Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

23 September 2020

डी.आर.डी.ओ. ने अभ्‍यास नाम के तेज रफ्तार एक्‍सपेंडेबल एरियल टारगेट यान का सफल उडान परीक्षण किया

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन--डी.आर.डी.ओ. ने अभ्‍यास नाम के हाई-स्पीड एक्‍सपेंडेबल एरियल टारगेट यान(एचईएटी) का सफल उडान परीक्षण किया। ओडिसा में बालेश्‍वर के अंतरिम परीक्षण केंद्र में किए गए इस परीक्षण के दौरान दो परीक्षण यानों को सफलतापूर्वक उडाया गया जिनका उपयोग विभिन्‍न मिसाइल प्रणालियों की क्षमताओं के आकलन के लिए लक्ष्‍य के रूप में किया जाता है। अभ्यास को वैमानिकी विकास प्रतिष्ठान (एडीई), डीआरडीओ द्वारा डिजाइन और विकसित किया गया है। एयर वाहन को ट्विन अंडरस्लैंग बूस्टर का उपयोग करके लॉन्च किया गया है। यह एक छोटे गैस टरबाइन इंजन द्वारा संचालित है और इसमें मार्गदर्शन और नियंत्रण के लिए उड़ान नियंत्रण कंप्यूटर (एफसीसी) के साथ नेविगेशन के लिए एमईएमएस आधारित इनरट्रियल नेविगेशन सिस्टम (आईएनएस) है। वाहन को पूरी तरह से स्वायत्त उड़ान के लिए क्रमादेशित किया गया है। एयर व्हीकल की जांच लैपटॉप आधारित ग्राउंड कंट्रोल स्टेशन (जीसीएस) का उपयोग करके की जाती है।

सरकार ने विश्व गेंडा दिवस के अवसर पर एक सींग वाले गेंडों के लिए राष्ट्रीय संरक्षण रणनीति शुरू की

विश्व गैंडा दिवस प्रति वर्ष 22 सितंबर को मनाया जाता है। इसका उद्देश्य जंगली जीवों की इस प्रजाति के संरक्षण और इसके प्रवास के महत्व को उल्लेखित करना है। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि भारत में एक सींग वाले गैंडों की संख्‍या सबसे अधिक है। असम, पश्चिम बंगाल और उत्‍तर प्रदेश में एक सींग वाले 3000 गैंडे हैं। अपने संदेश में श्री जावडेकर ने कहा कि पर्यावरण मंत्रालय ने भारत के एक सींग वाले गैंडों के लिए राष्‍ट्रीय संरक्षण रणनीति शुरू की है। उन्होंने कहा कि गैंडों के संरक्षण की पहल से चारागाह भूमि का प्रबंधन भी समृद्ध हुआ है। भारत ने एक सींग वाले गैंडों के संरक्षण के लिए पिछले वर्ष राष्‍ट्रीय संरक्षण रणनीति की शुरुआत की थी। इस प्रजाति के संरक्षण के लिए ये अपनी तरह का पहला प्रयास है, जो पांच उद्देश्‍यों को लेकर काम करता है। एक सींग वाले गेंडे 20वीं सदी के शुरू में लगभग विलुप्‍त हो रहे थे और इनकी संख्‍या घटकर दो सौ से भी कम रह गई थी। यह एशिया की ऐसी एकमात्र स्‍तनधारी प्रजाति है जिसे 2008 में इंटरनेशनल यूनियन फॉर कंजर्वेशन ऑफ नेचर की सूची में विलुप्‍तप्राय से असुरक्षित प्रजाति की रेड सूची में डाला दिया गया था।

मध्य प्रदेश में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की तर्ज पर मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना शुरू की जा रही है

मध्य प्रदेश में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की तर्ज पर मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना शुरू की जा रही है। इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को चार हजार रुपये की अतिरिक्त वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।

तमिलनाडु आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI), ब्लॉकचैन और साइबर स्पेस पॉलिसी पर नीतियों वाला पहला भारतीय राज्य बना

तमिलनाडु राज्य पहला भारतीय राज्य बना है जो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI), ब्लॉकचैन और साइबर स्पेस पॉलिसी पर नीतियों का परिचय देता है। एडापड्डी के पलानीस्वामी ने तमिलनाडु साइबर सुरक्षा नीति, 2020, तमिलनाडु ब्लॉकचैन नीति, 2020 और तमिलनाडु सेफ एंड एथिकल आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पॉलिसी, 2020 (Nicknamed as ABC Policies) को कनेक्ट 2020 में उजागर किया है।

टिहरी झील में साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए ITBP ने उत्तराखंड सरकार के साथ भागीदारी की

भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) की ओर से साहसिक खेल अकादमी टिहरी में विभिन्न साहसिक खेलों का प्रशिक्षण दिया जाएगा। आईटीबीपी और पर्यटन विभाग उत्तराखंड सरकार के बीच इसको लेकर एमओयू साइन हुआ, जिसके बाद यह अकादमी आईटीबीपी को हस्तांतरित हो जाएगी। आईटीबीपी के पास साहसिक खेलों का बेहतर अनुभव है, जिसका लाभ अब इस अकादमी को भी मिलेगा।

जम्मू-कश्मीर ने किश्तवाड़ हवाई पट्टी के संचालन के लिए सेना के साथ समझौता ज्ञापन किया

जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 और 35A की समाप्ति के बाद विकास कार्यों की रफ्तार तेज हुई है। इसी क्रम में सेना और जम्मू-कश्मीर प्रशासन के बीच किश्तवाड़ में हवाई पट्टी बनाने और उसके ऑपरेशन के लिए MOu साइन हुआ। भूमि और सुरक्षा से जुड़े विषयों के कारण 2018 से योजना अटकी पड़ी थी। किश्तवाड़ में वर्तमान में मौजूद सेना की हवाई पट्टी को विकसित कर हवाई अड्डा बनाया जाएगा।

ग्रीनहाउस गैसों के उत्सर्जन से वैश्विक समुद्र स्तर 15 इंच बढ़ जाएगा:नासा

नासा के नेतृत्व में किये गये एक अध्ययन के मुताबिक यदि ग्रीनहाउस गैसों का उत्सर्जन वर्ष 2100 तक बढ़ना जारी रहता है, तो ग्रीनलैंड और अंटार्कटिका में बर्फ पिघलने से वैश्विक समुद्र स्तर 38 सेंटीमीटर(15 इंच) से अधिक बढ़ सकता है। नासा ने कहा कि अध्ययन के यह निष्कर्ष जलवायु परिवर्तन पर अंतरसरकारी समिति (आईपीसीसी) 2019 की समुद्र और ‘क्रायोस्फेयर’ या पृथ्वी की सतह--जहां जल ठोस रूप में है, पर विशेष रिपोर्ट के अनुरूप है। इसमें कहा गया है कि हिम शैल के पिघलने से वैश्विक समुद्र स्तर में करीब एक तिहाई वृद्धि हो सकती है। आईपीसीसी की रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि ग्रीनलैंड 2000-2100 के बीच वैश्विक समुद्र स्तर को आठ से 27 सेंमी तथा अंटार्कटिका तीन से 28 सेंमी बढ़ा सकता है। यह अध्ययन द क्रायोस्फेयर जर्नल में प्रकाशित हुआ है। ये निष्कर्ष नासा के गोडार्ड स्पेस फ्लाइट सेंटर नीत ‘आइस शीट मॉडल इंटरकम्पैरिजन प्रोजेक्ट’ (आईएसएमआईपी6) से आये हैं।

डॉ गिरिजा शंकर मुंगाली को एशियाई फुटबॉल परिसंघ की टास्क फोर्स के सदस्य के रूप में चुना गया

पुणे में रहने वाले नैनीताल मूल के उद्योगपति एवं सेवानिवृत्त कर्नल डॉ.गिरिजा शंकर मुनगली को एशिया महाद्वीप में फुटबॉल की सबसे बड़ी संस्था एशियाई फुटबॉल कंफेडरेशन ने अपनी सात सदस्यीय टास्क फोर्स का सदस्य मनोनीत किया है। अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल में यह एक महत्वपूर्ण जिम्मेदारी है।

ओ-स्मार्ट योजना: 25 हिंद महासागर देशों में सेवाएं प्रदान करने वाली सुनामी प्रारंभिक चेतावनी केंद्र

केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी, पृथ्वी विज्ञान तथा स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने हाल ही में राज्यसभा में एक लिखित जवाब दिया। उनके उत्तर के अनुसार, भारतीय सूनामी प्रारंभिक चेतावनी केंद्र वर्तमान में 25 भारतीय महासागर देशों को सेवाएं प्रदान कर रहा है। यह पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की O-SMART योजना के तहत कार्यान्वित किया जा रहा है। O-SMART का पूर्ण स्वरुप Ocean Services, Modelling, Applications, Resources and Technology scheme है। यह प्रणाली भारतीय विशेष आर्थिक क्षेत्र में समुद्री जीवन संसाधनों पर जानकारी उत्पन्न और अद्यतन करती है। यह प्रणाली मुक्त जल प्रदूषकों की निगरानी करती है। यह डेटा तब भारत के तटीय जल के स्वास्थ्य मूल्यांकन के लिए उपयोग किया जाता है। यह समुद्र अवलोकन प्रणालियों की विस्तृत श्रृंखला विकसित करती है। ये प्रणालियां भारत में समुद्र से वास्तविक समय के डेटा को प्राप्त करने में मदद करती हैं। यह समाज के लाभ के लिए चेतावनी, सलाह और उपयोगकर्ता-उन्मुख महासागरीय जानकारी प्रदान करती है। यह महासागर पूर्वानुमान और पुनर्विश्लेषण प्रणाली विकसित करती है। यह योजना उन प्रौद्योगिकियों को विकसित करती है जिनका उपयोग समुद्री जैव संसाधनों के लिए किया जाता है। यह एल्गोरिदम प्रदान करता है जो तटीय अनुसंधान से संबंधित उपग्रह डेटा के वेलिडेशन करने में मदद करता है। यह तटीय इलाकों में जल उपचार सुविधाओं की स्थापना के लिए जिम्मेदार है।

एचडीएफसी बैंक ने की वीडियो KYC सुविधा की शुरुआत

एचडीएफसी बैंक ने अपने ग्राहकों के लिए वीडियो KYC (Know Your Customer) सुविधा की शुरूआत की है। सहमति-आधारित वीडियो केवाईसी सुविधा एक सकुशल और सुरक्षित माहौल में खाता खोलने की प्रक्रिया के दौरान संभावित ग्राहक की पहचान प्रमणित करने का एक वैकल्पिक तरीका है। भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) के निर्देशों के अनुसार, वीडियो केवाईसी पूरा होने पर यह केवाईसी के बराबर है और ग्राहक इसके बाद सभी वित्तीय / बैंकिंग उत्पादों के लिए योग्य होंगे। एचडीएफसी बैंक वीडियो केवाईसी सुविधा चरणबद्ध तरीके से शुरू की जाएगी। पहले चरण में, बचत और कॉर्पोरेट सैलरी और पर्सनल ऋण ग्राहक इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। वीडियो केवाईसी प्रक्रिया ऑनलाइन, सुरक्षित और एक त्वरित सुविधा है। यह बैंक अधिकारी और ग्राहक के बीच एक पेपरलेस, संपर्क रहित और रिकॉर्ड रखी गई बातचीत है।

वोल्वो कार इंडिया ने लॉन्च की वोल्वो कार फाइनेंसियल सर्विस

वॉल्वो कार इंडिया ने अपने वाहनों के लिए ग्राहकों को आसान फाइनेंस सुविधा उपलब्ध कराने के लिए वोल्वो कार फाइनेंसियल सर्विस शुरू करने के लिए एचडीएफसी बैंक के साथ साझेदारी की है। इस सुविधा के अंतर्गत कार की एक्स-शोरूम कीमत की 100% तक फाइनेंस सुविधा दी जाएगी, और साथ ही विशिष्ट शर्तों के तहत कोई फॉरक्लोजर चार्ज नही लिया जाएगा। यह वोल्वो कार को फाइनेंस कराने के लिए एक तेज, आसान और लागत-अनुकूलित समाधान है। वोल्वो कार फाइनेंसियल सर्विस की अन्य विशेषताओं में 7 साल तक का ऋण सहित बीमा, अधिक वारंटी, सर्विस पैकेज और सहायक उपकरण को फाइनेंस करने जैसी सुविधाए भी शामिल हैं। यह खरीदारों को एक आसान फाइनेंस अनुभव प्रदान करते हुए जल्दी ऋण अनुमोदन और एक समान प्रसंस्करण शुल्क की अनुमति देता है।

IDFC म्यूचुअल फंड ने शुरू किया 'SIP In Fixed Income' अभियान

IDFC म्यूचुअल फंड ने SIFI अथवा 'SIP in Fixed Income' नामक एक नया अभियान शुरू किया है। SIFI नामक नया कैंपेन निवेशकों को सिस्टेमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान्स के जरिए फिक्स्ड इनकम प्रॉडक्ट्स में निवेश के फायदों के बारे में जागरूक करने के लिए शुरू किया गया है। SIFI बेहतर जोखिम-समायोजित रिटर्न दिलाने में मदद करेगा, और डेब्ट फंड SIP इक्विटी बाजारों में उच्च अस्थिरता के प्रभाव को कम करने में मदद कर सकता है, जिससे आवंटन को संतुलित किया जा सकता है। आईडीएफसी म्यूचुअल फंड की SIFI पहल का उद्देश्य निवेशकों को यह जानकरी देना है कि इक्विटी और डेट एसआईपी का संयोजन उन्हें कठिन समय में नेविगेट करने में कैसे मदद कर सकता है।

HCL और Google क्लाउड ने HCL के एक्टियन के लिए की साझेदारी का विस्तार करने की घोषणा

एचसीएल टेक्नोलॉजीज और गूगल क्लाउड ने एचसीएल के एक्टियन पोर्टफोलियो, एक्टियन एवलांच को गूगल क्लाउड पर लाने के लिए अपनी रणनीतिक साझेदारी के विस्तार की घोषणा की है। एक्टियन एवलांच एक हाई-परफॉर्मेंस हाइब्रिड क्लाउड डेटा वेयरहाउस है, जिसे एंटरप्राइज के सबसे ज्यादा डिमांडिंग ऑपरेशनल एनालिटिक्स वर्कलोड को पावर देने के लिए विकसित किया गया है। एक्टियन एवलांच, Google क्लाउड के एंथोस एप्लिकेशन प्लेटफ़ॉर्म का लाभ उठाने वाले हाइब्रिड क्लाउड के माध्यम से, Google क्लाउड पर IBM Netezza और Oracle Exadata सहित पुराने डेटा वेयरहाउस को स्थानांतरित करने के लिए एक आसान रास्ता प्रदान करता है। HCL के एक्टियन एवलांच हाइब्रिड क्लाउड डेटा वेयरहाउस को धोखाधड़ी का पता लगाने, रीयल-टाइम ऑफ़र और मार्केट बास्केट विश्लेषण सहित विभिन्न प्रकार के उपयोग मामलों के लिए व्यावसायिक जटिलताओं को प्रबंधित करने के लिए शक्तिशाली अंतर्दृष्टि प्रदान करने के लिए 500 फॉर्च्यून ग्राहकों द्वारा तैनात किया गया है। एक्टियन एवलांच को Google क्लाउड पर लाने से उद्यम ग्राहकों को प्लेटफ़ॉर्म के स्केलेबल, उच्च-प्रदर्शन बुनियादी ढांचे और वैश्विक नेटवर्क का लाभ उठाने में सक्षम बनाएगा।

पूर्व रक्षा मंत्री बाह एनडॉ को माली के अंतरिम राष्ट्रपति के रूप में नामित किया

माली के पूर्व रक्षा मंत्री, बाह एनडॉ को देश की नई संक्रमण सरकार के अध्यक्ष के रूप में नामित किया गया है। कालोनेल असिमी गोइता, नेशनल कमेटी फॉर द साल्वेशन ऑफ द पीपल (CNSP) की नेता, जिसने माली के राष्ट्रपति इब्राहिम बाउबकर कीता का तख्ता पलट किया, को उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया।

नागपुर में कोरोणा संक्रमित पुलिसकर्मियों के लिए अलग अस्‍पताल बनाया गया

नागपुर में कोविड-19 से संक्रमित होने वाले पुलिसकर्मियों के लिए एक अलग अस्‍पताल बनाया गया है। नागपुर में इस समय करीब 10 प्रतिशत पुलिसकर्मी कोरोना वायरस से संक्रमित है। पुलिस कर्मियों के लिए समर्पित कोविड -19 अस्पताल आईसीयू और अन्य आवश्यक उपकरणों से सुसज्जित है। नागपुर के पुलिस आयुक्त अमितेश कुमार ने कहा कि अस्पताल पुलिस बल का मनोबल बढ़ाएगा, यह उन्हें अच्छा इलाज प्रदान करेगा।

किसानों की समस्याएं कम करेगा पीक पहानी मोबाइल ऐप : मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि राज्य सरकार का पीक पहानी मोबाइल ऐप किसानों की समस्याएं कम करेगा और उनके उत्पादों का समुचित मूल्य और बेहतर बाजार उपलब्ध कराएगा। यह ऐप टाटा ट्रस्ट ने विकसित किया है।

राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद 24 सितंबर, 2020 को वर्ष 2018-19 के लिए राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) पुरस्कार प्रदान करेंगे

राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद 24 सितंबर, 2020 को राष्ट्रपति भवन, नई दिल्ली में वर्चुअल माध्यम से वर्ष 2018-19 के लिए राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) पुरस्कार प्रदान करेंगे। केंद्रीय युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्री, श्री किरेन रिजिजू नई दिल्ली के विज्ञान भवन से होने वाले इस समारोह में शामिल होंगे। वर्ष 2018-19 के लिए राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) पुरस्कार 3 विभिन्न श्रेणियों में 42 विजेताओं को दिया जाएगा जैसे विश्वविद्यालय/ +2 परिषद, एनएसएस इकाइयां और उनके कार्यक्रम अधिकारी और एनएसएस स्वयंसेवक।

विश्व के नंबर एक खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने विश्व रैंकिंग में नंबर एक पर रहते हुए 287वें सप्ताह में प्रवेश कर लिया है

विश्व के नंबर एक खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने इटालियन ओपन खिताब जीतने के बाद विश्व रैंकिंग में नंबर एक पर रहते हुए 287वें सप्ताह में प्रवेश कर लिया है और इसके साथ ही उन्होंने अपने आदर्श अमरीका के पीट सम्प्रास को पीछे छोड़ दिया। पांचवीं बार इटालियन ओपन चैंपियन बने जोकोविच का नंबर एक पॉजिशन पर यह 287वां सप्ताह है। उन्होंने सम्प्रास के 286 सप्ताह नंबर एक पर रहने के कीर्तिमान को पीछे छोड़ा और इस क्रम में वह दूसरे स्थान पर पहुंच गए। स्विटजरलैंड के रोजर फेडरर के नाम सर्वाधिक 310 सप्ताह नंबर वन पर रहने का रिकॉर्ड है। इस क्रम में अमेरिका के इवान लेंडल 270 सप्ताह के साथ चौथे स्थान पर और अमेरिका के जिमी कोनर्स 268 सप्ताह के साथ पांचवें नंबर पर हैं।

कोविड-19 की नई टेस्ट किट ‘फेलूदा’

कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों के बीच कोविड-19 की नई टेस्ट किट ‘फेलूदा’ तैयार हो चुकी है। इसका नामकरण मशहूर फिल्मकार सत्यजित राय के उपन्यास के चर्चित पात्र ‘फेलूदा’ पर किया गया है। ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआइ) ने सस्ती कीमत व काम में असरदार इस किट के इस्तेमाल की मंजूरी भी दे दी है। टाटा ने क्लस्टर्ड रेग्युलरली इंटरस्पेस्ड शॉर्ट पैलिनड्रॉमिक रिपीट्स (सीआरआइएसपीआर) कोरोना वायरस टेस्ट को सीएसआइआर-इंस्टीट्यूट ऑफ जिनॉमिक्स एंड इंटिग्रेटिव बायोलॉजी के साथ मिलकर तैयार किया है। सरकार के अनुसार, इस टेस्ट के जरिये कोविड-19 पीड़ित के कैस-9 प्रोटीन का भी पता लगता है। अन्य टेस्ट में कैस-9 प्रोटीन का पता नहीं चलता। यह किट काफी सस्ती है। यह सिर्फ दो घंटे में परिणाम उपलब्ध करा देती है। इसे 100 दिनों में विकसित किया गया है और 96 प्रतिशत तक सही नतीजों का दावा है।

बीएचयू ने इसरो के लिए दुनिया का सबसे क्षमतावान कार्बन एरोजेल हाइड्रोजन स्टोरेज विकसित किया

बीएचयू ने इसरो के लिए दुनिया का सबसे क्षमतावान कार्बन एरोजेल हाइड्रोजन स्टोरेज विकसित कर दिखाया है। सरल भाषा में कहें तो सबसे उन्नत फ्यूल टैंक। किंतु टैंक की शक्ल में नहीं, वरन कार्बन एरोजेल के रूप में, जो रॉकेट में इस्तेमाल होने वाले ईंधन (तरल हाइड्रोजन) को सोख कर स्टोर करेगा। इस तकनीक से अंतरिक्ष मिशन में लंबी दूरी के रॉकेट की गति और शक्ति में कई गुना वृद्धि होगी। दावा है कि इसरो के मंगल और मानव मिशन में यह तकनीक अहम भूमिका निभाएगी। बीएचयू में देश का एकमात्र हाइड्रोजन सेंटर है, जो इस तरह के राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय महत्व के शोध पर काम करता है।

एयरबस 2035 तक दुनिया का पहला वाणिज्यिक हाइड्रोजन विमान लॉन्च करेगी

विमानन कंपनी एयरबस ने पहले शून्य उत्सर्जन वाणिज्यिक विमान के लिए तीन कॉन्सेप्ट को लॉन्च किया। उनका यह विमान 2035 तक कार्य करना शुरू करेगा। कंपनी के तीन कांसेप्ट का कोड नाम ZEROe के तहत पेश किया गया है। यह कांसेप्ट इस प्रकार हैं : टर्बोफैन डिजाइन। इसमें 120 से 200 यात्री बैठ सकते हैं और यह 2000 से अधिक समुद्री मील की दूरी तक उड़ान भर सकता है। ब्लेंडेड विंग बॉडी डिज़ाइन। इस विमान में 200 यात्री बैठ सकते हैं। टर्बोप्रॉप डिज़ाइन। इस तरह के विमान में 200 यात्री बैठ सकते हैं। यह 1000+ समुद्री मील की गति से यात्रा करने में सक्षम है। वे छोटी यात्राओं के लिए उपयुक्त हैं।

आंध्र प्रदेश में काकतीय राजवंश के द्वारा निर्मित एक मंदिर को स्थानीय देवी दुर्गा के मंदिर में बदल दिया गया

वर्तमान आंध्र प्रदेश की राजधानी अमरावती के पास धारानिकोटा (Dharanikota) में काकतीय राजवंश (Kakatiya Dynasty) के एक शासक ‘गणपति देव’ (Ganapati Deva) द्वारा निर्मित एक मंदिर को स्थानीय देवी बालूसुलाम्मा (Balusulamma) अर्थात् देवी दुर्गा के मंदिर में बदल दिया गया है। 13वीं शताब्दी का यह मंदिर पीठासीन देवी ‘काकती देवी’ (Kakati Devi) से संबंधित था जो काकतीय शासकों की कुलदेवी थी। गणपति देव पहले राजा हैं जिन्होंने अपने राज्य की सीमा के बाहर और आंध्र के तटीय क्षेत्र में काकती देवी की पूजा की थी। बाद में इस निवास स्थान को गणपति देव की बेटी गणपम्बा (Ganapamba) के संरक्षण में विकसित किया गया था।

ब्लैक होल के चारों तरफ एक्स-रेज मिलीं

भारतीयों की अगुआई वाली अंतरराष्ट्रीय विज्ञानियों की एक टीम को ब्लैक होल की सीमा की पहचान करने की दिशा में बड़ी सफलता मिली है। विज्ञानियों ने ब्लैक होल के चारों ओर विशेष तरह की एक्स-किरणों (एक्स-रेज) को ढूंढ निकाला है। ये किरणों ब्रम्हांड में मौजूद अन्य पिंडों और ब्लैक होल को स्पष्ट रूप से अलग करती हैं, जो द्रव्यमान और आकार में उसके बराबर हैं, जैसे कि न्यूट्रॉन तारे।खगोलशास्त्रियों के मुताबिक यह खोज ब्लैक होल के चारों ओर एक्स-किरणों के बारे में उपग्रह से मिली जानकारियों में सबसे ठोस और सटीक है। अंतरिक्ष दूरबीन से एक्स-किरणों के बारे में पता लगाने में सफलता मिली है। खोज करने वाले खगोलविदें में मुंबई स्थित टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च (टीआइएफआर) के सुदीप भट्टाचार्य भी शामिल हैं।

2024 तक चंद्रमा पर मानव मिशन भेजेगी अंतरिक्ष एजेंसी नासा

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के चंद्र मिशन (आर्टिमस कार्यक्रम) की तैयारियां जोरों पर हैं। वर्ष 2024 तक एजेंसी ने हर हाल में चंद्रमा पर पहली महिला और एक पुरुष अंतरिक्ष यात्री को उतारने की योजना बनाई है। पूरे मिशन में 28 अरब डॉलर (लगभग 2100 अरब रुपये) का खर्चा आएगा। 2024 में चंद्रमा पर लैंडिंग को लेकर नासा सही दिशा में है और 2028 तक अंतरिक्ष यात्री धरती पर लौट आएंगे।

कोमोडो ड्रैगन जिसे दुनिया की सबसे बड़ी छिपकली कहा जाता अगले कुछ दशकों में विलुप्त हो सकता

हाल ही में हुए एक नए अध्ययन में कहा गया है कि कोमोडो ड्रैगन (Komodo Dragon) जिसे दुनिया की सबसे बड़ी छिपकली कहा जाता है, जलवायु परिवर्तन के कारण अगले कुछ दशकों में विलुप्त हो सकता है। इस अध्ययन को ऑस्ट्रेलिया के एडीलेड विश्वविद्यालय (University of Adelaide) एवं डाईकिन विश्वविद्यालय (Deakin University) द्वारा आयोजित किया गया था। कोमोडो ड्रैगन इंडोनेशिया के पाँच द्वीपों में से तीन द्वीपों से विलुप्त हो सकता है जहाँ यह वर्तमान में पाया जाता है। इस अध्ययन को ‘पारिस्थितिकी एवं विकास’ (Ecology and Evolution) पत्रिका में प्रकाशित किया गया था।

विशेषज्ञों के अनुसार, बैम्बू शूट में न्यूट्रास्यूटिकल गुण पाए जाते हैं

विशेषज्ञों के अनुसार, बैम्बू शूट (Bamboo Shoot) में न्यूट्रास्यूटिकल (Nutraceutical) गुण पाए जाते हैं। न्यूट्रास्यूटिकल (Nutraceutical) शब्द का इस्तेमाल औषधीय या पौष्टिक रूप से प्रकार्यात्मक खाद्य पदार्थों का वर्णन करने के लिये किया जाता है। बैम्बू शूट (Bamboo shoots) या अंकुरित बाँस (Bamboo Sprouts), बाँस के सुपाच्य नए अंकुरित बेंत होते हैं जो मिट्टी की सतह के नीचे ही निर्मित होते हैं। ताज़े बैम्बू शूट में प्रोटीन की मात्रा 1.49-4.04% के बीच हो सकती है। इसमें 17 अमीनो एसिड भी होते हैं जिनमें से 8 मानव शरीर के लिये आवश्यक हैं।

केयर 4 चेंदमंगलम द्वारा बेंगलुरू में चेंदमंगलम साड़ी का प्रदर्शन

केरल में बुनकरों के लिए काम करने वाले ‘केयर 4 चेंदमंगलम’ (Care 4 Chendamangalam– C4C) द्वारा बेंगलुरू में अनुदान संचय समारोह (fund-raiser) प्रदर्शनी के लिए भौगोलिक संकेतक (GI-tag) प्राप्त चेंदमंगलम साड़ी का प्रदर्शन किया गया है। केरल के एर्नाकुलम के पास एक छोटा से शहर चेंदमंगलम (Chendamangalam) की साड़ियाँ अपने पुलियिलाकारा बॉर्डर (Puliyilakara Border) के कारण एक अगल पहचान रखती हैं।

22 सितंबर: विश्व राइनो दिवस

हर साल विश्व राइनो (गैंडा) दिवस विश्व वन्यजीव कोष और कई अन्य अंतरराष्ट्रीय संगठनों द्वारा 22 सितंबर को मनाया जाता है। यह दिवस एशिया और अफ्रीका में रहने वाले 5 गैंडों की प्रजातियों के खतरों के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए मनाया जाता है। 2010 में विश्व वन्यजीव कोष दक्षिण अफ्रीका द्वारा पहले विश्व राइनो दिवस की घोषणा की गई थी। इस वर्ष विश्व राइनो दिवस थीम Five Rhino Species Forever है।

बोत्सवाना हाथियों की मौत

हाल ही में बोत्सवाना में अधिकारियों ने जाँच में पाया कि जल में साइनोबैक्टीरिया द्वारा उत्पादित विषाक्त पदार्थों के कारण इस वर्ष बोत्सवाना में 300 से अधिक हाथियों की मृत्यु हो गई थी। साइनोबैक्टीरिया सूक्ष्म जीव हैं जो आमतौर पर जल में पाए जाते हैं और कभी-कभी ये मिट्टी में भी पाए जाते हैं।सभी साइनोबैक्टीरिया विषाक्त पदार्थों का उत्पादन नहीं करते हैं किंतु वैज्ञानिकों का कहना है कि जलवायु परिवर्तन के कारण वैश्विक तापमान बढ़ने से विषाक्तता की घटना बार-बार हो रही है। अफ्रीकी महाद्वीप के दक्षिणी में स्थित बोत्सवाना एक भू-आबद्ध देश है। बोत्सवाना दुनिया की सबसे बड़ी हाथी आबादी वाला देश है जहाँ हाथियों की अनुमानित संख्या लगभग 130,000 है।

नेपाल के महान पर्वतारोही आंग रीता शेरपा का निधन

माउंट एवरेस्ट पर 10 बार चढ़ने वाले पहले व्यक्ति नेपाल के आंग रीता शेरपा (Ang Rita Sherpa) का निधन। उन्होंने 1983 से 1996 के बीच दुनिया के सबसे ऊंचे पर्वत पर कई बार फतेह की है और बिना ऑक्सीजन सिलेंडर भी। इसलिए उन्हें अपने चढ़ाई कौशल के लिए “snow leopard” के नाम से भी जाना जाता था। दिग्ग्गज पर्वतारोहण को बिना ऑक्सीजन का उपयोग किए 8,848 मीटर ऊचे माउंट एवरेस्ट पर सबसे सफल आरोही के लिए एक प्रतिष्ठित गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड प्रमाण पत्र से सम्मानित किया गया था। इसके अलावा गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड ने उन्हें दिसंबर 1987 में बिना ऑक्सीजन का उपयोग किए सर्दियों में एवरेस्ट पर चढ़ने वाले पहले व्यक्ति के रूप में भी मान्यता दी है।

असम म्यूजिशियन बिभुरंजन चौधरी का निधन

असम के जाने-माने संगीतकार बिभुरंजन चौधरी का निधन। संगीत निर्देशक के रूप में उनकी पहली फिल्म 1987 में ''Sutrapat'' और 2017 में आखिरी फिल्म ''Aei Maatite'' थी। उन्होंने कई दशकों तक अपने करियर में कई टीवी धारावाहिकों, मंच नाटकों और रेडियो प्रस्तुतियों के लिए संगीत भी दिया था। चौधरी, जिन्होंने गुवाहाटी दूरदर्शन के पहले धारावाहिक ''जिबोनर बटोट'' का संगीत तैयार किया, वे असम राज्य फिल्म (वित्त और विकास) निगम के अधीक्षक के रूप में सेवानिवृत्त हुए।

अमेरिका: सुप्रीम कोर्ट की जस्टिस गिंसबर्ग का निधन

अमेरिका के सुप्रीम कोर्ट की न्यायाधीश जस्टिस रूथ बेडर गिंसबर्ग का निधन हो गया। वह 87 वर्ष की थीं और उन्हें महिला अधिकार और सामाजिक न्याय का पुरोधा माना जाता है। अमेरिका की शीर्ष अदालत में न्यायाधीश के पद पर पहुंचने वाली गिंसबर्ग दूसरी महिला थीं। उन्होंने पूरी जिदंगी लैंगिक समानता की वकालत की और उनकी ख्याति सतर्क और संयमित न्यायाधीश की रही।

संसद ने आवश्यक वस्तु (संशोधन) विधेयक, 2020 पारित किया

अनाज, दलहन, तिलहन, खाद्य तेल, प्याज और आलू जैसी वस्तुओं को आवश्यक वस्तुओं की सूची से बाहर करने वाले प्रावधानों के साथ आवश्यक वस्तु (संशोधन) विधेयक 2020 राज्यसभा में पारित कर दिया गया। इससे पहले, बिल को उपभोक्ता मामलों, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण राज्य मंत्री, श्री दानवे रावसाहेब दादाराव द्वारा 14 सितम्‍बर, 2020 को लोकसभा में पेश किया गया था, 5 जून 2020 को घोषित किए गए अध्यादेशों के स्थान पर। यह विधेयक लोकसभा द्वारा 15 सितंबर, 2020 को पारित किया गया था।

राष्‍ट्रीय रक्षा विधेयक-2020 संसद में पारित

संसद ने राष्‍ट्रीय रक्षा विधेयक-2020 पारित कर दिया है। राज्‍यसभा ने इसे आज मंजूरी दी, जबकि लोकसभा इसे पहले ही पास कर चुकी है। इस विधेयक के तहत गुजरात स्थित रक्षा शक्ति विश्‍वविद्यालय को राष्‍ट्रीय स्‍तर का दर्जा दिया गया है।

आतंकी घटनाओं के शिकार लोगों के आश्रितों को मेडिकल में कोटा

केंद्र सरकार ने आतंकी हमलों के शिकार परिवार के आश्रितों-बच्चों को बड़ी राहत दी है। अब उनको एमबीबीएस और बीडीएस प्रवेश के लिए होने वाली परीक्षा नीट-2020 में कोटा मिलेगा ताकि उनका इन चिकित्सकीय पाठ्यक्रमों में एडमिशन हो सके। यह कदम 2020-21 शैक्षणिक वर्ष के लिए लागू होगा। ये सीटें मेडिकल प्रवेश के लिए सीटों के केंद्रीय पूल से होंगी।

Start the Quiz

« Previous Next Affairs »

Current Affairs Quiz

Here you can find Month Wise Quiz.

Quiz

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Exam

Here You can find previous year question paper and model test for practice.

Start Exam

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2020 RajasthanGyan All Rights Reserved.