Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

19 April 2021

झारखंड, मिज़ोरम समेत देश के आठ पूर्वी राज्य जलवायु परिवर्तन की दृष्टि से संवेदनशील

आठ पूर्वी राज्यों को जलवायु परिवर्तन की दृष्टि से संवेदनशील पाया गया है। इस संबंध में किए गए एक राष्ट्रीय आकलन के आधार पर तैयार रिपोर्ट में कहा गया है कि झारखंड, मिज़ोरम, ओडिसा, छत्तीसगढ़, असम, बिहार, अरुणाचल प्रदेश और पश्चिम बंगाल जलवायु परिवर्तन के प्रति अत्यधिक संवदेनशील राज्य हैं। जलवायु परिवर्तन के अनुकूल बनाने के लिए इन राज्यों में विशेष प्रयासों को प्राथमिकता देने की आवश्यकता है। विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग सचिव प्रोफेसर आशुतोष शर्मा ने यह रिपोर्ट जारी की। यह रिपोर्ट सभी संबंधित पक्षों को सहजता से उपलब्ध कराई जानी चाहिए ताकि जलवायु परिवर्तन अनुकूलन परियोजनाओं का विकास कर देश के जलवायु-संवेदी समुदायों तक लाभ पहुंचाया जा सके।विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग तथा स्विस एजेंसी फॉर डेवलपमेंट एंड टेक्नोलॉजी के इस संयुक्त राष्ट्रव्यापी आकलन में 24 राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों के कुल 94 प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया था।

प्रधानमंत्री को पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की 5 सलाहें

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में देश की बदहाल हालत देखते हुए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखकर कहा है कि वैक्सीनेशन ड्राइव में तेजी लाई जानी चाहिए और विदेशी कंपनियों से वैक्सीन मंगवाने के लिए एडवांस ऑर्डर देना चाहिए। 5 अहम सलाहें देते हुए मनमोहन ने कहा कि जिन वैक्सीन को यूरोप और अमेरिका की बड़ी हेल्थ एजेंसियों की मंजूरी मिल चुकी है, उन्हें बिना घरेलू ट्रायल के वैक्सीनेशन ड्राइव में शामिल करना चाहिए। मोदी को मनमोहन की 5 सलाहें

  1. सरकार को लोगों को बताना चाहिए कि किन वैक्सीन प्रोड्यूसर्स को कितने डोज के ऑर्डर दिए गए हैं और अगले 6 महीने तक इनकी सप्लाई के लिए कितने ऑर्डर स्वीकार किए गए हैं।
  2. सरकार को यह बताना चाहिए कि ये सब कैसे किया जाएगा और सभी राज्यों में वैक्सीन किस हिसाब से बांटी जाएगी। केंद्र सरकार राज्यों को 10 प्रतिशत वैक्सीन की डिलीवरी इमरजेंसी के तौर पर कर सकती है।
  3. राज्यों को फ्रंटलाइन वर्कर्स तय करने में थोड़ी सहूलियत देनी चाहिए ताकि 45 से कम उम्र होने पर भी उन्हें वैक्सीन लगाई जा सके। उदाहरण के तौर पर हो सकता है टीचर्स, बस-टैक्सी-थ्री व्हीलर चलाने वालों, नगर पालिका और पंचायत के स्टार और वकीलों को फ्रंट लाइन वर्कर्स घोषित करना चाहते हों।
  4. इस इरजेंसी के हालत में सरकार को वैक्सीन प्रोड्यूसर्स को प्रोडक्शन बढ़ाने के लिए सहूलियतें और रियायतें देनी चाहिए।
  5. स्वदेशी वैक्सीन की सप्लाई सीमित है। ऐसे में यूरोपियन मेडिकल एजेंसी और USFDA जैसी विश्वसनीय एजेंसियों ने जिन वैक्सीन को अप्रूवल दिया है, उन्हें घरेलू ट्रायल जैसी शर्त के बिना मंगवाया जाए।

शरणार्थियों पर लगाईं गयी सीमा को समाप्त करेगा अमेरिका

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाईडेन ने मई 2021 तक शरणार्थियों पर लगाई गयी सीमा को हटाने की योजना बनाई है। पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने शरणार्थियों पर सीमा निश्चित की थी। ट्रम्प ने पहले शरणार्थियों पर सीमा को 15,000 पर सेट किया था। यह अमेरिका के इतिहास में सबसे कम था। राष्ट्रपति जो बाईडेन ने हाल ही में शरणार्थियों की सीमा को 15,000 तक रखने के आदेश पर हस्ताक्षर किए। यह वही संख्या है जो ट्रम्प द्वारा प्रस्तावित है। यह अमेरिका में विवाद पैदा कर रहा है क्योंकि ट्रम्प प्रशासन की तुलना में बाईडेन ने शरणार्थियों की सीमा को चार गुना बढ़ाने का प्रस्ताव दिया था। बाईडेन को आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है कि वह अपने वादों को स्थगित कर रहे हैं। बाईडेन ने पहले अमेरिकी कांग्रेस को प्रस्ताव दिया था कि वह शरणार्थियों की सीमा को बढ़ाकर 62,500 कर देंगे। उनके प्रस्ताव के तहत, अफ्रीका से शरणार्थियों के लिए 7,000, यूरोप और मध्य एशिया से 1,500, पूर्वी एशिया से 1,000, लैटिन अमेरिका से 3,000, दक्षिण एशिया से 1,500, लैटिन अमेरिका और कैरेबियन से 3,000 स्थान आरक्षित किए गए।

चेक गणराज्य रूस गुप्त जासूसों के रूप में पहचाने गए 18 राजनयिकों को निष्कासित करेगा

चेक गणराज्य ने कहा है कि वह रूस के उन 18 राजनयिकों को निष्कासित करेगा, जिनकी स्थानीय खुफिया विभाग ने रूस के गुप्त जासूसों के रूप में पहचान की है और जिनके 2014 के विस्फोट में शामिल होने का संदेह है। चेक गणराज्य के विदेशमंत्री जैन हैमसेक ने कहा कि रूसी दूतावास के इन 18 कर्मचारियों को 48 घंटे के भीतर चेक गणराज्य छोड़ना होगा।

एंटी वायरल औषधि रेमडेसिविर का उत्‍पादन अगले 15 दिन में दुगुना कर दिया जाएगा

एंटी वायरल औषधि रेमडेसिविर का उत्‍पादन अगले 15 दिन में दुगुना कर लगभग तीन लाख शीशी कर दिया जाएगा। रसायन और उर्वरक राज्‍य मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा है कि केंद्र सरकार इस दवा की सस्‍ती दर पर उपलब्‍धता सुनिश्‍चित करने के लिए प्रतिबद्ध है। रेमडेसिविर को गंभीर कोरोना रोगियों के बेहतर इलाज में प्रभावी पाया गया है। श्री मंडाविया ने बताया कि इस समय देश में 20 विनिर्माता संयंत्रों में इसका उत्‍पादन किया जा रहा है। उन्‍होंने बताया कि 20 और विनिर्माण स्‍थलों के लिए सरकार की मंजूरी मिल चुकी है और उनमें जल्‍द उत्‍पादन शुरू हो जाएगा। इससे इस दवा की उत्‍पादन क्षमता प्रतिदिन डेढ लाख शीशी बढ जाएगी। श्री मंडाविया ने यह भी कहा कि केंद्र के सक्रिय हस्‍तक्षेप से बडी औषध कंपनियों ने अपने रेमडेसिविर ब्रांड की कीमतें काफी कम कर दी है।

अपनी पहली भुगतान कार्यक्षमता के लिए RBL बैंक ने की मास्टरकार्ड से साझेदारी

RBL बैंक और मास्टरकार्ड ने मोबाइल आधारित उपभोक्ता-अनुकूल भुगतान समाधान 'पे बाय बैंक ऐप (Pay by Bank App)’ लॉन्च करने के लिए अपनी साझेदारी की घोषणा की है, जो भारत में अपनी तरह की पहली भुगतान कार्यक्षमता है. RBL बैंक खाताधारक, अब अपने मोबाइल बैंकिंग एप्लिकेशन के माध्यम से इन-स्टोर और ऑनलाइन दोनों से दुनिया भर में संपर्क रहित लेनदेन का आनंद ले सकते हैं. यह कार्यक्षमता दुनिया भर में व्यापारियों को स्वीकार करने वाले सभी मास्टरकार्ड पर उपलब्ध होगी, जो संपर्क रहित और ऑनलाइन भुगतान स्वीकार करते हैं. बढ़ी हुई सुरक्षा प्रदान करने के लिए, 'पे बाय बैंक ऐप’ यह सुनिश्चित करता है कि बैंक ग्राहक की भुगतान साख कभी भी व्यापारी के सामने न आये, जिससे लेन-देन पूरी तरह से सुरक्षित हो.ग्राहकों को मास्टरकार्ड उपभोक्ता संरक्षण लाभ मिलता रहेगा, जो वर्तमान में उन्हें अपने डेबिट कार्ड पर मिलता है.

2021 में रिलीज़ होगी सुरेश रैना की आत्मकथा 'Believe'

'बिलीव- व्हाट लाइफ एंड क्रिकेट टॉट मी (Believe - What Life and Cricket Taught Me)' नामक सुरेश रैना (Suresh Raina) की बहुप्रतीक्षित आत्मकथा, मई 2021 में रिलीज़ के लिए तैयार है. यह पुस्तक रैना और खेल लेखक भरत सुंदरसन (Bharat Sundaresan) द्वारा सह-लेखित है, यह जीवनी प्रतिष्ठित प्रकाशन हाउस पेंगुइन इंडिया द्वारा प्रकाशित की जाएगी. इस पुस्तक में, सुरेश रैना भारतीय क्रिकेट टीम में उनकी तेजी से बढ़त और रिकॉर्ड तोड़ बल्लेबाज बनने के रास्ते में आईं चुनौतियों के बारे में बताएँगे. ​पुस्तक से यूपी में एक उभरते हुए क्रिकेटर के रूप में रैना के शुरुआती दिनों की कहानी के बारे में भी जानने को मिलेगा.

रॉबर्टो बेनिगनी को मिला लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड

निर्देशक रॉबर्टो बेनिगनी (Roberto Benigni) 78 वें वेनिस अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में लाइफटाइम अचीवमेंट के लिए गोल्डन लायन प्राप्त करेंगे, जो 1 से 11 सितंबर तक चलता है. आयोजकों ने दो बार के ऑस्कर विजेता अभिनेता-निर्देशक के बारे में खबर की पुष्टि की. फिल्म निर्माता ने होलोकॉस्ट कॉमेडी-ड्रामा फिल्म लाइफ इज़ ब्यूटीफुल (1997) में अभिनय और निर्देशन किया था, जिसके लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेता (गैर-अंग्रेज़ी भाषी पुरुष प्रदर्शन के लिए पहला) और सर्वश्रेष्ठ अंतर्राष्ट्रीय फ़ीचर फ़िल्म के लिए अकादमी पुरस्कार मिले. उन्हें आखिरी बार माटेओ गैरोन के लाइव-एक्शन पिनोचियो में देखा गया था, जिसके लिए उन्होंने डेविड डि डोनाटेलो पुरस्कार जीता था.

माइक्रोसॉफ्ट ने $19.7 बिलियन के लिए एआई स्पीच टेक कंपनी नॉन्स खरीदी

माइक्रोसॉफ्ट ने लिंक्डइन के बाद अपना दूसरा सबसे बड़ा अधिग्रहण किया है. टेक दिग्गज ने एआई स्पीच टेक फर्म नॉन्स (Nuance) को 19.7 बिलियन डॉलर में खरीदा है. ​इस कदम से माइक्रोसॉफ्ट को आवाज पहचानने में मदद मिलेगी और यह स्वास्थ्य देखभाल बाजार में तेजी लाएगा. नॉन्स अपने ड्रैगन सॉफ्टवेयर के लिए जाना जाता है, जो गहरी सीख का उपयोग करके भाषण को स्थानांतरित करने में मदद करता है. 2016 में, माइक्रोसॉफ्ट ने लिंक्डइन को $ 26 बिलियन में खरीदा था.

एशियाई भारोत्तोलन प्रतियोगिता में मीराबाई चानू ने महिलाओं की 49 किलोग्राम क्लीन एंड जर्क श्रेणी में विश्व रिकार्ड बनाया

एशियाई भारोत्तोलन प्रतियोगिता में, मीराबाई चानू ने महिलाओं की 49 किलोग्राम क्लीन एंड जर्क श्रेणी में 119 किलोग्राम वज़न उठाकर विश्व रिकार्ड बनाया। ताशकंद(उज़्बेकिस्तान) में हो रही इस प्रतियोगिता में, 26 वर्षीया चानू ने स्नैच में 86 किलोग्राम वज़न उठाया। क्लीन एंड जर्क में उन्होंने 119 किलोग्राम वज़न उठाकर चीन की चियांग हुइहुआ का 118 किलोग्राम का रिकार्ड तोड़कर विश्व रिकार्ड कायम किया। दोनों श्रेणियों में कुल मिलाकर उन्होंने 205 किलोग्राम वज़न उठाया और कांस्य पदक जीता। इसके साथ ही, चानू ने तोक्यो ओलिंपिक में अपनी जगह पक्की कर ली है। प्रतियोगिता का स्वर्ण चीन की होउ चीहुई ने जीता जिन्होंने कुल 213 किलोग्राम भार उठाया। चीन की ही चियांग हुइहुआ ने 207 किलोग्राम भार के साथ रजत पदक जीता।

विश्व विरासत दिवस : 18 अप्रैल

प्राचीन इमारतें, प्राचीन सभ्यताएं प्राचीन संस्कृति और प्राकृतिक विरासतों को आने वाली पीढ़ियों से उसको परिचित कराने के लिए उसे संजो कर रखना जरूरी हो जाता है। इसी को अपना मुख्य उद्देश्य बनाकर 18 अप्रैल को विश्व धरोहर दिवस (World Heritage Day) मनाया जाता है। इस वर्ष के विश्व धरोहर दिवस 2021 की थीम Complex Pasts : Diverse Futures है। विश्व धरोहर दिवस, विश्व विरासत दिवस और World Heritage Day इन्हें किसी भी नाम से पुकारा सकते हैं। इंटरनेशनल काउंसिल ऑन माउंटेन्स एंड साइट (ICOMOS) ने वर्ष 1982 में 18 अप्रैल को विश्व धरोहर दिवस के रूप में मनाए जाने की घोषणा की थी, जिसे 1983 में यूनेस्को की महासभा द्वारा अपनाया गया था, जिसका उद्देश्य सांस्कृतिक-ऐतिहासिक एवं प्राकृतिक विरासतों की विविधता का संक्षरण करना तथा स्मारकों के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाना है। भारतीय संविधान ने भी अपने अंदर धरोहरों को संभालने की व्यवस्था की है। भारतीय संविधान का अनुच्छेद 51 के अनुसार ‘यह प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य है कि यह अपनी समृद्ध मिश्रित सांस्कृतिक विरासत का सम्मान और संरक्षण करें।

महान हिन्‍दू दार्शनिक और चिंतक श्री रामानुजाचार्य की 1004वीं जयंती

महान हिन्‍दू दार्शनिक और चिंतक श्री रामानुजाचार्य की 18 अप्रैल को 1004वीं जयंती थी। श्री रामानुजाचार्य ने लोगों को समानता और भक्ति का मार्ग दिखाया। उनका जन्‍म सन् 1017 में तमिलनाडु के श्रीपेरूमबुदूर में हुआ था। उन्‍होंने सार्वभौमिक भाईचारे का संदेश दिया। संत रामानुजाचार्य ने अछूतों को गले लगाया और साफ तौर पर कहा कि विश्‍व के रचयिता ने कभी भी किसी के साथ कोई भेदभाव नहीं किया। श्री रामानुजाचार्य ने ऐसा सिद्धांत प्रतिपादित किया जिसमें जन्‍म या जाति के बजाय व्‍यक्ति के आध्‍यात्मिक ज्ञान के आधार पर सम्‍मान दिया जाता है। उन्‍होंने सभी जाति के लोगों के लिए मंदिरों के द्वार खोले और उन्‍हें निर्भय होकर प्रेम के साथ भगवान की पूजा करना सिखाया। उन्‍होंने यह घोषणा की कि विश्‍व परमात्‍मा का पवित्र मंच है, जहां सब कुछ सत्‍य है। उन्‍होंने वेदों के गोपनीय और सर्वोत्‍कृष्‍ट ज्ञान को मंदिरों से निकालकर आम लोगों तक पहुंचाया। श्री रामानुजाचार्य महान दार्शनिक, संत, चिंतक, समाज सुधारक और वेदांत की विशिष्‍टाद्वैत धारा के मुख्‍य उद्घोषक थे। माना जाता है कि उनका निधन 120 वर्ष की उम्र में 1137 में तमिलनाडु के श्रीरंगम में हुआ था। उपराष्‍ट्रपति एम.वेंकैया नायडू ने महान दार्शनिक, संत और समाज सुधारक श्री रामानुजाचार्यजी की जयंती पर आज उन्‍हें श्रद्धांजलि अर्पित की है।

एडोब के संस्थापक और पीडीएफ डेवलपर चार्ल्स गेश्के का निधन

बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनी एडोब इंक के संस्थापक चाल्र्स चक गेश्के का 81 वर्ष की आयु में निधन हो गया। गेश्के ने पोर्टेबल डाक्यूमेंट फार्मेट (पीडीएफ) टेक्नालॉजी के बनाने में मदद की थी। वह सैन फ्रांसिस्को के उपनगर लॉस अल्टोस में रहते थे। एडोब इंक के सीइओ शांतनु नारायन है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने प्रख्यात साहित्यकार डॉक्टर नरेन्द्र कोहली के निधन पर दुख व्यक्त किया

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने प्रख्यात साहित्यकार डॉक्टर नरेन्द्र कोहली के निधन पर दुख व्यक्त किया है। 6 जनवरी 1940 को अविभाजित भारत के सियालकोट, पंजाब (अब पाकिस्तान ) में जन्मे डॉ. कोहली ने हिंदी साहित्य की सभी विधाओं में लेखन किया था। माना जाता है कि साहित्य में ‘महाकाव्यात्मक उपन्यास’ की विधा को प्रारंभ नरेंद्र कोहली ने किया था। पौराणिक एवं ऐतिहासिक चरित्रों की गुत्थियों को सुलझाते हुए उनके माध्यम से आधुनिक समाज की समस्याओं एवं उनके समाधान को समाज के समक्ष प्रस्तुत करना उनकी विशेषताओं में से एक था।प्रसिद्ध आलोचक डॉ. नगेन्द्र के निर्देशन में ‘हिन्दी उपन्यास : सृजन एवं सिद्धांत’ विषय पर उनका शोध था। डॉ. नरेंद्र कोहली को 2017 में पद्मश्री सम्मान से सम्मानित किया गया था। इसके अलावा व्यास सम्मान, शलाका सम्मान, पंडित दीनदयाल उपाध्याय सम्मान, अट्टहास सम्मान भी उन्हें मिले थे।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.