Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

21 April 2020

केंद्र सरकार ने अपने हाथ में लिए चार राज्यों के 11 जिले

देश में चार राज्यों के जिन 11 जिलों में कोरोना के नए मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है, वहां की कमान केंद्र सरकार ने अपने हाथ में ले ली है। इसके लिए केंद्र ने छह अंतर मंत्रलयी विशेष टीमों(पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र के लिए 2-2 और मध्य प्रदेश और राजस्थान प्रत्येक के लिए 1) का गठन किया है। इनमें अतिरिक्त सचिव स्तर के अधिकारी होंगे ताकि वरिष्ठता के आधार पर वे ठोस निर्णय ले सकें। केंद्र सरकार ने स्पष्ट कर दिया है कि आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 35 के विभिन्न उपबंधों के अधीन उसे ऐसे जिलों में बीमारी फैलने से रोकने के लिए केंद्रीय टीमें भेजने का अधिकार है। केंद्रीय गृह मंत्रलय के अनुसार महाराष्ट्र के मुंबई और पुणो, बंगाल के कोलकाता, हावड़ा, मेदनीपुर पूर्व, 24 परगना उत्तर, दार्जिलिंग, कलिंपोंग व जलपाईगुड़ी, मध्य प्रदेश के इंदौर और राजस्थान के जयपुर में स्थिति लगातार बदतर होती जा रही है। इन टीमों का गठन आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 के तहत किया गया है।

पूर्व आई.ए.एस. अधिकारी कपिल देव त्रिपाठी को राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविन्‍द का सचिव नियुक्‍त किया गया

भारतीय प्रशासनिक सेवा के पूर्व अधिकारी कपिल देव त्रिपाठी को राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविन्‍द का सचिव नियुक्‍त किया गया है। उनका कार्यकाल राष्ट्रपति कोविन्‍द के पद पर बने रहने तक रहेगा। श्री त्रिपाठी भारतीय प्रशासनिक सेवा के 1980 बैच के असम-मेघालय संवर्ग के सेवा निवृत्‍त अधिकारी हैं। फिलहाल वे सार्वजनिक उद्यम चयन बोर्ड के अध्‍यक्ष हैं।

वन-स्टॉप डिजिटल डायरेक्टरी है Covid FYI लांच

Covid FYI एक वन-स्टॉप डिजिटल डायरेक्टरी है, जिसमें सभी COVID-19 संबंधित सेवाओं और आधिकारिक स्रोतों से जारी हेल्पलाइन की जानकारी है। यह मंच भारतीय प्रबंधन संस्थान कोझीकोड के छात्र सिमरन सोनी के नेतृत्व में 16 सदस्यों की एक अंतरराष्ट्रीय टीम द्वारा बनाया गया है। आधिकारिक सरकारी स्रोतों से आपातकालीन सेवाओं तक पहुँचने के लिए COVID- FYI एक वन-स्टॉप COVID-19 प्लेटफ़ॉर्म है। Covid FYI मंच को सही लोगों तक सही जानकारी पहुंचाने के लिए विकसित किया गया है, जो सरकारी संगठनों से केवल आधिकारिक जानकारी प्रदान करके सूचना की प्रामाणिकता और विश्वसनीयता सुनिश्चित करता है।

UP Govt ने जियोटैग कम्युनिटी किचन के लिए Google से की साझेदारी

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में जियोटैग कम्युनिटी किचन (geotag community kitchens) बनाने के लिए तकनीकी दिग्गज Google के साथ हाथ मिलाया। इस किचन में दैनिक आधार पर 12 लाख फ़ूड पैकेट का उत्पादन होता है। अब, उत्तर प्रदेश जियोटैग कम्युनिटी किचन वाला पहला राज्य बन गया है। 75 जिलों में स्थित लगभग 7,368 कम्युनिटी किचन को जियोटैग किया गया। राज्य सरकार ने रसोई स्थापित करने के लिए बड़े पैमाने पर राज्य संसाधन जुटाए। यह पहल NGO और धार्मिक संगठनों के माध्यम से की गई थी। इन पहलों के लिए, रिमोट सेंसिंग एप्लीकेशन सेंटर (RSAC) ने सामुदायिक रसोई के स्थान के बारे में जानने के लिए एप्लिकेशन तैयार की है। एप्लिकेशन को कम्युनिटी के फीडिंग डेटा के साथ तैयार किया गया था। इसके अलावा, Google अपने एप्लिकेशन में सेंटर्स भी प्रदान करेगा।

सेना ने सैनिकों को तीन श्रेणियों में बांटा

कोरोना महामारी को देखते हुए सेना ने सैनिकों के लिए कुछ सख्त दिशानिर्देश जारी किए हैं। सैनिकों को रेड, ग्रीन और येलो तीन श्रेणियों में रखा गया है। सेना में उन जवानों को ग्रीन श्रेणी में रखा गया है जिन्होंने 14 दिनों का क्वारंटाइन पूरा किया है। येलो श्रेणी में वो जवान हैं, जिन्हें 14 दिनों के क्वारंटाइन की जरूरत है और रेड श्रेणी में उन सैनिकों को रखा गया है, जो कोरोना के लक्षण वाले हैं और जिन्हें अस्पताल में रखकर इलाज की जरूरत है। छुट्टी, अस्थायी ड्यूटी और कोर्स पूरा कर लौटने वाले सभी सैनिकों को येलो श्रेणी में रखा गया है यानी उन्हें 14 दिनों तक क्वारंटाइन में रहना होगा। ऐसे जवानों को रिपोर्टिग स्टेशन से ड्यूटी स्टेशन, यूनिट में सेना के वाहन या स्पेशल ट्रेन के जरिए ही भेजा जाएगा। अगर कोई जवान सैन्य प्रशासन की निगरानी में नहीं जाता है तो उसे येलो श्रेणी में माना जाएगा और उसे 14 दिन के लिए क्वारंटाइन में रहना होगा।

राजस्थान में मास्क नहीं पहनने पर होगी एक साल की सजा

राजस्थान में राज्य सरकार ने मास्क नहीं पहनने को दंडनीय अपराध घोषित कर दिया है। अब मास्क नहीं पहनने पर एक साल की सजा या जुर्माना या फिर दोनों हो सकते हैं। आपदा प्रबंधन अधिनियम-2005 के तहत बिना मास्क पहने घूमना दंडनीय अपराध माना जाएगा।

भारतीय खाद्य निगम के पास उपलब्‍ध अतिरिक्‍त चावल से एथनॉल बनाया जायेगा—केंद्रीय मंत्री धर्मेन्‍द्र प्रधान

देश में अल्‍कोहल आधारित सैनिटाइजर की पर्याप्‍त उपलब्‍धता सुनिश्‍चित करने के‍ लिए भारतीय खाद्य निगम के पास उपलब्‍ध अतिरिक्‍त चावल से एथनॉल बनाया जायेगा। केन्‍द्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्‍द्र प्रधान ने राष्‍ट्रीय जैव ईंधन समन्‍वय समिति की बैठक में इसे मंजूरी दी। राष्‍ट्रीय जैव ईंधन नीति-2018 के तहत यह निर्णय लिया गया है। अतिरिक्‍त चावल से बनाये गए एथनॉल का इस्‍तेमाल एथनॉल मिश्रित पेट्रोल के उत्‍पादन में भी किया जायेगा।

एएम रैम से होगा नई क्रांति का सूत्रपात

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइटी) मंडी ने अगली पीढ़ी की स्पटोनिक तकनीक विकसित करते हुए उच्च डाटा भंडारण और अल्ट्राफास्ट कंप्यूटेशनल एप्लिकेशन के लिए चुंबकीय रैंडम एक्सेस मैमोरी एम रैम इजाद की है। इससे डायनेमिक व स्टैटिक रैम अब बीते कल की बात हो जाएगी। एम रैम(Magnetic RAM) से कंप्यूटर, स्मार्टफोन और अन्य गैजेट्स की प्रौद्योगिकी में नई क्रांति का सूत्रपात होगा, यानी जिस डाटा को पढ़ने में पहले 5000 स्टेप लगते थे, वो 100 स्टेप में पढ़ना संभव होगा। मिनटों में होने वाला काम कुछ सेकंड में होगा।

पुणे के एआरआई ने रोग के कारणों का तेजी से पता लगाने के लिए बग स्निफर किया विकसित

पुणे के अघरकर अनुसंधान संस्थान (एआरआई) के शोधकर्ताओं रोग के कारणों का तेजी से पता लगाने के लिए bug sniffer नामक एक उपकरण विकसित किया है। बग स्निफर संवेदनशील और एक कम लागत वाला सेंसर है जिसे रोगजनकों के तेजी से पता लगाने के उद्देश्य से विकसित किया गया है। इस नए विकसित पोर्टेबल डिवाइस से सिर्फ 30 मिनट में एक मिली लीटर के नमूने के आकार से दस गुना कम बैक्टीरिया कोशिकाओं से रोग की पता लगाने की क्षमता है। बग स्निफ़र एक प्रकार का बायोसेंसर है जो बैक्टीरिया की मौजूदगी का पता लगाने के लिए सिंथेटिक पेप्टाइड्स, चुंबकीय नैनोपार्टिकल्स के साथ-साथ क्वांटम डॉट्स का इस्तेमाल करता है। इसलिए, इसे पानी और फूडबोर्न (खाने से होने वाले) रोगजनकों का पता लगाने के लिए कम लागत और कम समय का प्रभावी तरीका बताया जा रहा है।

सीमा सड़क संगठन (BRO) ने एपी में रणनीतिक क्षेत्रों को जोड़ने वाली एक प्रमुख सड़क पर रिकॉर्ड समय में पुल का निर्माण किया

सीमा सड़क संगठन (BRO) ने अरुणाचल प्रदेश में ऊपरी सुबनसिरी जिले के दापोरिजो में सुबनसिरी नदी पर पुल का निर्माण 27 दिनों के रिकॉर्ड समय में किया। मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पुल का उद्घाटन किया और इसे सार्वजनिक उपयोग के लिए खोल दिया। देशव्यापी तालाबंदी के बीच, बीआरओ ने Void​​-19 के खिलाफ अत्यधिक सावधानी बनाए रखते हुए द्रोपाइजो पुल के निर्माण के लिए विकासात्मक कार्य किया। भारत और चीन के बीच LAC तक जाने वाली सड़कों को जोड़ने के लिए यह पुल रणनीतिक कनेक्टिविटी में सबसे महत्वपूर्ण है।

फिच ने भारत की जीडीपी वृद्धि के अनुमान को घटाकर किया 1.8%

रेटिंग एजेंसी फिच सॉल्यूशंस ने वित्त वर्ष 2020-21 में भारत के आर्थिक विकास पूर्वानुमान को घटाकर 1.8% कर दिया है। फिच सॉल्यूशंस ने COVID-19 प्रकोप के कारण अर्थव्यवस्था में बड़े पैमाने पर आय में होने वाले नुकसान को ध्यान में रखते हुए अपने पहले के अनुमान 4.6% में कटौती की है। साथ ही इसने पूंजीगत व्यय को कारोबार ने नकदी की आर्थिक अनिश्चितता की कमी के कारण स्थायी निवेशों में कमी का अनुमान लगाया है। इसके अलावा फिच सॉल्यूशंस ने चीन की अर्थव्यवस्था पर बिगड़ते वैश्विक आर्थिक दृष्टिकोण के प्रभाव को देखते हुए हुए वित्त वर्ष 2020 के लिए चीन के जीडीपी पूर्वानुमान को 2.6% से घटाकर 1.1% कर दिया है।

एचडीएफसी बैंक ने #HDFCBankSafetyGrid अभियान का किया शुभारंभ

HDFC Safety Grid

एचडीएफसी बैंक ने सार्वजनिक स्थानों पर सोशल डिस्टेंसिंग को बढ़ावा देने के लिए #HDFCBankSafetyGrid अभियान आरंभ किया है। बैंक ने लोगों को प्रात्साहित करने के लिए अपने लोगो के बाहरी ग्रिड का उपयोग करते हुए जो कि जो विश्वास का पर्याय है, एक निशान बनाया है। यह अभियान किसी भी दुकान या प्रतिष्ठान में लाइन में इंतजार कर रहे लोगों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने में मदद करेगा। सेफ्टी ग्रिड को विभिन्न खुदरा दुकानों जैसे कि फार्मेसि, किराने की दुकानों और एटीएम के सामने बनाया जाएगा। ये सेफ्टी ग्रिड विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा निर्देशित 1 मीटर की दूरी के तहत बनाए जाएंगे।

अमेज़ॅन एलेक्सा और गूगल असिस्टेंट पर वॉयस बैंकिंग सेवाएं लॉन्च की: ICICI

आईसीआईसीआई बैंक ने अपने खुदरा बैंकिंग ग्राहकों के लिए अमेज़ॅन एलेक्सा और गूगल असिस्टेंट के साथ एकीकृत आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) संचालित मल्टी-चैनल चैटबॉट आईपीएल पर वॉयस सहायता-आधारित बैंकिंग सेवाएं शुरू की हैं, जिसके द्वारा वे वॉइस कमांड के माध्यम से बैलेंस चेक, क्रेडिट कार्ड का विवरण और प्रश्न पूछना(queries) जैसी बैंकिंग सेवाओं की एक विस्तृत श्रृंखला का उपयोग कर सकते हैं। ।

सुधा मूर्ति द्वारा लिखित पुस्तक हाऊ द ओनियन गॉट इट्स लेयर्स

कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए लागू लॉकडाउन में लेखिका सुधा मू्र्ति बच्चों के लिए अपनी पुस्तक का डिजिटल ऑडियो संस्करण लेकर आ रही हैं। उन्होंने आशा व्यक्त की है कि उनकी यह नवीनतम भेंट बच्चों को कुछ नया करने और सीखने में मदद करेगी। 'हाऊ द ओनियन गॉट इट्स लेयर्स' शीर्षक वाली यह किताब बच्चों के कई सवालों के जवाब देगी। लेखिका की अध्याय श्रृंखला की यह दूसरी किताब है। पहली किताब 'हाऊ द सी बिकेम सॉल्टी' थी। पुस्तक का विमोचन 23 अप्रैल को 'विश्व पुस्तक दिवस' पर होगा।

आईआईटी रोपड़ ने COVID-19 मरीजों के लिए विकसित किया ‘WardBot’

पंजाब के रोपड़ में स्थित भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) ने आइसोलेशन वार्ड में रखे गए COVID-19 मरीजों को बिना किसी के संपर्क में आए दवाइयां और भोजन परोसने के लिए ‘WardBot’ विकसित और डिजाइन किया है। वार्डबॉट विभिन्न सेंसरों से लैस है, जो प्रोग्राम किए जाने के बाद वार्ड में विभिन्न बेडों पर मरीजों तक खाने का सामान और दवाएं ले जाने में सक्षम हैं। इसके अलावा वार्डबॉट में मरीजों के पास से वापसी आते समय स्वयं को सैनिटाइज की सुविधा भी है और इसका इस्तेमाल अस्पतालों की दीवारों को सैनिटाइज करने के लिए किया जा सकता है।

रिचार्जेबल मेटल -एयर बैट्री के लिए कारगर किफायती इलेक्ट्रो-कैटेलिस्ट बनाने के लिए किया जा रहा मछली के गलफड़ों का उपयोग

भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के तहत एक स्वायत्तशासी संस्थान, इंस्टीच्यूट आफ नैनो साइंस एंड टेक्नोलॉजी (आईएनएसटी),मोहाली हाल ही में मछली के गलफड़ों से निर्मित्त कारगर किफायती इलेक्ट्रो-कैटेलिस्ट लेकर आया है जो पर्यावरण के अनुकूल ऊर्जा रूपांतरण उपकरणों के निर्माण में मदद कर सकता है। यह जैव-प्रेरित कार्बन नैनोस्ट्रक्चर फ्यूल सेल, बायो फ्यूल सेल और मेटल -एयर बैट्री जैसी कई नवीकरणीय ऊर्जा रूपांतरण एवं भंडारण प्रौद्योगिकियों की प्राप्ति में आने वाली बाधाओं को दूर करने में सहायक हो सकती है।

चंडीगढ़ शहर कोविड-19 के खिलाफ अपनी लड़ाई में अपशिष्ट संग्रह चालकों के लिए वाहन ट्रैकिंग अनुप्रयोगों और जीपीएस युक्त स्मार्ट घड़ियों का उपयोग कर रहा है

चंडीगढ़ में पहला कोविड पॉजिटिव मामला सामने आते ही उन सभी लोगों को क्वारंटाइन करना शुरु कर दिया गया, जो उस संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए थे। क्वारंटाइन किए गए लोगों को सीवीडी ट्रैकर ऐप के माध्यम से भी चिन्हित किया जा रहा है। क्वारंटाइन घरों से अपशिष्ट पदार्थों का संग्रह और परिवहन करने के लिए 15 वाहनों को पीपीई किट से युक्त ड्राइवरों और हेल्परों की टीम के साथ प्रतिनियुक्त किया गया है। क्वारंटाइन घरों को चार क्षेत्रों में विभाजित किया गया है और प्रत्येक का निरीक्षण एक पर्यवेक्षक द्वारा किया जाता है। इन संग्रहन वाहनों के सभी चालकों ने ई-मानव संसाधन ट्रैकिंग परियोजना (ई-एचआरटीएस) के अंतर्गत जीपीएस युक्त स्मार्ट घड़ी पहन रखी है। डैशबोर्ड के माध्यम से इन स्मार्ट घड़ियों के द्वारा सभी वाहनों के आवागमन को ट्रैक किया जाता है। इस ट्रैकिंग का एकमात्र लक्ष्य यह सुनिश्चित करना है कि कोई भी क्वारंटाइन किया घर छुट न जाए।

लॉक डाउन के दौरान ई-कॉमर्स कंपनियों द्वारा गैर-आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति पर रोक जारी रहेगी : भारत सरकार

भारत सरकार ने आदेश दिया है कि गैर-आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति लॉक डाउन के दौरान निषिद्ध रहेगी। यह आदेश ऐसे समय में आया है जब ई-कॉमर्स कंपनियां उन क्षेत्रों में रेफ्रिजरेटर और मोबाइल फोन जैसे उत्पादों को वितरित करने के लिए तैयार है जो COVID-19 हॉटस्पॉट के अंतर्गत नहीं आते हैं। भारत सरकार ने पहले 20 अप्रैल से ई-कॉमर्स को संचालित करने की अनुमति दी थी। इसके बाद कई राज्य सरकारों ने ई-कॉमर्स का संचालन शुरू करने के आदेश जारी किए थे। हालांकि, यह हॉटस्पॉट्स में संगरोध संचालन को प्रभावित करेगा। इसलिए, भारत सरकार ने आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 10 (2) की शक्तियों का प्रयोग किया है। इन शक्तियों का उपयोग करते हुए, भारत सरकार ने अब लॉक-डाउन के दौरान गैर-आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति पर प्रतिबंध लगा दिया है।

2019-20 में इलेक्ट्रिक वाहन बिक्री में 20% की वृद्धि हुई

हाल ही में सोसाइटी ऑफ मैन्युफैक्चरर्स ऑफ इलेक्ट्रिक व्हीकल्स (एसएमईवी) ने इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री पर अपना डाटा जारी किया है। इसकी रिपोर्ट के अनुसार वित्त वर्ष 2019-20 में इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री में 20% की वृद्धि हुई है। 2018-19 में इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री में 3,600 कारें, 126,000 दो पहिया और 400 बसें शामिल थीं। वर्ष 2019-20 के लिए इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री में 3,400 कारें, 152,000 दो पहिया और 600 बसें शामिल थीं। मुख्य रूप से देश में इलेक्ट्रिक कारों की थोक खरीद में कमी के कारण कारों की बिक्री में गिरावट आई है। ई-रिक्शा की बिक्री भी अधिक थी। वर्ष 2019-20 में लगभग 90,000 ई-रिक्शा बेचे गए। 2019-20 में बिकने वाले इलेक्ट्रिक वाहनों में से 97% इलेक्ट्रिक स्कूटर थे। इन इलेक्ट्रिक स्कूटरों में से 90% कम गति वाले इलेक्ट्रिक टू व्हीलर थे जो 25 किमी/घंटा की रफ्तार से चलते थे। इलेक्ट्रिक टैक्सियों का चलन धीरे-धीरे बढ़ रहा है। हालांकि, चार्जिंग स्टेशनों की बुनियादी सुविधाओं की कमी के कारण इन टैक्सियों की बिक्री नहीं बढ़ रही है।

आयनोस्फेरिक इलेक्ट्रॉन घनत्व की भविष्यवाणी करने के लिए नया मॉडल संचार, नेविगेशन में मदद कर सकता है

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ जियोमैग्नेटिज्म, नवी मुंबई के शोधकर्ताओं ने नए डेटा कवरेज के साथ आयनोस्फेरिक इलेक्ट्रॉन घनत्व की भविष्यवाणी करने के लिए एक नया मॉडल विकसित किया है। यह संचार और नेविगेशन के लिए एक महत्वपूर्ण विकास है। नए कृत्रिम तंत्रिका नेटवर्क आधारित वैश्विक आयनोस्फेरिक मॉडल को आयनोस्फेरिक इलेक्ट्रॉन घनत्व और शिखर मापदंडों की भविष्यवाणी करने के लिए दीर्घकालिक आयनोस्फेरिक अवलोकनों का उपयोग करके विकसित किया गया है। आर्टिफिशियल न्यूरल नेटवर्क पैटर्न की मान्यता, वर्गीकरण, क्लस्टरिंग, सामान्यीकरण, रैखिक और नॉनलाइनर डेटा फिटिंग और टाइम सीरीज़ भविष्यवाणी जैसी समस्याओं को हल करने के लिए मानव मस्तिष्क में होने वाली प्रक्रियाओं को दोहराते हैं।

विश्व लीवर दिवस : 19 अप्रैल

विश्व लीवर दिवस प्रत्येक वर्ष 19 अप्रैल को मनाया जाता है। इसे लीवर से संबंधित बीमारी के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए दिन मनाया जाता है। मस्तिष्क के अपवाद के साथ, यकृत यानी लीवर शरीर का दूसरा सबसे बड़ा और सबसे जटिल अंग है। हेपेटाइटिस A, B, C, शराब और ड्रग्स के कारण लीवर की बीमारियां हो सकती हैं। वायरल हेपेटाइटिस, दूषित भोजन और पानी के सेवन, असुरक्षित यौन व्यवहार और नशीली दवाओं के सेवन के कारण होता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अनुसार, भारत में लीवर की बीमारियां ही मौत होने का 10 वां सबसे सामान्य कारण है।

ऑस्कर जीतने वाले एनिमेटर फिल्म निर्माता जीन डिच का निधन

ऑस्कर जीतने वाले एनिमेटर, फिल्म निर्देशक और निर्माता जीन डिच का निधन। उनकी फिल्म मुनरो ने 1960 में एनिमेटेड शोर्ट-फिल्म की श्रेणी में ऑस्कर पुरस्कार जीता था। इसके अलावा उन्होंने टॉम एंड जेरी और पॉपेय द सेलर श्रृंखला के कुछ एपिसोड भी निर्देशित किए थे। उन्हें 2004 में एनीमेशन में दिए उनके आजीवन योगदान के लिए उन्हें Winsor McCay पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था।

Start the Quiz

« Previous Next Affairs »

Current Affairs Quiz

Here you can find Month Wise Quiz.

Quiz

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Exam

Here You can find previous year question paper and model test for practice.

Start Exam

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2020 RajasthanGyan All Rights Reserved.