Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

31 January 2019

मानव मिशन के लिए इसरो ने बेंगलूरू में ‘ह्यूमन स्पेस फ्लाइट सेंटर’ खोला

इसरो ने अंतरिक्ष में अपने पहले मानव मिशन ‘गगनयान’ के लिए युद्धस्तर पर तैयारी शुरू कर दी है। इसी के चलते इसरो ने बुधवार को ‘ह्यूमन स्पेस फ्लाइट सेंटर’ (एचएसएफसी) का उद्घाटन किया है। इसरो के पूर्व अध्यक्ष के.कस्तूरीरंगन ने इसरो के अध्यक्ष के.सिवन की मौजूदगी में इसका उद्घाटन किया है। मानव अंतरिक्ष कार्यक्रम की कर्मभूमि बनने वाला यह केंद्र 2021 के अंत तक अंतरिक्ष में अपना पहला मानव मिशन भेज देगा। इसमें एक महिला अंतरिक्ष यात्री भी शामिल होगी। इस साल गगनयान इसरो के लिए सर्वाधिक अहमियत रखता है। दिसंबर, 2020 में पहला मानवरहित मिशन और जुलाई 2021 में दूसरा अभियान भेजा जाएगा। जब यह मिशन पूरे हो जाएंगे तभी दिसंबर, 2021 में भारत का पहला मानव मिशन भेजा जाएगा। एचएसएफसी की जिम्मेदारी गगनयान प्रोजेक्ट को लागू करने की होगी। वह इसरो के मौजूदा सेंटरों की भी मदद लेगा। एचएसएफसी के संस्थापक निदेशक एस.उन्नीकृष्णन नायर हैं, जबकि आर.हट्टन गगनयान के प्रोजेक्ट डायरेक्टर हैं। हाल ही में केंद्रीय कैबिनेट ने इस परियोजना के लिए 9,023 करोड़ रुपये की मंजूरी दी है।

चीन, रूस की मिसाइलों पर नजर रखने के लिए जापान में रडार लगाएगा अमेरिका

अमेरिका जापान में होमलैंड डिफेंस रडार (एचडीआर) लगाने के लिए वहां की सरकार से अनुमति हासिल करने की कोशिश कर रहा है। 2025 तक एचडीआर स्थापित हो सकता है। यह सिस्टम अमेरिका को समय रहते बता देगा कि इन देशों से अमेरिका, हवाई और अमेरिकी द्वीप गुआम की ओर कोई आईसीबीएम मिसाइल तो नहीं छोड़ी गई।

दिल्ली से मुंबई तक 1386 किमी लंबे रेलमार्ग के दोनों तरफ बनेगी दीवार

रेलवे ने दिल्ली से मुंबई तक 1386 किमी लंबे मुख्य रेलमार्ग के दोनों तरफ 1.6 मीटर ऊंची दीवार बनाने का फैसला किया है। दीवार प्रीकास्ट कॉन्क्रीट की बनेगी, जिस पर करीब एक हजार करोड़ रुपए का खर्च आएगा। रेलवे बोर्ड से आदेश आने के बाद रेल मंडल ने बाउंड्रीवाल बनाने की तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसका काम दाहोद से मार्च में शुरू हो जाएगा। यह लाइन दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश, राजस्थान, गुजरात और महाराष्ट्र को जोड़ती है। इसमें मथुरा, कोटा, रतलाम, वडोदरा, सूरत मुख्य स्टेशन हैं। इस ट्रैक पर ट्रेनें अधिकतम 130 किलोमीटर प्रति घंटे और औसत 80 से 90 किमी प्रति घंटे की रफ्तार पर चल रही हैं। दीवार बनने से अधिकतम 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार तक इन्हें चलाया जा सकेगा।

चंदा कोचर दोषी करार

देश के दूसरे सबसे बड़े कर्जदाता आइसीआइसीआइ बैंक की पूर्व सीईओ चंदा कोचर के को सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज जस्टिस बीएन श्रीकृष्णा की अध्यक्षता में गठित समिति की रिपोर्ट में दोषी करार दिया गया है। वीडियोकाॅन ग्रुप को दिए करीब 3,250 करोड़ रूपये कर्ज पर विवाद सामने आने के बाद उन पर वित्तीय अनियमितताओं के गंभीर आरोप लगाए गए थे।

6,000 किलोमीटर रेल ट्रैक का विद्युतीकरण होगा

आगामी वित्तीय वर्ष के दौरान रेलवे 6,000 किमी ट्रैक का विद्युतीकरण करेगा। रेलमंत्री पीयूष गोयल ने यह घोषणा की। इंटरनेशनल एनर्जी एजेंसी की रिपोर्ट ‘द फ्यूचर आॅफ रेल’ जारी करते हुए गोयल ने कहा, ‘पांच वर्ष पहले तक रेलवे पूरे देश में हर साल 600 किमी. लाइनों का विद्युतीकरण करता था। लेकिन हमने अकेले पिछले साल 4,000 किमी. से अधिक लाइनों का विद्युतीकरण किया। और आने वाले समय में हमारा लक्ष्य 6,000 किमी. लाइनों का विद्युतीकरण करने का है।’ केंद्रीय वित्त, रेल एवं कोयला मंत्री पीयूष गोयल को अमेरिका की पेंसिल्वेनिया यूनिवर्सिटी के क्लीमैन सेंटर फाॅर एनर्जी पाॅलिसी की ओर से चौथे वार्षिक कर्नट पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। वर्ष 2018 का यह पुरस्कार उन्हें ऊर्जा क्षेत्र में आकूलचूल परिवर्तन के लिए दिया गया है।

उत्तरकाशी के रवाई घाटी में मिले भाषा विकास के प्रमाण

उत्तराखंड के सीमांत जिले उत्तरकाशी की रवाई घाटी में भाषा विकास के जुड़े चित्राक्षर और शिलालेख मिले हैं। इतिहासकारों के अनुसार ब्राह्मी लिपि में लिखे ये शिलालेख उत्तरावर्ती मौर्य काल के हैं, जबकि चित्राक्षर(पिक्टोग्राम) नवपाषाण युग से मेल खाते हैं। इसके अलावा रेवाई क्षेत्र की कुछ चट्टानों पर कप(ओखलीनुमा) आकृति भी मिली है।

110 करोड़ की लागत से दांडी में ‘नमक सत्याग्रह स्मारक’ तैयार

ऐतिहासिक दांडी में 110 करोड़ की लागत से 15 एकड़ में ‘नमक सत्याग्रह स्मारक’ बनाया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा गांधीजी की 150 जयंती के अवसर पर इस स्मारक को बुधवार 30 जनवरी 2019 इसका लोकार्पण किया जा रहा है। यहां 41 सोलर ट्री द्वारा हर रोज 144 किलोवॉट बिजली उत्पन्न होगी। जो इस स्मारक की बिजली खपत की पूर्ति करेगी।

गाय-भैंस का बनेगा बर्थ सर्टिफिकेट

देशभर में पशुओं के मामले में अव्वल हरियाणा में अब गाय-भैंस का भी बर्थ सर्टिफिकेट बनाया जाएगा। बर्थ सर्टिफिकेट पर उसके माता-पिता के अलावा पशु का भी फोटो होगा। साथ ही उसकी नस्ल की जानकारी भी होगी। यह बर्थ सर्टिफिकेट पशु पालकों को पशु पालन विभाग की ओर से दिया जाएगा। कोई भी दिक्कत होने पर उन्हें मोबाइल पर सिर्फ इसकी जानकारी दर्ज करनी होगी। इस जानकारी का मैसेज संबंधित इलाके के वीएलडीए के मोबाइल पर पहुंचेगा। कुछ ही समय में पशु पालन विभाग का यह कर्मचारी पशु पालक के घर पहुंच जाएगा। इन सुविधाओं के अलावा महकमे की ओर से अब हर पालतु पशु का ध्यान एप भी बनाया जा रहा है। इस एप पर पशु गणना के साथ जुटाई जाने वाली पशु की पूरी जानकारी अपलोड की जाएगी।

यूनेस्को मना रहा पीरियॉडिक टेबल का 150वां साल

रासायनिक तत्वों की आवर्त सारणी (पीरियॉडिक टेबल) इस साल 150 वर्ष की हो गई। संयुक्त राष्ट्र की शैक्षणिक, वैज्ञानिक व सांस्कृतिक संस्था (यूनेस्को) इस मौके पर वर्ष भर कार्यक्रमों का आयोजन करने जा रही है। यूनेस्को ने इसी सिलसिले में मंगलवार को यहां ‘रासायनिक तत्वों की आवर्त सारणी के अंतरराष्ट्रीय वर्ष’ की शुरुआत की। इस कार्यक्रम में रसायन विज्ञान के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार पा चुके दिग्गज वैज्ञानिकों के साथ रूस के विज्ञान मंत्री भी शामिल हुए। तत्वों की आवर्त सारणी रसायन विज्ञान का अहम हिस्सा है। इस सारणी में विभिन्न तत्वों जैसे हाइड्रोजन, हीलियम, बोरोन आदि को उनकी परमाणु संख्या और विशेषताओं के आधार पर क्रमबद्ध किया गया है। पहली बार 1969 में रूसी वैज्ञानिक दिमित्री मेंडलीव ने आवर्त सारणी प्रकाशित की थी। उसी सारणी की 150वीं वर्षगांठ पर यूनेस्को कई कार्यक्रमों के साथ एक ऑनलाइन प्रतियोगिता भी आयोजित करने जा रहा है

चुनावी विज्ञापनों के लिए ट्रांसेपेरेंसी टूल लॉन्च करेगी फेसबुक

देश में होने वाले लोकसभा चुनावों में फेसबुक के जरिए होने वाली विदेशी दखलंदाजी को रोकने और अपने प्लेटफॉर्म पर विज्ञापन में और ज्यादा पारदर्शिता लाने के लिए फेसबुक अगले महीने भारत में ट्रांसपेरेंसी टूल लॉन्च करने जा रहा है। अब फेसबुक पर चुनावी विज्ञापन दिखाने के लिए विज्ञापनदाता को वेरिफिकेशन कराना जरूरी है, ताकि फेसबुक लोगों को चुनावी विज्ञापन से जुड़ी सारी जानकारी दे सके।

सूरत में 40 टन लोहे से बनी 20 फीट ऊंची जूनागढ़ के शेर की प्रतिमा

सूरत महानगर पालिका ने वराछा के श्याम धाम चौक पर 40 टन लोहे से बनी शेर की प्रतिमा लगाई है। यह पूरा लोहा स्क्रैप का है। प्रतिमा शहर में ब्यूटीफिकेशन के तहत किया गया है। हाथ से बनाई गई शेर की इस प्रतिमा को राष्ट्रीय स्तर पर सबसे वजनदार प्रतिमा के रूप में पेश किया गया है। इसकी कुल ऊंचाई 20 फीट है।

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Exam

Here You can find previous year question paper and model test for practice.

Start Exam

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Share