Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

31 August 2021

भाला फेंक स्‍पर्धा में सुमित अंतिल, निशानेबाज अवनी लेखरा ने तोक्‍यो पैरालिम्पिक में स्‍वर्ण पदक हासिल किए

टोक्यो पैरालिंपिक में भारत ने दो स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रच दिया है। एफ-64 भाला फ़ेंक स्पर्धा में सुमित अंतिल ने विश्व रिकॉर्ड बनाते हुए स्वर्ण पदक अपने नाम किया। उन्होंने 68 दशमलव 5-5 मीटर तक भाला फ़ेंक कर विश्व रिकॉर्ड बनाया। सुमित ने तीसरी बार विश्व रिकॉर्ड तोड़ा है। इससे पहले निशानेबाजी में महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में अवनि लेखरा ने स्वर्ण पदक जीता। अवनी पैरालंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वालीं पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बनीं। अवनी लेखारा का जन्म 8 नवम्बर, 2001 को राजस्थान के जयपुर में हुआ था। वे एक राइफल शूटर हैं, वे वर्तमान में विश्व में पांचवें स्थान पर है। पुरुषों की डिस्कस थ्रो स्पर्धा में भारत के योगेश कथुनिया ने रजत पदक हासिल किया। एफ-56 भाला फेंक स्पर्धा में देवेंद्र झाझरिया रजत पदक जीतने में सफल रहे। वहीं सुंदर सिंह गुर्जर ने कांस्य पदक हासिल किया। भारत अब तक दो स्वर्ण, चार रजत और एक कांस्य के साथ कुल सात पदक लेकर तालिका में 26वें स्थान पर है।

e-GOPALA एप्लिकेशन का वेब संस्करण लॉन्च किया गया

e-GOPALA एप्लिकेशन का वेब संस्करण 28 अगस्त, 2021 को लॉन्च किया गया। ई-गोपाला का वेब संस्करण राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड (National Dairy Development Board – NDDB) द्वारा विकसित किया गया है। डेयरी किसानों की सहायता के लिए यह पोर्टल लांच किया गया था। NDDB ने IMAP वेब पोर्टल भी लॉन्च किया जो डेयरी किसानों को डेयरी पशुओं की बेहतर उत्पादकता प्रदान करने के लिए वास्तविक समय की जानकारी प्रदान करता है। इस वेब पोर्टल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘डिजिटल इंडिया’ के विज़न के अनुरूप लॉन्च किया गया था। ई-गोपाला एप्प एक व्यापक नस्ल सुधार बाज़ार और सूचना पोर्टल है, जिसका उपयोग सीधे किसान करते हैं।

भारतीय रेलवे ने 58 वंदे भारत ट्रेनों के लिए टेंडर जारी किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 15 अगस्त की घोषणा के बाद, भारतीय रेलवे ने 58 वंदे भारत ट्रेन सेट के लिए एक टेंडर जारी किया है। “आजादी का अमृत महोत्सव” के 75 सप्ताह के दौरान 75 ऐसी ट्रेनों को चलाने के लिए निविदा जारी की गई है। वर्तमान में, दो वंदे भारत ट्रेनें चल रही हैं:

  1. दिल्ली से कटरा और
  2. दिल्ली से वाराणसी।
टेंडर के अनुसार मार्च, 2024 तक 102 वंदे भारत ट्रेनें रेलवे को दी जाएंगी। 102 में से 75, 15 अगस्त 2022 तक उपलब्ध हो जाएंगी। चेन्नई में इंटीग्रल कोच फैक्ट्री (ICF), रायबरेली में मॉडर्न कोच फैक्ट्री (MCF) और कपूरथला में रेल कोच फैक्ट्री (RCF) में नए कोचों का निर्माण किया जाएगा। ICF 30 रेक का निर्माण करेगा, जबकि MCF और RCF प्रत्येक में 14 रेक का निर्माण करेगा। वंदे भारत एक्सप्रेस (Vande Bharat Express) भारतीय सेमी-हाई-स्पीड, इंटरसिटी, ईएमयू ट्रेन, जिसे ट्रेन 18 के नाम से भी जाना जाता है, चेन्नई के पेराम्बूर में इंटीग्रल कोच फैक्ट्री (ICF) द्वारा डिजाइन और निर्मित की गई थी। इसका निर्माण मेक इन इंडिया पहल के तहत 18 महीनों में किया गया था। ट्रेन 18 को 15 फरवरी, 2019 को लॉन्च किया गया था। 27 जनवरी, 2019 को इसका नाम ‘वंदे भारत एक्सप्रेस’ रखा गया।

लद्दाखी खुबानी के दुबई निर्यात के लिए पहली खेप रवाना

लद्दाख में लद्दाख स्‍वायत्‍तशासी पर्वतीय विकास परिषद के मुख्‍य कार्यकारी पार्षद फिरोज अहमद खान और करगिल के उपायुक्‍त संतोष सुखदेवे ने एक ऐतिहासिक कार्यक्रम में दुबई के लिए लद्दाखी खुबानी के निर्यात की पहली खेप को रवाना किया। लद्दाख के केन्‍द्र शासित प्रदेश बनाने के बाद यह कार्यक्रम करगिल के लिए मील का पत्‍थर बन गया है। कृषक एग्रीटैक इस फल को न सिर्फ भारतीय बाजारों को उपलब्‍ध करा रहा है बल्कि उसने इसे अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में भी इसे उपलब्‍ध करा दिया है। दुबई से एक सौ 50 किलो खुबानी की पहली मांग प्राप्‍त हुई है।

केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने अपने लोकसभा संसदीय क्षेत्र गांधीनगर में गर्भवती महिलाओं के लिए पौष्टिक ‘लड्डू वितरण योजना’ का शुभारंभ किया

केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने अपने लोकसभा संसदीय क्षेत्र गांधीनगर में गर्भवती महिलाओं के लिए पौष्टिक ‘लड्डू वितरण योजना’ का शुभारंभ किया। गांधीनगर क्षेत्र में लगभग सात हज़ार गर्भवती महिलाओं को कुपोषण से लड़ने के लिए स्वंयसेवी संस्थाओं के माध्यम से, जब तक बच्चे का जन्म नहीं हो जाता, तब तक हर माह 15 पौष्टिक लड्डू मुफ़्त मिलेंगे। उन्होंने कहा कि इस योजना में सरकार का एक भी पैसा नहीं लगेगा क्योंकि इसकी ज़िम्मेदारी स्वंयसेवी संस्थाओं ने उठाई है। श्री अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री जी ने 8 मार्च 2018 को राजस्थान के झुंझनु से पोषण अभियान की शुरूआत की थी और कुपोषण के मुद्दों को लेकर देशभर में जागरूकता फैलाने का काम किया।

आयुष मंत्रालय ने लॉन्च किया Y-Break App

केंद्रीय आयुष मंत्रालय ने 29 अगस्त, 2021 को विज्ञान भवन से वाई-ब्रेक एप्प (Y-Break App) लॉन्च किया। इसे केंद्रीय आयुष मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने लॉन्च किया था। इस अवसर पर, आयुष मंत्रालय द्वारा आजादी का अमृत महोत्सव मनाने के लिए कई गतिविधियों और अभियानों का शुभारंभ किया गया। Y-Break App के अलावा कृषि भूमि में औषधीय पौधों की खेती, घरों में औषधीय पौधों का वितरण और आयुष प्रणाली पर स्कूल और कॉलेज जाने वाले छात्रों के संवेदीकरण जैसे एक साल के अभियान शुरू किए गए। यह सप्ताह भर चलने वाली गतिविधियां और अभियान 30 अगस्त से 5 सितंबर तक शुरू होंगे।

सितम्बर में मनाया जायेगा पोषण माह

केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने सितंबर 2021 में पोषण माह आयोजित करने और मनाने की योजना पर प्रकाश डाला है। पोषण अभियान गर्भवती महिलाओं, स्तनपान कराने वाली मां, बच्चों और किशोरियों के लिए पोषण संबंधी परिणामों में सुधार के लिए भारत सरकार का प्रमुख कार्यक्रम है। यह मिशन 8 मार्च, 2018 को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लांच किया गया था। पोषण (POSHAN) का अर्थ “Prime Minister’s Overarching Scheme for Holistic Nutrition” अभियान है। इस मिशन की घोषणा 2021-2022 के बजट में की गई थी। पोषण अभियान कुपोषण की समस्या की ओर देश का ध्यान आकर्षित करता है और इसे मिशन-मोड में संबोधित करता है। यह मिशन पोषण अभियान, मिशन पोषण 2.0 के उद्देश्यों पर केंद्रित है। यह पोषण सामग्री, वितरण और परिणामों को मजबूत करने का प्रयास करता है ताकि बीमारियों के साथ-साथ कुपोषण, स्वास्थ्य, कल्याण और प्रतिरक्षा पर समुचित ध्यान दिया जा सके।

RBI ने भारत-नेपाल प्रेषण सुविधा के अंतर्गत ट्रान्सफर की सीमा को बढ़ाकर किया 2 लाख रुपये

भारतीय रिजर्व बैंक ने भारत-नेपाल प्रेषण सुविधा योजना के तहत धन हस्तांतरण की सीमा 50,000 रुपये प्रति लेनदेन से बढ़ाकर 2 लाख रुपये प्रति लेनदेन कर दी है। पहले एक साल में 12 लेन-देन की अधिकतम सीमा थी। अब यह सीमा भी हटा दी गई है। हालांकि, भारत-नेपाल प्रेषण सुविधा के तहत नकद-आधारित हस्तांतरण के लिए, 50,000 रुपये की प्रति लेन-देन की सीमा अभी भी एक वर्ष में अधिकतम 12 स्थानान्तरण के साथ मौजूद रहेगी। भारत-नेपाल प्रेषण सुविधा भारत से नेपाल के लिए एक फंड ट्रांसफर तंत्र है जो NEFT पर संचालित होता है। इसे वर्ष 2008 में आरबीआई द्वारा शुरू किया गया था। इसे भारत में एसबीआई और नेपाल में नेपाल एसबीआई बैंक लिमिटेड (एनएसबीएल) द्वारा प्रबंधित किया जाता है।

SpaceX ने अंतरिक्ष स्टेशन के लिए चींटियां, एवोकाडो और रोबोटिक आर्म को लॉन्च किया

SpaceX ने 29 अगस्त, 2021 को अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के लिए चींटियों, एवोकाडो, मानव-आकार के रोबोटिक आर्म का शिपमेंट लॉन्च किया। यह एक दशक में नासा के लिए SpaceX का 23वां मिशन होगा। ड्रैगन अंतरिक्ष स्टेशन के सात अंतरिक्ष यात्रियों के लिए 2,170 किलोग्राम से अधिक आपूर्ति और प्रयोगों के साथ-साथ एवोकैडो, नींबू और आइसक्रीम जैसे ताजा भोजन ले जा रहा है। गर्ल स्काउट्स ने परीक्षण विषयों के रूप में चींटियों, नमकीन झींगा और पौधों को भेजा है। नासा के कैनेडी स्पेस सेंटर से रीसाइकिल किये गये फाल्कन रॉकेट को आकाश में लांच किया गया। लांच के बाद पहले चरण के बूस्टर को स्पेसएक्स के “A Shortfall of Gravitas” नामक समुद्री प्लेटफार्म पर लैंड किया गया।

SP सेतुरमन ने जीता 2021 बार्सिलोना ओपन शतरंज टूर्नामेंट

शतरंज में, भारतीय ग्रैंडमास्टर एसपी सेतुरमन ने 2021 बार्सिलोना ओपन शतरंज टूर्नामेंट का खिताब जीता लिया है, नौ राउंड में अजय रहते हुए, छह मैच जीते और तीन ड्रॉ रहे. चेन्नई में जन्मे सेथुरमन ने नौवें और अंतिम दौर के बाद 7.5 अंक जुटाकर रूस के डेनियल युफा से बराबरी कर ली। हालांकि, भारतीय खिलाड़ी बेहतर टाई-ब्रेक स्कोर के आधार पर विजेता के रूप में उभरा। भारत के कार्तिकेयन मुरली तीसरे स्थान पर रहे।

मैक्स वेरस्टापेन ने जीती बेल्जियम ग्रैंड प्रिक्स 2021

मैक्स वर्स्टापेन (रेड बुल - नीदरलैंड) को बेल्जियम ग्रैंड प्रिक्स 2021 का विजेता घोषित किया गया है। बेल्जियम ग्रां प्री को बारिश के कारण रोक दिया गया था और केवल दो लैप पूरे हुए थे। इन दोनों लैप्स में हुई प्रगति के आधार पर विजेता का फैसला किया गया। जॉर्ज रसेल विलियम्स दूसरे और लुईस हैमिल्टन, मर्सिडीज तीसरे स्थान पर रहे।

इंटरनेशनल डे ऑफ विक्टिम्स ऑफ इंन्फोर्स्ड डिसएप्पीयरेंसेंस : 30 अगस्त

संयुक्त राष्ट्र द्वारा हर साल 30 अगस्त को विश्व स्तर पर International Day of the Victims of Enforced Disappearances यानि जबर्दस्ती गुम किए गए पीड़ितों का अंतर्राष्ट्रीय दिवस मनाया जाता है। यह दिन गिरफ्तारी, नजरबंद और अपहरण की घटनाओं सहित दुनिया के विभिन्न क्षेत्रों में जबरदस्ती या बिना मर्जी के गायब किए जाने वाले लोगों के बारे में गंभीर चिंता व्यक्त करने के लिए मनाया जाता है। उपरोक्त सभी घटनाओं के परिणामस्वरूप उत्पीड़न से संबंधित रिपोर्ट की संख्या बढ़ जाती है, जिनमे गायब होने वाले या जिनके परिवारों को उत्पीड़न, दुर्व्यवहार सहना पड़ा हो या जिन्हें धमकाया गया हो आदि से संबंधित हैं।

राष्ट्रीय लघु उद्योग दिवस: 30 अगस्त

देश भर में हर साल 30 अगस्त को छोटे उद्योगों को उनकी समग्र विकास क्षमता और वर्ष में उनके विकास के लिए प्राप्त अवसरों के समर्थन और बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रीय लघु उद्योग दिवस के रूप में मनाया जाता है। उद्योग दिवस मौजूदा छोटे, मध्यम और बड़े पैमाने के उद्यमों को संतुलित विकास प्रदान करने और राज्य के वित्तीय स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए नए उद्योग स्थापित करने में सहायता प्रदान करने का एक माध्यम है। लघु उद्योगों और कुटीर उद्योगों ने भारतीय अर्थव्यवस्था में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। भारत के आधार और कुटीर निर्माताओं में सर्वोत्तम गुणवत्ता लाभ का उत्पादन किया गया है। यद्यपि इस क्षेत्र में अन्य भारतीय व्यवसायों की तरह ब्रिटिश शासन में भारी गिरावट का अनुभव हुआ, यह स्वतंत्रता के बाद बहुत तेज कदम से बढ़ा है।

परमाणु परीक्षण के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय दिवस: 29 अगस्त

हर साल 29 अगस्त को विश्व स्तर पर परमाणु परीक्षण के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय दिवस (International Day against Nuclear Tests) मनाया जाता है। इस दिन का उद्देश्य परमाणु हथियार परीक्षण विस्फोटों या किसी अन्य परमाणु विस्फोटों के प्रभावों के बारे में जागरूकता बढ़ाना और परमाणु-हथियार-मुक्त दुनिया के लक्ष्य को प्राप्त करने के साधनों के रूप में से एक के रूप में उनकी समाप्ति की आवश्यकता के प्रति जागरुक करना है। 2 दिसंबर 2009 को, संयुक्त राष्ट्र महासभा के 64 वें सत्र ने अपने प्रस्ताव 64/35 के सर्वसम्मति स्वीकृति के माध्यम से परमाणु परीक्षण के खिलाफ 29 अगस्त को अंतर्राष्ट्रीय दिवस घोषित किया। 2010 में सबसे पहली बार परमाणु परीक्षण के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय दिवस मनाया गया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जानेमाने लेखक बुद्धदेब गुहा के निधन पर शोक व्‍यक्‍त किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जानेमाने लेखक बुद्धदेब गुहा के निधन पर शोक व्‍यक्‍त किया है। मधुकरी जैसी कई प्रसिद्ध कृतियों के लेखक बुद्धदेब गुहा का 85 साल की उम्र में निधन हो गया। अपनी रचनाओं से भारत के पूर्वी राज्यों की प्राकृतिक सुंदरता को उजागर करने वाले बुद्धदेब गुहा कोरोना संक्रमण से ठीक होने बाद भी कई समस्याओं से ग्रसित थे। बुद्धदेब गुहा का जन्म 29 जून 1936 को कोलकाता में हुआ था। उनका बचपन पूर्वी बंगाल (अब बांग्लादेश) के रंगपुर और बारीसाल जिलों में बीता। बचपन के अनुभवों और यात्राओं का उनके जीवन पर बहुत अधिक प्रभाव हुआ। इसकी छाप उनके काम में दिखाई पड़ती है। अपनी उत्कृष्ट लेखन के लिए उन्हें कई पुरस्कारों से भी नवाजा गया है। 1976 में उन्हें आनंद पुरस्कार, इसके बाद शिरोमन पुरस्कार और शरत पुरस्कार मिला।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.