Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

2 April 2020

जम्मू-कश्मीर में 15 साल से रहने वाले नागरिक होंगे डोमिसाइल के हकदार

सरकार ने एक अहम फैसले में केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में डोमिसाइल(स्थायी निवास) लागू कर दिया है। अब जम्मू-कश्मीर में 15 साल से रह रहे नागरिक डोमिसाइल के हकदार होंगे। जिन बच्चों ने सात वर्ष तक केंद्र शासित प्रदेश के स्कूलों में पढ़ाई की है और दसवीं या बारहवीं कक्षा की परीक्षा दी है, वे भी डोमिसाइल होंगे। केंद्र सरकार ने गजट अधिसूचना जारी कर डोमिसाइल के नियम और शर्ते भी तय कर दी हैं। लेवल-चार तक की नौकरियों के लिए डोमिसाइल होना जरूरी होगा। इससे स्थानीय युवाओं को राहत मिलेगी।केंद्रीय गृह मंत्रलय ने जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन आर्डर 2020 जारी कर दिया है। जम्मू-कश्मीर सिविल सर्विस विकेंद्रीयकरण और भर्ती कानून 16 ऑफ 2010 में बदलाव किया गया है। उसमें नौकरियों व डोमिसाइल के नियम व शर्तें तय की गई हैं। राहत व पुनर्वास आयुक्त के साथ पंजीकृत विस्थापित भी डोमिसाइल होंगे। जिन बच्चों के अभिभावक राज्य में 15 साल से रह रहे हैं या विस्थापित के तौर पर पंजीकृत हैं, वे भी डोमिसाइल होंगे।

कर्नाटक सरकार ने ‘Corona Watch’ मोबाइल ’ऐप की लॉन्च

कर्नाटक सरकार ने ‘Corona Watch’ नामक एक मोबाइल एप्लिकेशन लॉन्च की है। इस मोबाइल एप्लिकेशन को लॉन्च करने का उद्देश्य संक्रमित व्यक्तियों की मूवमेंट को ट्रैक करना है, और कोरोनावायरस के फैलने से पहले ही सावधानी बरतना है। साथ ही ये ऐप मरीजों द्वारा स्पॉट की गई तारीख और समय भी प्रदान करेगी। इसके अलावा ‘कोरोना वॉच’ ऐप पर COVID-19 से निपटने लिए सरकार द्वारा चुने गए अस्पतालों की सूची शामिल है, जहाँ इससे संबंधित लक्षण वाले नागरिक टेस्ट के लिए जा सकते हैं। कर्नाटक सरकार ने कोरोना वॉच ऐप के अलावा COVID-19 के लिए दस सदस्यीय टास्क फोर्स का भी गठन किया है। ये टास्क फोर्स उन व्यक्तियों को ट्रैक करने के लिए IT एप्लिकेशन और GPS का उपयोग कर रहा है जिन पर नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण का संदेह है। साथ ही क्वारंटाइन व्यक्तियों को 14 दिन की क्वारंटाइन अवधि के दौरान हर दिन अपने स्थान की जानकारी देने का आदेश दिया गया है।

COVID-19: विश्व बैंक ने भारत के इमरजेंसी रिस्पांस प्रोजेक्ट के लिए 1 बिलियन डॉलर की पेशकश की

1 अप्रैल, 2020 को विश्व बैंक ने घोषणा की कि Covid-19 Emergency Response and Health Systems preparedness project के क्रियान्वयन के लिए भारत सरकार को 1 बिलियन डालर की की पेशकश की है। वायरस द्वारा उत्पन्न खतरों को कम करने के लिए भारत द्वारा यह परियोजना शुरू की जा रही है। इससे राष्ट्रीय प्रणाली को मजबूत होगी और देश में सार्वजनिक स्वास्थ्य तैयारियों बेहतर होंगी। इस प्रोजेक्ट को 4 वर्ष तक चलाया जायेगा। इस प्रोजेक्ट की फंडिंग विश्व बैंक की COVID-19 फास्ट ट्रैक फैसिलिटी से की जायेगी।

सरकार ने COVID-19 पर अपडेट जानकारी देने के लिए समर्पित ट्विटर हैंडल किया लॉन्च

सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने COVID -19 के बारे में नवीनतम जानकारी साझा करने के लिए ट्विटर हैंडल लॉन्च किया है। यह समर्पित ट्विटर हैंडल नोवेल कोरोनवायरस से संबंधित ताज़ा समाचार और अपडेट डेटा साझा करने के लिए शुरू किया गया है। इसे #IndiaFightsCorona नाम दिया गया है और इस पर @CovidnewsbyMIB हैंडल के जरिए पहुंचा जा सकता है। इस ट्विटर हैंडल पर प्रामाणिक सूचना और नॉवेल कोरोनवायरस से जुड़ी सभी अपडेट जानकारी देखी जा सकती है। इस समर्पित ट्विटर हैंडल ने अपने पहले ट्वीट में COVID-19 महामारी की जानकारी के लिए जारी किए हेल्पलाइन नंबर साझा किए हैं।

ICCR ने COVID-19 पर अंतर्राष्ट्रीय चित्रकला प्रतियोगिता लांच की

भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (ICCR) ने कोरोना वायरस पर वैश्विक चित्रकला प्रतियोगिता लांच की। ICCR का उद्देश्य दुनिया के देशों के बीच सांस्कृतिक संबंध निर्मित करना है। यह COVID-19 के खिलाफ एकजुट सभी संस्कृतियों को एक साथ लाने का प्रयास है। शीर्षक: United against CORONA-Express through Art

परिवहन मंत्रालय ने परिवहन संबंधित दस्तावेज की वैधता बढ़ाने के लिए जारी की एडवाइजरी

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए एडवाइजरी जारी की है, जिसके अंतर्गत 1 फरवरी 2020 से समाप्त होने वाले सभी दस्तावेजों की वैधता को बढ़ा दिया गया है। इन सभी दस्तावेजों की वैधता 30 जून 2020 तक बढ़ा दी गई है। इन दस्तावेजों में फिटनेस, ड्राइविंग लाइसेंस, परमिट (सभी प्रकार), पंजीकरण या मोटर वाहन नियमों के तहत किसी भी अन्य संबंधित आने वाले दस्तावेज शामिल हैं।

आईआईटी गुवाहाटी ने बड़ी जगहों को सेनिटाईज करने के लिए ड्रोन किया तैयार

गुवाहाटी के भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान की एक टीम ने सड़क, पार्क और फुटपाथ जैसे बड़े स्थानों को सेनिटाईज करने के लिए एक ड्रोन विकसित किया है। इस ड्रोन में स्वचालित स्प्रेयर लगा हुआ है जो COVID-19 को फैलने से रोकने के लिए बड़े इलाकों को सेनिटाईज करने में अधिकारियों की मदद करेगा। स्वचालित स्प्रेयर लगा हुआ ये ड्रोन 15 मिनट से भी कम समय में इतने क्षेत्र को सेनिटाईज करने की क्षमता रखता है जितना किसी व्यक्ति द्वारा 1.5 दिनों में किया जाता है। इस ड्रोन को मोबाइल ऐप के इस्तेमाल से केवल एक व्यक्ति द्वारा' बड़े क्षेत्रों को साफ करने के लिए संचालित किया जा सकता है।

सरकार ने RBI के डिप्टी गवर्नर बीपी कानूनगो का कार्यकाल एक साल के लिए बढ़ाया

केंद्र सरकार ने रिजर्व बैंक के डिप्टी गवर्नर बीपी कानूनगो के कार्यकाल को एक साल के लिए बढ़ा दिया है, जो 3 अप्रैल, 2020 से लागू होगा। अप्रैल 2017 में डिप्टी गवर्नर के रूप में कार्यभार संभालने वाले कानूनगो का कार्यकाल 2 अप्रैल को समाप्त होने वाला था। रिजर्व बैंक में चार डिप्टी गवर्नर होते हैं। अन्य तीन गवर्नर एस विश्वनाथन, एम के जैन और माइकल देवव्रत पात्रा हैं।

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने शांति सैनिकों की सुरक्षा और सुरक्षा पर प्रस्ताव को अंगीकृत किया

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने शांति सैनिकों की सुरक्षा और सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए प्रस्ताव 2518 को अंगीकृत। यह पहली बार है जब शांति सैनिकों की सुरक्षा के लिए एक प्रस्ताव पारित किया गया है। इस संकल्प को चीन ने शुरू और प्रायोजित किया था। इसे पाकिस्तान, ईरान, दक्षिण अफ्रीका, तुर्की, रूस, वियतनाम सहित 43 देशों द्वारा सह-प्रायोजित किया गया था। वर्तमान में पूरी दुनिया में लगभग 13 मिशनों में 95,000 से अधिक शांति सैनिक कार्य कर रहे हैं। शांति सैनिकों की सुरक्षा का प्रस्ताव ऐसे समय में आया है जब संयुक्त राष्ट्र 75वीं वर्षगांठ मना रहा है। यह संगठन के लिए “एक्शन फॉर पीस” को लागू करने के लिए एक महत्वपूर्ण वर्ष है।

नासा ने SUNRISE मिशन की घोषणा की

अमेरिकी अन्तरिक्ष एजेंसी नासा ने 30 मार्च, 2020 को सन रेडियो इंटरफेरोमीटर स्पेस एक्सपेरिमेंट (SUNRISE) मिशन की घोषणा की। इस मिशन के द्वारा सूर्य के विशालकाय सौर कण तूफान का अध्ययन किया जाएगा। इस मिशन का उद्देश्य सौर तूफानों का अध्ययन तथा सौर प्रणाली के कार्य को समझना है। यह अध्ययन भविष्य के अंतरिक्ष यात्रियों को मंगल ग्रह की यात्रा करने और सौर तूफानों से बचाने में भी मदद करेगा। इस मिशन के तहत 6 क्यूबसैट को जियोसिंक्रोनस-ऑर्बिट में स्थापित किया जाएगा। यह क्यूबसैट सूर्य से उत्सर्जित कम आवृत्ति उत्सर्जन के रेडियो चित्र लेने के लिए रेडियो टेलिस्कोप का उपयोग करेंगे। इन चित्रों को डीप स्पेस नेटवर्क के जरिए धरती पर भेजा जाएगा। इसके अलावा यह क्यूबसैट सूर्य से उत्पन्न होने वाले विशाल कण के स्थान के बारे में जानने के लिए एक 3डी मानचित्र बनाएंगे। इस मिशन के द्वारा सूर्य के स्पेक्ट्रम का अध्ययन किया जाएगा। गौरतलब है कि आयनमंडल के कारण पृथ्वी से सूर्य के स्पेक्ट्रम का अध्ययन नहीं किया जा सकता है।

हिमाचल प्रदेश सरकार ने राज्य में संक्रमित लोगों का पता लगाने के लिए आरंभ किया अभियान

हिमाचल प्रदेश सरकार ने राज्य में संक्रमित लोगों का पता लगाने के लिए एक्टिव केस फाइंडिंग कैंपेन शुरू किया है। यह अभियान राज्य के नागरिको को उनके दरवाजे पर COVID-19 के लक्षणों के बारे में जानकारी प्रदान करने के लिए आरंभ किया गया है।

BhartPe और ICICI लोंबार्ड ने COVID-19 संबंधित बीमा शुरू करने के लिए मिलाया हाथ

BharatPe ने COVID-19 को कवर करने वाले बीमा की सुविधा देने के लिए ICICI लोम्बार्ड जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड के साथ साझेदारी की है। यह बीमा सुविधा दुकानदारों के लिए शुरू की गई है, जो कोरोनोवायरस (COVID-19) के प्रकोप के कारण आर्थिक रूप से सबसे अधिक प्रभावित हुए हैं।

दिल्ली में आलमी मरकज़ की इमारत खाली कराई गयी

भारत में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच जिस नाम की सबसे ज्यादा चर्चा है, वो है तब्लीगी जमातदिल्ली के निजामुद्दीन के तब्लीगी मरकज में आयोजित धार्मिक जलसे में बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए। इसके बाद कई लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हुए और अब तक कई लोगों की मौत हो चुकी है। इसके बाद से ही तब्लीगी जमात प्रशासन के निशाने पर है और इसमें शामिल होने वाले लोगों की तलाश जारी है। तब्लीगी जमात ऐसे लोगों का समूह है, जो मुस्लिम धर्म का प्रचार-प्रसार के लिए स्वयं को समर्पित करते हैं। तब्लीगी मरकज खाली करा दिया गया है। इस इमारत से 2361 लोगों को निकाला गया है जिसमें से 617 को अस्पताल में भर्ती कराया गया है बाकि लोगों को क्वारंटिन में भेज दिया गया है। इस बीच, दिल्ली पुलिस ने निजामुद्दीन तबलीगी जमात मरकज़ के मौलाना साद और अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। इन लोगों पर सरकारी निर्देशों के उल्लंघन का आरोप है। तब्लीगी जमात की स्थापना 1927 में हुई। उस दौर में यह सुधारवादी धार्मिक आंदोलन के रूप में अस्तित्व में आई और इसकी स्थापना करने वाले मोहम्मद इलियास कांधलवी थे। यह सुन्नी मुसलमानों का संगठन है।

तमिलनाडु में 'मोदी किचन' पहल की हुई शुरुआत

तमिलनाडु के कोवई (कोयम्बटूर) में 'मोदी किचन' की स्थापना की गई है। इस रसोई में प्रति दिन 500 लोगो को भोजन परोसने की क्षमता है, जो 14 अप्रैल 2020 तक चालू रहेगी। मोदी किचन का उद्देश्य 10 किलोमीटर के दायरे में खाना पहुंचाना है और इसे शहर के मुख्य शॉपिंग इलाको में स्थापित किया गया है। ये COVID-19 महामारी के कारण लागू हुए लॉकडाउन के दौरान जरुरतमंदो को खाना मुहैया कराने के लिए CSC के अधिकारियों द्वारा शुरू की गई पहल है।

दिल्‍ली में कोविड-19 के मामलों से निपटते हुए स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी की मृत्‍यु पर उसके परिवार को एक करोड़ रूपये की सहायता

दिल्‍ली के मुख्‍यमत्री अरविंद केजरीवाल ने कोविड-19 के मामलों से निपटते समय किसी स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी की मृत्‍यु पर उसके परिवार को एक करोड़ रूपये की सहायता देने की घोषणा की है। सरकारी अथवा निजी क्षेत्र के स्‍थायी या अस्‍थायी सभी स्‍वच्‍छता कर्मी, डॉक्‍टर और नर्स इस घोषणा के दायरे में आयेंगे।

सीसीआई ने भारत में सौर ऊर्जा के माध्यम से बिजली उत्पादन में अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड और टोटल एस.ए.के बीच संयुक्त उद्यम को मंजूरी दी

भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई)ने भारत में सौर ऊर्जा के माध्यम से बिजली उत्पादन के कारोबार में अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड और टोटल एस.ए.के बीच संयुक्त उद्यम के गठन को मंजूरी दे दी है। प्रस्तावित संयुक्‍त उद्यममें अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड को अपनी सहायक कंपनियों में से कुछ को एक नई निगमित कंपनी (जेवी) में स्थानांतरित करने की परिकल्पना की गई है। इसके बाद, टोटल एस.ए.प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से जेवीकी इक्विटी शेयर पूंजी का 50% प्राप्त कर लेगा।

प्रशांत और पूर्वी एशिया में 11 मिलियन लोग गरीबी में प्रवेश कर सकते हैं : विश्व बैंक

विश्व बैंक ने घोषणा की कि COVID-19 के प्रसार के कारण प्रशांत और पूर्वी एशिया में लगभग 11 मिलियन लोग गरीबी में प्रवेश कर सकते हैं। इस वायरस से अब तक 7,80,000 से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं, इसके कारण अब तक 37,000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। विश्व बैंक ने इस क्षेत्र में विकास धीमा रहने का अनुमान जताया है। 2019 में विश्व बैंक ने इस क्षेत्र की वृद्धि का अनुमान 5.8% लगाया था। विश्व बैंक ने चीन की विकास दर के 2.3% रहने का अनुमान लगाया है। इससे पहले 2019 में चीन की विकास दर के 6.1% रहने की भविष्यवाणी की गयी थी।

लाइफलाइन उड़ान पहल के अंतर्गत देशभर में चिकित्सा उपकरण की ढुलाई के लिए 74 उड़ानों का संचालन

नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने लाइफलाइन उड़ान पहल के अंतर्गत अभी तक देशभर में चिकित्सा उपकरण की ढुलाई के लिए 74 उड़ानों का संचालन किया है। कोविड-19 के खिलाफ भारत के इस अभियान में नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने देशभर में चिकित्सा और आवश्यक आपूर्ति के लिए लाइफलाइन उड़ानें शुरू की हैं।

राजस्थान सरकार का फैसला, रिटायर होने वाले सभी डॉक्टरों को अब सितंबर में मिलेगी सेवानिवृत्ति

राजस्थान सरकार ने कोरोना वायरस महामारी के बीच मार्च से अगस्त के बीच रिटायर होने वाले सभी डॉक्टरों को सेवा विस्तार देने का फैसला किया है। इसके मुताबिक, मार्च से अगस्त 2020 तक रिटायर होने वाले सभी डॉक्टर अब सितंबर 2020 में रिटायर होंगे। गौरतलब है कि राजस्थान में कोरोना वायरस से संक्रमण के 100+ मामले सामने आ चुके हैं।

पद्म विभूषण मोंटेक सिंह अहलूवालिया द्वारा लिखित पुस्तक बैकस्टेज: भारत के उच्च विकास वर्षों के पीछे की कहानी

अर्थशास्त्री, सिविल सेवक और भारतीय योजना आयोग के उपाध्यक्ष, कैबिनेट मंत्री के पद के साथ, पद्म विभूषण अवार्ड से सम्मानित (2011) मोंटेक सिंह अहलूवालिया ने एक किताब लिखी जिसका शीर्षक था 'बैकस्टेज: भारत के उच्च विकास वर्षों के पीछे की कहानी' जो साल 1985 और 2014 के बीच नीति निर्धारण का सार है।

सत्यार्थ नायक ने Sridevi: The Eternal Screen Goddess पुस्तक लिखी

लेखक और पटकथा लेखक सत्यार्थ नायक ने अपनी पहली गैर-काल्पनिक पुस्तक को 'Sridevi: The Eternal Screen Goddess' शीर्षक से लिखा, जो दिवंगत अभिनेत्री श्रीदेवी के बारे में है। इसका प्रकाशन पेंग्विन इज़ुरी प्रेस ने किया है।

शोकोफ़ेह अजार की पुस्तक द एनलाइटेनमेंट ऑफ द ग्रीन्गेज ट्री

Shokoofeh Azar की The Enlightenment of the Greengage Tree को मूल रूप से 2017 में ReadHowYouWant.com द्वारा प्रकाशित किया गया था, और यूरोपा एडिशन द्वारा जनवरी 2020 में पुनर्मुद्रित किया गया है। बुक को 50,000 पाउंड (USD 98,000) पुरस्कार के लिए longlist of Booker Prizes (वार्षिक) 2020 (13 के बीच)दिया गया है।

कोविड-19 महामारी के उपायों की वैज्ञानिक समझ बढ़ाने के लिए टाटा इंस्‍ट्रीटयूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च ने पहल की

कोविड-19 महामारी के बारे में भ्रांतियां दूर करने और सार्वजनिक स्‍वास्‍थ्‍य उपायों के बारे में वैज्ञानिक समझ बढ़ाने के लिए टाटा इंस्‍ट्रीटयूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च - टी आई एफ आर आगे आया है। इस संस्‍थान ने यू टयूब वीडियो उपलब्‍ध कराये हैं। इन वीडियो में समझाया गया है कि कोविड-19 जैसे वायरस से फैलने वाली महामारी से निपटने के लिए सा‍माजिक दूरी कैसे मदद करती है। यह वीडियो वॉशिग्‍टन पोस्‍ट में प्रकाशित हैरी स्‍टीवेन्‍स के लेख पर आधारित हैं। टाटा संस्‍थान के वै‍ज्ञानिक प्रोफेसर अर्णब भट्टाचार्य ने कहा कि ये वीडियो अंग्रेजी, हिन्‍दी, बांग्‍ला, कोंकणी, मराठी, मलयालम, उडि़या, तमिल और तेलुगु भाषा में उपलब्‍ध हैं। इन्‍हें तैयार करने में संस्‍थान के शिक्षकों, उनके परिवारों और विद्यार्थियों ने योगदान दिया है।

आठवीं तक के सभी बच्चों को पास करेगी सीबीएसई

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) से मान्यता प्राप्त देशभर के स्कूलों में पहली से आठवीं कक्षा तक के सभी बच्चों को अगली कक्षा में प्रमोट किया जाएगा। किसी भी बच्चे को अनुत्तीर्ण नहीं किया जाएगा। मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने यह घोषणा की। सीबीएसई ने भी इसकी आधिकारिक घोषणा कर दी है।

एडीबी ने भारत में महिलाओं की आवास तक पहुंच में सुधार के लिए अवास फाइनेंसरों को $ 60 मिलियन का अनुदान दिया

क्षेत्रीय विकास बैंक, एशियाई विकास बैंक (ADB) ने, कम आय वाले समुदायों में महिलाओं को प्राथमिक उधारकर्ताओं या सह-उधारकर्ताओं के रूप में आवास वित्त प्रदान करने के लिए किफायती आवास ऋण प्रदाता Aavas Financiers Ltd के साथ $ 60 मिलियन के ऋण समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं।

1 अप्रैल : ओडिशा दिवस

समूचे ओडिशा राज्य में हर साल 1 अप्रैल को उत्कल दिवस या ओडिशा दिवस मनाया जाता है। ओडिशा दिवस 1 अप्रैल 1936 को एक अलग राज्य के रूप में गठन होने की याद में मनाया जाता है। इस साल 83 वां उत्कल दिवस या ओडिशा का स्थापना दिवस मनाया गया है। ओडिशा का गठन एक अलग राज्य के रूप में 1 अप्रैल, 1936 को भाषाई आधार पर किया गया था। इसे संयुक्त बंगाल-बिहार-उड़ीसा प्रांत से अलग किया गया था।

1 अप्रैल : भारतीय रिज़र्व बैंक का स्थापना दिवस

1 अप्रैल को भारतीय रिज़र्व बैंक का स्थापना दिवस मनाया गया। भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम, 1934 के प्रावधानों के अनुसार 1 अप्रैल 1935 को भारतीय रिज़र्व बैंक की स्थापना हुई थी। शुरू में रिज़र्व बैंक का केंद्रीय कार्यालय कोलकाता में स्थापित किया गया था लेकिन 1937 में स्थायी रूप से इसे मुंबई में हस्तांतरित कर दिया गया था। केंद्रीय कार्यालय वह स्थान है, जहां गवर्नर बैठता है तथा जहां नीतियां तैयार की जाती हैं। 1949 मे राष्ट्रीयकरण के बाद से रिज़र्व बैंक पूरी तरह से भारत सरकार के स्वामित्व में है।

स्पेन की प्रिंसेस मारिया टेरेसा COVID-19 से मरने वाली शाही परिवार की पहली सदस्य

स्पेन की प्रिंसेस मारिया टेरेसा का COVID-19 के कारण निधन, जिसके साथ वह कोरोनावायरस से मरने वाली शाही परिवार की पहली सदस्य बन गई हैं। उनका जन्म 28 जुलाई, 1933 को हुआ था और उन्होंने फ्रांस में पढ़ाई पूरी की और पेरिस के सोरबोन और मैड्रिड के कॉम्प्लूटेंस यूनिवर्सिटी में समाजशास्त्र के प्रोफेसर के रूप में कार्य किया था। वह अपने मुखर विचारों और एक्टिविस्ट कार्यो के लिए जानी जाती थीं, जिसके कारण उन्हें रेड प्रिंसेस कहा जाता था।

महान इतिहासकार प्रोफेसर अर्जुन देव का निधन

महान इतिहासकार और शिक्षाविद्, प्रोफेसर अर्जुन देव का निधन। उनका जन्म 12 नवंबर, 1938 को पश्चिम पंजाब (अब पाकिस्तान) के लीया में हुआ था। उन्होंने राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (NCERT) में इतिहासकार के रूप में भी कार्य किया था। अर्जुन देव ने पाठ्यपुस्तक मूल्यांकन पर राष्ट्रीय संचालन समिति के सदस्य सचिव के रूप में कार्य कर कर चुके है। उनकी पुस्तक “History of the World: From the Late 19th to the Early 20th century” को NCERT द्वारा बंद करने बाद ओरिएंट ब्लैक्सवान द्वारा पुनः प्रकाशित किया था, जिसे व्यापक रूप से पढ़ा गया और जो बहुत लोकप्रिय हुई थी।

जेएनसीएएसआर ने कोटिंग विकसित की, संक्रमण रोकने मदद में मिल सकती है

विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग के तहत आने वाले स्वायत्त संस्थान जवाहरलाल नेहरू सेंटर फॉर एडवांस्ड सांइसटफिक रिसर्च (जेएनसीएएसआर) ने एक एंटी-माइक्रोबियल कोटिंग विकसित की है। इसे कपड़े, प्लास्टिक पर लगाने से कोविड-19 जैसे वायरस मर जाएंगे। रासायनिक पदार्थों को मिलाकर तैयार किए गए इस सहसंयोजक कोटिंग को लेकर किए अनुसंधान संबंधी शोध पत्र को रिसर्च जर्नल 'एप्लाइड मैटेरियल एंड इंटरफेस' ने स्वीकार कर लिया है। शोध में पाया गया कि यह कोटिंग मेथिसिलिन प्रतिरोधी स्टैफिलोकोकस ऑरियस और फ्लुकोनाज़ोल प्रतिरोधी सी. अल्बिकंस एसपीपी सहित रोगजनक बैक्टीरिया और कवक से बचाने के साथ ही इन्फ्लूएंजा वायरस को पूरी तरह खत्म कर देगा।

Start the Quiz

« Previous Next Affairs »

Current Affairs Quiz

Here you can find Month Wise Quiz.

Quiz

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Exam

Here You can find previous year question paper and model test for practice.

Start Exam

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2020 RajasthanGyan All Rights Reserved.