Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

14 March 2022

ISRO YUVIKA 2022: इसरो ने स्कूली बच्चों के लिए शुरू किया युवा विज्ञान कार्यक्रम

युवा वैज्ञानिक कार्यक्रम, जिसे युविका (YUVIKA – Yuva VIgyani KAryakram) के नाम से भी जाना जाता है, इसरो द्वारा प्रायोजित और भारत के अंतरिक्ष विभाग द्वारा वित्त पोषित एक वार्षिक अंतरिक्ष शिक्षा और प्रशिक्षण कार्यक्रम है। युवाओं में अंतरिक्ष प्रौद्योगिकियों में शुरुआती रुचि को प्रेरित करने के लिए भारत सरकार द्वारा यह कार्यक्रम शुरू किया गया था। इसरो के पूर्व प्रमुख के. सिवन ने 18 जनवरी, 2019 को इस कार्यक्रम की घोषणा की और इसे चार महीने बाद 17 मई को लॉन्च किया गया। इसरो के स्टूडेंट आउटरीच प्रोग्राम के जरिए इस कार्यक्रम की घोषणा की गई। के. सिवन ने राज्य सरकारों और शिक्षा विभागों से कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए मिलकर काम करने का आग्रह किया। इस कार्यक्रम का उद्देश्य युवाओं के मन में अंतरिक्ष विज्ञान में रुचि विकसित करना और उसका पोषण करना है। चयन के मानदंड शैक्षणिक उपलब्धि और पाठ्येतर गतिविधियां हैं। प्रतिभागियों को कई कारकों के आधार पर चुना जाता है, जिसमें कक्षा 8 में ग्रेड और पिछले तीन वर्षों में स्कूल, जिला, राज्य या केंद्र सरकार के प्राधिकरण द्वारा आयोजित विज्ञान मेलों में भागीदारी शामिल है।

वी-डेम डेमोक्रेसी रिपोर्ट 2022 में भारत 93वें स्थान पर

स्वीडन के गोथेनबर्ग विश्वविद्यालय में ‘वी-डेम संस्थान’ की नवीनतम रिपोर्ट के अनुसार, वर्ष 2021 में विश्व स्तर पर एक औसत नागरिक के पास मौजूद लोकतंत्र का स्तर वर्ष 1989 के स्तर से नीचे चला गया है और साथ ही शीत युद्ध के बाद की अवधि के दौरान प्राप्त लोकतांत्रिक लाभ तेज़ी से घट रहे हैं। रिपोर्ट का शीर्षक है 'लोकतंत्र रिपोर्ट 2022: निरंकुशता की बदलती प्रकृति' ।‘वैरायटी ऑफ डेमोक्रेसी’ (वी-डेम) वर्ष 1789 से वर्ष 2021 तक 202 देशों के लिये 30 मिलियन से अधिक डेटा बिंदुओं के साथ लोकतंत्र पर सबसे बड़ा वैश्विक डेटासेट तैयार करती है। इससे पहले ‘इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट फॉर डेमोक्रेसी एंड इलेक्टोरल असिस्टेंस’ (इंटरनेशनल-आईडीईए) द्वारा ‘ग्लोबल स्टेट ऑफ डेमोक्रेसी रिपोर्ट, 2021’ जारी की गई थी। लिबरल डेमोक्रेटिक इंडेक्स (LDI) रिपोर्ट में उनके स्कोर के आधार पर देशों को चार शासन प्रकारों में वर्गीकृत करती है: लिबरल डेमोक्रेसी, इलेक्टोरल डेमोक्रेसी, इलेक्टोरल ऑटोक्रेसी और क्लोज्ड ऑटोक्रेसी। स्वीडन, उदार लोकतंत्र सूचकांक (LDI) में शीर्ष पर है, इसके अलावा अन्य स्कैंडिनेवियाई देश जैसे डेनमार्क, नॉर्वे, कोस्टा रिका तथा न्यूज़ीलैंड इस सूचकांक में शीर्ष पाँच में शामिल हैं। LDI में भारत 93वें स्थान पर था, और इसे "निचले 50%" देशों में शामिल किया गया है। इलेक्टोरल डेमोक्रेसी इंडेक्स में इसका प्रदर्शन और अधिक खराब हुआ है तथा यह 100वें स्थान पर पहुँच गया है, इसके अलावा डेलिवरेटिव कंपोनेंट इंडेक्स में यह 102वें स्थान पर है। दक्षिण एशिया के देशों की बात करें तो LDI में भारत का स्थान श्रीलंका (88), नेपाल (71) और भूटान (65) से नीचे तथा पाकिस्तान (117) से ऊपर है।

क़तर बना अमेरिका का गैर-नाटो प्रमुख सहयोगी

प्रमुख गैर-नाटो सहयोगी अमेरिकी सरकार द्वारा अपने कुछ करीबी सहयोगियों को दिया जाने वाला दर्जा है। अमेरिकी सरकार उन देशों को प्रमुख गैर-नाटो सहयोगी का दर्जा देती है जो उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) के सदस्य नहीं हैं, लेकिन अमेरिका के सशस्त्र बलों के साथ रणनीतिक संबंध रखते हैं। प्रमुख गैर-नाटो सहयोगी का दर्जा में स्वचालित रूप से अमेरिका के साथ कोई पारस्परिक रक्षा समझौता शामिल नहीं है। प्रमुख गैर-नाटो सहयोगी का दर्जा 1987 में बनाया गया था। ऑस्ट्रेलिया, मिस्र, इज़रायल, जापान और दक्षिण कोरिया पहले पांच देश थे जिन्हें प्रमुख गैर-नाटो सहयोगी का दर्जा मिला। प्रमुख गैर-नाटो सहयोगी होने के लाभ

  • रक्षा विभाग (DoD) के साथ सहकारी अनुसंधान में प्रवेश
  • कुछ आतंकवाद विरोधी अभ्यासों में भागीदारी
  • प्राथमिकता के आधार पर सैन्य अधिशेष की सुपुर्दगी
  • विकास परियोजनाओं के लिए उपकरण और सामग्री के ऋण
  • कुछ रक्षा उपकरण खरीदने के लिए अमेरिकी वित्त पोषण का उपयोग करने की अनुमति
  • अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी का शीघ्र निर्यात प्रसंस्करण

रूस ने कई वस्तुओं और उपकरणों के निर्यात पर रोक लगाई

रूस ने हाल ही में कुछ सामानों और उपकरणों के निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया है। यूक्रेन पर आक्रमण के लिए रूस पर पश्चिमी देशों द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों के जवाब में रूस ने यह कदम उठाया है। 200 वस्तुओं और उपकरणों पर अस्थायी निर्यात प्रतिबंध लगाया गया है, जो 2022 के अंत तक प्रभावी है। पहले रूस में आयात की गई कुछ वस्तुओं पर प्रतिबंध लगाया गया है और उनमें चिकित्सा उपकरण, कृषि मशीनरी, बिजली के उपकरण, टर्बाइन, वीडियो डिस्प्ले, प्रोजेक्टर, स्विचबोर्ड, रेलवे कार आदि शामिल हैं। रूस के मुताबिक, यह निर्यात प्रतिबंध उसके बाजारों में स्थिरता बनाए रखने के लिए जरूरी है। रूस ने देश के खिलाफ शत्रुतापूर्ण कार्रवाई करने वाले देशों को कई प्रकार की लकड़ी और लकड़ी के उत्पादों के निर्यात पर भी प्रतिबंध लगा दिया है। रूस यूरोपीय संघ के लिए एक महत्वपूर्ण ऊर्जा आपूर्तिकर्ता है। गेहूं, कीमती और औद्योगिक धातुएं और लकड़ी अन्य रूसी उत्पाद हैं जो वैश्विक व्यापार में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। रूस ने ऊर्जा और कच्चे माल की बिक्री पर अंकुश नहीं लगाया, जो वैश्विक व्यापार में इसका सबसे बड़ा योगदान है। हालांकि, उसने यूरोप को नॉर्ड स्ट्रीम 1 पाइपलाइन के माध्यम से प्राकृतिक गैस की आपूर्ति में कटौती करने की धमकी दी है।

संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने आज नई दिल्ली में ट्राई अधिनियम के 25 वर्ष पूरे होने पर एक संगोष्ठी का शुभारंभ किया

संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने नई दिल्ली में ट्राई अधिनियम के 25 वर्ष पूरे होने पर एक संगोष्ठी का शुभारंभ किया। संगोष्ठी का विषय था ट्राई एक्ट: द वे फॉरवर्ड फॉर स्टेक होल्डर्सवर्ष 1997 में भारत में दूरसंचार क्षेत्र को विनियमित करने के लिए ट्राई अधिनियम लागू किया गया था। इसने दूरसंचार के हितधारकों के बीच विवाद समाधान के लिए भी एक तंत्र उपलब्‍ध कराया। ट्राई से न्‍यायनिर्णय तथा विवाद दायित्‍वों को लेने के लिए एक दूरसंचार विवाद निपटान तथा अपीली ट्रिब्‍यूनल (टीडीसैट) की स्‍थापना करते हुए इसे वर्ष 2000 में संशोधित किया गया।

आयुष मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने योग महोत्‍सव का उद्घाटन किया

आयुष मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने योग महोत्‍सव-2022 का उद्घाटन किया। इसका आयोजन दिल्‍ली स्थित मोरारजी देसाई योग संस्‍थान ने किया है। इसका उद्देश्‍य स्‍वास्‍थ्‍य, आरोग्‍य और विश्‍व शांति के लिए मनाये जाने वाले अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस से एक सौ दिन पहले योग के विभिन्‍न पहलुओं का प्रचार करना है। इसके अतिरिक्त, मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान के तत्वावधान में आयुष मंत्रालय की सीमाओं को विस्तारित करने के लिए भी एक अभियान आरंभ हो रहा है, जिसे विश्व भर में 13 मार्च, 2022 से 21 जून, 2022 के बीच 100 दिन, 100 शहरों और 100 संगठनों तक चलाया जाएगा। अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस 2015 से मनाया जा रहा है। आईडीवाई-2022 अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का 8वां संस्करण है।

अदावी ट्राइबल ब्रांड लांच किया गया

नीलांबुर से वन उत्पादों का एक नया ब्रांड लॉन्च किया गया है। नीलांबुर आदिवासियों द्वारा एकत्रित गए लघु वनोपज जैसे जंगली शहद का विपणन अब अदावी ब्रांड के तहत किया जाएगा। National Bank for Agriculture and Rural Development (NABARD) और जन शिक्षण संस्थान (JSS) ने संयुक्त रूप से नीलांबुर में आयोजित एक आदिवासी उत्सव में अदावी ब्रांड लॉन्च किया है। JSS और नाबार्ड ने गोत्रमृत परियोजना के कार्यान्वयन में सहयोग किया, जिसमें अदावी ब्रांड भी शामिल है। आदिवासी उत्सव के दौरान नाबार्ड और JSS द्वारा ‘दिशा’ नामक एक प्रदर्शनी का आयोजन किया गया था। प्रारंभिक चरण में, अदावी ब्रांड शुद्ध जंगली शहद, जंगली शतावरी, और आंवले के विभिन्न अचार और आम को बढ़ावा देगा। उत्पादों को गोत्रमृत सोसाइटी द्वारा बेचा जाएगा, जिसकी स्थापना नीलांबुर आदिवासियों ने की थी। इस नई योजना के तहत, अदावी उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए, विशेष रूप से विदेशी बाजारों में बेहतर और व्यापक बाजारों का प्रस्ताव दिया गया है।

Vincov-19 : कोविड के लिए भारत की पहली स्वदेशी दवाई

उत्कृष्ट परिणामों का प्रदर्शन करने वाले नैदानिक ​​​​परीक्षणों के पूरा होने के साथ, Vincov-19 नामक COVID-19 के इलाज के लिए पहली स्वदेशी दवा जल्द ही जनता के लिए उपलब्ध होने की उम्मीद है। CSIR-Centre for Cellular & Molecular Biology (CCMB), VINS Bioproducts, और हैदराबाद विश्वविद्यालय (UoH) ने ‘Vincov-19’ दवा बनाने के लिए सहयोग किया है। इस दवा को बनाने के लिए SARS-CoV-2 वायरस को निष्क्रिय कर घोड़ों में इंजेक्ट किया जाता है। फिर रक्त सीरम के माध्यम से उत्पन्न होने वाले एंटीबॉडी को संश्लेषित किया जाता है और फिर शुद्ध किया जाता है और एक दवा में बदल दिया जाता है। इस दवा को फिर COVID वायरस को बेअसर करने के लिए मनुष्यों में इंजेक्ट किया जाता है।

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मध्य प्रदेश के ग्वालियर में किया पहले ड्रोन स्कूल का उद्घाटन

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने संयुक्त रूप से मध्य प्रदेश के ग्वालियर में पहले ड्रोन स्कूल का उद्घाटन किया। यह ड्रोन स्कूल मध्य प्रदेश के विभिन्न शहरों में खोले जाने वाले पांच ड्रोन स्कूलों में से एक है। अन्य चार शहर भोपाल, इंदौर, जबलपुर और सतना हैं। ग्वालियर का यह ड्रोन स्कूल न केवल मध्यप्रदेश के युवाओं को तकनीक से जोड़कर आगे बढ़ने का मार्ग प्रशस्त करेगा, बल्कि रोजगार के अवसर भी बढ़ाएगा। यह विद्यालय ग्वालियर के साथ-साथ मध्यप्रदेश की प्रगति और प्रगति में मील का पत्थर साबित होगा।

छह भारतीय हवाई अड्डों को एसीआई वर्ल्ड के एएसक्यू अवार्ड्स 2021 में मिली जगह

एयरपोर्ट्स काउंसिल इंटरनेशनल (ACI) वर्ल्ड ने एशिया पैसिफिक श्रेणी के तहत छह भारतीय हवाई अड्डों को एयरपोर्ट सर्विस क्वालिटी (ASQ) अवार्ड्स 2021 से सम्मानित किया है। ASQ के प्रस्थान और आगमन सर्वेक्षण के आंकड़ों के आधार पर आकार और क्षेत्र के अनुसार 6 हवाई अड्डों को सर्वश्रेष्ठ हवाई अड्डों के रूप में चुना गया था। चंडीगढ़ हवाई अड्डे (चंडीगढ़) को एशिया प्रशांत श्रेणी के तहत क्षेत्र द्वारा सर्वश्रेष्ठ स्वच्छता उपायों के रूप में चुना गया है। ASQ अवार्ड्स ACI वर्ल्ड द्वारा ग्लोबल ट्रैवल टेक्नोलॉजी कंपनी Amadeus के साथ साझेदारी में प्रस्तुत किए गए। एशिया प्रशांत क्षेत्र श्रेणी के तहत पुरस्कार जीतने वाले 6 भारतीय हवाईअड्डे हैं:

श्रेणी (आकार)हवाई अड्डाशहर & राज्य
प्रति वर्ष 2 से 5 मिलियन यात्रीचंडीगढ़ हवाई अड्डाचंडीगढ़
प्रति वर्ष 5 से 15 मिलियन यात्रीकोचीन अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डाकोचीन, केरल
सरदार वल्लभभाई पटेल अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डाअहमदाबाद, गुजरात
प्रति वर्ष 15 से 25 मिलियन यात्रीराजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डाहैदराबाद, तेलंगाना
प्रति वर्ष 40 मिलियन से अधिक यात्रीछत्रपति शिवाजी महाराज अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डामुंबई, महाराष्ट्र
इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डादिल्ली

यूक्रेन में भारतीय दूतावास अस्थाई तौर पर पोलैंड स्थानांतरित किया जाएगा

विदेश मंत्रालय ने कहा है कि यूक्रेन के पश्चिमी हिस्सों में हमलों से बिगड़ती सुरक्षा स्थिति के मद्देनजर भारतीय दूतावास को वहां से अस्थाई तौर पर पोलैंड स्थानांतरित किया जाएगा। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिदंम बागची के अनुसार भविष्य के घटनाक्रम को देखते हुए स्थिति का पुनर्मूल्यांकन किया जाएगा।

केरल सरकार स्कूली शिक्षा के बारे में सुझाव देने के लिए दो समितियों का गठन करेगी

केरल सरकार, स्कूली शिक्षा के बारे में सुझाव देने के लिए दो समितियों का गठन करेगी। ये, स्‍कूल पाठ्यक्रम में संशोधन और स्‍कूली शिक्षा से संबंधित अन्‍य मुद्दों के बारे में परामर्श देंगी। सामान्‍य शिक्षा मंत्री के नेतृत्‍व में राज्‍य पाठ्यक्रम प्रचालन समिति स्‍कूली शिक्षा से संबंधित मुद्दों पर विचार करेगी। सामान्‍य शिक्षा प्रधान सचिव की अध्‍यक्षता वाली पाठ्यक्रम कोर समिति स्‍कूली पाठ्यक्रम में संशोधन के बारे में सुझाव देगी। ये संशोधन अगले शिक्षण वर्ष से लागू किए जा सकते हैं। कोर समिति का उद्देश्‍य पाठ्यक्रम में संशोधन और नई पाठ्यपुस्‍तकें तैयार करने में लोगों की राय को शामिल करना है। 71 सदस्‍यों वाली पाठ्यक्रम समिति में, जीवन के सभी क्षेत्रों की जानी-मानी हस्तियां होंगी।

मध्य प्रदेश ने बच्चों के लिए बाल बजट पेश किया

मध्य प्रदेश सरकार ने पहली बार अपनी वार्षिक वित्तीय योजना के हिस्से के रूप में ‘बाल बजट’ पेश किया। सरकार ने 220 योजनाओं के लिए 57,803 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं, जिन्हें 18 वर्ष से कम आयु के बच्चों के लिए शिक्षा सहित 17 विभागों के तहत लागू किया जाएगा। मध्य प्रदेश सरकार ने वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए अपना बजट पेश किया। वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने बजट पेश किया। 2.79 लाख करोड़ रुपये के बजट के तहत 2022-23 के लिए कोई नया कर प्रस्तावित नहीं किया गया है। अगले वित्त वर्ष में बुनियादी ढांचे के लिए 42,128 करोड़ रुपये, शिक्षा के लिए 32,843 करोड़ रुपये और स्वास्थ्य के लिए 19,405 करोड़ रुपये का आवंटन किया गया है। इस बजट के तहत सड़क, बिजली और पानी को कवर करने वाले बुनियादी ढांचा क्षेत्र के लिए 42,128 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। ग्रामीण और शहरी विकास के लिए 41,038 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। कृषि क्षेत्र के लिए 20,027 करोड़ रुपये, शिक्षा के लिए 32,843 करोड़ रुपये और स्वास्थ्य के लिए 19,405 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। ग्रामीण विकास विभाग को 21,389 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की गई है। पंचायत विभाग के लिए 6,536 करोड़ रुपये निर्धारित किए गए हैं। पशु चिकित्सा वाहनों का उपयोग कर घायल या बीमार मवेशियों को मौके पर उपचार उपलब्ध कराने की व्यवस्था करने के लिए 142 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।

केरल में IT कॉरिडोर स्थापित किये जायेंगे

वित्त मंत्री के.एन. बालगोपाल द्वारा पेश किए गए केरल के बजट में, राज्य के आईटी क्षेत्र को महत्व दिया गया है, जिसमें भविष्य के 5G नेटवर्क पर फोकस किया गया है। केरल सरकार द्वारा राज्य में 5G प्रणाली लाने और सेवा क्षेत्र में तेजी से आगे बढ़ने के लिए त्वरित कदम उठाए जाएंगे। आईटी क्षेत्र का बुनियादी ढांचा विकास एक और महत्वपूर्ण घोषणा थी। राज्य के आईटी क्षेत्र के विकेंद्रीकरण के हिस्से के रूप में मौजूदा NH 66 के साथ, चार आईटी कॉरिडोर को इसके समानांतर बनाया जाएगा। कॉरिडोर में चार लेन होंगे जो कोराट्टी-एर्नाकुलम, तिरुवनंतपुरम टेक्नोपार्क चरण- III-कोल्लम, कोझीकोड-कन्नूर और एर्नाकुलम-चेरथला होंगे। आईटी कॉरिडोर के विस्तार के लिए कोल्लम में एक आईटी सुविधा स्थापित की जाएगी जो 5,00,000 वर्ग फुट के क्षेत्र को कवर करेगी। कन्नूर में एक नया आईटी पार्क बनाया जाएगा। NH 66 के माध्यम से कोझीकोड, एर्नाकुलम और टेक्नोपार्क फेज III से सुविधाजनक पहुंच के साथ प्रस्तावित कॉरिडोर पर भूमि अधिग्रहण के माध्यम से प्रीमियम कीमतों पर प्राप्त 15-25 एकड़ भूमि पर सैटेलाइट आईटी पार्क बनाए जाएंगे।

केन्द्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव ने पुस्तक लॉन्च की

श्रम और रोजगार मंत्री और MoEFCC, भूपेंद्र यादव ने “Role of Labour in India’s Development” नामक एक पुस्तक लॉन्च की है। वी वी गिरि राष्ट्रीय श्रम संस्थान ने पुस्तक प्रकाशित की है। पुस्तक का प्रकाशन 'आजादी का अमृत महोत्सव' के 'आइकॉनिक वीक' समारोह का हिस्सा है। “Role of Labour in India’s Development” पुस्तक में भारत की विकास यात्रा में श्रम के योगदान को रेखांकित करने वाले 12 लेख हैं। ये लेख इस क्षेत्र के विशेषज्ञों द्वारा लिखे गए हैं और पुस्तक वी वी गिरी राष्ट्रीय श्रम संस्थान द्वारा प्रकाशित की गई है। वी वी गिरी राष्ट्रीय श्रम संस्थान श्रम और रोजगार मंत्रालय का एक स्वायत्त निकाय है। यह 1974 में श्रम अनुसंधान, प्रशिक्षण और शिक्षा के एक प्रमुख संस्थान के रूप में स्थापित किया गया था। डॉ एच श्रीनिवास संस्था के वर्तमान महानिदेशक हैं।

त्रिपुरा सरकार ने शुरू की 'मुख्यमंत्री चा श्रमि कल्याण प्रकल्प' योजना

त्रिपुरा सरकार ने चाय श्रमिकों के लिए एक विशेष योजना 'मुख्यमंत्री चा श्रमि कल्याण प्रकल्प' की घोषणा की है। इस विशेष योजना के कार्यान्वयन के लिए 85 करोड़ रुपये, त्रिपुरा के 7000 चाय बागान श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा जाल के तहत लाने की दिशा में एक कदम के रूप में आवंटित किये गये हैं। यह विशेष योजना राज्य सरकार और केंद्र सरकार द्वारा चाय बागान श्रमिकों को उनके लिए हकदार सुविधाओं को एकीकृत करके आवास, राशन और वित्तीय सहायता सुनिश्चित करेगी। 7000 चाय बागान श्रमिकों में से लगभग 75% महिलाएं हैं और वे राज्य भर में 54 चाय बागानों और 21 चाय प्रसंस्करण कारखानों के माध्यम से लगभग 90 लाख किलोग्राम चाय का उत्पादन करती हैं। चाय का उत्पादन मुख्य रूप से उत्तर, सिपाहीजला, उनाकोटी और पश्चिम त्रिपुरा जिलों में वितरित किया जाता है। केंद्रीय गृह और सहकारिता मंत्री, अमित शाह ने हाल ही में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर त्रिपुरा की महिलाओं के लिए वर्ष 2022 महिला अधिकारिता अभियान और मुख्यमंत्री श्रमिक कल्याण प्रकल्प योजना का उद्घाटन किया था और राष्ट्रीय फोरेंसिक विज्ञान विश्वविद्यालय की आधारशिला भी रखी थी। त्रिपुरा की राजधानी अगरतला।

प्रभा नरसिम्हन बनीं कोलगेट-पामोलिव (इंडिया) लिमिटेड की CEO और MD

प्रभा नरसिम्हन को कोलगेट-पामोलिव (इंडिया) लिमिटेड का सीईओ और एमडी नियुक्त किया गया है। वह राम राघवन का स्थान लेंगी, जिन्हें कोलगेट पामोलिव कंपनी में प्रेसिडेंट, एंटरप्राइज ओरल केयर के रूप में पदोन्नत किया गया है। इससे पहले, वह हिंदुस्तान यूनिलीवर (HUL) के कार्यकारी निदेशक के रूप में कार्यरत थीं। कोलगेट-पामोलिव (इंडिया) 'कोलगेट' ब्रांड के तहत ओरल केयर उत्पाद प्रदान करता है। यह 'पामोलिव' ब्रांड नाम के तहत पर्सनल केयर प्रोडक्ट भी प्रदान करता है। कोलगेट-पामोलिव (इंडिया) 'कोलगेट' ब्रांड के तहत ओरल केयर उत्पाद उपलब्ध कराता है। यह 'पामोलिव' ब्रांड नाम के तहत व्यक्तिगत देखभाल उत्पाद भी प्रदान करता है। कंपनी ने Q3 FY22 में Q3 FY22 में बिक्री में 4% की वृद्धि के साथ शुद्ध लाभ में 2% की वृद्धि के साथ 252 करोड़ रुपये की वृद्धि दर्ज की। कोलगेट-पामोलिव (इंडिया) के शेयर बीएसई पर लगभग 1496 रुपये पर सपाट थे।

आजादी का अमृत महोत्सव के हिस्से के रूप में एनएमआईसी परिसर में विंटेज कार और बाइक प्रदर्शनी आयोजित

फिल्म प्रभाग परिसर स्थित राष्ट्रीय भारतीय सिनेमा संग्रहालय (एनएमआईसी) परिसर में विंटेज कारों और बाइक की प्रदर्शनी आयोजित की गई। आजादी का अमृत महोत्सव के जश्न के हिस्से के रूप में एनएमआईसी द्वारा द विंटेज एंड क्लासिक कार क्लब ऑफ इंडिया (वीसीसीसीआई) के सहयोग से प्रदर्शनी का आयोजन किया गया है। प्रदर्शनी के लिए 75 विंटेज कारों और बाइक का एक बहुत ही सुंदर संग्रह रखा गया है।

विश्व रोटरैक्ट दिवस :13 मार्च

दुनिया भर में रोटारैक्टर्स द्वारा प्रदान की जाने वाली सेवाओं को स्वीकार करने के लिए हर साल 13 मार्च को विश्व रोटरैक्ट दिवस (World Rotaract Day) मनाया जाता है। विश्व रोटरैक्ट दिवस 2022 का विषय "रोटरी मेकिंग अ डिफरेंस" है। विश्व रोटरैक्ट सप्ताह 11 मार्च 2022 से 18 मार्च 2022 तक आयोजित किया जाएगा। रोटरी क्लब युवा पुरुषों और महिलाओं के लिए सामुदायिक सेवा संगठन है। वे दुनिया में शांति और अंतरराष्ट्रीय समझ लाने के वैश्विक प्रयास में अंतरराष्ट्रीय सेवा परियोजनाओं में भाग लेते हैं। रोटरैक्ट का अर्थ है क्रिया में घूमने वाला। रोटरी व्यवसाय और पेशेवर लोगों का एक संगठन है जो मानवीय सेवा प्रदान करने के लिए दुनिया भर में एकजुट होते हैं, सभी व्यवसायों में उच्च नैतिक मानकों को प्रोत्साहित करते हैं और दुनिया में सद्भावना और शांति बनाने में मदद करते हैं। विश्व रोटरैक्ट दिवस 1968 में उत्तरी कैरोलिना, संयुक्त राज्य अमेरिका में इस तरह के पहले क्लब, रोटरी इंटरनेशनल की शुरुआत का सम्मान करने के लिए मनाया जाता है। अब यह दुनिया भर में फैले 9,539 से अधिक क्लबों के साथ एक प्रमुख रोटरी-प्रायोजित संगठन में बदल गया है।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.