Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

9 May 2021

डीआरडीओ ने कोरोना संक्रमितों के लिए विकसित की दवा- 2-डीऑक्सी-डी-ग्लुकोज

कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ एक जबरदस्त उपलब्धि हासिल करते हुए रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन- डीआरडीओ ने एक औषधि विकसित की है जिसे भारतीय औषधि महानियंत्रक से आपात उपयोग की अनुमति मिल गई है। कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के बीच यह दवा उन लोगों के लिए बहुत लाभकारी होगी जो कोविड-19 वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। यह दवा 2-डीऑक्सी-डी-ग्लुकोज(2-DG) चूर्ण के रूप में एक छोटी थैली में होगी। इसे पानी में घोल कर लेना होगा। यह संक्रमित कोशिकाओं के साथ मिल जाती है और वायरस को बढ़ने से रोकती है तथा प्रतिरोधी क्षमता बनाती है। इस दवा का विकास डीआरडीओ प्रयोगशाला, इंस्टीट्यूट ऑफ न्युक्लियर मेडिसन एंड अलाइड साइंसेस ने डॉक्टर रेड्डीज लेब्रोरिटीज के सहयोग से किया है। इसके क्लीनिकल परीक्षण के परिणामों में दिखाया गया है कि यह अस्पताल में भर्ती मरीजों को तेजी से स्वस्थ करती है और उनकी ऑक्सीजन आपूर्ति पर निर्भरता घटाती है। औषधि महानियंत्रक ने मध्यम से गंभीर कोविड रोगियों के इलाज के लिए इसकी अनुमति दी है। इस दवा का मुख्य आधार ग्लूकोज है इसलिए इसका देश में ही आसानी से उत्पादन किया जा सकता है।

सीबीएसई ने विद्यार्थियों और अभिभावकों का मानसिक तनाव दूर करने के लिए एक नया मोबाइल ऐप शुरू किया

केंद्रीय माध्‍यमिक शिक्षा बोर्ड-सीबीएसई ने विद्यार्थियों और अभिभावकों का मानसिक तनाव दूर करने के लिए एक नया मोबाइल ऐप शुरू किया है। इस ऐप का नाम सीबीएसई दोस्‍त फॉर लाइफ है और इसे कक्षा नौ से 12 तक के विद्यार्थियों के लिए तैयार किया गया है। इस ऐप का 10 मई से काउंसलिंग सत्र के लिए उपयोग किया जा सकता है। देशभर में टोल फ्री नंबरों से काउंसलिंग देने की मौजूदा प्रक्रिया के स्‍थान पर बोर्ड ने घर में सुरक्षित वातावरण में विद्यार्थियों और अभिभावकों की कठिनाइयां दूर करने और उन्‍हें सुविधाजनक बनाने के लिए यह ऐप तैयार किया है। इसके माध्‍यम से प्रशिक्षित परामर्शदाता सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को नि:शुल्‍क परामर्श सत्र आयोजित करेंगे। विद्यार्थियों और अभिभावकों के लिए सुबह साढ़े नौ बजे से दोपहर डेढ़ बजे तक और दोपहर डेढ बजे से शाम पांच बजे तक दो स्‍लॉट बनाए गए हैं। उन्‍हें इनमें से एक स्‍लॉट चुनना होगा और अपनी सुविधा के अनुसार चैट बॉक्‍स से जुडना होगा।

गीता मित्तल को अर्लाइन पैच ग्लोबल विजन पुरस्कार सम्मान

जम्मू और कश्मीर उच्च न्यायालय की पूर्व मुख्य न्यायाधीश, न्यायमूर्ति गीता मित्तल (Gita Mittal) को 2021 के लिए अर्लाइन पैच ग्लोबल विजन (Arline Pacht Global Vision) पुरस्कार के दो प्राप्तकर्ता में से एक के रूप में घोषित किया गया है वह मैक्सिको से मार्गरीटा लूना रामोस (Margarita Luna Ramos) के साथ सम्मान साझा करेंगी. इंटरनेशनल एसोसिएशन ऑफ वुमेन जज (IAWJ) ने 2016 में इस पुरस्कार की स्थापना की। न्यायमूर्ति मित्तल यह पुरस्कार प्राप्त करने वाली पहली भारतीय न्यायाधीश होंगी. पुरस्कार IAWJ में उनके योगदान को पहचानने के लिए एक सिटींग / सेवानिवृत्त महिला न्यायाधीश को प्रस्तुत किया जाता है। वर्तमान में, जस्टिस मित्तल इंडियन ब्रॉडकास्टिंग फाउंडेशन (IBF) द्वारा स्थापित सामान्य मनोरंजन चैनलों के लिए एक स्वतंत्र, स्व-नियामक संस्था ब्रॉडकास्टिंग कंटेंट कंप्लेंट्स काउंसिल (BCCC) की अध्यक्ष हैं। यह पद संभालने वाली वह पहली महिला हैं।

महिला सैन्य पुलिस का पहला बैच भारतीय सेना में शामिल

बेंगलुरु स्थित कोर्स ऑफ मिलिट्री पुलिस सेंटर एंड स्कूल (सीएमपी सी एंड एस) ने दिनांक 8 मई, 2021 को द्रोणाचार्य परेड ग्राउंड में 83 महिला सैनिकों के पहले जत्थे की अनुप्रमाणन परेड का आयोजन किया और भारतीय सेना को महिला मिलिट्री पुलिस का पहला बैच मिल गया। सभी कोविड संबंधी प्रोटोकॉल का पालन करते हुए इस परेड का आयोजन नियंत्रित ढंग से किया गया था। इस बैच को पूरे 61 हफ्तों की एक कड़ी ट्रेनिंग दी गई है। इसमें बेसिक मिलेट्री ट्रेनिंग, प्रोवेस्ट ट्रेनिंग और पुलिसिंग ड्यूटी शामिल हैं। ट्रेनिंग के दौरान सिग्नल कम्युनिकेशन का कोर्स भी विस्तार से पढ़ाया गया है। इसी वजह से कमांडेंट भी भरोसा जता रहे हैं कि महिला मिलिट्री पुलिस का ये पहला बैच काफी सफल सफर तय करने जा रहा है और उनका भारतीय सेना में जाना एक निर्णायक पल है।

तेलंगाना सरकार को बीवीएलओएस ड्रोन की प्रायोगिक उड़ानों का संचालन करने की छूट मिली

सरकार देश में ड्रोन के उपयोग का दायरा बढ़ाने और राष्ट्र के कोविड -19 महामारी से लड़ने के लिए निरंतर प्रयास के तहत वैक्सीन वितरण के वास्ते प्रयोगात्मक तौर पर ड्रोन उड़ानों की सशर्त छूट प्रदान कर रही है। नागरिक उड्डयन मंत्रालय (एमओसीए) और नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने तेलंगाना राज्य सरकार को कोविड टीके की डिलीवरी के लिए प्रायोगिक तौर पर बियॉन्ड विजुअल लाइन ऑफ साइट (बीवीएलओएस) ड्रोन उड़ानों के संचालन की सशर्त छूट दे दी है। यह राहत मानव रहित विमान प्रणाली (यूएएस) नियम, 2021 के तहत प्रदान की गई है। पिछले महीने, तेलंगाना सरकार को कोविड-19 वैक्सीन वितरण के लिए विज़ुअल लाइन ऑफ साइट (वीएलओएस) रेंज के भीतर ड्रोन का उपयोग करने की सशर्त छूट दी गई थी। एप्लीकेशन आधारित मॉडल तैयार करने और ड्रोन परियोजना में तेजी लाने के लिए पायलट की निगरानी रेंज के बाहर उड़ान तकनीकी (बीवीएलओएस) के इस्तेमाल की मंजूरी दी गई है। राज्य इसका मई 2021 के अंत तक परीक्षण शुरू कर सकते हैं।

सामाजिक सुरक्षा संहिता (2020) की धारा 142 को अधिसूचित किया

केंद्रीय श्रम एवं रोज़गार मंत्रालय ने आधार की प्रासंगिकता को कवर करने वाली सामाजिक सुरक्षा संहिता (2020) की धारा-142 को अधिसूचित किया है। इस धारा की अधिसूचना जारी होने से श्रम एवं रोज़गार मंत्रालय विभिन्न सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के अंतर्गत अपने डेटाबेस के लिये लाभार्थियों के आधार का विवरण प्राप्त करने में सक्षम होगा। राष्ट्रीय सूचना केंद्र द्वारा ‘नेशनल डेटाबेस फॉर अन-ऑर्गनाइज़्ड वर्कर्स’ (NDUW) को विकसित किया जा रहा है, जो कि अभी एडवांस स्टेज में है। इस पोर्टल का उद्देश्य प्रवासी मज़दूरों सहित असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का डेटा एकत्रित करना है, ताकि सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ इन श्रमिकों तक पहुँचाया जा सके। अंतरराज्यीय प्रवासी मज़दूर केवल आधार कार्ड के विवरण के माध्यम से स्वयं को इस पोर्टल पर पंजीकृत कर सकते हैं। हालिया अधिसूचना के माध्यम से सामाजिक सुरक्षा संहिता के लाभार्थियों से आधार संख्या मांगी जाएगी, हालाँकि आधार संबंधी यह अनिवार्यता सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के तहत सेवाओं के वितरण में बाधा उत्पन्न नहीं करेगी और आधार प्रस्तुत न कर पाने की स्थिति में पात्र लाभार्थियों के लिये सेवाओं से इनकार नहीं किया जाएगा।

हिमाचल प्रदेश ने पर्वत धारा योजना के तहत वर्षा जल संग्रहण के लिए 'फॉरेस्ट पॉन्ड्स' का निर्माण शुरू किया

हिमाचल प्रदेश सरकार ने पर्वत धारा योजना के तहत, 20 करोड़ रुपये के परिव्यय के साथ जल स्रोतों का कायाकल्प करने और वन विभाग के माध्यम से एक्वीफरों को रिचार्ज करने की पहल की शुरुआत की है। अभी बिलासपुर, हमीरपुर, जोगिंद्रनगर, नाचन, पार्वती, नूरपुर, राजगढ़, नालागढ़, ठियोग और डलहौजी में 10 वन प्रभागों में काम शुरू किया गया था। योजना के तहत, मौजूदा तालाबों की सफाई और रखरखाव किया जाएगा। साथ ही, मिट्टी के कटाव को नियंत्रित करने के लिए नए तालाबों, समोच्च खाइयों, बांधों, चेकडैम और रिटेनिंग वॉल का निर्माण किया गया है। योजना का उद्देश्य अधिकतम अवधि के लिए पानी को बरकरार रखते हुए जल स्तर को बढ़ाना है। इसके आलावा फल देने वाले पौधों को लगाकर हरित आवरण में सुधार के प्रयास भी किए जा रहे हैं।

देशभर में राष्‍ट्रीय राजमार्गों पर तरल चिकित्‍सा ऑक्‍सीजन की ढुलाई करने वाले सभी टैंकरों और कन्‍टेनरों का आवागमन टोल-फ्री किया गया

देशभर में राष्‍ट्रीय राजमार्गों पर तरल चिकित्‍सा ऑक्‍सीजन की ढुलाई करने वाले सभी टैंकरों और कन्‍टेनरों का आवागमन टोल-फ्री कर दिया गया है। कोविड महामारी को देखते हुए पूरे देश में चिकित्‍सा ऑक्‍सीजन की मांग में अभूतपूर्व वृद्धि हुई है। अगले दो महीने या अगले आदेश तक ऑक्‍सीजन ले जा रहे कंटेनरों को एम्‍बूलेंस जैसे आपातकालीन वाहनों की श्रेणी में रखा जाएगा।

भारतीय पहलवान सीमा बिसला ने तोक्यो ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई किया

कुश्‍ती में भारत की सीमा बिस्‍ला ने महिलाओं की 50 किलोग्राम फ्री स्‍टाईल प्रतियोगिता में तोक्‍यो ओलंपिक के लिए क्‍वालीफाई कर लिया है। वे बुल्‍गारिया के सोफिया में विश्‍व ओलंपिक क्‍वालीफायर के फाइनल में पहुंची थी। प्रत्‍येक भार वर्ग के फाइनल में पहुंचने वाले पहलवानों को ओलंपिक कोटा हासिल होगा। विनेश फोगाट, सोनम मलिक और अंशु मलिक भी ओलंपिक के लिए क्‍वालीफाई कर चुकी हैं। पहलवान सुमित मलिक ने सोफिया में विश्व ओलंपिक गेम्स क्वालीफाईंग टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचने के साथ ही पुरुष 125 किलोग्राम फ्रीस्टाइल वर्ग में ओलंपिक कोटा हासिल कर लिया है।

अमरीका ने विश्व स्वास्थ्य सभा की आगामी बैठक में ताईवान को पर्यवेक्षक के रूप में आमंत्रित करने का आग्रह किया

अमरीका ने विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टेड्रोस अधानॉम गैब्रेयासिस से विश्व स्वास्थ्य सभा की वार्षिक बैठक में ताईवान को पर्यवेक्षक के रूप में आमंत्रित करने का आग्रह किया है। अमरीका ने कहा कि ताईवान को इस मंच से लगातार अलग रखे जाने का कोई औचित्‍य नहीं है। अमरीका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकेन ने कहा कि वैश्विक स्वास्थ्य चुनौतियों का सीमा या राजनीतिक विवादों से कोई लेना-देना नहीं है। उन्होंने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन और सभी जिम्मेदार देशों को समझना होगा कि स्वास्थ्य सभा से दो करोड़ 40 लाख लोगों के हितों को अलग रखे जाने से हमारे साझा लक्ष्यों को नुकसान होगा। विश्व स्वास्थ्य सभा की 74वीं वार्षिक बैठक स्विटजरलैंड के जेनेवा में 24 मई से एक जून तक वर्चुअल रूप से आयोजित होगी।

भारतीय वायुसेना का विमान इजरायल से तीन ऑक्‍सीजन जेनरेटर और 360 ऑक्‍सीजन कंसंट्रेटर लेकर भारत पहुँचा

भारतीय वायुसेना का एक विमान इजरायल से तीन ऑक्‍सीजन जेनरेटर और 360 ऑक्‍सीजन कंसंट्रेटर भारत लेकर आया है। प्रत्‍येक जेनरेटर 120 बिस्‍तरों वाले अस्‍पताल की आवश्‍यकताओं को पूरा करने में सक्षम है। भारत ने कहा है कि इससे देश की ऑक्‍सीजन क्षमता बढ़ेगी और वह इस सहायता के लिए इजरायल का आभारी है। भारत ने रेमडेसिवर वैक्‍सीन की और 25 हजार छह सौ शीशियां उपहार स्‍वरूप देने के लिए अमरीकी कंपनी गिलीड साइंसिस का भी आभार व्‍यक्‍त किया। रेमडेसिवर की ये शीशियां मुंबई पहुंची हैं। इससे पहले, कंपनी ने इसकी डेढ़ लाख से अधिक शीशियां भेजी थीं। भारत ने दो सौ ऑक्‍सीजन सिलेंण्‍डर और दस ऑक्‍सीजन कंसंट्रेटर उपहार के रूप में देने के लिए थाइलैंड की भी सराहना की है। थाइलैंड से ये सामग्री भारत पहुंची है। थाइलैंड में भारतीय समुदाय ने भी सौ और ऑक्‍सीजन सिलेंण्‍डर तथा साठ ऑक्‍सीजन कंसंट्रेटर दान स्‍वरूप दिए हैं। पोलैंड से एक सौ ऑक्‍सीजन कंसन्‍ट्रेटर की खेप नई दिल्‍ली पहुंची।

मेघन मार्कले बच्चों की पुस्तक 'द बेंच' का विमोचन करेंगी

मेघन मार्कल (Meghan Markle) 8 जून को द बेंच (The Bench) नामक अपनी नई पुस्तक जारी करेंगी, जो एक कविता से प्रेरित थी, जो उन्होंने अपने पति प्रिंस हैरी को उनके पहले फादर्स डे पर बेटे आर्ची के पिता के रूप में लिखी थी। क्रिस्चियन रॉबिन्सन (Christian Robinson) द्वारा वॉटरकलर इलस्ट्रेशन वाली पुस्तक, एक कविता के रूप में शुरू हुई, जिसे मार्कल कहती हैं कि उन्होंने आर्ची के जन्म के बाद पहले फादर्स डे पर हैरी के लिए लिखी थी।

प्रहलाद सिंह पटेल ने इटली में आयोजित G20 पर्यटन मंत्रियों की बैठक में लिया हिस्सा

केंद्रीय पर्यटन और संस्कृति राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), प्रहलाद सिंह पटेल ने 4 मई 2021 को इटली में आयोजित G20 पर्यटन मंत्रियों की बैठक में भाग लिया। इस संवाद का उद्देश्य पर्यटन व्यवसाय, नौकरियों की रक्षा करने और नीतिगत दिशानिर्देशों को पूरा करने के लिए यात्रा और पर्यटन की स्थायी और लचीला रिकवरी का समर्थन करने के लिए पहल करना था। उन्होंने पर्यटन में स्थिरता को अपनाने के लिए नीति क्षेत्र "हरित परिवर्तन" में एक और योगदान के रूप में UNWTO द्वारा प्रस्तुत हरी यात्रा और पर्यटन अर्थव्यवस्था में परिवर्तन के लिए सिद्धांतों के लिए भारत के प्रयासों से भी अवगत कराया। मंत्री ने अपने नेतृत्व के लिए इतालवी G20 प्रेसीडेंसी के लिए धन्यवाद दिया और भारत 2022 में इंडोनेशिया की G20 प्रेसिडेंसी के तहत आगे की प्रगति सुनिश्चित करने के लिए अपना समर्थन और सहयोग जारी रखेगा।

RBI ने लक्ष्मी विलास बैंक को RBI अधिनियम की दूसरी अनुसूची से किया बाहर

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने पिछले साल DBS बैंक इंडिया लिमिटेड (DBIL) के साथ विलय के बाद आरबीआई अधिनियम की दूसरी अनुसूची से लक्ष्मी विलास बैंक (एलवीबी) को बाहर कर दिया था। भारतीय रिजर्व बैंक अधिनियम की दूसरी अनुसूची में उल्लिखित बैंक को 'अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक (Scheduled Commercial Bank)' के रूप में जाना जाता है। पिछले साल नवंबर में सरकार ने डीबीएस बैंक इंडिया के साथ संकटग्रस्त लक्ष्मी विलास बैंक के विलय को मंजूरी दी थी। RBI ने LVB के बोर्ड को भी रद्द कर दिया और 30 दिनों के लिए बैंक के प्रशासक के रूप में केनरा बैंक के पूर्व गैर-कार्यकारी अध्यक्ष टी एन मनोहरन को नियुक्त किया था। LVB, यस बैंक के बाद दूसरा निजी क्षेत्र का बैंक है जो इस वर्ष के दौरान किसी न किसी संकट के कारण बाहर हो गया है। मार्च में, वित्तीय संकट से झुझ रहे यस बैंक को मोरेटोरियम अवधि के तहत रखा गया था। सरकार ने यस बैंक को स्टेट बैंक ऑफ इंडिया से 7,250 करोड़ रुपये का निवेश करके बैंक में 45 प्रतिशत हिस्सेदारी लेने के लिए कहकर बचाया था।

RBI ने RRA 2.0 की मदद के लिए किया सलाहकार समूह का गठन, नेतृत्व एस जानकीरमन करेंगे

भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) ने दूसरे नियामक समीक्षा प्राधिकरण (Regulatory Review Authority 2.0) की सहायता के लिए एक सलाहकार समूह का गठन किया है, जिसे रिज़र्व बैंक द्वारा 01 मई, 2021 को नियमों को सुव्यवस्थित करने और विनियमित संस्थाओं के अनुपालन बोझ को कम करने के लिए स्थापित किया गया हैं। सलाहकार समूह का नेतृत्व SBI के प्रबंध निदेशक एस जानकीरमन करेंगे। दूसरा नियामक समीक्षा प्राधिकरण (RRA 2.0), 01 मई, 2021 से एक साल की अवधि के लिए स्थापित किया गया है, ताकि नियमों, परिपत्रों, रिपोर्टिंग प्रणालियों की समीक्षा की जा सके और उन्हें प्रभावी बनाने के लिए अनुपालन प्रक्रियाओं और उन्हें अधिक प्रभावी बनाया जा सके। समूह नियमों, दिशानिर्देशों और रिटर्न की पहचान करके RRA 2.0 की सहायता करेगा, जिसे तर्कसंगत बनाया जा सकता है, और सिफारिशों / सुझावों वाले RRA को समय-समय पर रिपोर्ट प्रस्तुत कर सकते हैं।

कोटक महिंद्रा बैंक किसानों और व्यापारियों के लिए करेगा ऑनलाइन भुगतान का विस्तार

कोटक महिंद्रा बैंक (KMBL) ने घोषणा की कि उसे कृषि उत्पादों के लिए अखिल भारतीय इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग पोर्टल, नेशनल एग्रीकल्चर मार्केट (eNAM) द्वारा डिजिटल भुगतान भागीदार के रूप में चुना गया है। KMBL किसानों, व्यापारियों और किसान उत्पादक संगठनों (FPO) सहित eNAM प्लेटफॉर्म पर सभी हितधारकों के लिए ऑनलाइन लेनदेन को सक्षम और सुगम बनाएगा। इस पहल के तहत, कोटक कृषि उत्पाद के खरीदार और विक्रेता के बीच व्यापार को सुविधाजनक बनाने के लिए eNAM प्लेटफॉर्म पर भुगतान, समाशोधन और निपटान सेवाएं प्रदान करेगा। कोटक ने अपने भुगतान प्रणाली और पोर्टल को सीधे eNAM के भुगतान इंटरफेस के साथ एकीकृत किया है, ताकि प्लेटफॉर्म में शामिल होने वाले एग्री प्रतिभागियों के लिए त्वरित और सुरक्षित लेनदेन को सक्षम किया जा सके।

MT30 मरीन इंजन बिज़नेस के लिए रोल्स रॉयस और एचएएल ने किया समझौता

हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) और रोल्स-रॉयस (Rolls-Royce) ने भारत में रोल्स-रॉयस MT30 समुद्री इंजनों की पैकेजिंग, स्थापना, विपणन और सेवाओं के समर्थन को स्थापित करने के लिए एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं। इस समझौता ज्ञापन के माध्यम से, रोल्स रॉयस और HAL भारत में अपनी दीर्घकालिक साझेदारी का विस्तार करेंगे और पहली बार समुद्री अनुप्रयोगों के क्षेत्र में एक साथ काम करेंगे. यह साझेदारी HAL के IMGT (औद्योगिक और समुद्री गैस टर्बाइन) प्रभाग के समृद्ध अनुभव का लाभ उठाएगी, जो भारतीय शिपयार्ड के साथ समुद्री गैस टर्बाइनों पर काम करता है। MT30 को दुनिया के सबसे अधिक बिजली-सघन, बेस्ट-इन-क्लास नौसैनिक गैस टरबाइन के रूप में पेश किया गया है, जो वर्तमान में सात जहाज प्रकारों में विभिन्न प्रणोदन व्यवस्थाओं में दुनिया भर में नौसेना कार्यक्रमों के साथ सेवा में है। MT30 में भारतीय नौसेना के भविष्य के बेड़े में अगली पीढ़ी की क्षमताओं को प्रदान करने की क्षमता है। MT30 जहाज के पूरे जीवन में किसी भी बिजली की गिरावट के बिना 38 डिग्री सेल्सियस तक परिवेश के तापमान में 40 मेगावाट तक की अपनी पूरी शक्ति प्रदान कर सकता है।

फिच सॉल्यूशन का अनुमान, FY22 के लिए भारत की GDP वृद्धि दर 9.5%

फिच सॉल्यूशन (Fitch Solution) ने 2021-22 (अप्रैल 2021 से मार्च 2022) में भारतीय अर्थव्यवस्था के जीडीपी वृद्धि का 9.5 प्रतिशत तक का अनुमान लगाया है। वास्तविक जीडीपी में यह कटौती कोरोनोवायरस मामलों की संख्या में अचानक और तेज उछाल के कारण लगाए गए राज्य-स्तरीय लॉकडाउन के परिणामस्वरूप आर्थिक क्षति के कारण हुई है।

भारत, फ्रांस, ऑस्ट्रेलिया ने किया पहली त्रिपक्षीय वार्ता का आयोजन

G7 विदेश मंत्रियों की बैठक के अवसर पर लंदन, यूके में पहली बार भारत-फ्रांस-ऑस्ट्रेलिया त्रिपक्षीय विदेश मंत्रिस्तरीय वार्ता, आयोजित की गई थी। इस बैठक में भारत के विदेश मंत्री, डॉ. एस जयशंकर (Dr S. Jaishankar), यूरोप और विदेश मामलों के लिए फ्रांस मंत्री, श्री जीन-यवेस ले ड्रियान (Mr Jean-Yves Le Drian) और ऑस्ट्रेलिया के विदेश मंत्री, सीनेटर मारिस पायने (Senator Marise Payne) ने भाग लिया। फ्रांस, भारत, ऑस्ट्रेलिया की त्रिपक्षीय बैठक सितंबर 2020 में विदेश सचिवों के स्तर पर शुरू की गई थी, लेकिन इसकी स्थापना के एक वर्ष के भीतर इसे मंत्री स्तर तक बढ़ा दिया गया है। इसकी तीन संयुक्त प्राथमिकताएं हैं; जो समुद्री सुरक्षा, पर्यावरण और बहुपक्षवाद हैं।

रवींद्रनाथ टैगोर

07 मई, 2021 को देशभर में विश्व प्रसिद्ध कवि, साहित्यकार और दार्शनिक रवींद्रनाथ टैगोर की 160वीं जयंती मनाई गई। रवींद्रनाथ टैगोर का जन्म 07 मई, 1861 को ब्रिटिश भारत में बंगाल प्रेसीडेंसी के कलकत्ता (अब कोलकाता) को हुआ था। उनके बचपन का नाम रोबिंद्रोनाथ ठाकुर था। बहुमुखी प्रतिभा के धनी रवींद्रनाथ टैगोर ने बंगाली साहित्य और संगीत को काफी महत्त्वपूर्ण रूप से प्रभावित किया। इसके अलावा उन्होंने 19वीं सदी के अंत एवं 20वीं शताब्दी की शुरुआत में प्रासंगिक आधुनिकतावाद के साथ भारतीय कला का पुनरुत्थान किया। रवींद्रनाथ टैगोर एक नीतिज्ञ, कवि, संगीतकार, कलाकार एवं आयुर्वेद-शोधकर्त्ता भी थे। रवींद्रनाथ टैगोर को उनकी काव्यरचना ‘गीतांजलि’ के लिये वर्ष 1913 में साहित्य के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार दिया गया था और इस तरह वह नोबेल पुरस्कार जीतने वाले पहले गैर-यूरोपीय थे। ‘गीतांजलि’ को मूल रूप से बंगाली भाषा में लिखा गया था और बाद में इसका अंग्रेज़ी में अनुवाद किया गया। भारतीय राष्ट्रगान (जन गण मन) के बांग्लादेश का राष्ट्रगान (आमार सोनार बांग्ला) भी उनके द्वारा ही रचित है। श्रीलंका के राष्ट्रगान को भी उनकी रचनाओं से प्रेरित माना जाता है। ज्ञात हो कि रवींद्रनाथ टैगोर ने ही महात्मा गांधी को ‘महात्मा’ की उपाधि दी थी।

विश्व प्रवासी पक्षी दिवस: 08 मई

हर साल 8 मई को दुनिया भर World Migratory Bird Day यानि विश्व प्रवासी पक्षी दिवस मनाया जाता है। इस दिन को मनाए जाने का उद्देश्य प्रवासी पक्षियों के बारे में जागरूकता बढ़ाना और उनके संरक्षण के लिए जरुरी अंतर्राष्ट्रीय सहयोग के महत्व के बारे देशों को जागरूक करना है। इस बार के विश्व प्रवासी पक्षी दिवस 2021 का विषय “Sing, Fly, Soar – Like a Bird!” है। वर्ष 2021 के विश्व प्रवासी पक्षी दिवस का विषय, हर जगह लोगों को निमंत्रण देने और प्रकृति से सक्रिय रूप से सुनने और पक्षियों को देखने - जहां भी वे हैं, से जुड़ने और पुन: जुड़ने का प्रयास है। इसी समय, विषय दुनिया भर के लोगों से अपील करता है कि वे पक्षियों और प्रकृति की अपनी साझा प्रशंसा को व्यक्त करने के लिए अपनी आवाज़ और रचनात्मकता का उपयोग करें।

विश्व थैलेसीमिया दिवस: 08 मई

दुनिया भर में 08 मई को ‘विश्व थैलेसीमिया दिवस’ का आयोजन किया जाता है। इस दिवस के आयोजन का प्राथमिक लक्ष्य थैलेसीमिया जैसे गंभीर आनुवंशिक विकार और इससे पीड़ित रोगियों के संघर्ष के संबंध में जागरूकता बढ़ाना है। साथ ही यह दिवस पीड़ितों के जीवन को बेहतर बनाने के लिये समर्पित डॉक्टरों और अन्य चिकित्सा कर्मियों तथा इस रोग के उन्मूलन की दिशा में कार्य कर रहे वैज्ञानिकों का भी सम्मान करता है। विश्व थैलेसीमिया दिवस (08 मई) की शुरुआत वर्ष 1994 में थैलेसीमिया इंटरनेशनल फेडरेशन द्वारा की गई थी। थैलेसीमिया एक आनुवंशिक रक्त विकार है, जो कि माता-पिता से बच्चों तक पीढ़ी-दर-पीढ़ी हस्तांतरित होता है। इस स्थायी रक्त विकार के कारण रोगी के लाल रक्त कणों (RBC) में पर्याप्त हीमोग्लोबिन नहीं बन पाता है। इसके कारण एनीमिया हो जाता है और रोगियों को जीवित रहने के लिये हर दो से तीन सप्ताह बाद रक्त चढ़ाने की आवश्यकता होती है। रोग की गंभीरता जीन में शामिल उत्परिवर्तन और उनकी अंतःक्रिया पर निर्भर करती है। विश्व थैलेसीमिया दिवस 2021 का विषय “Addressing Health Inequalities Across the Global Thalassaemia Community” है।

वर्ल्ड रेड क्रॉस और रेड क्रिसेंट डे: 8 मई

प्रत्येक वर्ष 08 मई को विश्व भर में ‘विश्व रेड क्रॉस दिवस’ मनाया जाता है। यह दिवस, अंतर्राष्ट्रीय रेड क्रॉस और रेड क्रीसेंट आंदोलन के सिद्धांतों को रेखांकित करता है। यह दिवस आम जनमानस को मानवीय सहायता उपलब्ध कराने के कार्यों में संलग्न विश्व की सबसे एजेंसी (रेड क्रॉस) और समाज में उसके योगदान को जानने का अवसर प्रदान करता है। इस वर्ष विश्व रेड क्रॉस दिवस की थीम ‘अनस्टॉपेबल’ है। ‘रेड क्रॉस’ एक ऐसी अंतर्राष्ट्रीय संस्था है, जो बिना किसी भेदभाव के युद्ध, महामारी एवं प्राकृतिक आपदा की स्थिति में लोगों की रक्षा करती है। इस संस्था का मुख्य उद्देश्य विपरीत परिस्थितियों में लोगों के जीवन की रक्षा करना है। विश्व रेड क्रॉस दिवस, रेड क्रॉस के जनक ‘जीन हेनरी ड्यूनैंट’ के जन्मदिवस को चिह्नित करता है, जिनका जन्म 8 मई, 1828 को जिनेवा (स्विट्ज़रलैंड) में हुआ था। ‘जीन हेनरी ड्यूनैंट’ को वर्ष 1901 में पहला नोबेल शांति पुरस्कार प्रदान किया गया था। ‘इंटरनेशनल कमेटी ऑफ द रेड क्रॉस’ (ICRC) की स्थापना जीन हेनरी ड्यूनैंट द्वारा वर्ष 1863 में की गई थी। भारत में ‘इंडियन रेडक्रॉस सोसाइटी’ का गठन वर्ष 1920 में हुआ था।

द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान जान गंवाने वालों और सुलह में योगदान देने वालों का स्मरण दिवस : 8-9 मई

संयुक्त राष्ट्र द्वारा हर साल 8-9 मई को द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान जान गंवाने वालों और सुलह में योगदान देने वालों का स्मरण दिवस (Time of Remembrance and Reconciliation for Those Who Lost Their Lives during the 2nd World War) मनाया जाता है। यह दिन द्वितीय विश्व युद्ध के सभी पीड़ितों को श्रद्धांजलि देता है। इस वर्ष द्वितीय विश्व युद्ध की 76 वीं वर्षगांठ है। इस दिन की घोषणा संयुक्त राष्ट्र द्वारा 2004 में की गई थी। हालांकि, संयुक्त राष्ट्र ने एनजीओ, उसके सदस्य देशों और अन्य संगठनों से आग्रह किया कि वे 2010 में पारित किए गए एक प्रस्ताव के माध्यम से दिन की स्मृति में शामिल हों। यह तारीख, दूसरे विश्व युद्ध का आधिकारिक अंत नहीं है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि जापान ने 15 अगस्त, 1945 तक आत्मसमर्पण नहीं किया था।

पद्मश्री से सम्मानित प्रसिद्ध संगीतकार वनराज भाटिया का निधन

भारत में पश्चिमी शास्त्रीय संगीत के सबसे प्रसिद्ध संगीतकार वनराज भाटिया का लंबी बीमारी के बाद निधन। वे विज्ञापन फिल्मों, फीचर फिल्मों, मुख्यधारा की फिल्मों, टेलीविजन शो, डॉक्यूमेंट्री आदि के लिए संगीत तैयार करते थे। भाटिया ने टेलीविजन फिल्म तमस (1988) के लिए सर्वश्रेष्ठ संगीत निर्देशन का राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार, रचनात्मक और प्रायोगिक संगीत के लिए संगीत अकादमी पुरस्कार (1989) और भारत का चौथा सर्वोच्च नागरिक सम्मान, पद्मश्री (2012) जीता था।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.