Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

15 February 2021

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने तमिलनाडु में अनेक विकास परियोजनाओं का उद्घाटन किया

चेन्नई में आठ हजार करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाओं का शुभारंभ करते हुए, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तमिलनाडु में किसानों को न केवल जल संरक्षण के तरीकों का पालन करने के लिए बल्कि पूरे इतिहास में रिकॉर्ड खाद्य उत्पादन के लिए बधाई दी है। श्री मोदी ने चेन्‍नई मेट्रो रेल के प्रथम चरण विस्‍तार का उद्घाटन किया। मेट्रो रेल का यह चरण तीन हजार सात सौ सत्‍तर करोड़ रूपए की लागत से बनकर तैयार हुआ है। प्रधानमंत्री मेट्रो रेल की यात्री सेवाओं को वाशरमैनपेट से विमको नगर के लिए हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। मेट्रो रेल का नौ दशमलव पांच किलोमीटर लंबा यह विस्‍तार ट्रैक नार्थ चेन्‍नई को हवाई अड्डे और सेंट्रल रेलवे स्‍टेशन से जोड़ेगा। चेन्‍नई बीच और अट्टीपट्टू के बीच 22 किलोमीटर लंबी चौथी रेलवे लाइन का भी उद्घाटन किया। यह रेलवे लाइन 293 करोड़ चालीस लाख रूपए की लागत से तैयार यह रेलवे लाइन तिरूवल्‍लूर जिलों के लिए अतिरिक्‍त ट्रैक उपलब्‍ध कराऐगी। इससे चेन्‍नई बंदरगाह पर होने वाली वाहनों की भीड़ को कम करने में मदद मिलेगी। श्री मोदी ने विल्लुपुरम - कुड्डालोर - मयिलादुथुराई - तंजावुर और मइलादुथुरई-थिरुवरुर में सिंगल लाइन सेक्शन के रेलवे विद्युतीकरण का भी उद्घाटन किया। 423 करोड़ रुपये की लागत से पूरा हुआ, 228 किलोमीटर के इस मार्ग के विद्युतीकरण से चेन्नई एग्मोर और कन्याकुमारी के बीच ट्रैक्शन को बदलने की आवश्यकता के बिना यातायात का मुफ्त प्रवाह हो सकेगा। प्रधानमंत्री ने डेल्टा जिलों में सिंचाई के लिए महत्वपूर्ण एनीकट नहर प्रणाली के विस्तार, जीर्णोद्धार और आधुनिकीकरण की आधारशिला रखी। इससे इस नहर की जलधारण क्षमता बढ़ेगी। इस नहर के आधुनिकीकरण में दो हजार छह सौ चालीस करोड़ रूपए की लागत आएगी। श्री मोदी ने आई.आई.टी. मद्रास में डिस्कवरी परिसर की भी आधारशिला रखी। यह परिसर चेन्नई के पास तय्यूर के पास प्रस्तावित है। करीब दो लाख वर्ग मीटर क्षेत्र के निर्माण के पहले चरण में करीब एक हजार करोड़ रूपए की लागत अनुमानित है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने चेन्‍नई में अर्जुन मुख्‍य युद्धक टैंक एम.के.वन-ए सेना को सौंपा

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने चेन्‍नई में अर्जुन मुख्‍य युद्धक टैंक एम.के.वन-ए सेना को सौंपा। श्री मोदी ने स्वदेश में विकसित इस टैंक को चेन्नई में सेना प्रमुख जनरल एम. एम. नरवणे को सौंप दिया। उन्होंने चेन्नई में रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) द्वारा स्वदेशी रूप से डिजाइन, विकसित और निर्मित अत्याधुनिक टैंक द्वारा सलामी ली।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल में 6100 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाएं राष्‍ट्र को समर्पित कीं

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने केरल के कोच्चि में प्रमुख विकास परियोजनाएं राष्ट्र को समर्पित करते हुए कहा कि हमारे आज के कार्य आने वाले वर्षों में विकास की गति तय करेंगे। प्रधानमंत्री ने बी पी सी एल के प्रोपीलेन डेरिवेटिव पेट्रो केमिकल परियोजना को राष्ट्र को समर्पित किया। इस परियोजना से एक्रिलेट, एक्रिलिक और ऑक्सो अल्कोहल का उत्पादन होगा। फिलहाल इनका आयात होता है। इस परियोजना से तीन हजार सात सौ से लेकर चार हजार करोड़ रूपये की विदेशी मुद्रा प्रतिवर्ष बचाने में मदद मिलेगी। प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर कोच्चि में वेलिंग्टन द्वीप पर रो रो पोत सेवा को भी राष्ट्र को समर्पित किया। इससे व्यापार मिलाप होगा और समय और धन की बचत होगी। इससे कोच्चि में यातायात भी कम होगा। श्री मोदी ने कोचीन बंदरगाह पर देश के पहले अंतरराष्ट्रीय क्रूज टर्मिनल सागरिका का उद्घाटन भी किया। उन्होंने कोच्चि शिपियार्ड लिमिटेड के मेरीन इंजीनियरिंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट का शुभांरभ किया। इसके अलावा प्रधानमंत्री ने कोचीन बंदरगाह पर साउथ कोल बर्थ के पुनर्निर्माण की आधारशिला रखी। इस अवसर पर केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान, मुख्यमंत्री पिनरई विजयन, तेल और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान, बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग राज्यमंत्री मनसुख मांडविया तथा विदेश राज्यमंत्री वी मुरलीधरन सहित कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

मल्लिकार्जुन खड़गे राज्यसभा में विपक्ष के नेता के रूप में गुलाम नबी आज़ाद का स्थान लेंगे

काॅन्ग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे राज्यसभा में विपक्ष के नेता के रूप में गुलाम नबी आज़ाद का स्थान लेंगे। ध्यातव्य है कि 15 फरवरी, 2021 को गुलाम नबी आज़ाद के सेवानिवृत्त होने के बाद राज्यसभा में विपक्ष के नेता का पद खाली हो गया था। कर्नाटक से आने वाले काॅन्ग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे वर्ष 2014 से वर्ष 2019 तक लोकसभा में काॅन्ग्रेस के नेता रहे। भारत के सबसे पुराने दलों में से एक काॅन्ग्रेस को पिछली और वर्तमान लोकसभा में विपक्ष के नेता का पद नहीं मिल सका था, क्योंकि निचले सदन में उसका प्रतिनिधित्त्व 10 प्रतिशत से कम था। मल्लिकार्जुन खड़गे कर्नाटक से राज्यसभा में दूसरे विपक्ष के नेता होंगे, कर्नाटक से राज्यसभा में विपक्ष के पहले नेता एम.एस. गुरुपादस्वामी थे।

IRDAI ने बीमा कंपनियों को डिजिलॉकर अपनाने की सलाह दी

हाल ही में भारतीय बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण (IRDAI) ने एक परिपत्र में सभी बीमा कंपनियों को अपनी डि‍जिटल बीमा पॉलिसियां डिजीलॉकर के जरिए जारी करने की सलाह दी है। अपने परिपत्र में बीमा नियामक प्राधिकरण ने सभी बीमाकर्ताओं को सलाह दी कि वे अपने आई.टी सिस्टम में डिजिलॉकर सुविधा दें,ताकि पॉलिसीधारक अपने सभी पॉलिसी दस्तावेजों को संरक्षित करने के लिए डिजीलॉकर का उपयोग कर सकें।इसके साथ ही बीमाकर्ताओं को अपने पॉलिसीधारकों को डिजिलॉकर के बारे में और इसका उपयोग कैसे करें के बारे में भी बताना चाहिए।

मध्यप्रदेश में ऐतिहासिक शहर मांडू में तीन दिवसीय मांडू महोत्सव शुरू हुआ

मध्यप्रदेश में धार जिले में ऐतिहासिक शहर मांडू में तीन दिवसीय मांडू महोत्सव शुरू हो गया। महोत्सव में वोकल फॉर लोकल के मंत्र को साकार करने के लिए स्थानीय हस्त निर्मित उत्पादों को प्रदर्शित किया जा रहा है।

लेंसेट ने फरवरी 2021 के संंस्करण में सामाजिक कार्यकर्ता रानी बंग को सम्‍मानित किया

स्वास्थ्य से जुड़ी प्रसिद्ध पत्रिका लेंसेट ने अपने फरवरी 2021 के संंस्करण में सामाजिक कार्यकर्ता रानी बंग को महिला प्रजनन स्‍वास्‍थ्‍य के क्षेत्र में अग्रणी भूमिका निभाने के लिए सम्‍मानित किया है। पत्रिका में लिखा है कि अभय और रानी बंग के अध्‍ययनों ने पूरे विश्‍व में संसाधनों की कमी झेल रही व्‍यवस्‍थाओं में चिकित्‍सा पद्धति को बदल दिया। 1988 में लेंसेट में बंग का एक महत्‍वपूर्ण अध्‍ययन प्रकाशित हुआ था, जिससे पता चला था कि 92 प्रतिशत ग्रामीण महिलाएं स्‍त्री रोगों से पीडि़त होती हैं और ऐसी दस में से केवल एक महिला ने ही कभी किसी तरह की सहायता मांगी होती है। निदान और उपचार में सुधार लाने के लिए रानी बंग ने परंपरागत जन्‍म सहायिकाओं को प्रशिक्षित करने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाई। प्रजनन से जुड़ी उनकी सरल प्रक्रिया की अविश्‍वसनीय सफलता का लाभ विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन, यूनिसेफ और भारत सरकार ने उठाया और पड़ोसी देशों पाकिस्‍तान-अफगानिस्‍तान तथा नेपाल सहित कम संसाधनों वाले देशों में प्रसव पूर्व पद्धतियों में बदलाव आया।

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी मंगलवार को महाराजा सुहेलदेव स्‍मारक और चितौरा झील के विकास कार्यों की आधारशिला रखेंगे

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी मंगलवार को वीडियो कान्‍फ्रेंसिंग के माध्‍यम से महाराजा सुहेलदेव स्‍मारक और चितौरा झील के विकास कार्यों की आधारशिला रखेंगे। उत्‍तर प्रदेश के बहराइच में यह कार्यक्रम महाराजा सुहेलदेव की जयंति के उपलक्ष्‍य में आयोजित किया जा रहा है। राज्‍य के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ भी इस अवसर पर उपस्थित रहेंगे। इस विकास परियोजना में महाराजा सुहेलदेव की अश्‍वारोही प्रतिमा स्‍थापित की जाएगी तथा इसके साथ ही चितौरा झील के आस पास कैफीटेरिया, अतिथि गृह और चिल्‍ड्रन पार्क जैसी सुविधाएं विकसित की जाएंगी। महाराजा सुहेलदेव को देश के प्रति उनकी सेवाओं और समर्पण के लिए याद किया जाता है। वे हमेशा से ही लोगों के लिए प्रेरणा का स्रोत रहे हैं। यह स्‍मारक स्‍थल पर्यटन के नजरिये से भी काफी फायदेमंद होगा।

कूचबिहार में राष्‍ट्रीय संस्‍कृति महोत्‍सव का आयोजन

देश की सांस्‍कृतिक विविधता को बढावा देने के लिए संस्‍कृति मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल के कूचबिहार जिले में तीन दिवसीय राष्‍ट्रीय संस्‍कृति महोत्‍सव-2021 का आयोजन किया है। महोत्‍सव के उदघाटन के अवसर पर केंद्रीय संस्‍कृति मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल, पश्चिम बंगाल के राज्‍यपाल जगदीप धनकड़ और कूचबिहार से सांसद श्री निशित प्रमाणिक उपस्थित थे। इस तीन दिवसीय कार्यक्रम में भारत की सांस्‍कृतिक विरासत, शास्‍त्रीय नृत्‍य, लोक नृत्‍य, गीत तथा स्‍थानीय हस्‍तशिल्‍प को प्रदर्शित किया जाएगा। राष्‍ट्रीय संस्‍कृति महोत्‍सव के 11वें संस्‍करण का आयोजन 14 से 28 फरवरी, 2021 के बीच, पश्‍चिम बंगाल के कूचबिहार में (14 से 16 फरवरी, 2021), दार्जिलिंग में (22 से 24 फरवरी, 2021) और मुर्शीदाबाद में (27-28 फरवरी, 2021) किया जा रहा है।

बजट -जल जीवन मिशन ‘सरकार ने केन्द्रीय बजट 2021-22 में जल जीवन मिशन शहरी की घोषणा की

सरकार ने केन्द्रीय बजट 2021-22 में जल जीवन मिशन ग्रार्मीण की तरह जल जीवन मिशन शहरी की घोषणा की है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने बजट भाषण में कहा था कि यह मिशन पांच वर्षों से अधिक समय में लागू होगा और इस पर दो लाख 87 हजार करोड़ रुपये का परिव्यय होगा। सरकार ने पेयजल के लिए 50 हजार करोड़ रुपये और स्वच्छता के लिए दस हजार करोड़ रूपये अलग से रखे हैं।

असम का सबसे पुराना खादी संस्थान फिर जीवंत हो गया

असम का सबसे पुराना 56 वर्ष का खादी संस्थान फिर जीवंत हो गया। बक्सा जिले के कवाली गांव में खादी के कार्यस्थल में बुनाई और कताई का काम होने के साथ ही जीवन लौट आया है और साठ परिवारों को प्रत्यक्ष रोजगार मिला है। खादी और ग्रामोद्योग आयोग ने इस कार्यस्थल का पुनरूद्धार किया है और लोगों को चरखा और हथकरघा वितरित किए हैं। इस कार्यस्थल का खादी और ग्रामोद्योग के अध्यक्ष विनय कुमार सक्सेना ने उद्घाटन किया। बोडो उग्रवाद के दौरान यह खादी का संस्थान क्षतिग्रस्त हो गया था और 32 वर्षों तक इसी हाल में रहा। असम के लोगों के लिए इस कार्यस्थल का फिर से शुरू होना एक ऐतिहासिक उपलब्धि है। इससे बोडो, मिसिंग, असमिया और बंगाली समुदाय को फायदा होगा।

भारतीय नौसेना ने विस्‍फोटकों का पता लगाने वाले कुत्‍तों को हेलीकाप्‍टर से उतारने का पहली बार अभ्‍यास किया

भारतीय नौसेना ने विस्‍फोटकों का पता लगाने वाले कुत्‍तों को हेलीकाप्‍टर से उतारने का पहली बार अभ्‍यास किया है। हाल ही में सम्‍पन्‍न हुए प्रस्‍थान और समुद्री निगरानी अभ्‍यास के दौरान बम के कृत्रिम खतरे से निपटने के लिए विस्‍फोटक सूंघने में प्रशिक्षित मिंकी और मुक्ति नामक दो कुत्‍तों को नौसेना के एक हेलीकाप्‍टर से अप-तटीय तेल प्‍लेटफार्म नीलम पर उतारा गया। इसके बाद कुत्‍ते आई.ई.डी. खोजने के काम पर लग गये। ऑनबोर्ड अप-तटीय प्‍लेटफार्म पर विस्‍फोटकों का पता लगाने वाले कुत्‍तों को उनके हैंड़लरों और उपकरणों से लैस तकनीकी विशेषज्ञों के साथ उतारने के इस अभ्‍यास ने बम को निष्क्रिय करने और आई.ई.डी. के खतरे से निपटने में नौसेना की पहुंच और प्रतिक्रिया को सिद्ध कर दिया है।

मंगल पर उतरा नासा का परसेवेरेंस

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा का रोवर परसेवेरेंस जब मंगल ग्रह पर उतरने वाला था तभी आखिर के सात मिनटों में भयभीत करने वाला समय आया। सात महीने की अनवरत यात्र के बाद उसकी मंगल ग्रह पर लैंडिंग होने ही वाली थी, तभी कैप्सूल का रेडियो संदेश सिस्टम गड़बड़ा गया। लेकिन लैंडिंग मैनेजमेंट टीम ने जल्द ही उस गड़बड़ी पर काबू पा लिया और उसके बाद रोवर की लाल ग्रह पर सफलतापूर्वक लैंडिंग हो गई। परसेवेरेंस नाम का छह पहियों वाला रोबोट मंगल ग्रह पर जीवन की संभावनाओं को परखने के लिए भेजा गया है। लौटते समय उसे वहां की मिट्टी और चट्टान भी धरती पर लानी है। 20 करोड़ किलोमीटर से ज्यादा की दूरी तय कर परसेवेरेंस को लेकर स्पेस कैप्सूल इसी सप्ताह की शुरुआत में मंगल ग्रह पहुंचा है।

टोल प्लाजा पर वाहनों के लिए 15 फरवरी आधी रात से फास्टैग अनिवार्य होगा, नकद भुगतान स्वीकार नहीं किया जाएगा

देश के राष्‍ट्रीय राजमार्गों पर 15 फरवरी मध्‍य रात्रि से सभी टोल प्‍लाजा पर 'फास्‍टैग' अनिवार्य हो जाएगा। सडक परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने कहा है कि यह व्‍यवस्‍था टोल प्‍लाजाओं पर शुल्‍क भुगतान की प्रक्रिया को डिजिटल बनाने, प्रतीक्षा समय को घटाने, ईंधन की बचत करने और यात्रियों को टोल प्‍लाजाओं से आसानी से निकलने की सुविधा के लिए की गई है। राष्‍ट्रीय राजमार्ग शुल्‍क नियम-2008 के अनुसार यदि कोई वाहन बिना फास्‍टैग के किसी टोल प्‍लाजा से गुजरता है तो ऐसी स्थिति में उसे निर्धारित से दोगुना भुगतान करना पड़ेगा। मंत्रालय एम और एन श्रेणी के वाहनों में इस वर्ष पहली जनवरी से फास्‍टैग अनिवार्य कर चुका है। एम श्रेणी में यात्री वाहनों को रखा गया है जबकि एन श्रेणी में मालढुलाई वाले वाहन आते हैं, ऐसे वाहनों में कुछ व्‍यक्ति भी रह सकते हैं।

26वें हुनर हाट का आयोजन 20 फरवरी से जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में

अल्‍पसंख्‍यक मामलों का मंत्रालय 20 फरवरी से एक मार्च तक नई दिल्‍ली के जवाहर लाल नेहरू स्‍टेडियम में 26वें हुनर हाट का आयोजन करने जा रहा है। इसमें देश के 31 राज्‍यों और केंद्रशासित प्रदेशों के छह सौ से अधिक कारीगर और शिल्पकार भाग लेंगे। इनमें बडी संख्‍या में महिला शिल्‍पकार भी शामिल होंगी। इस बार के हुनर हाट का मुख्‍य विषय 'वोकल फोर लोकल' होगा। हुनर हाट को इस बार आनलाइन प्‍लेटफॉर्म www.hunarhaat.org और जीईएम पोर्टल पर भी उपलब्‍ध कराया जाएगा। इस प्‍लेटफार्म के जरिये हुनर हाट के उत्‍पाद आनलाइन बिक्री के लिए उपलब्‍ध होंगे।

राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण में निर्धारित मानक पूरे करने वाले सभी तरह के इस्पात के इस्तेमाल की अनुमति

सरकार ने कहा है कि राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण में निर्धारित मानक पूरे करने वाले सभी तरह के इस्पात के इस्तेमाल की अनुमति है। सरकार का कहना है कि चाहे यह लौह अयस्क, बिलेट्स, पेलैट्स या स्क्रैब-कबाड़ से बना हुआ इस्पात हो। इस्पात का राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण में इस्तेमाल करने से पहले तीसरे पक्ष के रूप में मान्यता प्राप्त प्रयोगशाला एन ए बी एल में परीक्षण किया जाएगा। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने इस संबंध में आदेश जारी किए हैं। सरकार का यह कदम सभी पक्षधारकों और तकनीकविदों से परामर्श करने तथा विश्लेषण करने के बाद उठाया है। इससे पहले अनुबंध के प्रावधानों के अनुसार सड़क निर्माण में केवल प्राथमिक या इंटीग्रेटिड इस्पात का ही इस्तेमाल करने की अनुमति थी।

14 फरवरी : पुलवामा आतंकी हमले की वर्षगाँठ

14 फरवरी को पुलवामा आतंकी हमले की वर्षगाँठ थी। गौरतलब है कि 14 फरवरी 2019 को, जम्मू श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर भारतीय सुरक्षा कर्मियों को ले जाने वाले सी०आर०पी०एफ० के वाहनों के काफिले पर आत्मघाती हमला हुआ था। यह हमला जम्मू और कश्मीर के पुलवामा ज़िले के अवन्तिपोरा के निकट लेथपोरा इलाके में हुआ था। इस हमले की ज़िम्मेदारी इस्लामिक आतंकवादी संगठन जैश-ए-मुहम्मद ने ली। इस हमले में पुलवामा के आदिल अहमद डार नामक आतंकवादी ने विस्फोटकों से भरी हुई गाड़ी को CRPF की बस से साथ टकराया था, जिसके कारण भयानक विस्फोट हुआ और जिसमे CRPF के 40 जवान शहीद हुए। पुलवामा में आतंकी हमले के पश्चात् भारत ने पाकिस्तान में आतंकी ठिकानों को नष्ट करने के लिए बालाकोट में एयरस्ट्राइक की थी। इस एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों ने जम्मू-कश्मीर में घुसपेठ करने का प्रयास किया। पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों को रोकने के लिए विंग कमांडर अभिनन्दन को मिग-21 लड़ाकू विमान में भेजा गया। विंग कमांडर अभिनन्दन ने बेहद पुराने मिग 21 लड़ाकू विमान से पाकिस्तान के आधुनिक लड़ाकू विमान F-16 को मार गिराया, इस दौरान अभिनन्दन भी दुर्घटना का शिकार हो गये और उनका विमान पाक-अधिकृत कश्मीर में जा गिरा। यह घटना 27 फरवरी को हुई थी। उन्हें पाकिस्तानी सेना द्वारा गिरफ्तार किया गया, परन्तु बाद में उन्हें भारत को सौंपा गया था।

राजस्थान से लगती सीमा के निकट पाकिस्तान कर रहा युद्धाभ्यास ‘जिदर उल हदीस’

भारत के साथ सीमा पर जारी तनाव के बीच पाकिस्तानी सेना की एक टुकड़ी थार के रेगिस्तान में युद्धाभ्यास कर रही है। ‘जिदर उल हदीस’ नाम का यह अभ्यास 28 जनवरी को शुरू हुआ था और 28 फरवरी तक चलेगा। जिस इलाके में यह युद्धाभ्यास किया जा रहा है वह राजस्थान की सीमा से सटा है। चार सप्ताह तक चलने वाले इस युद्धाभ्यास का उद्देश्य रेगिस्तान में रक्षा तैयारियों को परखना है।

Start the Quiz

« Previous Next Affairs »

Current Affairs Quiz

Here you can find Month Wise Quiz.

Quiz

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Exam

Here You can find previous year question paper and model test for practice.

Start Exam

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.