Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

27 September 2021

CAF World Giving Index 2021 जारी किया गया

Charities Aid Foundation (CAF) World Giving Index 2021 हाल ही में प्रकाशित हुआ था, जिसमें भारत को शीर्ष 20 उदार देशों में स्थान मिला। इस रिपोर्ट में भारत को 14वें स्थान पर रखा गया है। CAF की रिपोर्ट में कहा गया है कि, भारत सूचकांक में सबसे तेज प्रगति करने वाले देशों में से एक है। इस रिपोर्ट के अनुसार, 2020 में कोविड-19 महामारी के दौरान 61% भारतीयों ने एक अजनबी की मदद की है। 36% भारतीयों ने दान दिया। 34% भारतीयों ने भारत में सामाजिक कार्यों के लिए स्वेच्छा से भाग लिया। CAF सर्वेक्षण के अनुसार, दुनिया भर के समुदाय कोविड-19 महामारी के दौरान साथी नागरिकों की मदद के लिए जुटे हैं। इसके परिणामस्वरूप 2009 के बाद से सबसे अधिक ‘अजनबी की मदद’ के आंकड़े सामने आए। दुनिया के 55% वयस्कों (यानी 3 बिलियन लोग) को 2020 में किसी ऐसे व्यक्ति की मदद करने की सूचना मिली थी जिसे वे नहीं जानते थे। पिछले पांच वर्षों में दान की तुलना में 2020 में 31% लोगों ने दान दिया। 2020 में स्वयंसेवा के स्तर वैश्विक स्तर पर व्यापक रूप से अपरिवर्तित हैं। अमेरिका, ब्रिटेन, कनाडा, आयरलैंड और नीदरलैंड जैसे विकसित देश सर्वोच्च रैंकिंग से बाहर थे। ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड ने अपनी टॉप-10 रैंकिंग बरकरार रखी। CAF 2021 इंडेक्स में केन्या, नाइजीरिया और घाना जैसे गरीब देशों को शीर्ष-10 उदार देशों में जगह मिली।

यूनिसेफ ने ‘Fed to Fail?’ रिपोर्ट जारी की

यूनिसेफ ने अपनी नई रिपोर्ट “Fed to Fail? The crisis of children’s diets in early life”23 सितंबर, 2021 को जारी की। इस रिपोर्ट के अनुसार, 2 साल से कम उम्र के बच्चों को वह भोजन या पोषक तत्व नहीं मिल रहे हैं जिनकी उन्हें अच्छी तरह से बढ़ने और बढ़ने के लिए जरूरत होती है। इससे अपरिवर्तनीय विकासात्मक नुकसान हो रहा है। इस रिपोर्ट में चेतावनी दी गई है कि बढ़ती गरीबी, संघर्ष, असमानता, जलवायु संबंधी आपदाएं, और स्वास्थ्य आपात स्थिति जैसे COVID-19 महामारी, उन बच्चों के बीच पोषण संकट में योगदान दे रही हैं। जीवन के पहले दो वर्षों में खराब पोषण का सेवन बच्चों के तेजी से बढ़ते शरीर और दिमाग को नुकसान पहुंचा सकता है। यह उनकी स्कूली शिक्षा, नौकरी की संभावनाओं और भविष्य को भी प्रभावित करता है। लेकिन उनके लिए सही प्रकार के पौष्टिक और सुरक्षित खाद्य पदार्थ उपलब्ध कराने की दिशा में बहुत कम प्रगति हुई है। 91 देशों में विश्लेषण करते हुए, इस रिपोर्ट में पाया गया कि, 6-23 महीने की आयु के आधे बच्चों को एक दिन में न्यूनतम अनुशंसित मात्रा में भोजन मिल रहा है। एक तिहाई बच्चे उन खाद्य पदार्थों का उपभोग करते हैं जिनकी उन्हें वृद्धि करने की आवश्यकता होती है।

WFP-ICRISAT ने खाद्य सुरक्षा पर समझौते पर हस्ताक्षर किए

संयुक्त राष्ट्र विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) और अर्ध-शुष्क उष्णकटिबंधीय के लिए अंतर्राष्ट्रीय फसल अनुसंधान संस्थान (ICRISAT) ने 23 सितंबर, 2021 को खाद्य सुरक्षा पर एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। भारत भर में खाद्य, पोषण सुरक्षा और आजीविका में सुधार के लिए कार्यक्रमों और अनुसंधान पर समझौता ज्ञापन (MoU) पर हस्ताक्षर किए गए। WFP और ICRISAT दोनों अनुसंधान को बढ़ावा देने और पारंपरिक पौष्टिक फसलों के बारे में जागरूकता बढ़ाने, खाद्य और पोषण सुरक्षा विश्लेषण करने के लिए सहयोग से काम करेंगे। यह समझौता WFP और ICRISAT के बीच एक रणनीतिक साझेदारी है क्योंकि दोनों खाद्य सुरक्षा के अपने दृष्टिकोण से जुड़े हुए हैं। जलवायु परिवर्तन के बढ़ते संकट और कोविड-19 महामारी जैसे झटके के कारण वैश्विक भूख, खाद्य सुरक्षा, पोषण और लोगों की आजीविका को खतरे में डालने के आलोक में समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए थे। ICRISAT का अर्थ है “International Crops Research Institute for the Semi-Arid Tropics” (अर्ध-शुष्क उष्णकटिबंधीय के लिए अंतर्राष्ट्रीय फसल अनुसंधान संस्थान)। यह एक अंतर्राष्ट्रीय संगठन है जो ग्रामीण विकास के लिए कृषि अनुसंधान करता है। इसका मुख्यालय हैदराबाद के पाटनचेरु में है। ICRISAT की स्थापना 1972 में हुई थी, जबकि इसके चार्टर पर FAO और UNDP द्वारा हस्ताक्षर किए गए थे।

सरकार ने भारत ऋण समाधान कंपनी लिमिटेड (IDRCL) की स्थापना की

सरकार ने भारत ऋण समाधान कंपनी लिमिटेड (India Debt Resolution Company Ltd - IDRCL) नाम से एक परिसंपत्ति प्रबंधन कंपनी (asset management company- AMC) की स्थापना की है, जिसकी 50 करोड़ रुपये की अधिकृत पूंजी पर प्रदत्त पूंजी 80.5 लाख रुपये है। IDRCL अशोध्य ऋणों को साफ करने के लिए नेशनल एसेट रिकंस्ट्रक्शन कंपनी लिमिटेड (NARCL) के साथ मिलकर काम करेगी। बैंक ऑफ बड़ौदा (बीओबी), पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी), बैंक ऑफ इंडिया (बीओआई), बैंक ऑफ महाराष्ट्र, एसबीआई, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, केनरा बैंक, इंडियन बैंक और आईडीबीआई बैंक IDRCL के शेयरधारक हैं। IDRCL एक सेवा कंपनी / परिचालन इकाई है जो परिसंपत्ति का प्रबंधन करेगी और बाजार के पेशेवरों और टर्नअराउंड विशेषज्ञों को शामिल करेगी। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक (Public Sector Bank - PSB) और सार्वजनिक FI के पास अधिकतम 49% हिस्सेदारी होगी जबकि शेष हिस्सेदारी निजी क्षेत्र के ऋणदाताओं के पास होगी।गौरतलब है कि पिछले हफ्ते सरकार ने एनएआरसीएल (NARCL) द्वारा जारी सुरक्षा रसीदों के लिए 30,600 करोड़ रुपये की गारंटी को मंजूरी दी थी।

मौसम विभाग ने 'चक्रवाती तूफान-गुलाब' के लिए रेड अलर्ट जारी किया

मौसम विभाग ने 'चक्रवाती तूफान-गुलाब' के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। तूफान पिछले छह घंटे के दौरान लगभग पश्चिम की ओर बढ़ गया है और उत्‍तर पश्चिम तथा आसपास के पश्चिम-मध्‍य बंगाल की खाड़ी पर केन्द्रित है। इसके प्रभाव से इस क्षेत्र के अधिकतर स्‍थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा हो सकती है। आंध्र प्रदेश के उत्‍तर तटीय इलाकों और दक्षिण ओडिशा के कुछ स्‍थानों पर बहुत अधिक वर्षा होने की संभावना है। तेलंगाना, छत्‍तीसगढ और ओडिशा के उत्‍तर आंतरिक स्‍थानों में कई जगह भारी वर्षा हो सकती है। क्षेत्र के मछुआरों को सलाह दी गई है कि वे समुद्र में न जाएं।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारामन ने कहा--भारत ने वर्ष 2030 तक दो हजार अरब डॉलर के निर्यात का लक्ष्य रखा है

केन्‍द्रीय वित्‍त और कारपोरेट मामलों की मंत्री निर्मला सीतारामन ने कहा कि भारत ने वर्ष 2030 तक दो हजार अरब डॉलर के निर्यात का लक्ष्‍य तय किया है और बैंक इसे हासिल करने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभायेंगे। श्रीमती सीतारामन ने मुम्‍बई मे भारतीय बैंकिंग संगठन की 74वीं आम बैठक को सम्‍बोधित करते हुए कहा कि भारत में वर्ष 2030 तक दो हजार अरब डॉलर का निर्यात लक्ष्‍य तय किया है जिसमें एक हजार अरब डॉलर का वस्‍तु निर्यात और एक हजार अरब डॉलर का सेवा निर्यात शामिल है। उन्‍होंने कहा कि यह लक्ष्‍य जब तक हासिल नहीं हो सकता जब तक बैंकों का साथ नहीं मिले और कारोबारियों के साथ बेहतर समझ विकसित नहीं हो।

Apple के सह-संस्थापक स्टीव वोज्नियाक ने स्पेस स्टार्ट-अप प्राइवेटर लॉन्च किया

Apple के सह-निर्माता स्टीव वोज्नियाक (Steve Wozniak) ने प्राइवेटर स्पेस (Privateer Space) नामक एक नया स्पेस स्टार्ट-अप लॉन्च किया है, जो अरबपति एलोन मस्क, जेफ बेजोस और रिचर्ड ब्रैनसन के वर्चस्व वाले क्षेत्र में संभावित प्रतिस्पर्धा ला रहा है। 14-17 सितंबर तक हवाई (Hawaii) में चलने वाले एडवांस्ड माउ ऑप्टिकल एंड स्पेस सर्विलांस टेक्नोलॉजीज सम्मेलन (Advanced Maui Optical and Space Surveillance Technologies Conference) में प्राइवेटर का प्रतिनिधित्व किया जाएगा। वैश्विक अंतरिक्ष अर्थव्यवस्था, जिसने टेस्ला और अमेज़ॅन जैसी कई शीर्ष कंपनियों को आकर्षित किया है, जिसमे अनुसंधान और विकास, अंतरिक्ष पर्यटन और अंतरिक्ष के उपयोग जैसी विभिन्न गतिविधियां शामिल हैं। बैंक ऑफ अमेरिका का अनुमान है कि 1.4 ट्रिलियन डॉलर के बाजार मूल्य के साथ 2030 तक अंतरिक्ष अर्थव्यवस्था का आकार तीन गुना से अधिक हो जाएगा। मिस्टर वोज्नियाक ने 1976 में साथी कॉलेज ड्रॉपआउट स्टीव जॉब्स (Steve Jobs) और व्यवसायी रोनाल्ड वेन (Ronald Wayne) के साथ ऐप्पल कंप्यूटर की सह-स्थापना की। जॉब्स और मिस्टर वोज्नियाक ने 1985 में ऐप्पल छोड़ दिया, हालांकि वे शेयरधारक बने रहे और जॉब्स बाद में कंपनी में लौट आए। 2002 में, मिस्टर वोज्नियाक ने मिस्टर फील्डिंग (Fielding) के साथ व्हील्स ऑफ ज़ीउस (Wheels of Zeus - WoZ) नामक एक अन्य कंपनी की सह-स्थापना की। WoZ ने ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम स्मार्ट टैग्स पर काम किया और 2006 में इसे भंग कर दिया गया।

गॉर्डन ब्राउन ग्लोबल हेल्थ फाइनेंसिंग के लिए WHO के राजदूत नियुक्त

डब्ल्यूएचओ ने यूनाइटेड किंगडम के पूर्व प्रधान मंत्री माननीय गॉर्डन ब्राउन (Gordon Brown) को वैश्विक स्वास्थ्य वित्तपोषण (Global Health Financing) के लिए डब्ल्यूएचओ राजदूत के रूप में नियुक्त करने की घोषणा की है। 2009 के लंदन G20 शिखर सम्मेलन के अपने नेतृत्व के माध्यम से उन्हें दूसरी महामंदी को रोकने का श्रेय दिया जाता है। उन्होंने विश्व के नेताओं को ऋण, विकास और नौकरियों को बहाल करने के लिए अतिरिक्त 1.1 ट्रिलियन डॉलर देने के लिए प्रेरित किया। श्री ब्राउन ने अथक रूप से धनी देशों के साथ-साथ निजी क्षेत्र से COVID-19 टीकों के समान वितरण को सुनिश्चित करने का आह्वान किया है, जो एक ठोस वैश्विक प्रयास की वकालत करते हैं – विज्ञान और ध्वनि अर्थशास्त्र में निहित – जीवन बचाने के लिए, महामारी को समाप्त करने और विश्व भर में आजीविका को बहाल करने के लिए।

विजय गोखले की नई किताब द लॉन्ग गेम: हाउ द चाइनीज नेगोशिएट विद इंडिया

विजय गोखले द्वारा लिखित The Long Game: How the Chinese Negotiate with India नामक नई पुस्तक है। इस नई पुस्तक में, भारत के पूर्व विदेश सचिव, विजय गोखले, छह ऐतिहासिक और हालिया घटनाओं के प्रिज़्म के माध्यम से भारत-चीन संबंधों की गतिशीलता को उजागर करते हैं। यह पुस्तक एक व्यवसायी को उन रणनीतियों, युक्तियों और उपकरणों के बारे में जानकारी देती है जिनका उपयोग चीन राजनयिक वार्ता के लिए करता है। उनकी पहली पुस्तक "तियानमेन स्क्वायर: द मेकिंग ऑफ ए प्रोटेस्ट (Tiananmen Square: The Making of a Protest)" इस महीने की शुरुआत में प्रकाशित हुई थी।

निरुपमा राव की नई पुस्तक का शीर्षक “The Fractured Himalaya: How the Past Shadows the Present in India-China Relations”

निरुपमा राव द्वारा लिखित “The Fractured Himalaya: How the Past Shadows the Present in India-China Relations” नामक पुस्तक है। यह पुस्तक इस बात का पता लगाती है कि कैसे भारत और चीन के बीच विवाद की उत्पत्ति एक जीवित इतिहास का हिस्सा बनती है जो आज उनके टूटे हुए संबंधों को आकार देती है। इस जटिल पैनोरमा को समझना हम सभी के लिए सबक देता है जो चीन और हिंद-प्रशांत में इसकी रूपरेखा पर व्यापक दृष्टिकोण चाहते हैं। निरुपमा राव पूर्व विदेश सचिव हैं।

वित्त वर्ष 21 में बैंक जमा पर RBI ने डाटा जारी किया

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने 23 सितंबर, 2021 को “Deposits with Scheduled Commercial Banks – March 2021” डाटा जारी किया। RBI के आंकड़ों के अनुसार, 2020-21 के दौरान बैंक जमा में साल-दर-साल 11.9% की वृद्धि हुई है, जबकि 2019-20 में यह 8.8% थी। चालू खाता और बचत खाता (CASA) जमाराशियों में उच्च वृद्धि के आलोक में जमा में वृद्धि हुई। मार्च 2021 में CASA जमाओं की हिस्सेदारी बढ़कर 43.7% हो गई, जो 2020 में 41.7% थी। संस्थागत श्रेणियों में, कुल जमा में घरेलू क्षेत्र की हिस्सेदारी 64.1% है। हिंदू अविभाजित परिवार (HUF) सहित व्यक्ति, घरेलू क्षेत्र के प्रमुख घटक हैं। उन्होंने कुल जमा में लगभग 55.8% का योगदान दिया है। 2020-21 के दौरान गैर-वित्तीय निगमों की बैंक जमा में 18.8% की वृद्धि हुई है। मार्च 2021 में ही कुल जमा में उनकी हिस्सेदारी बढ़कर 16.2% हो गई। बैंकों की मेट्रोपॉलिटन शाखाओं में कुल जमा राशि का आधे से अधिक हिस्सा था। उनकी कुल हिस्सेदारी 2020-21 के दौरान वृद्धिशील जमाओं का 59.6% है, जबकि 2020 में यह 43.2% थी।

अंतर्राष्ट्रीय स्टार्ट-अप हब रैंकिंग 2021

इंटरनेशनल स्टार्ट-अप हब रैंकिंग 2021 को हाल ही में स्टार्ट-अप जीनोम (Start-up Genome) द्वारा अपनी वार्षिक Global Start-up Ecosystem Report 2021 के लिए संकलित और प्रकाशित किया गया था। अंतर्राष्ट्रीय स्टार्ट-अप की व्यापक रैंकिंग के अनुसार लंदन, मुंबई और बैंगलोर को दुनिया के शीर्ष स्टार्ट-अप केंद्रों में शामिल किया गया है। ब्रेक्सिट और कोरोनावायरस महामारी के बावजूद लंदन ने लगातार दूसरे वर्ष न्यूयॉर्क के साथ दूसरे स्थान की रैंकिंग बनाए रखी। बैंगलोर ने 23वां स्थान हासिल किया गया। दिल्ली 36वें स्थान रहा। इमर्जिंग इकोसिस्टम रैंकिंग में मुंबई को पहले स्थान पर रखा गया है। कर्नाटक दुनिया का चौथा सबसे बड़ा प्रौद्योगिकी और नवाचार क्लस्टर भी है और 400 से अधिक वैश्विक अनुसंधान एवं विकास केंद्रों का घर है। इस रिपोर्ट के अनुसार, सिलिकॉन वैली के बाहर टेक स्टार्ट-अप स्थापित करने के लिए लंदन सबसे आकर्षक गंतव्य है। इसके समग्र पारिस्थितिकी तंत्र का मूल्य 142.7 अरब अमेरिकी डॉलर है। लंदन विश्व स्तर पर निवेश पारिस्थितिकी तंत्र में वित्त पोषण, गुणवत्ता और गतिविधि तक पहुंच के लिए सबसे अच्छे शहरों में से एक है।

चीन ने सभी क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) लेनदेन को अवैध घोषित किया

सेंट्रल बैंक ऑफ चाइना ने 23 सितंबर, 2021 को सभी क्रिप्टोकरेंसी लेनदेन को अवैध घोषित कर दिया है। बिटकॉइन सहित क्रिप्टोकरेंसी के वैश्विक मूल्यों में 2020-2021 के दौरान बड़े पैमाने पर उतार-चढ़ाव आया है। पीपल्स बैंक ऑफ चाइना (PBOC) के अनुसार, वर्चुअल मुद्रा से संबंधित व्यावसायिक गतिविधियाँ अवैध वित्तीय गतिविधियाँ हैं। कानून के अनुसार अपराधियों की “आपराधिक दायित्व के लिए जांच” की जाएगी। चीनी नोटिस ने क्रिप्टोकरेंसी से जुड़ी सभी संबंधित वित्तीय गतिविधियों पर प्रतिबंध लगा दिया है, जैसे कि वर्चुअल करेंसी डेरिवेटिव से जुड़े लेनदेन, टोकन बेचना, क्रिप्टो ट्रेडिंग इत्यादि। पीपल्स बैंक ऑफ चाइना के अनुसार, बिटकॉइन और अन्य वर्चुअल मुद्राओं का व्यापार व्यापक हो गया है और आर्थिक व वित्तीय व्यवस्था को बाधित कर रहा है। इसने मनी लॉन्ड्रिंग, धोखाधड़ी, अवैध धन उगाहने, पिरामिड योजनाओं और अन्य अवैध और आपराधिक गतिविधियों को भी जन्म दिया है। ये व्यवधान लोगों की संपत्ति की सुरक्षा को गंभीर रूप से खतरे में डाल रहे थे। इन तथ्यों को ध्यान में रखते हुए, चीन ने सभी क्रिप्टोकरेंसी लेनदेन को अवैध घोषित कर दिया है। क्रिप्टोकरेंसी पर प्रतिबन्ध ने चीन के लिए अपनी डिजिटल मुद्रा पेश करने के द्वार खोल दिए हैं। चीन की अपनी डिजिटल मुद्रा पहले से ही पाइपलाइन में है। यह चीन की केंद्र सरकार को लेनदेन की निगरानी करने की अनुमति देगा।

प्रसिद्ध डल झील पर भारतीय वायु सेना ने आज कश्‍मीर घाटी में शानदार एयर शो का आयोजन किया

आजादी का अमृत महोत्‍सव समारोह के अन्‍तर्गत प्रसिद्ध डल झील पर भारतीय वायु सेना ने कश्‍मीर घाटी में शानदार एयर शो का आयोजन किया। उपराज्‍यपाल मनोज सिन्‍हा ने शेर-ए-कश्‍मीर इंटरनेशनल कन्‍वेन्‍शन सेंटर में जम्‍मू कश्‍मीर सरकार के सहयोग से आयोजित इस एयर शो का शुभारंभ किया। इस एयर शो में मिग-21 लड़ाकू विमानों ने फ्लाईपास्‍ट किया, जबकि सुखोई एस यू-30 और एस यू - 20 विमानों ने जबरदस्‍त करतब दिखाए। बड़ी संख्‍या में लोग एयर शो देखने आए थे।

सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने श्रीनगर - लेह राष्‍ट्रीय राजमार्ग पर साढे 13 किलोमीटर लंबी ज़ोजिला सुरंग का निरीक्षण किया

सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने श्रीनगर - लेह राष्‍ट्रीय राजमार्ग पर साढे 13 किलोमीटर लंबी ज़ोजिला सुरंग का निरीक्षण किया। उन्‍होंने निरीक्षण के दौरान सुरंग की दूसरी ब्‍लास्टिंग की। सुरंग को साढ़े चार हजार करोड़ रूपये की लागत से पूरा किया जाएगा। इस सुरंग के जरिये केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख पूरे वर्ष शेष देश के साथ जुड़ा रहेगा। सुरंग से लद्दाख और जम्‍मू-कश्‍मीर के पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा और हर मौसम में सशस्‍त्र सेनाओं की आवाजाही भी सुचारू हो सकेगी।

PFRDA 01 अक्टूबर, 2021 को NPS दिवस मनाएगा

पेंशन फंड नियामक और विकास प्राधिकरण (Pension Fund Regulatory and Development Authority - PFRDA) 01 अक्टूबर, 2021 को राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली दिवस (National Pension System Diwas-NPS) के रूप में मनाएगा। यह अभियान पीएफआरडीए द्वारा 'आजादी का अमृत महोत्सव' के तहत पेंशन और सेवानिवृत्ति योजना को बढ़ावा देने के लिए एक केयरफ्री 'आज़ाद' सेवानिवृत्ति के लिए शुरू किया गया है। पीएफआरडीए इस अभियान को #npsdiwas के साथ अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर प्रचारित कर रहा है। पेंशन नियामक का लक्ष्य प्रत्येक नागरिक (काम करने वाले पेशेवरों और स्वरोजगार पेशेवरों) को सेवानिवृत्ति के बाद वित्तीय रूप से मजबूत भविष्य सुनिश्चित करने के लिए एक वित्तीय गद्दी बनाने की योजना बनाने के लिए प्रोत्साहित करना है। एनपीएस ग्राहक अब लाभ, कंपाउंडिंग की शक्ति का आनंद लेंगे और सेवानिवृत्ति के बाद कई लाभ प्राप्त करेंगे।

सैन्य इंजीनियर सेवा दिवस

मिलिट्री इंजीनियर सर्विसेज (एमईएस) एक प्रमुख निर्माण एजेंसी है और भारतीय सेना के कोर ऑफ इंजीनियर्स के स्तंभों में से एक है जो सशस्त्र बलों और रक्षा मंत्रालय (एमओडी) के संबद्ध संगठनों को रियर लाइन इंजीनियरिंग सहायता प्रदान करती है। यह लगभग 30000 करोड़ रुपये के कुल वार्षिक कार्यभार के साथ भारत में सबसे बड़ी निर्माण और रखरखाव एजेंसियों में से एक है । एमईएस सीमावर्ती क्षेत्रों सहित देश भर में आवासीय और कार्यालय भवनों, अस्पतालों, सड़कों, रनवे और समुद्री संरचनाओं जैसी विविध निर्माण गतिविधियों को अंजाम देती है। पारंपरिक भवनों के अलावा, एमईएस परिष्कृत और जटिल प्रयोगशालाओं, कारखानों, कार्यशालाओं, हैंगर, गोला-बारूद भंडारण सुविधाओं, डॉकयार्ड, जेटी / घाटों और अन्य जटिल / विशेष संरचनाओं के निर्माण में भी शामिल है।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.