Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

6 March 2021

डीआरडीओ ने मिसाइलों के प्रक्षेपण में इस्‍तेमाल की जाने वाली एस.एफ.डी.आर. टेक्‍नोलाजी का सफलतापूर्वक परीक्षण किया

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन डीआरडीओ ने ओडिशा तट के पास चांदीपुर परीक्षण स्‍थल से मिसाइलों के प्रक्षेपण में इस्‍तेमाल की जाने वाली ठोस इंधन पर आधारित सॉलिड फ्यूल डक्टेड रैमजेट (एसएफडीआर) टेक्‍नोलाजी का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है। रक्षा मंत्रालय ने कहा कि बूस्टर मोटर और बिना नोजल वाली मोटर सहित मिसाइल की सभी प्रणालियों ने उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन किया और परीक्षण के दौरान, ठोस इंधन पर आधारित टेक्‍नोलाजी की क्षमता सिद्ध हो गई है। इस टेक्‍नोलाजी में महारत हो जाने के बाद भारत को हवा से हवा में मार करने वाली लंबी दूरी की मिसाइलों के विकास में मदद मिलेगी। इस समय इस तरह की टेक्‍नोलाजी दुनिया के कुछ गिने-चुने देशों के पास है।

12 भारतीय संस्‍थानों को क्‍यू एस वर्ल्‍ड यूनि‍वर्सिटी रैंकिंग में शीर्ष 100 संस्‍थाओं में स्‍थान हासिल

QS वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग (QS World University Rankings) का 11वां संस्करण 04 मार्च, 2021 को जारी किया गया था. QS वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2021 दुनिया भर के शीर्ष 1,000 विश्वविद्यालयों को रैंक करती है, जिसमें 80 अलग-अलग स्थान शामिल हैं. सूची में 47 नए प्रवेश हैं. मैसाचुसेट्स प्रौद्योगिकी संस्थान (Massachusetts Institute of Technology-MIT), संयुक्त राज्य अमेरिका ने लगातार नौवें वर्ष के लिए सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालय के रूप में अपना शीर्ष स्थान बरकरार रखा है. स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय (Stanford University), संयुक्त राज्य अमेरिका और कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय (University of Cambridge), यूनाइटेड किंगडम QS वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2021 में विश्व स्तर पर दूसरा और तीसरा सबसे अच्छा विश्वविद्यालय हैं. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, बॉम्बे सर्वश्रेष्ठ संस्थान के रूप में उभरा है. इसे 172 पदों पर रखा गया है. भारत का कोई भी संस्थान शीर्ष 100 में नहीं है.केवल इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस (185), इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, दिल्ली (193) शीर्ष 200 में शामिल होने वाले भारत के अन्य विश्वविद्यालय हैं. विषय के संदर्भ में, तीन इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) ने अपने संबंधित विषय के लिए शीर्ष 50 में जगह बनाने के साथ, बारह भारतीय विश्वविद्यालयों और उच्च शिक्षा संस्थानों ने शीर्ष 100 में जगह बनाई है, . इन संस्‍थानों में विषयवार रैंकिंग में स्‍थान हासिल किया है। ये हैं- आईआईटी बम्‍बई, दिल्‍ली, मद्रास, खड़गपुर, गुवाहाटी और भारतीय विज्ञान संस्‍थान बेंगलुरू तथा भारतीय प्रबंधन संस्‍थान बंगलोर और अहमदाबाद, जवाहर लाल नेहरू विश्‍वविद्यालय, अन्‍ना यूनिवर्सिटी, दिल्‍ली विश्‍व विद्यालय और ओ पी जिन्‍दल यूनिवर्सिटी। पेट्रोलियम इंजीनियरिंग की रैंकिंग में आईआईटी मद्रास ने 30वां, खनिज और खनन प्रौद्योगिकी ने आईआई बम्‍बई ने 41वां और आईआईटी खड़गपुर ने 44वां स्‍थान प्राप्‍त किया है जबकि दिल्‍ली विश्‍वविद्यालय को विकास अध्‍ययन के लिए 50वें स्‍थान पर रखा गया है।

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने बीजू पटनायक को उनकी 105वीं जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित की

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने 5 मार्च को ओडिसा के पूर्व मुख्‍यमंत्री बीजू पटनायक को उनकी 105वीं जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित की। एक ट्वीट में श्री मोदी ने कहा कि बीजू बाबू का भारत के लिए दूरगामी दृष्टिकोण और मानव सशक्तिकरण पर जोर देने के साथ साथ सामाजिक न्‍याय हम सभी को प्रेरित करता है। श्री मोदी ने कहा कि ओडिसा की प्रगति के लिए उनके प्रयासों पर राष्‍ट्र को गर्व है।

ओपेक के अध्‍यक्ष सऊदी अरब ने कहा कि वह तेल उत्‍पादन में प्रतिदिन 10 लाख बैरल की कटौती करेगा

तेल निर्यातक देशों के संगठन-ओपेक और उसके सहयोगी देश अप्रैल तक और एक महीने के लिए तेल उत्‍पादन में कटौती करने पर सहमत हुए हैं। इस निर्णय से रूस और कजाकिस्तान को थोड़ी छूट मिलेगी। यह फैसला ऐसे समय में लिया गया है जब तेल के दामों में उछाल के बावजूद और कोविड महामारी के कारण तेल की मांग अभी भी कमजोर है। ओपेक के अध्‍यक्ष सऊदी अरब ने कहा कि वह स्वेच्छा से तेल उत्‍पादन में प्रतिदिन दस लाख बैरल की कटौती करेगा और आगामी महीनों में इस बारे में फैसला लिया जायेगा कि तेल उत्‍पादन कब बढ़ाया जाये। ओपेक के तेल उत्‍पादन में कटौती के निर्णय के बाद तेल के दाम लगभग एक वर्ष से अधिक समय के बाद अपने उच्‍चतम स्‍तर पर पहुंच गये हैं। कच्‍चे तेल के दाम में पांच प्रतिशत की बढ़ौतरी देखी गई और यह 67 डॉलर प्रति बैरल पहुंच गया।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने नई दिल्ली विश्व पुस्तक मेला 2021 के वर्चुअल संस्करण का उद्घाटन किया

केंद्रीय शिक्षा मंत्री श्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने नई दिल्ली विश्व पुस्तक मेला - 2021 के वर्चुअल संस्करण का उद्घाटन किया। इस अवसर पर अपने संबोधन में शिक्षा मंत्री ने सराहना करते हुए कहा कि 'राष्ट्रीय शिक्षा नीति -2020' नई दिल्ली विश्व पुस्तक मेले 2021 की थीम है। शिक्षा मंत्री ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 के कार्यान्वयन नीति के तहत एनबीटी द्वारा प्रकाशित 17 द्विभाषी शीर्षक भी लॉन्च किए। ये शीर्षक एनईपी-2020 के दिशानिर्देशों के अनुसार बच्चों के लिए द्विभाषी संस्करण श्रृंखला के तहत द्विभाषी प्रारूप में प्रकाशित किए गए हैं, जिसका उद्देश्य बच्चों के लिए पूरक पठन सामग्री का निर्माण करना है ताकि वे देश के बहुभाषी माहौल के अनुकूल बन सकें।

इस्पात मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने आर्सेलर मित्तल-निपोन स्टील और ओडिशा सरकार को केंद्रपाड़ा में मेगा स्टील प्लांट स्थापित करने के बारे में समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर करने के लिए बधाई दी

इस्पात और पीएनजी मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने इस्पात दिग्गज आर्सेलर मित्तल-निपोन स्टील इंडिया और ओडिशा सरकार को ओडिशा के केंद्रपाड़ा जिले में 12 मीट्रिक टन का एकीकृत इस्पात संयंत्र लगाने के बारे में 4 मार्च, 2021 को एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर करने के लिए बधाई दी। इस संयंत्र पर 50 हजार करोड़ रुपए का निवेश किया जाएगा। श्री प्रधान ने एक बयान में कहा, “केंद्रपाड़ा में यह इस्पात संयंत्र ओडिशा में आर्थिक विकास और रोजगार सृजन का एक नया चरण शुरू करेगा और यह माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की पूर्वोदय और आत्मनिर्भर भारत परिकल्पनाओं को साकार करेगा।”

श्री अर्जुन मुंडा ने लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी, मसूरी में जीआई महोत्सव का उद्घाटन किया

केंद्रीय जनजातीय कार्य मंत्री, श्री अर्जुन मुंडा ने लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी (एलबीएसएनएए), मसूरी में ट्राइब्स इंडिया जीआई महोत्सव का उद्घाटन किया। ट्राइब्स इंडिया जीआई महोत्सव - अतुल्य भारत की अमूल्य निधि, जीआई टैग उत्पादों के लिए एक प्रदर्शनी है और इस कार्यक्रम में 40 से ज्यादा जीआई पंजीकृत प्रोप्राइटर और जीआई अधिकृत उपयोगकर्ता और जनजातीय कलाकार इसमें शामिल हो रहे हैं और अपने क्षेत्र-विशिष्ट उत्पादों का प्रदर्शन कर रहे हैं। जीआई महोत्सव का उद्देश्य अधिकारी-प्रशिक्षुओं के बीच इन उत्पादों के प्रति जागरूकता को बढ़ावा देना और उनके बीच भारत की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत के प्रति जागरूकता उत्पन्न करना है जिससे वे अपने क्षेत्र में जीआई उत्पादों के हितों की रक्षा करने वाली नीतियों का निर्माण कर सकें।

'रक्षा उपकरणों' की बिक्री के लिए भारत-फिलीपींस का समझौता

भारत ने फिलीपींस के साथ “रक्षा सामग्री और उपकरणों की खरीद” के लिए “क्रियान्वयन व्यवस्था (implementing arrangement)” नामक एक प्रमुख समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं, जिसके अनुसार देश भारत से ब्रह्मोस क्रूज मिसाइल (BrahMos Cruise Missile) खरीदेगा. फिलीपीन के रक्षा सचिव डेल्फिन लॉरेंजाना (Delfin Lorenzana), जो मनीला में समझौता हस्ताक्षर समारोह में उपस्थित थे. ब्रह्मोस मिसाइल एक भारत-रूसी संयुक्त उद्यम "ब्रह्मोस एयरोस्पेस (BrahMos Aerospace)" द्वारा निर्मित है और इसे पनडुब्बियों, जहाजों, विमानों या भूमि प्लेटफार्मों से लॉन्च किया जा सकता है.

ऑस्ट्रेलिया में बनेगा दुनिया का पहला प्लैटिपस अभयारण्य

ऑस्ट्रेलियाई संरक्षणवादियों ने हाल ही में प्लैटिपस के लिये विश्व का पहला अभयारण्य स्थापित करने की योजना बनाई है, ताकि प्लैटिपस के प्रजनन एवं पुनर्वास को बढ़ावा दिया जा सके, क्योंकि जलवायु परिवर्तन के कारण यह लगभग विलुप्त होने की कगार पर है। योजना के मुताबिक, वर्ष 2022 तक सिडनी से 391 किमी. (243 मील) की दूरी पर यह केंद्र स्थापित किया जाएगा, जहाँ कुल 65 प्लैटिपस मौजूद होंगे। यह केंद्र संरक्षणवादियों और वैज्ञानिकों को प्लैटिपस के बारे में और अधिक जानने में मदद करेगा। प्लैटिपस एक ज़हरीला स्तनधारी जीव है, जिसमें इलेक्ट्रोलोकेशन की शक्ति होती है, अर्थात् ये किसी जीव का शिकार उसके पेशी संकुचन द्वारा उत्पन्न विद्युत तरंगों का पता लगाकर करते हैं। ऑस्ट्रेलिया के अन्य प्रसिद्ध जानवरों जैसे- कंगारू आदि के विपरीत प्लैटिपस अपनी एकांत प्रकृति और अत्यधिक विशिष्ट निवास संबंधी आवश्यकताओं के कारण प्रायः कम ही दिखाई देते हैं। इसे IUCN की रेड लिस्ट में ‘निकट संकटग्रस्त’ श्रेणी में रखा गया है।

WAN-IFRA ने द हिंदू ग्रुप को ‘चैंपियन पब्लिशर ऑफ द ईयर’ 2020 का नाम दिया

द हिंदू ग्रुप ने WAN IFRA (वर्ल्ड एसोसिएशन ऑफ न्यूज पब्लिशर्स-World Association of News Publishers) के साउथ एशियन डिजिटल मीडिया अवार्ड्स में दो स्वर्ण और दो सिल्वर जीते, जिसका नाम ‘चैंपियन पब्लिशर ऑफ द ईयर (Champion Publisher of the Year)’ रखा गया, जो कि अंक तालिका में सबसे अधिक है. पुरस्कारों को डिजिटल मीडिया में समाचार प्रकाशकों द्वारा किए गए उत्कृष्ट कार्यों की पहचान के लिए प्रस्तुत किया जाता है. विजेताओं को 3 मार्च, 2021 को आयोजित डिजिटल मीडिया इंडिया 2021 सम्मेलन में वर्चुअली सम्मानित किया गया.

खेलो इंडिया विंटर नेशनल गेम्स में जम्मू-कश्मीर शीर्ष स्थान पर रहा

केंद्र शासित प्रदेश जम्मू और कश्मीर ने खेले इंडिया विंटर नेशनल गेम्स (Khelo India Winter National Games) के दूसरे संस्करण में पदक तालिका में शीर्ष स्थान प्राप्त किया है. जम्मू और कश्मीर ने 11 स्वर्ण, 18 रजत और 5 कांस्य पदक जीते. उत्तरी कश्मीर के बारामूला जिले के गुलमर्ग के प्रसिद्ध स्की रिसोर्ट में 26 फरवरी से शुरू होने वाले पांच दिवसीय मेगा खेल कार्यक्रम का समापन हो गया है. इस कार्यक्रम का ई-उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था. इस कार्यक्रम का आयोजन जम्मू और कश्मीर के J&K खेल परिषद और शीतकालीन खेल संघ के सहयोग से केंद्रीय युवा मामले और खेल मंत्रालय द्वारा किया गया था.

नगरपालिका प्रदर्शन सूचकांक (MPI) 2020 में इंदौर और NDMC शीर्ष पर

आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय (Ministry of Housing & Urban Affairs) ने नगरपालिका प्रदर्शन सूचकांक (Municipal Performance Index-MPI) 2020 की अंतिम रैंकिंग जारी की है. रैंकिंग ने नगरपालिकाओं को उनकी आबादी के आधार पर दो श्रेणियों में वर्गीकृत किया है, जो हैं: मिलियन-प्लस (million-plus) श्रेणी और मिलियन से कम (less than million) श्रेणियां. नगरपालिका प्रदर्शन सूचकांक, नगरपालिकाओं को बेहतर नियोजन और प्रबंधन में मदद करेगा, शहर प्रशासन में अंतराल को भरने और अपने नागरिकों के लिए शहरों के रहने की जगह में सुधार करेगा. मिलियन-प्लस (million-plus) जनसंख्या श्रेणी में इंदौर सबसे ऊपर है, इसके बाद सूरत और भोपाल हैं. मिलियन से कम (less than million) श्रेणी में नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (NDMC) लीडर के रूप में उभरी, उसके बाद तिरुपति और गांधीनगर हैं.

बोर्नियो में एक ब्लैक-ब्राउड बैबलर फिर से खोजा गया

हाल ही में दक्षिण-पश्चिम कालीमंतन जो बोर्नियो का हिस्सा है एवं इंडोनेशिया द्वारा प्रशासित है, में एक ब्लैक-ब्राउड बैबलर (Malacocincla perspicillata) को फिर से खोजा गया है। 1840 के दशक में एक ईस्ट इंडीज़ अभियान के दौरान रहस्यमयी पक्षी पकड़ा गया था। इसे ब्लैक-ब्राउड बैबलर नाम दिया गया था।इस प्रजाति को फिर से जंगलों में नहीं देखा गया था और एक चमकीले पीले काँच का का एक नमूना इसके अस्तित्व का एकमात्र प्रमाण था।कोई भी एशियाई पक्षी इतने वर्षों तक विलुप्त नहीं हुआ है जितने वर्षों तक इंडोनेशिया की ब्लैक-ब्राउड बैबलर विलुप्त हुआ है। यह पिछले 170 वर्षों से गायब है।इस पक्षी को प्रायः 'इंडोनेशियन पक्षी विज्ञान में सबसे बड़ा रहस्य' माना जाता है।

‘नाग नदी प्रदूषण न्यूनीकरण’ परियोजना को मंज़ूरी

हाल ही में केंद्र सरकार ने नाग नदी में सीवेज और औद्योगिक कचरे के कारण होने वाले प्रदूषण से निपटने के लिये ‘नाग नदी प्रदूषण न्यूनीकरण’ परियोजना को मंज़ूरी दी है। केंद्र सरकार द्वारा ‘नाग नदी प्रदूषण न्यूनीकरण’ परियोजना के लिये तकरीबन 2,117.54 करोड़ रुपए की मंज़ूरी दी गई है। इस परियोजना को राष्ट्रीय नदी संरक्षण योजना के तहत मंज़ूरी दी गई है और इसे राष्ट्रीय नदी संरक्षण निदेशालय द्वारा कार्यान्वित किया जाएगा। इस परियोजना के कार्यान्वयन से अनुपचारित सीवेज, ठोस अपशिष्ट और नाग नदी एवं उसकी सहायक नदियों में बहने वाले अन्य प्रदूषक तत्त्वों की समस्या से निपटने में मदद मिलेगी और इनके स्तर में कमी लाते हुए नदी के स्वास्थ्य एवं पारिस्थितिक तंत्र में सुधार होगा। ध्यातव्य है कि यह नदी महाराष्ट्र में नागपुर शहर से होकर गुज़रती है और महाराष्ट्र के तीसरे सबसे बड़े शहर नागपुर को यह नाम इसी नदी से प्राप्त हुआ है। ‘नाग नदी’ मूल तौर पर पश्चिमी नागपुर में अंबाझरी झील से निकलती है। नाग नदी सीवेज और औद्योगिक कचरे के कारण काफी अधिक प्रदूषित है तथा बीते वर्ष बॉम्बे उच्च न्यायालय ने भी नदी के प्रदूषण की ओर सरकार का ध्यान आकर्षित किया था।

HDFC ERGO ने लांच किया बिज़नस किश्त सुरक्षा कवर

HDFC ERGO जनरल इंश्योरेंस ने “बिजनेस किश्त सुरक्षा” कवर लॉन्च किया है। यह कवर किसी भी तबाही या प्राकृतिक आपदा के आने पर माइक्रो फाइनेंस इंस्टीट्यूशंस (एमएफआई), वित्तीय संस्थानों और बैंकों की बैलेंस शीट की सुरक्षा के उद्देश्य से लॉन्च किया गया था। यह वित्तीय संस्थानों की बैलेंस शीट पर प्रभावों को सीमित करने के उद्देश्य से शुरू किया गया था, जो उधारकर्ताओं द्वारा ईएमआई का भुगतान न करने या भूकंप, बाढ़, चक्रवात जैसी कई आपदाओं के कारण होता है। बिजनेस किश्त को व्यक्तिगत MFI या वित्तीय संस्थान (FI) की जरूरतों के अनुसार अनुकूलित किया जा सकता है। यह उधारकर्ता, एमएफआई या किसी एफआई की भौगोलिक उपस्थिति के आधार पर दर्जी भी हो सकता है।

विश्व खाद्य मूल्य सूचकांक में फरवरी में वृद्धि दर्ज की गयी

फरवरी 2021 में लगातार नौवें महीने खाद्य की कीमतों में वृद्धि हुई है। यह वृद्धि जुलाई 2014 के बाद से अपने उच्चतम स्तर पर है। खाद्य व कृषि संगठन (FAO) ने कहा कि चीनी और वनस्पति तेलों की कीमतों में उछाल के कारण खाद्य पदार्थों की कीमतें बढ़ी हैं। खाद्य मूल्य सूचकांक एक टोकरी के लिए मासिक परिवर्तनों को मापता है जिसमें अनाज, डेयरी उत्पाद, तिलहन, मांस और चीनी शामिल हैं। जनवरी में 113.0 अंक के मुकाबले फरवरी 2021 में सूचकांक 116.0 अंक पर आ गया था। फरवरी 2021 में एफएओ द्वारा प्रदान किया गया अनाज मूल्य सूचकांक 1.2% तक बढ़ गया है। ज्वार की कीमतें सबसे अधिक बढ़ी हैं। चीन में बढ़ी हुई मांग के कारण शर्बत के मूल्य सूचकांक में यह वृद्धि हुई है। मक्का और चावल के दाम भी बढ़ गए हैं जबकि गेहूं के निर्यात पर कीमतें स्थिर बनी हुई हैं। चीनी की कीमत में 6.4% की वृद्धि हुई है। इसके अलावा, प्रमुख उत्पादक देशों में उत्पादन में गिरावट और एशिया से मजबूत मांग के कारण वर्ष 2021 में आपूर्ति पर चिंताएं हैं। वनस्पति तेल के मूल्य सूचकांक में भी 6.2% की वृद्धि हुई है जबकि पाम तेल की कीमतों में नौवें महीने की वृद्धि हुई है। डेयरी उत्पादों की कीमतों में 1.7% की वृद्धि हुई है जबकि मांस सूचकांक में 0.6% की वृद्धि हुई है।

Start Quiz!

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.