Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

27 April 2022

सूचना और प्रसारण मंत्री ने नेटफ्लिक्‍स के सहयोग से 'आजादी की अमृत कहानियां' नामक एक लघु वीडियो संग्रह जारी किया

सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने 'आजादी की अमृत कहानियां' नामक एक लघु वीडियो संग्रह जारी किया। इसे नेफ्लिक्‍स इंडिया के सहयोग से तैयार किया गया है। इसमें सात भारतीय महिलाओं के बारे में प्रेरक लघु कथाएं हैं, जिन्होंने देश के लिए कुछ अकल्पनीय, अनोखे और उत्‍कृष्‍ट कार्य किए। वीडियो में पर्यावरणविद् और पद्म पुरस्‍कार से सम्‍मानित बसंती देवी को दर्शाया गया है, जिन्‍होंने उत्‍तराखंड में कोसी नदी को बचाने के लिए जागरूकता अभियान चलाया। पर्वतारो‍ही अंशु जैम्‍सेन्‍पा के योगदान को भी इन लघु वीडियो में दर्शाया गया है। वे विश्‍व की पहली महिला हैं, जिन्‍होंने एक ही मौसम में दो बार माउंट एवरेस्‍ट पर विजय प्राप्‍त की है। श्रृंखला में हर्षि‍नी कान्‍हेकर की कहानी भी है, जिन्‍हें प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के भारत की लक्ष्‍मी अभियान के अन्‍तर्गत सम्‍मानित महिलाओं की सूची में शामिल किया गया था। श्री ठाकुर ने कहा कि नेटफ्लिक्‍स महिला सशक्तिकरण, पर्यावरण और स्‍थायी विकास तथा महत्‍वपूर्ण दिवसों के बारे में 25 वीडियो तैयार करेगा। उन्‍होंने कहा कि नेटफ्लिक्‍स मंत्रालय के लिए दो मिनट की लघु फिल्‍में भी बनायेगा, जो सोशल मीडिया मंचों पर साझा की जायेंगी और दूरदर्शन नेटवर्क पर भी दिखाई जायेंगी।

यूनेस्को वर्ल्ड बुक कैपिटल 2022: ग्वाडलजारा, मेक्सिको

संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन (UNESCO) हर साल एक विश्‍व पुस्तक राजधानी का चयन करता है और इस चयनित राजधानी शहर में कई प्रकार की गतिविधियां आयोजित की जाती है, ताकि लोगों को पढ़ने के लिए प्रोत्‍साहित किया जा सके। साल 2022 में, ग्वाडलजारा, मेक्सिको को विश्‍व पुस्तक राजधानी के रूप में चुना गया है। हाल ही में, संयुक्त राष्ट्र संगठन ने विश्‍व पुस्तक दिवस कार्यक्रम के हिस्से के रूप में विश्‍व डिजिटल लाइब्रेरी के बारे में जानकारी सोशल मीडिया पर साझा की है, जो दुनिया भर से हजारों पुस्तकों, दस्तावेजों और तस्वीरों तक मुफ्त पहुंच प्रदान करती है।

भारत और मालदीव अक्षय ऊर्जा हस्तांतरण के लिए ट्रांसमिशन इंटरकनेक्शन स्थापित करेंगे

केंद्रीय विद्युत तथा नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री श्री आर के सिंह ने मालदीव गणराज्य की पर्यावरण, जलवायु परिवर्तन और प्रौद्योगिकी मंत्री सुश्री अमीनाथ शौना से मुलाकात की। श्री सिंह ने वर्ष 2030 तक शत प्रतिशत शून्य उत्सर्जन लक्ष्य हासिल करने के मालदीव सरकार के संकल्प की सराहना की। इस बैठक के दौरान, दोनों नेताओं ने दो समझौता ज्ञापनों का प्रस्ताव रखा। पहला- ऊर्जा सहयोग पर और दूसरा समझौता ज्ञापन वन सन, वन वर्ल्ड, वन ग्रिड (ओएसओडब्ल्यूओजी) के तहत ट्रांसमिशन इंटरकनेक्शन पर किया गया। मालदीव के विद्युत प्रेषण कार्यक्रम को सुविधाजनक बनाने के उद्देश्य से भारत तथा मालदीव ने वन सन, वन वर्ल्ड और वन ग्रिड पहल के हिस्से के रूप में अक्षय ऊर्जा हस्तांतरण के लिए ट्रांसमिशन इंटरकनेक्शन स्थापित करने का प्रस्ताव रखा है। ट्रांसमिशन इंटरकनेक्शन पर समझौता ज्ञापन के लिए एक मसौदा करार नामा तैयार किया जा रहा है, जिसके तहत भारत की एक तकनीकी टीम मालदीव की तकनीकी व्यवहार्यता का आकलन करने हेतु वहां का दौरा करेगी। इसके बाद भारत व मालदीव की एजेंसियों के साथ संयुक्त रूप से एक विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार की जाएगी, जिसमें माले में अंडरसी केबल रूट सर्वे और नेटवर्क संवर्द्धन शामिल है।

भारतीय तटरक्षक पोत ‘ऊर्जा प्रवाह’ को भारतीय तटरक्षक बल में शामिल किया गया

भारतीय तटरक्षक पोत ‘ऊर्जा प्रवाह’ को गुजरात के भरूच में भारतीय तटरक्षक बल में शामिल किया गया है। ऊर्जा प्रवाह 22 अप्रैल, 2022 को कोच्चि पहुँची और तटरक्षक मुख्यालय- 4 (केरल और माहे) के संचालन कमान के साथ-साथ सहायक बजरा ऊर्जा श्रोता, जो 2017 से यहाँ स्थित है, भारतीय तटरक्षक बल के अधीन होगी। यह नया जहाज़ तटरक्षक बल के जहाजों को रसद सहायता प्रदान करके भारतीय तटरक्षक बल (ICG) के संचालन को बढ़ाने में मदद करेगा, जिन्हें विशेष आर्थिक क्षेत्र और लक्षद्वीप/मिनिकॉय द्वीप समूह सहित समुद्री संचालन के दूरदराज़ क्षेत्रों में तैनात किया जाएगा। कोच्चि में भारतीय तटरक्षक बल के लिये जहाज़ का मार्ग निश्चित रूप से समुद्र में भारतीय तटरक्षक बल की परिचालन क्षमता को बढ़ाएगा। सहायक बजरा ऊर्जा प्रवाह की लंबाई 36 मीटर है तथा इसे क्रमशः 10 टन, 50 टन और 40 टन की क्षमता सीमा के साथ कार्गो विमानन ईंधन, विमानन ईंधन और मीठे पानी के लिये डिज़ाइन किया गया है।

भारत ने इस साल जनवरी से मार्च के दौरान 5.9 प्रतिशत की वृद्धि के साथ तीन करोड़ 19 लाख टन स्टील का उत्पादन किया

भारत ने इस साल जनवरी से मार्च के दौरान पांच दशमलव नौ प्रतिशत की वृद्धि के साथ तीन करोड़ 19 लाख टन स्टील का उत्पादन किया है। केवल मार्च में इस्पात उत्पादन चार दशमलव चार प्रतिशत की वृद्धि दर के साथ एक करोड़ 90 लाख टन रहा। वर्ल्ड स्टील एसोसिएशन द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार भारत दुनिया के शीर्ष 10 इस्पात उत्पादक देशों में एकमात्र देश है, जिसने पिछले साल की इसी अवधि की तुलना में जनवरी से मार्च की अवधि में इस्पात उत्पादन में वृद्धि दर्ज की है। शीर्ष 10 देशों में ब्राजील एकमात्र अन्य देश है जिसने मार्च के महीने में वृद्धि दर्ज की है।

NSO अखिल भारतीय घरेलू उपभोक्ता व्यय सर्वेक्षण आयोजित करेगा

अखिल भारतीय घरेलू उपभोक्ता व्यय सर्वेक्षण, जो राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (NSO) द्वारा हर पांच साल में किया जाता है, इस साल लंबे अंतराल के बाद फिर से शुरू किया जाएगा। 2011-12 के बाद से, देश में प्रति व्यक्ति घरेलू खर्च पर कोई आधिकारिक अनुमान नहीं है। इस अनुमान का उपयोग देश के विभिन्न हिस्सों में गरीबी के स्तर की जांच करने और अन्य आर्थिक संकेतकों जैसे सकल घरेलू उत्पाद (GDP) की समीक्षा करने के लिए किया जाता है। 2017-18 में पिछले सर्वेक्षण को डेटा गुणवत्ता में मुद्दों का हवाला देते हुए सरकार द्वारा रद्द कर दिया गया था। 2022-23 का सर्वेक्षण जुलाई से शुरू किया जाएगा और यह जून 2023 तक पूरा हो जाएगा।

यूक्रेनी राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की को मिला जॉन एफ कैनेडी पुरस्कार

जॉन एफ कैनेडी लाइब्रेरी फाउंडेशन ने पहली बार पांच व्यक्तियों को जॉन एफ कैनेडी प्रोफाइल इन करेज अवार्ड 2022 से सम्मानित किया। यह पुरस्कार कैरोलिन कैनेडी और उनके बेटे, जैक श्लॉसबर्ग द्वारा 22 मई, 2022 को जॉन एफ कैनेडी प्रेसिडेंशियल लाइब्रेरी, बोस्टन, यूएसए में प्रदान किया जाएगा। यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर ज़ेलेंस्की उन पांच लोगों में शामिल हैं, जिन्हें लोकतंत्र की रक्षा के लिए उनके कार्यों के लिए जॉन एफ. कैनेडी प्रोफाइल इन करेज अवार्ड के प्राप्तकर्ता के रूप में नामित किया गया है।

  1. यूक्रेन के राष्ट्रपति: वलोडिमिर ज़ेलेंस्की
  2. संयुक्त राज्य अमेरिका (अमेरिका) के प्रतिनिधि: लिज़ चेनी
  3. मिशिगन राज्य सचिव: जॉक्लिन बेन्सन
  4. एरिज़ोना प्रतिनिधि: रसेल "रस्टी" बोवर्स
  5. फुल्टन काउंटी, जॉर्जिया, चुनाव कार्यकर्ता: वांड्रिया "शाय" मोसो
जेलेंस्की को इसलिए चुना गया क्योंकि रूस की सेना द्वारा यूक्रेन में शहरों और कस्बों पर लगातार किए जा रहे हम लोगों के बीच, उन्होंने अपने देश के लिए जीवन-या-मृत्यु की लड़ाई में यूक्रेनी लोगों की भावना, देशभक्ति और अथक बलिदान को सर्वोपरि रखा।

नवीन पटनायक ने किया 2 पुस्तकों “The Magic of Mangalajodi” और “Sikh History of Eastern India” का विमोचन

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने 2 पुस्तकों, अविनाश खेमका(Avinash Khemka) की कॉफी टेबल बुक “The Magic of Mangalajodi” और अविनाश मोहापात्रा(Abinash Mohapatra) की “Sikh History of Eastern India” शीर्षक से पूर्वी भारत के सिख इतिहास का संकलन का विमोचन किया। कॉफी टेबल बुक "द मैजिक ऑफ मंगलाजोड़ी" विभिन्न छवियों और विवरणों के माध्यम से चिल्का झील में मंगलाजोड़ी का एक विहंगम दृश्य प्रदान करती है। पूर्वी भारत का सिख इतिहास अविनाश मोहापात्रा द्वारा सिख इतिहास और दर्शन पर सूक्ष्म शोध कार्य का परिणाम है। यह अबिनाश महापात्र द्वारा लिखित 8 पुस्तकों का संकलन है, जिसमें बिहार, असम, बांग्लादेश, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह का सिख इतिहास शामिल है।

पेरिस बुक फेस्टिवल 2022 में गेस्ट ऑफ ऑनर के रूप में भारत ने भाग लिया

फ्रांस के राष्ट्रपति की नई दिल्ली यात्रा के दौरान 2018 में जारी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी-राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के संयुक्त वक्तव्य के तहत 21 से 24 अप्रैल, 2022 तक आयोजित किये जा रहे पेरिस पुस्तक महोत्सव 2022 में भारत को मुख्य अतिथि देश के रूप में नामित किया गया है। 21 अप्रैल, 2022 को पेरिस पुस्तक महोत्सव का उद्घाटन किया गया और उसी दिन पेरिस पुस्तक महोत्सव के इंडिया पवेलियन का उद्घाटन हुआ। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन (एनआईडी) द्वारा डिजाइन किए गए इंडिया पवेलियन में 15 से अधिक डिजिटल और भौतिक प्रदर्शनियां हैं, जो विभिन्न भारतीय भाषाओं में प्रकाशित 400 से अधिक पुस्तकों को प्रदर्शित कर रही हैं और 65 भारतीय प्रकाशकों का प्रतिनिधित्व करती हैं।

पोषण पखवाडा 2022 के दौरान समूचे राष्‍ट्र में तीन करोड कार्यक्रम आयोजित किए गए

पोषण पखवाडा 2022 के दौरान समूचे राष्‍ट्र में तीन करोड कार्यक्रम आयोजित किए गए। महिला और बाल विकास मंत्रालय ने 21 मार्च से चार अप्रैल तक चौथा 'पोषण पखवाड़ा' मनाया। इस वर्ष का 'पोषण पखवाड़ा' का फोकस दो व्‍यापक क्षेत्रों- छह वर्ष की उम्र तक के लाभार्थी बच्‍चों की लम्‍बाई और वजन माप तथा लैंगिक संवेदी जल प्रबंधन, विषेश रूप से जनजातीय क्षेत्रों की स्‍वस्‍थ माता और बच्‍चों के लिए परम्‍परागत भोजन और एनीमिया से संबंधित गतिविधियों पर था।

रूस की मारियुपोल में अज़ोवस्तल इस्‍पात संयंत्र के आसपास के क्षेत्रों में संघर्ष विराम की घोषणा

रूस के रक्षा मंत्रालय ने मारियुपोल में अज़ोवस्तल इस्‍पात संयंत्र के आसपास के क्षेत्रों में संघर्ष विराम की घोषणा की, ताकि औद्योगिक क्षेत्र से नागरिकों को सुरक्षित निकाला जा सके। रूस ने पिछले हफ्ते कहा था कि अज़ोवस्तल औद्योगिक क्षेत्र को छोड़कर, रणनीतिक रूप से महत्‍वपूर्ण पूर्वी यूक्रेन के शहर मारियुपोल पर पूर्ण नियंत्रण कर लिया गया है। राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने इस्‍पात संयंत्र की नाकाबंदी का आदेश दिया था जहां सैकड़ों नागरिक कथित तौर पर यूक्रेनी सैनिकों के साथ शरण लिए हुए हैं।

प्रधानमंत्री शिवगिरी तीर्थदानम् की 90वीं वर्षगांठ और ब्रह्म विद्यालय के स्वर्ण जयंती के वर्ष भर चलने वाले संयुक्त समारोहों के उद्घाटन कार्यक्रम में सम्मिलत हुये

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी दिल्ली के 7, लोक कल्याण मार्ग पर शिवगिरी तीर्थ की 90वीं वर्षगांठ और ब्रह्म विद्यालय के स्वर्ण जयंती के वर्ष भर चलने वाले संयुक्त समारोहों के उद्घाटन कार्यक्रम में सम्मिलत हुये। उन्होंने वर्ष भर चलने वाले संयुक्त समारोहों का लोगो भी जारी किया। शिवगिरी तीर्थदानम् और ब्रह्म विद्यालय, दोनों महान समाज सुधारक श्री नारायण गुरु के आशीर्वाद तथा मार्गदर्शन में आरंभ हुआ था। उल्लेखनीय है कि शिवगिरी तीर्थदानम् हर वर्ष 30 दिसंबर से एक जनवरी तक शिवगिरी, थिरुवनन्तपुरम में मनाया जाता है। श्री नारायण गुरु के अनुसार, तीर्थदानम् का उद्देश्य लोगों में समग्र ज्ञान का सृजन करना है। साथ ही तीर्थ द्वारा आमूल विकास और समृद्धि के लिये सहयोग करना है। इसलिये तीर्थदानम् शिक्षा, स्वच्छता, पवित्रता, हस्तशिल्प, व्यापार और वाणिज्य, कृषि, विज्ञान और प्रौद्योगिकी तथा संगठित प्रयास पर बल देता है। इस तीर्थ का शुभारंभ 1933 में मुट्ठीभर श्रद्धालुओं से हुआ था, लेकिन अब यह दक्षिण भारत के प्रमुख कार्यक्रमों में शामिल हो गया है। हर वर्ष जाति, विश्वास, धर्म और भाषा से ऊपर उठकर दुनिया भर से श्रद्धालु शिवगिरी आते हैं और तीर्थ-सेवन करते हैं। श्री नारायण गुरु ने एक ऐसे स्थान की परिकल्पना की थी, जहां शांति और समान सम्मान का भाव रखते हुये सभी धर्मों के सिद्धांतों की शिक्षा दी जाये। शिवगिरी का ब्रहम विद्यालय इसी परिकल्पना को वास्तविकता में बदलने के लिये स्थापित किया गया था। ब्रह्म विद्यालय में भारतीय दर्शन पर सात वर्षीय पाठ्यक्रम उपलब्ध है, जिसमें श्री नारायण गुरु की कृतियां और दुनिया भर के सभी महत्‍वपूर्ण धर्मों के ग्रंथ शामिल किये गये हैं।

राष्ट्रीय स्तर के लॉजिस्टिक्स सेमिनार 'लॉजिस्म वायु - 2022' का आयोजन दिल्ली में किया जाएगा

भारतीय वायुसेना द्वारा 28 अप्रैल 2022 को नई दिल्ली के वायु सेना सभागार में एक राष्ट्रीय स्तर के लॉजिस्टिक्स सेमिनार का आयोजन किया जा रहा है। वायु सेना प्रमुख इस सेमिनार का शुभारंभ करेंगे और उद्घाटन सत्र के दौरान मुख्य भाषण भी देंगे। इस सेमिनार का विषय है- 'ऑर्केस्ट्रेटिंग लॉजिस्टिक्स सपोर्ट फॉर एयर कॉम्बैट ऑपरेशंस'। सरकार, उद्योग और थिंक टैंक के प्रमुख विशेषज्ञ, राष्ट्रीय लॉजिस्टिक्स नीति और इसमें एआई, एमएल, ब्लॉकचैन और आईओटी जैसी मौजूदा प्रौद्योगिकियों के उपयोग पर विचार करेंगे। इन आयामों को जब सैन्य लॉजिस्टिक्स में शामिल किया जायेगा, तो इसका भारतीय वायुसेना के कार्य संचालन में आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन के तरीके पर एक परिवर्तनकारी प्रभाव पड़ेगा।

पर्वतमाला योजना के अंतर्गत हिमाचल प्रदेश में रोपवे के निर्माण के लिए एनएचएलएमएल और राज्य सरकार के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर

केन्‍द्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री श्री नितिन गडकरी, हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री जय राम ठाकुर, सड़क परिवहन और राजमार्ग राज्‍य मंत्री श्री वी के सिंह महत्वाकांक्षी पर्वतमाला योजना के अंतर्गत हिमाचल प्रदेश में रोपवे के निर्माण के लिए एनएचएलएमएल (नेशनल हाईवे लॉजिस्टिक्स मैनेजमेंट लिमिटेड) और हिमाचल प्रदेश सरकार के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्‍ताक्षर के गवाह बने। यह एक महत्वपूर्ण समझौता ज्ञापन है जो पर्यटकों के लिए एक अद्वितीय, पर्यावरण के अनुकूल, सुंदर और निर्बाध यात्रा अनुभव की सुविधा प्रदान करेगा।विश्वस्तरीय प्रौद्योगिकी का लाभ उठाकर, राज्य में कुल 3,232 करोड़ रुपये की लागत से 57.1 किलोमीटर लंबी 7 रोपवे परियोजनाओं का निर्माण किया जाएगा।

प्रसार भारती ने अर्जेंटीना के पब्लिक ब्रॉडकास्टर के साथ किए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर

प्रसार भारती ने प्रसारण के क्षेत्र में सहयोग के लिए अर्जेंटीना रेडियो टेलीविजन अर्जेंटीना (आरटीए) के सार्वजनिक प्रसारक के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं। समझौता ज्ञापन में मीडिया और प्रसारण में कई मोर्चों को शामिल किया गया है जो दोनों देशों के संचार और ट्रांसमिशन नेटवर्किंग का उदाहरण देने के लिए तैयार है। भारत और अर्जेंटीना राजनीतिक, आर्थिक, वैज्ञानिक और तकनीकी सहयोग के क्षेत्रों में सौहार्दपूर्ण संबंध और विकासात्मक भागीदारी साझा करते हैं।

परमाणु ऊर्जा और नवाचार में यूके-भारत मिलकर काम करेंगे

यूनाइटेड किंगडम के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की भारत यात्रा के दौरान, दोनों देशों ने ग्लोबल इनोवेशन पार्टनरशिप और न्यूक्लियर एनर्जी पार्टनरशिप पर सरकार से सरकार के बीच दो समझौता ज्ञापन (MoUs) पर हस्ताक्षर किए हैं। Cooperation on Global Centre for Nuclear Energy Partnership (GCNEP) पर सहयोग पर भारत के परमाणु ऊर्जा विभाग और यूके के व्यापार, ऊर्जा और औद्योगिक रणनीति विभाग के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए। दोनों देशों ने असैन्य परमाणु सहयोग पर साझेदारी को मजबूत करने की अपनी इच्छा की फिर से पुष्टि की है। भारत के विदेश मंत्रालय और यूनाइटेड किंगडम के विदेश, राष्ट्रमंडल और विकास कार्यालय के बीच ग्लोबल इनोवेशन पार्टनरशिप के कार्यान्वयन पर एक अन्य समझौता ज्ञापन पर भी हस्ताक्षर किए गए। रेडियोधर्मी अनुप्रयोगों, परमाणु ऊर्जा अध्ययन और परमाणु सुरक्षा पर संयुक्त रूप से प्रशिक्षण और अनुसंधान को बढ़ावा देने के उद्देश्य से इस सहयोग पर हस्ताक्षर किए गए हैं।

रेड बुल के मैक्स वेरस्टैपेन ने जीती F1 एमिलिया रोमाग्ना ग्रांड प्रिक्स 2022

फॉर्मूला वन चैंपियन मैक्स वर्स्टापेन (रेड बुल-नीदरलैंड्स) ने इटली में एमिलिया-रोमाग्ना ग्रांड प्रिक्स ख़िताब जीता है। यह सऊदी अरब के बाद इस सीज़न में वेरस्टैपेन की दूसरी जीत थी, जिसमें दो रिटायरमेंट और उनके करियर की 22वीं जीत भी शामिल है। सर्जियो पेरेज़ (रेड बुल-मेक्सिको) दूसरे और लैंडो नॉरिस (मैकलारेन-यूके) तीसरे स्थान पर रहे।

विश्व बौद्धिक संपदा दिवस

विश्व भर में प्रत्येक वर्ष 26 अप्रैल को ‘विश्व बौद्धिक संपदा दिवस’ का आयोजन किया जाता है। इस दिवस के आयोजन का उद्देश्य ‘रोज़मर्रा के जीवन पर पेटेंट, कॉपीराइट, ट्रेडमार्क तथा डिज़ाइन आदि के प्रभाव के बारे में जागरूकता बढ़ाना और वैश्विक समाज के विकास में रचनात्मकता एवं नवोन्मेष के महत्त्व को रेखांकित करना है। विश्व बौद्धिक संपदा दिवस की शुरुआत विश्व बौद्धिक संपदा संगठन (WIPO) द्वारा बौद्धिक संपदा (IP) के संबंध में आम जनमानस के बीच समझ विकसित करने के लक्ष्य के साथ वर्ष 2000 में की गई थी। 26 अप्रैल, 1970 को ही ‘WIPO कन्वेंशन’ लागू हुआ था। विदित हो कि वैश्विक स्तर पर रचनात्मक गतिविधियों को प्रोत्साहित करने और बौद्धिक संपदा संरक्षण को बढ़ावा देने के उद्देश्य से ‘विश्व बौद्धिक संपदा संगठन’ का गठन किया गया है। WIPO का मुख्यालय जिनेवा, स्विट्ज़रलैंड में है। भारत वर्ष 1975 में WIPO का सदस्य बना था। बौद्धिक संपदा के अंतर्गत ऐसी संपत्तियों को शामिल किया जाता है, जो मानव बुद्धि द्वारा निर्मित होती हैं और जिन्हें छूकर महसूस नहीं किया जा सकता है। इसमें मुख्य तौर पर कॉपीराइट, पेटेंट और ट्रेडमार्क आदि को शामिल किया जाता है।

इंटरनेशनल चेरनोबिल डिजास्टर रिमेंबरेंस डे: 26 अप्रैल

हर साल 26 अप्रैल को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर 1986 के चेरनोबिल आपदा के परिणामों और परमाणु ऊर्जा के खतरों के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए International Chernobyl Disaster Remembrance Day यानि अंतर्राष्ट्रीय चेरनोबिल आपदा स्मृति दिवस मनाया जाता है। इस दिन 1986 में, एक रिएक्टर विनाशकारी परिणामों के साथ यूक्रेन में चेरनोबिल परमाणु ऊर्जा संयंत्र में विस्फोट हो गया था। 1977 में निर्मित, चेरनोबिल परमाणु ऊर्जा संयंत्र का उपयोग तत्कालीन सोवियत संघ या आधुनिक पिपरियात, यूक्रेन में बिजली बनाने के लिए किया गया था। भयावह घटना से पहले, 1982 में चेरनोबिल संयंत्र में रिएक्टर 1 का आंशिक रूप से घटना हुई थी, जिससे कुछ नुकसान हुआ और मरम्मत में कुछ महीने लग गए। चेरनोबिल आपदा होने तक इस घटना की सूचना नहीं दी गई थी। 1986 में, परमाणु ऊर्जा संयंत्र में एक विस्फोट ने बेलारूस, यूक्रेन और रूसी संघ के बड़े क्षेत्रों में रेडियोधर्मी फैला दिया। आपदा की गंभीरता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि तीन यूरोपीय देशों में करीब 84 लाख लोग विकिरण के संपर्क में आए थे।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.