Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

20 January 2021

नेताजी सुभाष चन्‍द्र बोस का जन्‍मदिन हर वर्ष 23 जनवरी को पराक्रम दिवस के रूप में मनाया जायेगा

नेताजी सुभाष चंद्र बोस के 125वें जयंती वर्ष के उपलक्ष्य में वर्ष भर चलने वाले समारोह इस वर्ष 23 जनवरी से शुरू होंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोलकाता में आयोजित होने वाले समारोहों के उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता करेंगे। संस्कृति मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने बताया कि सरकार हर वर्ष 23 जनवरी के दिन सुभाष चंद्र बोस के जन्मदिवस को पराक्रम दिवस के रूप में मनाएगी। कोलकाता के विक्टोरिया मेमोरियल में 23 जनवरी को होने वाले उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता प्रधानमंत्री करेंगे। इस अवसर पर नेताजी जी के बारे में एक प्रदर्शनी और एक प्रोजेक्शन मैपिंग शो का उद्घाटन किया जाएगा। नेताजी पर आधारित एक सांस्कृतिक कार्यक्रम अमरा नूतॉन जौबनेरी दूत आयोजित किया जाएगा। एक स्मारक सिक्का और डाक टिकट भी जारी किया जाएगा।

भावना कांत गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होने वाली पहली महिला फाइटर पायलट

इंडियन एयरफोर्स की पहली महिला फाइटर पायलट फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कांत गणतंत्र दिवस परेड में इंडियन एयरफोर्स की झांकी का हिस्सा होंगी। वह भारतीय वायुसेना की तरफ से निकाली जाने वाली झांकी का हिस्सा होंगी जिसकी थीम मेक इन इंडिया है। इस साल राफेल फाइटर जेट भी पहली बार गणतंत्र दिवस परेड में हिस्सा लेने जा रहा है। वर्तमान में, भावना राजस्थान में तैनात हैं और मिग -21 बाइसन लड़ाकू विमान उड़ाती हैं। गौरतलब हैं की उन्हें 2016 में पहली महिला फाइटर पायलट के रूप में भारतीय वायुसेना में शामिल किया गया था। तब से 10 महिलाओं को भारतीय वायुसेना में फाइटर पायलट के रूप में नियुक्त किया गया है।

केरल में भारत का पहला श्रम आंदोलन संग्रहालय लॉन्च किया जाएगा

केरल में जल्द ही विश्व श्रम आंदोलन के इतिहास को दर्शाने वाला भारत का पहला श्रम आंदोलन संग्रहालय लॉन्च किया जाएगा। केरल के इस श्रम संग्रहालय में तमाम तरह के दस्तावेज़ों का एक विशाल भंडार मौजूद होगा, इससे विश्व के (विशेष तौर पर भारत के) श्रम आंदोलनों के स्वरूप को समझने में सहायता मिलेगी। इससे राज्य में देश-विदेश से आने वाले पर्यटकों की संख्या में भी बढ़ोतरी होने की उम्मीद है। इस संग्रहालय में चित्रों, दस्तावेज़ों और अन्य प्रदर्शनों के माध्यम से विश्व श्रम आंदोलन के इतिहास और केरल के श्रम आंदोलन के इतिहास को प्रदर्शित किया जाएगा। तकरीबन 9.95 करोड़ रुपए की लागत के साथ इस संग्रहालय का नवीकरण संबंधी 97 प्रतिशत कार्य पूरा हो गया है।

संसद का बजट सत्र इस महीने की 29 तारीख से शुरू होगा

संसद का बजट सत्र इस महीने की 29 तारीख को शुरू होगा। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने बताया कि सत्र का पहला भाग 15 फरवरी को सम्पन्न होगा जिसमें 12 बैठकें होंगी। उन्होंने कहा कि बजट सत्र का दूसरा भाग आठ मार्च को शुरू होकर आठ अप्रैल को समाप्त होगा। इस भाग में 21 बैठकें होंगी। उन्होंने कहा कि कोवड-19 दिशा निर्देशों के मद्देनजर बैठने की व्यवस्था की गई है। बजट सत्र की शुरूआत राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के संबोधन के साथ दोनों सदनों की संयुक्त बैठक होगी। आम बजट पहली फरवरी को पेश किया जाएगा।

खादी और ग्रामोद्योग आयोग तथा जनजातीय कार्य मंत्रालय ने दो समझौता ज्ञापनों पर हस्‍ताक्षर किए

खादी और ग्रामोद्योग आयोग तथा जनजातीय कार्य मंत्रालय ने दो समझौता ज्ञापनों पर हस्‍ताक्षर किए। इनमें जनजातीय विद्यार्थियों के लिए खादी वस्‍त्र की खरीद और प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के लिए क्रियान्‍वयन एजेंसी के रूप में भागीदारी करने की व्‍यवस्‍था है। सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्यम मंत्री नितिन गडकरी और जनजातीय कार्य मंत्री अर्जुन मुंडा की उपस्थिति में समझौता ज्ञापनों पर हस्‍ताक्षर किए गए। जनजातीय कार्य मंत्रालय 2020-21 में अपने एकलव्‍य आवासीय विद्यालयों के जनजातीय विद्यार्थियों के लिए 14 करोड़ 77 लाख रुपए मूल्‍य का छह लाख मीटर से अधिक खादी वस्‍त्र खरीदेगा। प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम को लागू करने के लिए राष्‍ट्रीय अनुसूचित जनजाति वित्‍त विकास निगम के साथ भी समझौता किया गया है जो मंत्रालय का ही एक संगठन है।

जम्मू और कश्मीर ने गुच्छी मशरूम के लिए जीआई टैग की मांग की

जम्मू-कश्मीर सरकार ने हाल ही में गुच्छी मशरूम के लिए जीआई टैग की मांग की थी। गुच्ची मशरूम काफी ज्यादा महंगे होते हैं और यह स्वास्थ्य लाभ से भरपूर होते हैं। 500 ग्राम गुच्छी मशरूम की कीमत 18,000 रुपये है। हाल ही में, जम्मू और कश्मीर के केसर को जीआई टैग प्रदान किया गया था। गुच्छी मशरूम परिवार की एक प्रजाति है जो मोरचेलेसी (Morchellaceae) ​​परिवार से संबंधित है। वे पीले पीले रंग के होते हैं और उनमें कई लकीरें और गड्ढे होते हैं। उनका एक बड़ा सफेद तना होता है। गुच्छी मशरूम को स्थानीय रूप से “थंटू” कहा जाता है। यह गुच्छी मशरूम हिमाचल प्रदेश के उंचाई वाले इलाकों में भी पाए जाते हैं। हिमाचल में इन्हें ‘गुच्छी’ या ‘डूंघलू’ कहा जाता है।

e-NAM पोर्टल के माध्यम से देश की 1000 मंडियों को जोड़ा गया

हाल ही में सूचना और प्रसारण मंत्री श्री प्रकाश जावडेकर ने बतया की अभी तक देशभर में ई-नाम पोर्टल से कुल 1000 मंडियों को जोड़ा गया है। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री ने कहा की सरकार किसानों को उनकी फसलों का लाभकारी मूल्‍य देने के लिए प्रतिबद्ध है और इसके लिए वह पूरी कोशिश भी कर रहे हैं। राष्ट्रीय कृषि बाजार या ई-नाम पोर्टल कोई अन्य बाजार नहीं है, बल्कि यह देश में मौजूदा मंडियों का एक ऐसा नेटवर्क है, जिसके माध्यम से किसान और व्यापारी एक दूसरे से फसल खरीदने और बेचने का काम घर बैठे ही कर सकते हैं। E-NAM का प्रबंधन छोटे किसानों के कृषि व्यवसाय कंसोर्टियम (SFAC) द्वारा किया जाता है। यह सभी एपीएमसी (कृषि उपज विपणन समिति) संबंधित गतिविधियों के लिए एकल सेवा प्रदान करता है। वर्तमान में व्यापार के लिए ई-एनएएम के तहत 450 से अधिक एपीएमसी सूचीबद्ध हैं। यह एक ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से संचालित होता है जो राज्य की मंडियों से जुड़ा हुआ है।

रूस “ओपन स्काइज संधि” से पीछे हटेगा

रूस ने हाल ही में घोषणा की कि वह “ओपन स्काइज संधि” से पीछे हटेगा। यह संधि हस्ताक्षरकर्ताओं को एक दूसरे के क्षेत्रों पर बिना हथियारों के निगरानी उड़ानों को चलाने की अनुमति देती है। 2020 में, अमेरिका ने ओपन स्काइज संधि से छोड़ने की घोषणा की थी। सोवियत संघ के विघटन के बाद 1992 में ओपन स्काइज संधि पर हस्ताक्षर किए गए थे। यह पहली बार 1955 में पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति ड्वाइट आइजनहावर द्वारा शीत युद्ध के तनाव को कम करने के लिए प्रस्तावित की गयी थी। नाटो के सदस्यों और पूर्व वारसा संधि देशों के बीच इस संधि पर हस्ताक्षर किए गए थे। 2002 में, 35 से अधिक देशों ने इस संधि पर हस्ताक्षर किए थे। इसमें अमेरिका और रूस भी शामिल थे। भारत, ओपन स्काइज संधि का हस्ताक्षरकर्ता नहीं है। इस संधि के अनुसार, एक सदस्य देश सहमति प्राप्त करने के बाद ही मेजबान राष्ट्र के किसी भी हिस्से की जासूसी कर सकता है। साथ ही, कोई सदस्य राज्य 72 घंटे से पहले नोटिस देने के बाद मेजबान राज्य की हवाई तस्वीरें ले सकता है।

एयरो इंडिया 21 एप्प लांच किया गया

एयरो इंडिया -21 मोबाइल एप्लिकेशन को हाल ही में केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लॉन्च किया। यह मोबाइल एप्प एयरो इंडिया 2021 से संबंधित सभी मुद्दों के लिए एक आसान इंटरैक्टिव इंटरफ़ेस के रूप में कार्य करेगा। एयरो इंडिया बेंगलुरु में आयोजित किया जाने वाला एक द्विवार्षिक एयर शो है। इसका आयोजन रक्षा प्रदर्शनी संगठन (Defence Exhibition Organisation) द्वारा किया जाता है जो रक्षा मंत्रालय के अधीन कार्यरत है। इस वर्ष, एयरो इंडिया का आयोजन “Runaway to a Billion Opportunities” के तहत किया जा रहा है। एयरो इंडिया का पहला संस्करण 1996 में आयोजित किया गया था। एयरो इंडिया 21 को ड्राफ्ट रक्षा उत्पादन और निर्यात प्रोत्साहन नीति 2020 के अनुरूप आयोजित किया जायेगा।

इंडोनेशिया के सेमरू ज्वालामुखी में विस्फोट

हाल ही में इंडोनेशिया के पूर्वी जावा प्रांत में स्थित सेमरू ज्वालामुखी (Semeru Volcano) में विस्फोट हुआ है। इंडोनेशिया में स्थित अन्य ज्वालामुखी जिनमें मेरापी ज्वालामुखी (जावा) और सिनाबंग ज्वालामुखी (सुमात्रा) शामिल हैं, में कुछ समय पूर्व ही विस्फोट हुआ था। सेमरू- जिसे "द ग्रेट माउंटेन" के रूप में भी जाना जाता है जावा का सबसे उच्चतम ज्वालामुखी शिखर है तथा सर्वाधिक सक्रिय ज्वालामुखियों में से एक है। इसमें अंतिम बार दिसंबर, 2019 में विस्फोट हुआ था। इंडोनेशिया में विश्व के सक्रिय ज्वालामुखियों की सर्वाधिक संख्या होने के साथ-साथ इसके पैसिफिक रिंग ऑफ फायर (Pacific’s Ring of Fire) में अवस्थित होने के कारण यहाँ भूकंपीय उथल-पुथल का खतरा भी बना रहता है।

मलेशिया ने 3.7 बिलियन डालर के पैकेज की घोषणा की

मलेशियाई सरकार ने हाल ही में COVID-19 के प्रभावों से उबरने में मदद करने के लिए 3.7 बिलियन डालर के पैकेज की घोषणा की। यह पैकेज मलेशिया के सकल घरेलू उत्पाद का 1.1% है। दरअसल, मलेशिया COVID-19 संक्रमण की अपनी तीसरी लहर पर अंकुश लगाने के लिए संघर्ष कर रहा है। मलेशिया के 3.7 बिलियन डालर के पैकेज में गरीबों को नकद सहायता और वेतन सब्सिडी शामिल हैं।

भारत ने ब्रिस्‍बेन टेस्‍ट मैच में ऑस्‍ट्रेलिया को हराकर श्रृंखला दो-एक से जीतकर इतिहास रचा, बॉर्डर-गावस्‍कर ट्रॉफी भी बरकरार रखी

भारत ने ऑस्‍ट्रेलिया को टेस्‍ट श्रृंखला के चौथे और अंतिम मैच में ब्रिसबेन के गाबा मैदान पर तीन विकेट से हराकर इतिहास रच दिया और बार्डर-गावसकर ट्राफी अपने पास बरकरार रखी है। भारत ने 328 रन का लक्ष्‍य हासिल कर ये जीत हासिल की और श्रृंखला दो-एक से अपने नाम की। ये गाबा के मैदान पर 32 सालों में ऑस्‍ट्रेलिया की पहली हार है।

सरकार ने व्‍हाट्सअप से हाल में अपनी निजता नीति में बदलाव को वापस लेने को कहा, एकतरफा बदलावों को सरकार ने अनुचित और अस्‍वीकार्य बताया

सरकार ने व्‍हाट्सऐप कंपनी से कहा है कि वह अपनी निजता यानी प्राइवेसी नीति में हाल में किए गए बदलावों को वापस ले ले। सरकार ने यह भी कहा है कि एकतरफा तरीके से किए गए कोई भी बदलाव अनुचित और अस्‍वीकार्य हैं। इलेक्‍ट्रोनिक्‍स और सूचना टेक्‍नोलॉजी मंत्रालय ने कठोर शब्‍दावली वाला एक पत्र व्‍हाट्सऐप के मुख्‍य कार्यपालक अधिकारी विल कैथकार्ट को लिखा है, जिसमें कहा गया है कि व्‍हाट्सऐप की सेवा-शर्तों और निजता नीति में उपयोगकर्ताओं को छोडने का विकल्‍प दिए बिना किए जा रहे प्रस्‍तावित बदलाव, गंभीर चिंताएं पैदा करते हैं। इनसे भारतीय नागरिकों की स्‍वायत्‍तता और उनके चुनने की स्‍वतंत्रता को लेकर कई दुष्‍परिणाम उत्‍पन्‍न हो सकते हैं।

पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री ने गुजरात में शेल इंडिया के एलएनजी ट्रक-लोडिंग यूनिट का उद्घाटन किया

पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने गुजरात के हजीरा में शेल इंडिया के एलएनजी ट्रक-लोडिंग यूनिट का उद्घाटन किया। इस अवसर पर श्री प्रधान ने कहा कि यह इकाई उन स्‍थानों पर प्राकृतिक गैस की उपलब्धता को बढ़ावा देगी जहां कोई गैस पाइपलाइन नहीं हैं। यह लंबी दूरी के परिवहन में एलएनजी के इस्‍तेमाल को भी बढ़ावा देगा।

इंफोसिस को गूगल क्लाउड पार्टनर का दर्जा मिला

हाल ही में इंफोसिस ने घोषणा की है कि उसे डेटा और एनालिटिक्स स्पेस में गूगल क्लाउड पार्टनर स्पेशलाइजेशन द्वारा मान्यता प्राप्त हो गयी है। इंफोसिस अब उन शीर्ष वैश्विक प्रणाली इंटीग्रेटर्स की सूची में शामिल हो गया है जिन्हें इस विशेषज्ञता के साथ मान्यता मिली है। इंफोसिस को यह मान्यता क्लाउड पर वेयरहाउसिंग और डेटा अंतर्ग्रहण सहित गूगल क्लाउड पर एंड-टू-एंड क्षमताओं का सफलतापूर्वक प्रदर्शन करने के बाद मिली हैं। इंफोसिस ने मजबूत कार्यप्रणाली, मजबूत उद्योग विशेषज्ञता, तकनीकी दक्षता, विशिष्ट डेटा और एनालिटिक्स समाधानों में सफलता और सेवा क्षेत्रों को प्रदर्शित किया है। इंफोसिस कोबाल्ट कई सेवाओं, समाधानों और मंचों का एक समूह है। कृत्रिम बुद्धिमत्ता क्षमताओं की मदत से ये डेटा और एनालिटिक्स लागत को अनुकूलित करने में मदद करेगा।

सडक परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने अन्‍तर्देशीय यातायात वाहन नियम 2021 को अधिसूच‍ित कर दिया

सडक परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने अन्‍तर्देशीय यातायात वाहन नियम 2021 को अधिसूच‍ित कर दिया है। इसके तहत देश और पडोसी देशों के बीच यात्रियों और माल वाहनों के आवागमन को सुगम बनाया जा सकेगा। नियमों के अनुसार राज्‍य परिवहन प्राधिकरण को आवेदन की गहरी जांच के बाद अन्‍तर्देशीय यातायात परमिट देने का अधिकार दिया गया है। यह परमिट जारी होने की तिथि से एक साल के लिए वैध होगा और वार्षिक आधार पर पांच वर्ष तक के लिए इसका नवीनीकरण कराया जा सकेगा। राज्‍य परिवहन विभाग के पास टिकटों, यात्रियों की जांच जैसी औपचारिकताओं का जिम्‍मा होगा। मोटर वाहन अधिनियम 1988 के प्रावधान के तहत नियमों को अधिसूचित करने के सडक परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की ओर से मिले अनुरोध के मददेनजर यह निर्णय लिया गया है ताकि भारत और पडोसी देशों के बीच यात्रियों और माल का आवागमन सुगम बनाया जा सके।

विश्‍व प्रसिद्ध कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ0 वी0 शांता का निधन

विश्‍व प्रसिद्ध कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ0 वी0 शांता काचेन्‍नई में निधन हो गया है। वे 94 वर्ष की थीं और कुछ समय से बीमार थी। डॉक्‍टर शांता अदयार कैंसर सैन्‍टर की अध्‍यक्ष थी। उन्‍होंने 1955 में प्रशिक्षु के तौर पर अस्‍पताल में काम शुरू किया और फिर संस्‍थान की प्रमुख बनी। मरीजों को उत्‍तम और किफायती इलाज उपलब्‍ध कराने के लिए संस्‍थान के अध्‍यक्ष के तौर पर उन्‍होंने अन्‍तर्राष्‍ट्रीय विशेषज्ञों के साथ मिलकर काम किया। डॉक्‍टर शांता को कैंसर विज्ञान के क्षेत्र में योगदान के लिए मेगसाइसाइ, पदमश्री, पदमभूषण और पदम विभूषण से अलंकृत किया गया। तमिलनाडु सरकार डॉक्‍टर शांता को राजकीय सम्‍मान देगी।

नेशनल स्पॉट एक्सचेंज (NSEL) घोटाला

हाल ही में दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने नेशनल स्पॉट एक्सचेंज (NSEL) के मैनेजिंग डायरेक्टर अंजनी सिन्हा को गिरफ्तार किया है। NSEL घोटाला सामने आने के 7 साल बाद यह गिरफ़्तारी कि गयी हैं। अंजनी सिन्हा NSEL के पूर्व प्रबंध निदेशक हैं। नेशनल स्पॉट एक्सचेंज लिमिटेड (NSEL) घोटाला 2013 में निवेशकों के लिए एक झटका के रूप में सामने आया था। यह घोटाला एक भुगतान डिफ़ॉल्ट था जिसमें फाइनेंशियल टेक्नोलॉजीज इंडिया लिमिटेड शामिल था। नेशनल स्पॉट एक्सचेंज लिमिटेड (NSEL) के माध्यम से इन्वेस्टर्स वेयरहाउस में रखी गई कस्टर सीड, ऊन, चीनी जैसी कमोडिटी पर 25-36 दिन के लिए लोन देते थे। उसके बाद इस प्लेटफॉर्म पर इन्वेस्टर्स और बॉरोअर्स के ऑर्डर मैच किए जाते थे। जिसके बाद इन्वेस्टर्स और बॉरोअर्स क़ो 15-16 फीसदी तक का रिटर्न मिलता था। जबकि स्टॉक में कोई कमोडिटी नहीं थी। वेयरहाउस की रसीद फर्जी थी और गोदाम भी खाली थे। बॉरोअर्स ने एक्सचेंज के जरिए जुटाया पैसा प्रॉपर्टी में लगा दिया था।

Start Quiz!

« Previous Next Affairs »

Current Affairs Quiz

Here you can find Month Wise Quiz.

Quiz

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Exam

Here You can find previous year question paper and model test for practice.

Start Exam

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.