Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

10 June 2021

असम रत्न पुरस्कार की स्थापना करने का निर्णय

असम कैबिनेट ने समाज में महत्त्वपूर्ण योगदान देने वाले एक नागरिक को प्रतिवर्ष सम्मानित करने हेतु 'असम रत्न' पुरस्कार की स्थापना करने का निर्णय लिया है। इसके अलावा कैबिनेट ने प्रतिवर्ष तीन लोगों को 'असम विभूषण', पाँच लोगों को 'असम भूषण' और 10 लोगों को 'असम श्री' देने का भी निर्णय लिया है। पुरस्कारों के साथ क्रमशः 5 लाख रुपए, 3 लाख रुपए, 2 लाख रुपए और 1 लाख रुपए का नकद पुरस्कार भी दिया जाएगा, साथ ही गंभीर बीमारी के मुफ्त चिकित्सा उपचार, असम भवनों में मुफ्त प्रवास, एएसटीसी बसों में मुफ्त यात्रा जैसे अन्य लाभ भी प्रदान किये जाएंगे। ज्ञात हो कि वर्तमान में असम में ‘असम रत्न’ पुरस्कार पहले से ही स्थापित है और इसे प्रत्येक तीन वर्ष में एक बार दिया जाता है, लेकिन अब यह वर्ष 2021 से प्रतिवर्ष प्रदान किया जाएगा।

विश्व बैंक ने Global Economic Prospects Update जारी की

विश्व बैंक ने हाल ही में Global Economic Prospects Update जारी की। इस अपडेट के अनुसार, 2021 में वैश्विक अर्थव्यवस्था के 5.6% का बढ़ने की उम्मीद है। कुछ प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं से मजबूत रिबाउंड के कारण यह 80 वर्षों में सबसे तेज मंदी के बाद की गति होगी। इस अपडेट के अनुसार, कई उभरते बाजार और विकासशील अर्थव्यवस्थाएं COVID-19 महामारी और उसके बाद के संकट से जूझ रही हैं।वैश्विक सुधार के संकेत हैं लेकिन कोविड-19 महामारी विकासशील देशों में लोगों के बीच गरीबी और असमानता को बढ़ा रही है।दो-तिहाई उभरते बाजार और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं के लिए 2022 तक प्रति व्यक्ति आय के नुकसान की भरपाई नहीं होगी।कम आय वाली अर्थव्यवस्थाओं में, महामारी के प्रभाव ने गरीबी कम करने के लाभ को उलट दिया है और असुरक्षा को बढ़ा दिया है।बड़े पैमाने पर वित्तीय सहायता और महामारी प्रतिबंधों में ढील के कारण 2021 में अमेरिकी विकास दर 8% रहने का अनुमान है।चीन 5 प्रतिशत की दर से बढेगा।उभरते बाजार और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं का 2021 में 6% तक विस्तार होगा।कई देशों में COVID-19 मामलों के फिर से बढ़ने और टीकाकरण की प्रगति में देरी के कारण रिकवरी में देरी हो रही है।चीन के अलावा विकासशील देशों के समूह में रिबाउंड 4% होने की उम्मीद है।

पहली बार मानवरहित ड्रोन से भरा गया विमान में ईंधन

अमेरिकी नौसेना और बोइंग कंपनी ने संयुक्त प्रयास से मानवरहित ड्रोन से उड़ान के दौरान विमान में ईंधन भरने में सफलता प्राप्त की है। ऐसा पहली बार हुआ है। बोइंग कंपनी के मानवरहित ड्रोन एमक्यू-25 टी-1 ने नौसेना के एफ/ए -18 सुपर हार्नेट विमान में ईधन भरा।

अनूप चंद्र पांडेय नए चुनाव आयुक्त बने

उत्तर प्रदेश कैडर के पूर्व आइएएस अधिकारी अनूप चंद्र पांडेय को चुनाव आयुक्त नियुक्त किया गया। कानून मंत्रलय में विधायी विभाग ने कहा कि राष्ट्रपति ने 1984 बैच के सेवानिवृत्त भारतीय प्रशासनिक सेवा (आइएएस) के अधिकारी पांडेय को उनके पदभार ग्रहण करने की तारीख से चुनाव आयुक्त के रूप में नियुक्त करने का आदेश दिया है। पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा के पद छोड़ने के बाद तीन सदस्यीय पैनल में एक जगह जगह खाली थी। अरोड़ा ने 12 अप्रैल को मुख्य चुनाव आयुक्त (सीईसी) का पद छोड़ा था। वर्तमान में सुशील चंद्रा मुख्य चुनाव आयुक्त हैं, जबकि राजीव कुमार एक अन्य चुनाव आयुक्त हैं।

क्यूएस विश्वविद्यालय रैंकिंग में तीन भारतीय विश्वविद्यालयों ने शीर्ष दो सौ स्थानों में जगह बनाई

भारतीय विज्ञान संस्‍थान, बैंगलुरु को दुनिया के शीर्ष अनुसंधान संस्‍थानों में पहला स्थान दिया गया है। क्‍यूएस विश्‍वविद्यालय रैंकिंग 2022 में तीन भारतीय विश्‍वविद्यालयों ने शीर्ष दो सौ स्‍थान में जगह बनाई है। भारतीय विज्ञान संस्‍थान, बैंगलुरु को दुनिया के शीर्ष अनुसंधान संस्‍थानों में पहला स्थान दिया गया है। उच्‍च शिक्षा की विश्‍लेषण करने वाली वैश्विक संस्‍था क्‍वैकक्‍वेरेली साइमंड्स ने दुनियाभर के अंतर्राष्‍ट्रीय विश्‍वविद्यालयों की रैंकिंग का 18वां संस्‍करण जारी किया है। विश्‍वविद्यालय रैंकिंग में आई.आई.टी. बॉम्‍बे 177वें स्‍थान पर है जबकि आई.आई.टी. दिल्‍ली को 185वां स्‍थान दिया गया है। वहीं भारतीय विज्ञान संस्‍थान, बैंगलुरु 186वें स्‍थान पर है।

इसरो पूर्वोत्तर राज्यों में विकास परियोजनाओं में अंतरिक्ष तकनीक के माध्यम से सहयोग करेगा

केन्‍द्रीय मंत्री डॉ. जितेन्‍द्र सिंह ने कहा कि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन- इसरो पूर्वोत्‍तर राज्‍यों में अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी के माध्‍यम से विकास योजनाओं में सहायता प्रदान करेगा। उन्‍होंने कहा कि अंतरिक्ष से ली गई तस्‍वीरों के सटीक उपयोग और अन्‍य अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी सेवाओं के सहारे इसरो पूर्वोत्‍तर के सभी आठ राज्‍यों में ढांचागत परियोजनाओं के बेहतर कार्यान्‍वयन में भूमिका निभाएगा। पूर्वोत्‍तर क्षेत्र के विकास से जुड़े मंत्रालय के वरिष्‍ठ अधिकारियों और इसरो के वैज्ञानिकों के साथ एक उच्‍चस्‍तरीय बैठक की अध्‍यक्षता करते हुए डॉ. सिंह ने कहा कि पूर्वोत्‍तर के आठ में से छह राज्‍यों ने इसरो को अपना विशेष प्रस्‍ताव भेज दिया है। सिक्किम और असम भी जल्‍द ही अपना प्रस्‍ताव भेज देंगे। डॉ. सिंह ने बताया कि इसरो ने पूर्वोत्‍तर के आठ राज्‍यों के दो सौ 21 स्‍थानों पर 67 परियोजनाओं की निगरानी और जियो टैगिंग शुरू कर दी है। यह देश में पहली बार है, जब इसरो विकास से जुड़ी परियोजनाओं में शामिल हुआ है।

मंत्रिमंडल ने भारतीय रेल को रेल परिचालन में संरक्षा और सुरक्षा को बढाने के लिए 700 मेगाहर्ट्ज फ्रीक्वेंसी बैंड में 5 मेगाहर्ट्ज़ स्पेक्ट्रम के आवंटन को मंजूरी दी

आत्मनिर्भर भारत’ मिशन को बढ़ावा देत हुए प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भारतीय रेल (आईआर) को स्टेशन परिसर एवं रेलगाड़ियों में सार्वजनिक बचाव व सुरक्षा सेवाओं के लिए 700 मेगाहर्ट्ज फ्रीक्वेंसी बैंड में 5 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम के आवंटन संबंधी प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। इस स्पेक्ट्रम के साथ ही भारतीय रेल ने अपने मार्ग पर एलटीई (लॉन्ग टर्म इवोल्यूशन) आधारित मोबाइल ट्रेन रेडियो संचार प्रदान करने की परिकल्पना की है। परियोजना में अनुमानित निवेश 25,000 करोड़ रुपये से अधिक है। यह परियोजना अगले पांच साल में पूरी होगी। इसके अलावा, भारतीय रेल ने स्वदेशी रूप से विकसित ट्रेन कोलिजन अवॉइडेंस सिस्टम को मंजूरी दी है जो रेलगाड़ी को टक्कर से बचने में मदद करेगा और इससे यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित होगी। रेलवे के लिए एलटीई का उद्देश्य परिचालन और सुरक्षा सुविधाओं के लिए सुरक्षित तथा विश्वसनीय आवाज, वीडियो और डेटा संचार सेवाएं प्रदान करना है। इसका उपयोग आधुनिक सिग्नल संचालन और ट्रेन सुरक्षा प्रणालियों के लिए किया जाएगा तथा लोको पायलटों और गार्डों के बीच निर्बाध संचार को सुनिश्चित किया जाएगा।

वेयान बना 100% वयस्क आबादी का टीकाकरण करने वाला भारत का पहला गांव

जम्मू और कश्मीर के बांदीपोरा जिले का एक सुदूर गाँव वेयान (Weyan), COVID-19 के खिलाफ अपनी सभी वयस्क आबादी का टीकाकरण करने वाला भारत का पहला गाँव बन गया है। गांव में यह सफल टीकाकरण अभियान स्वास्थ्य कर्मियों का परिणाम था। बांदीपोरा जिले से 28 किलोमीटर दूर स्थित इस गांव की वयस्क आबादी 362 है। गांव में पैदल चलने के लिए 18 किलोमीटर की दूरी तय करनी पड़ती है क्योंकि कोई मोटर योग्य सड़क नहीं है। इस गांव को ‘जम्मू और कश्मीर मॉडल’ के तहत कवर किया गया था, जो पूरी आबादी का टीकाकरण करने के लिए 10 सूत्री रणनीति है। इस मॉडल के तहत, पहली रणनीति बूथ-स्तरीय प्रबंधन है जिसमें पात्र जनसंख्या सूची तैयार करना शामिल है। इसके बाद “वैक्सीन ऑन व्हील्स” है जिसके तहत स्वास्थ्य अधिकारी दूर-दराज के क्षेत्रों में लोगों को टीकाकरण के लिए पहुंचते हैं।

असम सरकार ने रायमोना और देहिंग पटकाई उदयानों को राष्‍ट्रीय वन्य जीव प्राणी उद्यान घोषित किया।

असम सरकार ने रायमोना और देहिंग पटकाई उदयानों को राष्‍ट्रीय वन्य जीव प्राणी उद्यान घोषित किया है। इस आशय की अधिसूचना जारी कर दी गई है। देहिंग पटकाई राष्‍ट्रीय उद्यान ऊपरी असम और रायमोना राष्‍ट्रीय उद्यान बोडोलैण्‍ड टेरिटोरियल रीजन में स्थित है। इन दोनों पार्को को राष्‍ट्रीय उद्यान घोषित किये जाने के बाद राज्‍य में राष्‍ट्रीय उद्यानों की संख्‍या सात हो गई है। इन पार्कों में वन्‍य प्राणियों के संरक्षण को बढावा देने की प्रक्रिया को तेज किया जाएगा और पर्यटन क्षेत्र को भी इसका लाभ मिलेगा। राज्य के अन्य पाँच राष्ट्रीय उद्यानों में शामिल हैं- काजीरंगा, मानस, नामेरी, ओरंग और डिब्रू-सैखोवा

भारत-थाईलैंड समन्वित गश्त (कॉर्पेट)

भारतीय नौसेना और रॉयल थाई नौसेना के बीच भारत-थाईलैंड समन्वित गश्त (इंडो-थाई कॉर्पेट) का 31 वां संस्करण दिनांक 09 से 11 जून 2021 के बीच आयोजित किया जा रहा है। भारतीय नौसेना का स्वदेशी निर्मित नौसैनिक अपतटीय गश्ती पोत जहाज (आईएनएस) सरयू एवं थाईलैंड का अपतटीय गश्ती पोत हिज मजेस्टीस थाइलैंड शिप (एचटीएमएस) कर्बी तथा दोनों नौसेनाओं के डोर्नियर समुद्री गश्ती विमान- कॉर्पेट में भाग ले रहे हैं।

पश्चिमी बंगाल और बिहार से बहरीन को आम की 3 जीआई(भौगोलिक सूचक) प्रमाणित सहित 16 प्रजातियों का निर्यात

देश के पूर्वी क्षेत्र से आम के निर्यात की सम्भावनाओं को एक बड़े समर्थन के रूप में पश्चिम बंगाल और बिहार से बहरीन के लिए आम की 16 प्रजातियों का निर्यात शुरू किया जारहा है इसमें से तीन प्रजातियाँ (किस्में)- खिर्सापति और लक्ष्मणभोग (पश्चिम बंगाल) और जरदालू (बिहार) भौगोलिक सूचक (जीआई) प्रमाणित हैं इन फलों को वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के अंतर्गत कृषि एवं प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एपीईडीए) से पंजीकृत निर्यातक –डीएम एन्टरप्राइज ने बंगाल और बिहार के किसानों से प्राप्त किया है और इन्हें अल जजीरा ग्रुप, बहरीन ने आयात किया है

MIT ने कार्बन नैनोट्यूब से बिजली उत्पन्न की

MIT (Massachusetts Institute of Technology) के इंजीनियरों ने कार्बन नैनोट्यूब का उपयोग करके बिजली पैदा करने का एक नया तरीका खोजा है। कार्बन नैनोट्यूब से बनी एक नई सामग्री में अपने पर्यावरण से ऊर्जा एकत्र करके बिजली पैदा करने की क्षमता है। ये सूक्ष्म कार्बन कण अपने चारों ओर तरल के साथ क्रिया करके करंट बना सकते हैं। तरल, एक कार्बनिक विलायक, नैनोकणों से इलेक्ट्रॉनों को आकर्षित करता है, जो करंट उत्पन्न करता है।इस करंट का उपयोग रासायनिक प्रतिक्रियाओं को चलाने के लिए या सूक्ष्म या नैनोस्केल रोबोट को शक्ति देने के लिए किया जा सकता है।इस विद्युत प्रवाह का उपयोग अल्कोहल ऑक्सीकरण के रूप में जानी जाने वाली प्रतिक्रिया को चलाने के लिए भी किया जा सकता है।

सीएसआईआर-आईआईसीटी ने 2-डीऑक्सी-डी-ग्लूकोज के संश्लेषण के लिए ली फार्मा लिमिटेड को प्रक्रिया जानकारी का लाइसेंस दिया

सीएसआईआर की अंगीभूत प्रयोगशाला इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ केमिकल टेक्नोलॉजी (आईआईसीटी) और हैदराबाद की एकीकृत दवा कंपनी ली फार्मा ने 2-डीऑक्सी-डी-ग्लूकोज के संश्लेषण के लिए गैर-विशिष्ट लाइलेंसिंग समझौता कियाहै। डीआरडीओ तथा डॉ. रेड्डीज लेबोरेटरीज द्वारा विकसित 2-डीजी को कोविड-19 रोगियों में इस्तेमाल के लिए हाल ही में अनुमति मिली है। इसे कोविड-19 पीड़ितों के तेजी से ठीक होने में उपयोगी पाया गया है और और डॉ. रेड्डीज लेबोरेटरिज ने इस दवा को सैशे में लांच किया है। ली फार्मा आंध्र प्रदेश स्थित अपनी फॉर्मुलेशन सुविधा एसईजेड, डुववडा, विशाखापत्तनम में इसे बनाएगी और इसका व्यावसायीकरण करेगी। यहफॉर्मुलेशन सुविधा वैश्विक नियामक एजेंसियों से मान्य है।

किसानों को "मांग आधारित टेली कृषि सलाह” प्रदान करने के लिए डिजिटल इंडिया कॉर्पोरेशन और भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद ने समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

किसानों को स्थान विशिष्ट 'मांग आधारित टेली कृषि सलाह' देने के लिए, कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (आईसीएआर) और इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के डिजिटल इंडिया कॉरपोरेशन (डीआईसी) ने एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं। यह हस्ताक्षर 9 जून 2021 को नई दिल्ली के कृषि भवन में किये गये। एमओयू का उद्देश्य डीआईसी के मौजूदा इंटरएक्टिव इंफॉर्मेशन डिसेमिनेशन सिस्टम (आईआईडीएस) प्लेटफॉर्म को आईसीएआर के प्रस्तावित किसान सारथी कार्यक्रम के साथ एकीकृत करना और आईसीएआर नेटवर्क के माध्यम से उसे लागू कर देश भर में बड़ी संख्या में किसानों तक पहुंचाना है।

अल सल्वाडोर बिटकॉइन को कानूनी रूप से वैध मुद्रा के रूप में अपनाने वाला पहला देश बना

अल सल्वाडोर (El Salvador) औपचारिक रूप से बिटकॉइन (Bitcoin) को कानूनी रूप से वैध मुद्रा के रूप में अपनाने वाला पहला देश बन गया है। बिटकॉइन को वैध बनाने का प्रस्ताव राष्ट्रपति नायब बुकेले (Nayib Bukele) द्वारा रखा गया था, जिसे बाद में कांग्रेस द्वारा मंज़ूरी दी गयी। हालाँकि अल साल्वाडोर के अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के साथ $1 बिलियन के कार्यक्रम पर क्रिप्टोकरेंसी को वैध बनाने के संभावित प्रभाव के बारे में चिंता थी, परन्तु यह प्रस्ताव 84 वोटों में से 62 के बहुमत के साथ पारित किया गया। बिटकॉइन की सहायता से विदेशों में रहने वाले सल्वाडोर के नागरिक, प्रेषण (remittance) को आसानी से घर भेज सकते हैं, इसे देखते हुए बिटकॉइन को कानूनी मुद्रा के रूप में मंज़ूरी दी गयी है। अमेरिकी डॉलर भी अल सल्वाडोर में कानूनी मुद्रा के रूप में जारी रहेगा।

इसरो (ISRO) ने 3 वेंटिलेटर विकसित किए

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र (VSSC) ने तीन प्रकार के लागत प्रभावी (cost-effective) वेंटिलेटर और एक ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर विकसित किया है। इन 3 वेंटिलेटर को प्राण, वायु और स्वस्थ नाम दिया गया है जबकि ऑक्सीजन सिलेंडर का नाम ‘श्वास’ (Shwaas) रखा गया है। यह तीनों यूजर्स के अनुकूल हैं और टच-स्क्रीन विनिर्देशों के साथ पूरी तरह से ऑटोमेटेड हैं। यह सभी सुरक्षा मानकों को पूरा करते हैं। VSSC इन तीन वेंटिलेटर और एक ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर के व्यावसायिक उत्पादन के लिए प्रौद्योगिकी हस्तांतरित करेगा। मिनी पारंपरिक वेंटिलेटर की तुलना में इस वेंटिलेटर की कीमत लगभग ₹1 लाख होने की संभावना है, मिनी पारंपरिक वेंटिलेटर की कीमत लगभग ₹5 लाख है।

दिव्यांग बच्चों के लिए ई-सामग्री विकसित करने के लिए दिशानिर्देशों को मंजूरी

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने समावेशी शिक्षा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से दिव्यांग बच्चों के लिए ई-सामग्री विकसित करने के लिए दिशानिर्देशों को मंजूरी दी। पीएम ई-विद्या कार्यक्रम 17 मई, 2020 को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा COVID-19 राहत उपायों के रूप में लांच किया गया था। इस कार्यक्रम के तहत, विशेषज्ञ समिति ने दिव्यांगों या विकलांग बच्चों के लिए सुलभ विशेष ई-सामग्री (e-content) बनाने पर विस्तृत सिफारिशें की हैं। इस समिति ने ‘Guidelines for the Development of e-Content for Children with Disabilities’ नामक रिपोर्ट प्रस्तुत की।इसमें दृष्टिबाधित (visually-impaired) और श्रवण बाधित (hearing-impaired) छात्रों के लिए ई-सामग्री बनाने पर 11 सेक्शन और दो परिशिष्ट (appendices) हैं।इस रिपोर्ट ने रेडियो, सामुदायिक रेडियो और पॉडकास्ट के व्यापक उपयोग पर विशेष जोर दिया।यह क्यूआर-कोडेड डिजिटल पाठ्यपुस्तकों को अपलोड करने की भी सिफारिश करती है।सामग्री को “अंतर्राष्ट्रीय पहुंच मानकों” का पालन करना चाहिए।सामग्री को कई प्रारूपों में प्रदान किया जाना चाहिए जैसे टेक्स्ट, वीडियो, ऑडियो, साइन लैंग्वेज टर्न-ऑन और टर्न-ऑफ सुविधाओं के साथ।दीक्षा (DIKSHA) और ई-पाठशाला जैसे ई-लर्निंग प्लेटफॉर्म को तकनीकी मानकों का पालन करना चाहिए।इंटरनेट पर अतिरिक्त जानकारी तक पहुंचने के लिए सामग्री को वर्णनात्मक हाइपरलिंक के साथ प्रदान किया जाना चाहिए।

क्रिसिल (CRISIL) ने भारत के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) का अनुमान 11% से घटाकर 9.5% किया

रेटिंग एजेंसी क्रिसिल (CRISIL) ने वित्त वर्ष 2021-2022 के लिए भारत के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) के विकास के अनुमान को 11% से घटाकर 9.5% कर दिया है। इससे स्पष्ट होता है कि दूसरी कोविड -19 लहर ने निजी खपत और निवेश को प्रभावित किया है। इसने स्वतंत्रता के बाद से भारतीय अर्थव्यवस्था को सबसे गंभीर संकुचन में डाल दिया है। क्रिसिल के अनुसार दूसरी कोविड -19 लहर ने राज्यों को लॉकडाउन करने के लिए मजबूर किया, जिससे 2021 में उपभोक्ता और व्यावसायिक विश्वास फिर से प्रभावित हुआ है।इस रिपोर्ट में तीसरी लहर और टीकाकरण के बारे में बताया गया है और इस पर प्रकाश डाला गया है; राज्य पूरी तरह से अनलॉक करने से हिचकिचाएंगे।यह बदले में अर्थव्यवस्था को प्रभावित करता है।इसके अनुसार, कोविड -19 प्रतिबंध जारी रहेगा और अगस्त 2021 तक किसी न किसी रूप में गतिशीलता प्रभावित होगी।इस रिपोर्ट ने आर्थिक सुधार में टीकाकरण के महत्व पर प्रकाश डाला है।

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) ने 7 करोड़ पंजीकृत यूजर्स का आंकड़ा पार किया

हाल ही में BSE ने 7 करोड़ पंजीकृत यूजर्स का आंकड़ा पार किया। गौरतलब है कि 6 करोड़ से 7 करोड़ यूजर्स तक पहुँचने में BSE को मात्र 139 दिन लगे। जबकि BSE को 5 करोड़ से 6 करोड़ यूजर्स तक पहुँचने में 241 दिन लगे थे। इन नए यूजर्स में से 82 लाख लोग 20 से 40 साल के थे। पिछले वर्ष लॉकडाउन की घोषणा के बाद शेयर मार्केट में भारी गिरावट आई थी। जिसके बाद काफी सारे नए लोगों ने शेयर मार्केट में निवेश शुरू किया। जिसके चलते BSE के यूजर्स में भारी वृद्धि हुई।BSE के 7 करोड़ यूजर्स में से 38% लोग 30-40 आयु वर्ग के हैं, जबकि 24% लोग 20-30 आयु वर्ग के हैं।

विश्व रोजगार और सामाजिक आउटलुक 2021

World Employment and Social Outlook 2021 के अनुसार, 2019 में 187 मिलियन की तुलना में 2022 में वैश्विक बेरोजगारी बढ़कर 205 मिलियन होने की उम्मीद है। कोविड-19 ने असमानताओं को और बढ़ा दिया है क्योंकि महिलाएं श्रमिक श्रम शक्ति से बाहर हो रही हैं। लैंगिक समानता हासिल करने के लिए वर्षों की प्रगति अब जोखिम में है। अनौपचारिक और कम कुशल श्रमिकों के पास घर से काम करने का कोई विकल्प नहीं है। उन्हें अपनी नौकरी बनाए रखने के लिए भारी स्वास्थ्य जोखिमों का सामना करना पड़ रहा है। 108 मिलियन श्रमिक और उनके परिवार के सदस्य अब गरीबी में जी रहे हैं। व्यापार बाधित आपूर्ति श्रृंखलाओं, प्रेषण सिकुड़ने और पर्यटन में ठहराव के कारण महामारी ने अफ्रीकी देशों को बुरी तरह से प्रभावित किया है। कोविड-19 ने अफ्रीका में गरीबी कम करने में हुई प्रगति को उलट दिया है।

WHO ने अधिक कीमत वाले टीकों के खिलाफ चेतावनी दी

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने देशों को अत्यधिक कीमत वाले कोविड-19 टीकों के खिलाफ चेतावनी दी है। WHO ने बिचौलियों से अधिक कीमत वाले टीके खरीदने के खतरे पर चिंता के बाद यह चेतावनी दी। WHO ने देशों को याद दिलाया कि, देशों को WHO द्वारा प्रमाणित टीके खरीदने चाहिए और टीकों और कोविड उत्पाद की उत्पत्ति की पहचान सुनिश्चित करनी चाहिए। मध्यवर्ती एक वैक्सीन को निर्माताओं द्वारा वास्तव में बेचे जाने की तुलना में बहुत अधिक कीमत पर बेच रहे थे। संयुक्त अरब अमीरात में एक बिचौलिए को घाना और पाकिस्तान को दोगुनी कीमत पर स्पुतनिक टीके बेचते हुए पकड़े जाने के बाद टीके खरीदने के लिए मध्यवर्ती की भूमिका का यह मुद्दा उठाया गया था। डब्ल्यूएचओ ने देशों को सलाह दी है कि या तो सीधे निर्माता से खरीदें या निर्माता से संपर्क करें ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि मध्यवर्ती कानूनी है या नहीं।

दिसंबर तक COVID-19 टीकों की 44 करोड़ खुराक उपलब्ध होंगी

भारत सरकार ने कोविड-19 टीकाकरण अभियान को और तेज़ी से चालू कर दिया है। इसके लिए भारत सरकार ने टीकों के लिए एक नया आर्डर दिया है। दिसंबर, 2021 तक कोविड-19 टीकों की 44 करोड़ खुराकें उपलब्ध होंगी। इन खुराकों में से कोविशील्ड (Covishield) की 25 करोड़ और कोवाक्सिन (Covaxin) की 19 करोड़ की खुराक की खरीद की जाएगी। गौरतलब है कि केंद्र सरकार 16 जनवरी, 2021 से एक प्रभावी टीकाकरण अभियान के लिए राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रयासों का समर्थन कर रही है। 1 मई को भारत की टीकाकरण रणनीति के चरण III की शुरुआत के साथ 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी वयस्कों के लिए टीकाकरण खोला गया था। देश भर में टीकाकरण अभियान को और अधिक सार्वभौमिक बनाने के उद्देश्य से, 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी नागरिक सरकारी स्वास्थ्य सुविधाओं पर COVID-19 वैक्सीन की खुराक मुफ्त में प्राप्त कर सकते हैं।टीकाकरण अभियान को गति देने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया को कोविशील्ड की 25 करोड़ खुराक और भारत बायोटेक को कोवाक्सिन की 19 करोड़ खुराक के लिए एक आर्डर दिया है।गौरतलब है कि दोनों COVID टीकों की खरीद के लिए एडवांस का 30% सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया और भारत बायोटेक को जारी किया गया है।

रूस बना रहा है अपना पहला स्टेल्थ नौसैनिक पोत

रूस अपना पहला नौसैनिक जहाज बना रहा है जो पूरी तरह से स्टेल्थ तकनीक से लैस होगा। स्टेल्थ तकनीक से इस पोत का पता लगाना कठिन हो जाएगा। मरकरी नेवल कार्वेट या प्रोजेक्ट 20386 का पतवार (hull) तैयार है और इस पोत को 2022 में नौसेना को दिए जाने की उम्मीद है।यह युद्धपोत क्रूज मिसाइलों, आर्टिलरी और विमान भेदी मिसाइलों से लैस होगा।यह पनडुब्बियों को खोजने और नष्ट करने में भी सक्षम होगा।रूस पहले ही कुछ नौसेना के जहाजों में रडार-अवशोषित कोटिंग (radar-absorbing coating) सहित स्टेल्थ तकनीक को शामिल कर चुका है।हालाँकि, उन जहाजों में पूर्ण स्टेल्थ तकनीक नहीं थी।मरकरी पोत में एक रडार-अवशोषित कोटिंग (radar-absorbing coating) और एक विशेष आकार शामिल होगा।इससे इसकी सतह पर उभार और दरारें कम हो जाएंगी।यह पोत मिश्रित सामग्री और विशेष पेंट का उपयोग करेगा।

EIU ने विश्व के रहने योग्य शहरों का वार्षिक सर्वेक्षण जारी किया

इकोनॉमिस्ट इंटेलिजेंस यूनिट (EIU) के दुनिया के रहने योग्य शहरों (World’s Most Liveable Cities) के वार्षिक सर्वेक्षण 2021 के अनुसार, कोविड-19 महामारी ने रहने योग्य शहरों की रैंकिंग को हिला दिया है। महामारी से निपटने में अपने सफल दृष्टिकोण के कारण ऑकलैंड 2021 में सबसे अच्छा रहने योग्य शहर है। इसके बाद जापान में ओसाका और टोक्यो, ऑस्ट्रेलिया में एडिलेड और न्यूजीलैंड में वेलिंगटन का स्थान है।इन सभी देशों में महामारी के विरुद्ध प्रतिक्रिया दी थी।इस रिपोर्ट के मुताबिक ऑस्ट्रेलिया, जापान और न्यूजीलैंड के महानगर यूरोप के महानगरों से आगे निकल रहे हैं।सीरिया में चल रहे गृहयुद्ध के कारण दमिश्क में जीवन सबसे कठिन बना हुआ है।सबसे उल्लेखनीय वृद्धि में होनोलूलू, हवाई द्वारा की गई थी।यह 46 पायदान ऊपर 14वें स्थान पर आ गया है। इसके रोकथाम के उपायों और तेजी से टीकाकरण कार्यक्रम के कारण इसकी रैंकिंग में सुधार हुआ।

निजी अस्पतालों के लिए कोविड-19 के टीके की कीमतें तय की गयी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने निजी अस्पतालों में कोविड-19 के टीके लगाने की कीमत तय कर दी है। Covaxin की अधिकतम कीमत 1,400 रुपये तय की गई थी। कोविशील्ड की कीमत 780 रुपये प्रति खुराक। स्पुतनिक वी वैक्सीन की कीमत 1,145 रुपये प्रति खुराक होगी। अधिक कीमत वसूलने वाले निजी टीकाकरण केंद्रों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा, सरकार 21 जून से 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी व्यक्तियों को टीका लगाने के लिए राज्यों को मुफ्त टीके उपलब्ध कराएगी।

अरुणाचल प्रदेश में एक साथ मोनाल की दो प्रजातियां पाई गयी

मध्य अरुणाचल प्रदेश के ऊपरी सियांग जिले में स्थानीय वन्यजीव उत्साही लोगों द्वारा मोनाल की दो प्रजातियों को एक साथ देखा गया। खोजी गई प्रजाति हिमालयन मोनाल है, इसे लोफोफोरस इम्पेजेनस (Lophophorus Impejanus) भी कहा जाता है। यह अफगानिस्तान से पूर्वोत्तर भारत में व्यापक रूप से पाया जाता है। जबकि, दूसरी प्रजाति स्क्लेटर मोनाल (Sclater’s Monal) है जिसे लोफोफोरस स्क्लेटेरी (Lophophorus Sclateri) भी कहा जाता है। यह दक्षिणी चीन और उत्तरी म्यांमार में पाया जाता है। इसे IUCN (International Union of Conservation of Nature) द्वारा असुरक्षित के रूप में सूचीबद्ध किया गया है। इसे कोमजी लिपिक (Komji Lipik) के पास 2,850 मीटर की ऊंचाई पर देखा गया।इन पक्षियों को समुद्र तल से 4,173 मीटर की ऊंचाई पर माउंट एको डंबिंग (Mount Eko Dumbing) पर देखा गया।

केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना- शहरी (PMAY-U) के तहत 3.61 लाख घरों के निर्माण को मंजूरी दी

केंद्रीय मंजूरी और निगरानी समिति (Central Sanctioning and Monitoring Committee – CSMS) की 54वीं बैठक के दौरान , केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना – शहरी (PMAY-U) के तहत 3.61 लाख घरों के निर्माण के लिए 708 प्रस्तावों को मंजूरी दी है। इस बैठक में 13 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने भाग लिया। इन सभी मकानों का निर्माण ‘लाभार्थी आधारित निर्माण’ और ‘साझेदारी कार्यक्षेत्र में किफायती आवास’ की तर्ज पर किया जाएगा। इस मिशन के तहत कुल निवेश 7.35 लाख करोड़ रुपये है जिसमें से केंद्र 1.81 लाख करोड़ रुपये की सहायता कर रहा है। अब तक 96,067 करोड़ की धनराशि जारी की जा चुकी है।

असम में दस नयी कमांडो बटालियन के गठन की घोषणा

असम के मुख्‍यमंत्री हेमंत बिस्‍व सरमा ने राज्‍य में दस नयी कमांडो बटालियन के गठन की आज घोषणा की। इसके लिए नियुक्ति की प्रक्रिया पुलिस विभाग द्वारा संचालित की जाएगी। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि कुछ भर्तियां इस वर्ष ही कर दी जाएंगी, जिससे पुलिस विभाग पर दबाव कम हो सके। श्री सरमा ने कहा कि उनकी सरकार राज्‍य में गायों की अवैध तस्‍करी पर कड़ी कार्रवाई करेगी। मुख्‍यमंत्री ने असम में अगले छह महीनों में सात नये फोरेंसिक जांच केन्‍द्रों की स्‍थापना की भी घोषणा की।

सुनील छेत्री ने अंतर्राष्ट्रीय गोल के मामले में लियोनेल मेसी को पछाड़ा

36 वर्षीय भारतीय फुटबॉल स्टार सुनील छेत्री (Sunil Chhetri) ने अर्जेंटीना के लियोनेल मेसी (Lionel Messi) को पीछे छोड़ दिया है और 74 गोल के साथ दूसरे सबसे अधिक सक्रिय अंतर्राष्ट्रीय गोल करने वाले खिलाड़ी बन गए हैं। सुनील छेत्री अब बार्सिलोना के स्टार मेसी से दो गोल से आगे हैं। यूएई के अली मबखौत 73 गोल के साथ तीसरे स्थान पर हैं। छेत्री ने 2022 फीफा विश्व कप और 2023 AFC एशियाई कप के लिए संयुक्त प्रारंभिक क्वालीफाइंग राउंड मैच में बांग्लादेश के खिलाफ यह उपलब्धि हासिल की।

विश्व प्रत्यायन दिवस

प्रतिवर्ष 09 जून को वैश्विक स्तर पर व्यापार एवं अर्थव्यवस्था में प्रत्यायन की भूमिका को रेखांकित करने एवं बढ़ावा देने के उद्देश्य से ‘विश्व प्रत्यायन दिवस’ का आयोजन किया जाता है। इस वर्ष ‘विश्व प्रत्यायन दिवस’ का विषय संयुक्त राष्ट्र सतत् विकास लक्ष्यों (SDG) के कार्यान्वयन के समर्थन में प्रत्यायन के उपयोग पर केंद्रित है। यह ‘अंतर्राष्ट्रीय प्रयोगशाला प्रत्यायन सहयोग’ (ILAC) और ‘अंतर्राष्ट्रीय प्रत्यायन फोरम’ (IAF) द्वारा स्थापित एक वैश्विक पहल है। भारत में प्रत्यापन संबंधी गतिविधियों की निगरानी ‘भारतीय गुणवत्ता परिषद’ (QCI) द्वारा की जाती है। भारत सरकार ने ‘भारतीय गुणवत्ता परिषद’ की स्थापना वर्ष 1997 में उद्योग संवर्द्धन एवं आंतरिक व्यापार विभाग के प्रशासनिक नियंत्रण के अधीन एक स्वायत्त निकाय के तौर पर की थी। इस संगठन की स्थापना प्रत्यायन निकायों के लिये राष्‍ट्रीय प्रत्‍यायन ढाँचे की स्थापना करने एवं उनके प्रचालन करने के अलावा शिक्षा, स्‍वास्‍थ्‍य तथा गुणवत्ता संवर्द्धन के क्षेत्र में प्रत्‍यायन उपलब्‍ध कराने के लिये की गई थी।

दक्षिण अफ्रीका में महात्मा गांधी की प्रपौत्री को सात साल की सजा

महात्मा गांधी की प्रपौत्री आशीष लता रामगोबिन को डरबन की एक अदालत ने 62 लाख रैंड (करीब 3.23 करोड़ रुपये) की धोखाधड़ी और जालसाजी के मामले में सात साल जेल की सजा सुनाई है। उन पर भारत से एक खेप लाने के लिए इंपोर्ट(आयात) और कस्टम ड्यूटी (सीमा शुल्क) को मैनेज करने के नाम पर व्यवसायी एसआर महाराज से 62 लाख रैंड हड़पने का आरोप था। इससे होने वाले लाभ को व्यवसायी के साथ बांटने का भी उन्होंने वादा किया था। डरबन विशेष आर्थिक अपराध अदालत ने उन्हें दोषसिद्धि और सजा दोनों के खिलाफ अपील करने की अनुमति देने से इन्कार कर दिया।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.