Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

6 June 2021

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया को भारत में स्पुतनिक कोविड-19 वैक्सीन के उत्पादन की अनुमति

डीसीजीआइ (ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया) ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया को भारत में स्पुतनिक कोविड-19 वैक्सीन के उत्पादन की अनुमति दे दी है। सीरम ही इस रूसी वैक्सीन का भारत में परीक्षण और विश्लेषण भी करेगी। पुणो की कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट इस कार्य के लिए रूस के गामेलिया रिसर्च इंस्टीट्यूट के साथ मिलकर कार्य करेगी। मॉस्को स्थित इसी संस्था ने स्पुतनिक फाइव वैक्सीन विकसित की है। समझौते के तहत गामेलिया इंस्टीट्यूट सीरम को सेल बैंक और वायरस स्टॉक देगी। दोनों संस्थाओं के बीच टेक्नोलॉजी ट्रांसफर का समझौता हुआ है। सीरम को स्पुतनिक फाइव वैक्सीन के निर्माण का लाइसेंस चार जून से तीन साल के लिए प्रभावी होगा। सीरम इंस्टीट्यूट की योजना इस वैक्सीन के निर्माण के साथ ही इसके इमर्जेसी यूज की अनुमति भी भारत सरकार से लेने की है। भारत में फिलहाल इस रूसी वैक्सीन का उत्पादन डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरीज कर रही है।

एयर मार्शल विवेक राम चौधरी बने IAF के नए वाइस चीफ

भारतीय वायु सेना में टॉप लेवल पर कई बदलाव देखने को मिल सकते है क्योंकि हाल ही में एयर मार्शल विवेक राम चौधरी को वायु सेना मुख्यालय में नया उप वायु सेना प्रमुख नियुक्त किया गया है। एयर मार्शल बल्लभा राधा कृष्ण दिल्ली में पश्चिमी कमान में चौधरी का स्थान लेंगे जबकि एयर मार्शल आरजे डकवर्थ प्रयागराज में मध्य वायु कमान का प्रभार संभालेंगे।

आईसीआईसीआई बैंक 'स्विफ्ट Gpi इंस्टेंट' सुविधा शुरू करने वाला बना विश्व स्तर का दूसरा बैंक

आईसीआईसीआई बैंक ने ऐसी सेवा शुरू करने के लिए स्विफ्ट के साथ करार करने की घोषणा की है जो विदेशी साझेदार बैंकों को अपने ग्राहकों की ओर से भारत में लाभार्थी को तत्काल प्रेषण भेजने में मदद करेगी। इससे लाभार्थी को तुरंत बैंक खाते में क्रेडिट मिल जाएगा। यह आईसीआईसीआई बैंक को एशिया-प्रशांत में पहला और वैश्विक स्तर पर दूसरा बैंक बनाता है, जो सीमा पार से भुगतान के लिए ‘SWIFT gpi Instant’ नामक सुविधा प्रदान करता है। इस नई सेवा के साथ, ICICI ग्राहक-केंद्रित समाधान पेश करने की अपनी प्रतिबद्धता पर खरा उतरना जारी रखेगा, जिससे त्वरित और परेशानी मुक्त धन हस्तांतरण संभव हो पाता है।"

नकद प्रबंधन समाधान के लिए IPPB ने महिंद्रा रूरल हाउसिंग फाइनेंस के साथ किया समझौता

महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल लिमिटेड की सहायक कंपनी महिंद्रा रूरल हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड (MRHFL) और इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (IPPB) ने नकद प्रबंधन समाधान के लिए एक रणनीतिक साझेदारी की है। साझेदारी के हिस्से के रूप में, IPPB अपने एक्सेस पॉइंट्स और डाक सेवा प्रदाताओं के माध्यम से MRHFL को नकद प्रबंधन और संग्रह सेवाएं प्रदान करेगा। महिंद्रा रूरल हाउसिंग फाइनेंस ने एक बयान में कहा, नकद प्रबंधन सेवा के साथ, उसके ग्राहक 1.36 लाख से अधिक डाकघरों में अपनी मासिक या त्रैमासिक ऋण किस्त चुकाने में सक्षम होंगे। नकद प्रबंधन व्यवसाय संचालन की जीवन रेखा होने के कारण, IPPB अपने मजबूत नेटवर्क और प्रौद्योगिकी मंच के साथ कॉर्पोरेट्स को अपनी प्राप्तियों को सुरक्षित और निर्बाध रूप से प्रबंधित करने में मदद कर सकता है।

डेविड डियोप ने जीता इंटरनेशनल बुकर प्राइज 2021

डेविड डियोप (David Diop) अंग्रेजी में अनुवादित उनके पहले उपन्यास एट नाइट ऑल ब्लड इज ब्लैक के साथ अनुवादित फिक्शन के लिए अंतर्राष्ट्रीय बुकर पुरस्कार (International Booker prize) जीतने वाले पहले फ्रांसीसी उपन्यासकार बन गए हैं। दो उपन्यासों के लेखक डीओप और उनके अनुवादक अन्ना मोस्कोवाकिस 50,000 पाउंड के वार्षिक पुरस्कार को साझा किया, जो अंग्रेजी में अनुवादित काम के सर्वश्रेष्ठ लेखक और अनुवादक को जाता है। अंतर्राष्ट्रीय बुकर पुरस्कार, जिसे पहले मैन बुकर अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार के रूप में जाना जाता था, 2005 से प्रदान किया जाता है जब इसे अल्बानियाई लेखक इस्माइल कदरे ने जीता था। यह बुकर पुरस्कार का सहोगी पुरस्कार है, जो अंग्रेजी में लिखे गए एक उपन्यास को दिया जाता है।

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने गुजरात की विश्वामित्री नदी परियोजना को दी मंजूरी

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (NGT) की प्रधान पीठ ने हाल ही में वडोदरा नगर निगम (VMC), गुजरात और अन्य अधिकारियों को विश्वामित्री नदी कार्य योजना (Vishwamitri River Action Plan) को लागू करने का निर्देश दिया, जिसमें सीमांकन, वृक्षारोपण और नदी की अखंडता को बनाए रखने की तैयारी शामिल है। मगरमच्छ, कछुए और अत्यधिक संरक्षित प्रजातियां नदी के हिस्सों में प्रजनन करती हैं।

नासिक में तीन नई गुफाओं की खोज

हाल ही में भारतीय पुरातत्त्व सर्वेक्षण (ASI) ने नासिक में तीन और गुफाओं की खोज की है। इन गुफाओं, जो कि संभवतः बौद्ध भिक्षुओं के निवास स्थान रहे होंगे, की प्राचीनता अभी तक स्पष्ट नहीं हो सकी है, हालाँकि इन गुफाओं का अध्ययन कर रहे पुरातत्त्वविदों का मानना ​​है कि ये गुफाएँ ‘त्रिरश्मी गुफाओं’ से भी पुरानी हो सकती हैं। ज्ञात हो कि लगभग दो शताब्दी पूर्व एक ब्रिटिश सैन्य अधिकारी ने नासिक की एक पहाड़ी में ‘त्रिरश्मी बौद्ध गुफाओं’- जिन्हें ‘पांडवलेनी’ के नाम से भी जाना जाता है, का दस्तावेज़ीकरण किया था। त्रिरश्मी या पांडवलेनी गुफाएँ लगभग 25 गुफाओं का एक समूह है, जो कि तकरीबन दूसरी शताब्दी ईसा पूर्व और छठी शताब्दी ईस्वी के बीच बनाई गई थीं। गुफाओं के परिसर का दस्तावेज़ीकरण वर्ष 1823 में ब्रिटिश कैप्टन जेम्स डेलामाइन द्वारा किया गया था और वर्तमान में यह भारतीय पुरातत्त्व सर्वेक्षण के तहत संरक्षित स्थल और एक पर्यटन स्थल है। विदित हो कि नासिक में पाई गईं बौद्ध मूर्तियाँ और गुफाएँ बौद्ध धर्म की हीनयान परंपरा का प्रतिनिधित्व करने वाली भारतीय रॉक-कट वास्तुकला का एक महत्त्वपूर्ण प्रारंभिक उदाहरण हैं। गुफाओं में बुद्ध और बोधिसत्व की छवियाँ हैं और इंडो-ग्रीक वास्तुकला के डिज़ाइन के साथ मूर्तियाँ भी मौजूद हैं। ‘कान्हेरी’ और ‘वाई’ गुफाओं के समान ही इन गुफाओं में भी भिक्षुओं के ध्यान के लिये विशेष व्यवस्था की गई है।

नौसेना के हाइड्रोग्राफिक सर्वेक्षण पोत संध्यक को सेवामुक्त किया जाएगा

भारतीय नौसेना का हाइड्रोग्राफिक सर्वेक्षण पोत, संध्यक (Sandhayak) 40 वर्षों तक राष्ट्र की सेवा करने के बाद सेवामुक्त हो जाएगा। INS संध्यक का सेवामुक्ति समारोह नौसेना डॉकयार्ड विशाखापत्तनम में आयोजित किया जाएगा और यह एक कम महत्वपूर्ण कार्यक्रम होगा जिसमें केवल इन-स्टेशन अधिकारी और नाविक शामिल होंगे जो COVID-19 प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करते हैं। जहाज ने अपनी कमीशन सेवा के दौरान, देश के पूर्वी और पश्चिमी दोनों तटों, अंडमान समुद्रों के साथ-साथ पड़ोसी देशों में लगभग 200 प्रमुख जल सर्वेक्षण और कई छोटे सर्वेक्षण किए। पोत ऑपरेशन पवन (1987 में श्रीलंका में भारतीय शांति सेना की सहायता करना) और ऑपरेशन रेनबो (2004 की सुनामी के बाद मानवीय सहायता प्रदान करना) जैसे कई महत्वपूर्ण अभियानों में सक्रिय भागीदार रहा है.जहाज को 26 फरवरी, 1981 को भारतीय नौसेना में कमीशन किया गया था।

ADB और भारत ने सिक्किम में सड़क उन्नयन परियोजना के लिए किए समझौते पर हस्ताक्षर

एशियाई विकास बैंक और भारत सरकार ने सिक्किम में सड़क उन्नयन परियोजना के वित्तपोषण के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए। ADB सिक्किम में प्रमुख जिला सड़कों के उन्नयन से संबंधित परियोजनाओं का समर्थन करने के लिए $2.5 मिलियन परियोजना तत्परता वित्तपोषण (PRF) ऋण देगा। यह कनेक्टिविटी में सुधार करेगा और राज्य में आर्थिक गतिविधियों को भी बढ़ावा देगा। प्रोजेक्ट रेडीनेस नैन्सिंग (PRF) प्रमुख जिले और अन्य सड़कों को राष्ट्रीय और राज्य राजमार्ग नेटवर्क से जोड़ने में मदद करेगा। 2011 में, सिक्किम में सड़क संपर्क में सुधार के लिए ADB द्वारा वित्त पोषित उत्तर पूर्वी राज्य सड़क निवेश कार्यक्रम शुरू किया गया था। राज्य की एजेंसियां चयनित उप-परियोजनाओं के विस्तृत इंजीनियरिंग डिजाइन तैयार करेंगी और व्यवहार्यता अध्ययन करेंगी। लगातार भूस्खलन और कटाव के कारण सिक्किम के सड़क नेटवर्क को नियमित उन्नयन की आवश्यकता है।

भारती एक्सा लाइफ ने शिवालिक स्मॉल फाइनेंस बैंक के साथ किया बैंकएश्योरेंस समझौता

निजी जीवन बीमाकर्ता भारती एक्सा लाइफ इंश्योरेंस (Bharti AXA Life Insurance) ने बैंक के अखिल भारतीय नेटवर्क शाखाओं के माध्यम से अपने जीवन बीमा उत्पादों के वितरण के लिए शिवालिक स्मॉल फाइनेंस बैंक के साथ एक बैंकएश्योरेंस साझेदारी में प्रवेश किया है। यह गठबंधन वित्तीय समावेशन और अपने ग्राहकों के लिए धन सृजन में तेजी लाने की दिशा में बैंक के विभिन्न उपायों का एक हिस्सा है। भारती एक्सा लाइफ इंश्योरेंस देश भर में अपनी 31 शाखाओं और डिजिटल नेटवर्क में शिवालिक स्मॉल फाइनेंस बैंक के ग्राहकों को सुरक्षा, स्वास्थ्य, बचत और निवेश योजनाओं सहित जीवन बीमा उत्पादों के अपने सूट की पेशकश करेगा। यह गठबंधन शिवालिक बैंक के 4.5 लाख से अधिक ग्राहकों को वित्तीय सुरक्षा प्रदान करने के लिए कंपनी द्वारा पेश किए गए उत्पादों की श्रेणी तक पहुंचने में सक्षम करेगा।

विप्रो 3 ट्रिलियन रुपये की मार्केट कैप हासिल करने वाली तीसरी भारतीय आईटी फर्म बनी

विप्रो ने पहली बार बाजार पूंजीकरण में 3 ट्रिलियन रुपये को छुआ है, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज और इंफोसिस के बाद मील का पत्थर हासिल करने वाली तीसरी भारतीय आईटी फर्म बन गई है। कंपनी ने जर्मन रिटेलर मेट्रो से अपनी अब तक की सबसे बड़ी और 7.1 बिलियन डॉलर की डील जीती है। भारत में कुल 13 सूचीबद्ध फर्म हैं, जिन्होंने 3 ट्रिलियन एम-कैप को पार कर लिया है। विप्रो अब 14वें स्थान पर है। रिलायंस इंडस्ट्रीज भारत की सबसे मूल्यवान कंपनी है, जिसका बाजार पूंजीकरण 14.05 ट्रिलियन रुपये है, इसके बाद टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज लिमिटेड और एचडीएफसी बैंक क्रमशः 11.58 ट्रिलियन रुपये और 8.33 ट्रिलियन रुपये के एम-कैप के साथ हैं।

IIT मद्रास ने की एशिया की पहली इंटरनेशनल मेमोरी स्टडीज कार्यशाला की मेजबानी

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास के स्मृति अध्ययन केंद्र ने हाल ही में वर्चुली एशिया की पहली अंतर्राष्ट्रीय स्मृति अध्ययन कार्यशाला (International Memory Studies Workshop) की मेजबानी की। इंडियन नेटवर्क फॉर मेमोरी स्टडीज (आईएनएमएस), इंटरनेशनल मेमोरी स्टडीज एसोसिएशन, एम्स्टर्डम के तत्वावधान में एशिया में क्षेत्र में पहला नेशनल नेटवर्क हैं। मेमोरी स्टडीज पर यह अंतरराष्ट्रीय कार्यशाला, एशिया में अपनी तरह की पहली, इंडियन नेटवर्क फॉर मेमोरी स्टडीज (आईएनएमएस) के आधिकारिक लॉन्च से पहले है।INMS का शुभारंभ IIT मद्रास में एक आभासी कार्यक्रम के माध्यम से जून 2021 के मध्य में होगा।अंतर्राष्ट्रीय स्मृति अध्ययन कार्यशाला भी एक आशाजनक मंच साबित हुई जो कश्मीर, उड़ीसा, मध्य प्रदेश, बिहार, केरल, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, गुजरात, दिल्ली, राजस्थान, झारखंड के शिक्षाविदों के साथ-साथ वारविक और लीड्स बेकेट विश्वविद्यालय, यूके विश्वविद्यालय के शिक्षाविदों को एक साथ लाया हैं।

नितिन राकेश और जेरी विंड ने जीता इंटरनेशनल बिजनेस बुक ऑफ द ईयर अवार्ड 2021

नितिन राकेश और जेरी विंड ने इंटरनेशनल बिजनेस बुक ऑफ द ईयर अवार्ड 2021 जीतकर इतिहास रच दिया है। लेखकों ने इस सप्ताह अपनी हाल ही में लॉन्च की गई पुस्तक "ट्रांसफॉर्मेशन इन टाइम्स ऑफ क्राइसिस" के लिए साल 2021 के लिए प्रतिष्ठित इंटरनेशनल बिजनेस बुक ऑफ द ईयर अवार्ड जीतकर इतिहास रच दिया हैं, इसे Notion Press द्वारा प्रकाशित किया गया। टाइम्स ऑफ क्राइसिस में उनकी पुस्तक ट्रांसफॉर्मेशन उद्यमियों और व्यापार मालिकों को वो जानकरी देती है जो संकट में भी उनके व्यवसाय को फलने-फूलने में मदद कर सकती है।

बिल गेट्स और यूरोपीय संघ ने ग्रीन टेक्नोलॉजी के लिए 1 बिलियन डॉलर जुटाने की जताई प्रतिबद्धता

यूरोपीय संघ और बिल गेट्स द्वारा स्थापित एक ऊर्जा निवेश कार्यक्रम ने कम कार्बन प्रौद्योगिकियों को रोल आउट करने के लिए 1 बिलियन डॉलर तक की राशि जुटाने की योजना बनाई है, यूरोप ने जलवायु परिवर्तन लक्ष्यों को पूरा करने के लिए ये कदम उठाया है। साझेदारी में गेट्स द्वारा स्थापित ब्रेकथ्रू एनर्जी यूरोपीय संघ द्वारा प्रदान की गई फंडिंग से मिलाने के लिए निजी पूंजी और परोपकारी धन का उपयोग करेगी। इसका लक्ष्य 2022 से 2026 तक 820 मिलियन यूरो, या 1 बिलियन डॉलर तक की राशि प्रदान करना है। यह समर्थन अक्षय ऊर्जा, टिकाऊ विमानन ईंधन, वातावरण से CO2 सोखने के लिए प्रौद्योगिकी, और लंबी अवधि के ऊर्जा भंडारण से उत्पादित हाइड्रोजन को लक्षित करेगा। साथ ही उन प्रौद्योगिकियों को भारी उद्योग और विमानन जैसे क्षेत्रों से उत्सर्जन को कम करने के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है, लेकिन समर्थन के बिना जो बड़े पैमाने पर और सस्ते जीवाश्म ईंधन विकल्पों के साथ प्रतिस्पर्धा करने के लिए बहुत महंगा है।

हीडलबर्ग सीमेंट ने बनाई स्वीडन में दुनिया के पहले CO2 न्यूट्रल सीमेंट प्लांट की योजना

दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी सीमेंट निर्माता, हीडलबर्ग सीमेंट (HeidelbergCement), कार्बन कैप्चर तकनीक के माध्यम से 2030 तक स्लाइट में अपनी स्वीडिश फैक्ट्री को दुनिया के पहले CO2-न्यूट्रल सीमेंट प्लांट में बदलने की योजना बना रही है। इस नियोजित रेट्रोफिट के बाद, जिसकी लागत कम से कम 100 मिलियन यूरो (122 मिलियन डॉलर) होगी, संयंत्र प्रति वर्ष 1.8 मिलियन टन कार्बन डाइऑक्साइड को कैप्चर करने में सक्षम होगा।

भारत में वन और वृक्ष क्षेत्र बढ़कर आठ लाख वर्ग किलोमीटर से अधिक हुआ

केन्‍द्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि भारत उन कुछ देशों में शामिल है जहां पिछले दशक में वन क्षेत्र वास्‍तव में बढ़ा है। विश्‍व पर्यावरण दिवस पर श्री जावड़ेकर ने कहा कि देश में वन और वृक्ष क्षेत्र 24 दशमलव पांच-छह प्रतिशत भाग तक पहुंच गया है। यह कुल भौगोलिक क्षेत्र के आठ लाख वर्ग किलोमीटर तक फैल गया है। उन्होंने कहा कि भारत में पिछले छह वर्षों में वन और वृक्ष क्षेत्र 15 हजार वर्ग किलोमीटर बढ़ा है। केंद्रीय पर्यावरण मंत्री ने कहा कि भारत में समृद्ध वन्य जीव और जैव विविधता है। उन्होंने कहा कि इस समय दुनिया के 70 प्रतिशत बाघ और एशियाई शेर तथा 60 प्रतिशत चीते भारत में हैं। उन्होंने कहा कि पिछले सात वर्षों में बाघों की संख्या में लगातार वृद्धि वन्यजीव और पर्यावरण संरक्षण को लेकर सरकार की प्रतिबद्धता दर्शाती है।

दिल्ली उच्च न्यायालय ने देश में 5जी वायरलेस नेटवर्क स्थापित करने के खिलाफ अभिनेत्री जूही चावला की याचिका खारिज की

दिल्ली उच्च न्यायालय ने देश में 5जी वायरलेस नेटवर्क स्थापित करने के विरोध में अभिनेत्री जूही चावला और दो अन्य की याचिका खारिज कर दी है। न्यायमूर्ति जे.आर. मीधा ने कानूनी प्रक्रिया का दुरुपयोग करने के आरोप में, 20 लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया है। न्यायमूर्ति मीधा ने कहा कि जूही चावला और दो अन्य द्वारा दायर याचिका दोषपूर्ण है क्योंकि इसमें व्यक्त आशंकाओं के प्रमाण नहीं हैं। जूही चावला और दो अन्‍य ने अपनी याचिका में दावा किया था कि 5जी वायरलेस तकनीक से अपूरणीय क्षति हो सकती है और इससे पृथ्‍वी की पारिस्थितिकी को भी स्थायी नुकसान पहुंच सकता है।

राजस्‍थान में बीकानेर जिला प्रशासन की ऑक्‍सीजन संकट के दौरान इसके बेहतर उपयोग के लिए ऑक्‍सीजन मित्र पहल

राजस्‍थान में बीकानेर जिला प्रशासन ने कुछ दिन पहले ऑक्‍सीजन संकट के दौरान इसके बेहतर उपयोग के लिए अनूठी पहल की है। जिला प्रशासन ने ऑक्‍सीजन के अधिकतम इस्‍तेमाल करने और नुकसान को रोकने के लिए जिले के प्रत्‍येक कोविड केन्‍द्र ऑक्‍सीजन मित्र तैनात किया। इस पहल से प्रतिदिन एक सौ से अधिक ऑक्‍सीजन सिलेंडर की बचत की गई थी।

FIH विश्व रैंकिंग: भारतीय पुरुष टीम चौथे स्थान पर बरकरार

हॉकी में, भारतीय पुरुष टीम ने अपना चौथा स्थान बनाए रखा जबकि महिला टीम नवीनतम अंतर्राष्ट्रीय हॉकी महासंघ विश्व रैंकिंग में नौवें स्थान पर रही। अप्रैल और मई में ग्रेट ब्रिटेन, स्पेन और जर्मनी में FIH हॉकी प्रो-लीग श्रृंखला के यूरोपीय लेग को हारने के बावजूद, भारतीय पुरुष टीम ने अपना चौथा स्थान बनाए रखा। strong>बेल्जियम, मौजूदा विश्व और यूरोपीय चैंपियन तालिका में शीर्ष पर हैं, इसके बाद 2019 FIH हॉकी प्रो-लीग विजेता, ऑस्ट्रेलिया का स्थान है। नीदरलैंड की महिला टीम शीर्ष पर है जबकि अर्जेंटीना दूसरे स्थान पर है।

नोवाक जोकोविच ने बेलग्रेड ओपन में जीता अपने करियर 83वां खिताब

वर्ल्ड के नंबर 1 खिलाड़ी नोवाक जोकोविच ने बेलग्रेड ओपन में अपने घरेलू मैदान पर जीत के साथ अपने करियर का 83वां खिताब अपने नाम किया। सर्बियाई सुपरस्टार ने नोवाक टेनिस सेंटर में स्लोवाकियाई क्वालीफायर और पहली बार ATP टूर फाइनलिस्ट एलेक्स मोल्कन को 88 मिनट में 6-4, 6-3 से हराने के लिए अपना खेल बदलने से पहले पहले सेट में तीन बार अपनी सर्विस गंवाई थी।

विश्व पर्यावरण दिवस

हर साल 5 जून को विश्व स्तर पर World Environment Day यानि विश्व पर्यावरण दिवस के रूप में मनाया जाता है। प्रकृति के महत्‍व के प्रति लोगों को जागरूक बनाने के लिए यह संयुक्‍त राष्‍ट्र का सबसे बड़ा वार्षिक आयोजन होता है। संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा ने 1972 में स्‍टॉकहोम सम्‍मेलन में विश्‍व पर्यावरण दिवस मनाने की घोषणा की थी। हालांकि, पहली बार इस दिवस का आयोजन 1974 में किया गया। इस वर्ष के विश्‍व पर्यावरण दिवस का विषय है-- पुनर्चिंतन, पुनर्सृजन और पुनर्स्‍थापना(Reimagine, Recreate, Restore)। इसी वर्ष संयुक्‍त राष्‍ट्र के पारितंत्र पुनर्स्‍थापना दशक की भी शुरूआत हो रही है। प्रतिवर्ष विश्‍व पर्यावरण दिवस की मेजबानी अलग-अलग देशों द्वारा की जाती है। इस वर्ष यह मेजबानी पाकिस्‍तान कर रहा है।

इंटरनेशनल डे फॉर द फाइट अगेंस्ट इललीगल, अनरिपोर्टेड एंड अनरेगुलेटेड फिशिंग: 5 जून

हर साल 5 जून को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर International Day for the Fight against Illegal, Unreported and Unregulated Fishing यानि अवैध, गैर-रिपोर्टेसूचित और अनियमित मत्स्य पालन के खिलाफ लड़ाई का अंतर्राष्ट्रीय दिवस मनाया जाता है। संयुक्त राष्ट्र के खाद्य और कृषि संगठन (Food and Agriculture Organization) के अनुसार, अवैध, गैर-सूचित और अनियमित मछली पकड़ने की गतिविधियां हर साल 11-26 मिलियन टन मछली के नुकसान के लिए जिम्मेदार हैं, जिसका अनुमानित आर्थिक मूल्य 10-23 बिलियन अमेरिकी डॉलर है। FAO के भूमध्यसागरीय क्षेत्र के लिए सामान्य मत्स्य आयोग ने 2015 में, अवैध, गैर-रिपोर्टेड और अनियमित मत्स्य पालन के खिलाफ लड़ाई के लिए एक अंतर्राष्ट्रीय दिवस घोषित करने के लिए एक पहल शुरू करने के लिए एक प्रस्ताव किया। व्यापक विचार-विमर्श के बाद, मत्स्य पालन पर एफएओ समिति के बत्तीसवें सत्र के ध्यान में एक प्रस्ताव प्रस्तुत किया गया था। दिसंबर 2017 में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने स्थायी मत्स्य पालन पर अपने वार्षिक प्रस्ताव में 5 जून को "अवैध, गैर-रिपोर्टेड और अनियमित मत्स्य पालन के खिलाफ लड़ाई के लिए अंतर्राष्ट्रीय दिवस" ​​के रूप में घोषित किया।

असमिया साहित्यकार लक्ष्मीनंदन बोरा का निधन

पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित प्रसिद्ध असमिया साहित्यकार लक्ष्मीनंदन बोरा का 89 वर्ष की आयु में निधन हो गया है। असमिया भाषा में एक प्रशंसित उपन्यासकार और लघु कथाकार, लक्ष्मीनंदन बोरा ने ‘पाताल भैरवी’ और ‘कायाकल्प’ सहित 60 से अधिक पुस्तकों की रचना की। जून 1932 में असम के कुदिजाह गाँव में जन्मे लक्ष्मी नंदन बोरा ने अपनी स्कूली शिक्षा ‘नागाँव हाई स्कूल’ से की और कॉटन कॉलेज स्टेट यूनिवर्सिटी, गुवाहाटी से भौतिकी में स्नातक की शिक्षा प्राप्त की। लक्ष्मी नंदन बोरा की पहली लघु कहानी ‘भाओना’ वर्ष 1954 में असमिया पत्रिका ‘रामधेनु’ में प्रकाशित हुई थी। ‘दृष्टिरूप’ उनकी पहली पुस्तक है, जो वर्ष 1958 में प्रकाशित हुई थी। उन्होंने वर्ष 1963 में अपना पहला उपन्यास ‘गोंगा सिलोनिर पाखी’ प्रकाशित किया था। पाताल भैरवी के लिये लक्ष्मीनंदन बोरा ने वर्ष 1988 में साहित्य अकादमी पुरस्कार जीता। वर्ष 2008 में उन्होंने ‘कायाकल्प’ प्रकाशित किया, जिसके लिये उन्हें केके बिड़ला फाउंडेशन द्वारा ‘सरस्वती सम्मान’ से सम्मानित किया गया। लक्ष्मीनंदन बोरा को भारत सरकार द्वारा साहित्य के क्षेत्र में उनके योगदान को देखते हुए वर्ष 2015 में पद्मश्री से भी सम्मानित किया गया था।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.