Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

1 April 2021

डॉ. शरणकुमार लिंबाले को मिला 2020 का सरस्वती सम्मान

प्रसिद्ध मराठी लेखक डॉ. शरणकुमार लिंबाले (Dr. Sharankumar Limbale) को उनकी पुस्तक ‘सनातन’ (Sanatan) के लिए सरस्वती सम्मान, 2020 से सम्मानित किया जायेगा। डॉ. लिंबाले की पुस्तक ‘सनातन’ को 2018 में प्रकाशित किया गया था। इस पुरस्कार में पंद्रह लाख रुपये, एक प्रशस्ति पत्र और एक पट्टिका प्रदान की है। के.के. बिड़ला फाउंडेशन द्वारा 1991 में स्थापित सरस्वती सम्मान को देश में सबसे प्रतिष्ठित और सर्वोच्च साहित्यिक पुरस्कार के रूप में मान्यता प्राप्त है। सरस्वती सम्मान पुरस्कार की शुरुआत के.के. बिड़ला फाउंडेशन द्वारा वर्ष 1991 में की गई थी। यह पुरस्कार प्रतिवर्ष किसी भी आधिकारिक भारतीय भाषा में लिखे गए उत्कृष्ट साहित्यिक कार्य के लिए दिया जाता है। इसमें एक प्रशस्ति पत्र और एक पट्टिका के अलावा, 15 लाख रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाता है।

RBI ने बेस रेट को 15 बेसिस पॉइंट्स घटाकर 7.81% किया

गैर बैंकिंग वित्‍तीय कम्‍पनियों और लघु वित्‍त संस्‍थान के ऋण 1 अप्रैल से सस्‍ते होने की उम्‍मीद है। भारतीय रिजर्व बैंक ने बताया है कि आधार दर सात दशमलव आठ-एक प्रतिशत होगी। यह मौजूदा तिमाही की तुलना में 15 आधार अंक कम है। पिछले वर्ष इसी अवधि में यह आठ दशमलव सात-छह प्रतिशत थी। हर तिमाही के अंतिम कार्यदिवस पर रिजर्व बैंक अगली तिमाही के लिए गैर बैंकिंग वित्‍तीय कम्‍पनी और लघु वित्‍त संस्‍थान द्वारा कर्जदारों से ली जाने वाली ब्‍याज दर की घोषणा करता है। यह पांच बडे वाणिज्यिक बैंकों की आधार दरों का औसत होती है।

खजुराहो में किया गया महाराजा छत्रसाल कन्वेंशन सेंटर का उद्घाटन

पर्यटन और संस्कृति राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री प्रहलाद सिंह पटेल (Shri Prahlad Singh Patel) और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान (Shri Shivraj Singh Chouhan) ने संयुक्त रूप से मध्य प्रदेश के खजुराहो में 'महाराजा छत्रसाल कन्वेंशन सेंटर' का उद्घाटन किया। कन्वेंशन सेंटर को पर्यटन मंत्रालय की स्वदेश दर्शन योजना के तहत विकसित किया गया है, जो खजुराहो में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल में एक और पंख जोड़ता है।

विश्‍व बैंक ने भारत की जीडीपी वृद्धि दर बढ़ाकर 10.1 प्रतिशत किया

विश्‍व बैंक ने वित्‍तवर्ष 2021-22 के लिए भारत की सकल घरेलू उत्‍पाद-जीडीपी की वृद्धि दर अनुमान को बढाकर दस दशमलव एक प्रतिशत कर दिया है। विश्‍व बैंक ने इससे पहले जनवरी में जीडीपी वृद्धि दर पांच दशमलव चार प्रतिशत रहने का अनुमान व्‍यक्‍त किया था। बैंक ने कहा है कि अर्थव्‍यवस्‍था पर कोविड महामारी के असर और जारी अनिश्चितता के बीच भारत की वास्‍तविक जीडीपी वृद्धि दर सात दशमलव पांच प्रतिशत से बारह दशमलव पांच प्रतिशत के बीच रह सकती है। विश्‍व बैंक ने कहा है कि निजी उपभोग और निवेश वृद्धि में मजबूत सुधार के बीच जीडीपी वृद्धि दर के अनुमान में संशोधन किया गया है। बैंक ने कहा है कि वित्‍तवर्ष 2021-22 के दौरान सरकारी खपत में लगभग 16 दशमलव सात प्रतिशत की वृद्धि की उम्‍मीद है। हालांकि विश्‍व बैंक ने चेतावनी दी है कि आर्थिक गतिविधियां कोविड पूर्व अनुमानों से काफी कम है।

2021-21 में भारत की आर्थिक विकास दर 7% रहेगी : UNESCAP

एशिया और प्रशांत के लिए संयुक्त राष्ट्र आर्थिक और सामाजिक आयोग (United Nations Economic and Social Commission for Asia and the Pacific – UNESCAP) ने हाल ही में ‘Economic and Social Survey of Asia and the Pacific 2021’ शीर्षक से एक रिपोर्ट जारी की है। इसके अनुसार 2021 में भारत का आर्थिक उत्पादन 2019 के स्तर से नीचे रहने की उम्मीद है। इस रिपोर्ट के अनुसार 2021-22 में भारत की आर्थिक वृद्धि दर 7% रह सकती है। इसके अलावा, इसने उल्लेख किया है कि गैर-निष्पादित ऋणों को नियंत्रण में रखते हुए कम उधारी लागत को बनाए रखना एक चुनौती होगी।

जी-7 शिखर सम्मेलन के शेरपाओं की दूसरी बैठक सम्पन्न

जी-7 शिखर सम्मेलन में भाग लेने वाले देशों के राष्ट्राध्यक्षों और शासनाध्यक्षों के प्रतिनिधियों यानि शेरपाओं की दूसरी बैठक सम्पन्न हुई। भारत के प्रतिनिधि के रूप में सुरेश प्रभु बैठक में शामिल हुए। बैठक में शिखर सम्मेलन के एजेंडे पर बातचीत हुई। संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन संधि में शामिल देशों के सम्मेलन -कॉप-26 की तैयारियों और वैश्विक स्वास्थ्य सहयोग समन्वय पर भी चर्चा हुई। भारत को जी-7 शिखर सम्मेलन में ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण कोरिया और दक्षिण अफ्रीका के साथ अतिथि देश के रूप में आमंत्रित किया गया है। जी-7 शिखर सम्मेलन 11 से 13 जून तक इंग्लैंड में होना है। जी-7 फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, अमरीका, इंग्लैंड और कनाडा का समूह है।

केन्‍द्रीय मंत्रि‍मंडल ने उत्‍पादन से जुड़ी प्रोत्‍साहन योजना के अंतर्गत खाद्य प्रसंस्‍करण उद्योग में दस हजार नौ सौ करोड रुपए के निवेश की अनुमति दी

केन्‍द्रीय मंत्रि‍मंडल ने उत्‍पादन से जुड़ी प्रोत्‍साहन योजना-- पीएलआई के अंतर्गत खाद्य प्रसंस्‍करण उद्योग में दस हजार नौ सौ करोड रुपए के निवेश की अनुमति दे दी है। इस योजना का उद्देश्य वैश्विक बाजारों में खाद्य उत्पादों के भारतीय ब्रांड को मजबूत करना, कृषि उपज की पारिश्रमिक कीमतों को सुनिश्चित करना और किसानों को उच्च आय, और रोजगार के अवसरों में वृद्धि करना है। इसकी अवधि 2021-22 से 2026-27 तक छह साल के लिए होगी। इस योजना से देश में आय बढ़ाने में मदद मिलेगी।पीएलआई योजना चार प्रमुख खाद्य उत्पाद खंडों के विनिर्माण को प्रोत्साहित करेगी – रेडी मेड खाद्य पदार्थ, प्रसंस्कृत फल और सब्जियां, समुद्री उत्पाद और मोज़ेरेला चीज़। सरकार ने एक विज्ञप्ति में कहा है कि छोटे और मध्यम उद्यमों (SME) के नवीन और जैविक उत्पाद, जिनमें फ्री रेंज-अंडे, पोल्ट्री मीट, अंडा उत्पाद भी शामिल हैं, को भी कवर किया जाएगा। नई दिल्‍ली में मंत्रिमंडल की बैठक के बाद सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर तथा वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने एक संयुक्‍त संवाददाता सम्‍मेलन में इसकी जानकारी दी।

मैगी ओफ़ारेल के 'हेमनेट' ने फ़िक्शन के लिए बुक क्रिटिक्स अवार्ड जीता

मैगी ओफ़ारेल (Maggie O’Farrell) के हेमनेट, जिसमें ब्यूबोनिक प्लेग से शेक्सपियर के बेटे की मृत्यु पर अनुमान लगाया गया, ने फिक्शन के लिए नेशनल बुक क्रिटिक्स सर्कल पुरस्कार जीता है। ​हेमनेट, वर्तमान महामारी के लिए दुर्भाग्य से अच्छी कहानी है, जो उनके परिवार पर लड़के की बीमारी और मृत्यु के प्रभाव की पड़ताल करती है। वह शेक्सपियर का इकलौता बेटा था, और विद्वानों ने लंबे समय तक "हेमलेट" पर - उसके प्रभाव - यदि कोई भी - के बारे में अनुमान लगाया है, जो शेक्सपियर ने हेमनेट की मृत्यु के बाद के वर्षों में काम किया।

भारत का स्वास्थ्य सेवा उद्योग 2022 में 372 बिलियन डॉलर तक पहुंचेगा : नीति आयोग

भारत के स्वास्थ्य सेवा उद्योग के 2022 में 372 बिलियन डॉलर तक पहुंचने की उम्मीद है। देश का स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र पिछले पांच वर्षों में तेजी से बढ़ा है, जिसकी वार्षिक वृद्धि दर लगभग 22% है। नीति आयोग ने स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र के विभिन्न क्षेत्रों में निवेश के अवसरों की सीमा को रेखांकित करते हुए एक रिपोर्ट जारी की है। इसमें अस्पताल, चिकित्सा उपकरण, स्वास्थ्य बीमा, टेलीमेडिसिन, गृह स्वास्थ्य इत्यादि शामिल हैं। हेल्थकेयर राजस्व और रोजगार दोनों के मामले में भारतीय अर्थव्यवस्था के सबसे बड़े क्षेत्रों में से एक बन गया है। राष्ट्रीय कौशल विकास निगम के अनुमान के अनुसार, स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र 2017-22 के बीच भारत में 27 लाख अतिरिक्त नौकरियां पैदा कर सकता है। इस रिपोर्ट को नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल, सीईओ अमिताभ कांत और अतिरिक्त सचिव डॉ. राकेश सरवाल ने जारी किया।

फेसबुक ने दो अंडरसी इंटरनेट केबल लगाने की योजना बनाई

फेसबुक ने दक्षिण पूर्व एशिया को उत्तरी अमेरिका से जोड़ने, डेटा क्षमता बढ़ाने और इंटरनेट प्रामाणिकता में सुधार करने के लिए दो अंडरसी इंटरनेट केबल लगाने की योजना बनाई है। इन दो केबल्स को “Echo” और “Bifrost” नाम दिया गया है। यह केबल सिंगापुर, इंडोनेशिया और उत्तरी अमेरिका को जोड़ेंगी। Echo को गूगल और इंडोनेशियाई दूरसंचार कंपनी XL XLxi के साथ साझेदारी में स्थापित किया जा रहा है। यह काम 2023 तक पूरा हो जायेगा। Bifrost को इंडोनेशिया के Telin और सिंगापुर के Keppel के साथ साझेदारी में बनाया जा रहा है और इसके 2024 तक पूरा होने का अनुमान है। फेसबुक की गूगल और कुछ क्षेत्रीय दूरसंचार कंपनियों जैसी कंपनियों के साथ भागीदारी है। इस परियोजना के लिए लागत का अभी तक खुलासा नहीं किया गया है, लेकिन फेसबुक ने इसका उल्लेख किया क्योंकि उन्होंने इसे दक्षिण पूर्व एशिया में कंपनी के लिए “भौतिक निवेश” कहा था।फेसबुक ने कहा, यह केबल ऐसे पहले केबल होंगे जो उत्तरी अमेरिका को सीधे इंडोनेशिया के कुछ मुख्य हिस्सों से जोड़ेंगे, जो दुनिया में कंपनी के शीर्ष पांच बाजारों में से एक है।

पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री ने सीओपी - 26 में वर्चुअल माध्‍यम से हिस्‍सा लिया

पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावडेकर ने संयुक्‍त राष्‍ट्र जलवायु परिवर्तन सम्‍मेलन 2021 के सिलसिले में विभिन्‍न पक्षों के सम्‍मेलन सीओपी - 26 में वर्चुअल माध्‍यम से हिस्‍सा लिया। श्री जावडेकर ने कहा कि उन्‍होंने सीओपी-26 से एक बार में केवल एक मुद्दे पर चर्चा करने का अनुरोध किया। उन्‍होंने इस बात पर प्रसन्‍नता व्‍यक्‍त की कि बैठक के दौरान सिर्फ वित्‍त सम्‍बंधी मुद्दे पर ही चर्चा हुई।

सरकार ने व्‍यापारियों के लिए एचएसएन, या एसएसी उपलब्‍ध कराना अनिवार्य किया

सरकार ने बीते साल पांच करोड रुपए से अधिक का कारोबार करने वाले व्‍यापारियों के लिए करयोग्‍य वस्‍तुओं और सेवाओं की सप्‍लाई के सिलसिले में जारी बीजक पर छह अंकों वाला हार्मोनाइज्‍ड सिस्‍टम ऑफ नोमिनक्‍लेचर यानी एचएसएन, या सर्विस एकाउंटिंग कोड-- एसएसी उपलब्‍ध कराना अनिवार्य कर दिया है। ऐसे जीएसटी करदाता जिन्‍होंने बीते साल में पांच करोड रुपए तक का कारोबार किया है, उन्‍हें चार अंकों वाला एचएसएन कोड अनिवार्य रूप से उपलब्‍ध कराना होगा। इससे पहले इसके लिए चार अंकों और दो अंकों वाला कोड भी प्रचलित था। छह अंकों वाला हार्मोनाइज्‍ड सिस्‍टम ऑफ नोमिनक्‍लेचर यानी एचएसएन कोड का इस्‍तेमाल वस्‍तुओं के व्‍यापार में दुनियाभर में बहुत आम बात है। इसलिए सीमा शुल्‍क और वस्‍तु तथा सेवाकर के क्षेत्र में भी इसका उपयोग होता है। जीएसटी पोर्टल पर एचएसएन खोज सुविधा उपलब्‍ध है।

भारतीय कंपनियां बांग्लादेश रूपपुर परमाणु ऊर्जा संयंत्र की ट्रांसमिशन लाइनों का विकास करेंगी

हाल ही में, भारत ने बांग्लादेश के साथ एक समझौता किया जहां भारतीय कंपनियां बांग्लादेश रूपपुर परमाणु ऊर्जा संयंत्र (Rooppur Nuclear Power Plant) की ट्रांसमिशन लाइनों का विकास करेंगी। रूपपुर परमाणु ऊर्जा संयंत्र के बारे में कुछ महत्वपूर्ण तथ्य इस प्रकार हैं :यह बांग्लादेश में एक निर्माणाधीन 4 GWe परमाणु ऊर्जा संयंत्र है।इसका निर्माण बांग्लादेश के पाबना जिले के पद्मा नदी के किनारे रूपपुर में किया जा रहा है।इस प्लांट की दो इकाइयाँ हैं जिनके क्रमशः 2022 और 2024 में पूरा होने की उम्मीद है। प्रत्येक इकाई 1200MW बिजली का उत्पादन करेगी।यह बांग्लादेश का पहला परमाणु ऊर्जा संयंत्र होगा।रूपपुर परियोजना तीसरे देशों में परमाणु ऊर्जा परियोजनाओं को शुरू करने के लिए भारत-रूस समझौते के तहत पहली पहल है।मार्च 2018 में त्रिपक्षीय मेमोरेंडम ऑफ अंडरस्टैंडिंग (एमओयू) पर रूस, बांग्लादेश और भारत के बीच रूपपुर परमाणु ऊर्जा परियोजना के लिए हस्ताक्षर किए गए थे।इसका निर्माण रूसी Rosatom State Atomic Energy Corporation द्वारा किया जायेगा।जून 2018 में हिंदुस्तान कंस्ट्रक्शन कंपनी लिमिटेड (HCC) को रूपपुर परमाणु ऊर्जा संयंत्र के लिए अनुबंध दिया गया था।यह पहली बार होगा जब कोई भारतीय कंपनी देश के बाहर किसी भी परमाणु परियोजना में शामिल होगी। चूंकि भारत एक परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (NSG) का सदस्य नहीं है, इसलिए वह परमाणु ऊर्जा रिएक्टरों के निर्माण में सीधे भाग नहीं ले सकता है।

वज्र प्रहार : हिमाचल प्रदेश में किया गया भारत और अमेरिका के बीच सैन्य अभ्यास का आयोजन

अमेरिका और भारत के विशेष बलों के बीच हाल ही में हिमाचल प्रदेश में ‘वज्र प्रहार’ (Vajra Prahar) अभ्यास का आयोजन किया गया। यह अभ्यास हिमाचल प्रदेश के चंबा (Chamba) जिले के बकलोह (Bakloh) में आयोजित किया गया। गौरतलब है कि यह वज्र प्रहार अभ्यास का 11वां संस्करण था। इस अभ्यास का आयोजन बारी-बारी से अमेरिका और भारत में किया जाता है। इस अभ्यास में दोनों देशों के बलों ने संयुक्त मिशन और परिचालन रणनीति जैसे क्षेत्रों में मिलकर काम किया। इस अभ्यास का मुख्य उद्देश्य दोनों देशों के बलों के बीच इंटरओपेराबिलिटी को बढ़ावा देना है।

सरकार ने आधार संख्‍या को पैन नम्‍बर के साथ जोड़ने की अंतिम सीमा 30 जून तक के लिए बढ़ाई

सरकार ने आधार संख्‍या को पैन नम्‍बर के साथ जोड़ने की अंतिम सीमा आगामी तीस जून तक के लिए बढ़ा दी है। कोविड-19 महामारी की वजह से लोगों की समस्‍याओं को ध्‍यान में रखते हुए यह फैसला किया गया है। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार पैन और आधार को जोड़ने की अंतिम समय सीमा 31 मार्च को खत्‍म हो रही थी जिसे आगे बढ़ा दिया गया है।

भारतीय सेना ने औपचारिक रूप से सैन्य फार्म को बंद किया

भारतीय सेना ने 31 मार्च को औपचारिक रूप से सैन्य फार्म को बंद कर दिया है। ब्रिटिश काल में सैनिकों के लिए गाय के स्‍वच्‍छ दूध की आपूर्ति के उद्देश्‍य से सैन्य फार्मो की स्थापना की गई थी। पहला सैन्य फार्म 1 फरवरी 1889 को इलाहाबाद में बनाया गया था।

सूरत और दीव के बीच अपनी तरह की पहली क्रूज सेवा प्रारम्भ हुई

पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री मनसुख मंडाविया ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से सूरत के हज़ीरा बंदरगाह से दीव के लिए क्रूज सेवा को झंडी दिखाकर रवाना किया। क्रूज़ सेवा से समुद्री यात्रा में एक तरफ का समय लगभग 13 से 14 घंटे का समय लगता है। क्रूज में 300 यात्रियों की क्षमता है और इसमें 16 केबिन हैं। यह क्रूज एक सप्ताह में दो चक्कर लगाएगा। क्रूज में खेलने का स्थान, वीआईपी लाउंज, डेक पर मनोरंजन और अन्य आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध हैं।

1 अप्रैल से 45 साल से ऊपर के सभी लोगों के लिए कोविड-19 टीकाकरण शुरू होगा

1 अप्रैल, 2021 से 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों के लिए कोविड-19 टीकाकरण शुरू हो जायेगा। 45 से अधिक आयु की श्रेणी के लिए कट-ऑफ तारीख 1 जनवरी, 1977 से पहले पैदा हुए व्यक्ति हैं। सिस्टम को सरल बनाने के लिए सह-रुग्णता (comorbidities) क्लॉज को हटा दिया गया है। 45 वर्ष या उससे अधिक आयु के सभी व्यक्ति टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंट की बुकिंग के लिए खुद को CoWIN सिस्टम में पंजीकृत कर सकते हैं। ऐसे व्यक्तियों का ऑनसाइट पंजीकरण भी उपलब्ध होगा। लोग किसी भी पहचान दस्तावेज के साथ ऑन-साइट पंजीकरण के लिए 3 बजे के बाद अपने निकटतम टीकाकरण केंद्र पर जा सकते हैं। यदि किसी लाभार्थी ने CoWIN पर टीकाकरण के लिए ऑनलाइन अपॉइंटमेंट लिया है, तो निजी या सार्वजनिक अस्पतालों में आगे कोई अपॉइंटमेंट लेने की आवश्यकता नहीं है।

ट्राइफेड ने दादरा और नगर हवेली और दमन और दीव प्रशासन के साथ एमएफपी योजना और वन धन योजना के लिए एमएसपी के कार्यान्वयन के लिए समझौता ज्ञापन का आदान-प्रदान किया

जनजातीय कार्य मंत्रालय के तहत ट्राइफेड ने हाल ही में एमएफपी योजना और वन धन योजना के लिए एमएसपी के कार्यान्वयन हेतु दादरा और नगर हवेली तथा दमन और दीव प्रशासन के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं। दादरा और नगर हवेली, दमन और दीव अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग तथा अल्पसंख्यक वित्तीय और विकास निगम लिमिटेड को राज्य कार्यान्वयन एजेंसी के रूप में नियुक्त किया गया है। ट्राइफेड आदिवासियों (वनवासियों और कारीगरों दोनों) की आजीविका में सुधार लाने और आदिवासी सशक्तिकरण की दिशा में काम करने के अपने अभियान के तहत कई कार्यक्रमों और पहलों को अंजाम दे रहा है।

सीएसआईआर-सीएमईआरआई दुर्गापुर ने प्रदूषण से छुटकारा दिलाने के लिए महाराष्ट्र के संगठन को जल शोधन तकनीक हस्तांतरित की

पानी की कमी और दूषित जल जैसे दो बड़े खतरे हैं जिनसे हम आज भी लड़ रहे हैं। सीएसआईआर-सीएमईआरआई दुर्गापुर ने इस समस्या से निपटने के लिए लंबे समय से काम कर रहा है और मानव जाति के लाभ के लिए नवीन तकनीकों के साथ सामने आया है। यह प्रौद्योगिकी स्थानीय स्तर पर उपलब्ध संसाधनों पर आधारित है जिन्हें नए तरीके से विकसित किया गया है। दूषित जल की समस्या को दूर करने के लिए सीएसआईआर-सीएमईआरआई ने हाई फ्लो रेट डी-फ्लोराइडेशन प्लांट की तकनीक को मैसर्स यूनिकेयर टेक्नोलॉजीज प्राइवेट लिमिटेड, पुणे महाराष्ट्र को हस्तांतरित की है। इस दौरान सीएसआईआर-सीएमईआरआई के निदेशक प्रोफेसर हरीश हिरानी और मैसर्स यूनिकेयर टेक्नोलॉजीज प्राइवेट लिमिटेड, पुणे वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे। ये संयत्र प्रति घंटे 10,000 लीटर और 5000 लीटर पानी से प्रति घंटे उच्च प्रवाह दर के हिसाब से आर्सेनिक हटाने की क्षमता रखते हैं।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने आई. आई. एम. जम्‍मू में सेंटर फॉर हैप्‍पीनैस “आनंदम” का उद्घाटन किया

छात्रों को तनावपूर्ण माहौल से मुक्ति दिलाने और उनके मानसिक स्वास्थ्य को प्राथमिकता देने के लिए आईआईएम जम्मू में ‘आनंदम : द सेंटर फॉर हैप् पीनैस’ का उद्घाटन किया गया । केंद्रीय शिक्षा मंत्री श्री रमेश पोखरियाल निशंक ने वर्चुअल माध्‍यम से “आनंदम : द सेंटर फॉर हैप्‍पीनैस” का उद्घाटन किया। इस अवसर पर जम्‍मू-कश्‍मीर के उपराज्‍यपाल श्री मनोज सिन्‍हा और आर्ट ऑफ लिविंग फाउंडेशन के संस्‍थापक श्री श्री रविशंकर भी उपस्थित थे। इस कार्यक्रम की अध्‍यक्षता आई. आई. एम. जम्‍मू के बोर्ड ऑफ गवर्नर के अध्‍यक्ष डॉ. मिलिंद कांबले ने की कार्यक्रम में आई. आई. एम. जम्‍मू के निदेशक प्रो. बी. एस. सहाय भी मौजूद थे। सेंटर फॉर हैप्‍पीनैस को आनंदम का नाम भारतीय दर्शन और परंपरा के अनुसार दिया गया है जहां यह माना जाता है व्‍यक्ति की पवित्र चेतना ही आनंदम है। आनंदम का लक्ष्‍य सिर्फ प्रसन्‍नता हासिल करना ही नहीं, बल्कि सत्‍य की खोज, सर्वकल्‍याण और अपने आस-पास के प्राकृतिक सौन्‍दर्य का आनंद लेना है। ‘आनंदम’ की टैग लाइन इस विचार को निरंतर और सुदृढ़ करती है कि इससे सबका कल्‍याण होगा। “सर्वभूतहितेरताः” सूत्र का अर्थ है सदा सबके कल्‍याण के लिए प्रेरित हों। IIM जम्मू में 'आनंदम' की स्थापना का उद्देश्य समग्र कल्याण लाना है। ​केंद्र में नियमित शारीरिक अभ्यास छात्रों और फैकल्टी दोनों के लिए शारीरिक स्तर पर कल्याण में योगदान देगा। ‘आनंदम : द सेंटर फॉर हैप्पीनेस’ के माध्यम से पांच व्यापक श्रेणियों में कुछ प्रमुख गतिविधयां होंगी जिनमें काउंसलिंग, समग्र कल्याण, आनंद का विकास, अनुसंधान और नेतृत्व तथा विषय संबंधी विकास जैसे कुछ चुनिंदा पाठ्यक्रम शामिल हैं।

जीत थाइल ने लिखी पुस्तक "नेम्स ऑफ़ द वूमेन"

जीत थाइल (Jeet Thayil) ने "नेम्स ऑफ द वूमेन (Names of the Women)" नामक एक पुस्तक लिखी है। इस पुस्तक में उन महिलाओं का उल्लेख किया गया है जिनकी भूमिकाएँ गॉस्पेल में दबा दी गईं, कम कर दी गईं या मिटा दी गईं। जीत थाइल एक प्रसिद्ध लेखक हैं, जिन्हें उनकी पुस्तक 'नार्कोपोलिस (Narcopolis)' के लिए जाना जाता है, जिसे मैन बुकर पुरस्कार 2012 के लिए चुना गया था और दक्षिण एशियाई साहित्य के लिए DSC पुरस्कार जीता था। उनकी सबसे हालिया पुस्तक 'लो (Low)' 2020 में रिलीज़ हुई थी।

यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया ने लॉन्च किया “UNI - CARBON CARD”

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (Union Bank of India) ने NPCI के Rupay प्लेटफॉर्म पर HPCL सह-ब्रांडेड क्रेडिट कार्ड "UNI - CARBON CARD" लॉन्च किया है। यह एक सबसे यूनिक कार्ड है, जिसे सार्वजनिक क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक में से एक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया और एचपीसीएल, जो फ्यूल रिटेल में अग्रणी और भारत का सबसे बड़ा कार्ड भुगतान नेटवर्क- Rupay के साथ मिलकर बनाया गया है। यह ग्राहकों के लिए मूल्य बनाने का अवसर पैदा करेगा। बैंक का पूरे भारत में 9590+ शाखाओं और 13280+ एटीएम का कुल नेटवर्क है, यह सह-ब्रांडेड क्रेडिट कार्ड बैंक का पहला संयुक्त उद्यम है। HPCL खुदरा दुकानों पर इस कार्ड का उपयोग करते समय, कार्डधारक को बैंक द्वारा उपलब्ध कराए गए ईंधन अधिभार की छूट के अलावा कैशबैक / रिवार्ड्स मिलते हैं। कार्डधारक NPCI द्वारा लाए गए कई मुफ्त उपहार और ऑफर का आनंद ले पाएंगे, जैसे कि मनोरंजन, लाइफस्टाइल, यात्रा, शॉपिंग, भोजन, आदि। कार्ड वेतनभोगी और अन्य को दिया जाता है। प्रस्तावित कार्ड सीमा, कुल वार्षिक आय का 20% है, जिसमें न्यूनतम सीमा रु. 50,000/- है, जिसकी कोई ऊपरी सीमा नहीं है।

महाराष्ट्र में साइबर अपराधियों का महाराष्ट्र एमआईडीसी की कंप्यूटर प्रणाली पर हमला

महाराष्ट्र में साइबर अपराधियों ने महाराष्ट्र औद्योगिक विकास निगम-एमआईडीसी की कंप्यूटर प्रणाली पर हमला किया है। एमआईडीसी ने एक बयान में कहा है कि साइबर हमलावरों ने ई-मेल भेजकर फिरौती की मांग की है। एमआईडीसी की सभी प्रणालियां निजी और स्थानीय सर्वरों पर आधारित है और वह ट्रेंड माइक्रो एंटी वायरस का इस्तेमाल करता है। साइबर हमले का प्रभाव कम करने के लिए संक्रमित कम्प्यूटरों को नेटवर्क से तुरन्त अलग कर दिया गया। लेकिन वायरस का एमआईडीसी के क्षेत्रीय कार्यालयों के कामकाज पर असर पड़ा है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन का कोविड-19 वायरस के स्रोत का पता लगाने के लिए और अध्ययन तथा डेटा संग्रह का आह्वान

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस के स्रोत का पता लगाने के लिए और अध्ययन तथा डेटा संग्रह का आह्वान किया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा कि वायरस के स्रोत का पता लगाने में सभी अवधारणाओं पर विचार किया जाना चाहिए। मूल स्रोत की जांच में लगी अंतर्राष्ट्रीय टीम के वुहान दौरे की रिपोर्ट प्रकाशित की गई। विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक डॉक्टर टे़ड्रोस अधनोम घेब्रियसस ने यह रिपोर्ट जारी की। डॉक्टर टेड्रोस ने कहा कि कोरोना वायरस के स्रोत का पता लगाने के लिए चीन गये विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के जांचकर्ताओं को आंकडे उपलब्‍ध नहीं कराये गये। श्री टेड्रोस ने यह भी कहा कि दौरे पर गई टीम को शुरूआती आंकडों की जानकारी लेने में कठिनाईयों का सामना करना पड़ा। उन्‍होंने कहा कि यह रिपोर्ट काफी महत्वपूर्ण शुरुआत है, लेकिन अभी वायरस के मूल स्रोत का पता नहीं लग सका है। इस दिशा में प्रयास जारी रखना होगा ताकि इस वायरस से जु़ड़े जोखिम को कम करने के लिए सामूहिक कदम उठाए जा सकें। कोविड-19 का मामला सबसे पहले वर्ष 2019 के अंत में चीन के वुहान में हुबेई प्रान्‍त में सामने आया था। चीन सरकार ने वायरस के लीक होने के आरोपों को खारिज किया है। विशेषज्ञों के दल में ऑस्‍ट्रेलिया, चीन, डेनमार्क, जर्मनी, जापान, केन्‍या, नीदरलैंडस, कतर, रूसी संघ, ब्रिटेन, अमरीका और वियतनाम के विशेषज्ञ शामिल हैं। संयुक्त अंतर्राष्ट्रीय जांच टीम में 17 चीनी और 10 अन्य देशों 17 विशेषज्ञ, पशु स्‍वास्‍थ्‍य पर विश्‍व संगठन और विश्व स्वास्थ्य संगठन के विशेषज्ञ हैं।

जूनियर नेशनल महिला हॉकी चैंपियनशिप कोरोना महामारी के कारण स्थगित

झारखंड के सिमडेगा में 3 अप्रैल से शुरू होने वाली जूनियर नेशनल महिला हॉकी चैंपियनशिप कोरोना महामारी के कारण स्थगित कर दी गयी है। कोच सहित 11 खिलाड़ियों के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद टूर्नामेंट को स्थगित कर दिया गया। झारखंड की हॉकी टीम के कोच और छह खिलाड़ी तथा चंडीगढ़ हॉकी टीम के पांच खिलाड़ी कोरोना पॉज़ीटिव पाए गये।

दिल्ली ISSF शूटिंग विश्व कप में 15 स्वर्ण के साथ पदक तालिका में शीर्ष पर भारत

भारत, नई दिल्ली में डॉ. कर्णी सिंह शूटिंग रेंज (Dr Karni Singh Shooting Range) में 18 से 29 मार्च 2021 तक आयोजित 2021 ISSF विश्व कप नई दिल्ली में पदक तालिका में शीर्ष पर रहा। भारत ने 30 पदक प्राप्त किए, जिसमें 15 स्वर्ण, 9 रजत और 6 कांस्य शामिल थे। अमेरिका चार स्वर्ण, तीन रजत और एक कांस्य सहित आठ पदकों के साथ दूसरे स्थान पर रहा। स्वर्ण पदक विजेता:

  1. ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर: पुरुष 50-मीटर राइफल थ्री पोजीशन
  2. सौरभ चौधरी, शहजर रिज़वी और अभिषेक वर्मा: पुरुष 10-मीटर एयर पिस्टल टीम इवेंट
  3. स्वप्निल कुसाले, चैन सिंह और नीरज कुमार: पुरुष 50-मीटर राइफल थ्री पोजीशन टीम इवेंट
  4. गुरजोत खंगुरा, अंगद वीर सिंह बाजवा और मिराज अहमद खान: पुरुष स्कीट टीम इवेंट
  5. किनान चेनाई, पृथ्वीराज टोंडिमन, लक्ष्य: पुरुष ट्रैप टीम इवेंट
  6. चिंकी यादव: महिला 25-मीटर पिस्टल
  7. यशस्विनी सिंह देसवाल: महिला 10-मीटर एयर पिस्टल
  8. यशस्विनी सिंह देसवाल, मनु भाकर, श्री निवेथा परमानन्दम: महिला 10-मीटर एयर पिस्टल टीम
  9. राही सरनोबत, मनु भाकर, चिंकी यादव: महिला 25 मीटर पिस्टल इवेंट
  10. राजेश्वरी कुमार, श्रेयसी सिंह, मनीषा कीर: महिला ट्रैप इवेंट
  11. सौरभ चौधरी / मनु भाकर: 10 मीटर एयर पिस्टल मिक्स्ड टीम इवेंट
  12. दिव्यांश सिंह पंवार / इलेव्हनिल वलारीवन: 10 मीटर एयर राइफल मिक्स्ड टीम
  13. तेजस्विनी / विजयवीर सिद्धू: 25 मीटर रैपिड-फायर पिस्टल मिक्स्ड टीम
  14. संजीव राजपूत / तेजस्विनी सावंत: 50 मीटर राइफल थ्री पोज़िशन्स मिक्स्ड टीम
  15. अंगद वीर सिंह बाजवा / गनीमत सेखों: ट्रैप मिक्स्ड टीम

इंटरनेशनल ट्रांसजेंडर डे ऑफ़ विजिबिलिटी: 31 मार्च

इंटरनेशनल ट्रांसजेंडर डे ऑफ़ विजिबिलिटी (International Transgender Day of Visibility) हर साल 31 मार्च को वैश्विक स्तर पर मनाया जाता है। यह दिन ट्रांसजेंडर लोगों की सराहना के लिए और दुनिया भर में ट्रांसजेंडर लोगों के साथ होने वाले भेदभाव के बारे में जागरूकता बढ़ाने के साथ-साथ समाज में उनके योगदान की प्रशंसा के लिए समर्पित है। इस दिन की स्थापना 2009 में मिशिगन के अमेरिका स्थित ट्रांसजेंडर कार्यकर्ता रशेल क्रैंडल (Rachel Crandall) ने की थी। ​ट्रांसजेंडर लोगों की LGBT मान्यता की कमी के लिए एक प्रतिक्रिया के रूप में, इस निराशा का हवाला देते हुए कि केवल प्रसिद्ध ट्रांसजेंडर-केंद्रित दिन ट्रांसजेंडर डे ऑफ़ रेमेम्ब्रंस था, जिसने ट्रांसजेंडर लोगों की हत्याओं पर शोक व्यक्त किया, लेकिन ट्रांसजेंडर समुदाय के जीवित सदस्यों को स्वीकार और प्रशंसा नहीं की, इस दिन की स्थापना की गई। पहला इंटरनेशनल ट्रांसजेंडर डे ऑफ़ विजिबिलिटी 31 मार्च, 2009 को मनाया गया था। इसके बाद से यू.एस.-आधारित युवा वकालत संगठन ट्रांस स्टूडेंट एजुकेशनल रिसोर्सेज द्वारा इसका नेतृत्व किया गया।

यूएस की बच्चों की प्रसिद्ध लेखक बेवर्ली क्लीरी का निधन

यूएस की बच्चों की प्रसिद्ध लेखक, बेवर्ली क्लीरी (Beverly Cleary) का निधन हो गया है। उन्हें कांग्रेस की लाइब्रेरी द्वारा 2000 में लिविंग लेजेंड नामित किया गया था। ​2003 में, उन्हें नेशनल मेडल ऑफ़ आर्ट्स के विजेताओं में से एक चुना गया था। लेखक, जिनके ओरेगन बचपन की यादें रमोना और बीज़स क्विमबी और हेनरी हगिन्स की पसंद के माध्यम से लाखों लोगों के साथ साझा की गईं।

Start Quiz!

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.