Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

27 April 2021

नोमाडलैंड को सर्वश्रेष्‍ठ फिल्‍म का ऑस्‍कर, एन्‍थनी हॉकिन्‍स सर्वश्रेष्‍ठ अभिनेता और फ्रांसिस मैक्‍डोरमंड सर्वश्रेष्‍ठ अभिनेत्री

नोमाडलैंड को सर्वश्रेष्‍ठ फिल्‍म का ऑस्‍कर पुरस्‍कार मिला है। एन्‍थनी हॉकिन्‍स ने सर्वश्रेष्‍ठ अभिनेता और फ्रांसिस मैक्‍डोरमंड ने सर्वश्रेष्‍ठ अभिनेत्री का पुरस्‍कार जीता। अमरीका के लॉस एंजेलिस में आयोजित पुरस्‍कार समारोह में च्लोई जाओ फिल्‍म नोमेडलैंड के लिए सर्वश्रेष्‍ठ निर्देशक का पुरस्‍कार जीतने वाली पहली अश्‍वेत महिला बन गई हैं। साथ ही वे दूसरी महिला हैं जिन्‍हें इस श्रेणी में ऑस्‍कर पुरस्‍कार मिला हैं। यॉन यू जंग को फिल्‍म मिनारी के लिए सर्वश्रेष्‍ठ सहायक अभिनेत्री का पुरस्‍कार मिला। डैनियल कालूयो को फिल्‍म जूडास एण्‍ड दी ब्‍लैक मसीहा के लिए सर्वश्रेष्‍ठ सहायक अभिनेता का पुरस्‍कार मिला। डेनमार्क की एनादर राउंड को सर्वश्रेष्‍ठ अंतरराष्‍ट्रीय फीचर फिल्‍म का पुरस्‍कार दिया गया। ऑस्‍कर पुरस्‍कार समारोह लॉस एंजेलिस के दो स्‍थलों- डॉलबी थिएटर और यूलियन स्‍टेशन में आयोजित किया गया।

भारत सरकार 10,000 ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर का आयात करेगी

भारत सरकार 10,000 ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर का आयात करेगी। एक ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर वातावरण से ऑक्सीजन का सांद्रण करता है। वायुमंडलीय हवा में 78% नाइट्रोजन और 21% ऑक्सीजन होती है। ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर हवा को जमा करता है, एक छलनी के माध्यम से नाइट्रोजन को वापस हवा में भेजता है और केवल ऑक्सीजन एकत्र करता है।ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर में ऑक्सीजन एक प्रवेशनी के माध्यम से संकुचित होती है।यह ऑक्सीजन 90% से 95% शुद्ध होती है।कॉन्सेंट्रेटर में एक दबाव वाल्व 1 से 10 लीटर प्रति मिनट से ऑक्सीजन की आपूर्ति को विनियमित करने में मदद करता है। कॉन्सेंट्रेटर से प्राप्त ऑक्सीजन, तरल मेडिकल ऑक्सीजन के जितनी शुद्ध नहीं होती है। हालांकि, यह हल्के और मध्यम COVID-19 रोगियों के लिए पर्याप्त शुद्ध है। यह उन रोगियों के लिए उपयुक्त है जिन्हें 85% या उससे अधिक ऑक्सीजन संतृप्ति स्तर की आवश्यकता होती है। ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर ICU रोगियों के लिए उचित नहीं हैं।ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर प्रति मिनट केवल पांच से दस लीटर प्रदान करेंगे।गंभीर रोगियों को प्रति मिनट 40 से 50 लीटर ऑक्सीजन की आवश्यकता होती है।ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर पोर्टेबल हैं।दूसरी ओर, लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन को क्रायोजेनिक टैंकरों में संग्रहीत और परिवहन करने की आवश्यकता होती है।

गाम्बिया ने ट्रैकोमा को समाप्त किया

गाम्बिया हाल ही में ट्रैकोमा (Trachoma) को खत्म करने वाला दूसरा अफ्रीकी देश बना। ट्रैकोमा अंधापन के प्रमुख कारणों में से एक है। 2018 में ट्रेकोमा को खत्म करने वाला घाना पहला अफ्रीकी देश बना था। ट्रैकोमा एक जीवाणु नेत्र संक्रमण है जो आंख की पलकों को नुकसान पहुंचाता है। इससे आंख की पलकें अंदर की तरफ मुड़ जाती हैं। ट्रैकोमा उपेक्षित उष्णकटिबंधीय रोगों (Neglected Tropical Diseases) में से एक है। अगर इसे सर्जरी के साथ ठीक नहीं किया जाता है तो यह अपरिवर्तनीय दृष्टि हानि और अंधापन का कारण बन सकता है।ट्रैकोमा जीवाणु क्लैमाइडिया ट्रैकोमैटिस (Chlamydia trachomatis) के कारण होता है।

संयुक्त राष्ट्र के नेतृत्व में बच्चों की वैश्विक टीकाकरण रणनीति की घोषणा की गई

संयुक्त राष्ट्र के नेतृत्व में बच्चों की वैश्विक टीकाकरण रणनीति की घोषणा की गई ताकि 5 करोड से अधिक बच्चों को खसरे और अन्य बीमारियों से जीवन बचाने वाले टीके लगाए जा सकें जिनमें कोविड महामारी के कारण व्यवधान आया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ,यूनिसेफ और वैक्सीन गठबंधन ने संयुक्‍त बयान में कहा कि नई वैश्विक रणनीति से एक दशक से भी कम समय में 5 करोड़ जीवन बचाया जा सकता है। विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन प्रमुख टेड्रोस एधनोम घ्रेबियासि‍स ने कहा है कि खसरे, पीत ज्‍वर और डिप्थिरिया जैसी खतरनाक बीमारियां न फैले इसके लिए जरूरी है कि विश्‍व के हर देश में नियमित टीकाकरण जारी रहे। विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के सर्वेक्षण में पाया गया है कि एक तिहाई से ज्‍यादा देशों में नियमित टीकाकरण अभियान अब भी रूके हुए है। संयुक्‍त बयान में कहा गया है कि 50 देशों में लगभग 60 जन टीकाकरण अभियान फिलहाल स्‍थगित कर दिए गए जिसने 22 करोड 80 लाख लोगों विशेषकर बच्‍चों का जीवन खसरे और पोलियो जैसी बीमारियों से खतरे में डाल दिया है।

रूस के केंद्रीय बैंक ने ब्याज दरों में वृद्धि की

रूस के केन्द्रीय बैंक ने ब्याज दर 4.5% से बढ़ाकर 5% कर दी है। यह दूसरी बार है जब सर्वोच्च बैंक मुद्रास्फीति के दबाव के कारण ब्याज दरों में वृद्धि कर रहा है। बैंक के अनुसार, देश में मुद्रास्फीति 2021 तक 4.7% से 5.2% तक होगी। उम्मीद है कि रूस 2022 में अपने 4% लक्ष्य पर वापस आ जाएगा।

झुरोंग (Zhurong) : चीन का पहला मंगल रोवर

चीन ने अपने पहले मंगल रोवर को पारंपरिक अग्नि देवता के नाम पर झुरोंग (Zhurong) रखा गया है। झुरोंग तियानवेन-1 (Tianwen-1) स्पेस प्रोब पर है। यह फरवरी, 2021 में मंगल की कक्षा में पहुंचा और मई, 2021 में मंगल ग्रह पर लैंडिंग करेगा। झुरोंग के साथ, मंगल पर सॉफ्ट लैंडिंग हासिल करने के लिए चीन सोवियत संघ और अमेरिका के बाद तीसरा देश बन जाएगा। साथ ही, यह अमेरिका के बाद मंगल पर रोवर लैंड करवाने वाला दूसरा देश बन जाएगा। झुरोंग का वजन 240 किलोग्राम है और यह सौर ऊर्जा द्वारा संचालित है। झुरोंग में चट्टानों की संरचना का विश्लेषण करने के लिए मल्टीस्पेक्ट्रल कैमरों और उपकरण हैं।

भारत ने आसियान शिखर सम्‍मेलन में म्‍यांमा पर बनी सहमति पर आसियान की पहल का स्‍वागत किया

भारत सरकार ने हाल ही में म्यांमार पर आसियान पहल का स्वागत किया है। आसियान (ASEAN) देशों ने म्यांमार संकट पर पांच सूत्रीय बयान जारी किया है। इस बयान के तहत, आसियान देशों ने “हिंसा के तत्काल समाप्ति” की मांग की है। इस पहल के पांच बिंदु इस प्रकार हैं:

  1. हिंसा को समाप्त करना
  2. सभी पक्षों के बीच रचनात्मक संवाद का आयोजन करना
  3. सर्वदलीय संवाद को सुविधाजनक बनाने के लिए एक विशेष आसियान दूत की नियुक्ति
  4. सहायता की स्वीकृति
  5. विशेष आसियान दूत सैन्य नेता के साथ म्यांमार में का दौरा करेंगे

भारत सरकार ने मेडिकल ऑक्सीजन और उपकरणों पर बुनियादी सीमा शुल्क और स्वास्थ्य उपकर को हटाया

भारत सरकार ने तीन महीने की अवधि के लिए ऑक्सीजन से संबंधित उपकरणों पर सीमा शुल्क के आयात पर बुनियादी स्वास्थ्य उपकर से पूरी छूट दी है। देश में तेजी से फैल रहे COVID-19 डबल म्यूटेंट वैरिएंट B.1.617 के साथ, मेडिकल ऑक्सीजन की मांग में तेजी से विस्फोट हुआ। इस उच्च मांग को पूरा करने के लिए, भारत सरकार कई कदम उठा रही है। भारत सरकार ने घोषणा की कि 162 चिकित्सा ऑक्सीजन प्लांट सार्वजनिक स्वास्थ्य सुविधाओं में स्थापित किये जायेंगे। इसमें से 30-30 पहले ही मध्य प्रदेश, कर्नाटक बिहार, उत्तराखंड, गुजरात, इत्यादि में स्थापित हो चुके हैं। 80 प्लांट मई, 2021 तक स्थापित किये जायेंगे। इन संयंत्रों की स्थापना की लागत 201.58 करोड़ रुपये आंकी गई है। इनमें से 100 मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट्स को पीएम केयर फंड द्वारा वित्त पोषित किया जायेगा। भारत सरकार ने 50,000 टन ऑक्सीजन आयात करने की योजना बनाई है।

116 भारतीय जिलों ने 2020 में शून्य मलेरिया के मामलों की सूचना दी

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री ने हाल ही में बताया कि 2020 में भारत के कुल 116 जिलों में शून्य मलेरिया के मामले सामने आए हैं। 2020 में, भारत ने मलेरिया के रोग भार को 5% कम कर दिया था।साथ ही, भारत ने मलेरिया के कारण होने वाली मौतों में 83.6% की कमी की है।विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, वेक्टर नियंत्रण उपायों के सही मिश्रण को प्राथमिकता देते हुए, भारत ने मजबूत तकनीकी नेतृत्व, कायाकल्प की राजनीतिक प्रतिबद्धता के कारण इसे हासिल किया। भारत 2015 में मलेशिया में आयोजित ईस्ट एशिया समिट में Malaria Elimination Roadmap of Asia Pacific Leaders Malaria Alliance का समर्थन करने वाले अठारह देशों में से एक था। इस गठबंधन के तहत, नेताओं ने 2030 तक क्षेत्र में मलेरिया को पूरी तरह से खत्म करने पर सहमति व्यक्त की। भारत ने देश में मलेरिया उन्मूलन के लिए राष्ट्रीय ढांचा (2016-2030) लॉन्च किया। हालिया उपलब्धि इस ढांचे का एक हिस्सा है।

CSIR सीरो सर्वेक्षण के परिणाम

वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद ने हाल ही में सीरो सर्वेक्षण के परिणाम जारी किए। यह सर्वेक्षण 10,427 व्यक्तियों पर किया गया था। इनमें से, केवल 14% ने सीरो सकारात्मकता दिखाई। इस सर्वेक्षण ने सुझाव दिया कि न्यूट्रलाइजिंग एंटीबॉडीज में गिरावट आई है। इससे लोगों के फिर से संक्रमित होने की सम्भावना बढ़ गयी है।वैज्ञानिकों ने सर्वेक्षण से निष्कर्ष निकाला कि यह मार्च 2021 में फैलने वाले संक्रमण के कारणों में से एक हो सकता है। सीरो पॉजिटिविटी रक्त परीक्षण में एक विशेष एंटीबॉडी के लिए एक सकारात्मक परिणाम दिखाता है।

कार निकोबार और नैनकाउरी द्वीप समूह के लगभग 14 हजार पांच सौ हेक्‍टेयर जैविक क्षेत्र को जैविक प्रमाणन प्रदान किया गया

के‍न्‍द्र ने कहा है कि अंडमान-निकोबार में कार निकोबार और नैनकाउरी द्वीप समूह के लगभग 14 हजार पांच सौ हेक्‍टेयर जैविक क्षेत्र को जैविक प्रमाणन प्रदान किया गया है। विशाल क्षेत्र प्रमाणन योजना के तहत जैविक दर्जा प्राप्‍त करने वाला यह पहला विशाल समीप्‍य क्षेत्र है। आधुनिक कृषि पद्धतियों के प्रचलन के बावजूद भारत में पर्वतीय क्षेत्रों, जनजातीय जिलों, रेगिस्‍तान और वर्षा सिंचित क्षेत्रों में ऐसे अनेक विशाल समीप्‍य क्षेत्र हैं जहां अब भी खेती-बाड़ी में रासायनिक पदार्थ और उर्वरक इस्‍तेमाल नहीं किये जाते।

तमिलनाडु सरकार का वेदांत ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र फिर से खोलने का फैसला

तमिलनाडु सरकार ने ऑक्सीजन उत्पादन की वृद्धि की तत्काल आवश्यकता पर विचार करने के बाद तूतीकोरिन में वेदांत ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र को फिर से खोलने का फैसला किया है। वेदांत समूह ने तूतीकोरिन में अपने संयंत्र के माध्यम से ऑक्सीजन के उत्पादन की अनुमति देने के लिए उच्चतम न्यायालय में अपील की थी। उच्चतम न्यायालय ने निजी अस्‍पताल वेदांता को तमिलनाडु की तुतीकोरिन में तांबा संयंत्र में ऑक्सीजन उत्पादन इकाई स्‍थापित करने की अनुमति दे दी है। केंद्र सरकार ने उच्चतम न्यायालय से वेदांता को स्टरलाईट संयंत्र में ऑक्सीजन उत्पादन शुरू करने की अनुमति देने का निवेदन किया था। इस संयंत्र में वर्ष 2018 में गोलीबारी की घटना में 18 लोगों की मौत के बाद इसे बंद कर दिया गया था।

तीरंदाजी विश्‍वकप में भारतीय महिला रिकर्व टीम ने स्‍वर्ण पदक जीता

तीरंदाजी विश्‍वकप में ग्‍वाटेमाला में भारतीय महिला रिकर्व टीम ने मैक्‍सि‍को को हराकर स्‍वर्ण पदक जीत लिया है। दीपिका कुमारी, अंकिता भक्त और कोमालिका बारी की भारतीय टीम ने स्‍वर्ण पदक मुकाबले में 27 अंक हासिल किये जबकि मैक्‍सिको की टीम 26 अंक ही जुटा सकी। भारतीय टीम ने सात वर्षो के बाद विश्‍वकप में रिकर्व टीम मुकाबले में अपना पहला स्‍वर्ण पदक हासिल किया है। विश्‍वकप में टीम मुकाबले में दीपिका कुमारी का यह पांचवां स्‍वर्ण पदक है। एक अन्‍य मैच में अंतनु दास और अंकिता भक्‍त की भारतीय मिक्‍स्ड रिकर्व टीम ने अमरीका को 6-2 से हराकार कांस्‍य पदक जीता।

राष्‍ट्रपति ने न्‍यायमूर्ति राजेश बिंदल को कलकत्‍ता उच्‍च न्‍यायालय का कार्यवाहक मुख्‍य न्‍यायाधीश नियुक्‍त किया

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने न्‍यायमूर्ति राजेश बिंदल को कलकत्‍ता उच्‍च न्‍यायालय का कार्यवाहक मुख्‍य न्‍यायाधीश नियुक्‍त किया है। वे मुख्‍य न्‍यायाधीश तोट्टातिल भास्‍करन नायर राधाकृष्‍णन का स्‍थान लेंगे जो 29 अप्रैल को सेवानिवृत्‍त हो रहे हैं। न्‍यायमूर्ति बिंदल कलकत्‍ता उच्‍च न्‍यायालय के वरिष्‍ठतम न्‍यायाधीश हैं। इससे पहले, वे पंजाब और हरियाणा उच्‍च न्‍यायालय में स्‍थायी न्‍यायाधीश तथा केन्‍द्रशासित प्रदेश जम्‍मू-कश्‍मीर और लद्दाख उच्‍च न्‍यायालय में कार्यवाहक मुख्‍य न्‍यायाधीश के रूप में कार्य कर चुके हैं।

केन्‍द्र ने दस मीट्रिक टन और 20 मीट्रिक टन क्षमता के बीस क्रायोजेनिक टैंकर आयात किये

केन्‍द्र ने दस मीट्रिक टन और 20 मीट्रिक टन क्षमता के बीस क्रायोजेनिक टैंकर आयात किये हैं। देश में ऑक्‍सीजन टैंकरों की कमी दूर करने के लिए इन्‍हें विभिन्‍न राज्‍यों को आवंटित कर दिया गया है। ऑक्‍सीजन का परिवहन बढ़ाने के लिए यह क्रायोजेनिक आईएसओ कंटेनर आयात किये गये हैं। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने उद्योग और आंतरिक व्‍यापार संवर्धन विभाग से परामर्श के बाद इन्‍हें मध्‍य प्रदेश, उत्‍तर प्रदेश, राजस्‍थान, दिल्‍ली और गुजरात के आपूर्तिकर्ता को आवंटित किया है। ब्रिटेन से चिकित्‍सा सहायता की पहली खेप भारत पहुंची। विदेश मंत्रालय ने कहा कि इस खेप में सौ वेंटिलेटर और 95 ऑक्‍सीजन कंसेंट्रेटर शामिल हैं। अमरीका, फ्रांस, जर्मनी, इजराइल और यूरोपीय संघ सहित कई राष्‍ट्रों ने कोविड महामारी से निपटने के लिए भारत को सहायता का वायदा किया है। इन देशों ने कहा कि वे भारत को ऑक्‍सीजन, नैदानिक परीक्षण, वेंटिलेटर और सुरक्षा कवच उपलब्‍ध करायेंगे।

राष्‍ट्रीय उर्वरक लिमिटेड ने चार ऑक्‍सीजन संयंत्र स्‍थापित करने का आदेश दिया

राष्‍ट्रीय उर्वरक लिमिटेड ने चार ऑक्‍सीजन संयंत्र स्‍थापित करने का आदेश दिया है। यह संयंत्र नोएडा, लखनऊ, गोरखपुर और भोपाल के सरकारी अस्‍पतालों में लगाये जायेंगे। प्रत्‍येक संयंत्र में रोजाना 70 सिलेंडरों की क्षमता होगी।

ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में एन्जैक दिवस : 25 अप्रैल

हर साल ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में 25 अप्रैल को एन्जैक दिवस (Anzac Day) मनाया जाता है। वह दिन स्मरण के राष्ट्रीय दिवस के रूप में मनाया जाता है जो उन सभी न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलियाई लोगों को याद करता है जो युद्ध, संघर्ष और शांति अभियानों में मारे गए। ANZAC का अर्थ Australian and New Zealand Army Corps है।इस दिन के द्वारा मूल रूप से न्यूज़ीलैंड और ऑस्ट्रेलियाई सेनाओं के सदस्यों को सम्मानित करने की योजना बनाई गई थी जिन्होंने गैलीपोली अभियान (Gallipoli Campaign) में काम किया था। गैलीपोली अभियान (Gallipoli Campaign) प्रथम विश्व युद्ध का पहला सैन्य अभियान था।यह 1915 और 1916 के बीच गैलीपोली प्रायद्वीप में हुआ। इसे अक्सर ऑस्ट्रेलियाई और न्यूजीलैंड की राष्ट्रीय चेतना की शुरुआत माना जाता है।

26 अप्रैल : विश्व बौद्धिक संपदा दिवस

हर साल, विश्व बौद्धिक संपदा दिवस (World Intellectual Property Day) 26 अप्रैल को मनाया जाता है। यह दिन बौद्धिक संपदा के महत्व को उजागर करने के लिए मनाया जाता है। इस वर्ष, विश्व बौद्धिक संपदा दिवस IP and SMEs: Taking your ideas to market थीम के तहत मनाया जा रहा है। यह दिन विश्व बौद्धिक संपदा संगठन द्वारा 2000 में स्थापित किया गया था। इसका उद्देश्य कॉपीराइट, पेटेंट, डिजाइन और ट्रेडमार्क के दैनिक जीवन पर प्रभाव के बारे में जागरूकता बढ़ाना है। 26 अप्रैल को विश्व बौद्धिक संपदा दिवस के रूप में मनाने के लिए चुना गया था क्योंकि इस दिन “विश्व बौद्धिक संपदा संगठन की स्थापना करने के लिए कन्वेंशन” लागू हुआ था।विश्व बौद्धिक संपदा दिवस चीन द्वारा प्रस्तावित किया गया था।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.