Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

25 August 2021

नये भू-स्थानिक नियोजन पोर्टल 'युक्तधारा' की शुरुआत की, गिरिराज सिंह ने शुभारंभ किया

सरकार ने भुवन के तहत एक नये भू-स्थानिक नियोजन पोर्टल 'युक्तधारा' की शुरुआत की है। यह पोर्टल, रिमोट सेंसिंग और भौगोलिक सूचना प्रणाली-आधारित डेटा का उपयोग करके नई मनरेगा संपत्तियों को सुविधाजनक बनाने में मदद करेगा। केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह ने इस पोर्टल का शुभारंभ किया। परमाणु ऊर्जा और अंतरिक्ष राज्य मंत्री डॉक्‍टर जितेंद्र सिंह ने इस अवसर पर कहा कि यह पोर्टल जियोटैग के भंडार के रूप में काम करेगा। इसके अलावा महात्मा गांधी रोजगार गारंटी अधिनियम-मनरेगा, एकीकृत जल ग्रहण प्रबंधन कार्यक्रम, प्रति बूंद अधिक फसल और राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के साथ फील्ड फोटो जैसे विभिन्न राष्ट्रीय ग्रामीण विकास कार्यक्रमों में भी मदद करेगा। डॉक्‍टर सिंह ने कहा कि दिया गया नाम बहुत उपयुक्त है, क्योंकि यह पहल भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन-इसरो और ग्रामीण विकास मंत्रालय के अथक संयुक्त प्रयासों की परिणति है, जो विकेंद्रीकृत निर्णय लेने के वास्‍ते ग्रामीण नियोजन के लिए सरकार से सरकार-जी2जी सेवा को साकार करने की दिशा में उठाया गया कदम है। जियोपोर्टल ‘भुवन’ इसरो का एक समृद्ध सूचना आधार है। यह उपग्रह चित्र और विश्लेषणात्मक क्षमता प्रदान करता है। इस प्रकार यह पूरे भारत में कई विकासात्मक योजना गतिविधियों के लिए एक वास्तविक भू-स्थानिक मंच (geospatial platform) बन गया है।

असम ने माइक्रो फाइनेंस इंसेंटिव एंड रिलीफ स्कीम के कार्यान्वयन के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

कर्ज की रकम वापस करने में अक्षम गरीब महिला उदयमियों की मदद के लिए असम सरकार ने माइक्रो फाइनेंस इंसेंटिव एंड रिलीफ स्कीम 2021 के कार्यान्वयन के लिए माइक्रोफाइनेंस संस्थानों के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए। इसके तहत कुल मिलाकर 38 एम.एफ.आई. और बैंकों ने राज्य सरकार के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए। यह करार 31 मार्च, 2023 तक लागू रहेगा। इस अवसर पर मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि उन्‍होंने गरीब महिलाओं को सहायता प्रदान करने का अपना चुनावी वादा पूरा किया है। मुख्यमंत्री ने बताया कि नई योजना में कुल 12 हजार करोड़ रूपए के ऋण की व्‍यवस्‍था का प्रावधान है जिसमें से राज्‍य सरकार को लगभग सात हजार दो सौ करोड़ रुपये खर्च करने होंगे।

औषधि महानियंत्रक ने देश के पहले एम आर एन ए आधारित कोविडरोधी टीके के दूसरे और तीसरे चरण के परीक्षणों की मंजूरी दी

भारत के पहले एमआरएनए आधारित कोविडरोधी टीके को दूसरे और तीसरे चरण के परीक्षण के लिए भारतीय औषधि महानियंत्रक से मंजूरी मिल गई है। पुणे की जैव प्रौद्योगिकी कम्‍पनी - जीनोवा बायोफार्मास्‍यूटि‍कल्‍स लिमिटेड, एमआरएनए आधारित कोविड-19 वैक्‍सीन एचजीसीओ-19 पर काम कर रही है। इसने पहले चरण के अध्‍ययन का अंतरिम क्‍लिनिकल डाटा, भारत सरकार के राष्‍ट्रीय विनियामक प्राधिकरण - केंद्रीय औषध मानक नियंत्रण संगठन को सौंप दि‍या है। विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने कहा है कि वैक्‍सीन विषय विशेषज्ञ समिति ने पहले चरण के अंतरिम डाटा की समीक्षा की और एचजीसीओ-19 वैक्‍सीन को संतोषजनक, सुरक्षित तथा प्रतिरक्षक पाया है। इसका विकास मिशन कोविड सुरक्षा के अंतर्गत जैव प्रौद्योगिकी विभाग - जैव प्रौद्योगिकी उद्योग अनुसंधान सहायता संगठन की भागीदारी से किया जाएगा।

उपराष्ट्रपति ने ‘Vaccinate India Programme’ लांच किया

भारत के उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने 24 अगस्त, 2021 को “Vaccinate India Programme” लांच किया। इस अवसर पर, उन्होंने लोगों से COVID-19 मानदंडों का सख्ती से पालन करने की अपील की। यह कार्यक्रम बेंगलुरु में गिव इंडिया फाउंडेशन (Give India Foundation) और सस्टेनेबल गोल्स कोऑर्डिनेशन सेंटर (Sustainable Goals Coordination Centre) द्वारा आयोजित किया गया था। इसे कर्नाटक सरकार के योजना विभाग के सहयोग से CSR के तहत लॉन्च किया गया था। कार्यक्रम का आयोजन बेंगलुरु के राजभवन में किया गया।

आरबीआई ने प्राथमिक (शहरी) सहकारी बैंकों से संबंधित एन.एस. विश्वनाथन समिति की रिपोर्ट जारी की

भारतीय रिज़र्व बैंक (आरबीआई) ने 15 फरवरी 2021 को श्री एन. एस. विश्वनाथन, पूर्व उप गवर्नर, भारतीय रिज़र्व बैंक की अध्यक्षता में प्राथमिक (शहरी) सहकारी बैंक पर एक विशेषज्ञ समिति के गठन की घोषणा की थी। विशेषज्ञ समिति को मुद्दों की जांच करने और बैंककारी विनियमन अधिनियम, 1949 (सहकारी समितियों पर यथा लागू) में किए गए हाल के संशोधनों का लाभ उठाते हुए, इस क्षेत्र को मजबूत करने के लिए एक रूपरेखा प्रदान करने की आवश्यकता थी। समिति ने अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत कर दी है, जिसकी एक प्रति भारतीय रिज़र्व बैंक की वेबसाइट पर हितधारकों और जनता की टिप्पणियों के लिए रखी जा रही है। इस समिति के अनुसार, शहरी सहकारी बैंकों (UCBs) को चार श्रेणियों में विभाजित किया जा सकता है

  1. टियर-1 : 100 करोड़ रुपये तक की जमा राशि के साथ
  2. टियर-2 : 100-1000 करोड़ रुपये के बीच जमा के साथ
  3. टियर-3 : 1000 करोड़ रुपये से 10000 रुपये के बीच जमा
  4. टियर-4 : 10000 करोड़ रुपये से ज्यादा की जमा राशि।

भारत-फिलिपींस सामुद्रिक साझेदारी युद्धाभ्यास

हाल ही में भारतीय नौसेना ने पश्चिमी फिलीपीन सागर (West Philippine Sea) में फिलिपींस की नौसेना के साथ एक सामुद्रिक साझेदारी युद्धाभ्यास किया। इस पहले इंग्लिश चैनल में भारत-यू.के नौसैनिक अभ्यास ‘कोंकण 2021’ का आयोजन किया गया था। यह अभ्यास स्थिर, शांतिपूर्ण और समृद्ध इंडो-पैसिफिक को सुनिश्चित करने के सामूहिक उद्देश्य की दिशा में समुद्री क्षेत्र में द्विपक्षीय सहयोग को मज़बूती प्रदान करेगा। यह उन अभ्यासों की शृंखला में से एक है जिनका आयोजन भारत द्वारा उन देशों के साथ मिलकर आयोजित किया जा रहा है जो चीन के साथ अपनी समुद्री सीमाओं को साझा करते हैं। क्वाड देश (भारत, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और जापान) हिंद-प्रशांत में चीन की बढ़ती सैन्य उपस्थिति के प्रत्युत्तर में गुआम के तट पर मालाबार नौसैनिक अभ्यास के अगले संस्करण का आयोजन करेंगे।

उत्‍तर-पूर्वी क्षेत्र जिला सतत विकास लक्ष्‍य इंडेक्‍स रिपोर्ट और डैशबोर्ड 26 अगस्‍त को लांच किया जाएगा

नीति आयोग और उत्‍तर-पूर्वी क्षेत्र विकास मंत्रालय की ओर से इस महीने की 26 तारीख को उत्‍तर-पूर्वी क्षेत्र जिला सतत विकास लक्ष्‍य इंडेक्‍स रिपोर्ट और डैशबोर्ड 2021-22 लांच किया जाएगा। देश में यह अपनी तरह का पहला क्षेत्रीय जिला स्‍तर का सतत विकास लक्ष्‍य इंडेक्‍स होगा। देश में पूर्वोत्‍तर क्षेत्र के आठ राज्‍यों अरूणाचल प्रदेश, असम, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड, सिक्किम और त्रिपुरा के एक सौ बीस जिले इसके दायरे में आएंगे। इन क्षेत्रों में स्‍थानीय उद्यम को बढावा देते हुए सतत विकास लक्ष्‍य प्राप्‍त करने में इस इंडेक्‍स की महत्‍वपूर्ण भूमिका होगी।

सरकार ने कहा-कोविड वैक्सीन के लिए स्लॉट सोशल मीडिया प्लेटफार्म व्हाट्स-ऐप के माध्यम से बुक किया जा सकता है

सरकार ने कहा कि कोविड वैक्सीन स्लॉट अब सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म व्हाट्सऐप के जरिए बुक किए जा सकेंगे। स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने एक ट्वीट में कहा है कि मोबाइल नंबर 9013151515 के जरिए स्लॉट बुक किए जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि छह अंकों का ओटीपी दर्ज करने के बाद, लोग पसंदीदा तिथि, स्थान, पिन कोड और वैक्सीन चुन सकते हैं।

नीति आयोग और वर्ल्ड रिसोर्सेज इंस्टीट्यूट, इंडिया ने संयुक्त रूप से भारत में ‘फोरम फॉरडीकार्बनाइजिंग ट्रांसपोर्ट' शुरू किया

नीति आयोग और वर्ल्ड रिसोर्सेज इंस्टीट्यूट (डब्ल्यूआरआई), इंडिया ने संयुक्त रूप से 23 अगस्त को एनडीसी-ट्रांसपोर्ट इनीशियेटिव फोर एशिया (एनडीसी-टीआईए) परियोजना के तहत भारत में 'फोरम फॉरडीकार्बनाइजिंग ट्रांसपोर्ट' शुरू किया। यह कार्यक्रम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आयोजित किया गया था और नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) श्री अमिताभ कांत ने इस फोरम (मंच) का उद्घाटनकिया।कार्यक्रम में विभिन्न मंत्रालयों और एनडीसी-टीआईए परियोजना भागीदारों के साथ-साथ मोबिलिटी (आवाजाही)और ऊर्जा क्षेत्र के हितधारकों सहित गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे। इस परियोजना का उद्देश्य (दो डिग्री से नीचे के मार्ग के अनुरूप) एशिया में ग्रीन हाउस गैस (जीएचजी) उत्सर्जन (परिवहन क्षेत्र) के चरम स्तर को नीचे लाना है। ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जन की वजह सेसंकुलन और वायु प्रदूषण जैसी समस्याएं होती हैं। भारत में एक विशाल और विविध परिवहन क्षेत्र है, जो कार्बन डाइऑक्साइड का उत्सर्जन करने वाला तीसरा सबसे बड़ा क्षेत्र है। इंटरनेशनल एनर्जी एजेंसी (आईईए), 2020; पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय, 2018 के डेटा से पता चलता है कि परिवहन क्षेत्र में शामिल सड़क परिवहन, कॉर्बन डाईऑक्साइड के कुल उत्सर्जन में 90% से अधिक का योगदान देता है। विभिन्न नीतिगत उपायों और पहलों के माध्यम से, भारत सरकार देश में इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) को अपनाने पर मुख्य ध्यान देने के साथ सड़क परिवहन के कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन को घटाने(डीकार्बनाइजेशन) की दिशा में लगातार काम कर रही है। नीति आयोग नेशनल मिशन ऑन ट्रांसफोर्मेटिव मोबिलिटी एंड बैटरी स्टोरेज के माध्यम से ईवी और सतत आवाजाही को बढ़ावा देने में शीर्ष भूमिका निभा रहा है।

एनसीएल कोविड-19 के खिलाफ सभी कर्मचारियों का टीकाकरण करने वाला पहला सार्वजनिक क्षेत्र का उद्यम बना

कोल इंडिया लिमिटेड की सहायक कंपनी नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) देश में अपने सभी कर्मचारियों और उनके परिवार के सदस्यों को कोविड-19 के खिलाफ टीका लगाने वाला पहला सार्वजनिक क्षेत्र का उपक्रम बन गया है। कंपनी में लगभग पचास हजार कर्मचारी हैं, जिनमें तेरह हजार से अधिक पूर्णकालिक कर्मचारी, सोलह हजार संविदा कर्मचारी और उनके परिवार के बीस हजार सदस्य हैं जो कंपनी के आसपास रहते हैं। एनसीएल, भारत सरकार की सिंगरौली आधारित एक मिनीरत्न कंपनी है, जो 10 उच्च मशीनीकृत ओपनकास्ट कोयला खानों के साथ काम कर रही है और देश के कुल कोयला उत्पादन में 15 प्रतिशत का योगदान करती है। पिछले वित्त वर्ष के दौरान कंपनी ने 115 मिलियन टन से ज्यादा कोयले का उत्पादन किया।

नागपुर में रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह की उपस्थिति में मल्टी-मोड हैंड ग्रेनेड का पहला बैच भारतीय सेना को सौंपा गया

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन(डीआरडीओ) के टर्मिनल बैलिस्टिक अनुसंधान प्रयोगशाला से टेक्नोलॉजी हस्तांतरण के बाद इकोनॉमिक एक्सप्लोसिव लिमिटेड(ईईएल) द्वारा बनाया गया मल्टी-मोड हैंड ग्रेनेड(एमएमएचजी) का पहला बैच नागपुर,महाराष्ट्र में 24 अगस्त,2021 को रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह की उपस्थिति में भारतीय सेना को सौंपा गया। ईईएल के अध्यक्ष श्री एस एन नुवाल ने निजी क्षेत्र से हथियार की पहली डिलीवरी के मौके पर एमएमएचजी की स्केल प्रतिकृति रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह को सौंपी। ग्रेनेड न केवल अधिक घातक है बल्कि उपयोग में भी सुरक्षित है। इसकी डिजायन विशिष्ट है जो रक्षात्मक(फ्रैगमेंटेशन) तथा आक्रामक( स्टन) मोड में भी काम करता है। इसमें सटीक विलंब समय है ,उपयोग में उच्च विश्वसनीयता है तथा ले जाने में सुरक्षित है। नए ग्रेनेड प्रथम विश्व युद्ध के विशिष्ट जायन के ग्रेनेड नंबर 36 का स्थान लेगा जो अभी तक सेवा में है। ईएल ने भारतीय सेना और भारतीय वायु सेना के लिए 10 लाख आधुनिक हैंड ग्रेनेड की आपूर्ति के लिए 01 अक्टूबर, 2020 को रक्षा मंत्रालय के साथ एक करार पर हस्ताक्षर किया था।

इज़रायल ने 3 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए कोविड एंटीबॉडी परीक्षण शुरू किया

इज़रायल ने तीन साल की उम्र के बच्चों के लिए एंटीबॉडी परीक्षण शुरू किया ताकि उन टीका लगाने वाले युवाओं की सही संख्या प्राप्त की जा सके जिन्होंने कोरोनोवायरस के खिलाफ एंटीबॉडी विकसित की है। ये परीक्षण स्कूलों के खुलने की पृष्ठभूमि में शुरू किए गए थे। अत्यधिक संक्रामक डेल्टा संस्करण के कारण दैनिक संक्रमणों में वृद्धि के बावजूद, इज़रायल सरकार स्कूल बंद होने के कारण होने वाली कठिनाइयों और विकासात्मक झटकों से बचना चाहती है। इज़रायल ने पहले से ही 12 वर्ष और उससे अधिक उम्र के बच्चों का टीकाकरण शुरू कर दिया है। इज़रायल का राष्ट्रीय सीरोलॉजिकल सर्वेक्षण 3 से 12 वर्ष की आयु के विद्यार्थियों पर केंद्रित है जो अभी तक टीकाकरण के लिए योग्य नहीं हैं। इनकी संख्या लगभग 1.5 मिलियन है।इज़रायल का यह सबसे बड़ा सीरोलॉजिकल ऑपरेशन 15 मिनट के नि:शुल्क परीक्षण द्वारा किया गया।

PayPal ने यूके में क्रिप्टोकरेंसी की खरीदा और बिक्री शुरू की

PayPal Holdings Inc ने यूनाइटेड किंगडम में क्रिप्टोकरेंसी खरीद और बिक्री शुरू की है। PayPal यूके में ग्राहकों को अब बिटकॉइनम (bitcoin) और अन्य क्रिप्टोकरेंसी (cryptocurrency) खरीदने, बेचने और रखने की अनुमति देगा। यह रोल-आउट अमेरिका के बाहर PayPal की क्रिप्टोकरेंसी सेवाओं के पहले अंतर्राष्ट्रीय विस्तार को चिह्नित करता है। यह कदम मुख्यधारा में नए परिसंपत्ति वर्ग को अपनाने के लिए प्रेरित करेगा। PayPal के दुनिया भर में 403 मिलियन से अधिक सक्रिय खाते हैं और यह सबसे बड़ी मुख्यधारा की वित्तीय कंपनियां हैं जो उपभोक्ताओं को क्रिप्टोकरेंसी तक पहुंच प्रदान करती हैं। इसने वर्ष 2021 में अमेरिका में क्रिप्टोकरेंसी खरीदने और बेचने की शुरुआत की और बाद में अपने ग्राहकों को अपने नेटवर्क पर लाखों व्यापारियों पर खरीदारी करने के लिए अपने डिजिटल कॉइन होल्डिंग्स का उपयोग करने में सक्षम बनाया। पेपाल को उम्मीद है कि नए परिसंपत्ति वर्ग में शामिल होने से वर्चुअल कॉइन्स के वैश्विक उपयोग को बढ़ावा मिलेगा।

भारत में महिलाओं और MSMEs के लिए USAID, DFC और कोटक बैंक ने समझौते पर हस्ताक्षर किये

USAID (United States Agency for International Development) और USDFC (U.S. International Development Finance Corporation) कोटक महिंद्रा बैंक को 50 मिलियन डॉलर की ऋण पोर्टफोलियो गारंटी प्रायोजित कर रहे हैं। भारत में महिला उधारकर्ताओं के साथ-साथ सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (MSMEs) के लिए वित्त की पहुंच का समर्थन करने के लिए इस समझौते पर हस्ताक्षर किए गए थे। यह समझौता MSMEs को अपने व्यवसाय के पुनर्निर्माण और पैमाने पर मदद करेगा जो COVID-19 से प्रभावित हुए हैं। इस ऋण कार्यक्रम के तहत, कोटक महिंद्रा बैंक गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (Non-Banking Financial Companies – NBFCs) को ऋण प्रदान करेगा जो MSME और माइक्रोफाइनेंस (Microfinance) क्षेत्र में काम कर रहे हैं। यह अंतिम उधारकर्ताओं को ऋण प्रदान करने में मदद करेगा जो बदले में एक सतत और समावेशी आर्थिक विकास को बढ़ावा देगा। यह महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण पर भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा क्योंकि लगभग 50% ऋण महिलाओं के नेतृत्व वाले या महिला-प्रबंधित MSMEs या उन MSMEs को दिया जाएगा जो महिलाओं के एक निश्चित प्रतिशत को रोजगार देते हैं। इस कार्यक्रम से 30,000 से अधिक व्यक्तिगत महिला उधारकर्ताओं और 7,500 MSMEs फर्मों को लाभ होने की उम्मीद है।

भारत ने मास्को में ‘ARMY- 2021’ में स्वदेशी लड़ाकू विमान ‘तेजस’ को प्रदर्शित किया गया

भारत ने स्वदेश निर्मित लड़ाकू विमानों को मास्को में अंतर्राष्ट्रीय सैन्य-तकनीकी फोरम ARMY- 2021’ में पेश किया। भारत के पवेलियन में DRDO उन्नत रक्षा प्रौद्योगिकियों और गोवा शिपयार्ड लिमिटेड (GSL), भारत अर्थ मूवर्स लिमिटेड (BEML) और आयुध कारखानों जैसे भारतीय रक्षा उद्योगों द्वारा अपने आविष्कारों को प्रदर्शित किया गया। ‘ARMY- 2021’ में एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल, LCA तेजस और अर्जुन मेन बैटल टैंक इत्यादि का प्रदर्शन किया गया। अन्य उपकरणों में शामिल हैं- 48 किलोमीटर की सबसे लंबी रेंज वाली 8x-गन, एयरबोर्न अर्ली वार्निंग एंड कंट्रोल सिस्टम (AEW&C), अर्जुन टैंक मार्क 1A, सर्विलांस रडार रोहिणी, हेलिना और नाग, फायर कंट्रोल रडार, आकाश मिसाइल और कार्बाइन JVPC। अधिकारियों के अनुसार, भारत से रक्षा निर्यात में DRDO के प्रयासों से आगे बढ़ने की बहुत बड़ी संभावना है। DRDO अधिकांश स्वदेशी प्रणालियों का विकासकर्ता है।

भारत का पहला स्वदेशी मोटर चालित व्हीलचेयर NeoBolt

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मद्रास ने नियोबोल्ट (NeoBolt) नामक भारत का पहला स्वदेशी मोटर चालित व्हीलचेयर वाहन विकसित किया है। NeoBolt का उपयोग सड़कों के साथ-साथ असमान इलाकों में भी किया जा सकता है। इसकी अधिकतम गति 25 किमी प्रति घंटा है और यह प्रति चार्ज 25 किमी तक की यात्रा कर सकती है। यह व्हीलचेयर कारों, ऑटो रिक्शा और स्कूटरों की तुलना में परिवहन का एक सुविधाजनक, सुरक्षित और कम लागत वाला तरीका हैं। यह लिथियम-आयन बैटरी द्वारा संचालित है। NeoBolt मोटर से चलने वाला अटैचमेंट है जो व्हीलचेयर को सुरक्षित, सड़क पर चलने लायक वाहन में बदल देता है।

‘2016 AJ193’ क्षुद्रग्रह पृथ्वी के करीब से गुज़रा

दुनिया की सबसे ऊँची इमारत ‘बुर्ज खलीफा’ से भी विशाल क्षुद्रग्रह हाल ही में पृथ्वी के करीब से गुज़रा है। अपने विशाल आकार और पृथ्वी के करीब इसकी कक्षा के कारण वैज्ञानिकों द्वारा इस क्षुद्रग्रह को ‘संभावित खतरनाक क्षुद्रग्रह’ (PHAs) के रूप में वर्णित किया गया था। पृथ्वी से इस क्षुद्रग्रह की दूरी बीते 65 वर्षों में पृथ्वी के पास से गुज़रने वाले किसी भी क्षुद्रग्रह की तुलना में सबसे करीब थी। इस क्षुद्रग्रह को अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी ‘नेशनल एरोनॉटिकल स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन’ (NASA) द्वारा आधिकारिक तौर पर ‘2016 AJ193’ नाम दिया गया था। नासा के मुताबिक, यह खगोलीय निकाय 94,208 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से यात्रा कर रहा था, जो कि इस प्रकार के किसी अन्य खगोलीय निकाय की तुलना में काफी अधिक है। नासा सहित दुनिया भर की विभिन्न अंतरिक्ष एजेंसियों के वैज्ञानिक लगातार क्षुद्रग्रह की गति पर नजर रख रहे हैं। क्षुद्रग्रह सूर्य की परिक्रमा करने वाले छोटे चट्टानी पदार्थ होते हैं। क्षुद्रग्रह द्वारा सूर्य की परिक्रमा ग्रहों के समान ही की जाती है लेकिन इनका आकार ग्रहों की तुलना में बहुत छोटा होता है। ‘संभावित खतरनाक क्षुद्रग्रह’ (PHAs) किसी एक क्षुद्रग्रह के पृथ्वी के करीब आने की संभावना को इंगित करता है।

पैरालंपिक खेलों का भव्‍य उद्घाटन समारोह टोक्यो के ओलंपिक स्टेडियम में

पैरालंपिक खेल 2020 का उद्घाटन जापान की राजधानी तोक्‍यो में रंगारंग कार्यक्रम के साथ हुआ। तोक्यो 57 साल बाद दूसरी बार पैरालंपिक खेलों की मेजबानी कर रहा है। इस बार की थीम है- 'हमारे पास पंख हैं'। उद्घाटन समारोह का आरंभ एक वीडियो के साथ हुई, जिसमें पैरा खिलाड़ियों की शक्ति को दर्शाया गया। अंतरराष्ट्रीय पैरालंपिक समिति के अध्यक्ष एंड्रयू पार्सन्स और जापान के सम्राट नारुहितो का स्टेडियम में स्वागत किया गया। खेलों के इस महाकुंभ के उद्घाटन समारोह में भारत की ओर से टेक चंद ध्वजवाहक रहे। पैरालंपिक का आयोजन दर्शकों के बिना किया जाएगा।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.