Ask Question |
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

7 July 2018

प्रधान न्यायाधीश ही मास्टर आफ रोस्टर

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि सिर्फ प्रधान न्यायाधीश ही ‘मास्टर आफ रोस्टर’ हैं। इसमें कोई विवाद नहीं है और उनके पास ही केस आवंटित करने की शक्तियां है। कोर्ट ने इस प्रक्रिया को प्रभावित करने को लेकर चेताया। शीर्ष कोर्ट ने कहा, इससे न्यायापालिका की आजादी बाधित हो सकती है।

पनामा पेपरकांड: भ्रष्ट शरीफ को 10 साल की जेल

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को 25 जुलाई को होने वाले आम चुनाव से ठीक पहले भ्रष्टाचार के मामले में पाक की जवाबदेही अदालत के जज मोहम्मद बशीर ने 10 साल की और जांच में सहयोग ने करने पर एक साल की सजा सुनाई। हालांकि ये सजा साथ-साथ चलेंगी। साथ ही शरीफ पर 73 करोड़ का जुर्माना भी लगा है। इसी मामले में शरीफ की बेटी मरियम को भी 7 साल की सजा हुई है। मरियम को भी जांच में सहयोग न करने पर एक साल की सजा हुई है। यह सजा भी साथ-साथ चलेगी। मरियम पर 18 करोड़ का जुर्माना लगा है। फैसले के बाद मरियम चुनाव नहीं लड़ पाएंगी।

एससी-एसटी पर फैसला देने वाले जज बने एनजीटी प्रमुख

एससी-एसटी एक्ट के तहत दर्ज मामलों में बिना जांच के गिरफ्तारी पर रोक लगाने वाले जस्टिस एके गोयल सेवानिवृत्त हो गए। इसी दिन सरकार ने जस्टिस गोयल को एनजीटी का चेयरमैन बना दिया है।

श्रीलंका में एयरपोर्ट खरीदेगा भारत

चीन की श्रीलंका में बढ़ती उपस्थिति से निपटने के लिए एयरपोट्र्स अथाॅरिटी आफ इंडिया श्रीलंका के मटल्ला राजपक्ष अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे में 70 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने जा रही है। शेष 30 फिसदी हिस्सेदारी श्रीलंका की एयरपोर्ट एंड एविएशन सर्विसेज की होगी। एएआइ इसमें 1660 करोड़ रूपए का निवेश करेगी।

ब्रिटेन में बनी पहली लोनलीनेस मिनिस्ट्री

दुनिया में पहली बार किसी देश ने अकेलेपन की समस्या से निपटने के लिए लोनलीनेस मिनिस्ट्री बनाई गई है। 42 साल की ट्रेसी क्राउच को मंत्रालय का जिम्मा सौंपा गया है। ब्रिटेन की 14% आबादी यानी 90 लाख लोग अकेलेपन के शिकार माने जाते हैं। अकेलेपन से सेहत को रोजाना 15 सिगरेट पीने जितना खतरा रहता है। इस अनोखे मंत्रालय का प्रभार मिलने के बाद से ट्रेसी का ईमेल अकाउंट सवालों से भरा रहता है। उनका फोन लगातार बजता रहता है। अप्वाॅइंटमेंट्स की भी लंबी लिस्ट है।

स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी के गलत फोटो से बनाया डाक टिकट, अमेरिकी डाक विभाग पर लगा 24 करोड़ रुपए का जुर्माना

स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी के गलत फोटो से डाक टिकट बनाने पर फेडरल कोर्ट ने कॉपीराइट एक्ट के तहत अमेरिकी डाक विभाग पर 35 लाख डॉलर (करीब 24 करोड़ रुपए) का जुर्माना लगाया है। डाक विभाग ने यह टिकट 2011 में बनाया था। इसके लिए फोटो इंटरनेट से निकाली गई थी। इस नकली फोटो को लास वेगास में रहने वाले मूर्तिकार रॉबर्ट डेविडसन ने पहचाना। दरअसल, यह तस्वीर लेडी लिबर्टी की रेप्लिका (नकल) की थी और यह मूर्ति उन्होंने ही बनाई थी। डेविडसन ने बताया कि उन्हें इस डाक टिकट के बारे में 2013 में पता चला। ऐसे में उन्होंने अपनी बनाई मूर्ति की तस्वीर उनकी बगैर इजाजत के इस्तेमाल करने का केस दर्ज कराया। फेडरल कोर्ट ने उनकी याचिका मंजूर की और अमेरिकी डाक विभाग पर जुर्माना देने का आदेश दिया।

लिखावट से पता चल जाएगा शख्स भारतीय है या चीनी, अमेरिकी वैज्ञानिकों ने बनाया सॉफ्टवेयर

अमेरिका की कॉर्नेल यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने ऐसी तकनीक (आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस) विकसित की है, जो आपकी अंग्रेजी की लिखावट जांच कर बता सकती है कि आप किस देश से हैं। अभी इस तकनीक में सिर्फ भारत, चीन, ईरान, बांग्लादेश और मलेशिया के लोगों की लिखावट का इस्तेमाल किया गया है।सिर्फ अंग्रेजी की लिखावट पहचानती है नई तकनीक- वैज्ञानिकों ने 100 लोगों से 500 वाक्य लिखवाए, फिर मशीन ने उन्हें पहचाना

« Previous Next Affairs »

Current Affairs Quiz

Here you can find Month Wise Quiz.

Quiz

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Exam

Here You can find previous year question paper and model test for practice.

Start Exam

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on