Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

15 August 2022

जम्मू-कश्मीर में विश्व का सबसे ऊंचा सिंगल आर्च चेनाब रेल पुल में गोल्डन जॉइंट के साथ निर्माण कार्य लगभग पूरा हुआ

जम्मू कश्मीर में, रियासी जिले के कौरी इलाके में चिनाब नदी पर बने दुनिया के सबसे ऊंचे रेल पुल ने उस समय एक और उपलब्धि प्राप्त की, जब उसके ऊपरी डेक का निर्माण कार्य गोल्डन जॉइंट के साथ पूरा किया गया। गोल्डन ज्वाइंट अब इंजीनियरों के लिए पुल पर ट्रैक बिछाने का मार्ग प्रशस्त करेगा। इस पर रेलवे लाइन बिछने के साथ ही आजादी के बाद पहली बार कश्मीर शेष भारत के साथ रेल नेटवर्क से जुड़ जाएगा। यू.एस.बी.आर.एल. कोंकण रेलवे के मुख्य प्रशासनिक अधिकारी सुरेंद्र माही ने बताया कि इंजीनियरों को अनेक चुनौतियों का सामना करना पड़ा, लेकिन आखिरकार उन्होंने भारत के लोगों के समक्ष इंजीनियरी का चमत्कार कर दिखाया। यह दुनिया का सबसे ऊंचा रेलवे आर्च है। उन्होंने कहा कि यह पुल एफिल टावर से 35 मीटर ऊंचा है। ब्रिज का निर्माण कोंकण रेलवे उधमपुर-श्रीनगर-बारामूला रेल लिंक (USBRL) परियोजना के तहत हुआ है। इस प्रोजेक्ट की लागत लगभग 28,000 करोड़ रुपए है। 1.3 किमी लंबे रेल ब्रिज की नदी तल से ऊंचाई 359 मीटर है। यह 324 मीटर ऊंचे एफिल टॉवर से भी 35 मीटर ऊंचा है।

National Intellectual Property Awareness Mission ने 31 जुलाई, 2022 को दस लाख छात्रों को प्रशिक्षित करने के अपने लक्ष्य को पूरा कर लिया

राष्ट्रीय बौद्धिक संपदा जागरूकता मिशन (National Intellectual Property Awareness Mission – NIPAM) 8 दिसंबर, 2021 को वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय द्वारा बौद्धिक संपदा कार्यालय और पेटेंट, डिजाइन और ट्रेडमार्क महानियंत्रक (CGPDTM) के कार्यालय के सहयोग से शुरू किया गया था। इस कार्यक्रम के तहत बौद्धिक संपदा (Intellectual Property – IP) पर जागरूकता और प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है। इस योजना ने 15 अगस्त, 2022 की समय सीमा से पहले 31 जुलाई, 2022 को दस लाख छात्रों को प्रशिक्षित करने के अपने लक्ष्य को पूरा कर लिया है। बौद्धिक संपदा पर प्रशिक्षित छात्रों या शिक्षकों सहित प्रतिभागियों की संख्या 10,05,272 है। 3662 शिक्षण संस्थानों को कवर किया गया है। केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने आजादी का अमृत महोत्सव के अनुरूप बौद्धिक संपदा जागरूकता बढ़ाने का आदेश दिया है। बौद्धिक संपदा ​​​​नवोन्मेष और रचनात्मकता को प्रोत्साहित करती है। यह आविष्कारकों, कलाकारों और लेखकों को प्रोत्साहित करती है, साथ ही अनुसंधान और विकास की स्थिरता सुनिश्चित करती है।

जलवायु परिवर्तन पर भारत और जापान की साझेदारी

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने जापान सरकार और जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) के साथ भागीदारी की है। उन्होंने भारत में 10 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में जलवायु कार्रवाई में तेजी लाने के लिए एक पहल शुरू की है। यह पहल शुद्ध-शून्य उत्सर्जन प्राप्त करने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर निर्धारित योगदान (Nationally Determined Contribution – NDCs) को समर्थन प्रदान करेगी। यह पहल जलवायु-लचीला विकास भी सुनिश्चित करेगी। पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय और नवीन व नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (MNRE) में IMD के सहयोग से यह पहल शुरू की जाएगी। इसके लॉन्च के बाद भारत के अपडेटेड राष्ट्रीय स्तर पर निर्धारित योगदान (NDC) को कैबिनेट की मंजूरी दी गई है, जिसे जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र फ्रेमवर्क कन्वेंशन को भेजा जाएगा। वे स्वास्थ्य, यातायात, सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (MSMEs),और कृषि जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में स्वच्छ ऊर्जा बुनियादी ढांचे और कम उत्सर्जन प्रौद्योगिकियों को रखकर जलवायु शमन को बढ़ावा देंगे। यह पहल 30 ग्राम पंचायतों में जलवायु सूचना प्रवाह प्रणालियों के माध्यम से जमीनी स्तर पर लचीला जलवायु नियोजन को भी प्रकट करेगी। इसका उद्देश्य 2000 से अधिक लोगों को कौशल और प्रशिक्षण प्रदान करके अक्षय ऊर्जा जैसे क्षेत्रों में हरित नौकरियों और हरित उद्यमिता को बढ़ावा देना है। इस परियोजना के लिए जापान ने UNDP इंडिया को 5.16 मिलियन अमरीकी डालर का जलवायु अनुदान प्रदान किया है।

चीन और नेपाल ने ट्रांस-हिमालयन नेटवर्क के लिए अपनी सहमति दी

चीन और नेपाल ने हाल ही में “ट्रांस-हिमालयन मल्टी-डायमेंशनल कनेक्टिविटी नेटवर्क” (Trans-Himalayan Multi-Dimensional Connectivity Network) के निर्माण के लिए अपनी सहमति दी है। चीन 2022 में कई परियोजनाओं को शुरू करने के लिए नेपाल को 118 मिलियन अमरीकी डालर की अनुदान सहायता भी देगा। इस समझौते के तहत, चीन द्वारा चीन-नेपाल सीमा पार रेलवे के व्यवहार्यता अध्ययन का वित्तपोषण किया जायेंगे। चीन के विशेषज्ञ 2022 में सर्वेक्षण करने नेपाल जाएंगे। चीन के बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव के तहत ट्रांस-हिमालयन मल्टी-डायमेंशनल कनेक्टिविटी नेटवर्क का निर्माण किया जाएगा। इसके तहत रेलवे और संचार नेटवर्क का निर्माण किया जाएगा। इस नेटवर्क को “ट्रांस-हिमालयन नेटवर्क” (Trans-Himalayan Network) भी कहा जाता है। यह बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव के तहत नेपाल और चीन के बीच एक आर्थिक गलियारा है। इस नेटवर्क में कई परिवहन बुनियादी ढांचा परियोजनाएं शामिल हैं, ऐसी ही एक परियोजना “चीन-नेपाल रेलवे” है।

अर्जेंटीना के रियर एडमिरल को UNMOGIP के प्रमुख के रूप में नियुक्त किया गया

हाल ही में, संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने अर्जेंटीना के रियर एडमिरल गुइलेर्मो पाब्लो रियोस को भारत और पाकिस्तान में संयुक्त राष्ट्र सैन्य पर्यवेक्षक समूह (UNMOGIP) के मिशन प्रमुख और मुख्य सैन्य पर्यवेक्षक के रूप में नियुक्त किया है। उरुग्वे के मेजर जनरल जोस एलाडियो अल्केन ने अर्जेंटीना के रियर एडमिरल गुइलेर्मो पाब्लो रियो के मिशन के प्रमुख और UNMOGIP के लिए मुख्य सैन्य पर्यवेक्षक के रूप में पद छोड़ दिया, जिसका कार्य पूरा होने वाला है।

तमिलनाडु के तिरुनेलवेली जिले के अगस्त्यमलाई में पांचवां हाथी रिजर्व

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने खुशी व्यक्त की कि राज्य को तिरुनेलवेली जिले के अगस्त्यमलाई में अपना पांचवां हाथी रिजर्व मिला है और कहा कि स्तनधारी वन पारिस्थितिकी तंत्र को संतुलित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। केंद्रीय पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव द्वारा 1,197.48 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र को हाथी आरक्षित क्षेत्र के रूप में अधिसूचित करने के तमिलनाडु वन विभाग के प्रस्ताव को स्वीकार करने की घोषणा पर प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, “विश्व हाथी दिवस 2022 पर, मुझे खुशी है कि तमिलनाडु को तिरुनेलवेली जिले के अगथियामलाई में इसका 5वां हाथी अभ्यारण्य मिल गया है।” यह क्षेत्र पश्चिमी घाट के सबसे दक्षिणी छोर पर स्थित है और केरल और तमिलनाडु में फैला हुआ है और 3,500 वर्ग किमी के क्षेत्र को कवर करता है। अगस्त्यमलाई बायोस्फीयर रिजर्व क्षेत्र में 3,500.36 वर्ग किमी है। केरल में स्थित क्षेत्रफल 1,828 वर्ग किमी है, और तमिलनाडु में स्थित क्षेत्रफल 1672.36 वर्ग किमी है।

श्रीलंका ने चीन के अनुसंधान पोत को 16 अगस्‍त से हम्बनटोटा बंदरगाह पर ठहरने की अनुमति दी

श्रीलंका ने चीन के अनुसंधान पोत को 16 अगस्‍त से हम्‍बनटोटा बंदरगाह पर ठहरने की अनुमति दे दी है। श्रीलंका के विदेश मंत्री ने बताया कि चीनी पोत युवान वांग- फाइव को 16 अगस्‍त को हम्‍बनटोटा बंदरगाह पर पहुंचने की अनु‍मति दे दी गई है। इस पोत को आमतौर पर जासूस पोत माना जाता है। चीन के इस पोत को पहले 11 अगस्‍त को हम्‍बनटोटा बंदरगाह पर पहुंचना था लेकिन अब यह 16 अगस्‍त को पहुंचेगा और 22 अगस्‍त को लौट जाएगा। हम्‍बनटोटा बंदरगाह को चीन ने लीज़ पर लिया हुआ है।

जम्‍मू-कश्‍मीर के हैदरबाग में 108 फीट ऊंचे राष्‍ट्रीय ध्‍वज का उद्घाटन

जम्‍मू-कश्‍मीर में भारतीय सेना ने उत्‍तरी कश्‍मीर के बारामूला में पट्टन में हैदरबाग में 108 फीट ऊंचे राष्‍ट्रीय ध्‍वज का उद्घाटन किया। मेजर जनरल एसएस स्लारिया जनरल ऑफिसर कमांडिंग, सीआईएफ -किलो ने इसे राष्‍ट्र को समर्पित किया। इसका निर्माण रिकार्ड तीस दिनों की अवधि में हुआ है। इसका निर्माण फ्लैग फाउंडेशन ऑफ इंडिया के सहयोग से किया गया है। यह नागरिकों में गर्व और सम्मान की भावना पैदा करेगा और आतंकवाद को खत्म करने के लिए अपने प्राणों की आहूति देने वाले सभी बहादुरों का सम्मान भी करेगा। आजादी का अमृत महोत्सव पहल के अन्‍तर्गत हर घर तिरंगा अभियान के एक हिस्‍से के रूप में इसकी स्‍थापना की गई है।

हिमाचल प्रदेश विधानसभा ने जबरदस्ती सामूहिक धर्मांतरण के विरुद्ध विधेयक पारित किया

हिमाचल प्रदेश विधानसभा ने हिमाचल प्रदेश धार्मिक स्‍वतंत्रता संशोधन विधेयक, 2022 पारित कर दिया है। इस विधेयक में सामूहिक धर्मांतरण की रोकथाम का प्रावधान है। विधेयक ध्‍वनि मत से पारित हुआ, हालांकि विपक्षी सदस्‍यों ने इसे प्रवर समिति के पास भेजने की मांग की थी। विधेयक में दो या दो से अधिक लोगों का एक समय में धर्मांतरण को सामूहिक धर्मांतरण बताया गया है। इसमें बलपूर्वक धर्मांतरण का दण्ड सात वर्ष से बढ़ाकर अधिकतम 10 वर्ष करने का प्रस्‍ताव है। इस कदम के साथ हिमाचल सरकार धार्मिक स्वतंत्रता कानून-2019 को सख्त करने जा रही है। संशोधित विधेयक के पारित होने पर हिमाचल में जबरन, कपटपूर्ण तरीके और विवाह के समय जाति छिपाने का खुलासा होने पर सजा का प्रावधान किया है। हिमाचल प्रदेश 2006 में धर्मांतरण विरोधी कानून लागू करने वाले पहले राज्यों में से एक था। हालांकि, बाद में सरकार ने अधिनियम को निरस्त कर दिया और जबरन धर्मांतरण के मामलों में वृद्धि का हवाला देते हुए हिमाचल प्रदेश धर्म स्वतंत्रता अधिनियम, 2019 को अधिनियमित किया।

तेलंगाना में हर घर तिरंगा अभियान के अंतर्गत स्‍वतंत्र भारत वज्रोतस्‍वुलु का आयोजन किया

तेलंगाना में हर घर तिरंगा अभियान के तहत अनेक कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। राज्‍य सरकार ने हर घर तिरंगा प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के आह्वान पर दो सप्‍ताह का स्‍वतंत्र भारत वज्रोतस्‍वुलु का आयोजन किया है। इस अवसर पर समूचे राज्‍य में लोगों को एक करोड़ 22 लाख राष्‍ट्रीय ध्‍वज निशुल्‍क बांटे गए।

भारत-ओमान संयुक्त सैन्य अभ्यास अल नजफ IV का समापन

भारत और ओमान के बीच आयोजित संयुक्त सैन्य अभ्यास अल नजफ IV महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में संपन्न हुआ । एक समापन समारोह के साथ अभ्यास अपनी परिणति पर पहुंचा । यह प्लाटून स्तर 13 दिनों का सैन्य अभ्यास दिनांक 1 अगस्त 2022 को शुरू हुआ था। इस अभ्यास का उद्देश्य अंतर-संचालनीयता प्राप्त करना और संयुक्त राष्ट्र के जनादेश के तहत आतंकवाद-रोधी माहौल में एक दूसरे को संचालन प्रक्रियाओं और युद्ध अभ्यास से परिचित कराना था । दोनों सेनाएं उल्लिखित उद्देश्यों को प्राप्त करने में सक्षम थीं । भारतीय दल मैकेनाइज्ड इन्फैंट्री रेजिमेंट की 18वीं बटालियन से था और ओमान की शाही सेना का प्रतिनिधित्व ओमान पैराशूट रेजिमेंट के सुल्तान ने किया था।

ILO ने Global Employment Trends for Youth 2022 रिपोर्ट जारी की

Global Employment Trends for Youth 2022” रिपोर्ट के अनुसार, 15-24 आयु वर्ग के युवाओं में दुर्लभ बेरोजगारी दुनिया भर में 15.6% तक पहुंच गई है। यह वयस्कों में बेरोजगारी दर का तीन गुना है। यह रिपोर्ट अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) द्वारा “human-centred recovery from Covid-19 pandemic” के लिए ग्लोबल कॉल टू एक्शन के एक भाग के रूप में जारी की गई है। इस रिपोर्ट के अनुसार, बेरोजगार युवा आबादी की संख्या 2021 में 75 मिलियन से घटकर 2022 में 73 मिलियन हो गई है। हालांकि, यह संख्या अभी भी कोविड -19 महामारी से पहले की संख्या से 6 मिलियन अधिक है। अफ्रीका में बेरोजगारी दर 12.7% है, जो वैश्विक औसत 14.9% से कम है। यह आंकड़ा इस बात पर प्रकाश डालता है कि, युवा लोग श्रम बाजारों से हट गए हैं। भारत में 18 महीने के लिए स्कूल बंद कर दिए गए। 240 मिलियन स्कूल जाने वाले बच्चों में से सिर्फ 8% ग्रामीण इलाकों में और 23% शहरी क्षेत्रों में ऑनलाइन शिक्षा तक पहुंच थी। नतीजतन, 92% बच्चों ने औसतन भाषा में एक मूलभूत क्षमता खो दी है। 82% बच्चों ने गणित में कम से कम एक मूलभूत क्षमता खो दी है।

मार्च 2023 में होगा महिला आईपीएल का पहला संस्करण

महिलाओं की इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) मार्च 2023 में एक महीने की विंडो में शुरू की जाएगी और पूरी संभावना है कि इसमें पांच टीमें खेलेंगी, इसकी पुष्टि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने की। बीसीसीआई के शीर्ष अधिकारियों ने इस मुद्दे पर चर्चा की और टूर्नामेंट के लिये मार्च की विंडो को ठीक समझा गया जो दक्षिण अफ्रीका में महिला टी20 विश्व कप के बाद की है।

पहली बार टाटा स्टील शतरंज में होगा महिलाओं का टूर्नामेंट

भारत की शीर्ष खिलाड़ी ‘टाटा स्टील चेस इंडिया’ टूर्नामेंट के पांचवें चरण में पहली बार होने वाली महिलाओं की प्रतियोगिता में आकर्षण का केंद्र होंगी जिसमें कोनेरू हंपी, डी हरिका और आर वैशाली शामिल हैं। यह शतरंज टूर्नामेंट कोलकाता में 29 नवंबर से चार दिसंबर तक खेला जायेगा। महिला और पुरूष वर्गों दोनों के लिये समान पुरस्कार राशि दी जायेगी। भारतीय स्टार खिलाड़ियों के अलावा अन्य महिला ग्रैंडमास्टर में यूक्रेन की अन्ना मुजीचुक और मारिया मुजीचुक, जॉर्जिया की नाना जागनिद्जे और पोलैंड की अलीना काशलिंस्काया ने अपनी भागीदारी की पुष्टि कर दी है। हंपी, हरिका और वैशाली उस टीम में शामिल थी जिसने हाल में समाप्त हुए शतरंज ओलंपियाड में कांस्य पदक जीता था।

विभाजन विभीषका स्मृति दिवस

14 अगस्त को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस मनाया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 14 अगस्त, 2021 को घोषणा की कि 14 अगस्त को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस (Partition Horrors Remembrance Day) के रूप में मनाया जाएगा। ब्रिटिश शासन से मुक्ति के साथ ही भारत का विभाजन हुआ था और पाकिस्तान अस्तित्व में आया था। धर्म के आधार पर भारत के विभाजन के पश्चात बड़े पैमाने पर हिंसा की घटनाएँ हुई, जिसके कारण लाखों लोगों को विस्थापित होना पड़ा और असंख्य लोग हिंसा में मारे गये। उन लोगों के संघर्ष और बलिदान की याद में 14 अगस्त को ‘विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस’ के तौर पर मनाने का निर्णय लिया गया है।

महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में एक सड़क दुर्घटना में मराठा समुदाय के प्रमुख नेता विनायक मेटे का निधन

महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में सड़क हादसे में मराठा समुदाय के प्रमुख नेता विनायक मेटे का निधन हो गया। यह हादसा मुंबई-पुणे एक्सप्रेसवे पर हुआ। विनायक मेटे भारतीय जनता पार्टी की सहयोगी पार्टी शिव संग्राम पार्टी के प्रमुख थे। मुंबई से लौटते समय उनकी कार सामने से आ रही एक अन्‍य कार से टकरा गई।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.