Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

22 February 2019

मोदी ने 55 महीने में 93 विदेश दौरे किए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिन के दौरे पर गुरुवार तड़के दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल पहुंचे। यह 5 साल में उनका दूसरा दक्षिण कोरियाई दौरा है। 2019 आम चुनाव से पहले बतौर प्रधानमंत्री मोदी का यह आखिरी आधिकारिक विदेश दौरा भी है। हालांकि, उनके भूटान जाने की चर्चा भी है, पर दोनों देशों ने अब तक कोई तारीख तय नहीं की है। पीएम मोदी विदेश दौरों का शतक बनाने से महज 7 कदम दूर रह गए हैं। क्रिकेट के शब्दों में कहेंगे तो वह विदेश में नर्वस नाइनटी में पहुंच गए हैं। मोदी का प्रधानमंत्री बनने के बाद यह 55 महीने में 93वां (इसमें एक ही देश के दो या उससे ज्यादा दौरे भी शामिल हैं) विदेश दौरा है। मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की बराबरी की है। वह 10 साल में 93 बार विदेश दौरे पर गए थे। मोदी को सियोल शांति पुरस्कार से भी सम्मानित किया जाएगा। 1988 में सियोल ओलिंपिक के बाद यह पुरस्कार शुरू हुआ था। 1990 से यह हर 2 साल बाद दिया जाता है। मोदी यह सम्मान पाने वाले 14वें व्यक्ति हैं। इसके तहत प्रशस्ति पत्र और 1.42 करोड़ रु. दिया जाता है। इसे पाने वाले 3 लोग नोबेल प्राइज भी जीत चुके हैं।

एपल दुनिया की सबसे इनोवेटिव कंपनियों की सूची में 17वें स्थान पर

दुनिया की सबसे इनोवेटिव कंपनियों की सूची में एपल को 17वां स्थान मिला है। पिछले साल कंपनी पहले स्थान पर थी। अमेरिका की फास्ट कंपनी ने 2019 की दुनिया की 50 सबसे ज्यादा इनोवेटिव कंपनियों की लिस्ट जारी की है। इसमें शामिल म्यूजिक कंपनी जियोसावन इकलौती भारतीय कंपनी है। इसे 28वीं रैंक मिली है। इनोवेटिव कंपनियों की लिस्ट में ऑन-डिमांड सर्विस उपलब्ध कराने वाली चीनी कंपनी मिटॉन डाइपिंग सबसे ऊपर है। इसके बाद दूसरे नंबर पर सिंगापुर स्थित राइड हीलिंग कंपनी ग्रैब है।

अंतरराष्ट्रीय दबाव के चलते पाकिस्तान ने हाफिज सईद के दो संगठनों पर बैन लगाया

पुलवामा हमले के बाद भारत और अंतरराष्ट्रीय दबाव के चलते पाकिस्तान सरकार ने गुरुवार को 2008 मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के संगठन जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इंसानियत पर प्रतिबंध लगा दिया। यह फैसला पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान की अध्यक्षता में हुई राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठक में लिया गया। इमरान ने अन्य सभी आतंकी संगठनों के खिलाफ भी कार्रवाई तेज करने के निर्देश दिए। जमात-उद-दावा लश्कर-ए-तैयबा का मुखौटा संगठन है। इसी संगठन ने भारत में मुंबई हमलों को अंजाम दिया था, जिसमें 166 लोगों की जानें चली गईं थीं। अमेरिका ने जून 2014 में जमात-उद-दावा को आतंकी संगठन घोषित किया था। इसके चीफ हाफिज सईद को भी अमेरिका ने वैश्विक आतंकी घोषित कर रखा है। संयुक्त राष्ट्र के आतंकियों की सूची में भी हाफिज सईद का नाम है। जमात-उद-दावा अपनी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए फलाह-ए-इंसानियत नाम के संगठन के जरिए फंड इकट्ठा करता है।

भारत ने पाक जाने वाली 3 नदियों का पानी रोकने का फैसला किया

पुलवामा हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान की ओर जाने वाली तीन नदियों के अपने हिस्से का पानी रोकने का फैसला किया है। यह पानी जम्मू-कश्मीर और पंजाब में डायवर्ट किया जाएगा। भारत-पाकिस्तान के बीच 19 सितंबर 1960 को सिंधु जल समझौता हुआ था। इसके तहत रावी, ब्यास और सतलुज पर भारत और झेलम, चिनाब और सिंधु नदियों के पानी के इस्तेमाल पर पाकिस्तान का हक है। केंद्रीय मंत्री बालैनी स्थित मेरठ बाईपास से हरियाणा बॉर्डर तक डबल लेन हाईवे और बागपत में यमुना के वाटर ट्रीटमेंट प्लांट का शिलान्यास करने आए थे। गडकरी ने कहा, तीनों नदियों के पानी को यमुना में भी लाया जाएगा। रावी नदी पर शाहपुर-कांदी बांध बनाने का काम शुरू हो चुका है।

सेवन वंडर पार्क का उद्धाटन

साउथ दिल्ली के सरायकालेखां में बना सेवन वंडर पार्क का उद्धाटन गुरुवार को कर दिया गया। शुक्रवार से इसका दीदार किया जा सकेगा। पार्क का उद्घाटन गृहमंत्री राजनाथ सिंह, उपराज्यपाल अनिल बैजल, साउथ दिल्ली के मेयर नरेंद्र चावला ने संयुक्त रूप से किया।

21 सार्वजनिक बैंकों से लिए गए 5000 करोड़ के कृषि लोन भी माफ

लोकसभा चुनाव से पहले भूपेश सरकार ने एक और बड़ा फैसला लेते हुए सार्वजनिक बैंकों से कृषि कार्य के लिए किसानों द्वारा लिए गए अल्पकालीन कर्ज को भी माफ कर दिया है। इसके तहत 30 नवंबर 2018 तक लिए गए लोन माफ किए जाएंगे।

अर्धसैनिक बलों की हवाई मार्ग से आवाजाही को मंजूरी

गृह मंत्रालय ने केंद्रीय अर्ध सैन्य बलों (सीएपीएफ) के सभी जवानों को दिल्ली-श्रीनगर, श्रीनगर-दिल्ली, जम्मू-श्रीनगर और श्रीनगर-जम्मू के बीच आवाजाही के लिए सरकारी खर्च पर हवाई मार्ग से मंजूरी दी है। इसमें ड्यूटी और छुट्टी के दौरान की जाने वाली यात्राएं शामिल हैं। यह फैसला पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकी हमले के बाद लिया गया है। इससे सीएपीएफ के कांस्टेबल, हेड कांस्टेबल और एएसआई रैंक के 780,000 जवानों को फायदा होगा। वहीं, केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने भी सीमा पर आतंकियों और नक्सलियों से लड़ रहे सैनिकों, सेना, और सुरक्षा बलों के बच्चों को बोर्ड परीक्षा में विशेष राहत देने का फैसला लिया है।

केंद्र ने असम राइफल्स को दिया बिना वारंट गिरफ्तारी का अधिकार

केंद्र सरकार ने सैन्य बलों को सशक्त करने की दिशा में एक बड़ा कदम उठाया है। असम राइफल्स को पूवरेत्तर के राज्यों असम, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, नगालैंड और मिजोरम में बिना वारंट किसी भी व्यक्ति को गिरफ्तार करने और किसी भी स्थान की तलाशी लेने का अधिकार दे दिया गया है। केंद्रीय गृह मंत्रलय ने इसकी अधिसूचना भी जारी कर दी है।अधिसूचना के मुताबिक, दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) के तहत ‘असम राइफल्स के निचले रैंक के अधिकारियों को भी’ ये शक्तियां दी गई हैं। असम राइफल्स के जवान इन शक्तियों का इस्तेमाल सीआरपीसी की धारा 41 की उपधारा एक, धारा 47, 48, 49, 51, 53, 54, 149, 150, 151 और 152 के तहत करेंगे। वे इनका इस्तेमाल असम, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, नगालैंड और मिजोरम के सीमावर्ती जिलों में भी कर सकेंगे। सीआरपीसी की धारा 41 के तहत कोई भी पुलिस अधिकारी बिना मजिस्ट्रेट के आदेश और बिना वारंट के किसी भी व्यक्ति को गिरफ्तार कर सकता है। धारा 47 के तहत व्यक्ति जिस स्थान पर जाता है वहां की तलाशी ली जा सकती है। धारा 48 के अनुसार, पुलिस अधिकारी वांछित व्यक्ति का किसी भी स्थान तक पीछा कर सकता है। असम राइफल्स पूवरेत्तर का उग्रवादी निरोधक प्रमुख सुरक्षा बल है। यह संवेदनशील भारत-म्यांमार सीमा की सुरक्षा में भी तैनात है। पूवरेत्तर के कुछ इलाकों में सशस्त्र बल (विशेषाधिकार) कानून भी लागू है, जो क्षेत्र में सेना को इस तरह की शक्ति के इस्तेमाल की इजाजत देता है।

क्रिस गेल सर्वाधिक छक्के लगाने वाले क्रिकेटर

वेस्टइंडीज के क्रिस गेल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सर्वाधिक छक्के लगाने वाले खिलाड़ी बन गए। इंग्लैंड के खिलाफ केनसिंग्टन ओवल में खेले गए पहले वनडे में उन्होंने यह उपलब्धि हासिल की। उनके नाम 444 मैच में 477 छक्के हो गए। इस मामले में उन्होंने पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शाहिद अफरीदी को पीछे छोड़ दिया। अफरीदी ने 524 मैच में 476 छक्के लगाए थे।

कनेक्टिंग ट्रेन पकड़ने वाले यात्रियों को रेलवे ने दी राहत

मुख्य ट्रेन लेट होने के कारण कनेक्टिंग ट्रेन छूट जाने पर अब आपको रिफंड लेने के लिए धक्के नहीं खाने पड़ेंगे। रेलवे ने ऐसे यात्रियों को राहत देने के लिए टिकट एवं रिफंड के नियमों में संशोधन किया है। इसके तहत अब मुख्य (पहली) और कनेक्टिंग (अगली या दूसरी) ट्रेनों के लिए अलग-अलग के बजाय एक ही पीएनआर पर टिकट जारी होगा। साथ ही मुख्य ट्रेन लेट होने के कारण कनेक्टिंग ट्रेन छूट जाने पर कनेक्टिंग ट्रेन की यात्रा के हिस्से का पूरा किराया वापस मिलेगा।यह सुविधा यात्री आरक्षण प्रणाली (पीआरएस) काउंटर और ई-टिकट दोनों पर मिलेगी, लेकिन इसके लिए अलग-अलग तरीके अपनाने होंगे।

« Previous Next Affairs »

Current Affairs Quiz

Here you can find Month Wise Quiz.

Quiz

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Exam

Here You can find previous year question paper and model test for practice.

Start Exam

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on