक्षा) में सात साल तक कार्य किया था।

वित्‍तमंत्री निर्मला सीतारामन ने आज 2020 के लिए ब्रिक्‍स आर्थिक और वित्‍तीय सहयोग के कार्यक्रम पर चर्चा की

वित्‍तमंत्री निर्मला सीतारामन ने 2020 के लिए ब्रिक्‍स आर्थिक और वित्‍तीय सहयोग के कार्यक्रम पर चर्चा की। रूस की अध्‍यक्षता में ब्रिक्‍स देशों के वित्‍त मंत्रियों और केन्द्रीय बैंकों के गर्वनरों की पहली बैठक में यह विचार-विमर्श किया गया। वित्‍तमंत्री ने इसी वर्ष सउदी अरब में जी-20 समूह की बैठक के निष्‍कर्षों और प्रयासों पर भी विचार-विमर्श किया। उन्‍होंने इन प्रयासों में उभरती बाजार अर्थव्‍यवस्‍थाओं में ब्रिक्‍स देशों की भूमिका का भी उल्‍लेख किया। बैठक के दौरान वित्‍तमंत्री ने ढांचागत निवेश और नए विकास बैंक के सदस्‍यों की संख्‍या बढ़ाने के बारे में भी विचार प्रस्‍तुत किए।

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और सड़क परिवहन तथा राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी द्वारा नई दिल्‍ली में डीआरडीओ भवन में अग्निशमन प्रणाली का अवलोकन

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और सड़क परिवहन तथा राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने नई दिल्‍ली में रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन- डीआरडीओ भवन में अग्निशमन प्रणाली का अवलोकन किया। आग का पता लगाने और बुझाने की इस प्रणाली का विकास डीआरडीओ ने यात्री बसों के लिए किया है। बस की सीटों में आग बुझाने के लिए पानी आधारित और इंजन की आग बुझाने के लिए एरोसोल आधारित प्रणाली का प्रदर्शन किया गया। दिल्‍ली में डीआरडीओ के अग्नि विस्‍फोटक और पर्यावरण सुरक्षा केन्‍द्र ने यह प्रौद्योगिकी विकसित की है। इस प्रणाली से तीस सेकेंड से भी कम समय में बस में आग का पता लगाया जा सकता है और 60 सेकेंड में आग पर काबू पाया जा सकता है।

कनाडा : एच1एन2 वायरस से संक्रमित मानव के पहले मामले की सूचना

हाल ही में कनाडा ने एच1एन2 वायरस (H1N2 Virus) से संक्रमित मानव के पहले मामले की सूचना दी जो स्वाइन फ्लू (Swine Flu) का एक दुर्लभ लक्षण है। स्वाइन फ्लू (Swine Flu), H1N1 नामक फ्लू वायरस के कारण होता है। H1N1 एक प्रकार का संक्रामक वायरस है, यह सूअर, पक्षी और मानव जीन का एक संयोजन है, जो सूअरों में एक साथ मिश्रित होते हैं और मनुष्यों में फैल जाते हैं। H1N1 एक प्रकार से श्वसन संबंधी बीमारी का कारण बनता है जो कि बहुत संक्रामक होता है। H1N1 संक्रमण को स्वाइन फ्लू के नाम से भी जाना जाता है क्योंकि अतीत में यह उन्हीं लोगों को होता था जो सूअरों के सीधे संपर्क में आते थे।

वेस्टइंडीज के माइकल होल्डिंग बने MCC के संरक्षक

वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज, माइकल होल्डिंग को मैरीलेबोन क्रिकेट क्लब (MCC) फाउंडेशन का नया संरक्षक (new patron) नियुक्त किया गया है। 66 वर्षीय होल्डिंग क्रिकेट में समानता और व्यापक समुदाय के लिए एक मजबूत वकील हैं। MCC फाउंडेशन मैरीलेबोन क्रिकेट क्लब की धर्मार्थ शाखा (charitable arm) है, जो खेल के नियमों की संरक्षक (custodian of the game’s laws) है, और इसे क्रिकेट के माध्यम से जीवन को बेहतर बनाने के उद्देश्य से बनाया गया था। पिछले महीने अभिनेता, मानसिक स्वास्थ्य अधिवक्ता और क्रिकेट प्रेमी स्टीफन फ्राई एक संरक्षक के रूप में फाउंडेशन में शामिल हुए थे। यह जोड़ी उस सूची में शामिल हो गई, जिसमें क्लेयर टेलर, माइक ब्रियरली, माइक एथरटन, माइक गैटिंग शामिल हैं।

कोयला खदानों की वाणिज्यिक नीलामी के पहले दौर से 70 अरब रूपए का राजस्‍व मिलेगा

कोयला मंत्री प्रहलाद जोशी ने कहा है कि कोयला खदानों की वाणिज्यिक नीलामी के पहले दौर का परिणाम ऐतिहासिक रहा। इस दौरान 19 खदानों की नीलामी की गई जिससे 70 अरब रूपए का राजस्‍व मिलेगा और इसकी कुल क्षमता 5 करोड दस लाख टन है। श्री जोशी ने कहा कि पेशगी राशि 10 अरब 48 करोड रुपए होगी। उन्‍होंने कहा कि इन 19 खदानों में से 11 खुली, पांच भूमिगत और तीन मिश्रित श्रेणी की हैं। यह खदानें झारखंड, ओडिसा, छत्‍तीसगढ़, महाराष्‍ट्र और मध्‍य प्रदेश में हैं।

प्रधानमंत्री ने प्रसिद्ध लेखक और गुजराती स्‍तंभकार फादर कार्लोस गोन्‍ज़ालेज़ वालेस एस जे के निधन पर दुख: प्रकट किया

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने प्रसिद्ध लेखक और गुजराती स्‍तंभकार फादर कार्लोस गोन्‍ज़ालेज़ वालेस एस जे के निधन पर दुख: प्रकट किया है। वे फादर वालेस के नाम से प्रसिद्ध थे। ट्विटर पर श्री मोदी ने कहा कि फादर वालेस ने गणित और गुजराती साहित्‍य जैसे विभिन्‍न क्षेत्रों में उल्‍लेखनीय लेखन किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि फादर वालेस को समाज सेवा का भी जुनून था।

रेलवे 11 नवम्बर से पश्चिम बंगाल में 696 उपनगरीय रेल सेवाएं शुरू करेगा

रेलवे आगामी पश्चिम बंगाल में छह सौ 96 उपनगरीय रेल सेवाएं शुरू करेगा। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि इससे यात्रियों की सुविधा बढ़ने के साथ आवागमन में आसानी होगी। उऩ्होंने एक ट्वीट में कहा कि कोविड-19 परिस्थितियों को देखते हुए सुरक्षा के पर्याप्त प्रबंध किये जाएंगे। रेलवे और राज्य सरकार के बीच हुए विचार-विमर्श के बाद इन सेवाओं के संचालन की अनुमति दी गई है। कोरोना महामारी फैलने के बाद पिछले मार्च से ही इन सभी सेवाओँ को रोक दिया गया था।

महाराष्‍ट्र सरकार ने बाढ़ प्रभावित किसानों को मुआवजे के रूप में करीब 23 अरब रुपए जारी करने का आदेश दिया

महाराष्‍ट्र सरकार ने बाढ़ प्रभावित किसानों को मुआवजे के रूप में करीब 23 अरब रुपए जारी करने का आदेश दिया। यह एक खरब रुपए के राहत पैकेज की पहली किस्‍त है जिसकी घोषणा मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने पिछले महीने की थी। यह राशि नागपुर, औरंगाबाद, अमरावती, पुणे, कोंकण और नासिक मंडलों में वितरण के लिए जारी की गई है। मुआवजा उन लोगों को दिया जाएगा जिनके निकट परिजन बाढ़ से जुड़ी घटनाओं में मारे गए, घर तबाह हो गए या जिन किसानों की फसल नष्‍ट हो गई अथवा पशुओं की जान गईं। मुआवजा मछुआरों को भी दिया जाएगा।

NGT ने दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में लगाया पटाखों की बिक्री और इस्तेमाल पर पूर्ण प्रतिबंध

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (NGT) ने दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में 9 नवंबर से 30 नवंबर तक पटाखों की बिक्री और इस्तेमाल पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया है। प्रतिबंध उन शहरों और कस्बों में लागू होगा जहां वायु की गुणवत्ता "खराब" श्रेणी (the air quality is in the “poor” category) में है। एनजीटी ने आगे कहा कि जिन शहरों या कस्बों में हवा की गुणवत्ता "मध्यम" या उससे नीचे (air quality is “moderate” or below) है, केवल ग्रीन पटाखे बेचे जाएंगे और उन्हें फोड़ने की समय अवधि (duration of bursting) को राज्य द्वारा दीवाली, छठ, नववर्ष / क्रिसमस ईव जैसे त्योहारों के दौरान दो घंटे तक सीमित रखने के लिए निर्दिष्ट किया जा सकता है। वर्तमान में, राज्य सरकारों के पास त्योहारों के मौसम के दौरान पटाखों की बिक्री और उपयोग की अनुमति / प्रतिबंध के संबंध में दिशानिर्देश देने का अपना अधिकार है।

असम में लगभग 70 लाख विद्यार्थियों के लिए आधार पंजीकरण अभियान शुरू

असम में शिक्षा विभाग की ओर से लगभग 70 लाख विद्यार्थियों के लिए आधार पंजीकरण अभियान शुरू हुआ। इस अभियान में 66 हजार एक सौ 33 स्‍कूलों के छात्रों का आधार पंजीकरण कराया जाना है। इस अभियान में सरकारी और निजी स्कूलों के छह से 18 वर्ष की आयु के सभी विद्यार्थियों को शामिल किया जा रहा है। सभी उपायुक्त तथा छठी अनुसूची वाले जिलो के प्रमुख सचिव अपने-अपने जिलों में इस निःशुल्क आधार पंजीकरण अभियान की शुरुआत करे रहे हैं। इस अभियान के अगले वर्ष मार्च तक पूरा कर लिए जाने की उम्‍मीद है।

गोरखा राइफल्स में गैर-गोरखाओं की भर्ती

अपने एक महत्त्वपूर्ण नीतिगत निर्णय में सेना मुख्यालय ने गोरखा राइफल्स (Gorkha Rifles-GR) में उत्तराखंड के गैर-गोरखाओं की भर्ती को मंज़ूरी दे दी है। वर्तमान में भारतीय सेना के पास लगभग 40 गोरखा राइफल्स (GR) बटालियन हैं, जिसमें केवल नेपाल-अधिवासित गोरखाओं (NDG) और भारतीय-अधिवासित गोरखाओं (IDG) को ही क्रमशः 60 और 40 के अनुपात में भर्ती किया जाता है। हालाँकि कुछ वर्ष पूर्व एक पूर्णतः भारतीय-अधिवासित गोरखाओं (IDG) की बटालियन भी बनाई गई थी। अब गोरखा राइफल्स (GR) की सात में 3 रेजिमेंटों में उत्तराखंड के गैर-गोरखाओं की भर्ती को भी मंज़ूरी दे दी गई है।

उत्तराखंड का 20वां स्थापना दिवस

उत्तराखंड ने 9 नवम्बर को अपना 20वां स्थापना दिवस मनाया। इस अवसर पर राज्य में कई कार्यक्रम आयोजित किये गये हैं। राज्यपाल बेबी रानी मौर्य, मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत और विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचन्द्र अग्रवाल ने इस अवसर पर राज्य के लोगों को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। उत्तराखंड का गठन 9 नवंबर, 2000 को भारत के 27वें राज्य के रूप में किया गया था। वर्तमान उत्तराखंड राज्य पहले आगरा और अवध संयुक्त प्रांत का हिस्सा था। यह प्रांत 1902 में अस्तित्त्व में आया था और बाद में वर्ष 1935 में इसे संक्षेप में केवल संयुक्त प्रांत कहा जाने लगा। जनवरी 1950 में संयुक्त प्रांत का नाम 'उत्तर प्रदेश' रखा गया गया और वर्ष 2000 में उत्तर प्रदेश के उत्तरी हिस्से को अलग करके उत्तराखंड बनाया गया। इसे “देवताओं की भूमि” या “देव भूमि” के रूप में जाना जाता है। इसकी स्थापना के दौरान इसे ‘उत्तरांचल’ नाम दिया गया था। बाद में, 2007 में इसका नाम बदलकर उत्तराखंड कर दिया गया। इसकी की राजधानी देहरादून है। राज्य का उच्च न्यायालय नैनीताल में स्थित है।

केन्‍द्रशासित प्रदेश लद्दाख के विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल पैंगोंग त्सो मार्ग पर अब 4 जी सेवाएं उपलब्‍ध

केन्‍द्रशासित प्रदेश लद्दाख के तांग्‍त्‍से में विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल पैंगोंग त्सो मार्ग पर अब 4 जी सेवाएं उपलब्‍ध हो गई हैं। लेह पर्वतीय परिषद के कार्यकारी पार्षद ताशी याक्ज़ी ने तांग्‍त्से में एक जियो टॉवर का उद्घाटन किया। पूरे चांगथांग क्षेत्र में यह पहला जियो मोबाइल टॉवर है, जो तांग्‍त्‍से उपसंभाग को शेष दुनिया से डिजिटल माध्‍यम से जोड़ता है।

विद्या बालन की शोर्ट फिल्म 'नटखट' ऑस्कर की रेस में हुई शामिल

विद्या बालन द्वारा अभिनीत और सह-निर्मित भारतीय फिल्म "नटखट" ने बेस्ट ऑफ इंडिया शॉर्ट फिल्म फेस्टिवल 2020 के तीसरे संस्करण में शीर्ष पुरस्कार जीता है। इस त्योहारी सीजन से पहले जीतने से यह फिल्म 2021 ऑस्कर योग्यता के लिए पात्र हो गई है। फिल्म का निर्देशन शान व्यास ने किया है और इसे रॉनी स्क्रूवाला और विद्या बालन द्वारा सह-निर्मित किया गया है। फिल्म को इस अवार्ड के तहत 2,500 अमेरिकी डॉलर (लगभग 1,85,497 रुपये) का नकद पुरस्कार भी मिलेगा और शॉर्ट्सटीवी पर एक टेलीविज़न प्रसारण करने का अवसर भी मिलेगा। भारतीय फिल्म निर्माता के असाधारण योगदान को सम्मानित करने और पहचानने के लिए बेस्ट ऑफ़ इंडिया फेस्टिवल को शॉर्ट्सटीवी द्वारा इसे वर्ष 2018 से स्थापित किया गया है।

रूस के डेनिल मेदवेदेव ने पेरिस मास्‍टर्स टेनिस का खिताब जीता

रूस के डेनिल मेदवेदेव ने जर्मनी के अलेक्जेंडर ज्वेरेव को 5-7 6-4 6-1 से हराकर पेरिस मास्‍टर्स टेनिस का खिताब जीत लिया है। विश्‍व के पांचवें नम्‍बर के खिलाडी मेदवेदेव का यह आठवां एटीपी खिताब है। दुनिया के सातवें नंबर के खिलाड़ी जर्मनी के ज्वेरेव ने सेमीफाइनल में दूसरे नंबर के खिलाडी राफेल नडाल को हराया था। मारत सफीन, निकोले देविदेन्को और करेन खचानोव के बाद पेरिस मास्टर्स खिताब पर कब्जा करने वाले वह रूस के चौथे खिलाड़ी बन गए हैं।

अंतरराष्ट्रीय रेडियोलॉजी दिवस: 08 नवंबर

हर साल 8 नवंबर को विश्व स्तर पर International Day of Radiology यानि अंतरराष्ट्रीय रेडियोलॉजी दिवस मनाया जाता है। यह दिन रेडियोलॉजी के उस मूल्य के बारे में जागरूकता को बढ़ावा देने के लिए मनाया जाता है, जो सुरक्षित रोगी देखभाल में योगदान देता है, और स्वास्थ्य देखभाल की निरंतरता में महत्वपूर्ण भूमिका रेडियोलॉजिस्ट और रेडियोग्राफर की सार्वजनिक समझ में निरंतर सुधार करता है। यह दिन 1895 में विल्हेम रोएंटजेन द्वारा एक्स-रे की खोज की वर्षगांठ का भी प्रतीक है। विश्व रेडियोलॉजी दिवस पहली बार वर्ष 2012 में मनाया गया था। अंतर्राष्ट्रीय दिवस रेडियोलॉजी 2020 का आदर्श वाक्य: ‘Radiologists and radiographers supporting patients during COVID-19’।

विश्व शहरीकरण दिवस : 8 नवंबर

विश्व शहरीकरण दिवस, जिसे वर्ल्ड टाउन प्लानिंग डे के रूप में भी जाना जाता है, 8 नवंबर को विश्व स्तर पर मनाया जाता है, जो कि जीवंत समुदायों को बनाने में योजना की भूमिका को पहचानने और बढ़ावा देने के लिए है। WUD का आयोजन इंटरनेशनल सोसाइटी ऑफ सिटी एंड रीजनल प्लानर्स (ISOCARP) द्वारा किया जाता है। इस दिन की स्थापना 1949 में ब्यूनस आयर्स विश्वविद्यालय के दिवंगत प्रोफेसर कार्लोस मारिया डेला पाओलेरा द्वारा की गई थी, ताकि योजना बनाने में सार्वजनिक और पेशेवर रुचि बढ़े। विश्व शहरीकरण दिवस शहरों और क्षेत्रों के विकास से उत्पन्न पर्यावरणीय प्रभाव की ओर ध्यान आकर्षित करने के लिए, वैश्विक परिप्रेक्ष्य से योजना को देखने का अवसर प्रदान करता है।

राष्ट्रीय विधिक सेवा दिवस : 09 नवंबर

भारत में, 09 नवंबर को सभी विधिक सेवा प्राधिकारियों द्वारा राष्ट्रीय विधिक सेवा दिवस ​​के रूप में मनाया जाता है, जिसे विधिक सेवा प्राधिकरण अधिनियम 1987 (Legal Services Authorities Act 1987) को लागू करने के लिए मनाया जाता है। इस दिन को विधिक सेवा के तहत प्राधिकरण अधिनियम और वादिकारियों के अधिकार को विभिन्न प्रावधानों से अवगत कराने के लिए मनाया जाता है। इस दिवस को मनाने का उद्देश्य समाज के कमजोर वर्गों के लोगों के लिए नि: शुल्क, प्रवीण और कानूनी सेवाओं की पेशकश करना है। यह कमजोर वर्गों के लोगों को मुफ्त सेवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने के साथ-साथ उन्हें उनके अधिकारों के बारे में जागरूक करने का प्रयास भी करता है। कानूनी सेवा प्राधिकरण अधिनियम 1987 को 11 अक्टूबर 1987 को लागू किया गया था, जबकि अधिनियम 9 नवंबर 1995 को प्रभावी हुआ था। इस दिन की शुरुआत भारत के सर्वोच्च न्यायालय द्वारा 1995 में समाज के गरीब और कमजोर वर्गों को सहायता और सहायता प्रदान करने के लिए की गई थी। यह एक कमजोर और गरीब लोगों के समूह को सहायता और सहायता देने के लिए एक जनादेश के साथ स्थापित किया गया था जो महिलाओं, विकलांग व्यक्तियों, अनुसूचित जनजाति (एसटी), बच्चों, अनुसूचित जाति (एससी), मानव तस्करी पीड़ितों के साथ-साथ प्राकृतिक आपदाओं का शिकार भी हो सकते हैं।

फिल्म निर्माता सुदर्शन रतन का COVID-19 के कारण निधन

बॉलीवुड फिल्म निर्माता सुदर्शन रतन का COVID-19 के कारण निधन हो गया है। उन्हें माधुरी दीक्षित और शेखर सुमन द्वारा अभिनीत 1986 की फिल्म मानव हत्या के लिए जाना जाता था। इसके अलावा, दिवंगत फिल्म निर्माता ने सुधीर पांडे, शफी इनामदार, नीलिमा अज़ीम और जॉनी लीवर सहित 1996 की एक्शन ड्रामा फिल्म हाहाकार का लेखन, निर्देशन और निर्माण भी किया था।

Start the Quiz

« Previous Next Affairs »

Current Affairs Quiz

Here you can find Month Wise Quiz.

Quiz

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Exam

Here You can find previous year question paper and model test for practice.

Start Exam

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2020 RajasthanGyan All Rights Reserved.