Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

29 January 2021

गणतंत्र दिवस परेड में उत्‍तर प्रदेश को सर्वश्रेष्‍ठ झांकी का पुरस्‍कार मिला

इस वर्ष गणतंत्र दिवस परेड में हिस्सा लेने वाली 32 झांकियों में से उत्तर प्रदेश की झांकी को पहला पुरस्कार मिला है। उत्तर प्रदेश की झांकी का विषय था - अयोध्या - उत्तर प्रदेश की सांस्कृतिक विरासत। त्रिपुरा की झांकी को दूसरा स्थान मिला है, जिसमें सामाजिक और आर्थिक मानकों में आत्मनिर्भरता प्राप्त करने के लिए पर्यावरण अनुकूल परम्पराओं के प्रोत्साहन को दिखाया गया था। केंद्रीय युवा कार्य और खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने गणतंत्र दिवस परेड में शामिल प्रतिभागियों को पुरस्कार प्रदान किए। विभिन्न मंत्रालयों, विभागों और अर्द्धसैनिक बलों की नौ झांकियों में से बायो टेक्नोलॉजी विभाग की झांकी सर्वश्रेष्ठ मानी गई। इसमें विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से आत्मनिर्भर भारत - कोविड- टीका विकसित करने की प्रक्रिया को प्रदर्शित किया गया था। केंद्रीय लोक निर्माण विभाग की झांकी अमर जवान को सशस्त्र बलों के शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए विशेष पुरस्कार दिया गया। श्री रिजिजू ने दिल्ली के रोहिणी इलाके के माउंट आबू पब्लिक स्कूल और विद्या भारती स्कूल के छात्रों को सर्वोत्तम सांस्कृतिक प्रस्तुति के लिए पुरस्कृत किया। इन बच्चों ने आत्मनिर्भर भारत के दृष्टिकोण को सुंदर ढंग से पेश किया था।

वर्चुअल इंटेलिजेंस टूल: तेजस लॉन्च किया गया

नेशनल इन्फार्मेटिक्स सेंटर सर्विसेज़ इंकॉर्पोरेटेड (NICSI) की स्थापना के 25 वर्ष पूरे होने के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद द्वारा ‘तेजस’ नाम से एक वर्चुअल इंटेलिजेंस टूल लॉन्च किया गया, जो कि नागरिकों को नीतिगत निर्णयों और सरकारी सेवाओं एवं उनके वितरण से जुड़ी दक्षता में सुधार के उद्देश्य से सार्थक जानकारी जुटाने के लिये उपलब्ध डेटा के माध्यम से महत्त्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करने में मदद करेगा। इसके अलावा केंद्रीय मंत्री द्वारा ‘ई-नीलामी भारत’ (यह सरकारी संस्थानों की इलेक्ट्रॉनिक फारवर्ड और रिवर्स नीलामी आवश्यकताओं को पूरा करने के उद्देश्य से 24x7 ऑनलाइन सेवा उपलब्ध कराएगी) और ‘वर्क फ्रॉम एनीवेयर’ पोर्टल भी लॉन्च किया गया, यह पोर्टल महामारी के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग और काम की सुगमता सुनिश्चित करने के लिये वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संचार की सुविधा उपलब्ध कराएगा। नेशनल इन्फार्मेटिक्स सेंटर सर्विसेज़ इंकॉर्पोरेटेड, राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (NIC) के अधीन सार्वजनिक क्षेत्र का एक उपक्रम है। इसका प्राथमिक कार्य केंद्र एवं राज्य सरकारों और देश भर के अन्य सार्वजनिक उपक्रमों को ई-गवर्नेंस से जुड़ी परियोजनाओं के लिये एंड-टू-एंड आईटी समाधान प्रदान करना है।

TCS बना विश्व का तीसरा मोस्ट वैल्यूएबल आईटी सर्विस ब्रांड

ब्रांड फाइनेंस की एक रिपोर्ट के अनुसार, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) को Accenture और IBM के बाद वैश्विक स्तर पर तीसरे सबसे वैल्युएबल आईटी सेवा ब्रांड का स्थान मिला है। तीसरे स्थान पर काबिज TCS तेजी से आईबीएम के साथ अंतर को कम कर रही है, जो 11% ब्रांड वैल्यू बढ़कर 15 बिलियन अमरीकी डॉलर के बराबर है। एक्सेंचर 26 बिलियन अमरीकी डालर के रिकॉर्ड ब्रांड मूल्य के साथ दुनिया का मोस्ट वैल्यूएबल और सबसे मजबूत आईटी सर्विस ब्रांड का टाइटल बरकरार रखा, जबकि आईबीएम 16.1 बिलियन अमरीकी डॉलर के ब्रांड मूल्य के साथ दूसरे स्थान पर है। चार भारतीय आईटी सर्विस कंपनियों TCS (3), इंफोसिस (4), HCL (7) और विप्रो (9) ने विश्व की टॉप-10 कंपनियों में स्थान हासिल किया हैं। एक्सेंचर ने 26 बिलियन डॉलर के ब्रांड मूल्य के साथ दुनिया की सबसे मूल्यवान और सबसे मजबूत आईटी सेवा ब्रांड का खिताब बरकरार रखा है।

भारत ने साल 2021 में UN शांतिनिर्माण कोष के लिए की 150,000 डॉलर देने की घोषणा

भारत ने इस वर्ष संयुक्त राष्ट्र शान्तिनिर्माण कोष (United Nations Peacebuilding Fund) की गतिविधियों और कार्यक्रमों में योगदान देने के लिए साल 2021 में 150,000 अमेरिकी डालर देने का वादा किया है। पीसबिल्डिंग फंड ने अपनी पांच साल की रणनीति को आगे बढ़ाया है, जिसके लिए वर्ष 2020-2024 के दौरान शान्तिनिर्माण कोष के लिये डेढ़ अरब (1.5 बिलियन) डॉलर की आवश्यकता होगी। इसकी घोषणा 25 जनवरी, 2021 को संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टीएस तिरुमूर्ति ने की। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा कि वह उन देशों के प्रति आभारी हैं जिन्होंने संयुक्त राष्ट्र के शांति स्थापना कोष के माध्यम से संयुक्त राष्ट्र के शांति और संघर्ष निवारण की दिशा में 439 मिलियन डॉलर से अधिक की सहायता प्रदान की है।

श्रीलंका और बहरीन को भारत की “वैक्सीन मैत्री” पहल से COVID-19 टीके प्राप्त हुए

वैक्सीन मैत्री पहल भारत द्वारा पड़ोसी देशों को COVID-19 टीके गिफ्ट करने के लिए शुरू की गई है। हाल ही में, श्रीलंका और बहरीन को इस पहल के तहत भारत से COVID-19 टीके प्राप्त हुए। भारत द्वारा पड़ोसी देशों को COVID-19 टीके गिफ्ट करने के लिए वैक्सीन मैत्री पहल 20 जनवरी को शुरू की गई थी। श्रीलंका को “वैक्सीन मैत्री” पहल के एक भाग के रूप में भारत से 5 लाख कोविड-19 टीके मिले हैं। बहरीन को भी टीकों की खेप भेजी गई है। बहरीन को इस पहल के तहत 10,800 टीके मिलेंगे। भारत ने श्रीलंका और बहरीन से पहले पड़ोस के सात देशों को 5 मिलियन से अधिक की खुराक भेजी है। भारत से सहायता प्राप्त करने वाले यह 7 देश हैं- मालदीव (1,00,000 टीके), भूटान (1,50,000 टीके), नेपाल (1 मिलियन टीके), बांग्लादेश (2 मिलियन टीके), म्यांमार (5 मिलियन टीके), मॉरीशस (1,00,000 टीके), और सेशेल्स (50,000 टीके) है।कोविशिल्ड की वाणिज्यिक आपूर्ति मोरक्को, ब्राजील, (प्रत्येक के लिए 2 मिलियन खुराक), और बांग्लादेश (5 मिलियन खुराक) को भेजी गई है।

मेघालय ने जीता बेस्ट इलेक्टोरल प्रैक्टिस 2020 के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार

मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय, मेघालय को राष्ट्रीय सर्वश्रेष्ठ चुनावी आचरण पुरस्कार -2020 में भारतीय निर्वाचन आयोग (ECI) द्वारा चुनाव में सूचना प्रौद्योगिकी अनुप्रयोगों के लिए एक विशेष पुरस्कार के लिए चुना गया था। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने नई दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय मतदाता दिवस पुरस्कार समारोह में मेघालय के सीईओ एफ.आर. ख़ारकोंगर को वर्चुअली पुरस्कार प्रदान किया गया। यह पुरस्कार सीईओ के कार्यालय द्वारा सम्पूर्ण चुनावी नामांकन (E2E) प्रक्रिया में निर्वाचक गतिविधियों में निरंतर और सुसंगत आईटी अनुप्रयोग प्रयासों और सभी श्रेणियों के मतदाताओं के लिए, दोनों सामान्य और विकलांग व्यक्तियों (PWD) के लाभ के लिए प्रौद्योगिकी का लाभ उठाने के लिए दिया जाता है। ECI लगातार गैर-चुनावी अवधि जैसे कि मतदाता पोर्टल, मतदाता हेल्पलाइन ऐप, एसएमएस, 1950 हेल्पलाइन, राजनीतिक पार्टी पंजीकरण और ऑनलाइन ट्रैकिंग को कवर करने के लिए प्रौद्योगिकी का उपयोग कर रहा है।

कोलकाता में ‘लाइब्रेरी ऑन बोट’ का शुभारंभ

पश्चिम बंगाल परिवहन निगम ने पहली यंग रीडर्स बोट लाइब्रेरी लॉन्च की है। इस लाइब्रेरी को एक हेरिटेज बुक स्टोर के सहयोग से लॉन्च किया गया है। इसे एक नाव पर (लाइब्रेरी ऑन बोट) लॉन्च किया गया है जो इस तरह की प्रथम पहल है। पश्चिम बंगाल राज्य परिवहन निगम ने विदेशों की तर्ज पर हुगली नदी में ‘लाइब्रेरी ऑन बोट’ का शुभारंभ किया है। यह लाइब्रेरी बच्चों को अंग्रेजी और बंगाली में 500 किताबों में से चुनने के लिए विकल्प प्रदान करेगी।यह बोट लाइब्रेरी लोगों को तीन घंटे की लंबी यात्रा प्रदान करेगी।इस लाइब्रेरी की यात्रा मिलेनियम पार्क में शुरू होगी।यह बेलूर मठ जेट्टी की यात्रा करेगी और वापस लौटेगी।यह नाव सप्ताह में तीन यात्राएं प्रदान करेगी।इसमें फ्री वाईफाई की सुविधा भी है।इस सवारी की कीमत वयस्कों के लिए 100 रुपये और बच्चों के लिए 50 रुपये होगी। इससे पहले ट्राम में भी लाइब्रेरी की शुरुआत की जा चुकी है।

महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने पम्‍प पावर कनेक्‍शन नीति का उदघाटन किया

महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने पम्‍प पावर कनेक्‍शन नीति का औपचारिक रूप से उदघाटन किया। इस अवसर पर श्री ठाकरे ने कहा कि राज्‍य सरकार ने इस योजना के तहत किसानों के जीवन में महत्‍वपूर्ण परिवर्तन लाने का कदम उठाया है। मुख्‍यमंत्री ने इस मौके पर कृषि ऊर्जा अभियान पॉलिसी वेब पोर्टल, सोलर एनर्जी लैंड बैंक पोर्टल, महाकृषि अभियान एक्‍ट और ए सी एफ ऐप का भी उद्घाटन किया। श्री ठाकरे ने कहा कि किसानों को दिन के समय निर्बाध बिजली आपूर्ति और उनके कृषि उत्‍पादों के लिए न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य- एम एस पी की मांगें सरकार की प्राथमिकता में शामिल हैं।

डब्ल्यूएचओ में लौटा अमेरिका, भारत ने किया स्वागत

भारत ने अमेरिका के विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) में लौटने के फैसले का स्वागत किया है। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने डब्ल्यूएचओ की कार्यकारी परिषद के वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये आयोजित 148 वें सत्र की अध्यक्षता करते हुए अमेरिका को लेकर ये भावनाएं व्यक्त कीं। विदित हो कि कोविड-19 महामारी के सिलसिले में डब्ल्यूएचओ की भूमिका को गलत मानते अमेरिका ने कुछ हफ्ते पहले संगठन को छोड़ दिया था।

इसरो के लिए कोयंबटूर के कॉलेज छात्रों ने बनाया सेटेलाइट

कोयंबटूर के श्रीशक्ति इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी के छात्रों ने 2.5 करोड़ रुपये की लागत से भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के लिए एक सेटेलाइट को डिजाइन और विकसित किया है। इसरो के चेयरमैन डॉ. के. सिवन इसका उद्घाटन करेंगे। इसके बाद फरवरी में इसे इसरो को उसके इस्तेमाल के लिए सौंप दिया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा पिछले साल जून में इंडियन नेशनल स्पेस प्रमोशन एंड ऑथराइजेशन सेंटर के गठन ने इंस्टीट्यूट के 12 छात्रों को इसरो के साथ मिलकर काम करने और ‘श्रीशक्तिसैट’ विकसित करने के लिए प्रेरित किया। सर्बिया स्थित कम्युनिटी फॉर स्पेस प्रोग्राम डेवलपमेंट के साथ मिलकर श्रीशक्तिसैट ग्राउंड स्टेशन स्थापित करने के बाद इंस्टीट्यूट सेटेलाइट नेटवर्क ओपन ग्राउंड स्टेशन (एसएटीएनओजीएस) परियोजना का सदस्य बन गया। एसएटीएनओजीएस का मकसद पृथ्वी की निचली कक्षा के सेटेलाइट ग्राउंड स्टेशनों के नेटवर्क को तकनीक उपलब्ध कराना है। ‘श्रीशक्तिसैट’ का वजन सिर्फ 460 ग्राम होगा, लेकिन यह 10 किग्रा तक वजन के किसी अन्य नैनो सेटेलाइट की तरह कार्य कर सकेगा। इसका इस्तेमाल इंटरनेट ऑफ थिंग्स के लिए प्रौद्योगिकी प्रदर्शक के तौर पर किया जाएगा।

अमरीका ने अपने नागरिकों से कहा- वे कोविड-19, आतंकवाद और जातीय हिंसा के कारण पाकिस्‍तान और बांग्‍लादेश की यात्रा करने पर पुनर्विचार करें तथा अफगानिस्‍तान की यात्रा पर न जाएं

अमरीका ने दक्षिण एशिया के तीन देशों की यात्रा के बारे में नया परामर्श जारी करते हुए अपने नागरिकों से कहा है कि वे पाकिस्तान और बंगलादेश की यात्रा करने पर पुनर्विचार करें तथा अफगानिस्तान की यात्रा पर न जाएं। परामर्श में कोविड-19, आतंकवाद और जातीय हिंसा के कारण पाकिस्तान की यात्रा पर विचार करने को कहा गया है। अमरीका नागरिकों को पाकिस्तान में बलूचिस्तान और खैबर पख्तुनख्वा प्रांतों में आतंकवाद और अपहरण की घटनाओं के कारण न जाने की सलाह दी गई है। कोविड-19 के कारण अपने नागरिकों से बंगलादेश की यात्रा पर पुनर्विचार करने का अनुरोध करते हुए विदेश विभाग ने कहा है कि अपराध, आतंकवाद और अपहरण की घटनाओं के कारण बंगलादेश जाते समय अधिक सजग रहें। एक अन्य परामर्श में विदेश विभाग ने अमरीकी नागरिकों से कोविड-19, अपराध, आतंकवाद, गृह अशांति, अपहरण और सशस्त्र संघर्ष के कारण अफगानिस्तान की यात्रा न करने को कहा है।

जम्‍मू कश्‍मीर संविधान सभा के एक मात्र जीवित सदस्‍य कृष्‍ण देव सेठी का निधन

जम्‍मू कश्‍मीर संविधान सभा के एक मात्र जीवित सदस्‍य कृष्‍ण देव सेठी का जम्‍मू में निधन हो गया। 93 वर्षीय सेठी नौशेरा विधानसभा क्षेत्र से जम्‍मू कश्‍मीर विधानसभा के लिए भी चुने गए थे।

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल द्वारा आईसीसी प्‍लेयर ऑफ द मंथ शुरू करने की घोषणा

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल-आई.सी.सी. ने दुबई में आईसीसी प्‍लेयर ऑफ द मंथ यानी महीने के सर्वश्रेष्‍ठ क्रिकेट खिलाड़ी का सम्‍मान शुरू करने की घोषणा की है। इस पुरस्‍कार के जरिये विभिन्‍न अंतर्राष्‍ट्रीय क्रिकेट प्रतियोगिताओं में बेहतरीन खेल का प्रदर्शन करने वाले पुरूष और महिला क्रिकेट खिलाडि़यों को सम्‍मानित किया जायेगा।

खादी और ग्रामोद्योग आयोग ने असम के सबसे पुराने खादी संस्थान को पुनर्जीवित किया जिसे बोडो विद्रोहियों ने 30 वर्ष पहले जला दिया था

खादी और ग्रामोद्योग आयोग ने असम में एक पुरानी खादी संस्था को पुनर्जीवित किया है। सूक्ष्म, लघु और मझोले उद्यम मंत्रालय ने बताया है कि असम के बक्सा जिले में कवाली गांव स्थित खादी कार्यशाला को 1989 में बोडो उग्रवादियों ने जला दिया था। इसे अब खादी और ग्रामीण ग्रामोद्योग आयोग द्वारा रेशम बुनाई केंद्र के रूप में पुनर्जीवित किया गया है। यहां कताई और बुनाई की गतिविधियां फरवरी के दूसरे सप्ताह में शुरू हो जाएंगी। अरुणाचल प्रदेश में स्थित एक कार्यशाला कको 1962 में चीन के आक्रमण के बाद असम में स्थानांतरित किया गया था। यहां सरसों के तेल के उत्पादन की इकाई लगाई गई थी और वर्ष 1977 में 50 शिल्पकार परिवारों को आजीविका प्रदान करते हुए कताई और बुनाई की गतिविधियां शुरू की गई थीं। वर्ष 1989 में उग्रवादियों द्वारा जलाए जाने के बाद से यह इकाई बंद पड़ी थी।

गूगल के कर्मचारियों ने ‘अल्फा ग्लोबल एलायंस’ का गठन किया

दुनिया भर के गूगल कर्मचारियों ने “अल्फ़ा ग्लोबल” नामक एक अंतर्राष्ट्रीय संघ गठबंधन का गठन किया है। कुछ हफ्ते पहले गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट के कुछ कर्मचारियों द्वारा अमेरिका और कनाडाई कार्यालयों के लिए एक संघ बनाया था। यह अल्फा ग्लोबल गठबंधन ‘अल्फाबेट यूनियन’ को जवाबदेह बनाने के लिए बनाया गया है। अमेरिकी श्रम कानून के अनुसार, अल्फाबेट एक संघ की मांगों को अनदेखा कर सकती है, जिसमें कर्मचारियों का बहुमत नहीं है। वर्तमान में अल्फाबेट वर्कर्स यूनियन में केवल 700+ कर्मचारी हैं। यूएनआई ग्लोबल यूनियन ने गूगल के अल्फा ग्लोबल गठबंधन के निर्माण में मदद की है। अल्फा ग्लोबल यूनियन गठबंधन में विभिन्न देशों जैसे यूके, अमेरिका, स्विट्जरलैंड, जर्मनी और स्वीडन के कर्मचारी शामिल हैं।

राष्ट्रीय गैर-संचारी रोग निगरानी सर्वेक्षण (NNMS) जारी किया गया

हाल ही में राष्ट्रीय गैर-संचारी रोग निगरानी सर्वेक्षण (NNMS) स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी किया गया था। यह सर्वेक्षण 2017-18 की अवधि के लिए आयोजित किया गया था। गैर-संचारी रोग पर यह इस तरह का एक व्यापक सर्वेक्षण है। इसमें शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के 15-69 वर्ष के आयु वर्ग के पुरुषों और महिलाओं को शामिल किया गया है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में गैर-संचारी रोगों (एनसीडी) के लिए पांच में से दो वयस्कों में तीन या अधिक जोखिम कारक हैं।इसमें यह भी कहा गया है कि प्रत्येक चार वयस्कों में से एक से अधिक और 2% किशोर अधिक वजन वाले हैं।दस वयस्कों में से तीन में उच्च रक्तचाप की समस्या थी।3% ने रक्त शर्करा अधिक थी।पांच में से दोवयस्क और चार किशोरों में से एक अपर्याप्त शारीरिक गतिविधि कर रहे हैं।इन बच्चों के लिए नमक का औसत दैनिक सेवन 8 ग्राम था।प्रत्येक तीन वयस्कों में से एक और पुरुषों का एक-चौथाई से अधिक अनुपात तंबाकू सेवन में शामिल था और उन्होंने पिछले 12 महीनों में शराब का सेवन किया था।

धनलक्ष्मी बैंक बोर्ड ने जे के शिवन को एमडी और सीईओ के रूप में नियुक्ति को मंजूरी दी

केरल स्थित धनलक्ष्मी बैंक के निदेशक मंडल ने जे के शिवन को बैंक के प्रबंध निदेशक और सीईओ के रूप में नियुक्त करने की मंजूरी दे दी है। यह याद किया जा सकता है कि केरल स्थित शेयरधारकों ने 30 सितंबर, 2020 को एमडी और सीईओ सुनील गुरबक्सनी के खिलाफ मतदान किया था। फिर उसी साल दिसंबर में, ऋणदाता ने शिवन को नए एमडी और सीईओ के रूप में नियुक्त किया। हालांकि, भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के बैंकिंग नियामक ने धनलक्ष्मी बैंक बोर्ड को जे के शिवन को बैंक के अगले प्रमुख के रूप में नियुक्त करने से पहले शेयरधारकों की मंजूरी लेने के लिए कहा था।

संयुक्त राष्ट्र वैश्विक जलवायु सर्वेक्षण आयोजित किया गया

संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) द्वारा हाल ही में सबसे बड़ा जलवायु सर्वेक्षण किया गया है। “UN Climate Survey” या “People’s Climate Vote” के परिणाम बताते हैं कि लोग अधिक व्यापक जलवायु नीतियों के समर्थन में हैं। UNDP ने 50 देशों को कवर करते हुए यह जलवायु सर्वेक्षण किया और 1.2 मिलियन लोगों का सर्वेक्षण किया। लक्षित आयुवर्ग में 18 वर्ष से कम उम्र के आधा मिलियन से अधिक लोग शामिल थे। इस सर्वेक्षण में लोगों से पूछा गया कि वे जलवायु परिवर्तन को वैश्विक आपातकाल के रूप में मानते हैं या नहीं। ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के मतदान विशेषज्ञों ने संयुक्त राष्ट्र जलवायु सर्वेक्षण के दौरान एकत्र किए गए विशाल नमूनों का आकलन किया।इस सर्वेक्षण के परिणामों के अनुसार, लगभग 1.2 मिलियन लोगों में से दो-तिहाई लोग जलवायु परिवर्तन को वैश्विक आपातकाल मानते हैं। 18-35 वर्ष की आयु के 65% लोगों ने जलवायु परिवर्तन को आपातकाल माना है। इसके अलावा 36-59 आयु वर्ग के 66% लोग; और 60 वर्ष से ऊपर के 58% लोग जलवायु परिवर्तन को एक आपातकालीन स्थिति के रूप में देखते हैं।इस सर्वेक्षण के नतीजे यह भी बताते हैं कि लोग व्यापक जलवायु नीतियों का समर्थन करते हैं। इस सर्वेक्षण का आयोजन ग्लासगो में नवंबर 2021 में होने वाले पार्टियों के सम्मेलन COP26 के 26वें सत्र के लिए वार्ता करने के लिए किया गया था।

केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण ने खोला NCLAT चेन्नई बेंच

केंद्रीय वित्त और कॉर्पोरेट मामलों के मंत्री निर्मला सीतारमण ने नैशनल कंपनी लॉ अपीलेट ट्रिब्यूनल (NCLAT) की चेन्नई पीठ का वर्चुअली उद्घाटन किया है। नई दिल्ली में प्रिंसिपल बेंच के बाद यह देश की दूसरी NCLAT बेंच होगी। NCLAT के पास कंपनी अधिनियम, दिवाला और दिवालियापन संहिता और भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग के तहत मामलों पर अधिकार क्षेत्र है। कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना तथा लक्षद्वीप और पुडुचेरी के केंद्र शासित प्रदेशों के न्यायाधिकरण के खंडपीठों के आदेशों के खिलाफ ताज़ा अपील चेन्नई बेंच के समक्ष दायर करनी होगी। न्यायमूर्ति बंसीलाल भट, कार्यवाहक अध्यक्ष, NCLAT; राजेश वर्मा, सचिव, कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय; और जस्टिस वेणुगोपाल एम, न्यायिक सदस्य और NCLAT चेन्नई बेंच के तकनीकी सदस्य बलविंदर सिंह उपस्थित थे।

HSBC ने गुजरात में किया अंतर्राष्ट्रीय बैंकिंग इकाई का उद्घाटन

वैश्विक वित्तीय सेवाओं के प्रमुख HSBC ने गुजरात में गांधीनगर शहर के पास GIFT सिटी में अंतर्राष्ट्रीय बैंकिंग इकाई (IBU) शाखा का उद्घाटन किया है। HSBC भारत के गिफ्ट सिटी में एक शाखा स्थापित करने वाले सबसे पहले वैश्विक वित्तीय संस्थानों में से एक है और नए स्थापित अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण (IFSCA) से लाइसेंस प्राप्त करने वाला पहला बैंक था। गुजरात इंटरनेशनल फाइनेंस टेक-सिटी (GIFT सिटी) में HSBC की आईबीयू शाखा 27 जनवरी से प्रभावी होगी। HSBC देश में 160 से अधिक वर्षों से मौजूद है और विश्व स्तर पर इसकी चौथी शाखा भारत में खोली गई थी। HSBC दुनिया के सभी प्रमुख अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्रों में काम करता है और विश्व स्तर पर प्रतिस्पर्धी अंतरराष्ट्रीय वित्तीय केंद्र के रूप में गिफ्ट सिटी के विकास के लिए तत्पर है।

प्रधानमंत्री ने आज महान स्‍वतंत्रता सेनानी लाला लाजपत राय की जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित की

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने महान स्‍वतंत्रता सेनानी लाला लाजपत राय की जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित की है। उन्‍होंने कहा कि देश के स्‍वतंत्रता संग्राम में उनका योगदान अविस्‍मरणीय है और यह पीढियों तक लोगों को प्रेरित करता रहेगा। भारत के महान स्वतंत्रता सेनानी लाला लाजपत राय का 28 जनवरी को 156वां जन्मदिन था। लाला लाजपत राय का जन्म 28 जनवरी 1865 को पंजाब के मोगा जिले के ढुडीके में हुआ था। 17 नवंबर 1928 को लाला लाजपत राय का निधन हो गया था। उनकी देशभक्ति के लिए उन्हें ‘पंजाब केसरी’ और ‘लायन ऑफ़ पंजाब’ का खिताब दिया गया। लाला लाजपत राय ‘लाल बाल पाल’ नामक त्रिमूर्ति के सदस्य थे। इसमें पंजाब के लाला लाजपत राय, महाराष्ट्र के बाल गंगाधर तिलक तथा बंगाल के बिपिन चन्द्र पाल शामिल थे। इन तीनों नेताओं ने स्वतंत्रता संग्राम की दिशा को बलदने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इन तीनों ने स्वदेशी आन्दोलन को मजबूत करने के लिए देश भर में लोगों को एकजुट किया।

भारत और मोहन बागान के पूर्व गोलकीपर प्रशांत डोरा का निधन

पूर्व भारतीय राष्ट्रीय फुटबॉल टीम के गोलकीपर, प्रशांत डोरा का निधन हो गया है। उन्होंने घरेलू फुटबॉल में टॉलीगंज अग्रगामी, कलकत्ता पोर्ट ट्रस्ट, मोहम्मडन स्पोर्टिंग, मोहन बागान और ईस्ट बंगाल का प्रतिनिधित्व किया था। 1997-98 और 99 में जब बंगाल ने बैक-टू-बैक संतोष ट्रॉफी खिताब जीता, तब उन्हें भी बेस्ट गोलकीपर के रूप में चयन किया गया। राष्ट्रीय स्तर पर, डोरा ने SAFF कप और SAF गेम्स जैसी प्रतियोगिताओं में पांच प्रदर्शन किए।

इंडोनेशिया के सबसे सक्रिय ज्वालामुखी माउंट मेरापी में विस्फोट हुआ

इंडोनेशिया के सबसे सक्रिय ज्वालामुखी माउंट मेरापी में हाल ही में एक विस्फोट हुआ। इसके बाद बड़ी मात्रा लावा और धूल का गुबार उत्पन्न हुआ। यह माउंट मेरापी पर्वत का सबसे बड़ा लावा प्रवाह था।इस विस्फोट की आवाज 30 किलोमीटर दूर तक सुनी गई।मेरापी का अंतिम बड़ा विस्फोट 2010 में हुआ था जिसमें 347 लोग मारे गए थे। माउंट मेरापी पर्वत इंडोनेशिया में स्थित है। यह एक सक्रिय स्ट्रैटोवोल्केनो है जो इंडोनेशिया के मध्य जावा और याग्याकार्टा प्रांतों के बीच की सीमा पर स्थित है। इसे इंडोनेशिया में सबसे सक्रिय ज्वालामुखी माना जाता है और इसमें 1548 के बाद से लगातार विस्फोट हो रहा है। यह दक्षिणी जावा में ज्वालामुखियों का सबसे छोटा समूह है जो इंडो-ऑस्ट्रेलियन प्लेट और सुंडा प्लेट के एक उप-क्षेत्र जोन में स्थित है।

कोपरा के लिए सरकार ने एमएसपी में बढ़ोतरी को मंजूरी दी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति (CCEA) ने कोपरा (नारियल) के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) को मंजूरी दी है। सरकार ने 2020 से कोपरा (नारियल) के लिए एमएसपी में 375 की बढ़ोत्तरी की है। इस प्रकार, कोपरा का मूल्य 10,335 प्रति क्विंटल होगा और इससे किसानों की आय में वृद्धि होगी। कोपरा के लिए एमएसपी में यह बढ़ोतरी 12 तटीय राज्यों के किसानों को लाभान्वित करेगी। मिलिंग और बॉल कोपरा दोनों की एमएसपी में वृद्धि की गई है। कोपरा के दोनों प्रकार के उत्पादन की लागत 6,800 रुपये है। एमएसपी में यह वृद्धि स्वामीनाथन की सिफारिशों के अनुरूप है।

Start Quiz!

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.