Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

22 March 2021

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कैच द रेन यानी वर्षा जल संचय अभियान का शुभारंभ करेंगे

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी विश्‍व जल दिवस के अवसर पर 22 मार्च को कैच द रेन यानी वर्षा जल संचय अभियान का वीडियो कॉन्‍फ्रेंस के माध्‍यम से शुभारंभ करेंगे। प्रधानमंत्री की उपस्थिति में जल शक्ति मंत्री और मध्‍य प्रदेश तथा उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्रियों के बीच केन-बेतवा संपर्क परियोजना क्रियान्वित करने संबंधी समझौता ज्ञापन पर भी हस्‍ताक्षर किए जाएंगे। नदियों को जोड़ने की राष्‍ट्रीय योजना के तहत यह पहली परियोजना होगी। इस परियोजना के तहत दौधन बांध के निर्माण और केन तथा बेतवा नदियों को जोडने वाली नहर के जरिये केन नदी का जल बेतवा नदी में डाला जाएगा। इससे हर वर्ष दस लाख 62 हजार हेक्‍टेयर कृषि भूमि की सिंचाई और लगभग 62 लाख लोगों को पेयजल की आपूर्ति के अलावा 103 मेगावाट पनबिजली पैदा की जा सकेगी। इस परियोजना से बुंदेलखंड के पानी की कमी वाले क्षेत्रों—विशेषकर पन्‍ना, टीकमगढ, छतरपुर, सागर, दमोह, दतिया, विदिशा, शिवपुरी, रायसेन, बांदा, महोबा, झांसी और ललितपुर को पानी की आपूर्ति की जा सकेगी। इससे देश के विकास में बाधक जल की कमी को दूर करने के लिए नदियों को जोडने की अन्‍य परियोजनाओं के लिए भी मार्ग प्रशस्‍त हो सकेगा। वर्षा जल संचय अभियान देशभर में ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में चलाया जाएगा और इसका नारा होगा-'जहां भी गिरे और जब भी गिरे, वर्षा का पानी इकट्ठा करें।' यह अभियान 21 मार्च से शुरू होकर 30 नवबंर तक मॉनसून पूर्व और मॉनसून के दौरान लागू किया जाएगा।

World Happiness Report जारी

United Nation Sustainable Development Solutions Network’ ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट “World Happiness Report, 2021″ जारी की है। COVID-19 महामारी के बीच इस रिपोर्ट को तैयार किया गया। यह रिपोर्ट तीन संकेतक जीवन मूल्यांकन (Life Evaluation), सकारात्मक मनोभाव (Positive Emotions) और नकारात्मक मनोभाव (Negative Emotions) पर निर्भर होकर व्यक्तिपरक कल्याण को मापती है। यह रिपोर्ट ” World Happiness Day” से पहले प्रस्तुत की गई थी, जिसे 20 मार्च को मनाया जाता है। जीवन मूल्यांकन को मापने के लिए, गैलप वर्ल्ड पोल (Gallup World Poll) ने लोगों को अपने वर्तमान जीवन का मूल्यांकन करने के लिए कहा। उनके लिए सबसे अच्छा संभव जीवन का मूल्यांकन 10 के रूप में किया गया था जबकि सबसे खराब संभव जीवन 0 के रूप में। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि, “जीवन मूल्यांकन” अंतरराष्ट्रीय तुलनाओं को संचालित करने के लिए सबसे अधिक जानकारी प्रदान करता है क्योंकि यह संकेतक पूर्ण और स्थिर तरीके से जीवन की गुणवत्ता की जानकारी देता है। फ़िनलैंड को फिर से दुनिया के सबसे खुशहाल देश के रूप में नामित किया गया था क्योंकि इसकी समग्र रैंकिंग 2020 के सूचकांक के समान थी। डेनमार्क, आइसलैंड, स्विट्जरलैंड और नीदरलैंड ने रैंकिंग में अच्छा प्रदर्शन किया। संयुक्त राज्य अमेरिका को 19वें स्थान पर रखा गया था। भारत 149 देशों में से 139वें स्थान पर था। भारत पिछले वर्ष में 156 देशों में से 144वें स्थान पर था। वर्ष 2021 में भारत से पीछे रहने वाले दस देशों में बुरुंडी, यमन, तंजानिया, हैती, मलावी, लेसोथो, बोत्सवाना, रवांडा, जिम्बाब्वे और अफगानिस्तान हैं।

राजस्थान ने की मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना की घोषणा

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 18 मार्च, 2021 को घोषणा की कि बहुप्रतीक्षित सार्वभौमिक स्वास्थ्य योजना जिसे “मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना” कहा जाता है, 1 मई, 2021 को शुरू की जाएगी। मुख्यमंत्री ने यह भी घोषणा की कि जो लोग राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (NFSA) या सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना (SECC) लाभार्थी सूची में शामिल नहीं हैं उनके लिए पंजीकरण 1 अप्रैल, 2021 से शुरू होगा। उन्होंने आगे MLA लोकल एरिया डेवलपमेंट (MLA LAD) को मौजूदा 2.25 करोड़ रुपये से 5 करोड़ रुपये तक बढ़ाने की घोषणा की। इस सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज योजना की घोषणा 24 फरवरी, 2021 को राज्य के बजट भाषण में की गई थी। सरकार ने इस योजना की घोषणा 3,500 करोड़ रुपये के बजट परिव्यय के साथ की थी। मुख्यमंत्री ने 25 जिला मुख्यालयों पर नर्सिंग कॉलेजों की स्थापना की भी घोषणा की है। उन्होंने यह भी बताया कि, सभी सात संभागीय मुख्यालयों में सार्वजनिक स्वास्थ्य महाविद्यालय भी स्थापित किए जाएंगे।

हरियाणा ने प्रदर्शनकारियों से नुकसान की वसूली के लिए विधेयक पारित किया

हरियाणा विधानसभा ने 18 मार्च, 2021 को “Haryana Recovery of Damages to Property During Disturbance to Public Bill, 2021” पारित किया, इसके तहत अगर प्रदर्शनकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाते हैं, तो उनसे मुआवजे की वसूली की जाएगी। यह विधेयक ध्वनिमत से पारित किया गया। इस विधेयक में संपत्तियों की क्षति की वसूली का प्रावधान है। इस बिल में दायित्व का निर्धारण करने के लिए दावा अधिकरण (Claims Tribunal) का गठन करने, नुकसान का आकलन करने और क्षति की क्षतिपूर्ति करने का प्रावधान भी शामिल है। यह बिल लोगों के लोकतांत्रिक अधिकार का विरोध करने के लिए नहीं है, बल्कि सार्वजनिक और निजी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले लोगों के लिए है। उत्तर प्रदेश पहला राज्य था जिसने आंदोलन और विरोध प्रदर्शन के दौरान सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले लोगों से वसूली के लिए एक विधेयक पारित किया था।

झारखंड ने लांच किया SAAMAR अभियान

झारखंड सरकार ने “SAAMAR अभियान” (SAAMAR Campaign) लांच किया है। SAAMAR का पूर्ण स्वरुप “Strategic Action for Alleviation of Malnutrition and Anaemia Reduction” है। झारखंड में कुपोषण से निपटने के लिए यह अभियान शुरू किया गया है। एनीमिया से पीड़ित महिलाओं और कुपोषित बच्चों की पहचान करने के उद्देश्य से SAAMAR अभियान शुरू किया गया है। यह अभियान कुपोषण की समस्या से प्रभावी ढंग से निपटने के लिए कई विभागों को एकजुट करता है। आर्थिक सर्वेक्षण 2021 में कहा गया है कि, झारखण्ड में मार्च 2017 से जुलाई 2017 की अवधि के लिए एक व्यापक राष्ट्रीय पोषण सर्वेक्षण किया गया था। इस सर्वेक्षण के अनुसार, 45% बच्चे कम वजन वाले हैं।

IIT बॉम्बे की एनर्जी स्वराज यात्रा बस

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने ‘एनर्जी स्वराज यात्रा’ बस में सवारी की, जिसे भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) बॉम्बे के प्रोफेसर डॉ. चेतन सोलंकी ने बनाया है। “एनर्जी स्वराज यात्रा” बस (Energy Swaraj Yatra) सौर ऊर्जा पर चलती है। इसमें संपूर्ण कार्य-सह-आवासीय इकाई (work-cum-residential unit) भी शामिल है। प्रोफेसर वर्ष 2020 से सौर ऊर्जा के उपयोग के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए इस बस में यात्रा कर रहे हैं। यह यात्रा 2030 तक जारी रहेगी। सवारी लेते समय शिक्षा मंत्री ने इस बात पर प्रकाश डाला कि, यह परियोजना “राष्ट्रीय शिक्षा” के अनुरूप है। मंत्री ने यह भी कहा कि इस बस को 100 प्रतिशत सौर ऊर्जा को अपनाने के लिए एक सार्वजनिक आंदोलन बनाने के उद्देश्य से तैयार किया गया है। इस बस में रहने वाले को स्नान, खाना पकाने, सोने, काम करने, बैठक और प्रशिक्षण जैसी सभी दैनिक गतिविधियों को करने की अनुमति मिलती है। इस बस को 3.2 kW के सोलर पैनल से लैस किया गया है। इसमें 6 kWh की बैटरी स्टोरेज की क्षमता है।

आरोग्य संजीवनी उत्पाद पर IRDAI ने दिशानिर्देश जारी किये

इंश्योरेंस रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (Insurance Regulatory and Development Authority of India – IRDAI) ने 19 मार्च, 2020 को सामान्य और स्वास्थ्य बीमा कंपनियों को मानक स्वास्थ्य बीमा उत्पाद के तहत 50,000 रुपये से 10 लाख रुपये के बीच अनिवार्य रूप से बीमा राशि की पेशकश करने को कहा है। इस कदम की घोषणा ‘आरोग्य संजीवनी’ (Arogya Sanjeevani) उत्पाद के तहत उपलब्ध कवरेज को बढ़ाने के लिए की गई थी। IRDAI ने सभी सामान्य और स्वास्थ्य बीमाकर्ताओं को 5 लाख रुपये तक की अधिकतम बीमा राशि और न्यूनतम 1 लाख रुपये के साथ मानक व्यक्तिगत स्वास्थ्य बीमा उत्पाद की पेशकश करने का आदेश दिया था। यह भ्रम को कम करने और अधिक लोगों को स्वास्थ्य बीमा खरीदने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए किया गया था। बीमाकर्ताओं ने ‘आरोग्य संजीवनी’ उत्पाद के तहत 50,000 रुपये की बीमा राशि की पेशकश की है क्योंकि कोविड-19 मामलों और स्वास्थ्य देखभाल की लागत बढ़ने के कारण इसकी कोई ऊपरी सीमा नहीं है। अधिकांश बीमाकर्ता 5 लाख रुपये की अधिकतम मूल सीमा से ऊपर आरोग्य संजीवनी नीति की पेशकश नहीं कर रहे थे। लेकिन इस संशोधन के बाद बीमाकर्ताओं को 10 लाख रुपये तक की राशि की पेशकश करनी होगी। यह संशोधन 1 मई, 2021 से लागू होगा।

भारत के CDRI में शामिल हुआ यूरोपीय संघ

यूरोपीय संघ में 27 सदस्य शामिल हैं, जो भारत के ‘Coalition for Disaster Resilient Infrastructure’ (CDRI) में शामिल हुए हैं। CDRI के चार्टर के समर्थन के बाद EU इस पहल में शामिल हुआ। CDRI देशों, संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों, निजी क्षेत्रों, बहुपक्षीय विकास बैंकों और शैक्षणिक संस्थानों का एक अंतरराष्ट्रीय गठबंधन है। इस पहल का उद्देश्य आपदा-लचीले बुनियादी ढांचे को बढ़ावा देना है। इस पहल की शुरुआत इंफ्रास्ट्रक्चर रिस्क मैनेजमेंट, फाइनेंसिंग और रिकवरी मैकेनिज्म के क्षेत्रों में रिसर्च और नॉलेज शेयरिंग को बढ़ावा देने के उद्देश्य से की गई थी। यह सतत विकास का भी समर्थन करता है। CDRI पहल की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2019 में की थी। इस पहल की शुरुआत संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन शिखर सम्मेलन में की गई थी। यह पहल पारिस्थितिक, सामाजिक और आर्थिक बुनियादी ढांचे में आपदा-लचीलापन विकसित करने पर केंद्रित है। यह सदस्य देशों के नीतिगत ढाँचों में पर्याप्त परिवर्तन प्राप्त करना चाहता है।

UNESCO जल संरक्षण कार्यक्रम के लिए USO India में शामिल हुआ

संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन (UNESCO) छात्रों के लिए जल संरक्षण जागरूकता कार्यक्रम में USO India और Toonz Media Group में शामिल हो गया है। जल संरक्षण कार्यक्रम के लिए, छात्रों ने एनीमेशन वीडियो बनाए हैं जिनका अनावरण 22 मार्च 2021 को विश्व जल दिवस के अवसर पर किया जाएगा। इसका अनावरण “H2Ooooh! – Waterwise Program” के एक भाग के रूप में किया जाएगा। यह कार्यक्रम नेशनल मिशन फॉर क्लीन गंगा, वाटर डाइजेस्ट पत्रिका, यूनाइटेड स्कूल्स ऑर्गनाइजेशन इंडिया (USO India) और Toonz Media Group की साझेदारी में आयोजित किया गया है। H2Ooooh! – Waterwise Program जल संरक्षण कार्यक्रम सितंबर 2020 में यूनेस्को नई दिल्ली द्वारा शुरू किया गया था। यह कार्यक्रम भारत के स्कूली बच्चों के लिए शुरू किया गया था। यह कार्यक्रम 6-14 वर्ष के आयु वर्ग के स्कूली बच्चों को भारत में बढ़ते जल संकट के संबंध में कहानी के विचारों और कार्टून प्रस्तुत करने के लिए प्रोत्साहित करता है।

रूस ने अफगान शांति बैठक की मेजबानी की

18 मार्च, 2021 को रूस ने “अफगान शांति बैठक” (Afghan Peace Meet) की मेजबानी की। इस बैठक का आयोजन सरकारी प्रतिनिधियों और तालिबान सलाहकारों को एक साथ लाने के लिए किया गया था। अफगानिस्तान की शांति प्रक्रिया को शुरू करने में मदद करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय पर्यवेक्षकों ने भी इसमें भाग लिया। यह बैठक एक दिन के लिए आयोजित की गई थी। यह तीन नियोजित अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलनों के बीच पहली बैठक थी। अफगानिस्तान से अमेरिका और नाटो सैनिकों की अंतिम वापसी के लिए 1 मई, 2021 की समयसीमा के पहले तीन बैठकों की योजना बनाई गई है। अफगानिस्तान से सैनिकों की वापसी की यह तारीख अमेरिका और तालिबान के बीच एक समझौते में तय की गई थी जिसे 2019 में हस्ताक्षरित किया गया था। रूस अफगानिस्तान शांति प्रक्रिया की मध्यस्थता कर रहा है क्योंकि अफगान सरकार और तालिबान के बीच दोहा में वार्ता ठप हो गई है। अमेरिका और अफगानिस्तान युद्ध विराम के लिए कह रहे हैं।

Mobile Seva Appstore – भारत का पहला स्वदेशी रूप से विकसित एप्प स्टोर

इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने राज्यसभा को एक लिखित जवाब में कहा है कि भारत ने अपना पहला स्वदेशी रूप से विकसित एप्प स्टोर “मोबाइल सेवा एप्प स्टोर” (Mobile Seva Appstore) विकसित किया है। यह एप्प स्टोर कई डोमेन और सार्वजनिक सेवाओं की श्रेणियों के कुछ 965 लाइव एप्पको होस्ट करता है। यह भारतीय एप्प स्टोर प्रारंभिक चरणों में मुफ्त में उपलब्ध होगा। मंत्री ने आगे कहा कि, सरकार जहां निजी खिलाड़ियों को ऐप्स की मेजबानी के लिए प्रोत्साहित कर रही है, वहीं अपने स्वयं के मोबाइल एप्प स्टोर को विकसित करने और मजबूत करने के लिए भी अपनी रुचि दिखा रही है। यह उत्तर मंत्री द्वारा इस सवाल पर दिया गया था कि क्या भारत के अपने डिजिटल स्टोर की अनुपस्थिति और Google और Apple के बाहरी एप्प स्टोरों पर इसकी निर्भरता भारत के डिजिटल पारिस्थितिकी तंत्र के लिए समस्याएं पैदा कर रही है या मंत्रालय स्वयं के लिए अपना डिजिटल स्टोर रखने पर विचार कर रहा है।

इच्छामृत्यु को वैध करने के लिए स्पेन ने कानून पारित किया

स्पेन की संसद ने 18 मार्च, 2021 को इच्छामृत्यु को वैध बनाने वाले कानून पारित किया। इस प्रकार, स्पेन उन कुछ राष्ट्रों में से एक बन गया है, जो गंभीर रूप से बीमार मरीजों को अपना जीवन समाप्त करने की अनुमति देते हैं। इस कानून को पारित करना समाजवादी प्रधानमंत्री पेड्रो सांचेज़ की सरकार के लिए प्राथमिकता थी। यह कानून जनता के दबाव के बाद तैयार किया गया था, जो कई हाई-प्रोफाइल मामलों के कारण उत्पन्न हुआ था। इसमें सबसे विशिष्ट मामला रेमन सेम्पेड्रो (Ramon Sampedro) का था, जिनकी स्थिति “द सी इनसाइड” (The Sea Inside) नामक ऑस्कर विजेता फिल्म में दर्शाई गयी थी। इस प्रकार, संसद ने कानून के पक्ष में मतदान किया। इस कानून को पक्ष में 202 मत और विरोध में 141 मतों के साथ पारित किया गया।

भारत और जापान ने पेटेंट सत्यापन में सहयोग के लिए सहमती जताई

भारत और जापान अंतरराष्ट्रीय पेटेंट आवेदन के लिए “सक्षम अंतर्राष्ट्रीय खोज और अंतर्राष्ट्रीय प्रारंभिक परीक्षा प्राधिकरण (ISA / IPEA)” के रूप में सहयोग करने के लिए एक दूसरे के कार्यालयों को मान्यता देने के लिए सहमत हुए हैं। औद्योगिक संपत्ति पर सहयोग के ज्ञापन के तहत उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (DPIIT) और जापान पेटेंट कार्यालय (JPO) की चौथी समीक्षा बैठक के दौरान समझौते पर हस्ताक्षर किए गए थे। पहले चरण की बैठक की अध्यक्षता गुरुप्रसाद महापात्रा ने की, जो DPIIT के सचिव हैं, और जापान की ओर से इसमें तोशीहिदे कासुतानी ने हिस्सा लिया , जो JPO के आयुक्त हैं। इस बैठक के दौरान, पायलट Patent Prosecution Highway (PPH) कार्यक्रम के पहले वर्ष की समीक्षा की गई।

हरियाणा में एक हजार चार सौ 11 करोड़ रुपये लागत की विभिन्‍न विकास परियोजनाओं का शुभारम्‍भ

हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल ने चंडीगढ़ से वीडियो कांफ्रेंस के माध्‍यम से एक हजार चार सौ 11 करोड़ रुपये लागत की विभिन्‍न विकास परियोजनाओं का शुभारम्‍भ किया। मुख्‍यमंत्री ने राज्‍य स्‍तरीय आभासी कार्यक्रम में 22 जिलों में शिक्षा, स्‍वास्‍थ्‍य, खेल, सड़क, जल, बिजली आदि से संबंधितह लगभग एक सौ 63 परियोजनाओं का शुभारम्‍भ किया और आधारशिला रखी। इनमें नौ सौ 35 करोड़ रुपये लागत वाली 83 परियाजनाओं की आधारशिला रखी गई और चार सौ 75 करोड़ रुपये की लागत की 80 परियोजनाओं का शुभारम्‍भ किया गया।

NDHM Sandbox Environment स्थापित किया गया

केंद्र सरकार ने अब तक मिशन पर 118.2 मिलियन रुपये खर्च करने के बाद परियोजना के विस्तार के लिए राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन (NDHM) के चरण 1 के परिणाम का मूल्यांकन करने की योजना बनाई है। इस मिशन के तहत, “NDHM Sandbox Environment” नवाचार को बढ़ावा देने और विश्वास का निर्माण करने के लिए स्थापित किया गया है। राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन (NDHM) भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 15 अगस्त, 2020 को लांच किया गया था। इसके बाद, इस मिशन को चंडीगढ़, दमन और दीव, लद्दाख, दादरा और नगर हवेली, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, पुदुचेरी और लक्षद्वीप केंद्र शासित प्रदेशों में शुरू किया गया था। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय छह केंद्र शासित प्रदेशों में मिशन के कार्यान्वयन का कार्य देख रहा है। केंद्र सरकार ने 15 मार्च, 2021 तक कार्यक्रम के तहत कुछ 9,97,095 स्वास्थ्य पहचान पत्र जारी किए हैं।

भारत ने SCO के नौरोज़ समारोह में भाग लिया

बीजिंग में भारतीय दूतावास ने 20 मार्च, 2021 को चीन के बीजिंग में शंघाई सहयोग संगठन (Shanghai Cooperation Organisation – SCO) के सचिवालय में आयोजित नौरोज़ समारोह में भाग लिया। नौरोज़ (Nowruz) ईरानी और फारसी नव वर्ष समारोह है। इस समारोह में भारतीय राजदूत विक्रम मिश्री (Vikram Misri) ने भाग लिया, इसमें साथ ही अन्य एससीओ सदस्य देशों के राजनयिकों में शामिल थे जिनमें चीन, रूस, किर्गिस्तान, ताजिकिस्तान, कजाकिस्तान, उज्बेकिस्तान और पाकिस्तान शामिल हैं। इस उत्सव में 500 से अधिक मेहमानों ने हिस्सा लिया। इस समारोह के दौरान, भारतीय दूतावास ने योग, कथक और भारतीय व्यंजनों को प्रदर्शित किया। इस अवसर पर, भारतीय राजदूत ने भारत और एससीओ की मित्रता के पोषण के प्रतीक के रूप में एक चीड़ का पेड़ भी लगाया। नवरोज़ या नौरोज़ (Nowruz) ईरानी नव वर्ष (Iranian New Year) है जिसे फारसी नव वर्ष (Persian New Year) के रूप में भी जाना जाता है। नया साल वसंत विषुव या मार्च विषुव पर शुरू होता है जिसे फरवर्दिन (Farvardin) के पहले दिन के रूप में चिह्नित किया गया है। फरवर्दिन ईरानी सौर कैलेंडर का पहला महीना है।

भारतीय पैरा-एथलीट सिंहराज ने संयुक्त अरब अमीरात में पैरा शूटिंग विश्व कप में स्वर्ण पदक जीता

भारत के पैरा एथलीट सिंहराज ने 2021 पैरा निशानेबाजी विश्वकप में स्वर्ण पदक जीत लिया है। संयुक्त अरब अमारात के अल-इन में खेले जा रहे इस टूर्नामेंट में सिंहराज ने दस मीटर एयर पिस्टल में यह खिताब जीता। इस जीत के साथ भारत पदक तालिका में तीसरे स्थान पर पहुंच गया है। भारत ने अब तक एक स्वर्ण और एक रजत पदक हासिल किया है। सिंहराज ने अफगानिस्तान के इब्रागिमोव को दो दशमलव आठ अंकों से हराया।

विश्‍व प्रसिद्ध शहनाई वादक उस्‍ताद बिस्मिल्‍लाह खान को आज उनकी जयंती पर याद किया गया

विश्‍व प्रसिद्ध शहनाई वादक उस्‍ताद बिस्मिल्‍लाह खान को 21 मार्च को उनकी जयंती पर याद किया गया। बिहार में 21 मार्च 1916 को संगीतकारों के खानदान में जन्‍में उस्‍ताद बिस्मिल्‍लाह खान की संगीत‍ शिक्षा उनके चाचा अली बख्‍श विलायतु के निर्देशन में तीन वर्ष की आयु में शुरू हो गयी। शहनाई को विश्‍व पटल पर ले जाने में बिस्मिल्‍लाह खान का अतुलनीय योगदान है। उन्‍हें शहनाई की लय साधने के लिए जाना जाता है। इससे पहले शहनाई की लय इतनी गुणवत्‍ता वाली नहीं होती थी। बिस्मिल्‍लाह खान ने सबसे पहले शहनाई वादन 1938 में लखनऊ में ऑल इंडिया रेडियो पर किया था। बिस्मिल्‍लाह खान को संगीत के क्षेत्र में उल्‍लेखनीय योगदान के लिए पद्मश्री, पद्मभूषण और पद्मविभूषण जैसे राष्‍ट्रीय पुरस्‍कारों से नवाजा गया। वर्ष 2001 में उस्‍ताद बिस्मिल्‍लाह खान को राष्‍ट्र की सर्वोच्‍च नागरिक पुरस्‍कार भारत रत्‍न प्रदान किया गया।

अंतर्राष्‍ट्रीय वन दिवस

21 मार्च को अंतर्राष्‍ट्रीय वन दिवस मनाया गया। 21 मार्च को यह दिवस मनाने की घोषणा 2012 में खाद्य और कृषि संगठन तथा संयुक्‍त राष्‍ट्र द्वारा की गई थी। इसका उद्देश्‍य वनों के महत्‍व और योगदान के बारे में विभिन्‍न समुदायों में जन-जागरूकता पैदा करना है। इस दिन प्रतिवर्ष सरकारी तंत्र और निजी संगठन मिलकर लोगों को वनों के महत्‍व और पर्यावरण तथा अर्थव्‍यवस्‍था में उनकी भूमिका के बारे में जागरूक करते हैं।

विश्‍व वन दिवस के मौके पर वन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा- नई नगर वन योजना शहरी वनों के विस्‍तार में मदद करेगी

केंद्रीय पर्यावरण़, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि नई नगर वन योजना शहरी वनों के विस्‍तार में मदद करेगी। अंतर्राष्ट्रीय वन दिवस के अवसर पर श्री जावड़ेकर ने कहा कि इस योजना से शहरों और गांवों में वन क्षेत्रों का अलग-अलग समान रूप से विकास हो सकेगा। उन्होंने भारत के लगभग हर ग्राम-समूह के आसपास वन-क्षेत्रों के विकास और उनकी देखभाल की परंपरा का उल्‍लेख किया। नगर वन योजना के पहले चरण में 200 शहरों में ये नगर वन विकसित किए जाएंगे। संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 2012 में 21 मार्च के दिन को अंतर्राष्ट्रीय वन दिवस मनाने की घोषणा की थी।

ऑस्‍ट्रेलिया में प्राकृतिक आपदा की घोषणा

ऑस्‍ट्रेलिया में सरकार ने न्‍यू साऊथ वेल्‍स के एक बड़े हिस्‍से में भारी वर्षा जारी रहने से प्राकृतिक आपदा की घोषणा की है। ऑस्‍ट्रेलियाई अधिकारियों ने सिडनी के उत्‍तर -पश्चिम भाग के लोगों को अपने घर छोड़ने को कहा है। क्षेत्र में पूर्वी तट पर भारी बारिश जारी रहने से पूरे क्षेत्र में बाढ़ आने की आशंका है।

Start the Quiz

« Previous Next Affairs »

Current Affairs Quiz

Here you can find Month Wise Quiz.

Quiz

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Exam

Here You can find previous year question paper and model test for practice.

Start Exam

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.