Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

4 March 2022

गुजरात में रक्षा प्रदर्शनी के 12वें संस्करण डेफएक्सपो-2022 का 10 से 14 मार्च तक आयोजन

रक्षा मंत्रालय 10 से 14 मार्च तक गुजरात के गांधी नगर में 12वीं रक्षा प्रदर्शनी आयोजित करेगा। यह अंतर्राष्ट्रीय प्रदर्शनी नभ, जल, थल और आंतरिक सुरक्षा तथा इलेक्ट्रॉनिक प्रणाली पर केन्द्रित होगी। सरकार का मानना है कि भारत में रक्षा विनिर्माण के एक बड़े केन्द्र के रूप में उभरने की अद्भुत क्षमता है। रक्षा प्रदर्शनी की संगोष्ठियां हाइब्रिड मोड में आयोजित की जाएँगी और इनका पूरी दुनिया में सीधा प्रसारण किया जाएगा। इन संगोष्ठियों में रक्षा क्षेत्र के विशेषज्ञ मीडिया संगठन, भारतीय उद्योग जगत, रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन, नागरिक उड्यन मंत्रालय और राज्य सरकारों के अलावा रक्षा विनिर्माण से जुड़ी कई देशी और विदेशी कंपनियां भी भाग लेंगी।

भारत-पाकिस्तान स्थायी सिंधु आयोग की बैठक पहली से 3 मार्च तक इस्लामाबाद में आयोजित की गई

भारत-पाकिस्तान स्थायी सिंधु आयोग की 117वीं बैठक पहली मार्च से 3 मार्च तक पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में आयोजित की गई। इस बैठक में दोनों देशों के सिंधू आयुक्‍त शामिल हुए। भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व सिंधु जल आयुक्त पीके सक्सेना ने किया। बैठक के दौरान पाकल दुल, किरू और लोअर कलनई सहित सभी पन बिजली परियोजनाओं पर चर्चा हुई। भारत ने इस बात पर जोर दिया कि उसकी सभी परियोजनाएं संधि के प्रावधानों के अनुरूप हैं। उसने इसके समर्थन में तकनीकी संबंधी ब्‍यौरा दिया। आयोग ने जलविज्ञान और बाढ़ संबंधी डेटा के आदान-प्रदान पर चर्चा की। दोनों पक्षों ने फाजिल्का नहर के मुद्दे पर भी चर्चा की। पाकिस्तान ने आश्वासन दिया कि सतलुज नदी में फाजिल्का नहर के मुक्त प्रवाह को सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कार्रवाई जारी रहेगी। बैठक सौहार्दपूर्ण माहौल में हुई। 1960 में भारत और पाकिस्तान के बीच सिंधु जल संधि पर हस्ताक्षर किए गए थे। इसके प्रावधानों के तहत, दोनों देशों के सिंधु जलआयुक्तों को हर साल कम से कम एक बार आपस में बारी-बारी से बैठक करना जरूरी है। स्थायी सिंधु आयोग की पिछली बैठक मार्च 2021 में नई दिल्ली में हुई थी।

भारतीय वायु सेना के 140 से अधिक विमान पोखरण परीक्षण रेंज में होने वाले वायु शक्ति युद्धाभ्‍यास में भाग लेंगे

भारतीय वायु सेना के 140 से अधिक विमान राजस्‍थान में पोखरण परीक्षण रेंज में सात मार्च को होने वाले वायु शक्ति युद्धाभ्‍यास में भाग लेंगे। इस युद्धाभ्‍यास में राफेल, हल्‍के लड़ाकू विमान - तेजस, सुखोई- 30 और अन्य लड़ाकू विमान भाग लेंगे। यह वायु सेना का अब तक का सबसे बड़ा युद्धाभ्‍यास होगा। इसका आयोजन हर तीन साल में किया जाता है जिसमें वायु सेना अपने कौशल का प्रदर्शन करती है। वायु सेना ने एक वीडियो प्रोमो जारी कर अपने कौशल को प्रदर्शित करने के लिए युद्धाभ्‍यास के उद्देश्य को दर्शाया है। वायु शक्ति युद्धाभ्‍यास दुश्मन के काफिले, टैंकों, राडार स्टेशन, रेलवे यार्ड और सैन्य मुख्यालय आदि पर जमीन से निशाना बनाते हुए अपने कौशल को प्रदर्शित करने के बारे में है। इससे पहले यह अभ्यास 16 फरवरी, 2019 में किया गया था।

शिक्षा राज्य मंत्री अन्नपूर्णा देवी ने राष्ट्रीय सूचना और संचार प्रौद्योगिकी (ICT) पुरस्कार 2022 प्रदान किए

1 मार्च, 2022 को केंद्रीय शिक्षा राज्य मंत्री अन्नपूर्णा देवी ने राष्ट्रीय सूचना और संचार प्रौद्योगिकी (ICT) पुरस्कार 2022 प्रदान किए। पूरे भारत में 49 शिक्षकों को पुरस्कार प्रदान किए गये। इस अवसर पर, मंत्री ने कहा कि, राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP) 2020 शिक्षण और सीखने की प्रक्रियाओं में प्रौद्योगिकी के व्यापक उपयोग, दिव्यांग छात्रों के लिए पहुंच बढ़ाने और शैक्षिक योजना और प्रबंधन के साथ-साथ भाषा बाधाओं को दूर करने पर जोर देती है। शिक्षा में ICT के उपयोग के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार के रूप में स्कूली शिक्षकों को दिया गया सम्मान शिक्षकों को प्रौद्योगिकी और सामग्री-शिक्षाशास्त्र के माध्यम से अपनी कक्षाओं में ICT का व्यापक और महत्वपूर्ण रूप से उपयोग करने के लिए प्रेरित करता है। इन ICT पुरस्कार विजेताओं को एक कुशल कार्यबल विकसित करने के लिए छात्रों के बीच उद्यमशीलता कौशल विकसित करने के साथ-साथ अन्य शिक्षकों को सलाह देकर शिक्षा में ICT के विस्तार में ICT एम्बेसडर के रूप में काम करने की जिम्मेदारी भी दी गई है।

CDSL 60 मिलियन से अधिक डीमैट खातों को पंजीकृत करने वाला पहला डिपॉजिटरी बना

1 मार्च, 2022 को, सेंट्रल डिपॉजिटरी सर्विसेज (इंडिया) ने घोषणा की कि अब उसके पास छह करोड़ से अधिक (यानी 60 मिलियन के बराबर) सक्रिय डीमैट खाते हैं। डीमैट खाता एक प्रकार का खाता है जिसका उपयोग प्रतिभूतियों और शेयरों की ऑनलाइन प्रतियां रखने के लिए किया जा सकता है। डीमैट खाता अपने संपूर्ण रूप में एक डीमैटरियलाइज्ड खाता है। डीमैट खाते का मुख्य उद्देश्य उन शेयरों को रखना है जिन्हें खरीदा या डीमैटरियलाइज़ किया गया है (जिसका अर्थ है कि शेयरों के भौतिक से इलेक्ट्रॉनिक रूप में रूपांतरण), उपयोगकर्ताओं के लिए ऑनलाइन शेयर ट्रेडिंग को आसान बनाना है। भारत में एकमात्र सूचीबद्ध डिपॉजिटरी सेंट्रल डिपॉजिटरी सर्विसेज (इंडिया) लिमिटेड (सीडीएसएल) है। अनंत बरुआ, पूर्णकालिक सदस्य, भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड, ने इस उपलब्धि को मनाने के लिए एक समारोह में कहा कि उनके साथ भौतिक शेयरों के मुद्दों के परिणामस्वरूप डीमैटरियलाइजेशन उत्पन्न हुआ है। बरुआ ने यह भी कहा कि नया मील का पत्थर दर्शाता है कि भारतीय प्रतिभूति बाजार तक पहुंच सुरक्षित, सुविधाजनक और सरल हो गई है। इसके अलावा, बरुआ ने कहा कि नए निवेशकों को भारतीय प्रतिभूति बाजार, बाजार अवसंरचना संगठनों की भूमिका और निवेशक संरक्षण के बारे में शिक्षित होना चाहिए ताकि अच्छी तरह से सूचित निर्णय लिया जा सके।

विश्व बैंक ने अपने भारत प्रमुख को एमआईजीए का उपाध्यक्ष नियुक्त किया

विश्व बैंक के भारत निदेशक जुनैद कमाल अहमद को अंतरराष्ट्रीय ऋण एजेंसी का उपाध्यक्ष नामित किया गया है। अहमद, जो संचालन के उपाध्यक्ष के रूप में बहुपक्षीय निवेश गारंटी एजेंसी (MIGA) का नेतृत्व करेंगे, बैंक के इतिहास में इस तरह के उच्च पद के लिए चुने जाने वाले केवल दूसरे बांग्लादेशी हैं। एक प्रेस बयान के अनुसार, वह 16 अप्रैल को अपना नया काम शुरू करेंगे। संचालन पक्ष में, फैसल चौधरी उपाध्यक्ष का पद संभालने वाले पहले बांग्लादेशी मूल के थे।

क्‍वाड नेताओं की वर्चुअल बैठक शुरू, प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी और जो बाइडेन शामिल

क्‍वाड नेताओं की वर्चुअल बैठक शुरू हो गई है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी अमरीका के राष्‍ट्रपति जो बाइडेन, ऑस्‍ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्‍कॉट मॉरिसन और जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा के साथ बैठक में भाग ले रहे हैं। वाशिंगटन डीसी में पिछले साल सितम्‍बर में हुई क्‍वाड बैठक के बाद इन नेताओं को फिर से एक बार मिलने का मौका मिला है। बैठक में ये नेता हिन्‍द प्रशांत क्षेत्र के अहम ताजा घटनाक्रमों पर अपने विचार रखेंगे और उनकी समीक्षा करेंगे। वे क्‍वाड के सकारात्‍मक एजेंडे के तहत घोषित पहलों को लागू करने के मौजूदा प्रयासों की भी समीक्षा करेंगे।

पांचवीं संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण सभा में 175 देशों ने प्लास्टिक प्रदूषण पर ऐतिहासिक संकल्प अपनाया

नैरोबी में 28 फरवरी 2022 से 2 मार्च 2022 तक आयोजित पांचवीं संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण सभा (यूएनईए 5.2) के फिर से शुरू होने वाले सत्र में प्लास्टिक प्रदूषण से निपटने के लिए तीन मसौदा प्रस्तावों पर विचार किया गया था। भारत द्वारा प्रस्तुत मसौदा प्रस्ताव में देशों द्वारा तत्काल सामूहिक स्वैच्छिक कार्रवाई का आह्वान किया गया। भारत ने कानूनी रूप से बाध्यकारी एक नई अंतरराष्ट्रीय संधि के लिए एक अंतर-सरकारी वार्ता समिति की स्थापना करके प्लास्टिक प्रदूषण पर वैश्विक कार्रवाई करने के संकल्प पर आम सहमति विकसित करने के लिए यूएनईए 5.2 में सभी सदस्य देशों के साथ रचनात्मक रूप से काम किया। भारत के आग्रह पर, प्लास्टिक प्रदूषण से निपटने के लिए कार्रवाई करते समय राष्ट्रीय परिस्थितियों और क्षमता के सिद्धांत को संकल्प के पाठ में शामिल किया गया ताकि विकासशील देशों को उनके विकास पथ का अनुसरण करने की अनुमति मिल सके। लंबी बातचीत के बाद, भारत के मसौदा प्रस्ताव के प्रमुख उद्देश्यों को "प्लास्टिक प्रदूषण समाप्त करें: एक अंतरराष्ट्रीय कानूनी रूप से बाध्यकारी जरिये की ओर" पर संकल्प में पर्याप्त रूप से बताया गया था, जिसे यूएनईए के फिर से शुरू हुए पांचवें सत्र में अपनाया गया, जो 2 मार्च 2022 को संपन्न हुआ। यूएनईए 5.2 राष्ट्रीय परिस्थितियों और क्षमताओं का सम्मान करते हुए सामूहिक वैश्विक कार्रवाई के लिए सहमत होने के लिए याद किया जाएगा।

एपस्केल अकादमी कार्यक्रम के तहत 100 भारतीय स्टार्टअप को प्रशिक्षित करेंगे गूगल और MeitY

इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MeitY) की एक पहल, MeitY स्टार्टअप हब, और गूगल ने ऐपस्केल अकादमी कार्यक्रम (Appscale Academy programme) के एक भाग के रूप में 100 से ज्यादा मिड-स्टेज स्टार्टअप के एक समूह की घोषणा की है। ऐपस्केल अकादमी वैश्विक दर्शकों के लिए उच्च गुणवत्ता वाले ऐप और गेम बनाने पर भारत भर में शुरुआती से मध्य-चरण के स्टार्टअप की मदद करने और प्रशिक्षित करने के लिए एमईआईटीवाई और गूगल द्वारा शुरू किए गए स्टार्टअप के लिए एक नया विकास और उन्नति कार्यक्रम है। इन 100 स्टार्टअप्स को गहन चयन प्रक्रिया के बाद 400 से अधिक अनुप्रयोगों में से चुना गया था। छह महीने के ऐपस्केल अकादमी कार्यक्रम के तहत, 100 स्टार्टअप को एक अनुकूलित पाठ्यक्रम के माध्यम से प्रशिक्षित किया जाएगा जिसमें वर्चुअल इंस्ट्रक्टर के नेतृत्व वाले वेबिनार, स्व-शिक्षण सामग्री और स्थानीय और वैश्विक उद्योग पेशेवरों के साथ परामर्श सत्र शामिल हैं।

टी एस रामकृष्णन एलआईसी म्यूचुअल फंड के नए एमडी और सीईओ बने

एलआईसी म्यूचुअल फंड ने प्रभावी रूप से टीएस रामकृष्णन को अपना प्रबंध निदेशक और सीईओ नियुक्त करने की घोषणा की है। रामकृष्णन एलआईसी म्यूचुअल फंड एसेट मैनेजमेंट के एमडी और सीईओ के रूप में, दिनेश पांगटे, इसके पूर्व पूर्णकालिक निदेशक और सीईओ का स्थान लेंगे। रामकृष्णन बैचलर ऑफ कॉमर्स (ऑनर्स) और पीजीडीआईएम हैं और उन्हें भारत के प्रतिष्ठित बीमा संस्थान से फैलोशिप से सम्मानित किया गया है। विज्ञप्ति में कहा गया है कि उन्हें एलआईसी और उसकी सहायक कंपनियों/सहयोगी कंपनियों में 34 वर्षों से अधिक का अनुभव है। वह 28 अप्रैल, 2021 को एलआईसी म्यूचुअल फंड एएमसी में शामिल हुए।

अक्षय विधानी बने यशराज फिल्म्स के नए सीईओ

फिल्म निर्माण और वितरण कंपनी यश राज फिल्म्स (YRF) ने अक्षय विधानी को मुख्य कार्यकारी अधिकारी नामित किया है। विधानी वाईआरएफ स्टूडियो में वरिष्ठ उपाध्यक्ष, वित्त और व्यापार मामलों और संचालन के प्रमुख के रूप में कार्यरत थे। वह वित्त, व्यापार विस्तार, रणनीतिक गठबंधन, संयुक्त उद्यम, सह-निर्माण सहित वाईआरएफ के लिए कॉर्पोरेट और व्यावसायिक विकास गतिविधियों का नेतृत्व करते थे।

यूक्रेनी सरकार ने अनुरोध किया कि तुर्की रूसी जहाजों की आवाजाही को प्रतिबंधित करने के लिए मॉन्ट्रो कन्वेंशन के तहत अपने अधिकार का उपयोग करे

मॉन्ट्रो कन्वेंशन एक अंतर्राष्ट्रीय संधि है जो तुर्की के बोस्पोरस (Bosporus) और डार्डानेल्स जलडमरूमध्य (Dardanelles Straits) को नियंत्रित करती है। इस पर 20 जुलाई, 1936 को स्विट्जरलैंड के मॉन्ट्रो पैलेस में हस्ताक्षर किये गये थे, यह और 9 नवंबर, 1936 को लागू की गई थी। लंबे समय से चल रहे जलडमरूमध्य के प्रश्न को संबोधित करने के लिए इस पर हस्ताक्षर किए गए थे कि काले और भूमध्य सागर के बीच रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण मार्ग का प्रबंधन किसे करना चाहिए। काला सागर के माध्यम से समुद्री यातायात को मॉन्ट्रो कन्वेंशन द्वारा नियंत्रित किया जाता है। शांतिकाल के दौरान, यह सभी नागरिक जहाजों के लिए मार्ग की पूर्ण स्वतंत्रता प्रदान करता है और तुर्की को उन नौसेनाओं की आवाजाही को सीमित करने की अनुमति देता है जो काला सागर राज्यों से संबंधित नहीं हैं। युद्धों के दौरान, यह समझौता तुर्की को नौसैनिक युद्धपोत पारगमन को विनियमित करने और संघर्ष में देशों के युद्धपोतों के लिए जलडमरूमध्य को अवरुद्ध करने का अधिकार देता है। यूक्रेन पर रूस के आक्रमण के बाद, यूक्रेनी सरकार ने अनुरोध किया कि तुर्की भूमध्य सागर से काला सागर तक रूसी जहाजों की आवाजाही को प्रतिबंधित करने के लिए मॉन्ट्रो कन्वेंशन के तहत अपने अधिकार का उपयोग करे। इस जलडमरूमध्य से कम से कम छह रूसी युद्धपोत और एक पनडुब्बी गुजरी। कुछ अनिच्छा के बाद, दोनों देशों के साथ तुर्की के घनिष्ठ संबंधों के कारण, तुर्की के विदेश मंत्री ने घोषणा की कि सरकार आधिकारिक तौर पर रूसी आक्रमण को युद्ध के रूप में मान्यता देगी, जिससे सैन्य जहाजों के संबंध में कन्वेंशन को लागू किया जा सकेगा। हालाँकि, तुर्की रूसी युद्धपोतों को इस समझौते के नियमों के तहत अपने पंजीकृत ठिकाने पर लौटने से नहीं रोक सकता है।

लद्दाख में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए नौकरियों में आरक्षण के लिए नए नियम जारी

लद्दाख में सामाजिक और जनजातीय कल्याण विभाग की सचिव पद्मा एंगमो ने आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग-ईडब्ल्यूएस के लिए नौकरियों में आरक्षण के लिए नए नियम जारी किए हैं। अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और वास्तविक नियंत्रण रेखा के सीमावर्ती गांवों के लिए आरक्षण की योजना के अन्‍तर्गत नहीं आने वाले ईडब्ल्यूएस से संबंधित व्‍यक्तियों को लद्दाख प्रशासन में विभिन्‍न पदों और सेवाओं में सीधी भर्ती में दस प्रतिशत आरक्षण मिलेगा। नए नियमों के तहत मान्‍य सम्‍पत्ति धारक और आठ लाख रुपये से कम सकल वार्षिक आय वाले परिवार ईडब्ल्यूएस श्रेणी में आयेंगे। आय और संपत्ति प्रमाण पत्र प्रस्तुत करके सक्षम अधिकारी से ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र प्राप्त किया जा सकता है।

पूर्व सैनिक कैप्टन दीपम चटर्जी ने एक नई किताब The Millennial Yogi लिखी

भारतीय सेना के पूर्व कप्तान, दीपम चटर्जी ने द मिलेनियल योगी: ए मॉडर्न-डे पेरेबल अबाउट रिक्लेमिंग वन्स लाइफ नामक एक नई पुस्तक लिखी है। यह एक ऐसी किताब है जो रहस्यवाद और संगीत को मिलाती है जो पाठकों को जागृति की यात्रा पर ले जाती है। पुस्तक जयशंकर प्रसाद, या जय के बारे में बात करती है, जिनकी एक उद्यमी के रूप में अपनी यात्रा में एक अस्पष्ट-लेकिन-व्यापारिक वृद्धि हुई है और विनी, एक रहस्यवादी भिक्षु हैं। पुस्तक पेंगुइन रैंडम हाउस की एक छाप, एबरी प्रेस द्वारा प्रकाशित की गई है।

नाइट फ्रैंक: भारत विश्व स्तर पर अरबपतियों की आबादी में तीसरे स्थान पर

नाइट फ्रैंक के द वेल्थ रिपोर्ट (The Wealth Report) 2022 के नवीनतम संस्करण के अनुसार, 2021 में विश्व स्तर पर अरबपतियों की आबादी की सबसे अधिक संख्या के मामले में भारत तीसरे स्थान पर है। भारत में अल्ट्रा-हाई-नेट-वर्थ-इंडिविजुअल्स (UHNWIs) की संख्या 2021 में 11% सालाना बढ़कर 145 अरबपतियों हो गई, जो एशिया पैसिफिक (APAC) क्षेत्र में सबसे अधिक प्रतिशत वृद्धि है। UHNWI ऐसे व्यक्ति हैं जिनकी कुल संपत्ति US$ 30m या अधिक (226 करोड़ रुपये) है। इस सूची में क्रमशः संयुक्त राज्य अमेरिका (748) और चीन (554) शीर्ष पर है। बेंगलुरू ने 2021 में UHNWI की संख्या में सबसे अधिक 17.1% से 352 अरबपतियों की वृद्धि दर्ज की। इसके बाद 2021 में दिल्ली (12.4% से 210) और मुंबई (9% से 1596) का स्थान रहा।

नासा ने नेक्स्ट जनरेशन GOES-T मौसम उपग्रह लॉन्च किया

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी, नासा ने केप कैनावेरल स्पेस फोर्स स्टेशन, फ्लोरिडा से चार अगली पीढ़ी के मौसम उपग्रहों की एक श्रृंखला में तीसरे, जियोस्टेशनरी ऑपरेशनल एनवायरनमेंटल सैटेलाइट (GOES) को सफलतापूर्वक लॉन्च किया। उपग्रह को GOES-T नाम दिया गया है। एक बार उपग्रह अपनी भूस्थिर कक्षा में स्थापित हो जाने के बाद इसका नाम बदलकर GOES-T से GOES-18 कर दिया जाएगा। पश्चिमी गोलार्ध में मौसम और खतरनाक पर्यावरणीय परिस्थितियों का पूर्वानुमान लगाने के लिए राष्ट्रीय महासागरीय और वायुमंडलीय प्रशासन (NOAA) द्वारा GOES-T का उपयोग किया जाएगा।

अडानी ग्रीन को मिला 150 मेगावाट का सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने के लिए LOA

अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड ने कहा कि उसकी सहायक कंपनी अडानी रिन्यूएबल एनर्जी होल्डिंग फिफ्टीन लिमिटेड ने 150 मेगावाट का सौर ऊर्जा संयंत्र बनाने के लिए लेटर ऑफ अवार्ड (LOA) प्राप्त किया है। 25 वर्षों की अवधि के लिए, इस परियोजना क्षमता के लिए निर्धारित दर $2.34/kWh है। अडानी समूह की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक, कंपनी ने स्टॉक एक्सचेंज फाइलिंग में कहा, अडानी रिन्यूएबल एनर्जी होल्डिंग फिफ्टीन लिमिटेड, अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड की एक पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी ने एक निविदा में भाग लिया, जिसे पंजाब स्टेट पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड द्वारा ग्राउंड-माउंटेड ग्रिड-कनेक्टेड सोलर पीवी पावर प्लांट से 250 मेगावाट सौर ऊर्जा के अधिग्रहण के लिए जारी किया गया था और 150 मेगावाट की सौर ऊर्जा परियोजना की स्थापना के लिए लेटर ऑफ अवार्ड प्राप्त किया है। अडानी ग्रीन के पास वर्तमान में 20.434 मेगावाट क्षमता का पूरी तरह से नवीकरणीय ऊर्जा परियोजना पोर्टफोलियो है, जिसमें 5.410 मेगावाट की परिचालन परियोजनाएं हैं। फर्म के अनुसार, अब 11,591 मेगावाट की परियोजनाएं निर्माणाधीन हैं, जिनमें से 3.433 मेगावाट की परियोजनाएं पूरी होने वाली हैं। अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड एक भारतीय अक्षय ऊर्जा फर्म है जिसका मुख्यालय अहमदाबाद, गुजरात में है और यह अडानी समूह का हिस्सा है। एक साल में, अदानी ग्रीन एनर्जी के शेयरों ने 61 प्रतिशत से अधिक का रिटर्न दिया है, जबकि कंपनी ने 2022 (वर्ष-दर-तारीख या YTD) में अब तक 36 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि की है, जबकि बेंचमार्क बीएसई सेंसेक्स में 5% की गिरावट आई है।

स्ट्रैंड्जा मेमोरियल बॉक्सिंग टूर्नामेंट: निखत जरीन और नीतू ने जीता भारत के लिए स्वर्ण

भारतीय मुक्केबाज निखत जरीन (52 किग्रा) और नीतू (48 किग्रा) ने बुल्गारिया के सोफिया में आयोजित 73वें स्ट्रैंड्जा मेमोरियल बॉक्सिंग टूर्नामेंट में स्वर्ण पदक जीते हैं। भारतीय दल ने दो स्वर्ण और एक कांस्य सहित तीन पदकों के साथ टूर्नामेंट में अपने अभियान का अंत किया। निखत ने महिलाओं के 52 किग्रा फाइनल में 4-1 से जीत के साथ यूरोप के सबसे पुराने अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी टूर्नामेंट में अपना दूसरा स्वर्ण पदक जीता। उन्होंने इससे पहले 2019 में स्ट्रैंड्जा मेमोरियल का खिताब जीता था। नीतू ने महिलाओं के 48 किग्रा फाइनल में मौजूदा युवा विश्व चैंपियनशिप की कांस्य पदक विजेता इटली की एरिका प्रिसियांड्रो को बिना पसीना बहाए 5-0 से हरा दिया। नंदिनी के साथ 81 किग्रा वर्ग में पोडियम पर समाप्त होने और कांस्य पदक के साथ हस्ताक्षर करने के साथ, भारतीय दल ने टूर्नामेंट में तीन पदकों के साथ अपने अभियान का समापन किया, जो इस साल भारत की पहली एक्सपोजर यात्रा का हिस्सा था।

विश्व वन्यजीव दिवस : 3 मार्च

3 मार्च, 2022 को दुनिया भर में विश्व वन्यजीव दिवस मनाया जा रहा है। यह दिवस वन्‍यजीवों के संरक्षण के महत्त्व के बारे में जागरूकता के प्रसार हेतु प्रत्येक वर्ष 3 मार्च को मनाया जाता है। 20 दिसंबर, 2013 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 3 मार्च को विश्व वन्यजीव दिवस के रूप में मानने का निर्णय लिया था। संयुक्त राष्ट्र ने अपने रेज़ोल्यूशन में घोषणा की थी कि विश्व वन्यजीव दिवस आम लोगों को विश्व के बदलते स्वरूप तथा मानव गतिविधियों के कारण वनस्पतियों एवं जीवों पर उत्पन्न हो रहे खतरों के बारे में जागरूक करने के प्रति समर्पित होगा। ज्ञात हो कि 3 मार्च, 1973 को ही वन्यजीवों और वनस्पतियों की लुप्तप्राय प्रजातियों के अंतर्राष्ट्रीय व्यापार पर कन्वेंशन (CITES) को अंगीकृत किया गया था। वर्ष 2022 के लिये विश्व वन्यजीव दिवस की थीम- ‘पारिस्थितिकी तंत्र की बहाली के लिये प्रमुख प्रजातियों को पुनर्प्राप्त करना’ (Recovering Key Species For Ecosystem Restoration) है। यह दिवस इस तथ्य को रेखांकित करने का अवसर प्रदान करता है कि मानव जीवन के लिये वन एवं पारिस्थितिकी तंत्र कितने महत्त्वपूर्ण हैं। संयुक्त राष्ट्र की मानें तो वैश्विक स्तर पर लगभग 200 से 350 मिलियन लोग या तो जंगलों के भीतर/आसपास रहते हैं या फिर जीवन एवं आजीविका के लिये वन संसाधनों पर प्रत्यक्ष तौर पर निर्भर हैं।

विश्व श्रवण दिवस : 3 मार्च

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा प्रत्येक वर्ष 3 मार्च को विश्व श्रवण दिवस मनाया जाता है। इस दिन का उद्देश्य दुनिया भर में बहरेपन और श्रवण हानि को रोकने और कान और सुनने की देखभाल को बढ़ावा देने के बारे में जागरूकता बढ़ाना है। विश्व श्रवण दिवस 2022 पर, डब्ल्यूएचओ जीवन भर अच्छी श्रवण शक्ति बनाए रखने के साधन के रूप में सुरक्षित सुनने के महत्व पर ध्यान केंद्रित करेगा। 2021 में, डब्ल्यूएचओ ने श्रवण शक्ति पर विश्व रिपोर्ट शुरू की जिसमें श्रवण हानि के साथ रहने वाले और जोखिम वाले लोगों की बढ़ती संख्या पर प्रकाश डाला गया। इसने सात प्रमुख H.E.A.R.I.N.G हस्तक्षेपों में से एक के रूप में शोर नियंत्रण पर प्रकाश डाला और तेज आवाज के जोखिम को कम करने के महत्व पर जोर दिया। विश्व श्रवण दिवस 2022 "जीवन के लिए सुनना, ध्यान से सुनना" विषय के साथ सुरक्षित श्रवण के माध्यम से श्रवण हानि की रोकथाम के महत्व और साधनों पर ध्यान केंद्रित करेगा।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.