Ask Question |
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

11 January 2019

जीएसटी से छूट की सीमा बढ़ाकर 40 लाख रु की

जीएसटी काउंसिल ने छोटे कारोबारियों को राहत दी है। गुरुवार को काउंसिल ने जीएसटी रजिस्ट्रेशन से छूट के लिए सालाना टर्नओवर की लिमिट 20 लाख रुपए से बढ़ाकर 40 लाख रुपए करने का फैसला लिया। उत्तर-पूर्वी राज्यों के कारोबारियों के लिए यह लिमिट 10 लाख रुपए से बढ़ाकर 20 लाख रुपए कर दी गई है। कंपोजीशन स्कीम के लिए सालाना टर्नओवर की लिमिट भी 1 करोड़ रुपए से बढ़ाकर 1.5 करोड़ कर दी है। कंपोजीशन स्कीम के तहत आने वाले कारोबारियों को टैक्स हर तिमाही में जमा करवाना पड़ेगा लेकिन रिटर्न साल में एक बार भर सकेंगे। जीएसटी काउंसिल के फैसले 1 अप्रैल से लागू होंगे। कंपोजीशन स्कीम का फायदा लेने वाले कारोबारियों के लिए टैक्स की दर फिक्स होती है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने जीएसएटी काउंसिल की 32वीं बैठक के फैसलों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि केरल 2 साल तक अधिकतम 1% तक का आपदा सेस लगा सकेगा। पिछले साल आई बाढ़ से हुए नुकसान को देखते हुए यह प्रस्ताव दिया गया था।

रेणुकाजी डैम परियोजना पर आज हस्ताक्षर करेंगे छह राज्यों के मुख्यमंत्री

दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश और राजस्थान के मुख्यमंत्री शुक्रवार को रेणुकाजी बहुद्देश्यीय डैम परियोजना के लिए समझौते पर हस्ताक्षर करेंगे। सरकार ने गुरुवार को बताया कि डैम का निर्माण इन छह राज्यों में पेयजल आपूर्ति की जरूरतों को देखते हुए किया जा रहा है। समझौते पर हस्ताक्षर केंद्रीय जल स्नोत, नदी विकास और गंगा कायाकल्प मंत्री नितिन गडकरी की उपस्थिति में किया जाएगा। डैम यमुना और उसकी दो सहायक नदियों गिरि और टोंस पर बनाया जाएगा। उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश इसमें शामिल हैं। परियोजना वर्ष 2008 में विचार में आई थी। इस पर आने वाले खर्च के बड़े हिस्से का वहन केंद्र सरकार करेगी, जबकि राज्यों को केवल 10 प्रतिशत देना होगा। सरकार ने एक बयान में कहा, ‘रेणुकाजी बांध की परिकल्पना हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले में गिरि नदी पर एक भंडारण परियोजना के रूप में की गई है। 148 मीटर ऊंचे पत्थर के बांध से 23 क्यूबिक मीटर प्रति सेकेंड के हिसाब से पानी दिल्ली और अन्य बेसिन राज्यों को दिया जा सकेगा। इस परियोजना में 40 मेगावाट बिजली भी पैदा होगी।’

मैरीकॉम वर्ल्ड नंबर वन बनीं

बॉक्सर एमसी मैरीकॉम अंतरराष्ट्रीय बॉक्सिंग एसोसिएशन (एआईबीए) की वर्ल्ड रैंकिंग में पहले स्थान पर पहुंच गईं है। मैरीकॉम ने पिछले साल नई दिल्ली में वर्ल्ड चैम्पियन बनी थीं। यह उनका छठा वर्ल्ड चैम्पियनशिप खिताब था। उन्हें 48 किलोग्राम भार वर्ग में 1700 अंक मिले हैं। हालांकि, अगले साल टोक्यो में होने वाले ओलिंपिक खेलों में मैरीकॉम 48 की जगह 51 किलोग्राम भार वर्ग में चुनौती पेश करेंगी। मैरीकॉम के नाम कुल वर्ल्ड चैम्पियनशिप में छह, एशियन गेम्स में एक, एशियन चैम्पियनशिप में पांच, कॉमनवेल्थ गेम्स में एक और एशियन इंडोर गेम्स में एक गोल्ड जीता है। दूसरी ओर, भारत की पिंकी जांगड़ा 51 किलोग्राम भार वर्ग और मनीषा मउन 51 किलोग्राम भार वर्ग में आठवें स्थान पर पहुंच गईं। वर्ल्ड चैम्पियनशिप में रजत पदक जीत चुकीं सोनिया लाठेर 57 किलोग्राम भार वर्ग में दूसरे स्थान पर कायम हैं।

सीबीआई चीफ आलोक वर्मा हटाए गए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली उच्चाधिकार चयन समिति ने सीबीआई चीफ आलोक वर्मा को हटा दिया। रिश्वतखोरी और कर्तव्य निवर्हन में लापरवाही के आरोपों के आधार पर उन्हें हटाने का फैसला हुआ। सीबीआई के 55 साल के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है। समिति ने 2:1 से यह निर्णय लिया।वहीं, नागेश्वर राव दोबारा सीबीआई चीफ बन गए हैं। वर्मा और जांच एजेंसी में नंबर-2 अफसर राकेश अस्थाना के बीच विवाद के बाद केंद्र सरकार ने दोनों को छुट्टी पर भेज दिया था। इस फैसले के खिलाफ वर्मा की अपील पर सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें 76 दिन बाद बहाल तो कर दिया था, लेकिन उन्हें नीतिगत फैसले लेने से रोक दिया था। साथ ही कहा था कि उच्चाधिकार चयन समिति ही वर्मा पर लगे आरोपों के बारे में फैसला करेगी।

तीन तलाक पर नया अध्यादेश जारी

केंद्रीय कैबिनेट ने एक साथ तीन तलाक के मामले में अध्यादेश को नए सिरे से मंजूरी दे दी है। तीन तलाक को अपराध घोषित करने वाला यह अध्यादेश आगामी 22 जनवरी को स्वत: ही निरस्त होने वाला था। इसके अलावा, कैबिनेट ने जम्मू-कश्मीर में दो और गुजरात में एक एम्स बनाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है। इसके अलावा, भारत के पहले रेल और परिवहन विश्वविद्यालय, नेशनल रेल एंड ट्रांसपोर्ट इंस्टीट्यूट (एनआरटीआइ) के कुलपति के पद के सृजन को मंजूरी दे दी है।

450 साल बाद श्रद्धालुओं के लिए खोला गया अक्षयवट और सरस्वती कूप

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पवित्र गंगा और यमुना के साथ अदृश्य सरस्वती के दर्शन के लिए करोड़ों लोग खिंचे चले आते हैं, लेकिन अक्षयवट और सरस्वती कूप देखने की तमन्ना अधूरी रह जाती थी, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। साढ़े चार सौ वर्षों के बाद अक्षयवट और सरस्वती कूप श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि देश- दुनिया में स्वच्छ और सुरक्षित कुम्भ का संदेश जाए, यह हम सभी का कर्तव्य है।

‘चौपाल ऑन ट्विटर’ पर अपने नेता से रूबरू होगी जनता

जनता और नेता के बीच संवाद स्थापित करने के उद्देश्य के साथ ट्विटर इंडिया ने विभिन्न चौपाल नेताओं के साथ मिलकर ‘चौपाल ऑन ट्विटर’ की शुरुआत की है। इस पहल के माध्यम से लोग अपने नेताओं से बात कर सकेंगे। ट्विटर की इस पहल से समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव, राजद नेता तेजस्वी यादव, भाजपा नेता व केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा और टीआरएस नेता कविता कल्वाकुंतल जुड़े हैं। पहल की शुरुआत शुक्रवार को होगी। इसके तहत अखिलेश यादव कन्नौज में लोगों से संवाद करेंगे। ‘चौपाल ऑन ट्विटर’ हैशटैग के जरिये ट्विटर के माध्यम से उनसे सवाल पूछे जा सकेंगे।

ईरान स्वदेशी राकेटों से करेगा दो उपग्रहों का प्रक्षेपण

ईरानी राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा है कि उनका देश जल्दी ही स्वदेश में तैयार राकेटों से दो नए उपग्रह अंतरिक्ष में भेजेगा। रूहानी ने कहा कि यह प्रक्षेपण आने वाले हफ्तों में जल्दी ही होगा। ईरान आमतौर पर 1979 की इस्लामी क्रांति की बरसी पर फरवरी में अपने अंतरिक्ष कार्यक्रम की उपलब्धियों को प्रदर्शित करता है। इससे पहले ईरान ने पिछले दशक में कम जीवन-काल वाले कई उपग्रहों का प्रक्षेपण किया था। ईरान ने 2013 में एक बंदर भी अंतरिक्ष में भेजा था। अमेरिका और उसके सहयोगियों को इस बात की चिंता है कि उपग्रह के प्रक्षेपण में काम आने वाली प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल लंबी दूरी की मिसाइलों को विकसित करने में भी किया जा सकता है। अमेरिका के ईरान के साथ परमाणु समझौते से बाहर होने के बाद से ईरान और अमेरिका के बीच रिश्ते अच्छे नहीं चल रहे हैं।

जोकोविक-हालेप को मिली शीर्ष वरीयता

सर्बिया के नोवाक जोकोविक और रोमानिया की सिमोना हालेप को सोमवार से शुरू होने जा रहे साल के पहले ग्रैंडस्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन में शीर्ष वरीयता मिली है। वहीं, मौजूदा चैंपियन स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर ऑस्ट्रेलियन ओपन में विश्व नंबर 99 उज्बेकिस्तान के डेनिस इस्तोमिन के खिलाफ मुकाबले से अपने खिताब बचाने के अभियान की शुरुआत करेंगे।

राजस्थान में आर्थिक पिछड़ों को 14 फीसद आरक्षण की राह खुली

संसद में हुए 124 संविधान संशोधन के बाद राजस्थान में आर्थिक पिछड़ों को 14 प्रतिशत आरक्षण मिलने की राह खुल गई। राजस्थान न सिर्फ तीन वर्ष पहले इसके लिए विधेयक पारित कर चुका है, बल्कि आरक्षण देने के लिए आर्थिक पिछड़ों के परिणाणत्मक आंकड़े भी यहां तैयार है। ऐसे में राजस्थान अकेला ऐसा राज्य है, जहां इस आरक्षण को लागू करने के लिए जरूरी सभी शर्ते पूरी हैं।

« Previous Next Affairs »

Current Affairs Quiz

Here you can find Month Wise Quiz.

Quiz

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Exam

Here You can find previous year question paper and model test for practice.

Start Exam

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on