Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

26 May 2021

IPS सुबोध कुमार जायसवाल CBI के नए डायरेक्टर

1985 बैच के IPS सुबोध कुमार जायसवाल को CBI का नया डायरेक्टर बनाया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई हाई लेवल कमिटी की मीटिंग में इसका फैसला लिया गया। इस कमिटी में भारत के चीफ जस्टिस एनवी रमना और लोकसभा में विपक्ष के नेता अधीर रंजन चौधरी शामिल थे। वे दो साल तक इस पद पर रहेंगे। सुबोध कुमार जायसवाल महाराष्ट्र के DGP और ATS चीफ रह चुके हैं। अभी वह CISF के डायरेक्टर जनरल हैं। 58 साल के जायसवाल 2022 में रिटायर होंगे।

BWF परिषद के लिए चुने गए हेमंत बिस्वा सरमा

भारतीय बैडमिंटन संघ (बीएआई) के अध्यक्ष हिमंत बिस्वा सरमा को 2025 तक चार साल के लिए बैडमिंटन विश्व महासंघ (बीडब्ल्यूएफ) परिषद में चुना गया। 22 मई, 2021 को BWF के वर्चुअल AGM और काउंसिल चुनाव में 20 सदस्यीय BWF परिषद के 31 प्रतियोगियों में से सरमा को चुना गया, जहां उन्हें 236 वोट मिले। वह बैडमिंटन एशिया के उपाध्यक्ष और असम के मुख्यमंत्री भी हैं। बैडमिंटन वर्ल्ड फेडरेशन का मुख्यालय कुआलालंपुर, मलेशिया में है और बैडमिंटन वर्ल्ड फेडरेशन के अध्यक्ष पॉल-एरिक होयर लार्सन है।

राजेश बंसल बने रिजर्व बैंक इनोवेशन हब के सीईओ

रिजर्व बैंक इनोवेशन हब (RBIH) के बोर्ड ने 17 मई, 2021 से राजेश बंसल (Rajesh Bansal) को RBIH का मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) नियुक्त किया है, RBIH ने एक बयान में कहा। रिज़र्व बैंक इनोवेशन हब फिनटेक अनुसंधान को बढ़ावा देने और नवोन्मेषकों और स्टार्ट-अप के साथ जुड़ाव की सुविधा के लिए आंतरिक बुनियादी ढांचे का विकास करेगा। बंसल के पास भारत और कई एशियाई और अफ्रीकी बाजारों में समावेशी विकास को सक्षम करने के लिए प्रौद्योगिकी आधारित जनसंख्या-पैमाने पर भुगतान उत्पादों, इलेक्ट्रॉनिक नकद हस्तांतरण, डिजिटल वित्तीय सेवाओं और डिजिटल आईडी को डिजाइन करने का पच्चीस वर्षों का अनुभव है। उन्होंने पहले आरबीआई में प्रौद्योगिकी, वित्तीय समावेशन और भुगतान प्रणाली के क्षेत्रों में विभिन्न क्षमताओं में कार्य किया है। वह आधार की संस्थापक टीम के सदस्य थे जहां उन्होंने भारत के प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण प्रणाली और इलेक्ट्रॉनिक केवाईसी (ईकेवाईसी) को डिजाइन करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। बयान में कहा गया है कि वह आरबीआई और भारत सरकार की विभिन्न समितियों के सदस्य रहे हैं।

71 साल बाद भारत में दिखेगा चीता

दुनिया का सबसे तेज जमीन वाला जानवर, चीता भारत में फिर से लाया जायेगा। चीता को मध्य प्रदेश के कुनो नेशनल पार्क (Kuno National Park) में नवंबर 2021 में लाया जाएगा। भारत ने अपना आखिरी चीता 1947 में छत्तीसगढ़ में देखा था। आखिरी चीता की मृत्यु के बाद, 1952 में इसे विलुप्त घोषित कर दिया गया था।भारत के सर्वोच्च न्यायालय ने भी जनवरी 2020 में अफ्रीकी चीतों को भारत में एक उपयुक्त आवास में एक प्रयोग के रूप में पेश करने के लिए अपनी मंजूरी दे दी थी, यह देखने के लिए कि क्या वे पर्यावरण के अनुकूल हो सकते हैं।इस प्रकार, Cheetah Reintroduction Project भारतीय वन्यजीव संस्थान (Wildlife Institute of India – WII) द्वारा तैयार की गई थी।

MCA21 का संस्करण 3.0 लॉन्च किया गया

भारत के पहले मिशन मोड ई-गवर्नेंस प्रोजेक्ट के पहले चरण, MCA21 को 24 मई, 2021 को वित्त और कॉर्पोरेट मामलों के राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) द्वारा लॉन्च किया गया था। MCA21 का यह संस्करण डेटा एनालिटिक्स द्वारा संचालित है। MCA21 संस्करण 3.0 पर बजट 2021-2022 के दौरान प्रकाश डाला गया था। यह परियोजना कॉर्पोरेट अनुपालन और हितधारकों के अनुभवों को कारगर बनाने के लिए नई तकनीकों का उपयोग करती है। इसे दो चरणों में लागू किया जाएगा जिसके लिए दूसरा और तीसरा चरण अक्टूबर 2021 में शुरू किया जाएगा। इस परियोजना के पहले चरण में MCA अधिकारियों के लिए नई ईमेल सेवाएं, वेबसाइट, ईबुक और ई-परामर्श शामिल हैं।

ब्लैक व व्हाइट के बाद गाजियाबाद में मिला यलो फंगस का मरीज

कोरोना के कारण शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने से ब्लैक और व्हाइट फंगस के बाद अब यलो फंगस के मामले सामने आ रहे हैं। डाक्टर इसका कारण अत्यधिक मात्र में जिंक का इस्तेमाल बता रहे हैं। बताते चलें कि उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में यलो फंगल इंफेक्शन का जो मामला सामने आया है, वह छिपकली, सांप, मेढक, गिरगिट जैसे रेप्टाइल वर्ग के जंतुओं में पाया जाता था। इस म्यूकस सेप्टिकस (येलो फंगस) को जिंक काफी आकर्षित करता है। इसी प्रकार ब्लैक फंगस (म्यूकोर माइकोसिस) की आशंका उन लोगों में ज्यादा होती है, जिनके खून में आयरन की मात्र ज्यादा होती है। इंसानों में जो ब्लैक, येलो या ग्रीन फंगस के संक्रमण के मामले सामने आते हैं, वे सभी एस्परजिलस वर्ग के हैं। स्पुटम (बलगम) कल्चर के दौरान इस वर्ग के फंगस जिस रंग के मीडियम में विकसित होते थे, उसी के अनुसार रंगों के आधार पर उनका नामकरण किया जाता था।

स्वर्ण आभूषणों की हॉलमार्किंग 15 जून से शुरू हो जाएगी

स्वर्ण आभूषणों की हॉलमार्किंग की प्रक्रिया इस साल की 15 जून से शुरू हो जाएगी। कोविड महामारी को देखते हुए सरकार ने आभूषण विक्रेताओं को हॉलमार्किंग लागू करने और सभी मुद्दों को सुलझाने के लिए और समय देने के अनुरोध स्वीकार कर लिया है। पहले हॉलमार्किंग की प्रक्रिया इस साल 1 जून से लागू हो जाने की संभावना थी। इस मुद्दे पर समुचित तालमेल बनाने और विवादों को सुलझाने के लिए एक समिति गठित की गई थी। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने भारतीय मानक ब्यूरो द्वारा आयोजित वेबीनार और सम्मेलन में भारत में स्वर्ण आभूषणों की अनिवार्य हॉलमार्किंग लागू कराने की दिशा में हुई प्रगति की समीक्षा की। भारतीय मानक ब्यूरो की हॉलमार्किंग योजना के अंतर्गत ब्यूरो से मान्यता प्राप्त सभी आभूषण विक्रेताओं को हॉलमार्क प्रमाणित गहने बेचने के लिए पंजीकृत किया जाता है। हॉलमार्क प्रमाणपत्र से आभूषण खरीदने वालों को सही आभूषण का चुनाव करने में सुविधा होती है और सोना खरीदते समय किसी भी अनावश्यक भ्रम से मुक्ति मिलती है। इस समय भारत के केवल 30 प्रतिशत आभूषण ही हॉलमार्क प्रमाणित हैं।

कोयला आधारित ताप विद्युत संयंत्रों में बायोमास का उपयोग बढ़ाने के लिए राष्ट्रीय मिशन की स्थापना का फैसला

ऊर्जा मंत्रालय ने कोयला आधारित ताप विद्युत संयंत्रों में बायोमास का उपयोग बढ़ाने के लिए एक राष्‍ट्रीय मिशन की स्‍थापना का फैसला किया है। यह निर्णय फसल अवशेष और ताप विद्युत उत्‍पादन संयंत्रों से निकलने वाले वायु प्रदूषण को कम करने और कार्बन फुटप्रिंट को घटाने के उद्देश्‍य से लिया गया है। यह देश में विद्युत उत्‍पादन के स्रोतों में बदलाव और स्‍वच्‍छ ऊर्जा स्रोतों की तरफ आगे बढ़ने में भी मदद करेगा। मिशन, ताप विद्युत संयंत्रों में बायोमास का वर्तमान स्‍तर पांच प्रतिशत से बढ़ाएगा। यह फसल अवशेषों समेत बायोमास तत्‍वों की ऊर्जा संयंत्रों तक आपूर्ति श्रृंखला से जुड़ी वर्तमान बाधाओं को दूर करने पर भी काम करेगा।

केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने 2021 में मालदीव के एड्डू शहर में भारत का नया महावाणिज्य दूतावास खोलने की मंजूरी दी

केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने 2021 में मालदीव के एड्डू शहर में भारत का नया महावाणिज्य दूतावास खोलने की मंजूरी दे दी है। भारत और मालदीव के बीच जातीय, भाषाई, सांस्कृतिक, धार्मिक और वाणिज्यिक संबंध हैं। भारत की पड़ोसी को तरजीह देने और इस क्षेत्र में सबके लिए सुरक्षा तथा विकास की नीति में मालदीव का महत्‍वपूर्ण स्‍थान है। मालदीव में भारत का महावाणिज्‍य दूतावास खुलने से मालदीव में भारत की राजनयिक उपस्थिति को बढ़ाने में मदद मिलेगी।

एम बी राजेश को केरल विधानसभा का अध्य्क्ष चुना गया

श्री एम बी राजेश को केरल विधानसभा का अध्‍यक्ष चुना गया है। राज्‍य विधानसभा में चुनाव कराया गया। श्री राजेश को 140 में से 96 वोट मिले। कांग्रेस उम्‍मीदवार सी विष्‍णुनाथ को 40 वोट मिले। श्री राजेश केरल विधानसभा के 23वें अध्‍यक्ष हैं। चुनाव के बाद मुख्‍यमंत्री पिनाराई विजयन और विपक्ष के नेता वी डी सतीशन श्री राजेश को विधानसभा अध्‍यक्ष के आसन तक ले गए।

बिहार से जीआई प्रमाणित शाही लीची की पहली खेप ब्रिटेन को निर्यात की गई

जीआई प्रमाणित उत्पादों के निर्यात को बढ़ावा देने के लिए बिहार से शाही लीची की इस मौसम की पहली खेप हवाई मार्ग से ब्रिटेन को निर्यात की गई। शाही लीची के निर्यात के लिए पादप-स्वच्छता प्रमाणन पटना में नव स्थापित प्रमाणन सुविधा से जारी किया गया। इस फल को बिहार स्थित मुजफ्फरपुर के किसानों से प्राप्त किया गया और सिरा इंटप्राइजेज इसका निर्यात कर रहा है। वहीं लीची का आयात लंदन के एचएंडजे वेज कर रहा है।

कैबिनेट ने राष्ट्रीय आपदा मोचन बल अकादमी, नागपुर में वरिष्ठ प्रशासनिक ग्रेड (एसएजी) में निदेशक के एक पद के सृजन को मंजूरी दी

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने राष्ट्रीय आपदा मोचन बल अकादमी, नागपुर में वरिष्ठ प्रशासनिक ग्रेड (एसएजी) में निदेशक के एक (01) पद के सृजन के लिए गृह मंत्रालय के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। एनडीआरएफ अकादमी में निदेशक के पद के सृजन के साथ, संगठन की कमान और नियंत्रण एक वरिष्ठ और अनुभवी अधिकारी को सौंपा जाएगा, जो इच्छित उद्देश्यों के अनुसार संस्थान का संचालन कर सकता है। अकादमी एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, सीडी स्वयंसेवकों, अन्य हितधारकों और सार्क और अन्य देशों की आपदा प्रतिक्रिया एजेंसियों के 5000 से अधिक कर्मियों को वार्षिक कौशल आधारित व्यावहारिक प्रशिक्षण प्रदान करेगी। इससे हितधारकों की बदलती जरूरतों और आवश्यकता के अनुसार प्रशिक्षण कार्यक्रमों का विश्लेषण करते हुए उनमें सुधार भी करेगा। इससे विशेष रूप से एनडीआरएफ, एसडीआरएफ कर्मियों और अन्य हितधारकों को आपदा प्रतिक्रिया पर दिए जाने वाले प्रशिक्षण के स्तर में अत्यधिक सुधार किया जा सकेगा। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल अकादमी की स्थापना वर्ष 2018 में नागपुर में राष्ट्रीय नागरिक सुरक्षा कॉलेज (एनसीडीसी) में विलय के साथ की गई थी। अकादमी का मुख्य परिसर निर्माणाधीन है, तब तक यह एनसीडीसी के मौजूदा परिसर से कार्य कर रहा है। अकादमी वर्तमान में राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ)/ राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ)/ नागरिक सुरक्षा स्वयंसेवकों और अन्य हितधारकों को प्रशिक्षण प्रदान करती है और इसकी अवधारणा अंतर्राष्ट्रीय ख्यातिप्राप्त एक प्रमुख प्रशिक्षण संस्थान के तौर पर विकसित होने के लिए की गई है। यह सार्क और अन्य देशों के आपदा मोचन कर्मियों को विशेष प्रशिक्षण भी प्रदान करेगा।

दिल्ली में साँपों की आठ नई प्रजातियाँ

दिल्ली विश्वविद्यालय के शोधकर्त्ताओं द्वारा किये गए पाँच वर्षीय व्यापक अध्ययन के बाद राष्ट्रीय राजधानी में मौजूद साँँपों की सूची में आठ और प्रजातियों को शामिल किया गया है। इस शोध के माध्यम से वर्ष 1997 की ‘फौना ऑफ दिल्ली’ नामक पुस्तक में उल्लिखित सूची को अपडेट किया गया है, जिसका उपयोग व्यापक रूप से दिल्ली की मूल प्रजातियों को ट्रैक करने के लिये किया जाता है। इस शोध के साथ राजधानी में मौजूद साँँपों की प्रजातियों की संख्या 23 तक पहुँच गई है। इस अध्ययन में 23 प्रजातियों और नौ परिवारों में कुल 329 साँप दर्ज किये गए। सूची में शामिल किये गए नए साँपों में- कॉमन ब्रोंजबैक ट्री स्नेक, कॉमन ट्रिंकेट स्नेक, कॉमन कैट स्नेक, बैरड वुल्फ स्नेक, कॉमन कुकरी, स्ट्रीक्ड कुकरी, कॉमन सैंडबोआ और सॉ-स्केल्ड वाइपर शामिल हैं। दिल्ली जीव-जंतुओं के संरक्षण की दृष्टि से काफी महत्त्वपूर्ण स्थल है, क्योंकि यहाँ प्राचीन अरावली पहाड़ों के अंतिम हिस्से मौजूद हैं। इस लिहाज़ से दिल्ली अपनी घनी आबादी वाले शहरी क्षेत्र के बीच देशी वनस्पतियों, जीवों और जैव विविधता के संरक्षण का एक महत्त्वपूर्ण अवसर प्रदान करती है।

नासा को मंगल ग्रह पर मिले महत्वपूर्ण ऑर्गेनिक साल्ट

अमेरिकी अंतरिक्ष संगठन नासा को मंगल ग्रह पर ऑर्गेनिक रसायन मिले हैं, जिनसे जीवन की उत्पत्ति संभव है। पृथ्वी पर भी इस तरह से जीवन की उत्पत्ति होने का एक सिद्धांत है। प्राप्त रसायन जीवन के लिए जरूरी हैं। अमेरिका मंगल ग्रह पर जीवन की संभावना तलाश रहा है। इसी के चलते उसका भेजा रोवर इन दिनों वहां से नमूने एकत्रित कर रहा है।मंगल ग्रह पर नासा को आयरन, कैल्शियम, मैग्नीशियम ऑक्जेलेट और ऐसीटेट होने का पता चला है। इन तत्वों के मिलने से इस संभावना को भी मजबूती मिली है कि मंगल ग्रह पर कभी बहुत छोटे जीवधारियों की मौजूदगी थी। इनमें छोटे बैक्टीरिया भी शामिल हैं। इन रसायनों के मिलने से मंगल ग्रह पर भविष्य में मानव के बसने की संभावना को भी मजबूती मिली है।

भारत जैव विविधता पुरस्कार 2021 प्रदान किये गये

22 मई को अंतर्राष्ट्रीय जैव विविधता दिवस (International Day for Biological Diversity) के अवसर पर India Biodiversity Awards 2021 प्रदान किए गए। कृषि एवं पारिस्थितिकी विकास संस्थान (KRAPAVIS) ने ‘जैविक संसाधनों के सतत उपयोग’ श्रेणी के तहत पुरस्कार जीता। शाजी एन.एम. (Shaji N.M.), जिसे प्यार से केरल का 'ट्यूबर मैन (Tuber Man)' कहा जाता है, को 'घरेलू प्रजातियों के संरक्षण (Conservation of domesticated species)' की व्यक्तिगत श्रेणी में भारत जैव विविधता पुरस्कार 2021 से सम्मानित किया गया है। नागालैंड में Khonoma Nature Conservation & Tragopan Sanctuary (KNCTS) ने ‘जैविक संसाधनों के सतत उपयोग’ श्रेणी के तहत पुरस्कार जीता। शाजी ने, जो अपने खेत में अधिक से अधिक याम, कम याम, एलीफैंट फूट याम, अरारोट, कोलोकैसिया, शकरकंद, कसावा और चीनी आलू सहित लगभग 200 कंद फसलों की एक विस्तृत श्रृंखला का संरक्षण करते हैं, अपने प्रयासों के लिए सात बार राज्य पुरस्कार प्राप्त कर चुके हैं। उन्हें पीपीवी एंड एफआर अथॉरिटी, नई दिल्ली द्वारा स्थापित प्लांट जीनोम सेवियर रिवॉर्ड 2015 भी मिला है।

यूके ने 'वैश्विक महामारी रडार' के लिए शुरू की योजना

यूनाइटेड किंगडम कोविड -19 वेरिएंट और उभरती बीमारियों की पहचान करने के लिए एक उन्नत अंतरराष्ट्रीय रोगज़नक़ निगरानी नेटवर्क विकसित करेगा। यह वैश्विक महामारी रडार नए रूपों और उभरते रोगजनकों का शीघ्र पता लगाना सुनिश्चित करेगा, ताकि उन्हें रोकने के लिए आवश्यक टीकों और उपचारों को तेजी से विकसित किया जा सकता है। प्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन ( Boris Johnson) ने इटली और यूरोपीय संघ (EU) द्वारा आयोजित वैश्विक स्वास्थ्य शिखर सम्मेलन से पहले योजनाओं की घोषणा की। अगले साल तक वैश्विक स्वास्थ्य सुरक्षा में उल्लेखनीय सुधार लाने के उद्देश्य से, रडार के 2021 के अंत से पहले पूरी तरह से निगरानी केंद्रों के नेटवर्क के साथ चलने की उम्मीद है। WHO वैश्विक स्वास्थ्य चैरिटी वेलकम ट्रस्ट द्वारा समर्थित एक कार्यान्वयन समूह का नेतृत्व करेगा, जो नए कोरोनोवायरस वेरिएंट पर डेटा की पहचान करने, ट्रैक करने और साझा करने और आबादी में वैक्सीन प्रतिरोध की निगरानी करने के लिए नई अंतर्राष्ट्रीय साझेदारी शुरू करेगा।

हॉकी इंडिया ने जीता एटियेन ग्लिचिच पुरस्कार

हॉकी इंडिया ने देश में खेल में वृद्धि और विकास में योगदान के लिए प्रतिष्ठित एटियेन ग्लिचच पुरस्कार (Etienne Glichitch Award) जीता है। हॉकी इनवाइट्स वर्चुअल कॉन्फ्रेंस के दौरान खेल के शासी निकाय FIH द्वारा पुरस्कारों की घोषणा की गई। यह उसकी 47वीं FIH कांग्रेस का हिस्सा था जिसका समापन FIH मानद पुरस्कारों के साथ हुआ। 47वें एफआईएच कांग्रेस के एक भाग के रूप में प्रस्तुत किए गए अन्य पुरस्कार -

क्र.सं. पुरस्कारविजेता
1 पब्लो नेग्रे पुरस्कारउज्बेकिस्तान हॉकी फेडरेशन
2 थियो इकेमा पुरस्कारपोलिश हॉकी संघ
3 HRH सुल्तान अजलान शाह पुरस्कारन्यूजीलैंड के शेरोन विलियमसन
4 गुस्ट लाथौवर्स मेमोरियल ट्रॉफीइवोना मक्कर

कोटक महिंद्रा बैंक ने GIFT AIF को भारत का पहला FPI लाइसेंस जारी किया

कोटक महिंद्रा बैंक ने ट्रू बीकन ग्लोबल (True Beacon Global) के GIFT IFSC वैकल्पिक निवेश कोष (AIF) को पहला विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (FPI) लाइसेंस जारी किया है। यह देश में किसी भी कस्टोडियन बैंक या नामित डिपॉजिटरी पार्टिसिपेंट (DDP) द्वारा GIFT IFSC में शामिल AIF को जारी किया गया पहला FPI लाइसेंस है। GIFT IFSC में AIF एक महत्वपूर्ण व्यवसाय है और GIFT सिटी में IFSC में एक फंड स्थापित करने के लिए भारी लाभ और प्रतिस्पर्धा में बढ़त प्रदान करता है। कोटक महिंद्रा बैंक के साथ साझेदारी में, ट्रू बीकन ने सलाहकार के रूप में प्राइस वाटर हाउस कूपर्स (PWC) के साथ GIFT-सिटी में अपना पहला AIF लॉन्च किया।

रेड बुल के मैक्स वेरस्टैपेन ने जीता मोनाको ग्रांड प्रिक्स 2021

रेड बुल के मैक्स वेरस्टापेन (Max Verstappen) ने पहली बार मोनाको ग्रांड प्रिक्स जीता है और लुईस हैमिल्टन से फॉर्मूला वन चैंपियनशिप की बढ़त हासिल की है. फेरारी के कार्लोस सैन्ज़ जूनियर दूसरे स्थान पर रहे, जबकि मैकलारेन, एल. नॉरिस निराशाजनक तीसरे स्थान पर रहे। इस सीज़न में वेरस्टैपेन की दूसरी जीत और उनके करियर की 12वीं जीत ने रेड बुल ड्राइवर को हैमिल्टन से चार अंक आगे बढ़ा दिया। सात बार के विश्व चैंपियन आम तौर पर अति-विश्वसनीय मर्सिडीज टीम के लिए खराब दिन पर सातवें स्थान पर रहे।

अवतार सिंह भसीन ने लिखी पुस्तक "नेहरू, तिब्बत और चीन"

अवतार सिंह भसीन (Avtar Singh Bhasin) द्वारा लिखित एक पुस्तक का शीर्षक नेहरू, तिब्बत और चीन (Nehru, Tibet and China) है। वर्षों के गहन अभिलेखीय शोध पर आधारित पुस्तक, आकर्षक विस्तार से यह पुस्तक, 1949 से लेकर 1962 में भारत-चीन युद्ध और उसके बाद की घटनाओं का विश्लेषण करती है ताकि इन ज्वलंत सवालों के जवाब तलाशे जा सकें।

शिवशंकर मेनन ने लिखी 'इंडिया एंड एशियन जियोपॉलिटिक्स: द पास्ट, प्रेजेंट'

शिवशंकर मेनन (Shivshankar Menon) ने इंडिया एंड एशियन जियोपॉलिटिक्स: द पास्ट, प्रेजेंट नामक पुस्तक लिखी है। वह प्रधान मंत्री के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार और विदेश सचिव थे, अपनी नवीनतम पुस्तक में भारत ने अतीत के कई भू-राजनीतिक तूफानों का सामना कैसे किया, इसकी कहानी बताने के लिए इन चरणों को उनके ऐतिहासिक संदर्भ में खोज रहे हैं। मेनन ने इतिहास के प्रति एक अलग दृष्टिकोण अपनाया है। उन्होंने 1950 में चीन द्वारा तिब्बत पर कब्जा करने की गंभीरता को रेखांकित किया, जो उनके अनुसार, भारत-चीन संबंधों में एक महत्वपूर्ण क्षण था, लेकिन इस तर्क को चुनौती देता है कि भारत चीनी आक्रमण को रोकने में विफल रहा।

ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय छात्रसंघ उपचुनाव जीतीं भारतवंशी अन्वी भूटानी

ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के छात्रसंघ उपचुनाव में मैग्डालेन कॉलेज से भारतीय मूल की मानव विज्ञान की छात्रा अन्वी भूटानी को अध्यक्ष चुना गया है। अन्वी यहां राजनीतिक जागरूकता को लेकर लोकप्रिय हैं। ऑक्सफोर्ड एसयू में नस्लीय जागरूकता और समानता अभियान की सह-अध्यक्ष तथा ऑक्सफोर्ड इंडिया सोसाइटी की अध्यक्ष अन्वी भूटानी ने रिकॉर्ड मतदान के बाद भारी बहुमत हासिल किया।

सबसे उम्रदराज गोल्फ चैंपियन बने मिकेलसन

अमेरिका के अनुभवी गोल्फर फिल मिकेलसन पीजीए चैंपियनशिप मेजर खिताब जीतने वाले विश्व के सबसे उम्रदराज गोल्फर बन गए। 50 साल के मिकेलसन ने अपना छठा मेजर खिताब जीता। उन्होंने शुरू में दो बर्डी बनाई जिसके बाद हवा चलने लगी और कोई भी अन्य गोल्फर उनकी बराबरी तक नहीं पहुंच पाया।सबसे उम्रदराज मेजर चैंपियन का रिकॉर्ड इससे पहले जूलियस बोरोस के नाम पर दर्ज था। उन्होंने 1968 में सैन एंटोनियो में पीजीए चैंपियनशिप का खिताब जीता था। इस तरह से 53 साल तक उनके नाम पर यह रिकॉर्ड दर्ज रहा। मिकेलसन तीन दशकों में मेजर चैंपियन बनने वाले 10वें खिलाड़ी बने। इस सूची में टाइगर वुड्स भी शामिल हैं।

विश्व थायराइड दिवस: 25 मई

विश्व थायराइड दिवस (World Thyroid Day) हर साल 25 मई को विश्व स्तर पर मनाया जाता है। WTD का मुख्य उद्देश्य थायराइड के महत्व और थायराइड रोगों की रोकथाम और उपचार के बारे में जागरूक करना है। इस दिन की स्थापना 2008 में यूरोपियन थायराइड एसोसिएशन (ETA) और अमेरिकन थायराइड एसोसिएशन (ATA) के नेतृत्व में अभियान के एक भाग के रूप में की गई थी, जिसके बाद लैटिन अमेरिकी थायराइड सोसाइटी (LATS) और एशिया ओशनिया थायराइड एसोसिएशन (AOTA) ने थायराइड रोग के रोगी और उनका इलाज करने वाले डॉक्टर और चिकित्सक के सम्मान में मनाया।

अंतर्राष्ट्रीय गुमशुदा बाल दिवस: 25 मई

अंतरराष्ट्रीय गुमशुदा बाल दिवस (International Missing Children’s Day) हर साल 25 मई को विश्व स्तर पर मनाया जाता है। यह दिन उन गुमशुदा बच्चों के लिए मनाया जाता है जो किसी तरह अपने घर पहुँच चुके है, उन लोगों को याद रखने के लिए जो अपराध के शिकार हैं, और उन लोगों की तलाश करने के प्रयास जारी रखने के लिए जो अभी भी लापता हैं। 25 मई को अब व्यापक रूप से मिसिंग चिल्ड्रन्स डे forget-me-not flower प्रतीक के रूप में जाना जाता है। इस दिन को मनाए जाने की घोषणा वर्ष 1983 में अमेरिकी राष्ट्रपति रोनाल्ड रीगन (Ronald Reagan) द्वारा की गई थी। 2001 में, 25 मई को इंटरनेशनल सेंटर फॉर मिसिंग एंड एक्सप्लॉइड चिल्ड्रेन (ICMEC), मिसिंग चिल्ड्रन यूरोप और इस प्रकार यूरोपीय आयोग के संयुक्त प्रयास पर औपचारिक रूप से अंतर्राष्ट्रीय मिसिंग चिल्ड्रन्स डे (IMCD) के रूप में पहली बार मान्यता मिली थी।

राष्ट्रमंडल दिवस: 24 मई

राष्ट्रमंडल दिवस (Commonwealth Day) हर साल मार्च महीने के दूसरे सोमवार को मनाया जाता है। हालाँकि, भारत में, एक अन्य राष्ट्रमंडल दिवस 24 मई को भी मनाया जाता है। इसे एम्पायर डे के रूप में भी जाना जाता है, राष्ट्रमंडल दिवस भारत और ब्रिटेन के अन्य उपनिवेशों में ब्रिटिश साम्राज्य के गठन की याद दिलाता है। इस वर्ष राष्ट्रमंडल दिवस की थीम है: एक साझा भविष्य प्रदान करना (Delivering a Common Future)। इस विषय का उद्देश्य यह उजागर करना है कि 54 राष्ट्रमंडल देश जलवायु परिवर्तन से निपटने, सुशासन को बढ़ावा देने, लैंगिक समानता प्राप्त करने जैसे आवश्यक लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद करने के लिए कैसे नवाचार, संयोजन और परिवर्तन कर रहे हैं। महारानी विक्टोरिया, जिनका 22 जनवरी, 1901 को निधन हो गया, की मृत्यु के बाद पहली बार एम्पायर डे मनाया गया था। पहला एम्पायर डे 24 मई, 1902 को मनाया गया था, जो रानी का जन्मदिन था। ब्रिटिश साम्राज्य के कई स्कूल इसे आधिकारिक तौर पर वार्षिक कार्यक्रम के रूप में मान्यता दिए जाने से पहले ही मना रहे थे।

पंडित रेवा प्रसाद द्विवेदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जाने-माने संस्कृत विद्वान महामहोपाध्याय पंडित रेवा प्रसाद द्विवेदी के निधन पर शोक व्‍यक्‍त किया है। संस्कृत के विद्वान और कवि पंडित रेवा प्रसाद द्विवेदी का जन्म 22 अगस्त, 1935 को मध्य प्रदेश में हुआ था और संस्कृत के क्षेत्र में उनके महत्त्वपूर्ण योगदान के लिये उन्हें विभिन्न पुरस्कारों से सम्मानित किया गया था। उन्होंने वाराणसी से पारंपरिक और आधुनिक शिक्षा प्रणालियों दोनों में संस्कृत भाषा और साहित्य का अध्ययन किया तथा बनारस हिंदू विश्वविद्यालय से साहित्याचार्य की उपाधि एवं संस्कृत में मास्टर डिग्री प्राप्त की। इसके पश्चात् उन्होंने वर्ष 1965 में रविशंकर विश्वविद्यालय (रायपुर) से पी.एच.डी. की डिग्री हासिल की। उनकी प्रमुख रचनाओं में दो संस्कृत महाकाव्य- सीताचरितम एवं स्वातंत्र्यसंभवम् शामिल हैं। उन्हें उनके दूसरे महाकाव्य ‘स्वातंत्र्यसंभवम्’ के लिये वर्ष 1991 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। यह महाकाव्य झांसी की रानी लक्ष्मीबाई के समय से लेकर स्वतंत्रता के बाद की घटनाओं तक भारतीय राष्ट्रीय स्वतंत्रता आंदोलन को चित्रित करता है। संस्कृत भाषा और साहित्य में उनके योगदान को देखते हुए उन्हें भारतीय राष्ट्रपति से सम्मान प्रमाण पत्र, भारतीय भाषा परिषद द्वारा कल्पावली पुरस्कार (1993), के.के. बिरला फाउंडेशन द्वारा वाचस्पति पुरस्कार (1997) और आर.जे. डालमिया श्रीवेणी ट्रस्ट द्वारा ‘श्रीवेणी पुरस्कार’ (1999) से सम्मानित किया गया।

चीन के 'हाइब्रिड चावल के जनक' युआन लॉन्गपिंग का निधन

चीन के प्रख्यात वैज्ञानिक युआन लोंगपिंग का 91 वर्ष की आयु में निधन हो गया। उन्हें चीन में धान की संकर प्रजाति विकसित करने के लिए जाना जाता है जिसकी वजह से देश में खाद्यान्न उत्पादन में वृद्धि हुई। लोंगपिंग को चीन में ‘हाइब्रिड चावल के जनक’ के नाम से जाना जाता है। युआन लोंगपिंग का वर्ष 1930 में बीजिंग में जन्म हुआ था। उन्होंने वर्ष 1973 में उच्च उत्पादन वाले धान की संकर प्रजाति विकसित की थी। इसके बाद में बड़े पैमाने पर चीन में धान की खेती की गई।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.