Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

17 May 2020

बायोडिग्रेडेबल धातुओं से बनी वस्‍तुओं के प्रत्यारोपण के लिए लौह-मैंगनीज आधारित मिश्र धातु विकसित

इंटरनेशनल एडवांस्ड रिसर्च सेंटर फॉर पाउडर मेटलर्जी एण्‍ड न्‍यू मेटिरियल्‍स और श्रीचित्रा तिरुनाल आयुर्विज्ञान संस्‍थान तिरुवनंतपुरम के वैज्ञानिकों ने संयुक्त रूप से इंसानों में बायोडिग्रेडेबल धातुओं से बनी वस्‍तुओं के प्रत्यारोपण के लिए लौह-मैंगनीज आधारित मिश्र धातुओं का विकास किया है। ये बायोडिग्रेडेबल धातु इंसान के शरीर में प्रत्यारोपण के अवशेषों को नहीं छोड़ते हैं, जबकि इस समय उपयोग किए जाने वाले धातु प्रत्यारोपण के अवशेष इंसानी शरीर में स्थायी रूप से रह जाते हैं।

समुद्री और अंतरदेशीय मत्‍स्‍य पालन के लिए बीस हजार करोड रूपए की प्रधानमंत्री मत्‍स्‍य संपदा योजना शुरू की जाएगी।

सरकार, प्रधानमंत्री मत्‍स्‍य संपदा योजना शुरू करेगी इसके लिए 20 हजार करोड रूपये का प्रावधान किया गया है। इसमें से 11 हजार करोड रूपये समुद्री और अंतरदेशीय गतिविधियों के लिए और नौ हजार करोड रूपये फिशिंग हारबर, कोल्‍ड चेन और विपणन जैसे बुनियादी ढांचे के लिए दिया जाएगा। इससे 55 लाख से अधिक लोगों को रोजगार मिलेगा। श्रीमती सीतारामन ने बताया कि मवेशियों के टीकाकरण के लिए 13 हजार 343 करोड रूपये का कोष बनाया गया है। डेयरी प्रसंस्‍करण के लिए 15 हजार करोड रूपये के पशुपालन बुनियादी ढांचा कोष की घोषणा की गई है। हर्बल खेती को बढावा देने के लिए चार हजार करोड रूपये के कोष की घोषणा की गई है। अगले दो वर्ष में इसके तहत दस लाख हेक्‍टेयर भूमि पर हर्बल खेती की जाएगी। मधुमक्‍खी पालन के लिए पांच सौ करोड रूपये का आवंटन किया गया है। इससे दो लाख मधुमक्‍खी पालकों को लाभ होगा। सरकार ने सभी फलों और सब्जियों को आपरेशन ग्रीन के अंतर्गत लाने की घोषणा की है। पहले इसमें, टमाटर, प्‍याज और आलू(TOP) शामिल थे। इसके लिए पांच सौ करोड रूपये की अतिरिक्‍त राशि दी जाएगी।

रक्षा विनिर्माण क्षेत्र में स्‍वचालित रूप से प्रत्‍यक्ष विदेशी निवेश की सीमा उनचास से बढाकर 74 प्रतिशत की गई

वित्तमंत्री निर्मला सीतारामन ने बताया कि रक्षा-विनिर्माण क्षेत्र में स्‍वचालित रूप से प्रत्‍यक्ष विदेशी निवेश की सीमा उनचास प्रतिशत से बढाकर 74 प्रतिशत कर दी गई है। मेक इन इंडिया को बढावा देने के लिए शस्त्रों और उनके कलपुर्जों की सूची बनाई गई है, जिनका अब आयात नहीं होगा और उनका उत्पादन स्‍वदेश में ही किया जाएगा। सरकार इस तरह के आयात को रोकने के लिए वार्षिक आधार पर योजना बनाएगी और उसे अधिसूचित करेगी। उन्होंने आयुद्ध कारखाना बोर्ड के निगमीकरण की घोषणा की, ताकि शस्त्रों की आपूर्ति से संबंधित निर्णय लेने की प्रकिया को बेहतर बनाया जा सके तथा जवाबदेही और दक्षता सुनिश्चित की जा सके।

दिल्ली पुलिस ने कोरोना योद्धाओं के लिए लॉन्च किया "थर्मल कोरोना कॉम्बैट हेडगियर"

दिल्ली पुलिस ने इंडियन रोबोटिक्स सॉल्यूशन (IRS) के सहयोग से थर्मल कोरोना कॉम्बैट हेडगियर नामक एक नया उपकरण लॉन्च किया है। इस उपकरण को COVID-19 से फ्रंटलाइन कोरोना योद्धाओं को सुरक्षित रखने के लिए लॉन्च किया गया है। यह अनूठा उपकरण पुलिस कर्मियों को 10-15 मीटर की दूरी से ही बड़ी संख्या में लोगों के तापमान का पता लगाने में सक्षम बनाता है और सोशल डिस्टेंसिंग के मानदंडों पालन करने में भी मदद करेगा। थर्मल कोरोना कॉम्बैट हेडगियर फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं को अस्पतालों, सुपरमार्केट और भीड़-भाड़ वाले क्षेत्रों जैसे सार्वजनिक क्षेत्रों में उनके संपर्क में आए बिना लोगों को स्कैन करने में सक्षम बनाएगा। साथ ही इसमें केंद्रीकृत नियंत्रण केंद्र को सीधे लाइव इमेजरी भेजने की सुविधा भी है। इसके अलावा, दिल्ली पुलिस ने थर्मल कोरोना कॉम्बैट ड्रोन (टीसीसीडी) को भी लॉन्च किया है। इसमें ड्रोन में लगे day-vision camera की मदद से कर्मियों की वास्तविक छवि को देखने में मदद मिल सकती है। इसमें निर्देश देने के लिए लाउडस्पीकर भी लगा है।

राष्ट्रीय प्रोद्योगिकी संस्थान (एनआईटी), कुरूक्षेत्र में उद्यम संसाधन योजना (ईआरपी) “समर्थ” लागू किया गया

मानव संसाधन विकास मंत्रालय के उच्च शिक्षा विभाग का सभी विश्वविद्यालयों और उच्च शैक्षिक संस्थानों (एचईआई) में छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने का मिशन है। इसके लिए मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने सूचना और संचार प्रौद्योगिकी योजना (एनएमईआईसीटी) में राष्ट्रीय शिक्षा मिशन के के तहत एक ई-गवर्नेंस प्लेटफॉर्म “समर्थ” (एंटरप्राइज रिसोर्स प्लानिंग-ईआरपी) विकसित किया है। ईआरपी, समर्थ सभी विश्वविद्यालयों और उच्च शैक्षिक संस्थानों के लिए एक खुला मानक खुला स्रोत संरचना, सुरक्षित, आरोह्य और विकासवादी प्रक्रिया स्वचालन यन्त्र है। यह विश्वविद्यालय / उच्च शैक्षिक संस्थानों में संकाय, छात्रों और कर्मचारियों की आवश्यकताओं को पूरा करता है। अब, ईआरपी, समर्थ को राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कुरुक्षेत्र में कार्यान्वित किया गया है, जो विश्व बैंक द्वारा समर्थित तकनीकी शिक्षा गुणवत्ता सुधार कार्यक्रम (टीईक्यूआईपी) के तहत भाग लेने वाली इकाई है। इस पहल का उद्देश्य संस्थान की प्रक्रियाओं को स्वचालित करना है।

पश्चिम बंगाल सरकार ने दो नई योजनाओं की घोषणा की- 'स्नेह पोरोश' और 'प्रोचेस्टा'

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दो योजनाओं प्रवासियों को सहायता प्रदान करने के लिए 'स्नेह पोरोश' और बंगाल के असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों की मदद करने के लिए उन्हें लॉकडाउन स्थिति में अपना जीवन यापन करने में सक्षम बनाने के लिए 'प्रोचेस्टा' की शुरुआत की।

केंद्र ने राज्यों से कहा है कि प्रवासियों की आवाजाही पर जानकारी कैप्चर करने और बेहतर अंतर-राज्य समन्वय के लिए NMIS का उपयोग करें

केंद्र ने राज्यों से कहा है कि प्रवासियों की आवाजाही पर जानकारी कैप्चर करने और बेहतर अंतर-राज्य समन्वय के लिए ऑनलाइन पोर्टल राष्ट्रीय प्रवासी सूचना प्रणाली- NMIS का उपयोग करें। केंद्रीय गृह सचिव, अजय भल्ला ने राज्य के मुख्य सचिवों को लिखे पत्र में कहा है कि प्रवासियों की आवाजाही के बारे में जानकारी हासिल करने और राज्यों में फंसे लोगों के सुगम आवागमन की सुविधा के लिए, राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) ने एक ऑनलाइन डैशबोर्ड NMIS मौजूदा NDMA-GIS पोर्टल पर विकसित किया है।

कोरोना संकट: भारत को वेंटिलेटर दान करेगा अमेरिका

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने कहा है कि मुझे ये कहते हुए गर्व महसूस हो रहा है कि अमेरिका अपने दोस्त भारत को वेंटिलेटर दान करेगा। हम इस महामारी के दौरान भारत और पीएम मोदी के साथ खड़े हैं। हम टीके को विकसित करने पर भी सहयोग कर रहे हैं। मिलकर हम इस ना दिखने वाले दुश्मन को हरा देंगे।

तमिलनाडु सरकार की आरोग्‍य योजना त्रिच्‍ची, करूर, अरियालूर और पेरम्‍बलूर जैसे कावेरी थाले के जिलों में संचालित

पारम्‍परिक दवाओं और जड़ी-बूटियों से शरीर की रोग प्रतिरोध क्षमता बढ़ाने की तमिलनाडु सरकार की आरोग्‍य योजना त्रिच्‍ची, करूर, अरियालूर और पेरम्‍बलूर जैसे कावेरी थाले के जिलों में संचालित की जा रही है। यह योजना केन्‍द्रीय आयुष मंत्रालय द्वारा संचालित की जा रही इसी तरह की योजनाओं के अनुरूप है।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के चार वर्ष पूरे हुए

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना मई, 2016 में शुरू की गई थी। इस योजना ने इसके कार्यान्वयन के चार साल सफलतापूर्वक पूरे कर लिए हैं। इस योजना ने अब तक 8 करोड़ से अधिक परिवारों की मदद की है। इस योजना के तहत लगभग 8,432 करोड़ रुपये प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण (डीबीटी) के माध्यम से स्थानांतरित किए गए हैं। इस सफलता को चिह्नित करने के लिए 16 मई, 2020 को केंद्रीय मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने 1500 लाभार्थियों के साथ बातचीत की।

IIT गांधीनगर द्वारा विकसित किया गया “MIR AHD Covid-19 Dashboard”

आईआईटी गांधीनगर के शोधकर्ताओं द्वारा MIR AHD Covid-19 Dashboard नामक एक इंटरैक्टिव COVID-19 डैशबोर्ड विकसित किया गया है। डैशबोर्ड का उद्देश्य इस संकट के समय अनुसंधान समर्थित निर्णय लेने के लिए हितधारकों और जनता को महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करना है। यह इंटरेक्टिव डैशबोर्ड कोरोनवायरस की अनुसार टेस्टिंग की योजना बनाने में प्रशासन, अस्पतालों और लोगों की सहायता करने में सक्षम है। साथ ही, यह लॉकडाउन के बाद विभिन्न परिदृश्यों में सामुदायिक संक्रमण को रोकने में भी मदद कर सकता है। “MIR AHD Covid-19 डैशबोर्ड” शहरी स्तर पर विभिन्न महामारी विज्ञान परिदृश्य-विशिष्ट जानकारी प्रदान करता है और जटिल सामाजिक और अत्याधुनिक महामारी फैलाने वाले मॉडल के साथ पैटर्न को जोड़ता है। यदि drive-through testing को लागू करने का निर्णय लिया जाता है तों यह शहर के सबसे महत्वपूर्ण इलाकों की जानकारी हितधारकों के साथ साझा करने में भी सक्षम है।

वैज्ञानिकों ने कोविड-19 का मुकाबला करने के लिए मोबाइल इनडोर डिस्इंफेक्शन स्प्रेयर विकसित किया

सीएसआईआर-सेंट्रल मैकेनिकल इंजीनियरिंग इंस्टीच्यूट (सीएमईआरआई), डुंगरपुर के वैज्ञानिकों ने कोविड-19 का मुकाबला करने के लिए दो मोबाइल इनडोर डिस्इंफेक्शन स्प्रेयर इकाइयों का विकास किया है। इन इकाइयों का उपयोग विशेष रूप से अस्पतालों में प्रभावी तरीके से पैथाजेनिक माइक्रो-आर्गेनिज्म की सफाई एवं डिस्इंफेक्ट करने के लिए किया जा सकता है। बैट्री पावर्ड डिस्इंफेक्ट स्प्रेयर (बीपीडीएस) एवं न्यूमैटिकली आपरेटेड मोबाइल इनडोर डिस्इंफेक्शन (पीओएमआईडी) नामक इन दोनों इकाइयों का उपयोग टेबल, डोरनाब, लाइट स्विच, काउंटरटाप्स, हैंडल, डेस्क, फोन, कीबोर्ड, शौचालयों, फौकेट्स, सिंक एवं कार्डबोर्ड जैसे अक्सर छूए जाने वाले सतहों की सफाई एवं डिस्इंफेक्ट करने के लिए किया जा सकता है।

केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री ने ई-लॉन्च किए NBT की कोरोना स्टडीज़ श्रृंखला के 7 नए टाईटल

केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने एनबीटी इंडिया द्वारा प्रकाशित की गई कोरोना स्टडीज़ सीरिज के अंतर्गत 7 प्रिंट और ई-संस्करण शीर्षक ई-लॉन्च किए हैं। ये 7 शीर्षक Psycho-Social impact of pandemic & lockdown and how to Cope With पर आधारित हैं। नेशनल बुक ट्रस्ट इंडिया ने कोरोना स्टडीज़, कोरोना रीडरशिप की जरूरत को देखते हुए सभी आयु-समूहों के लिए प्रासंगिक पाठन सामग्री प्रदान करने के लिए श्रृंखला की अवधारणा की है। पुस्तकों की पहली श्रंखला ‘Psycho-Social Impact of Pandemic और How to Cope With’ पर केंद्रित है, जिसे एक अध्ययन समूह द्वारा बनाया गया है जिसमें एनबीटी द्वारा गठित सात मनोवैज्ञानिक और परामर्शदाता शामिल हैं। पहली उप-श्रृंखला के सात शीर्षक इस प्रकार हैं:

  1. Vulnerable in Autumn: Understanding the Elderly
  2. The Future of Social Distancing: New Cardinals for Children, Adolescents and Youth
  3. The Ordeal of Being Corona Warriors: An Approach to Medical and Essential Service Providers
  4. New Frontiers At Home: An Approach to Women, Mothers and Parents
  5. Caught in Corona Conflict: An Approach to the Working Population
  6. Making Sense of It All: Understanding the Concerns of Persons With Disabilities
  7. Alienation And Resilience: Understanding Corona Affected Families

‘टूर ऑफ ड्यूटी’ पूरी करके आने वाले युवाओं को नौकरी देंगे आनंद महिंद्रा

भारतीय उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने कहा कि ‘टूर ऑफ ड्यूटी’ से जो युवा लौटकर आएंगे उनको उनका ग्रुप नौकरी देने में प्रसन्नता का अनुभव करेगा। सेना ने इस तरह का एक प्रस्ताव तैयार किया है कि आम युवाओं को सेना में तीन साल की सेवा का मौका दिया जाए।

COVID-19: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 1 साल के लिए अपना 30% वेतन दान करेंगे

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने हाल ही में घोषणा की कि वे अपने वेतन का 30% COVID-19 के खिलाफ लड़ाई में भारत सरकार की सहायता के लिए दान करेंगे। राष्ट्रपति भवन पैसे बचाने और इस लड़ाई में मदद करने के लिए राष्ट्रपति के निर्देश का पालन करेगा। यह COVID-19 के खिलाफ लड़ने के लिए खर्च को कम करने और पैसे बचाने के लिए एक उदाहरण स्थापित करने के लिए किया जा रहा है। केंद्रीय बजट 2018 ने देश के राष्ट्रपति और उपाध्यक्ष के वेतन में वृद्धि की। वर्तमान में, भारत के राष्ट्रपति का वेतन प्रति माह 5 लाख है। बढ़ाने से पहले, यह प्रति माह 1.5 लाख रुपये था। साथ ही, उपाध्यक्ष का वेतन 1.10 लाख रुपये से बढ़ाकर 4 लाख रुपये कर दिया गया। राज्य के राज्यपालों का वेतन भी बढ़ाकर 3.5 लाख रुपये कर दिया गया।

वित्‍तमंत्री निर्मला सीतारामन ने आत्‍मनिर्भर भारत निर्माण के लिए आठ क्षेत्रों में ढांचागत सुधारों की घोषणा की

वित्‍त मंत्रालय ने कोविड-19 से प्रभावित देश की अर्थव्‍यवस्‍था को पटरी पर लाने के लिए घोषित आर्थिक पैकेज के सिलसिले में कई घोषणाएं की हैं। वित्‍तमंत्री ने बताया कि आठ क्षेत्रों - कोयला, खनिज, रक्षा उत्‍पादन, नागर विमानन, विद्युत प्रेषण कंपनियों, अंतरिक्ष क्षेत्र और परमाणु ऊर्जा पर विशेष ध्‍यान केंद्रित करते हुए ढांचागत सुधार किए जाएंगे।

सिक्किम का 45वां राज्य दिवस मनाया गया

16 मई, 2020 को सिक्किम ने अपना 45वां राज्य दिवस मनाया। प्रतिवर्ष 16 मई को सिक्किम अपना राज्य दिवस मनाता है क्योंकि 1975 में इसी दिन यह राज्य अस्तित्व में आया था। 1947 में भारत के स्वतंत्र होने के बाद, सिक्किम ने भारत के साथ रक्षा का दर्जा प्राप्त करना जारी रखा। हालाँकि 1973 में राज्य में शाही विरोधी दंगे हुए। अंततः 1975 में सम्राट को पदच्युत कर दिया गया। एक जनमत संग्रह के द्वारा यह भारत में शामिल हो गया। सिक्किम भारत में शामिल होने वाला 22वां राज्य था। सिक्किम की सीमाएँ तीन देशों अर्थात् चीन, भूटान और नेपाल से लगती हैं।

16 मई : अंतर्राष्ट्रीय प्रकाश दिवस

प्रतिवर्ष 16 मई को यूनेस्को द्वारा अंतर्राष्ट्रीय प्रकाश दिवस मनाया जाता है। 1960 में लेज़र के पहले सफल ऑपरेशन को चिह्नित करने के लिए दिन मनाया जा रहा है। पहला सफल लेजर ऑपरेशन एक इंजीनियर और भौतिक विज्ञानी थियोडोर मैमन द्वारा किया गया था। यह दिन कला, संस्कृति, विज्ञान, सतत विकास और शिक्षा में प्रकाश की भूमिका का जश्न मनाता है। इस दिन को इंटरनेशनल बेसिक साइंस प्रोग्राम द्वारा प्रशासित किया जाता है जो यूनेस्को द्वारा संचालित किया जाता है। इंटरनेशनल बेसिक साइंस प्रोग्राम की स्थापना यूनेस्को और उसके सदस्य राष्ट्रों द्वारा की गई थी।

अमेरिकी सशस्त्र सेना दिवस 2020: 16 मई

हर साल मई महीने के तीसरे शनिवार को US Armed Forces Day यानि अमेरिकी सशस्त्र सेना दिवस मनाया जाता है। इस साल यह 16 मई को मनाया जाएगा। यह दिन अमेरिकी सशस्त्र बल में सेवा करने वाले पुरुषों और महिलाओं के सम्मान में मनाया जाता है। अमेरिकी राष्ट्रपति हैरी एस. ट्रूमैन द्वारा सशस्त्र सेना दिवस को शुरू करने का प्रयास किया गया था। 31 अगस्त 1949 को, रक्षा सचिव लुई जॉनसन ने अलग-अलग सेना, नौसेना, मरीन कॉर्प्स, अमेरिकी तटरक्षक बल और वायु सेना के दिनों का आपस में तालमेल बनाने के रूप सशस्त्र सेना दिवस बनाने की घोषणा की। पहला सशस्त्र सेना दिवस 20 मई 1950 को मनाया गया था। सशस्त्र सेना दिवस की परेड वाशिंगटन के ब्रेमरटन में आयोजित की गई थी। जॉन एफ. कैनेडी ने साल 1961 में सशस्त्र सेना दिवस को राष्ट्रीय अवकाश घोषित किया।

बांग्लादेश के प्रख्यात साहित्यकार और प्रोफेसर अनीसुज्जमान का निधन

बांग्लादेश के प्रख्यात साहित्यकार, शिक्षाविद् और प्रोफेसर अनीसुज्जमान का निधन। वह वर्ष 2012 से बंगला अकादमी के अध्यक्ष थे। वह एक स्वंत्रता सेनानी थे और उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ भाषा आंदोलन में भी भाग लिया था। प्रोफेसर अनीसुज्जमां ने अपने शानदार करियर में शिक्षाविद्, अकादमिक, लेखक और सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में विभिन्न पुरस्कार प्राप्त किए। उन्हें 1985 में एकुशी पदक से सम्मानित किया गया था और 2014 में भारत सरकार द्वारा उन्हें पद्म भूषण पुरस्कार से भी सम्मानित किया जा चुका है।

साहित्य अकादमी से सम्मानित बंगाली लेखक देवेश रॉय का निधन

लेखक के रूप में पांच दशक लिखने वाले दिग्गज बंगाली लेखक देवेश रॉय का निधन। उन्हें उनके उपन्यास 'Teesta Parer Brittanto' के लिए साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। देवेश रॉय की पहली पुस्तक जाजति (Jajati) थी, और कई बंगाली दैनिकों में उनका नियमित योगदान भी रहता था। उन्होंने विभिन्न प्रसिद्ध पुस्तकों जैसे कि Borisaler Jogen Mondal, Manush Khun Kore Keno, और Samay Asamayer Brittanto आदि का लेखन भी किया था।

Start the Quiz

« Previous Next Affairs »

Current Affairs Quiz

Here you can find Month Wise Quiz.

Quiz

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Exam

Here You can find previous year question paper and model test for practice.

Start Exam

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2020 RajasthanGyan All Rights Reserved.