Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

14 March 2021

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने जॉनसन एंड जॉनसन द्वारा तैयार कोविड वैक्सीन के आपातकालीन इस्‍तेमाल करने की मंजूरी दे दी है

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने जॉनसन एंड जॉनसन द्वारा तैयार कोविड वैक्सीन के सभी देशों में आपातकालीन इस्‍तेमाल और COVAX की शुरुआत करने की मंजूरी दे दी है। यह निर्णय यूरोपीय चिकित्सा एजेंसी की अनुमति के एक दिन बाद आया है। डब्ल्‍यूएचओ महानिदेशक, डॉ. टेड्रोस एडनॉम घेब्रियस ने कहा कि कोविड-19 के खिलाफ हर नया, सुरक्षित और प्रभावी औजार महामारी को नियंत्रित करने में और नजदीक लाता है। यूरोपीय चिकित्सा एजेंसी ने कहा है कि जॉनसन एंड जॉनसन का टीका डब्ल्यूएचओ द्वारा एकल खुराक के रूप में सूचीबद्ध किया गया है, जिसे सभी देशों में टीकाकरण की सुविधा प्रदान करनी चाहिए।

प्रधानमंत्री ने ‘अमृत महोत्सव’ का उद्घाटन किया

प्रधानमंत्री ने 12 मार्च, 2021 को अहमदाबाद के साबरमती आश्रम में आज़ादी के ‘अमृत महोत्सव’ (India@75) का उद्घाटन किया। आजादी का ‘अमृत महोत्सव’ भारत की स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगाँठ मनाने हेतु भारत सरकार द्वारा आयोजित कार्यक्रमों की एक शृंखला है। यह महोत्सव जनभागीदारी की भावना के साथ जन उत्सव के रूप में मनाया जाएगा। स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगाँठ पर आयोजित किये जाने वाले कार्यक्रमों के बारे में नीतियों और योजनाओं को तैयार करने हेतु गृहमंत्री की अध्यक्षता में एक राष्ट्रीय क्रियान्वयन समिति बनाई गई है। महोत्सव के शुरुआती कार्यक्रम 12 मार्च, 2021 से प्रारंभ होंगे। ध्यातव्य है कि ये कार्यक्रम 15 अगस्त, 2022 से 75 सप्ताह पूर्व आयोजित किये जा रहे हैं। इसके अलावा प्रधानमंत्री ने साबरमती आश्रम से पदयात्रा (स्वतंत्रता मार्च) भी शुरू की। 241 मील की यह यात्रा 25 दिन में 5 अप्रैल को समाप्त होगी। ज्ञात हो कि 12 मार्च, 1930 को ही महात्मा गांधी ने साबरमती आश्रम से दांडी मार्च की शुरुआत की थी। यह मार्च साबरमती आश्रम से गुजरात के दांडी नामक तटीय कस्बे में पहुँचकर समाप्त होना था। यह पहली राष्ट्रवादी गतिविधि थी, जिसमें महिलाओं ने भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया और यहीं से सविनय अवज्ञा आंदोलन की शुरुआत हुई।

SERB द्वारा प्रोजेक्ट इनफाॅर्मेशन सिस्टम एंड मैनेजमेंट या प्रिज़्म (PRISM) नामक एक पोर्टल की स्थापना की गई

हाल ही में विज्ञान और इंजीनियरी अनुसंधान बोर्ड (SERB) द्वारा प्रोजेक्ट इनफाॅर्मेशन सिस्टम एंड मैनेजमेंट या प्रिज़्म (PRISM) नामक एक पोर्टल की स्थापना की गई है, जो इसके द्वारा समर्थित विभिन्न शोध परियोजनाओं पर वास्तविक समय में जानकारी प्रदान करता है। इसका पूरा नाम है “विज्ञान और इंजीनियरी अनुसंधान बोर्ड-’प्रोजेक्ट इनफाॅर्मेशन सिस्टम एंड मैनेजमेंट” (सर्ब-प्रिज़्म)।यह ई-प्लेटफॉर्म वर्ष 2011 के बाद से SERB द्वारा स्वीकृत सभी परियोजनाओं के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करेगा, जिसमें धन का विवरण, स्थिति, शोध सारांश और प्रकाशन तथा पेटेंट जैसे परियोजना आउटपुट संबंधी विवरण शामिल हैं। इस पोर्टल के वैज्ञानिक समुदाय से जुड़े लोगों के अलावा मज़बूत विज्ञान-समाज संपर्क बनाने में सहायता के लिये एक व्यापक उपकरण के रूप में काम करने की उम्मीद है।इसे जल, ऊर्जा और जलवायु जैसे महत्त्वपूर्ण क्षेत्रों और वैज्ञानिक सामाजिक उत्तरदायित्व (SSR) की नई अवधारणा के साथ जोड़ा जा सकता है।यह अनुसंधान और विकास वित्तपोषण के माध्यम से लोकतंत्रीकरण में सहायता करेगा।

झारखंड द्वारा निजी नौकरियों में 75% स्थानीय आरक्षण

झारखंड कैबिनेट ने स्थानीय लोगों के लिये निजी क्षेत्र की इकाइयों में प्रतिमाह 30,000 रुपए तक वेतन वाली 75 प्रतिशत नौकरियों को आरक्षित करने संबंधी रोज़गार नीति को मंज़ूरी दी है। झारखंड से पहले हरियाणा सरकार ने भी इसी तरह की नीति को मंज़ूरी दी थी। झारखंड कैबिनेट ने यह निर्णय झारखंड औद्योगिक और निवेश प्रोत्साहन नीति, 2021 के मसौदे पर चर्चा करने के बाद लिया है। झारखंड राज्य में 32 जनजातियाँ निवास करती हैं। वर्ष 2001 की जनगणना के अनुसार, झारखंड में 7,087,068 जनसंख्या जनजाति है जो कुल जनसंख्या का 26.3 प्रतिशत है। वर्तमान में झारखंड में मुंडा, उरांव, संथाल, गोंड, कोल, असुर, बंजारा, चेरो, हो, कोरा, भूमिज आदि 32 आदिवासी समूह हैं।

इसरो द्वारा ध्वनि रॉकेट RH-560 लॉन्च

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने श्रीहरिकोटा अंतरिक्ष केंद्र से उदासीन वायु और प्लाज़्मा गतिकी में व्यावहारिक भिन्नताओं का अध्ययन करने के लिये एक ध्वनि रॉकेट RH-560 लॉन्च किया है। ISRO ने रोहिणी सीरीज़ में रॉकेटों की एक शृंखला विकसित की है, जिनका नाम RH-200, RH-300 और RH-560 है, ये नाम मिमी. में रॉकेट के व्यास को दर्शाते हैं। ध्वनि रॉकेट एक या दो चरण के ठोस प्रणोदक रॉकेट हैं जिनका उपयोग ऊपरी वायुमंडलीय क्षेत्रों की जाँच और अंतरिक्ष अनुसंधान के लिये किया जाता है। ISRO ने वर्ष 1965 से स्वदेश निर्मित ध्वनि रॉकेटों को लॉन्च करना शुरू कर दिया था। वर्ष 1969 में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (ISRO) की स्थापना हुई। यह भारत सरकार की अंतरिक्ष एजेंसी है और इसका मुख्यालय बंगलूरू में है। इसे अंतरिक्ष अनुसंधान के लिये देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू और उनके करीबी सहयोगी और वैज्ञानिक विक्रम साराभाई के प्रयासों से स्थापित किया गया। इसका प्रबंधन भारत सरकार के ‘अंतरिक्ष विभाग’ द्वारा किया जाता है, जो सीधे भारत के प्रधानमंत्री को रिपोर्ट करता है। ISRO अपने विभिन्न केंद्रों के देशव्यापी नेटवर्क के माध्यम से इसका संचालन करता है।

मॉरीशस के राष्ट्रीय दिवस समारोह के लिए भारतीय नौसेना का जहाज आईएनएस शार्दुल पोर्ट लुई पहुंचा

भारतीय नौसेना (आईएन) के पहले प्रशिक्षण स्क्वाड्रन का एक जहाज, आईएनएस शार्दुल 10 से 13 मार्च, 2021 तक मॉरीशस में पोर्ट लुई की यात्रा पर है। आईएनएस शार्दुल, दक्षिणी हिंद महासागर के देशों में विदेशी तैनाती के हिस्से के रूप में यात्रा कर रहा है। ​यह पोत 12 मार्च, 2021 को मॉरीशस के राष्ट्रीय दिवस पर आयोजित समारोह में हिस्सा लेगा और ईईजेड की निगरानी में मॉरीशस नेशनल कोस्ट गार्ड के साथ समन्वय करेगा।​ मॉरीशस के राष्ट्रीय दिवस समारोह पर भारतीय नौसेना के जहाज की यह यात्रा दोनों देशों के बीच घनिष्ठ संबंधों और मजबूत दोस्ती को उजागर करती है। इस यात्रा का उद्देश्य द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करना और दोनों देशों के बीच समुद्री सुरक्षा सहयोग को बढ़ाना भी है।

जम्मू-कश्मीर: रामबन जिला प्रशासन का ई-सुविधा नाम से मोबाइल एप शुरू

केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में रामबन जिला प्रशासन ने ई-सुविधा के नाम से एक मोबाइल एप शुरू किया है जो कई सरकारी सेवाओं और विभागों को डिजिटल मंच प्रदान करेगा। ई-सुविधा मोबाइल एप गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध होगा और यह लोगों को पानी, बिजली, घर की मरम्मत और ऐसी ही कई रोजमर्रा की समस्याओं के समाधान में मदद करेगा।

प्रधानमंत्री मोदी 26 और 27 मार्च को बंग्लादेश की स्‍वतंत्रता की स्‍वर्ण जयन्‍ती में शामिल होंगे: बंगलादेश विदेशमंत्री

बंगलादेश के विदेशमंत्री डॉक्‍टर ए0के0 अब्‍दुल मोमेन ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी 26 और 27 मार्च को बंगबंधु शेख मुजीबुर्रहमान की जन्‍मशती और बंग्लादेश की स्‍वतंत्रता की स्‍वर्ण जयन्‍ती पर शामिल होंगे। श्री मोमेन ने बताया कि प्रधानमंत्री की यात्रा के अवसर पर विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया है जिसमें बंगलादेश की उपलब्धियों को दर्शाया जायेगा। बंगलादेश सरकार ने बंगबंधु शेख मुजीबुर्रहमान की जन्‍मशती और बंग्लादेश की स्‍वतंत्रता की स्‍वर्ण जयन्‍ती के उपलक्ष्‍य में 17 से 26 मार्च तक कई कार्यक्रमों का आयोजन किया है।प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी 26 मार्च को बंगलादेश की यात्रा करेंगे। इसके अलावा नेपाल , श्रीलंका और मालदीव के राष्‍ट्रपति तथा भूटान के प्रधानमंत्री भी विभिन्‍न कार्यक्रमों में हिस्‍सा लेंगे।

सूचना और प्रसारण मंत्री ने भारत की आजादी की 75वीं वर्षगांठ से संबंधित 'आजादी का अमृत महोत्‍सव' पर आधारित प्रदर्शनी का 6 स्‍थानों पर वर्चुअल उद्घाटन किया

सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने आजादी का अमृत महोत्‍सव के सिलसिले में देश की स्‍वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ से संबंधित प्रदर्शनी का देश के छह स्‍थानों में वर्चुअल उद्घाटन किया। यह छह स्‍थान हैं- जम्‍मू, इम्‍फाल, पटना, भुवनेश्‍वर, पुणे और बेंगलुरू। प्रदर्शनी का उद्घाटन करने के बाद श्री जावडेकर ने कहा कि स्‍वाधीनता सेनानियों के महान बलिदान के बाद स्‍वतंत्रता मिली थी। उन्‍होंने कहा कि इस प्रदर्शनी के जरिए लोग स्‍वाधीनता संग्राम के बारे में जानेंगे।

अमृत महोत्‍सव के सिलसिले में देशभर में 75 हुनर हाट आयोजित किये जायेंगे: मुख्‍तार अब्‍बास नकवी

अल्‍पसंख्‍यक मामलों के मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने कहा है कि 75 सप्‍ताह तक चलने वाले अमृत महोत्‍सव के सिलसिले में देशभर में 75 हुनर हाट आयोजित किये जायेंगे। अल्‍पसंख्‍यक मंत्रालय भोपाल के लाल परेड ग्राउंड में 27वें हुनर हाट का आयोजन कर रहा है। 12 से 21 मार्च तक चलने वाले इस हुनर हाट का विषय है- वोकल फॉर लोकल।

श्रीलंका ने धार्मिक अतिवाद का प्रतीक बताकर बुर्के पर बैन लगाया

स्विट्जरलैंड के बाद श्रीलंका ने भी बुर्का पहनने पर प्रतिबंध लगाने का फैसला लिया है। इसके साथ ही देश भर में 1 हजार से ज्यादा इस्लामिक स्कूलों को भी बंद करने की तैयारी है। पब्लिक सिक्योरिटी मंत्री सरत वीरशेखरा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि राष्ट्रीय सुरक्षा के लिहाज से बुर्का पहनने पर बैन लगाया गया है। 2019 में ईस्टर पर चर्च और होटलों पर हुए आतंकी हमलों के बाद बौद्ध धर्म को मानने वाले इस देश ने बुर्का पहनने पर अस्थाई रूप से रोक लगा दी थी। इन हमलों में 250 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी।

उत्तराखंड सरकार ने IBM के साथ STEM फॉर गर्ल्स शुरू करने के लिए समझौता किया

IBM ने राज्य के पांच जिलों में 130 माध्यमिक और उच्च माध्यमिक स्कूलों में 'IBM STEM फॉर गर्ल्स’ कार्यक्रम शुरू करने के लिए उत्तराखंड सरकार के शिक्षा मिशन, समग्र शिक्षा उत्तराखंड (Samagra Sikhsha Uttarakhand) के साथ सहयोग की घोषणा की है। यह सहयोग STEM करियर में लड़कियों और महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के लिए कार्यान्वयन भागीदार के रूप में अमेरिकन इंडिया फाउंडेशन के साथ आईबीएम और उत्तराखंड राज्य सरकार के बीच तीन साल के कार्यक्रम का हिस्सा है। कार्यक्रम विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग और गणित (STEM) क्षेत्रों के करीब 25,600 छात्रों के कौशल और करियर को आगे बढ़ाएगा।

पल्लव मोहपात्रा बने ARCIL के एमडी और सीईओ

एसेट रिकंस्ट्रक्शन कंपनी (इंडिया) लिमिटेड (Asset Reconstruction Company (India) Ltd-Arcil) ने पल्लव मोहपात्रा (Pallav Mohapatra) को अपना मुख्य कार्यकारी अधिकारी और प्रबंध निदेशक नियुक्त करने की घोषणा की है। इस नियुक्ति से पहले, मोहपात्रा सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank of India) के एमडी और सीईओ थे। CBoI के एमडी और सीईओ के रूप में पदोन्नत होने से पहले, वह स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के स्ट्रेस एसेट्स मैनेजमेंट ग्रुप (Stressed Assets Management Group) के उप प्रबंध निदेशक थे। विनायक बहुगुणा (Vinayak Bahuguna) ने जून 2020 तक पांच साल के लिए Arcil के एमडी और सीईओ के रूप में काम किया। Arcil, जिसे 2002 में स्थापित किया गया था, वर्तमान में 12,000 करोड़ रुपये के प्रबंधन (गैर-निष्पादित ऋण) में परिसंपत्तियां हैं।

प्रादेशिक सेना में कैप्‍टन के रूप में पदोन्नत हुए केन्द्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) प्रादेशिक सेना में कप्तान (Captain) के रूप में नियुक्त होने वाले पहले सांसद बन गए हैं। ठाकुर को 124 इन्फैंट्री बटालियन टेरिटोरियल आर्मी (सिख) में कैप्टन के पद पर पदोन्नत किया गया है। हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर से चार बार के भाजपा सांसद को जुलाई 2016 में तत्कालीन चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ (COAS) जनरल दलबीर एस सुहाग TA द्वारा लेफ्टिनेंट के रूप में प्रादेशिक सेना में नियुक्त किया गया था।

हिमाचल सीएम ने स्वर्णिम अंतर्राष्ट्रीय शिवरात्रि मेले का उद्घाटन किया

प्रसिद्ध स्वर्णिम अंतर्राष्ट्रीय शिवरात्रि मेले की शुरुआत मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर (Jai Ram Thakur) ने औपचारिक रूप से हिमाचल प्रदेश के ऐतिहासिक पड्डल मैदान में की है। जुलूस में शामिल हजारों लोगों ने अपने स्थानीय देवी-देवताओं को ले जाते हुए पड्डल मैदान तक पूरे रास्ते स्थानीय नृत्य किया। 'जलेब’ में जिले के लगभग सभी हिस्सों से पारंपरिक शोभा यात्रा में 150 से अधिक देवताओं ने भाग लिया। ​इससे पहले, मुख्यमंत्री ने पगड़ी समारोह में भाग लिया और श्री राज माधव राय मंदिर में पूजा की। राज्य के गौरवशाली पचास साल पूरे होने पर मुख्यमंत्री ने इस वर्ष स्वर्णिम अंतर्राष्ट्रीय शिवरात्रि मेले के रूप में मनाए जा रहे, अंतर्राष्ट्रीय शिवरात्रि त्योहार के शुभ अवसर पर राज्य के लोगों को सम्मानित किया।

इंडोनेशिया के सक्रिय ज्वालामुखी माउंट सिनाबुंग में विस्फोट

हाल ही में इंडोनेशिया के सुमात्रा द्वीप पर स्थित एक सक्रिय ज्वालामुखी माउंट सिनाबुंग में विस्फोट हो गया है।इससे पहले इंडोनेशिया के अन्य ज्वालामुखियों में मेरापी और सेमेरू में भी विस्फोट हो चुका है। माउंट सिनाबुंग (2,600 मीटर) उत्तरी सुमात्रा के कारो रीजेंसी (Karo Regency) में अवस्थित है। सिनाबुंग इंडोनेशिया में स्थित 120 से अधिक सक्रिय ज्वालामुखियों में से एक है, जो ‘पैसिफिक रिंग ऑफ फायर’ पर अवस्थित होने के कारण भूकंपीय उथल-पुथल प्रवण है। वर्ष 2010 में हुए विस्फोट से पहले 400 वर्षों तक यह ज्वालामुखी निष्क्रिय था।इसमें वर्ष 2014, 2016 और 2020 में पुनः विस्फोट हुआ।

भारत ने ब्रिक्स CGETI की पहली बैठक की अध्यक्षता की

भारत की अध्यक्षता में, ब्रिक्स संपर्क समूह की पहली बैठक आर्थिक और व्यापार के मुद्दों (Contact Group on Economic and Trade Issues- CGETI) पर 9 मार्च 2021 से 11 मार्च, 2021 तक आयोजित की गई। ब्रिक्स का 2021 के लिए विषय "ब्रिक्स@15: निरंतरता, समेकन, और सहमति के लिए इंट्रा ब्रिक्स सहयोग" है। भारत ने BRICS CGETI 2021 के लिए कार्यक्रम का कैलेंडर प्रस्तुत किया, इसमें डिलिवरेबल्स के प्राथमिकता वाले क्षेत्र, सेवा सांख्यिकी पर MSME राउंडटेबल सम्मेलन कार्यशाला का दायरा और ब्रिक्स व्यापार मेला शामिल है। भारत सरकार के संबंधित विभागों द्वारा BRICS CGETI ट्रैक के तहत भारत की अध्यक्षता के दौरान प्रस्तावित डिलिवरेबल्स की प्रस्तुति को एक अलग सत्र में बनाया गया था।

पीएम मोदी ने पहले क्वाड समिट 2021 में वर्चुअली भाग लिया

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी, अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन, ऑस्ट्रेलियाई प्रधान मंत्री स्कॉट मॉरिसन और जापान के प्रधान मंत्री योशिहिडे सुगा पहले QUAD शिखर सम्मेलन के लिए एक साथ आए। यह बैठक वर्चुअली आयोजित की गई, जिसके दौरान चार प्रतिभागी एक स्वतंत्र, खुला और समावेशी इंडो-पैसिफिक क्षेत्र, COVID -19, उभरती और महत्वपूर्ण प्रौद्योगिकियों, समुद्री सुरक्षा और जलवायु परिवर्तन जैसे सहयोग के विभिन्न क्षेत्रों पर विचारों का आदान-प्रदान करेंगे।

कैबिनेट ने बीमा अधिनियम 1938 में संशोधन को दी मंजूरी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बीमा अधिनियम (Insurance Act) में संशोधन के लिए अपनी मंजूरी दे दी है, इस क्षेत्र में 74 प्रतिशत प्रत्यक्ष विदेशी निवेश के लिए मार्ग प्रशस्त किया है। वर्तमान में, भारतीय के स्वामित्व और प्रबंधन नियंत्रण के साथ जीवन और सामान्य बीमा में सामान्य FDI की सीमा 49 प्रतिशत है। सूत्रों के मुताबिक, कैबिनेट ने अपनी बैठक में बीमा अधिनियम (Insurance Act), 1938 में संशोधन के लिए मंजूरी दे दी है। यह 2015 में था जब सरकार ने बीमा क्षेत्र में FDI कैप को 26 प्रतिशत से बढ़ाकर 49 प्रतिशत कर दिया था।

“कालानमक चावल महोत्सव” का आयोजन

उत्तर प्रदेश सरकार सिद्धार्थ नगर ज़िले में तीन दिवसीय “कालानमक चावल महोत्सव” का आयोजन करेगी। यह महोत्सव 13 मार्च, 2021 से शुरू हुआ। यह उत्सव "लखनऊ में जगमग महोत्सव" की शानदार सफलता के बाद आयोजित किया जा रहा है। इस चावल महोत्सव कार्यक्रम का आयोजन ‘एक जनपद, एक उत्पाद’ (ODOP) के तहत चयनित उत्पादों को ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ और ‘लोकल फॉर वोकल’ के रूप में बाज़ार में बढ़ावा देने और ब्रांड बनाने के लिये किया जा रहा है। ‘एक जनपद, एक उत्पाद’ योजना का उद्देश्य स्थानीय शिल्प का संरक्षण एवं विकास, कला और क्षमता का विस्तार, आय में वृद्धि एवं स्थानीय रोज़गार का सृजन, उत्पाद की गुणवत्ता में सुधार एवं दक्षता का विकास, उत्पादों की गुणवत्ता में बदलाव, उत्पादों को पर्यटन से जोड़ा जाना, क्षेत्रीय असंतुलन के कारण उत्पन्न होने वाली आर्थिक विसंगतियों को दूर करना और राज्य स्तर पर ODOP के सफल संचालन के बाद इसे राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाना है। कालानमक चावल पूर्वी उत्तर प्रदेश क्षेत्र में उगाया जाता है। कालानमक चावल को भौगोलिक संकेतक (GI) टैग प्राप्त हुआ है, इसे सिद्धार्थनगर, देवरिया, गोरखपुर, महाराजगंज, कुशीनगर, बस्ती, संत कबीर नगर, गोंडा, बहराइच, बलरामपुर और श्रावस्ती में ODOP के रूप में उगाया जाता है। कालानमक चावल महोत्सव में सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किये जाएंगे, जिसमें स्थानीय कलाकारों एवं छात्रों को अपनी प्रतिभा प्रदर्शन का मौका मिलेगा। इस महोत्सव में कालानमक चावल के विभिन्न व्यंजन प्रदर्शित किये जाएंगे।

आजादी के 75 वर्षों को मनाने के लिए 2021 दांडी मार्च

भारत की स्वतंत्रता की 75 वीं वर्षगांठ मनाने के लिए प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 12 मार्च को अहमदाबाद में दांडी मार्च (Dandi March) की 91 वीं वर्षगांठ को हरी झंडी दिखाई। नमक मार्च, जो मार्च से अप्रैल 1930 तक हुआ था, देश में ब्रिटिश शासन का विरोध करने के लिए महात्मा गांधी के नेतृत्व में सविनय अवज्ञा का कार्य था। इस कार्यक्रम को महात्मा गांधी के साबरमती आश्रम से शुरू किया गया है और यह कार्यक्रम "आज़ादी का अमृत महोत्सव" को मनाने के लिए राज्य सरकार के कार्यक्रम का भी हिस्सा है। नमक के उत्पादन पर ब्रिटिश एकाधिकार के खिलाफ महात्मा गांधी के अहिंसक विरोध के हिस्से के रूप में दांडी मार्च या नमक मार्च किया गया था। गांधी के नेतृत्व में, 78 लोगों ने 12 मार्च को 24-दिवसीय मार्च शुरू किया और 5 अप्रैल, 1930 को दांडी पहुंचे। दांडी में नमक बनाने के बाद, गांधी दक्षिण की ओर 40 किमी धरसाना साल्ट वर्क्स के पास गए, लेकिन 5 मई को उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था।

DoT ने शुरू किया 5G टेक्नोलॉजी पर ऑनलाइन सर्टिफिकेट कोर्स

दूरसंचार विभाग (Department of Telecommunications - DoT) ने DoT के प्रशिक्षण संस्थान नेशनल टेलिकम्युनिकेशन इंस्टीट्यूट फॉर पॉलिसी रिसर्च, इनोवेशन एंड ट्रेनिंग (National Telecommunications Institute for Policy Research, Innovation and Training- NTIPRIT) द्वारा संचालित 5G तकनीक पर एक नया ऑनलाइन सर्टिफिकेट कोर्स शुरू किया है। पाठ्यक्रम, जो 9 मार्च 2021 से आयोजित किया जाएगा, 36 घंटे लंबा है और प्रत्येक मंगलवार, बुधवार और गुरुवार को दोपहर 3:30 बजे से शाम 4:30 बजे तक 12 सप्ताह की अवधि में आयोजित किया जाएगा। प्रतिभागियों को सत्र मिस करने पर सत्र को रिकॉर्ड करने की अनुमति भी दी जाएगी।

पैरेंटहुड का समर्थन करने के लिए टाटा मोटर्स ने लॉन्च किया 'व्हील्स ऑफ लव'

टाटा मोटर्स ने 'व्हील्स ऑफ लव’, एक समग्र कार्यक्रम लॉन्च किया है जो कार्यबल में नए माता-पिता का समर्थन करता है। यह सभी स्तरों में संगठन के भीतर देखभाल, समावेश और संवेदीकरण की प्रगतिशील संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए एक कदम है। एक विशेष रूप से क्यूरेटेड पुस्तक, जिसका उपयुक्त शीर्षक, व्हील्स ऑफ़ लव, ने नए और अपेक्षित माता-पिता को अपने कैरियर के लक्ष्यों को पूरा करने के साथ-साथ एक बढ़ते परिवार की जरूरतों को सफलतापूर्वक प्रबंधित करने में सक्षम बनाने के लिए विभिन्न विश्वासों को सामने रखा। यह मार्गदर्शिका पुस्तक प्रबंधकों के लिए उनकी टीम के सदस्यों का समर्थन करने के लिए मूल्यवान अंतर्दृष्टि प्रदान करती है क्योंकि वे पितृत्व के विभिन्न चरणों के माध्यम से प्रगति करते हैं।

Start Quiz!

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.