Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

15 May 2020

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने कोविड-19 मरीजों की जांच के लिए कोबास-6800-(COBAS-6800) नामक परीक्षण मशीन राष्‍ट्र को समर्पित की

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने देश को कोविड-19 मरीजों की जांच के लिए कोबास-6800-(COBAS-6800) नामक परीक्षण मशीन राष्‍ट्र को समर्पित की। यह पहली ऐसी परीक्षण मशीन है जिसे सरकार ने कोविड-19 मरीजों की जांच के लिए खरीदा है और इसे राष्‍ट्रीय रोग नियंत्रण केन्‍द्र एनसीडीसी में स्थापित किया गया है। कोबास-6800 रोबोटिक्स की क्षमता वाली एक परिष्कृत मशीन है जो स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों के संक्रमित होने की आशंका को कम करती है। सरकार ने अब प्रति दिन एक लाख परीक्षण करने की क्षमता विकसित कर ली है। एनसीडीसी अब पूर्णरूप से स्वचालित कोबास-6800 परीक्षण मशीन से लैस है जो वास्तविक समय में पीसीआर परीक्षण करने में सक्षम है। कोबास-6800 24 घंटों में करीब 1,200 नमूनों सहित उच्च गुणवत्ता और मात्रा में परीक्षण कर सकती है। इससे हमारी परीक्षण क्षमता बढ़ेगी और क्षमता की कमी की वजह से परीक्षण लंबित नहीं रहेंगे।

KVIC करेगा ‘वोकल फॉर लोकल’ पहल का क्रियान्वयन

प्रधानमंत्री मोदी ने हाल ही में “आत्म निर्भर भारत अभियान” की घोषणा की। इस योजना के तहत, लगभग 20 लाख करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। इस योजना के साथ, प्रधानमंत्री ने “वोकल फॉर लोकल” की भी घोषणा की। KVIC (खादी और ग्रामोद्योग आयोग) “वोकल फॉर लोकल” बनने के लिए आगे आया है। वोकल फॉर लोकल का उद्देश्य स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देना है। ऐसा इसलिए है क्योंकि लॉक डाउन और COVID-19 के खतरों के साथ, यह स्थानीय उत्पादन था जिसने लोगों को अपनी दिनचर्या चलाने में मदद की। इसमें मुख्य रूप से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति शामिल थी। “वोकल फॉर लोकल” के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए, KVIC ने PMEGP (प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम) के तहत प्रमुख परियोजनाओं को लागू करने के लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं।

COVID-19: PM CARES फंड से 3,100 करोड़ रुपये आवंटित किए गए

PM CARES फंड ट्रस्ट 27 मार्च, 2020 को बनाया गया था। इसकी अध्यक्षता प्रधानमंत्री मोदी कर रहे हैं। अन्य सदस्यों में गृह मंत्री, रक्षा मंत्री और वित्त मंत्री शामिल हैं। आवंटित धनराशि का उपयोग 50,000 वेंटिलेटर खरीदने के लिए किया जाएगा। वेंटिलेटर 2,000 करोड़ रुपये की लागत से खरीदे जाएंगे। इन वेंटिलेटरों को सरकार द्वारा संचालित COVID-19 अस्पतालों में भेजा जाएगा। राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों को लगभग 1000 करोड़ रुपये प्रदान किए जाएंगे। यह राशि नगर निगम आयुक्तों और जिला कलेक्टरों को दी जाएगी। इसका उपयोग भोजन की व्यवस्था, परिवहन व्यवस्था और प्रवासियों को चिकित्सा उपचार प्रदान करने के लिए किया जाएगा। यह 1000 करोड़ 2011 की जनगणना और COVID-19 से प्रभावित व्यक्तियों की संख्या के आधार पर राज्यों में विभाजित किया जाएगा। COVID-19 के खिलाफ टीका वर्तमान की सबसे महत्वपूर्ण जरूरत है। वैक्सीन डेवलपर्स का समर्थन करने के लिए 100 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।

वी. विद्यावती बनीं भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण की नई महानिदेशक (DG)

IAS अधिकारी वी. विद्यावती को 12 मई 2020 से प्रभावी भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) के नये महानिदेशक के रूप में नियुक्त किया गया है। वह 1991 बैच के कर्नाटक कैडर की अधिकारी हैं। विद्यावती भारत सरकार के अतिरिक्त सचिव के पद पर कार्यरत रहेंगी। उनकी नियुक्ति की पुष्टि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली कैबिनेट की नियुक्ति समिति के आदेश से की गयी है।

भारतीय रेलवे ने यात्रियों के लिए आरोग्य सेतु ऐप रखना किया अनिवार्य

भारतीय रेलवे ने यात्रियों को ट्रेन में यात्रा करने के लिए आरोग्य सेतु ऐप रखना अनिवार्य कर दिया है। रेलवे के अनुसार, अब यात्रियों के लिए यात्रा शुरू करने से पहले अपने मोबाइल फोन में आरोग्य सेतु ऐप को डाउनलोड करना अनिवार्य हो गया है। “अरोग्या सेतु” भारत सरकार द्वारा लॉन्च की गई आधिकारिक COVID-19 ट्रैकिंग ऐप है। इसे इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के तहत राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस डिवीजन द्वारा स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के सहयोग से विकसित किया गया है।

महाराष्‍ट्र में मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे विधान परिषद के लिए निर्विरोध निर्वाचित घोषित किए गए

महाराष्‍ट्र में मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे और आठ अन्‍य उम्‍मीदवार आज राज्‍य विधान परिषद के लिए निर्विरोध निर्वाचित घोषित किए गए। यह घोषणा नामांकन पत्र वापस लेने की समय सीमा समाप्‍त होने के बाद राज्‍य चुनाव आयोग ने की। श्री ठाकरे पिछले साल नवंबर में महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री बने थे। उनके लिए 27 मई 2020 तक विधानमंडल के किसी भी सदन का सदस्‍य बनना अनिवार्य था।

ICCR ने COVID-19 से लड़ने के लिए यूनाइटेड वी फाइट सोंग किया लॉन्च

भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (Indian Council for Cultural Relations-ICCR) द्वारा United we Fight नामक एक नए गाने (सोंग) का अनावरण किया गया है, जिसमें उषा उथुप और जो अल्वारेस जैसे प्रसिद्ध संगीतकारों ने कार्य किया है है। यह गीत जो अल्वारस द्वारा लिखा और संगीतबद्ध किया गया है और देश भर के कई प्रसिद्ध गायकों द्वारा गाया गया है।इस गाने को लोगों को कोविड-19 के खिलाफ एकजुट होकर लड़ाई लड़ने के लिए आशा का संदेश देने के लिए जारी किया गया है। यह गीत एक संगीत प्रस्तुति है जिसके अंग्रेजी बोल को भारतीय शास्त्रीय संगीत के नोट्स और बीट्स, के साथ 'वसुधैव कुटुम्बकम' की भावना को बढ़ाने के लिए लॉन्च किया गया। विदेश मंत्रालय (MEA) ने इस गाने को पूरी दुनिया को समर्पित किया, जिसके बोल है, United we stand, steadfastly helping, assisting, sharing knowledge, cooperating and coordinating with each other, cutting across boundaries fighting as ONE force against the Corona virus.

जल जीवन मिशन : हरियाणा और जम्मू कश्मीर 2022 तक सभी घरों को नल कनेक्शन प्रदान करेंगे

जल जीवन मिशन का उद्देश्य हर घर को पीने का पानी उपलब्ध कराना है। इसका उद्देश्य प्रत्येक ग्रामीण परिवार को नल कनेक्शन प्रदान करना है। केंद्र सरकार प्राथमिकता के आधार पर मिशन को लागू करेगी। केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों को दो उद्देश्यों को प्राप्त करने के लिए इस मिशन को अपनाने की सलाह दी है। इसमें हर ग्रामीण परिवार को नल का जल कनेक्शन प्रदान करना और स्थानीय लोगों और प्रवासियों को नौकरी के अवसर प्रदान करना शामिल है। इन आदेशों के आधार पर जम्मू और कश्मीर प्रशासन और हरियाणा सरकार ने 2022 तक मिशन को लागू करने की योजना तैयार की है, जबकि राष्ट्रीय लक्ष्य 2024-25 के लिए निर्धारित किया गया है।

प्रधानमंत्री किसान योजना के अंतर्गत लॉकडाउन के दौरान 18 हजार पांच सौ करोड रुपये से अधिक की राशि जारी की गई नौ करोड 25 लाख परिवार लाभान्वित

कृषि मंत्रालय ने पीएम-किसान योजना के तहत 18,517 करोड़ रुपये जारी किए। इससे 9.25 करोड़ परिवारों को लाभ मिलेगा। भारत सरकार ने लॉक डाउन के बाद से अब तक पीएम-किसान योजना के तहत 18,517 करोड़ रुपये जारी किए हैं। यह धनराशि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना योजना के एक हिस्से के रूप में जारी की गई थी। एक तरफ, भारत सरकार लॉकडाउन के दौरान लोगों के जीवन को आसान बनाने के लिए सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत मुफ्त में खाद्यान्न और दालों का वितरण कर रही है। दूसरी तरफ, सरकार रबी फसलों की खरीद कर रही है। इस रबी सीजन 2020-21 के दौरान, भारतीय खाद्य निगम के माध्यम से भारत सरकार ने 269 लाख टन गेहूं की खरीद की है। साथ ही 3.17 लाख टन चना, 3.67 लाख टन सरसों और 1.86 लाख टन तूर की खरीद की गई है।

तमिलनाडु स्‍कूल शिक्षा विभाग ने कोविड-19 महामारी की वजह से बच्‍चों की पढाई को हुए नुकसान की भरपाई के बारे में सिफारिशें करने के लिए एक समिति गठित की

तमिलनाडु स्‍कूल शिक्षा विभाग ने कोविड-19 महामारी की वजह से बच्‍चों की पढाई को हुए नुकसान की भरपाई के बारे में सिफारिशें करने के लिए एक समिति गठित की है। बारह सदस्‍यों वाली इस समिति का अध्‍यक्ष स्‍कूली शिक्षा विभाग के आयुक्‍त को बनाया गया है और इससे टेक्‍नॉलोजी की मदद से बच्‍चों को पढने की सुविधा उपलब्‍ध कराने की कार्ययोजना बनाने को कहा गया है।

भारत में पांच साल से कम आयु के 68% बच्चों की मौत का कारण बाल एवं मातृ कुपोषण

इंडिया स्टेट-लेवल डिसीज बर्डन इनिशिएटिव शीर्षक वाली लैंसेट रिपोर्ट के अनुसार,भारत में पांच साल से कम आयु के 68% बच्चों की मौत का कारण बाल और मातृ कुपोषण है। इस रिपोर्ट में 2000 के बाद से भारत में बाल मृत्यु दर के जिला-स्तरीय रुझानों का पहला व्यापक अनुमान है। इसमें यह भी बताया गया है कि 83% नवजात की मौत जन्म के समय कम वजन और कम गर्भ के कारण हुई। हालांकि देश भर में बाल मृत्यु दर में 2000 से 2017 तक सुधार हुआ है, लेकिन विभिन्न जिलों के बीच असमानताएं भी बढ़ी हैं।

गुजरात जल जीवन मिशन के तहत ग्रामीण पेयजल क्षेत्र में सेंसर आधारित सेवा प्रदाता निरीक्षण प्रणाली शुरू करेगा

गुजरात जल जीवन मिशन (जेजेएम) के तहत ग्रामीण पेयजल क्षेत्र में सेंसर आधारित सेवा प्रदाता प्रणाली का क्रियान्वयन करने को पूरी तरह से तैयार है। इस बारे में राज्य के 2 जिलों में प्रायोगिक क्रियान्वयन पहले से ही जारी है ताकि जलापूर्ति की व्यावहारिकता यानी लंबी अवधि के आधार पर प्रत्येक ग्रामीण घरों में उपलब्ध कराए जा रहे पेयजल की पर्याप्त मात्रा और निर्धारित गुणवत्ता पर नजर रखी जा सके।

डॉ. हर्षवर्धन वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से 32 वें राष्ट्रमंडल स्वास्थ्य मंत्रियों की बैठक में शामिल हुए

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री, डॉ. हर्षवर्धन ने यहां वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से राष्ट्रमंडल के स्वास्थ्य मंत्रियों की 32 वीं बैठक में हिस्सा लिया। बैठक का विषय था- राष्ट्रमंडल द्वारा समन्वित रूप से कोविड-19 के लिए प्रतिक्रिया देना।

आत्मानबीरार गुजरात सहाय योजना

गुजरात, मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने आत्मानबीरार गुजरात सहाय योजना की घोषणा की। लॉकडाउन से प्रभावित छोटे दुकानदारों और स्वरोजगार के लिए यह शुरू की गयी योजना हुई। योजना के तहत, लाभार्थियों को तीन साल के लिए दो प्रतिशत पर एक लाख रुपए जमानत मुक्त ऋण दिया जाएगा।

भारत ने SCO बैठक में भाग लिया

भारत के विदेश मंत्री श्री एस. जयशंकर ने शंघाई सहयोग संगठन के विदेश मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लिया। इस बैठक में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विदेश मंत्रियों ने भाग लिया। चीन और पाकिस्तान के विदेश मंत्री भी बैठक में शामिल हुए। इस बैठक में विदेश मंत्रियों ने COVID-19 संकट और समन्वय प्रयासों पर चर्चा की। उन्होंने संकट के सामाजिक और आर्थिक परिणामों और इससे निपटने के तरीके के बारे में भी चर्चा की। COVID-19 के अलावा, प्रमुख मुद्दे में अफगानिस्तान की स्थिति भी शामिल थी। मंत्रियों ने द्वितीय विश्व युद्ध की आगामी 75वीं वर्षगांठ और संयुक्त राष्ट्र की 75वीं वर्षगांठ के बारे में भी चर्चा की। इसके अलावा सेंट पीटर्सबर्ग, रूस में एससीओ शिखर सम्मेलन की तैयारी पर भी चर्चा की गई। यह 9-10 जून, 2020 को आयोजित किया जायेगा।

डब्ल्यूटीओ प्रमुख व्यक्तिगत कारणों से अपना पद छोड़ेंगे

विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) के प्रमुख राबर्ट ऐजेवेदो ने व्यक्तिगत कारणों से अपना पद कार्यकाल समाप्त होने के एक साल पहले छोड़ने का निर्णय किया है। ब्राजील के पूर्व राजनयिक ऐजेवेदो ने कहा कि वह 31 अगस्त को पद से हट जाएंगे। उनका कार्यकल सात साल के लिये था लेकिन वह एक साल पहले ही अपना पद छोड़ रहे हैं। डब्ल्यूटीओ के महानिदेशक ऐसे समय पद छोड़ रहे हैं जब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का उन पर खासा दबाव है।

इटली ने सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित करने के लिए 'IFeel-You' ब्रेसलेट किया विकसित

जेनोआ स्थित इटैलियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) ने सोशल डिस्टेंसिंग के लिए 'iFeel-You' ब्रेसलेट विकसित किया है। यह ब्रेसलेट उपयोगकर्ताओं को सोशल डिस्टेंसिंग नियमों का पालन करने में मदद करेगा। इस ब्रेसलेट को कोरोनोवायरस लॉकडाउन में सुरक्षा के उपायों के रूप में विकसित किया गया है, जिनमे धीरे-धीरे छुट दी जा रही है। यह ब्रेसलेट केवल एक रेडियो सिग्नल का उपयोग करता ,है जिससे दूसरे ब्रेसलेट ने नजदीक आने का पता चल जाता है, हालाँकि ये जीपीएस का इस्तेमाल नहीं करता है जिसके कारण उपयोगकर्ता की लोकेशन को ट्रैक नहीं किया जा सकता है। यह तभी संकेत देकर याद दिलाता है जब सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन न किया जा रहा होता हैं।

CFTRI ने इम्युनिटी बढ़ाने के लिए विकसित की स्पिरुलिना ग्राउंडनट चिक्की

मैसूरु स्थित केंद्रीय खाद्य प्रौद्योगिकी अनुसंधान संस्थान (Central Food Technological Research Institute-CFTRI) द्वारा महामारी के बीच इम्युनिटी बढ़ाने के लिए स्पिरुलिना ग्राउंडनट चिक्की तैयार की गई है। स्पिरुलिना ग्राउंडनट चिक्की से महामारी के इस कठिन समय में लोगों की इम्युनिटी को बढ़ाने के साथ-साथ सूक्ष्म पोषक तत्व भी प्रदान किए जाएंगे। स्पिरुलिना ग्राउंडनट चिक्की द्वारा प्रदान की जाने वाली वस्तुओं में विटामिन ए, बीटा कैरोटीन और आसानी से पचने वाले कोलीन जैसे सूक्ष्म पोषक तत्व शामिल होते हैं। CFTRI द्वारा बनाई गई स्पिरुलिना ग्राउंडनट चिक्की COVID-19 महामारी के इस समय में बेंगलुरु और इसके आसपास के क्षेत्रों में रहने वाले प्रवासी मजदूरों की प्रतिरक्षा क्षमता को बढ़ाने के उद्देश्य से वितरित की गई है।

Start the Quiz

« Previous Next Affairs »

Current Affairs Quiz

Here you can find Month Wise Quiz.

Quiz

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Exam

Here You can find previous year question paper and model test for practice.

Start Exam

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2020 RajasthanGyan All Rights Reserved.