Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

25 June 2021

सदी के शीर्ष परोपकारी लोगों की पहली सूची में जमशेदजी टाटा शीर्ष पर

भारतीय अग्रणी उद्योगपति और टाटा समूह के संस्थापक, जमशेदजी नुसीरवानजी टाटा (Jamsetji Nusserwanji Tata), एडेलगिव हुरुन फिलैंथ्रोपिस्ट्स ऑफ़ द सेंचुरी (EdelGive Hurun Philanthropists of the Century) की पहली सूची में शीर्ष पर हैं, जो पिछली शताब्दी में दुनिया के 50 सबसे उदार व्यक्तियों की सूची है। रिपोर्ट के अनुसार, मुंबई स्थित जमशेदजी टाटा द्वारा किए गए कुल दान का अनुमान 102.4 बिलियन अमेरिकी डॉलर है। हुरुन रिसर्च और एडेलगिव फाउंडेशन द्वारा संकलित शीर्ष 10 की सूची में वह एकमात्र भारतीय हैं। 50 वैश्विक परोपकारियों की सूची में एकमात्र अन्य भारतीय विप्रो के पूर्व अध्यक्ष अजीम प्रेमजी (Azim Premji) हैं। वह 12वें स्थान पर हैं। बिल गेट्स (Bill Gates) और मेलिंडा फ्रेंच गेट्स (Melinda French Gates) 74.6 अरब डॉलर के दान के साथ दूसरे स्थान पर हैं। उनके बाद क्रमशः हेनरी वेलकम (56.7 बिलियन डॉलर), हॉवर्ड ह्यूजस (38.6 बिलियन डॉलर) और वॉरेन बफेट (37.4 बिलियन डॉलर) हैं।

कोचीन इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड ने ‘रोल ऑफ एक्सीलेंस’ सम्मान जीता

कोचीन इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (CIAL) ने हाल ही में हवाईअड्डे की गुणवत्तापूर्ण सेवाओं के लिये ‘एयरपोर्ट काउंसिल इंटरनेशनल’ (ACI) का ‘रोल ऑफ एक्सीलेंस’ सम्मान जीता है। ‘एयरपोर्ट काउंसिल इंटरनेशनल’ एयरपोर्ट संचालकों की एक वैश्विक संस्था है, जिसने उन हवाईअड्डों के लिये ‘रोल ऑफ एक्सीलेंस’ सम्मान की स्थापना की है, जिन्होंने यात्रियों की राय में गुणवत्तापूर्ण एवं उत्कृष्ट सेवाएँ प्रदान की हैं। यह पुरस्कार 9 सितंबर, 2021 को मॉन्ट्रियल, कनाडा में आयोजित होने वाले ACI कस्टमर एक्सपीरियंस ग्लोबल समिट के दौरान प्रदान किया जाएगा। वर्ष 1991 में स्थापित ‘एयरपोर्ट काउंसिल इंटरनेशनल’ (ACI) दुनिया भर की सरकारों और अंतर्राष्ट्रीय संगठनों जैसे- अंतर्राष्ट्रीय नागर विमानन संगठन’ (ICAO) के साथ-साथ विभिन्न एयरपोर्ट्स के हितों का प्रतिनिधित्त्व करता है, इसके अलावा यह हवाई अड्डों के लिये मानकों, नीतियों और अनुशंसित प्रथाओं को भी विकसित करता है तथा दुनिया भर में मानकों को बढ़ावा देने के लिये सूचना और प्रशिक्षण कार्यक्रम भी आयोजित करता है।

पूर्व ओलिम्पक पदक विजेता कर्णाम मल्लेश्वरी दिल्ली खेल विश्वविद्यालय की प्रथम वायस चांसलर बनी

दिल्‍ली सरकार ने पूर्व ओलम्पिक पदक विजेता कर्णम मल्‍लेश्‍वरी को दिल्‍ली खेल विश्‍वविद्यालय(डीएसयू) का पहला कुलपति नियुक्‍त किया है। उल्लेखनीय है कि दिल्ली विधानसभा ने 2019 में डीएसयू स्थापित करने के लिए एक विधेयक पारित किया था। पूर्व भारत्‍तोलक सुश्री मल्‍लेश्‍वरी पहली भारतीय महिला हैं जिन्‍होंने सन दो हजार के सिडनी ओलम्पिक्‍स में कांस्‍य पदक(पहली महिला ओलंपिक पदक विजेता) जीता था। आंध्रप्रदेश के राज्‍यपाल विश्‍वभूषण हरिचन्‍दन ने खेल विश्‍वविद्यालय का कुलपति नियुक्‍त किए जाने पर सुश्री मल्‍लेश्‍वरी को बधाई दी है। उन्‍होंने अपने संदेश में कहा है कि आंध्रप्रदेश के सिरीकाकूलम जिले की रहने वाली कर्णम मल्‍लेश्‍वरी ने अपने प्रदेश का गौरव बढ़ाया है।

केके शैलजा 2021 के लिए प्रतिष्ठित CEU ओपन सोसाइटी पुरस्कार से सम्मानित

केरल के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा (KK Shailaja) को 2021 के लिए सेंट्रल यूरोपियन यूनिवर्सिटी (CEU) ओपन सोसाइटी पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। यह पुरस्कार उन्हें "उनके दृढ़ नेतृत्व और समुदाय-आधारित सार्वजनिक स्वास्थ्य कार्य, महामारी के दौरान जीवन बचाने" की मान्यता में प्रदान किया गया था। वह दुनिया को प्रदर्शित करती है कि दृढ़ नेतृत्व, समुदाय-आधारित सार्वजनिक स्वास्थ्य और प्रभावी संचार, जीवन बचा सकता है। CEU' ओपन सोसाइटी पुरस्कार वार्षिक रूप से एक व्यक्ति या संगठन को दिया जाता है, जिनकी उपलब्धियों ने एक खुले समाज के निर्माण में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर के सभी राजनीतिक दलों के नेताओं के साथ दिल्‍ली में बैठक की अध्‍यक्षता की

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नई दिल्ली में जम्मू-कश्मीर के विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं के साथ बैठक की अध्‍यक्षता की। बैठक में गुपकार गठबंधन में शामिल नेशनल कांफ्रेंस के नेता डॉक्‍टर फारूख अब्‍दुला और उमर अब्‍दुल्‍ला, कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद, पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की नेता महबूबा मुफ्ती, गृहमंत्री अमित शाह, जम्‍मू कश्‍मीर के उपराज्‍यपाल मनोज सिन्‍हा, जम्‍मू कश्‍मीर भाजपा प्रदेश इकाई के अध्‍यक्ष रविन्‍द्र रैना और पीपुल्‍स कांफ्रेंस के अध्‍यक्ष सज्‍जाद लोन शामिल हुए। पांच अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 की कई उपधाराओं को खत्म करने के केन्द्र के फैसले के बाद कश्मीर के नेताओं के साथ सरकार की यह पहली बैठक थी। इस बीच निर्वाचन आयोग ने केन्द्रशासित प्रदेश के नब्बे विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों के परिसीमन के संबंध में जम्मू-कश्मीर के अपने प्रतिनिधियों और वहां के उपायुक्तों के साथ वर्चुअल माध्यम से विचार विमर्श किया।

मिजोरम में भारत सरकार, राज्य सरकार और विश्व बैंक की ओर से 32 मिलियन डॉलर की एक परियोजना पर हस्ताक्षर

मिजोरम में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए भारत सरकार, राज्य सरकार और विश्व बैंक की ओर से 32 मिलियन डॉलर की एक परियोजना पर हस्ताक्षर किए गए हैं। ये परियोजना मिजोरम में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग के प्रबंधन और निगरानी के सशक्त बनाई गई। इसका मुख्य उद्देश्य राज्य में स्वास्थ्य बीमा कार्यक्रम को प्रभावी बनाना और प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के साथ इसका बेहतर समन्वय करना है। स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़ी इस परियोजना का लाभ राज्य के सभी आठ जिलों को मिलेगा।

भारत का आधिकारिक ओलिंपिक थीम सोंग 'लक्ष्य तेरा सामने है' जारी

टोक्यो खेलों से पहले, भारतीय दल के लिए आधिकारिक ओलंपिक थीम गीत लॉन्च किया गया था। मोहित चौहान (Mohit Chauhan) ने "लक्ष्य तेरा सामने है" नामक गीत को कंपोज़ और गाया है। खेल 23 जुलाई से शुरू होंगे और अब तक 100 से अधिक भारतीय एथलीटों ने इस प्रतियोगिता के लिए क्वालीफाई किया है। यह आयोजन भारतीय ओलंपिक संघ (IOA) द्वारा आयोजित किया गया था और इसमें इसके अध्यक्ष, महासचिव, डिप्टी शेफ डी मिशन, खेल सचिव और भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI) के महानिदेशक ने भाग लिया था। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि खेल मंत्री किरेन रिजिजू (Kiren Rijiju) थे।

2021 में NTPC ने राष्ट्र-निर्माताओं के बीच भारत के सर्वश्रेष्ठ नियोक्ताओं की मान्यता प्राप्त की

पहली बार, NTPC ने 2021 में राष्ट्र-निर्माताओं के बीच भारत के सर्वश्रेष्ठ नियोक्ता के रूप में मान्यता प्राप्त की। इसे ग्रेट प्लेस टू वर्क इंस्टीट्यूट द्वारा लगातार 15वें वर्ष 'ग्रेट प्लेस टू वर्क (Great Place to Work)' के रूप में मान्यता दी गई है। इसे 38वां स्थान मिला है। पिछले साल इसे 47वां स्थान मिला था। इसने 2021 में राष्ट्र-निर्माताओं के बीच भारत के सर्वश्रेष्ठ नियोक्ताओं की अपनी पहली पहचान भी हासिल की। NTPC, एक महारत्न समुदाय और बिजली मंत्रालय के तहत सार्वजनिक क्षेत्र की इकाई काम करती है। PSU ने मार्च 2021 में CII HR एक्सीलेंस रोल मॉडल अवार्ड भी जीता है। यह देश में लोक प्रबंधन के क्षेत्र में सर्वोच्च पुरस्कार है। 'ग्रेट प्लेस टू वर्क' प्रमाणन को दुनिया भर में मान्यता प्राप्त है और इसे उच्च विश्वास और उच्च प्रदर्शन संस्कृतियों वाले महान कार्यस्थलों की पहचान करने और मान्यता देने में स्वर्ण मानक माना जाता है। यह सबसे निश्चित 'एंप्लॉयर ऑफ चॉइस' मान्यता प्रमाणन है जिसे प्राप्त करना संगठन का लक्ष्य है।

20 से अधिक देशों ने भारत के Co-Win प्लेटफार्म में दिखाई रुचि

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने हाल ही में कहा है कि टीकाकरण अभियान से 20 से ज्यादा देशों ने भारत के Co-Win प्लेटफार्म में रुचि दिखाई है। इसे देखते हुए भारत 30 जून को Co-Win की सफलता के कहानी को एक कांफ्रेंस के माध्यम से साझा करेगा। कोविड-19 टीकाकरण के लिए पंजीकरण Co-WIN पोर्टल (https://www.cowin.gov.in) किया जा सकता है, इसके बाद व्यक्ति अपनी पसंद की जगह पर किसी भी तिथि को टीकाकरण के लिए स्लॉट बुक कर सकता है। टीका लगने के बाद, व्यक्ति Co-WIN पोर्टल से टीकाकरण का प्रमाणपत्र भी डाउनलोड कर सकता है।

वरिष्ठ मनोचिकित्सक प्रतिमा मूर्ति बनीं निमहंस की निदेशक

डॉ प्रतिमा मूर्ति (Dr Pratima Murthy), अध्यक्ष मनोचिकित्सा विभाग, राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य और तंत्रिका विज्ञान संस्थान (NIMHANS), बेंगलुरु को पांच साल की अवधि के लिए संस्थान का निदेशक नियुक्त किया गया है। वह मार्च 2026 में सेवानिवृत्त होंगी। उन्हें 'विश्व तंबाकू निषेध दिवस 2021' पर WHO के क्षेत्रीय निदेशक के विशेष मान्यता पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

हर्षवर्धन ने 'माई जॉयज़ एंड सॉरोज़ - एज़ ए मदर ऑफ़ ए स्पेशल चाइल्ड' पुस्तक का विमोचन किया

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन (Harsh Vardhan) ने कृष्णा सक्सेना (Krishna Saksena) की पुस्तक माई जॉयज़ एंड सोरोज़ - एज़ ए मदर ऑफ़ ए स्पेशल चाइल्ड (My Joys and Sorrows – as a Mother of a Special Child) का अनावरण किया। यह भारतीय मातृत्व की सर्वोत्तम परंपरा में एक मां की बहादुरी और सहनशक्ति का प्रतीक है। यह पुस्तक सुंदर तस्वीरों से भरी हुई है, जिसमें कुछ ब्लैक एंड वाइट तस्वीरें भी शामिल हैं, जिनका ऐतिहासिक महत्व है, न केवल इसलिए कि उनमें से कुछ में सार्वजनिक व्यक्तित्व हैं, बल्कि इसलिए भी कि यह उस समय के घरेलू और साथ ही पेशेवर संदर्भ का वर्णन करती है।

रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने 'प्रोजेक्ट सीबर्ड' के तहत कारवार नौसेना अड्डे पर विकास कार्यों की समीक्षा की

रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने 24 जून, 2021 को कर्नाटक के कारवार नौसेना अड्डे का दौरा कर 'प्रोजेक्ट सीबर्ड' के तहत जारी ढांचागत निर्माण के विकास की प्रगति की समीक्षा की। नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह के साथ श्री राजनाथ सिंह ने आईएनएस कदंब हेली पैड पर पहुंचने से पहले परियोजना क्षेत्र और सबंधित स्थलों का हवाई सर्वेक्षण किया। रक्षा मंत्री ने कहा कि ‘प्रोजेक्ट सीबर्ड’ के तहत यहां विकसित किया जा रहा नौसेना अड्डा एशिया में सबसे बड़ा होना चाहिए और जरूरत पड़ने पर इसके लिए वह बजट आवंटन बढ़ाने का प्रयास करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि भारत का लक्ष्य अगले 10-12 वर्षों में विश्व की तीन शीर्ष नौसेना में शामिल होने का होना चाहिए।

केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने भारत तथा सेंट विंसेंट और द ग्रेनेडाइंस के बीच करों के संबंध में सूचना के आदान-प्रदान व संग्रह में सहायता के लिए समझौते को मंजूरी दी

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भारत गणराज्‍य तथा सेंट विंसेंट और द ग्रेनेडाइंस के बीच करों के संबंध में सूचना के आदान-प्रदान और संग्रह में सहायता के लिए एक समझौते को मंजूरी दी है। यह भारत गणराज्य तथा सेंट विंसेंट और द ग्रेनेडाइंस के बीच एक नया समझौता है। अतीत में, दोनों देशों के बीच ऐसा कोई समझौता नहीं हुआ था। समझौते में मुख्य रूप से दोनों देशों के बीच सूचनाओं के आदान-प्रदान की सुविधा और कर-संग्रह में एक दूसरे को सहायता प्रदान करने का प्रस्ताव है। समझौते में विदेश में कर जांच के प्रावधान भी शामिल हैं, जिसके तहत एक देश, दूसरे देश के प्रतिनिधियों को व्यक्तियों का साक्षात्कार करने और कर उद्देश्यों के लिए रिकॉर्ड की जांच करने के लिएअपने क्षेत्र में प्रवेश करने की अनुमति दे सकता है। (अपने घरेलू कानूनों की स्वीकार्य सीमा तक) भारत गणराज्य तथा सेंट विंसेंट और द ग्रेनेडाइंस के बीच समझौते से दोनों देशों के बीच सूचनाओं के आदान-प्रदान को सुविधाजनक बनाने में मदद मिलेगी।

भारत के साथ साझेदारी में भूटान का टैक्स इंस्पेक्टर्स विदाउट बॉर्डर्स (टीआईडब्‍ल्‍यूबी) कार्यक्रम शुरू हुआ

संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) तथा आर्थिक सहयोग और विकास संगठन (ओईसीडी) की संयुक्त पहल, टैक्स इंस्पेक्टर्स विदाउट बॉर्डर्स (टीआईडब्‍ल्‍यूबी) कार्यक्रम भूटान में शुरू हुआ। भारत को भागीदार क्षेत्राधिकार के रूप में चुना गया है। भारत ने इस कार्यक्रम के लिए कर-विशेषज्ञ उपलब्ध कराये हैं। इस कार्यक्रम की अवधि लगभग 24 महीने होगी। इस दौरान भारत, यूएनडीपी और टीआईडब्ल्यूबी सचिवालय के सहयोग से भूटान के लेखा परीक्षकों को तकनीकी जानकारी तथा आवश्यक कौशल हस्तांतरित करेगा तथा सर्वोत्तम लेखा तौर-तरीके साझा करेगा।इस कार्यक्रम का उद्देश्य भूटान को कर प्रशासन को मजबूत करने में सहायता प्रदान करना है। कार्यक्रम का फोकस, अंतरराष्ट्रीय कराधान और हस्तांतरण मूल्य निर्धारण क्षेत्र होगा।

कोटक महिंद्रा बैंक ने 'पे योर कॉन्टैक्ट' सेवा शुरू की

कोटक महिंद्रा बैंक ने नई सुविधा 'पे योर कॉन्टैक्ट (Pay Your Contact)' लॉन्च करने की घोषणा की है, जो अपने ग्राहकों को लाभार्थी के मोबाइल नंबर द्वारा सभी भुगतान ऐप में अपने किसी भी संपर्क को पैसे भेजने या भुगतान करने में सक्षम बनाता है। 'पे योर कॉन्टैक्ट' सेवा ऋणदाता के मोबाइल बैंकिंग ऐप पर उपलब्ध है और यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) प्लेटफॉर्म का उपयोग करती है। कोटक मोबाइल बैंकिंग ऐप पर 'पे योर कॉन्टैक्ट' फीचर ने भुगतान को यथासंभव आसान और सरल बना दिया है। कोटक के ग्राहक अब केवल लाभार्थी का मोबाइल नंबर जानकर अपने किसी मित्र, घरेलू सहायक, पड़ोस की दुकान आदि को भुगतान कर सकते हैं।

बैंकएश्योरेंस के लिए SBI जनरल इंश्योरेंस और IDFC फर्स्ट बैंक का समझौता

भारत में प्रमुख सामान्य बीमा कंपनियों में से एक, SBI जनरल इंश्योरेंस ने गैर-जीवन बीमा समाधान के वितरण के लिए IDFC फर्स्ट बैंक के साथ एक कॉर्पोरेट एजेंसी समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। इस समझौते के माध्यम से, SBI जनरल इंश्योरेंस IDFC फर्स्ट बैंक के बड़े ग्राहक आधार तक पहुंच बनाएगा, जिसके परिणामस्वरूप बाद के डिजिटल-फर्स्ट दृष्टिकोण के माध्यम से इसके बीमा उत्पादों की व्यापक पहुंच होगी। इस रणनीतिक समझौते के तहत, SBI जनरल इंश्योरेंस बैंक के ग्राहकों को स्वास्थ्य, व्यक्तिगत दुर्घटना, घर, मोटर और यात्रा जैसे बीमा उत्पादों के साथ-साथ संपत्ति, समुद्री और इंजीनियरिंग बीमा जैसे बीमा उत्पादों की वाणिज्यिक लाइन की पेशकश करेगा। बैंकएश्योरेंस बीमा कंपनी और बैंक के बीच एक सहयोग है, जिसके तहत पूर्व बीमा उत्पाद बैंक के ग्राहक आधार को बेचता है। इससे बैंक को भी फायदा होगा क्योंकि उसे बीमा कंपनी से कमीशन की राशि मिलती है।

अरविंद गौर ने काजल सूरी द्वारा लिखित पुस्तक 'हब्बा खातून' का किया विमोचन

रंगमंच व्यक्तित्व अरविंद गौर (Arvind Gaur) ने काजल सूरी (Kajal Suri) द्वारा लिखित पुस्तक 'हब्बा खातून (Habba Khatoon)' का विमोचन किया है। 'हब्बा खातून' पुस्तक संजना प्रकाशन द्वारा प्रकाशित की गई थी। हब्बा खातून, जिसे 'द नाइटिंगेल ऑफ कश्मीर' की मानद उपाधि से भी जाना जाता है, एक कश्मीरी कवि और तपस्वी थी। वह कश्मीर के अंतिम सम्राट यूसुफ शाह चक (Yousuf Shah Chak) की पत्नी थीं।

अभिनेता विल स्मिथ ने अपनी आत्मकथा 'विल' की घोषणा की

अभिनेता विल स्मिथ (Will Smith), जिन्होंने अपनी आगामी आत्मकथा विल (Will) के शीर्षक और कवर का प्रकाशन किया। यह पुस्तक पेंगुइन प्रेस (Penguin Press) द्वारा 9 नवंबर को प्रकाशित होने वाली है। विल स्मिथ लेखक मार्क मैनसन (Mark Manson) के साथ पुस्तक का सह-लेखन कर रहे हैं, और कवर को न्यू ऑरलियन्स कलाकार ब्रैंडन "बीमाइक" ओडम्स (Brandan “BMike” Odums) द्वारा डिजाइन किया गया है। स्मिथ, पेंगुइन रैंडम हाउस ऑडियो (Penguin Random House Audio) से विल की ऑडियोबुक भी सुनाएंगे।

एशिया प्रशांत में शीर्ष 5 प्रौद्योगिकी केंद्रों में से एक बेंगलुरु

'ग्रोथ इंजन ऑफ इनोवेशन: हाउ एशिया पैसिफिक टेक्नोलॉजी हब आर रीशेपिंग रीजनल रियल एस्टेट' शीर्षक वाली कोलियर्स की एक रिपोर्ट में बेंगलुरू APAC क्षेत्र में शीर्ष पांच प्रौद्योगिकी केंद्रों के रूप में उभरा है, जबकि हैदराबाद को शीर्ष 10 सूची में स्थान दिया गया है। रिपोर्ट प्रमुख APAC शहरों के भीतर सबसे आकर्षक प्रौद्योगिकी सबमार्केट को रैंक करती है, जिसे प्रौद्योगिकी समूहों के लिए एक नेविगेशन उपकरण के रूप में काम करना चाहिए, क्योंकि वे अपने विस्तार की योजना बनाते हैं। बीजिंग, शंघाई, बेंगलुरु, शेनझेन और सिंगापुर वर्तमान में APAC में शीर्ष पांच प्रौद्योगिकी केंद्रों के रूप में रैंक किए गए हैं; वे अधिभोगियों के लिए बुनियादी ढांचे और प्रतिभा का एक सम्मोहक संतुलन प्रदान करते हैं और मालिकों के लिए भविष्य के विकास और निवेश के अवसर प्रदान करने के लिए अच्छी तरह से तैनात हैं। अन्य शहर प्रौद्योगिकी के विशिष्ट क्षेत्रों में ताकत विकसित कर रहे हैं, उदाहरण के लिए, फिनटेक में सियोल और हांगकांग, जबकि हैदराबाद और सिडनी जैसे नए केंद्र उभर रहे हैं।

पीटर पैन सिंड्रोम से पीड़ित युवक को यौन उत्पीड़न मामले में मिली जमानत

हाल ही में मुंबई की एक विशेष अदालत ने द्वारा नाबालिग का यौन शोषण करने वाले आरोपी को इसलिये जमानत दे दी गई क्योंकि वह पीटर पैन सिंड्रोम (PPS) से पीड़ित था। सिंड्रोम लक्षणों और संकेतों का एक संयोजन है जो एक साथ किसी रोग प्रक्रिया का प्रतिनिधित्व करते हैं। PPS एक मनोवैज्ञानिक स्थिति है जिसका उपयोग एक ऐसे वयस्क व्यक्ति का वर्णन करने के लिये किया जाता है जो सामाजिक रूप से अपरिपक्व है। ऐसे व्यक्ति जो लापरवाह तरीके से जीवन जीने जीते हैं, वयस्कता में भी जिन्हे ज़िम्मेदारियाँ चुनौतीपूर्ण लगती हैं और जो मूल रूप से कभी बड़े नहीं होते हैं, वे प्रायः PPS से पीड़ित होते हैं।पीटर पैन स्कॉटिश उपन्यासकार जेम्स मैथ्यू बैरी द्वारा 1900 के दशक की शुरुआत में बनाया गया एक काल्पनिक चरित्र है।वह काल्पनिक चरित्र एक लापरवाह युवा लड़के का था जो कभी बड़ा नहीं होता है। यद्यपि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) पीटर पैन सिंड्रोम को एक स्वास्थ्य संबंधी विकार के रूप में मान्यता नहीं देता है लेकिन कई विशेषज्ञों का मानना है कि यह एक मानसिक स्वास्थ्य स्थिति है जो किसी के जीवन की गुणवत्ता को प्रभावित कर सकती है।

वित्त मंत्रालय ने 100 करोड़ रुपये से अधिक की HFC को SARFAESI कानून का उपयोग करने की अनुमति दी

वित्त मंत्रालय ने SARFAESI कानून का उपयोग करके बकाया राशि की वसूली के लिए 100 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति के साथ आवास वित्त कंपनियों (HFC) को अनुमति दी है। इस कदम से हजारों छोटे एचएफसी के लिए एक शॉट होने की उम्मीद है, क्योंकि यह बकाया राशि की त्वरित वसूली की सुविधा प्रदान करेगा और इन कंपनियों को और अधिक उधार देने के लिए प्रोत्साहित करेगा। इससे पहले 500 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति (और वित्त मंत्रालय द्वारा अधिसूचित) वाली HFC को बकाया वसूलने के लिए SARFAESI कानून का उपयोग करने की अनुमति थी। वर्तमान में, लगभग 100 HFC हैं जो NHB के साथ पंजीकृत हैं। हाउसिंग फाइनेंस इंडस्ट्री की संपत्ति में टॉप-10 HFC की हिस्सेदारी 70-80 प्रतिशत है। SARFAESI अधिनियम 2002 बैंकों और अन्य वित्तीय संस्थानों को ऋण की वसूली के लिए आवासीय या वाणिज्यिक संपत्तियों (डिफॉल्टरों की) की नीलामी करने की अनुमति देता है।

WHO ने दुनिया भर में आत्महत्या पर रिपोर्ट जारी की

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने 2019 में दुनिया भर में आत्महत्या की रिपोर्ट प्रकाशित की गई है। इस रिपोर्ट में पाया गया है कि, वैश्विक आत्महत्या मृत्यु दर को एक तिहाई तक कम करना एक संकेतक के साथ-साथ संयुक्त राष्ट्र-अनिवार्य सतत विकास लक्ष्यों (एसडीजी) में एक लक्ष्य है। लेकिन दुनिया इस लक्ष्य तक नहीं पहुंच पाएगी। अभी तक केवल 38 देशों में राष्ट्रीय आत्महत्या रोकथाम रणनीति है। 2019 में आत्महत्या का संकट पहले से ही था। 2019 में लगभग 7,03,000 लोगों (100 में से एक) की आत्महत्या से मृत्यु हो गई। 2019 में, वैश्विक आयु-मानकीकृत आत्महत्या दर 9 प्रति 1,00,000 जनसंख्या थी। 58% आत्महत्याएं 50 वर्ष की आयु से पहले हुईं। 2019 में दुनिया भर में 15-29 आयु वर्ग के युवाओं में आत्महत्या मृत्यु का चौथा प्रमुख कारण था। 2019 में 77 फीसदी वैश्विक आत्महत्याएं निम्न आय और मध्यम आय वाले देशों में हुईं। अफ्रीका, यूरोप और दक्षिण-पूर्व एशिया में आत्महत्या की दर विश्व के औसत से अधिक है।

Reuters Digital News Report, 2021 जारी की गयी

रॉयटर्स डिजिटल न्यूज रिपोर्ट 2021 का 10वां संस्करण 23 जून, 2021 को प्रकाशित किया गया। यह रिपोर्ट रॉयटर्स इंस्टीट्यूट फॉर स्टडी ऑफ जर्नलिज्म (Reuters Institute for Study of JournalismRISJ) द्वारा प्रकाशित की गई है। रॉयटर्स (Reuters) द्वारा सर्वेक्षण किए गए 46 मीडिया बाजारों में से “समाचार में विश्वास” की श्रेणी में भारत 31वें स्थान पर था। एशियन कॉलेज ऑफ जर्नलिज्म (ACJ) ने भारतीय बाजार का सर्वेक्षण करने के लिए लॉजिस्टिक सहायता प्रदान की। इस अध्ययन ने समाचारों में विश्वास पर ध्यान केंद्रित किया और इस वर्ष भारत को अपनी मुख्य रिपोर्ट में पहली बार चित्रित किया। इस रिपोर्ट के अनुसार, भारत में 73% उत्तरदाता समाचार प्राप्त करने के लिए स्मार्टफोन का उपयोग करते हैं जबकि 82% सोशल मीडिया का उपयोग करके ऑनलाइन समाचार प्राप्त करते हैं। उत्तरदाताओं में से 63% केवल व्हाट्सएप और यूट्यूब जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से जानकारी प्राप्त कर रहे हैं। भारत में 38% उत्तरदाताओं ने कुल मिलाकर समाचारों पर भरोसा किया। फ़िनलैंड में, 65% के साथ, समाचारों में समग्र विश्वास का उच्चतम स्तर है। अमेरिका में, 29% के साथ, विश्वास का निम्नतम स्तर है।

कैबिनेट ने CWC और CRWC के विलय को मंजूरी दी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने दोनों कंपनियों के समान कार्यों को एकीकृत करने के लिए Central Railside Warehouse Company (CRWC) और उसके होल्डिंग एंटरप्राइज Central Warehousing Corporation (CWC) के विलय को मंजूरी दे दी है। दक्षता में सुधार और वित्तीय बचत बढ़ाने के उद्देश्य से इन कंपनियों का विलय किया जा रहा है। इस विलय के साथ कॉर्पोरेट कार्यालय के किराए, कर्मचारियों के वेतन और अन्य प्रशासनिक लागतों में बचत के कारण Railside Warehouse Complexes (RWCs) के प्रबंधन व्यय में 5 करोड़ रुपये की कमी आने की उम्मीद है। CRWC और CWC का विलय दोनों कंपनियों के समान कार्यों को एकीकृत करेगा जैसे वेयरहाउसिंग, हैंडलिंग और परिवहन।ये कार्य एकल प्रशासन के अंतर्गत आएंगे जो बदले में दक्षता, अधिकतम क्षमता उपयोग, जवाबदेही, पारदर्शिता को बढ़ावा देंगे और वित्तीय बचत सुनिश्चित करेंगे। यह गुड-शेड स्थानों के पास कम से कम 50 और रेलसाइड गोदाम स्थापित करने में मदद करेगा जो कुशल श्रमिकों के लिए 36,500-दिन और अकुशल श्रमिकों के लिए 9,12,500-दिन के रोजगार के अवसर पैदा करेगा।

भारत में अनिवार्य किये जायेंगे फ्लेक्स-फ्यूल इंजन

केंद्र सरकार भारत में कार निर्माताओं के लिए फ्लेक्स-फ्यूल इंजन (flex-fuel engines) वाले वाहनों के उत्पादन को अनिवार्य बनाने की योजना बना रही है। यह फैसला 2030 से 2025 तक पेट्रोल में 20% इथेनॉल मिलाने की कट-ऑफ तारीख को आगे बढ़ाने के बाद लिया गया था।सरकार जल्द ही ऑटो उद्योग से ग्राहकों को अपनी कारों और दोपहिया वाहनों को चलाने के लिए अधिक लागत प्रभावी ईंधन चुनने का विकल्प प्रदान करने के लिए कहने पर निर्णय लेगी। ब्राजील, कनाडा और अमेरिका जैसे देशों में फ्लेक्स-ईंधन इंजन पहले से ही प्रचलन में हैं। इन देशों में, बहुत सारे वाहन मालिक अपनी कारों के लिए ईंधन के रूप में इथेनॉल का उपयोग करते हैं।

बच्चों में कोविड-19 का पता लगाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है Throat Gargle Sample Test

हृदय रोग विशेषज्ञ देवी प्रसाद शेट्टी (Devi Prasad Shetty) की अध्यक्षता वाली 13 सदस्यीय विशेषज्ञ समिति की सिफारिशों के अनुसार, बच्चों के गले में गरारे (throat gargle) करके COVID-19 का पता लगाया जा सकता है। संभावित तीसरी लहर को नियंत्रित करने में सहायता के लिए कर्नाटक सरकार द्वारा गठित समिति ने अपनी अंतरिम रिपोर्ट प्रस्तुत की, जिसमें बताया गया है कि 6-14 आयु वर्ग के बच्चों में कोविड​​​​-19 संक्रमण का पता लगाने के लिए गले के गरारे के नमूनों का उपयोग किया जा सकता है।इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के एक अध्ययन से यह भी पता चला है कि SARS-CoV-2 वायरस का पता लगाने के लिए नमूना एकत्र करने के लिए गले का गरारे का स्वैब का एक व्यवहार्य विकल्प हो सकता है।

रानी रामपाल, मनप्रीत सिंह बने भारतीय हॉकी टीमों के कप्तान

मिडफील्डर मनप्रीत सिंह (Manpreet Singh) को 16 सदस्यीय ओलंपिक-बाउंड भारतीय पुरुष हॉकी टीम का कप्तान बनाया गया, जबकि अनुभवी डिफेंडर, बीरेंद्र लाकड़ा (Birendra Lakra) और हरमनप्रीत सिंह (Harmanpreet Singh) को उप-कप्तान बनाया गया। यह मनप्रीत का तीसरा ओलंपिक होगा। मनप्रीत की कप्तानी में भारतीय टीम ने 2017 में एशिया कप, 2018 में एशियाई चैंपियंस ट्रॉफी और 2019 में FIH सीरीज फाइनल जीता। मनप्रीत की अगुवाई वाली टीम ने भुवनेश्वर में FIH पुरुष विश्व कप 2018 के क्वार्टर फाइनल में भी जगह बनाई। रानी रामपाल (Rani Rampal) को 16 सदस्यीय ओलंपिक-बाउंड भारतीय महिला हॉकी टीम का कप्तान बनाया गया। रानी की कप्तानी में, भारतीय टीम ने पिछले चार वर्षों में महत्वपूर्ण परिणाम हासिल किए हैं, जिसमें 2017 में एशिया कप जीतना, एशियाई खेल 2018 में रजत जीतना, एशियाई चैंपियंस ट्रॉफी 2018 में रजत और साथ ही 2019 में FIH सीरीज फाइनल जीतना शामिल है। रानी की अगुवाई वाली टीम ने पहली बार लंदन में FIH महिला विश्व कप 2018 के क्वार्टर फाइनल में भी जगह बनाई।

शैली‑एन फ्रेज़र‑प्राइस बनीं अब तक की दूसरी सबसे तेज महिला

जमैका की धाविका शैली-एन फ्रेजर-प्राइस (Shelly-Ann Fraser-Pryce) 100 मीटर विश्व रिकॉर्ड धारक फ्लोरेंस ग्रिफिथ-जॉयनर (Florence Griffith-Joyner) के बाद अब तक की दूसरी सबसे तेज महिला बन गईं, जब उन्होंने किंग्स्टन में एक मीट में 10.63 सेकंड का समय लिया। अमेरिकन ग्रिफ़िथ-जॉयनर का अभी भी महिलाओं का 100 मीटर विश्व रिकॉर्ड 10.49 सेकंड का है, जो 1988 में इंडियानापोलिस में बनाया गया था, साथ ही 1988 में 10.61 और 10.62 के साथ तीन सबसे तेज रिकॉर्ड बनाए गए थे।

जसप्रीत बुमराह बने वनप्लस के ब्रांड एंबेसडर

वैश्विक प्रौद्योगिकी ब्रांड वनप्लस (OnePlus) ने क्रिकेटर जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) का अपनी वियरेबल्स श्रेणी के लिए ब्रांड एंबेसडर के रूप में स्वागत किया। बुमराह के साथ साझेदारी 'नेवर सेटल' के ब्रांड दर्शन और पूर्णता की ओर कंपनी की खोज को दोहराती है। वनप्लस वियरेबल कैटेगरी में वनप्लस वॉच शामिल है, जो वनप्लस की ओर से पहली ग्लोबल स्मार्ट वियरेबल है, जो प्रीमियम डिजाइन, सीमलेस कनेक्शन, स्मार्ट फिटनेस ट्रैकिंग और अविश्वसनीय बैटरी लाइफ प्रदान करती है।

डॉ. श्‍यामाप्रसाद मुखर्जी की पुण्‍यतिथि

उपराष्‍ट्रपति एम.वेंकैया ने 23 जून, 2021 को डॉ. श्‍यामाप्रसाद मुखर्जी की पुण्‍यतिथि पर उन्‍हें श्रद्धांजलि अर्पित की। डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी का जन्म 06 जुलाई, 1901 को तत्कालीन कलकत्ता के एक संभ्रांत परिवार में हुआ था। श्यामाप्रसाद मुखर्जी के पिता उच्च न्यायालय के न्यायाधीश थे और कलकत्ता विश्वविद्यालय के कुलपति के रूप में भी कार्य कर चुके थे। वर्ष 1921 में कलकत्ता से अंग्रेज़ी में स्नातक करने के पश्चात् उन्होंने वर्ष 1923 में कलकत्ता से ही बांग्ला भाषा और साहित्य में परास्नातक की डिग्री प्राप्त की। वर्ष 1934 में मात्र 33 वर्ष की आयु में डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी को कलकत्ता विश्वविद्यालय का सबसे कम उम्र का कुलपति नियुक्त किया गया। कुलपति के तौर पर डॉ. मुखर्जी के कार्यकाल के दौरान ही रवींद्रनाथ टैगोर ने पहली बार बांग्ला भाषा में कलकत्ता विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह को संबोधित किया और उन्ही के कार्यकाल के दौरान कलकत्ता विश्वविद्यालय की उच्च परीक्षा में जनभाषा को एक विषय के रूप में प्रस्तुत किया गया। इसके अलावा डॉ. मुखर्जी स्वतंत्र भारत के पहले उद्योग और आपूर्ति मंत्री भी थे। हालाँकि बाद में उन्होंने विचारों में मतभेद के कारण काॅॅन्ग्रेस पार्टी छोड़ दी और वर्ष 1977-1979 में जनता पार्टी की सह-स्थापना की, जो बाद में भारतीय जनता पार्टी बन गई। मई 1953 में तत्कालीन जम्मू-कश्मीर में बिना परमिट के प्रवेश करने के मामले में डॉ. मुखर्जी को हिरासत में ले लिया गया, जिसके पश्चात् 23 जून, 1953 को रहस्यमय परिस्थितियों में उनकी मृत्यु हो गई।

अंतर्राष्ट्रीय विधवा दिवस: 23 जून

अंतर्राष्ट्रीय विधवा दिवस (International Widows Day) हर साल 23 जून को विश्व स्तर पर मनाया जाता है। यह दिन व्यापक रूप से विधवाओं की आवाज़ों और अनुभवों की ओर ध्यान आकर्षित करने और उनके पास मौजूद अद्वितीय समर्थन को प्रेरित करने के लिए मनाया जाता है। दुनिया भर में कई महिलाएं अपने जीवन साथी को खोने के बाद चुनौतियों का सामना करती हैं और मूल आवश्यकताओं, उनके मानवाधिकार और सम्मान के लिए दीर्घकालिक संघर्ष करती हैं। लूंबा फाउंडेशन ने 2005 में अंतर्राष्ट्रीय विधवा दिवस की शुरुआत की थी। लूंबा के अनुसार, विभिन्न देशों में महिलाओं को अपने पति की मृत्यु के बाद बहुत कठिनाई का अनुभव होता है। उन्हें NGO, सरकारों द्वारा नहीं देखा जाता है और समाज भी उन्हें शाप देते हैं। अंत में, 23 जून 2010 को, इसे आधिकारिक तौर पर संयुक्त राष्ट्र महासभा में मान्यता दी गई।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.