Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

28 June 2022

जी-7 शिखर सम्‍मेलन जर्मनी के शहर श्‍लॉज एलामाऊ में शुरू

जी-7 देशों का शिखर सम्‍मेलन जर्मनी के बवेरियन आल्‍प्‍स में शुरू हुआ। सम्‍मेलन में की गई प्रारंभिक घोषणाओं में जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए विकासशील देशों को छह खरब डॉलर की ढांचागत सहायता शामिल है। इसे चीन की बैल्‍ट एंड रोड- योजना के प्रति पश्चिमी देशों के जवाब के रूप में देखा जा रहा है। प्रस्तावित G7 फंडिंग बड़े पैमाने पर निजी कंपनियों पर निर्भर करेगी, यह चीनी सरकार द्वारा संचालित बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव के विपरीत है। बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव (Belt and Road Initiative – BRI) को औपचारिक रूप से वन बेल्ट वन रोड पहल के रूप में जाना जाता है। यह एक वैश्विक बुनियादी ढांचा विकास रणनीति है, जिसे चीन द्वारा 2013 में शुरू किया गया था। इसके तहत, चीन ने लगभग 70 देशों और अंतर्राष्ट्रीय संगठनों में निवेश करने की योजना बनाई। यह परियोजना चीनी नेता शी जिनपिंग की विदेश नीति का केंद्रबिंदु है। मार्च 2022 तक, 146 देशों ने बीआरआई पर हस्ताक्षर किए हैं। राष्‍ट्रपति जो बाइडेन ने कहा कि यह कोई सहायता या धर्मार्थ राशि नहीं है बल्कि एक निवेश है जो अमरीकी जनता सहित, जी-7 के सभी देशों के लोगों के लिए लाभदायक है। उन्‍होंने कहा कि इससे हम सभी की अर्थव्‍यवस्‍था मजबूत होगी। चीन पर यह आरोप रहा है कि वह खरबों डॉलर की बैल्‍ट एंड रोड योजना के माध्‍यम से कम आय वाले देशों को मंहगे ऋणों के जाल में फंसा रहा है। यूरोपीय कमीशन की अध्‍यक्ष वर्सुला वॉन डे लायन ने कहा है कि जी-7 देश टिकाऊ और गुणवत्‍तापूर्ण ढांचे के लिए काम कर रहे हैं और वे जरूरतमंद देशों की मांग पर ध्‍यान देंगे।

'इंडियाज बूमिंग गिग एंड प्लेटफॉर्म इकोनॉमी' शीर्षक से एक रिपोर्ट जारी

नीति आयोग ने 'इंडियाज बूमिंग गिग एंड प्लेटफॉर्म इकोनॉमी' शीर्षक से एक रिपोर्ट जारी की है। नीति आयोग की उपाध्‍यक्ष सुमन बेरी, मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत और विशेष सचिव डॉ. के. राजेश्वर राव ने संयुक्‍त रूप से इसे जारी किया। अपनी तरह की यह पहली अध्ययन रिपोर्ट है जो भारत में गिग-प्लेटफॉर्म अर्थव्यवस्था पर व्यापक दृष्टिकोण और सिफारिशें देती है। रिपोर्ट में क्षेत्र के मौजूदा आकार और रोजगार सृजन क्षमता का अनुमान लगाने के लिए एक वैज्ञानिक पद्धति संबंधी दृष्टिकोण प्रदान करती है। यह रिपोर्ट इस उभरते हुए क्षेत्र के अवसरों और चुनौतियों पर प्रकाश डालती है और सामाजिक सुरक्षा के लिए पहल पर वैश्विक सर्वोत्तम प्रथाओं को प्रस्तुत करती है तथा इस क्षेत्र में श्रमिकों की विभिन्न श्रेणियों के लिए कौशल विकास और रोजगार सृजन के लिए रणनीतियों को चित्रित करती है। नीति आयोग की उपाध्यक्ष सुमन बेरी ने कहा कि यह रिपोर्ट क्षेत्र की क्षमता को समझने और गिग तथा प्लेटफॉर्म कार्य पर आगे अनुसंधान और विश्लेषण को बढ़ाने में एक ज्ञान आधारित मूल्यवान संसाधन बन जाएगी। इस रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि वर्ष 2020-21 में गिग अर्थव्‍यस्‍था में 77 लाख कर्मचारी कार्यरत थे। इनका गैर-कृषि कार्यबल में 2.6% या भारत के कुल कार्यबल में 1.5% योगदान है। गिग कार्यबल की संख्‍या बढ़कर वर्ष 2029-30 तक 2.35 करोड़ हो जाने की उम्मीद है। वर्ष 2029-30 तक भारत में गिग कर्मचारियों का गैर-कृषि कार्यबल में 6.7% या भारत में कुल आजीविका में 4.1% योगदान होने की उम्मीद है। वर्तमान में लगभग 47% गिग कार्य मध्यम कौशल रोजगार में है और लगभग 22% उच्च कौशल में त‍था लगभग 31% कम कौशल रोजगार में है। इस रूख से यह पता चलता है कि मध्यम कौशल में श्रमिकों की एकाग्रता धीरे-धीरे कम हो रही है और कम कौशल और उच्च कौशल में बढ़ रही है। प्रत्येक कारोबार में कुछ काम ऐसे होते हैं जिनको स्थायी कर्मचारी के बजाए गैर स्थायी कर्मचारी से कराया जा सकता है। ऐसे काम के लिए कंपनियों कर्मचारियों को काम के आधार पर भुगतान करती हैं। दूसरे शब्दों में कहें तो काम के बदले भुगतान के आधार पर रखे गए कर्मचारियों को गिग वर्कर (Gig Worker) कहा जाता है। हालांकि, ऐसे कर्मचारी कंपनी के साथ लंबे समय तक भी जुड़े रहते हैं।

5 दिवसीय संयुक्त राष्ट्र महासागर सम्मेलन केन्या और पुर्तगाल की सरकारों की मेजबानी में शुरू

केन्या और पुर्तगाल सरकार की मेजबानी में 5 दिवसीय संयुक्त राष्ट्र महासागर सम्मेलन शुरू हुआ। दुनिया भर के 130 देशों के नेता दुनिया के महासागरों, समुद्रों और समुद्री संसाधनों की रक्षा पर एक अंतरराष्ट्रीय समझौते की संभावना का पता लगाने के लिए पांच दिन विचार-विमर्श करेंगे। इस बीच, 5 दिवसीय सम्मेलन के पहले दिन, भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्‍‍व कर रहे केन‍द्रीय मंत्री डॉ. जितें‍द्र सिंह ने बैठक में भाग लेने वाले विभिन्न देशों के कई मंत्रियों के साथ द्विपक्षीय वार्ता की, उनके साथ भारतीय प्रतिनिधिमंडल के अन्य सदस्य भी शामिल हुए। महासागर सम्मेलन एक निर्णायक समय पर हो रहा है क्योंकि दुनिया एसडीजी लक्ष्य 14 को प्राप्त करने के लिए संरचनात्मक परिवर्तनों और नवीन तथा हरित समाधानों की आवश्यकता वाली अनेक चुनौतियों का समाधान करने की कोशिश कर रही है, जिसमें महासागरों, समुद्रों और समुद्री संसाधनों के संरक्षण एवं स्‍‍थायी उपयोग का आह्वान किया गया है।

भारतीय राजस्‍व सेवा के वरिष्‍ठ अधिकारी नितिन गुप्‍ता को केंद्रीय प्रत्‍यक्ष कर बोर्ड का अध्‍यक्ष नियुक्‍त किया गया

भारतीय राजस्‍व सेवा के वरिष्‍ठ अधिकारी नितिन गुप्‍ता को केंद्रीय प्रत्‍यक्ष कर बोर्ड का अध्‍यक्ष नियुक्‍त किया गया। 1986 बैच के अधिकारी श्री गुप्‍ता वर्तमान में केंद्रीय प्रत्‍यक्ष कर बोर्ड के सदस्‍य के रूप में काम कर रहे थे।

यूरोपीय आयोग ने 2030 तक पूरे यूरोप में कीटनाशकों के उपयोग को आधा करने के लिये एक मसौदा कानून का प्रस्ताव रखा

यूरोपीय संघ की कार्यकारी शाखा, यूरोपीय आयोग (EC) ने 2030 तक पूरे यूरोप में कीटनाशकों के उपयोग को आधा करने के लिये एक मसौदा कानून का प्रस्ताव रखा है। जलवायु परिवर्तन पर अंतर-सरकारी पैनल (IPCC) ने अपने छठे आकलन में जलवायु परिवर्तन में कमी लाने के लिये अनुकूल पारिस्थितिकी तंत्र की तत्काल बहाली का आह्वान किया है। ग्लासगो जलवायु समझौते ने भी जलवायु शमन और अनुकूलन के लिये प्राकृतिक पारिस्थितिक तंत्र के महत्त्व को रेखांकित किया था। यूरोपीय संघ, 2011 और 2020 के बीच यूरोपीय संघ की जैवविविधता रणनीति के अनुसार, जैवविविधता के क्षति को रोकने में सफल नहीं रहा है, जिसका स्वैच्छिक लक्ष्य 2020 तक कम-से-कम 15% निम्नीकृत पारिस्थितिक तंत्र को बहाल करना था।

ओडिशा के सार्वजनिक परिवहन सेवा, 'मो बस' को प्रतिष्ठित संयुक्त राष्ट्र लोक सेवा पुरस्कार से सम्मानित किया गया

ओडिशा स्थित सार्वजनिक परिवहन सेवा, मो बस को कोविड-19 से दुनिया को बेहतर ढंग से उबरने में भूमिका और प्रयासों के लिए प्रतिष्ठित संयुक्त राष्ट्र पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। यह पुरस्कार दुनिया को कोविड-19 से बेहतर तरीके से उबरने में मदद करने के लिए 10 नवाचारों को मान्यता देते हैं और जीत हासिल करने वाली पहल बच्चों को सुरक्षित रखने, लैंगिक समानता को आगे बढ़ाने और पानी के नीचे जीवन की रक्षा करने में मदद करती है। संयुक्त राष्ट्र के आर्थिक और सामाजिक मामलों के विभाग द्वारा बुधवार को आयोजित एक डिजिटल समारोह में ब्राजील, कनाडा, भारत, आयरलैंड, पनामा, फिलीपींस, पोलैंड, सऊदी अरब, थाईलैंड और यूक्रेन की दस पहलों को प्रतिष्ठित संयुक्त राष्ट्र लोक सेवा पुरस्कारों के साथ उनके अभिनव सार्वजनिक सेवा वितरण के लिए मान्यता दी गई है।

ईरान ने ठोस ईंधन संचालित रॉकेट जुलजना अंतरिक्ष में छोडा

ईरान ने ठोस ईंधन संचालित रॉकेट अंतरिक्ष में छोडा है। ईरान के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्‍ता अहमद हुसैनी ने कहा कि साढे पच्‍चीस मीटर लम्‍बा रॉकेट जुलजना 220 किलोग्राम का उपग्रह ले जाने में सक्षम है। इससे पृथ्‍वी की निचली कक्षा में आंकडे एकत्र करने और ईरान के अंतरिक्ष उद्योग को प्रोत्‍साहित करने में मदद मिलेगी। जुलजना नाम इमाम हुसैन के घोडे के नाम पर दिया गया है। ईरान के इस अभियान पर अमरीका ने प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त की है। इसे विश्‍व शक्तियों के साथ परमाणु मुद्दे पर ईरान की अवरूद्ध वार्ता बहाल होने से पहले एक रूकावट के रूप में देखा जा रहा है। ईरान यह कहता रहा है कि परमाणु हथियार बनाने की उसकी कोई योजना नहीं है और उसके सैटेलाइट लॉन्‍चर और रॉकेट परीक्षण सैन्‍य घटक नहीं हैं।

नासा ने अमरीका से बाहर अपना पहला वाणिज्‍यिक स्पेसपोर्ट लॉन्च किया

नासा ने ऑस्ट्रेलिया के सुदूर उत्तरी क्षेत्र से सफलतापूर्वक एक रॉकेट लॉन्च किया है। इसके साथ ही उसने अमरीका से बाहर अपना पहला वाणिज्‍यिक स्पेसपोर्ट लॉन्च करने का इतिहास रचा है। इक्वेटोरियल लॉन्च ऑस्ट्रेलिया के अनुसार, नहुलुनबुय के पास धुपुमा पठार पर अर्नहेम स्पेस सेंटर से रॉकेट ने उडान भरी। इस अभियान के दौरान रॉकेट के अंतरिक्ष में तीन सौ किलोमीटर से अधिक की दूरी तय करने की सम्‍भावना है। नासा के अनुसार इस पहले लॉन्‍च के बाद दो और ऐसे रॉकेट भेजने की योजना है। इन्‍हें अगले महीने की चार और 12 तारीख को भेजने का कार्यक्रम है।

भारत के जी-20 देशों की अध्‍यक्षता ग्रहण करने के बाद देशभर में सदस्‍य देशों के प्रतिनिधियों के लगभग दो सौ सम्‍मेलन आयोजित करने का प्रस्‍ताव

पर्यटन और संस्‍कृति मंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा है कि इस वर्ष दिसंबर में भारत के जी-20 देशों की अध्‍यक्षता ग्रहण करने के बाद देशभर में सदस्‍य देशों के प्रतिनिधियों के लगभग दो सौ सम्‍मेलन आयोजित करने का प्रस्‍ताव है। उन्‍होंने कहा कि जी-20 देशों के लगभग दो सौ प्रतिनिधि इस तरह के प्रत्‍येक सम्‍मेलन में शामिल होंगे। यह सम्‍मेलन प्रतिनिधियों को वास्‍तविक भारत का अनुभव साझा कराने के अवसर उपलब्‍ध कराएंगे। इन सम्‍मेलनों के दौरान प्रतिनिधियों को देश की समृद्धि और संस्‍कृति को देखने का मौका मिलेगा। श्री रेड्डी ने वायकोम पदमनाभ पिल्‍लई की प्रतिमा के अनावरण के बाद कोट्टयम जिले के वायकोम में आयोजित समारोह को संबोधित किया। श्री पिल्‍लई ने अंग्रेजों के खिलाफ संघर्ष में अग्रणी भूमिका निभाई थी। श्री जी किशन रेड्डी ने 26 जून को केरल के गांधी स्मृति भवन, कोट्टायम में वैकोम पद्मनाभ पिल्लई, जिन्हें त्रावणकोर के शेर के रूप में जाना जाता है, की प्रतिमा का अनावरण किया।

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने ‘रॉकेट्रीः द नाम्बी इफेक्ट’ की विशेष स्क्रीनिंग का आयोजन किया

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने नई दिल्ली के सिरी फोर्ट ऑडिटोरियम में जल्द आने वाली फिल्म ‘रॉकेट्रीः द नाम्बी इफेक्ट’ की विशेष स्क्रीनिंग का आयोजन किया। फिल्म की स्क्रीनिंग में ‘रॉकेट्री’ के लेखक, निर्माता, निर्देशक श्री आर. माधवन की अगुवाई में पूरी टीम ने हिस्सा लिया। श्री माधवन ने फिल्म में मुख्य पात्र का अभिनय किया है और इस फिल्म के साथ उन्होंने निर्देशन भी पहली बार किया है। स्क्रीनिंग में पूर्व सीबीआई निदेशक श्री डीआर कार्तिकेयन, सीबीआई के पूर्व आईजी श्री पी.एम. नायर, भारत सरकार के वरिष्ठ अधिकारी और फिल्म उद्योग से जुड़े हितधारक सम्मिलित हुए। ‘रॉकेट्रीः द नाम्बी इफेक्ट’ फिल्म भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के पूर्व वैज्ञानिक तथा एयरोस्पेस इंजीनियर नाम्बी नारायणन के जीवन पर आधारित ड्रामा-फिल्म है, जिन पर 1994 में जासूसी का आरोप लगा था। ‘रॉकेट्रीः द नाम्बी इफेक्ट’ फिल्म का वर्ल्ड प्रीमियर 75वें कान्‍स फिल्म महोत्सव के दौरान किया गया था। कान्‍स फिल्म महोत्सव में फिल्म को हाथों-हाथ लिया गया था। फिल्म की शूटिंग दुनिया के कई देशों में हुई, जिनमें भारत, जॉर्जिया, रूस, सर्बिया और फ्रांस शामिल हैं। फिल्म को तमिल, हिन्दी और अंग्रेजी में एक साथ बनाया गया है। इसके अलावा तेलुगू, मलयालम और कन्नड़ भाषाओं में डब करके भी इसे रिलीज किया जायेगा। दुनिया भर के थियेटरों में फिल्म को एक जुलाई, 2022 को रिलीज करना निर्धारित किया गया है।

देश की पहली के-पॉप स्टार बनीं ओडिशा की श्रेया लेंका

ओडिशा की रहने वाली श्रेया लेंका भारत से पहली के-पॉप स्टार बन गई हैं। श्रेया का ब्लैकस्वॉन बैंड के लिए चयन यूट्यूब पर ऑडिशन देकर हुआ है। श्रेया ने कई सारे के-ड्रामा देखकर और ऑनलाइन ही कोरियन भाषा सीखी थी। के-पॉप यानी कोरियाई पॉप को लेकर लोगों में एक अलग तरह का क्रेज देखने को मिलता है। अब भारत की ओडिशा की रहने वाली 18 साल की श्रिया लेंका भी के-पॉप बैंड का हिस्सा बन गई हैं। पिछले साल दिसंबर में राउकेला शहर की श्रेया को कोरियाई पॉप बैंड ब्लैकस्वॉन का मेंबर बनने के लिए आखिरी फेज के लिए चुना गया था। इसके तहत उनकी सियोल में ट्रेनिंग हुई। इस ग्रुप के एक सदस्य ने नवंबर 2020 में ग्रुप को छोड़ दिया था। इसके बाद डीआर म्यूजिक ने पिछले साल मई में ग्लोबल अनाउंसमेंट की थी। इसके बाद श्रेया का यूट्यूब ऑडिशन प्रोग्राम के बाद चयन हुआ। श्रेया बैंड में यंगहुन, फतौ, जूडी और लीया के साथ शामिल हुई हैं। वहीं, छठे सदस्य के रूप में ब्राजील की गैब्रिला डालिस्न (गैबी) भी हैं।

पीयूष गोयल: आने वाले 30 वर्षों में भारतीय जीडीपी 30 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंच सकती है

वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल के अनुसार, भारत की अर्थव्यवस्था दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ रही है और अगले 30 वर्षों में 30 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंचने का अनुमान है। तमिलनाडु के तिरुपुर में निर्यातकों से बात करते हुए गोयल ने टिप्पणी की कि अगर भारत सालाना 8% की चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर (compound annual growth rate) से बढ़ता है, तो अर्थव्यवस्था नौ वर्षों में दोगुनी हो जाएगी। मंत्री के अनुसार, देश की अर्थव्यवस्था वर्तमान में लगभग 3.2 ट्रिलियन डॉलर की है और नौ वर्षों में लगभग 6.5 ट्रिलियन डॉलर की होगी।

Global Liveability Index 2022: विश्व में रहने योग्य अच्छे शहरों की सूची ज़ारी

इकोनॉमिस्ट इंटेलिजेंस यूनिट (EIU) द्वारा दुनिया के सबसे अधिक रहने योग्य शहरों की वार्षिक रैंकिंग ज़ारी की गई है। साल 2022 का ग्लोबल लिवेबिलिटी इंडेक्स पिछले साल से कुछ उल्लेखनीय अंतरों को दर्शाता है। इकोनॉमिस्ट इंटेलिजेंस यूनिट, द इकोनॉमिस्ट का एक सहयोगी संगठन है। इसने स्वास्थ्य देखभाल (health care), अपराध दर (crime rates), राजनीतिक स्थिरता ( political stability), बुनियादी ढांचे (infrastructure) और हरित क्षेत्र को ओर पहुंच सहित विभिन्न कारकों पर दुनिया भर के 173 शहरों को रैंकिंग प्रदान किया है।
2022's Global Livability Index: The top 5

  1. वियना, ऑस्ट्रिया
  2. कोपेनहेगन, डेनमार्क
  3. ज्यूरिख, स्विट्ज़रलैंड
  4. कैलगरी, कनाडा
  5. वैंकूवर, कनाडा
रहने की क्षमता बनाम रहने की लागत (Liveability versus cost of living) में हांगकांग को पहला स्थान मिला है जबकि न्यूयॉर्क शहर, जिनेवा, लंदन और टोक्यो शीर्ष पांच से बाहर हो गए हैं। भारत के शहरों ने दुनिया के सबसे रहने योग्य शहरों की सूची में ख़राब प्रदर्शन किया है। भारत की राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली को सर्वाधिक रहने योग्य शहरों की सूची में 112वें स्थान पर रखा गया है। जबकि भारत की आर्थिक राजधानी मुंबई 117वें स्थान पर है। पाकिस्तानी शहर कराची और बांग्लादेश की राजधानी ढाका दुनिया के सबसे कम रहने योग्य शहरों में से हैं। फरवरी 2022 में रूस द्वारा देश पर आक्रमण करने के बाद यूक्रेनी राजधानी, कीव ने सूची में जगह नहीं बनाई है।

केन्‍द्रीय मंत्री नितीन गडकरी ने राजस्‍थान में 13 अरब रूपये की लागत की नौ राष्‍ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का लोकार्पण किया और आधारशिला रखी

केन्द्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने वीडियो कॉंफ्रेंस के माध्‍यम से राजस्थान में एक हजार तीन सौ सत्तावन करोड़ रूपये लागत वाली नौ राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का लोकार्पण किया और कई की आधारशिला रखी। श्री गडकरी ने बताया कि सीआरआईएफ के तहत राजस्‍थान के लिए नौ सौ करोड़ रुपये का आवंटन किया गया है और केन्‍द्र सरकार ने सेतुबंधन योजना के लिए सात सौ करोड रुपये की मंजूरी दी है। श्री गडकरी ने बताया कि श्रीगंगानगर, बीकानेर, जैसलमेर और बाडमेर जिलों में सड़कों की मरम्‍मत का काम भी शुरू किया जाएगा। श्री गडकरी ने जानकारी दी कि बाडमेर से लगे बालोतरा में दो हार्बर का निर्माण किया जाएगा। इस पर करीब चार सौ करोड़ रुपये की लागत आएगी। जोधपुर में 12 करोड़ रुपये की लागत से एलिवेटिड सड़क मार्ग का निर्माण किया जाएगा। इससे यातायात को सुगम बनाने और जाम से राहत दिलाने में मदद मिलेगी। जोधपुर रिंग रोड़ के लिए 14 सौ करोड़ रुपये खर्च किए जा रहे हैं और यह कार्य इसी वर्ष पूरा होने की संभावना है। राजस्‍थान में चालीस नये पुल बनाने का काम जारी है और 17 का कार्य प्रगति पर है। दिल्‍ली और जयपुर के बीच नया एक्‍सप्रेसवे इस वर्ष दिसंबर तक बनकर तैयार हो जाएगा। इससे दिल्‍ली से जयपुर का सफर दो घंटे में संपन्‍न हो जाएगा।

स्‍कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग ने 2018-19 और 2019-20 के लिए जिलों का प्रदर्शन ग्रेडिंग सूचकांक जारी किया

स्‍कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग ने 2018-19 और 2019-20 के लिए जिलों का प्रदर्शन ग्रेडिंग सूचकांक-पीजीआईडी जारी किया। यह सूचकांक व्‍यापक विश्‍लेषण के लिए एक सूचकांक तैयार करके जिला स्‍तर पर स्‍कूल शिक्षा प्रणाली के प्रदर्शन का मूल्‍यांकन करता है। इस विभाग ने ऑनलाइन पोर्टल के जरिये सभी जिलों की स्‍कूली शिक्षा के प्रदर्शन को दिखाने के लिए राज्‍यों के इस सूचकांक की रूपरेखा तैयार की है। इस सूचकांक के राज्य स्‍तर पर कमियों को चिन्हित करने और विकेन्‍द्रीकृत तरीके से छात्रों के प्रदर्शन को सुधारने के लिए राज्‍य शिक्षा विभागों के लिए मददगार होने की आशा की जा रही है।

भारतीय ओलंपिक संघ के कार्यवाहक अध्यक्ष के रूप में नामित हुए अनिल खन्ना

अनिल खन्ना को भारतीय ओलंपिक संघ (IOA) का कार्यवाहक अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। दिल्ली उच्च न्यायालय ने आदेश दिया है कि नरिंदर ध्रुव बत्रा, भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष के रूप में अपना कार्यकाल ज़ारी नहीं रख सकते हैं और अनिल खन्ना को कार्यवाहक अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। वयोवृद्ध खेल प्रशासक नरिंदर बत्रा को दिल्ली उच्च न्यायालय द्वारा "अवमानना की कार्यवाही में (in a contempt proceeding)" में भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष के रूप में कार्य समाप्त करने का आदेश दिया गया था, एक महीने बाद उन्हें शीर्ष पद छोड़ने के लिए कहा गया था।

विम्‍बलडन चैंपियनशिप लंदन के ऑल इंग्लैंड लॉन टेनिस क्लब में शुरू

विम्‍बलडन चैंपियनशिप लंदन के ऑल इंग्लैंड लॉन टेनिस क्लब में शुरू होगी। दुनिया के नंबर एक खिलाडी नोवाक जोकोविच, एंडी मरे और एम्मा राडुकानू, स्टेन वावरिंका और कार्लोस अल्कराज ग्रैंड स्लैम में अपने-अपने मैच खेलेंगे। चैम्पियनशिप में रूस और बेलारूस के किसी भी खिलाड़ी को खेलने की अनुमति नहीं दी गई है। आयोजनकर्ताओं ने रूस-यूक्रेन संकट को ध्‍यान में रखकर यह फैसला किया है। प्रतिबंध के कारण दुनिया के नंबर एक खिलाडी डेनियल मेदवेदेव और विश्‍व की छठी वरीयता प्राप्‍त महिला खिलाडी आर्यना सबलेंका इस च‍ैम्पियन‍िशप से बाहर हो जायेंगी।

एशियाई चैंपियनशिप में रजत जीतने वाले पहले भारतीय बनें साइकिलिस्ट रोनाल्डो सिंह

एशियन ट्रैक चैंपियनशिप में चैंपियनशिप के अंतिम दिन स्प्रिंट रेस में दूसरा स्थान हासिल कर रोनाल्डो सिंह ने सीनियर डिवीजन में रजत पदक जीत लिया। इस तरह से उन्होंने कॉन्टिनेंटल प्रतियोगिता में रजत पदक जीतने वाले पहले भारतीय साइकिलिस्ट बनकर साइकिलिंग जगत में इतिहास रच दिया। रोनाल्डो द्वारा किया गया कारनामा किसी भारतीय साइकिल चालक द्वारा महाद्वीपीय प्रतियोगिता में सर्वश्रेष्ठ था। भले ही उन्हें जापान के कुशल सवार केंटो यामासाकी (Kento Yamasaki) के ख़िलाफ़ कड़ा संघर्ष करना पड़ा, लेकिन उन्होंने रजत पदक जीता।

डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम की सातवीं पुण्‍यतिथि

27 जुलाई, 2022 को देश भर में पूर्व राष्ट्रपति डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम की सातवीं पुण्‍यतिथि मनाई जा रही है। डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम का जन्म 15 अक्तूबर, 1931 को तमिलनाडु के रामेश्वरम में हुआ था। उन्होंने वर्ष 2002 से वर्ष 2007 तक भारत के 11वें राष्ट्रपति के रूप में कार्य किया। वे न केवल एक सुविख्यात एयरोस्पेस वैज्ञानिक थे, बल्कि महान शिक्षक भी थे, जिन्होंने रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) तथा भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के साथ काम किया था। डॉ. कलाम वर्ष 1962 में ‘भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन’ से जुड़े और वहाँ उन्हें प्रोजेक्ट डायरेक्टर के तौर पर भारत का पहला स्वदेशी उपग्रह (SLV- lll) प्रक्षेपास्त्र बनाने का श्रेय हासिल हुआ। अब्दुल कलाम भारत के मिसाइल कार्यक्रम के जनक माने जाते हैं, वे ‘आम जनमानस के राष्ट्रपति’ के तौर पर प्रसिद्ध हैं। डॉ. कलाम ने अपने ‘सादा जीवन, उच्च विचार’ के दर्शन से भारत समेत दुनिया भर के लाखों युवाओं को प्रेरित किया है। संयुक्त राष्ट्र (UN) ने डॉ. कलाम के जन्म दिवस को चिह्नित करते हुए वर्ष 2010 में 15 अक्तूबर को विश्व छात्र दिवस के रूप में नामित किया था। डॉ. कलाम की उपलब्धियों को इस बात से समझा जा सकता है कि उन्हें भारत एवं विदेशों के 48 विश्वविद्यालयों और संस्थानों द्वारा डॉक्टरेट की मानद उपाधि से सम्मानित किया गया था। उन्होंने वर्ष 1992 से वर्ष 1999 तक प्रधानमंत्री के मुख्य वैज्ञानिक सलाहकार के रूप में भी कार्य किया। डॉ. कलाम को वर्ष 1981 में पद्मभूषण, वर्ष 1990 में पद्मविभूषण और वर्ष 1997 में ‘भारत रत्न’ से सम्मानित किया गया।

अंतर्राष्ट्रीय एमएसएमई दिवस

हर वर्ष 27 जून को सतत् विकास लक्ष्यों (SDGs) के कार्यान्वयन में सूक्ष्म, लघु और मध्यम आकार के उद्यमों के योगदान को मान्यता देने हेतु सूक्ष्म, लघु और मध्यम आकार के उद्यम (MSMEs) दिवस का आयोजन जाता है। अप्रैल 2017 में संयुक्त राष्ट्र (United Nations- UN) ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में पारित एक प्रस्ताव के माध्यम से 27 जून को सूक्ष्म, लघु और मध्यम आकार के उद्यम दिवस के रूप में नामित किया। मई 2017 में ‘एनहेनसिंग नेशनल केपेसिटीज़ फॉर अनलेशिंग फुल पोटेंशियल्स ऑफ एमएसएमई इन अचीविंग द एसडीजीज़ इन डेवलपिंग कंट्रीज़' (Enhancing National Capacities for Unleashing Full Potentials of MSMEs in Achieving the SDGs in Developing Countries') नामक एक कार्यक्रम शुरू किया गया। इसे संयुक्त राष्ट्र शांति और विकास कोष (United Nations Peace and Development Fund) के सतत् विकास उप-निधि के लिये 2030 एजेंडा द्वारा वित्तपोषित किया गया है। MSME दिवस 2022 की थीम “आत्मनिर्भर MSMEs को शक्ति प्रदान करने के लिये भारत की आपूर्तिं शृंखला को मज़बूत करना”है। नीति, प्रौद्योगिकी, नेतृत्व, कौशल और पूरे पारिस्थितिकी तंत्र को नई क्षमताओं को विकसित करने, मौजूदा को बढ़ाने और एक नई दुनिया के लिये तैयार रहने की आवश्यकता है।

अत्याचार के पीड़ितों के समर्थन में अंतर्राष्ट्रीय दिवस

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 12 दिसंबर, 1997 को 26 जून के दिन को अत्याचार/यातना के पीड़ितों के समर्थन में अंतर्राष्ट्रीय दिवस के रूप में घोषित करने के लिए एक प्रस्ताव पारित किया। यह दिन दुनिया भर के राष्ट्रों, नागरिक समाजों और व्यक्तियों को यातना के पीड़ितों के कष्टों के बारे में जागरूकता पौइदा करने तथा प्रताड़ित किए जा रहे लोगों को अपना समर्थन और सम्मान देने का आह्वान करने के लिए मनाया जाता है।

प्रसिद्ध गीतकार, लेखक और पत्रकार चोवल्लूर कृष्णमूर्ति का निधन

प्रसिद्ध गीतकार, लेखक और पत्रकार चोवल्लूर कृष्णमूर्ति का केरल के त्रिशूर में एक निजी मेडिकल कॉलेज में निधन हो गया। वे 86 वर्ष के थे। कृष्णमूर्ति आकाशवाणी से लम्बे समय तक जुड़े रहे। उन्होंने तीन हजार से अधिक भजन और दो सौ से अधिक पुस्तकें लिखीं। वे मलयाला मनोरमा दैनिक के सहायक संपादक पद से अवकाश प्राप्त कर चुके थे।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.