Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

11 May 2020

मिशन सागर के तहत नौसेना का जलपोत केसरी चिकित्‍सा दलों और आवश्‍यक वस्‍तुओं के साथ मालदीव, मॉरीशस, मेडागास्‍कर, कोमोरोस और सेशेल्‍स के लिए रवाना

भारत ने कोविड-19 संबंधी आवश्‍यक वस्‍तुओं के साथ नौसेना का जलपोत केसरी मालदीव, मॉरीशस, मेडागास्‍कर, कोमोरोस और सेशेल्‍स भेजा है। जहाज में आवश्‍यक दवाएं और आवश्‍यक खाद्य वस्‍तुएं भेजी गई हैं। विदेश मंत्रालय के बयान में कहा गया है कि महामारी से निपटने के लिए इन देशों के आग्रह के बाद यह सहायता भेजी गई है। मॉरीशस और कोमोरोस में चिकित्‍सा सहायता दल भी तैनात किए जायेंगे। ये दल कोविड-19 से उत्‍पन्‍न आकस्मिक स्थिति और डेंगू बुखार से निपटने में सरकार की सहायता करेंगे। जलपोत में मॉरीशस, मेडागास्‍कर, कोमोरोस और सेशेल्‍स के लिए आवश्‍यक दवाएं हैं, जबकि मालदीव के लिए लगभग छह सौ टन खाद्य वस्‍तुएं भी भेजी गई हैं। मॉरीशस के लिए आयुर्वेदिक दवाएं भी भेजी गई हैं। मेडागास्‍कर और कोमोरोस भेजी गई खेप में हाइड्रोक्‍सीक्‍लोरोक्विन की गोलियां भी हैं। मालदीव, मॉरिशस और सेशेल्‍स में यह दवा पहले ही भेजी जा चुकी हैं। क्षेत्र में सभी के लिए सागर सुरक्षा और आर्थिक वृद्धि के प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के लक्ष्‍य के अनुरूप मिशन सागर के तहत यह सहायता भेजी जा रही है।

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन- डी.आर.डी.ओ. ने इलेक्‍ट्रॉनिक उपकरणों, कागजों और करंसी नोटों को संक्रमण मुक्‍त करने के लिए स्‍वचालित अल्‍ट्रावायलेट प्रणाली विकसित की

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) की प्रमुख प्रयोगशाला, रिसर्च सेंटर इमारत (आरसीआई), हैदराबाद ने एक स्वचालित व संपर्करहित यूवीसी सेनेटाइजेशन कैबिनेट विकसित किया है, जिसे डिफेन्स रिसर्च अल्ट्रावायोलेट सेनेटाइज़र (डीआरयूवीएस) नाम दिया गया है। इसे मोबाइल फोन, आईपैड, लैपटॉप, करेंसी नोट, चेक, चालान, पासबुक, कागज, लिफाफे आदि को कीटाणुमुक्त करने के लिए डिजाइन किया गया है। डीआरयूवीएसकैबिनेट का संपर्करहित संचालन किया जा रहा है जो वायरस के प्रसार को रोकने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। सेंसर स्विच तथा दराज को खोलने और बंद करने की सुविधा-इसके संचालन को स्वचालित और संपर्क रहित बनाती है। कैबिनेट के अंदर रखी गई वस्तुओं परयूवीसीका सभी तरफ से असर (360 डिग्री एक्सपोजर) होताहै। कीटाणुमुक्तकरने की प्रक्रिया समाप्त हो जाने के बाद सिस्टम स्लीप मोड में चला जाता है इसलिए संचालन करनेवाले को उपकरण के पास इंतजार करने या खड़े होने की आवश्यकता नहीं होती है।

पहली से 12वीं तक के लिए शुरू होंगे 12 नए टीवी चैनल

सरकार ने एक बड़ी योजना पर काम शुरू किया है। योजना के तहत देश में बच्चों को पढ़ाने के लिए 12 नए डेडीकेटेड टीवी चैनल शुरू किए जाएंगे। यानी, प्रत्येक क्लास के लिए अलग-अलग टीवी चैनल होंगे, जिनमें स्कूलों की तरह तय समय पर ही कक्षाएं लगेंगी।कोरोना संकटकाल में शैक्षणिक गतिविधियों को जारी रखने के लिए उठाए गए कदमों को लेकर मानव संसाधन विकास मंत्रलय ने पिछले दिनों प्रधानमंत्री के साथ हुई बैठक के बाद इस पर काम शुरू किया है। इस योजना को ‘पीएम ई-विद्या’ नाम दिया गया है। ये सभी चैनल मंत्रलय के पास मौजूद स्वयंप्रभा के 32 चैनलों में से ही उपलब्ध कराए जाएंगे। मौजूदा समय में इनमें से कई चैनल यूजीसी, एनआइओएस व इग्नू जैसे शैक्षणिक संस्थानों को आवंटित है। स्वयंप्रभा के चैनल सभी डीटीएच (डायरेक्ट टू होम) पर मुफ्त उपलब्ध हैं। सेवा प्रदाता से इन चैनलों की मांग की जा सकती है।

त्वरित जांच के लिए भारत ने बनाई स्वदेशी जांच किट 'कोविड कवच'

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी, पुणे ने कोरोना वायरस के निदान के लिए पहली बार स्वदेशी एंटीबॉडी-आधारित एलिसा परीक्षण किट, कोविड कवच विकसित की है। किट ने विभिन्न स्थलों पर सत्यापन परीक्षणों में उच्च संवेदनशीलता और सटीकता प्रदर्शित की है। यह लगभग 90 नमूनों का परीक्षण लगभग ढाई घंटे में कर सकती है। कोरोना वायरस संक्रमण का पता लगाने में यह अहम भूमिका अदा करेगी। इस 'कोविड कवच' किट से न केवल एक दिन में कई जांच हो सकेंगी, बल्कि इससे अधिक से अधिक कोरोना पॉजिटिव का पता लगाने में जांच दल को मदद मिलेगी।

आइआइटी कानपुर में स्थापित होगा ग्लोबल नेविगेशन सेटेलाइट सिस्टम

भूकंप, सुनामी, ज्वालामुखी, पृथ्वी की प्लेटों का खिसकना, बादलों का फटना, समुद्र जल स्तर एकदम से बढ़ना सहित अन्य प्राकृतिक आपदाओं के आने से पहले ही उनकी जानकारी मिल जाएगी। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइटी) कानपुर अपने परिसर में नेशनल जियोडेसी प्रोग्राम के अंतर्गत ग्लोबल नेविगेशन सेटेलाइट सिस्टम (जीएनएसएस) स्थापित कर रहा है। इसके जरिये पृथ्वी की सतह पर होने वाले बदलाव पर नजर रखने के साथ उसकी दिन-ब-दिन कम होती गति का कारण भी पता किया जाएगा। यहीं पर देश का पहला वेरी लांग बेसलाइन इंटरफेरोमेट्री (वीएलबीआइ) सिस्टम लगाया जाएगा, जिससे आकाशगंगा, तारों और अन्य ग्रहों पर नजर रखी जा सकेगी। वीएलबीआइ एक बड़ा एंटीना सिस्टम है, जो हजारों प्रकाशवर्ष दूर से आती रेडियो और अन्य तरंग को पकड़ लेगा। इस एंटीना का निर्माण स्वदेशी तकनीक पर आधारित है। इसकी डिजाइन और निर्माण भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर, इलेक्ट्रॉनिक्स कोऑपरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड, नेशनल फिजिकल लैबोरेट्री और अन्य संस्थाएं कर रही हैं। आइआइटी कानपुर के बाद गुजरात और असम में वीएलबीआइ लगेगा। तीनों का मुख्य स्टेशन आइआइटी कानपुर रहेगा। अभी चीन, जापान, यूएसए, जर्मनी, ऑस्ट्रेलिया जैसे विकसित देश ही वीएलबीआइ तकनीक का इस्तेमाल कर रहे हैं। यूएसए में 40, जापान में 10, चीन में पांच वीएलबीआइ लगे हुए हैं।

COVID-19 के निदान के लिए अमेरिका ने एंटीजन टेस्ट को मंजूरी दी

महामारी के प्रकोप के बीच अमेरिका के फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) ने पहली बार एंटीजन टेस्‍ट को मंजूदी दी है। पहली बार एंटीजन-टेस्ट का उपयोग कर COVID-19 संक्रमण का पता लगाने और उसका इलाज करने के लिए अधिकृत किया है। एफडीए ने अपने जारी बयान में कहा है कि कोरोना वायरस एंटीजन एक नए तरह का परीक्षण होगा। इससे कोरोना की जांच प्रक्रिया आसान होगी और यह उसके इलाज में भी कारगर होगा। प्रतिजन परीक्षण एफडीए द्वारा अधिकृत होने वाला तीसरा प्रकार का परीक्षण है। वर्तमान में, सक्रिय COVID -19 का निदान करने का एकमात्र तरीका वायरस की आनुवंशिक सामग्री के लिए एक मरीज के नाक के स्वाब का परीक्षण करना है। इसमें घंटों लग सकते हैं और मुख्य रूप से वाणिज्यिक प्रयोगशालाओं, अस्पतालों या विश्वविद्यालयों में महंगे, विशेष उपकरणों की आवश्यकता होती है। एक दूसरा प्रकार एंटीबॉडी के लिए रक्त में दिखता है, संक्रमण से लड़ने के बाद शरीर के द्वा रा दिनों या हफ्तोंउत्पादित प्रोटीन।

पुलिसकर्मियों को कर्मवीर पदक से सम्मानित किया जाएगा

मध्य प्रदेश में, कोरोना के खिलाफ लड़ाई में तीस दिनों तक अपनी सेवा देने वाले सभी पुलिसकर्मियों को कर्मवीर पदक से सम्मानित किया जाएगा। वहीं, मध्य प्रदेश में शहीद और अन्य मृतक पुलिस कर्मियों के परिवारों की समस्याओं को अब हेल्प-डेस्क के माध्यम से हल किया जाएगा। भोपाल में पुलिस मुख्यालय में हेल्प डेस्क की स्थापना की गई है। राज्य की पुलिस एफआईआर दर्ज करने के लिए शिकायतकर्ताओं के घरों का दौरा करेगी।

बीबीआइएल और आइसीएमआर मिलकर बनाएंगे वैक्सीन

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आइसीएमआर) ने कोरोना वायरस के खिलाफ स्वदेशी वैक्सीन तैयार करने के लिए भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड (बीबीआइएल) से गठजोड़ किया है। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (एनआइवी), पुणो में आइसोलेट किए गए वायरस स्ट्रेन से यह वैक्सीन बनाने की तैयारी है। आइसीएमआर ने बताया कि वायरस स्ट्रेन को एनआइवी से बीबीआइएल भेज दिया गया है। बीबीआइएल के साथ मिलकर आइसीएमआर ने वैक्सीन तैयार करने की दिशा में काम शुरू कर दिया है। आइसीएमआर-एनआइवी से वैक्सीन तैयार करने की दिशा में बीबीआइएल को पूरा सहयोग मिलेगा।

2020-21 में बाजार से 4.2 लाख करोड़ अधिक उठाएगी सरकार

कोरोना वायरस संक्रमण से मुकाबले के लिए सरकार को अधिक धन चाहिए। दूसरी ओर देशव्यापी लॉकडाउन की वजह से कर संग्रह में जबरदस्त कमी आई है। इसी को देखते हुए सरकार ने चालू वित्त वर्ष के दौरान बाजार से उधार उठाने की सीमा में 4.2 लाख करोड़ रुपये की भारी वृद्धि का फैसला किया है। सरकार ने बाजार से कर्ज लेने की सीमा में 50 फीसद से अधिक की बढ़ोत्तरी की है। इसका मतलब है कि वित्त वर्ष 2020-21 में सरकार 12 लाख करोड़ रुपये तक का कर्ज बाजार से ले सकती है। केंद्र सरकार के इस कदम का राजकोषीय घाटा पर उल्लेखनीय प्रभाव देखने को मिलेगा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्त वर्ष 2020-21 का केंद्रीय बजट पेश करते हुए बाजार से उधार उठाने की सीमा 7.80 लाख करोड़ रुपये तय की थी। वित्त वर्ष 2019-20 में यह सीमा 7.1 लाख करोड़ रुपये पर थी।

निर्मला सीतारमण ने बीएसई, एनएसई में रुपे-डॉलर एफएंडओ कॉन्ट्रैक्ट्स लॉन्च किए

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन ने शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से गांधीनगर में GIFT अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र में BSE के इंडिया INX और एनएसई के NSE-IFSC के दो अंतरराष्ट्रीय एक्सचेंजों पर रुपया-डॉलर (INR-USD) वायदा और विकल्प अनुबंधों का शुभारंभ किया।

गिरिराज सिंह ने "स्टार्टअप इंडिया- पशुपालन ग्रैंड चैलेंज" के विजेताओं को पुरस्कार प्रदान किए

केंद्रीय मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्री, गिरिराज सिंह (मुख्य अतिथि) ने स्टार्टअप इंडिया-पशुपालन ग्रैंड चैलेंज के विजेताओं को पुरस्कार प्रदान किया। पशुपालन और डेयरी क्षेत्र के सामने आने वाले मुद्दों और चुनौतियों का समाधान करने के लिए अभिनव और व्यावसायिक रूप से व्यावहारिक समाधान की तलाश के लिए, पशुपालन और डेयरी विभाग द्वारा पशुपालन स्टार्टअप ग्रैंड चैलेंज शुरू किया गया था। प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 11 सितंबर 2019 को मथुरा में एक राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम में चुनौती का शुभारंभ किया।

एनटीपीसी ने अपने तीन बिजलीघरों में 100% पीएलएफ प्राप्त किया

ऊर्जा मंत्रालय और भारत के सबसे बड़े बिजली जनरेटर के तहत एक केंद्रीय सार्वजनिक उपक्रम एनटीपीसी लिमिटेड ने अपने तीन थर्मल पावर स्टेशनों में 100 प्रतिशत प्लांट लोड फैक्टर, पीएलएफ हासिल किया। मध्य प्रदेश में एनटीपीसी विंध्याचल, ओडिशा में एनटीपीसी तलचर कनिहा और छत्तीसगढ़ में एनटीपीसी सिप्ट ने 100 प्रतिशत पीएलएफ हासिल किया, जिसमें COVID-19 महामारी के कारण लॉकडाउन के बावजूद असाधारण परिचालन दक्षता और इष्टतम क्षमता उपयोग का प्रदर्शन किया गया। इसी समय, हिमाचल प्रदेश में एनटीपीसी कोल्डम वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए देश के सर्वश्रेष्ठ जलविद्युत स्टेशनों में से एक के रूप में उभर रहा है।

रेलवे ने 12 मई से यात्री ट्रेन परिचालन को धीरे-धीरे शुरू करने की घोषणा की

भारतीय रेलवे ने इस महीने की 12 तारीख से पैसेंजर ट्रेन के परिचालन को फिर से शुरू करने की घोषणा की है। शुरुआत में 15 जोड़ी ट्रेनें ऑनबोर्ड यात्रियों के साथ चलेंगी। इन ट्रेनों में आरक्षण के लिए बुकिंग 11 मई को शाम 4 बजे शुरू होगी और केवल IRCTC की वेबसाइट पर उपलब्ध होगी। रेलवे स्टेशनों पर टिकट बुकिंग काउंटर बंद रहेंगे और काउंटर टिकट जारी नहीं किए जाएंगे।

बेंगलुरु ने श्वसन स्वास्थ्य की जांच करने की आवश्यकता पर जागरूकता पैदा करने के लिए प्राणवायु कार्यक्रम शुरू किया

बेंगलुरु नगर निगम ने बेंगलुरु वासिओ के लिए श्वसन स्वास्थ्य की जांच करने की आवश्यकता के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए प्राणवायु कार्यक्रम शुरू किया है।

मातृ दिवस

यह दिन मई के दूसरे रविवार(इस साल 10 मई को) को मनाया जाता है और माँ और बच्चे के बीच विशेष बंधन को समर्पित होता है, जो इस ग्रह पर सबसे अद्भुत रिश्तों में से एक है।

इतिहासकार हरि शंकर वासुदेवन की कोरोना से मौत

जाने-माने इतिहासकार व शिक्षाविद प्रोफेसर हरि शंकर वासुदेवन (68) की कोरोना वायरस के कारण मौत हो गई। बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने उनके निधन पर गहरा शोक जताया है। वह कलकत्ता विश्वविद्यालय में इतिहास विभाग के प्रोफेसर व चीनी केंद्र के निदेशक रहे थे।इससे पहले उन्होंने केंद्रीय संस्कृति मंत्रलय के अंतर्गत मौलाना अबुल कलाम आजाद इंस्टीट्यूट ऑफ एशियन स्टडीज, कोलकाता के निदेशक के रूप में कार्य किया था।

चीन सीमा पर बढ़ा तनाव, दो जगहों पर भिड़े दोनों देशों के सैनिक

तकरीबन तीन वर्ष बाद एक बार फिर चीन के सैनिकों ने भारत की सीमा में अकारण प्रवेश कर सामान्य चल रहे हालात को तनावग्रस्त करने की कोशिश की है। पूर्वी लद्दाख व सिक्किम के उत्तरी क्षेत्र में भारत और चीन के सैनिकों में झड़प का मामला सामने आया है। सैनिकों के बीच हाथापाई भी हुई है। इस टकराव में दोनों ओर के कई सैनिकों को चोट आई है।

न्यूयॉर्क में दुर्लभ सिंड्रोम से बच्चों की मौत

न्यूयॉर्क में एक दुर्लभ सिंड्रोम से तीन बच्चों की मौत का मामला सामने आया है। अधिकारियों को आशंका है कि बच्चों में यह सिंड्रोम कोरोना वायरस के कारण हुआ है। नए लक्षणों ने महामारी के कारण बच्चों को लेकर चिंता बढ़ा दी है। अब तक माना जा रहा था कि कोरोना वायरस के कारण होने वाली सांस की बीमारी से लड़ने में बच्चे काफी हद तक सक्षम हैं। स्वास्थ्य अधिकारियों ने 73 ऐसे मामले देखे हैं, जहां कोरोना संक्रमित बच्चों में इस सिंड्रोम के लक्षण देखे गए हैं। इस सिंड्रोम के लक्षण टॉक्सिक शॉक और कावासाकी बीमारी से मिलते-जुलते हैं। इसमें बच्चों को बुखार हो जाता है, त्वचा पर निशान पड़ जाते हैं और ग्रंथियों में सूजन आ जाती है। गंभीर मामलों में दिल की धमनियों में इन्फ्लेमेशन हो जाता है।

Start the Quiz

« Previous Next Affairs »

Current Affairs Quiz

Here you can find Month Wise Quiz.

Quiz

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Exam

Here You can find previous year question paper and model test for practice.

Start Exam

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2020 RajasthanGyan All Rights Reserved.