Ask Question |
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंको द्वारा कार्य प्रारंभ करने की तिथिया

भारत में आधुनिक बैंकिंग सेवाओं का इतिहास दो सौ वर्ष पुराना है। भारत के आधुनिक बैंकिंग की शुरुआत ब्रिटिश राज में हुई। 19वीं शताब्दी के आरंभ में ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी ने 3 बैंकों की शुरुआत की - बैंक ऑफ बंगाल 1809 में, बैंक ऑफ बॉम्बे 1840 में और बैंक ऑफ मद्रास 1843 में। लेकिन बाद में इन तीनों बैंको का विलय एक नये बैंक 'इंपीरियल बैंक' में कर दिया गया जिसे सन 1955 में 'भारतीय स्टेट बैंक' में विलय कर दिया गया। इलाहाबाद बैंक भारत का पहला निजी बैंक था। भारतीय रिजर्व बैंक सन 1935 में स्थापित किया गया था और बाद में पंजाब नेशनल बैंक, बैंक ऑफ़ इंडिया, केनरा बैंक और इंडियन बैंक स्थापित हुए।

राष्ट्रीयकृत बैंक
allahabad bank24th April 1865
Andhra bank28th November 1923
Bank of Baroda20th July 1908
Bank of India7th September 1906
Bank of maharashtra16th September 1935
Canara bank1st July 1906 (1910 Renamed)
Central bank of india21st December 1911
Corporation bank12th March 1906
Dena bank26th may 1938
Indian bank15th August 1907
Indian overseas bank10th February 1937
Oriental bank of commerce19th February 1943
Punjab and sind bank24th jun 1908
Punjab national bank19th may 1894 (1895)
Syndicate bank20th October 1925
UCO BANK6th January 1943
Union bank of India11th November 1919
United bank of India12th October 1950
Vijaya bank23rd October 1931
अन्य निजी क्षेत्र की बैंक
IDBI BANK LIMITED30TH SEPTEMBER 2004
BHARTIYA MAHILA BANK19TH NOVEMBER 2013
स्टेट बैंक ग्रुप
state bank of India1st July 1955
state bank of bikaner and jaipur1st January 1963
state bank of hyderabad8th August 1941
state bank of mysore2nd October 1913
state bank of patiala17th November 1917
state bank of travancore12th September 1945
« Previous Next Chapter »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

Current Affairs

Here you can find current affairs, daily updates of educational news and notification about upcoming posts.

Check This

Share

Join

Join a family of Rajasthangyan on