Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

4 June 2018

जापानी पासपोर्ट दुनिया में सबसे शक्तिशाली

जापान के लोग अपने पासपोर्ट के द्वारा दुनिया भर में सबसे अधिक 189 देशों में वीजा-फ्री एक्सेस कर सकते हैं। इसके बाद जर्मनी, सिंगापुर है। जबकि भारतीय पासपोर्ट पर सिर्फ 59 देशों में ही वीजा-फ्री एक्सेस किया जा सकता है। सिटिजनशिप एंड प्लानिंग फर्म हेनले एंड पार्टनर्स द्वारा तैयार की जाने वाली पासपोर्ट की रैंकिंग में भारतीय पासपोर्ट की रैंकिंग पिछले वर्ष 49 देशों ही वीजा-फ्री एक्सेस की सुविधा थी। चीन 68वें स्थान पर है।

दुनिया में सबसे ज्यादा मेहनती हैं मुंबई के लोग

मुंबई के लोग दुनिया में सबसे ज्यादा साल में अलगभ 3314.7 घंटे काम करते है। जबकि दुनिया में कुल औसत 1987 घंटे है। 77 बड़े शहरों में स्विस बैंक यूबीएस द्वारा कराए सर्वे में यह तथ्य सामने आया है।

13 सम्रदी तटों को ‘ब्लू फ्लैग बीच’ का दर्जा

सरकार देश के तटवर्ती 13 जगहों को ‘ब्लू फ्लैग बीच’ का प्रमाण पत्र देने जा रही है। यह एक मानक है इसकी शुरूआत डेनमार्क के कोपनहेगन स्थि फांउडेशन फार एनवायर्मेंट एजुकेशन द्वारा 1985 में की गई। इसके लिए 33 शर्ते लगाई गई है इनमें तटों की साफ-सफाई, किनारों पर कचरा प्रबंधन, पीने के लिए साफ पानी, सुरक्षा व्यवस्था आदि। भारत में अभी तक किसी को ‘ब्लू फ्लैग बीच’ का दर्जा नहीं मिला है।

कामोवा हेलिकाॅप्टर का रूस से सौदा

सेना के लिए केन्द्र सरकार रूस से 200 हेलिकाॅप्टर खरीदेगी। ‘कामोव केए-226टी’ सैन्य हेलिकाॅप्टर खरीदने का सौदा अक्टूबर में हो सकता है। नए हेलिकाॅप्टर पुराने हो चुके चीता और चेतक की जगह लेंगे।

लेख लिखने पर शोधार्थियों को एक लाख रूपए

विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा शुरू किए गए कार्यक्रम के अनुसार करीब 1500 शब्दों में पीएचडी के 100 लेख को सम्मान के लिए चुना जाएगा।

चीन ने एवरेस्ट से हटाया 8,500 किलो कचरा

चीन ने दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट पर अप्रैल से लेकर अब तक लगभग 8500 किलो कचरा साफ किया है। इस काम को 30 लोगों की टीम ने अंजाम दिया है। इसमें 5200 किलो घरेलू, 2300 किलो इंसानी शरीर के अपशिष्ट और 1000 किलो पहाड़ी कचरा था।

फीफा विश्वकप: 44 साल बाद टेलस्टर बॉल की वापसी

रूस में 14 जून से 21वें फुटबॉल विश्वकप की शुरुआत हो जाएगी। 32 देशों के खिलाड़ी 12 स्टेडियम में टूर्नामेंट जीतने के लिए मैदान पर उतरेंगे। हर बार विश्वकप से पहले मैचों के दौरान इस्तेमाल में लाई जाने वाली बॉल की चर्चाएं तेज हो जाती हैं। विश्वकप बॉल के डिजाइन में समय के साथ-साथ बहुत बदलाव हुआ। 2010 में दक्षिण अफ्रीका में जाबुलानी तो 2014 में ब्राजील में ब्राज़ूका गेंद फुटबॉल विशेषज्ञों के बीच चर्चा में रही। वहीं, इस बार 1970 और 1974 विश्वकप में इस्तेमाल किए गए टेलस्टर बॉल की वापसी हुई है। इसमें 32 जी जगह 6 पैनल होंगे। सबसे खास बात तो यह है कि इसमें चिप लगाई गई है। इसके जरिए गेंद को स्मार्ट फोन से कनेक्ट कर खेल से जुड़े कई अहम स्टैट हासिल किए जा सकते हैं। यह गेंद आम लोगों और खिलाड़ियों के खरीदने के लिए उपलब्ध है। इसे पाकिस्तान में बनाया गया है।

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Exam

Here You can find previous year question paper and model test for practice.

Start Exam

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Share