Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

19 June 2022

फ्रांस में भी चलेंगे यूपीआई और रुपे कार्ड, भारत ने एमओयू पर किए हस्ताक्षर

फ्रांस में भारतीय राजदूत जावेद अशरफ ने जानकारी दी कि भारत का यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (यूपीआई) और रुपे कार्ड जल्द ही फ्रांस में स्वीकार किए जाएंगे। नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया इंटरनेशनल (एनपीसीआई इंटरनेशनल), नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) की अंतरराष्ट्रीय शाखा ने फ्रांसीसी भुगतान कंपनी लायरा नेटवर्क के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं। एमओयू के मुताबिक लायरा नेटवर्क भारतीयों को अपनी मशीनों पर यूपीआई और रुपे कार्ड का उपयोग करके भुगतान करने की अनुमति देगा, जिससे विशेष रूप से भारत के छात्रों और पर्यटकों के लिए भुगतान करना आसान हो जाएगा। अब तक सिंगापुर, संयुक्त अरब अमीरात, भूटान और नेपाल जैसे देशों ने भारत के यूपीआई भुगतान प्रणाली को अपनाया है। एनपीसीआई इंटरनेशनल संयुक्त राज्य अमेरिका, यूरोप और पश्चिम एशिया में यूपीआई सेवाओं का विस्तार करने के लिए चर्चा कर रहा है। एनपीसीआई इंटरनेशनल और लायरा नेटवर्क के बीच एक समझौते के कारण भारतीय यात्री फ्रांस में अपनी यात्रा के दौरान आसानी से भुगतान करने में सक्षम होंगे।

भारत और यूरोपीय संघ ने 9 साल के बाद, भारत-यूरोपीय संघ मुक्त व्यापार समझौते के लिए फिर से वार्ता शुरू की

ब्रसेल्स में यूरोपीय संघ (ईयू) के मुख्यालय में आयोजित एक संयुक्त कार्यक्रम में, केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग, उपभोक्ता कार्य एवं खाद्य तथा सार्वजनिक वितरण और कपड़ा मंत्री श्री पीयूष गोयल और यूरोपीय संघ के कार्यकारी उपाध्यक्ष श्री वाल्डिस डोम्ब्रोव्स्की ने औपचारिक रूप से भारत-यूरोपीय संघ मुक्त व्यापार समझौता (एफटीए) वार्ता को फिर से शुरू किया। इसके अलावा, एक निवेश संरक्षण समझौते (आईपीए) और एक जीआई समझौते के लिए भी वार्ता शुरू की गई। पिछले साल, 8 मई, 2021 को पोर्टो में आयोजित भारत और यूरोपीय संघ के नेताओं की बैठक में, एक संतुलित, महत्वाकांक्षी, व्यापक और पारस्परिक रूप से लाभप्रद मुक्त व्यापार समझौते के लिए बातचीत फिर से शुरू करने और आईपीए पर नए सिरे से बातचीत शुरू करने और जीआई पर एक अलग समझौता-वार्ता के लिए एक समझौता किया गया था। दोनों साझेदार अब लगभग नौ साल के अंतराल के बाद मुक्त व्यापार समझौता वार्ता फिर से शुरू कर रहे हैं, क्योंकि 2013 में पहले की बातचीत को सौदे के दायरे और अपेक्षाओं में अंतर के कारण छोड़ दिया गया था। अप्रैल 2022 में यूरोपीय संघ की अध्यक्ष सुश्री उर्सुला वॉन डेर लेयेन की दिल्ली यात्रा और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की हाल की यूरोप यात्रा ने मुक्त व्यापार समझौता वार्ता को गति दी और वार्ता के लिए एक स्पष्ट रोडमैप को निर्धारित करने में मदद की।

ऑस्ट्रेलिया का महत्वाकांक्षी 2030 उत्सर्जन लक्ष्य

16 जून, 2022 को, ऑस्ट्रेलिया की नई सरकार ने जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र को अधिक महत्वाकांक्षी उत्सर्जन लक्ष्य प्रस्तुत किए। प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीस ने ऑस्ट्रेलिया के 2030 उत्सर्जन में कमी के लक्ष्य को बढ़ाकर 43% कर दिया है, जबकि पिछला लक्ष्य 26-28% था। ऑस्ट्रेलिया का नया लक्ष्य इसे स्वच्छ और सस्ती ऊर्जा द्वारा संचालित भविष्य के लिए तैयार करता है। ऑस्ट्रेलिया जीवाश्म ईंधन के भंडार से भरा हुआ है। यह दुनिया में कोयला और गैस के शीर्ष निर्यातकों में से एक है। ऑस्ट्रेलिया में घरेलू बिजली उत्पादन में कोयला महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। MIT द्वारा ग्रीन फ्यूचर इंडेक्स 2022 में, ऑस्ट्रेलिया को 76 देशों में से 52वें स्थान पर रखा गया था। यह सूचकांक इस बात की रेटिंग प्रदान करता है कि देश पर्यावरण की दृष्टि से टिकाऊ अर्थव्यवस्था की ओर कितना आगे बढ़ रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया में, 2019 तक ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन 533 मिलियन टन CO2-समतुल्य तक पहुंच गया था। यह 21 टन के प्रति व्यक्ति CO2e उत्सर्जन का प्रतिनिधित्व करता है, जो वैश्विक औसत का तीन गुना है। 30% उत्सर्जन में कोयले का योगदान है।

प्रधानमंत्री ने वडोदरा में गुजरात गौरव अभियान में भाग लिया, मुख्यमंत्री मातृशक्ति योजना और पोषण सुधा योजना भी शुरू की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात गौरव अभियान में भाग लिया उन्‍होंने गुजरात के वडोदरा में 21 हजार करोड़ रुपये की विभिन्न विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। इसमें 16 हजार करोड़ रुपये से अधिक की रेलवे परियोजनाएं भी शामिल हैं। श्री मोदी ने डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर का 357 किलोमीटर लंबा न्यू पालनपुर-मदार सेक्शन, 166 किलोमीटर के अहमदाबाद-बोटाड सेक्शन के गेज परिवर्तन और 81 किलोमीटर के पालनपुर-मीठा सेक्शन का विद्युतीकरण जैसी परियोजनाएं राष्ट्र को समर्पित कीं। उन्होंने सूरत, उधना, सोमनाथ और साबरमती स्टेशनों के पुनर्विकास की आधारशिला भी रखी। प्रधानमंत्री ने वडोदरा के पास दभोई तालुका के कुंडेला गांव में गुजरात केंद्रीय विश्वविद्यालय की आधारशिला भी रखी। उन्होंने राज्य में मातृ और शिशु स्वास्थ्य को और बेहतर बनाने के लिए मुख्यमंत्री मातृशक्ति योजना और पोषण सुधा योजना भी शुरू की। 800 करोड़ रुपए की मुख्यमंत्री मातृशक्ति योजना ये सुनिश्चित करेगी कि गर्भावस्था के दौरान और मातृत्व के शुरुआती दिनों में माता को पौष्टिक आहार मिले वहीं पोषण सुधा योजना का विस्तार भी अब गुजरात के सभी आदिवासी बाहुल्य क्षेत्रों में किया गया है। 4-5 साल पहले दाहोद, वलसाड, महिसागर, छोटा उदयपुर और नर्मदा के आदिवासी क्षेत्रों के कुछ ब्लॉक में पोषण सुधा योजना शुरु की थी। इस योजना के तहत आंगनवाड़ी में पंजीकृत गर्भवती और बच्चों को स्तनपान कराने वाली माताओं को पूर्ण पौष्टिक आहार प्रदान किया जाता है। इसके अलावा, आयरन और कैल्शियम की गोलियों के साथ-साथ स्वास्थ्य और पोषण पर शिक्षा भी दी जाती है।

प्रधानमंत्री ने राम बहादुर राय की पुस्तक 'भारतीय संविधान: अनकही कहानी' का विमोचन किया

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने श्री राम बहादुर राय की पुस्तक 'भारतीय संविधान: अनकही कहानी' के विमोचन के अवसर पर एक वीडियो संदेश के माध्यम से संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने श्री राम बहादुर राय के जीवन पर्यंत नए विचारों की खोज और समाज के सामने कुछ नया लाने की इच्छा को नोट किया। उन्होंने आशा व्यक्त की कि आज विमोचन की गई पुस्तक संविधान को व्यापक रूप में प्रस्तुत करेगी।

तमिलनाडु ने शुरू की एनम एझुथम योजना

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम.के. स्टालिन ने प्राथमिक शिक्षा में सीखने की खाई को पाटने के लिए 'एनम एझुथम' (Ennum Ezhuthum) योजना लांच की। यह योजना यह सुनिश्चित करेगी कि राज्य में आठ वर्ष से कम आयु के सभी छात्र 2025 तक समझ के साथ पढ़ सकें और बुनियादी अंकगणितीय कौशल प्राप्त कर सकें। इस योजना के लिए पाठ्यक्रम तैयार करने के लिए एक समिति का गठन किया गया था, ताकि प्रत्येक छात्र को अपना कौशल विकसित करने में मदद मिल सके। यह योजना सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में 3 साल के लिए लागू की जाएगी।

मुंबई हवाई अड्डे ने लॉन्च किया वर्टिकल एक्सिस विंड टर्बाइन और सोलर पीवी हाइब्रिड सिस्टम

हाल ही में मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे (CSMIA) ने वर्टिकल एक्सिस विंड टर्बाइन और सोलर पीवी हाइब्रिड लॉन्च किया है। इसके साथ CSMIA भारत का पहला हवाई अड्डा बन गया है जो पवन ऊर्जा के उपयोग की संभावना का पता लगाने के लिए अपनी तरह के पहले सोलर मिल का प्रयोग करेगा। CSMIA की यह पहल पारंपरिक बिजली पर निर्भरता को कम करने के साथ ‘नेट जीरो’ उत्सर्जन को बढ़ावा देती है।यह विलय की गई सौर और पवन ऊर्जा के उपयोग से एकीकृत, हाइब्रिड नवीकरणीय ऊर्जा उत्पाद से बिजली का उत्पादन करता है। इस तकनीक द्वारा उत्पन्न ऊर्जा को आवश्यकतानुसार विशिष्ट आधार पर अनुकूलित किया जा सकता है। मॉड्यूलर और स्केलेबल आकार के कारण वर्टिकल एक्सिस विंड टर्बाइन और सोलर पीवी हाइब्रिड सिस्टम को किसी भी छत पर स्थापित किया जा सकता है।

मिस्र में आयोजित हुआ युवा सांसदों का 8वां वैश्विक सम्मेलन

मिस्र ने शर्म अल शेख में युवा सांसदों के आठवें वैश्विक सम्मेलन की मेजबानी की है। यह सम्मेलन संयुक्त रूप से प्रतिनिधि सभा और अंतर-संसदीय संघ (Inter-Parliamentary Union - IPU) द्वारा आयोजित किया जाता है। जलवायु परिवर्तन के प्रभाव को कम करने के लिए रणनीतियों पर चर्चा करने के लिए 60 देशों के लगभग 200 युवा सांसद इसमें भाग ले रहे हैं। नागालैंड की पहली महिला संसद सदस्य के रूप में राज्यसभा के लिए चुनी गईं एस. फांगनोन कोन्याक (S. Phangon Konyak) इस सम्मेलन में भारत का प्रतिनिधित्व कर रही हैं।

महिलाओं के रोजगार को बढ़ावा देने के लिए लिंक्डइन और संयुक्त राष्ट्र महिला के बीच समझौता

विश्व के प्रतिष्ठित प्रोफेशनल नेटवर्क लिंक्डइन (LinkedIn) और संयुक्त राष्ट्र महिला (UN Women) के बीच महिलाओं के रोजगार को बढ़ावा देने के लिए समझौता किया गया है। इस समझौते के तहत लिंक्डइन 5 लाख डॉलर (3.88 करोड़ रुपये) का निवेश करेगी। इस योजना का पायलट चरण महाराष्ट्र में लॉन्च किया जाएगा जिसमें 2,000 महिलाओं के डिजिटल, सॉफ्टवेयर और रोजगार योग्यता कौशल को विकसित किया जाएगा। योजना के माध्यम से कौशल विकसित करने वाली महिलाओं को रोजगार मेले, मेंटरिंग सेशन और पियर-टू-पियर नेटवर्क के द्वारा रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जाएंगे। तीन साल का यह क्षेत्रीय सहयोग महिलाओं को डिजिटल रूप से उन्नत करके नौकरियों तक उनकी पहुँच को आसान बनाएगा। लिंक्डइन और संयुक्त राष्ट्र महिला (UN Women) के बीच साझेदारी महिला सशक्तीकरण सिद्धातों (WEPs) द्वारा निर्देशित होगी। WEPs प्रभावी, कार्रवाई योग्य सिद्धांतों का एक समूह है। यह वर्कप्लेस, मार्केटप्लेस और समुदाय में महिला सशक्तीकरण को बढ़ावा देने के तरीके पर मार्गदर्शन करता है। ऑनलाइन प्लेटफॉर्म और इंस्टीट्यूशनल एक्सपर्टाइज के द्वारा संयुक्त राष्ट्र महिला (UN Women) व लिंक्डइन सहयोगियों के साथ मिलकर प्रतिभागियों को आमंत्रित करेगी। इसमें संयुक्त वकालत अभियान और कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे।

जापान पहली बार नाटो शिखर सम्मेलन में भाग लेगा

जापान के प्रधान मंत्री, फुमियो किशिदा (Fumio Kishida) मैड्रिड में इस महीने होने वाले नाटो शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे, जो ट्रान्साटलांटिक गठबंधन की शीर्ष बैठक में शामिल होने वाले देश के पहले नेता बनेंगे। यूक्रेन में रूस के युद्ध में चार महीने बाद, 28-30 जून की सभा को 30 उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन सहयोगियों के लिए एक संकटपूर्ण क्षण के रूप में देखा जाता है।

सरकार ने अग्निवीरों के लिए 10% कोटा स्थापित किया

अग्निपथ योजना के व्यापक विरोध के बाद, केंद्र सरकार ने केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) और असम राइफल्स भर्ती में अग्निवीरों के लिए 10% आरक्षण की घोषणा की। गृह मंत्रालय ने सीएपीएफ और असम राइफल्स में अग्निवीरों को तीन साल की छूट देने का भी फैसला किया, जिनकी उम्र 17.5 और 21 के बीच है। विशेष रूप से, भर्ती के प्रारंभिक वर्ग को अधिकतम आयु सीमा पर पांच साल का विस्तार दिया जाएगा।

अग्निपथ- रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने अग्निवीरों के लिए भारतीय तटरक्षक, रक्षा असैन्य पदों और 16 डीपीएसयू की नौकरियों में 10% आरक्षण को स्वीकृति दी

रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने आवश्यक पात्रता मानदंडों को पूरा करने वाले अग्निवीरों के लिए रक्षा मंत्रालय में नौकरी की रिक्तियों के 10% को आरक्षित करने के प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान कर दी है। यह 10% आरक्षण भारतीय तटरक्षक बल, रक्षा असैन्य पदों और सभी 16 रक्षा सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों में लागू किया जाएगा। इनमें शामिल हैं- हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल), भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (बीईएल), भारत अर्थ मूवर्स लिमिटेड (बीईएमएल), भारत डायनेमिक्स लिमिटेड (बीडीएल), गार्डन रीच शिपबिल्डर्स एंड इंजीनियर्स (जीआरएसई) लिमिटेड, गोवा शिपयार्ड लिमिटेड (जीएसएल), हिंदुस्तान शिपयार्ड लिमिटेड (एचएसएल), मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स (एमडीएल), मिश्रा धातु निगम (मिधानी) लिमिटेड, बख्तरबंद वाहन निगम लिमिटेड (एवीएनएल), एडवांस्ड वेपन्स एंड इक्विपमेंट इंडिया लिमिटेड (एडब्ल्यू एंड ईआईएल), मुनिशन्स इंडिया लिमिटेड (एमआईएल), यंत्र इंडिया लिमिटेड (वाईआईएल), ग्लाइडर्स इंडिया लिमिटेड (जीआईएल), इंडिया ऑप्टेल लिमिटेड (आईओएल) और ट्रूप कम्फर्ट्स लिमिटेड (टीसीएल)। यह आरक्षण भूतपूर्व सैनिकों के लिए वर्तमान आरक्षण के अतिरिक्त उपलब्ध कराया जायेगा।

एचडीएफसी बैंक और 100X के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए

निजी क्षेत्र के बैंक, एचडीएफसी बैंक ने स्टार्ट-अप का समर्थन करने के लिए एक प्रमुख प्रारंभिक चरण की उद्यम पूंजी फर्म 100X.VC के साथ एक समझौता किया है। बैंक सौदे की शर्तों के तहत 100X.VC से जुड़े सभी उद्यमों के लिए स्मार्ट-अप के रूप में जाने जाने वाले स्टार्ट-अप के लिए लक्षित विशेष सेवाओं और सुविधाओं की अपनी पूरी श्रृंखला का विस्तार करेगा। इसके अलावा, बैंक आगे क्रेडिट लाइन जारी करेगा और इन व्यवसायों में निवेश क्षमता का आकलन करेगा।

स्टार्टअप कंपनियों को $250 मिलियन का ऋण देगा एचएसबीसी इंडिया

हांगकांग और शंघाई बैंकिंग कॉर्पोरेशन लिमिटेड, भारत (एचएसबीसी इंडिया) ने भारत में उच्च विकास, प्रौद्योगिकी के नेतृत्व वाले स्टार्ट-अप के लिए 250 मिलियन अमरीकी डालर की सहायता की घोषणा की है, जिसमें दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा स्टार्ट-अप पारिस्थितिकी तंत्र है। यह ऋण सुविधा HSBC की वाणिज्यिक बैंकिंग इकाई द्वारा प्रबंधित की जायेगी। इस ऋण को वितरित करने के लिए कोई समयसीमा नहीं बताई है। HSBC ने कहा कि दुनिया के तीसरे सबसे बड़े स्टार्टअप इकोसिस्टम में उच्च-विकास, तकनीक के नेतृत्व वाले स्टार्टअप को उधार दिया जाएगा। एचएसबीसी ने एक क्रेडिट मॉडल और पेशकशें तैयार की हैं जो स्टार्टअप्स और नए जमाने की संस्थाओं के व्यापक स्पेक्ट्रम की विशिष्ट आवश्यकताओं के अनुरूप हैं, जो विकास के चरण से लेकर यूनिकॉर्न तक हैं।

बीएस पाटिल ने कर्नाटक के लोकायुक्त के रूप में शपथ ली

कर्नाटक उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश, भीमनगौड़ा संगनगौड़ा पाटिल ने कर्नाटक के लोकायुक्त के रूप में शपथ ग्रहण की । राज्यपाल थावरचंद गहलोत द्वारा न्यायमूर्ति पाटिल को पद की शपथ दिलाई गई । कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई, विपक्ष के नेता सिद्धारमैया, राज्य सरकार के मंत्री और विधायक कार्यक्रम में शामिल हुए और न्यायमूर्ति पाटिल को बधाई दी। कर्नाटक के उप लोकायुक्त के रूप में कार्य करने वाले न्यायमूर्ति पाटिल को 14 जून को लोकायुक्त के पद पर पदोन्नत किया गया था।

सीओएआई ने 2022-23 के लिए प्रमोद के मित्तल को नया चेयरपर्सन नामित किया

सेल्युलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (सीओएआई) ने 2022-23 के लिए रिलायंस जियो इन्फोकॉम के अध्यक्ष प्रमोद के मित्तल को अपना नया चेयरपर्सन नामित किया है। मित्तल पहले सीओएआई के उपाध्यक्ष थे। सीओएआई के सदस्यों में रिलायंस जियो, भारती एयरटेल और वोडाफोन आइडिया (वीआईएल) जैसी कंपनियां शामिल हैं।

बिडेन ने राधा अयंगर प्लंब को पेंटागन के शीर्ष पद के लिए किया नामित

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने भारतीय-अमेरिकी राधा अयंगर प्लंब को पेंटागन के एक शीर्ष पद के लिए नामित किया है। रक्षा उपमंत्री की चीफ ऑफ स्टाफ के रूप में सेवाएं दे रहीं प्लंब को ‘डिफेंस फॉर ऐक्विजिशन एंड सस्टेनमेंट’ के उप अवर सचिव के पद के लिए नामित किया गया है।

RBI ने मास्टरकार्ड पर लगे प्रतिबंध हटाए

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने नए घरेलू ग्राहकों को शामिल करने पर मास्टरकार्ड एशिया/पैसिफिक पीटीई लिमिटेड पर लगाई गई सीमाओं में ढील दी है । भारत में डेटा भंडारण के लिए आरबीआई मानकों का अनुपालन न करने के लिए, मास्टरकार्ड को 22 जुलाई, 2021 से अपने कार्ड नेटवर्क पर नए घरेलू उपयोगकर्ताओं (डेबिट, क्रेडिट, या प्रीपेड) को ऑनबोर्ड करने से रोक दिया गया था । आरबीआई ने नियामक निर्देशों का पालन करने के लिए मास्टरकार्ड को लगभग तीन साल का समय दिया था, लेकिन वह ऐसा करने में असमर्थ था।

सौम्यनारायण संपत होंगे वेरिज़ोन बिजनेस के सीईओ

वेरिज़ोन समाचार विज्ञप्ति के अनुसार, भारतीय अमेरिकी, सौम्यनारायण संपत वेरिज़ोन बिजनेस के नए सीईओ होंगे। संपत 2014 में वेरिज़ोन में शामिल हुए और 30 जून तक वेरिज़ॉन बिजनेस के मुख्य राजस्व अधिकारी के रूप में अपनी वर्तमान भूमिका में बने रहेंगे। प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, संपत ने संगठन के साथ अपने कार्यकाल के दौरान कई भूमिकाओं में रणनीतिक योजना कौशल का प्रदर्शन किया है।

IIT मद्रास ने सेप्टिक टैंक को साफ करने के लिए विकसित किया रोबोट

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) मद्रास ने मानव हस्तक्षेप के बिना सेप्टिक टैंक को साफ करने के लिए एक रोबोट विकसित किया है। “होमोएसईपी” नाम की दस इकाइयों को पूरे तमिलनाडु में तैनात करने की योजना है और अनुसंधानकर्ता स्थानों की पहचान करने के लिए स्वच्छता कर्मियों के संपर्क में हैं। अगले चरण में गुजरात और महाराष्ट्र में रोबोट की तैनाती पर विचार किया जा रहा है। इस समय दो होमोसेप को नागम्मा और रूथ मैरी के नेतृत्व में स्वयं सहायता समूहों को गैर सरकारी संगठन सफाई कर्मचारी आंदोलन के माध्यम से वितरित किया गया है। इन दोनों महिलाओं के पतियों की टैंक की सफाई करते समय मौत हो गई थी।

ICC एलीट पैनल में नितिन मेनन बरकरार

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने भारत के नितिन मेनन को आईसीसी एलीट पैनल में बरकरार रखा है और वह इस महीने के अंत में पहली बार श्रीलंका में तटस्थ अंपायर के रूप में अपनी सेवाएं देंगे। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के एक अधिकारी ने बताया कि आईसीसी ने मेनन का एलीट पैनल में कार्यकाल एक साल के लिए बढ़ाया है। इंदौर के 38 वर्षीय मेनन एलीट पैनल के 11 सदस्यों में अकेले भारतीय हैं।

विश्व मगरमच्छ दिवस

विश्व मगरमच्छ दिवस 17 जून को मनाया जाता है। यह दिन दुनिया भर में लुप्तप्राय मगरमच्छों और मगरमच्छों की दुर्दशा को उजागर करने के लिये एक वैश्विक जागरूकता अभियान है। भारत में मगरमच्छ की तीन प्रजातियाँ पाई जाती हैं। मगर या दलदली मगरमच्छ (Crocodylus palustris); Estuarine या खारे पानी का मगरमच्छ (Crocodylus porosus) और घड़ियाल (Gavialis Gangeticus)। इनमें से घड़ियाल संकटग्रस्त है। मगर या मार्श मगरमच्छ अंडा देने वाली और होल-नेस्टिंग स्पेसीज़ (Hole-Nesting Species) है जिसे खतरनाक भी माना जाता है। यह मुख्य रूप से भारतीय उपमहाद्वीप तक ही सीमित है जहाँ यह मीठे पानी के स्रोतों और तटीय खारे जल के लैगून एवं मुहानों में भी पाई जाता है। भूटान और म्याँमार में यह पहले ही विलुप्त हो चुका है। एस्टुअरीन या खारे पानी का मगरमच्छ पृथ्वी पर सबसे बड़ी जीवित मगरमच्छ प्रजाति है, जिसे विश्व स्तर पर एक ज्ञात आदमखोर (Maneater) के रूप में जाना जाता है। घड़ियाल इन्हें गेवियल भी कहते हैं, यह एक प्रकार का एशियाई मगरमच्छ है और अपने लंबे, पतले थूथन के कारण अन्य से अलग होते हैं जो कि एक बर्तन (घड़ा) जैसा दिखता है। घड़ियाल की आबादी स्वच्छ नदी जल का एक अच्छा संकेतक है। इसे अपेक्षाकृत हानिरहित, मछली खाने वाली प्रजाति के रूप में जाना जाता है।

ऑटिस्टिक प्राइड डे

प्रतिवर्ष 18 जून को विश्व स्तर पर 'ऑटिस्टिक प्राइड डे' के रूप में मनाया जाता है। इस दिवस के आयोजन का प्राथमिक उद्देश्य ‘ऑटिज़्म स्पेक्ट्रम डिसऑर्डर’ नामक विकार से पीड़ित लोगों के बारे में जागरूकता बढ़ाना है। ऑटिज़्म से पीड़ित लोगों को प्रायः मानवाधिकारों के उल्लंघन, भेदभाव और तमाम तरह की गलत धारणाओं का सामना करना पड़ता है। ‘ऑटिस्टिक प्राइड डे’ का लक्ष्य इसी प्रकार के भेदभाव को समाप्त कर ऑटिज़्म से पीड़ित लोगों को समाज की मुख्यधारा से जोड़ना है। ‘ऑटिस्टिक प्राइड डे’ पहली बार वर्ष 2005 में ‘एस्पीज़ फॉर फ्रीडम’ नामक नागरिक संगठन द्वारा मनाया गया था। ऑटिज़्म स्पेक्ट्रम विकार (ASD) सामाजिक विकृतियों, संवाद में परेशानी या प्रतिबंध, व्यवहार का दोहराव और व्यवहार का स्टिरियोटाइप पैटर्न द्वारा पहचाना जाने वाला तंत्रिका विकास संबंधी जटिल विकार है। नीले रंग को ऑटिज़्म का प्रतीक माना गया है। इस विकार के लक्षण जन्म या बाल्यावस्था (पहले तीन वर्षों) में ही नज़र आने लगते हैं। यह विकार व्यक्ति की सामाजिक कुशलता एवं संप्रेषण क्षमता पर विपरीत प्रभाव डालता है। यह जीवनपर्यंत बना रहने वाला विकार है। इस विकार से पीड़ित बच्चों का विकास अन्य बच्चों से अलग होता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मुताबिक, विश्व स्तर पर प्रत्येक 160 बच्चों में से एक बच्चा ऑटिज़्म स्पेक्ट्रम डिसऑर्डर से पीड़ित है। विश्व स्वास्थ्य संगठन एक ऐसे पारिस्थितिक तंत्र के निर्माण पर ज़ोर देता है, जो ऑटिज़्म से पीड़ित लोगों का समर्थन करता हो।

सस्टेनेबल गैस्ट्रोनॉमी डे

सस्टेनेबल गैस्ट्रोनॉमी डे’ प्रतिवर्ष 18 जून को मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का उद्देश्य भोजन को इकट्ठा करने और तैयार करने की कला को ध्यान में रखते हुए स्थायी भोजन की खपत से जुड़ी प्रथाओं को पहचानना है। इस दिवस के महत्त्व को उजागर करने के लिए संगठन द्वारा वैश्विक और क्षेत्रीय निकायों के सहयोग से कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) ने दिनांक 21 दिसंबर, 2016 को A/RES/71/246 प्रस्ताव को अपनाने के बाद हर साल 18 जून को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सस्टेनेबल गैस्ट्रोनॉमी डे मनाने की घोषणा की थी। गैस्ट्रोनॉमी का अर्थ भोजन की कला से है। यह विशेष क्षेत्र से खाना पकाने की शैली का उल्लेख करता है। यहाँ सस्टेनेबिलिटी का विचार ऐसे तरीके से है जिसमें हमारे द्वारा खाने जाए वाले भोजन को तैयार करने से प्राकृतिक संसाधनों की बर्बादी नहीं होती। इसे स्वास्थ्य और पर्यावरण को हानि पहुँचाए बिना जारी रखा जा सकता है। सस्टेनेबल गैस्ट्रोनॉमी का अर्थ हमारी प्लेट तक पहुँचने वाले भोजन के पूरे प्रोसेस से हैं कि किस तरह से इसे उगाया जाता है जहाँ से यह बाजारों से होता हुआ अंततः हमारी प्लेटों तक पहुँचता है।

श्तेफानिया मॉरेचिनानू

हाल ही में गूगल ने रोमानियाई भौतिक विज्ञानी श्तेफानिया मॉरेचिनानू (Ștefania Mărăcineanu) का 140वाँ जन्मदिन डूडल के साथ मनाया। श्तेफानिया मॉरेचिनानू रेडियोधर्मिता की खोज और अनुसंधान में अग्रणी महिलाओं में से एक थीं। श्तेफानिया मॉरेचिनानू का जन्म 18 जून, 1882 को रोमानिया में हुआ था। उन्होंने 1910 में भौतिक और रासायनिक विज्ञान की डिग्री के साथ स्नातक की उपाधि प्राप्त की, बाद में उन्होंने बुखारेस्ट में सेंट्रल स्कूल फॉर गर्ल्स में एक शिक्षक के रूप में अपना कॅरियर शुरू किया। वहाँ रहते हुए मॉरेचिनानू ने रोमानियाई विज्ञान मंत्रालय से छात्रवृत्ति अर्जित की। उन्होंने पेरिस में रेडियम संस्थान में स्नातक शोध करने का फैसला किया। भौतिक विज्ञानी मैरी क्यूरी के निर्देशन में रेडियम संस्थान तेज़ी से रेडियोधर्मिता के अध्ययन के लिये एक विश्वव्यापी केंद्र बन गया। मॉरेचिनानूु ने पोलोनियम पर अपनी पीएचडी थीसिस पर काम करना शुरू किया, एक ऐसा तत्त्व जिसे क्यूरी ने खोजा था। मॉरेचिनानू ने भौतिकी में अपनी पीएचडी पूरी करने के लिये पेरिस के सोरबोन विश्वविद्यालय में दाखिला लिया। मेडॉन में खगोलीय वेधशाला में चार साल तक काम करने के बाद वह रोमानिया लौट आई और रेडियोधर्मिता के अध्ययन के लिये अपनी मातृभूमि की पहली प्रयोगशाला की स्थापना की। मॉरेचिनानू ने अपना समय कृत्रिम बारिश पर शोध करने के लिये समर्पित किया, जिसमें उसके परिणामों का परीक्षण करने के लिये अल्जीरिया की यात्रा भी शामिल थी। उन्होंने भूकंप और वर्षा के बीच की कड़ी का भी अध्ययन किया, यह रिपोर्ट करने वाली पहली महिला बनीं कि भूकंप के कारण उपरिकेंद्र में रेडियोधर्मिता में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। उनका निधन 15 अगस्त, 1944 को हुआ था।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.