Ask Question |
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

इसलिए अलग-अलग रंग के होते हैं मील के पत्थर

सड़क के किनारे रंग बिरंगे मील के पत्थर होते है- अलग-अलग जगह पर ये अपना रंग बदल लेते है

मील के पत्थर एक प्रकार का पत्थर हैं जो हमें बताता हैं कि निश्चित स्थान से हमारा गंतव्य कितना दूर है- भारत में सभी सड़कों पर एक जैसे मील के पत्थर नहीं होते है: ये निर्भर करता है हाईवे पर जैसे कि राष्ट्रीय राजमार्ग, राज्य राजमार्ग, जिला और गांव की सड़कों के लिए अलग-अलग रंग की पट्टियों वाले पत्थर होते है-

mile stones

1. मील के पत्थर पर पीले रंग की पट्टी

सड़क पर चलते वक्त या ड्राइव करते वक्त किनारे में एक ऐसा पत्थर दिखे जिसका उपरी हिस्सा पीले रंग का हो तो समझ जाएये की आप नेशनल हाईवे या राष्ट्रीय राजमार्ग पर चल रहे हैं- इससे यह पता चलता है की पीले रंग का पेंटेड माइलस्टोन या मील का पत्थर भारत में सिर्फ राष्ट्रीय राजमार्ग पर ही लगाए जाते हैं-

राष्ट्रीय राजमार्ग (NH): ये भारत का प्रमुख राजमार्ग हैं जो सभी शहरों और राज्यों को कनेक्टिविटी प्रदान करता हैं- NH को भारत सरकार (यानी NHAI) द्वारा अनुरक्षण किया जाता है- राष्ट्रीय राजमार्ग 70,000 किलोमीटर से भी अधिक लंबा होता है और इन हाईवों के द्वारा उत्तर-दक्षिण – पूर्व-पश्चिम कॉरिडोर (NS-EW corridor) और Golden Quadrilateral (GQ) भी बनते हैं-

उत्तर-दक्षिण कोरिडोर: जम्मू एवं कश्मीर में श्रीनगर से भारत के दक्षिणी सिरे यानी कन्याकुमारी तक फैला हुआ है- इस प्रमुख सड़क की लंबाई 4000 किलोमीटर है-

पूर्व-पश्चिम कॉरीडोर : गुजरात में पोरबंदर को असम में सिलचर के साथ जोड़ता है और इस सड़क की कुल लंबाई 3300 कि-मी- है

Golden Quadrilateral (GQ): भारत में चार महानगरों को जोड़ने वाली राजमार्ग नेटवर्क है – दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता- GQ की कुल लंबाई 5846 किमी है-

golden quadrilateral

2. मील के पत्थर पर हरे रंग की पट्टी

जब आपको सड़क पर हरे रंग का मील का पत्थर दिखाई दे तो समझ जाइए की आप राष्ट्रीय राजमार्ग पर नहीं बल्कि राज्य राजमार्ग या स्टेट हाईवे पर चल रहे हैं- भारत में जब सड़कों का निर्माण राज्य द्वारा होता है तो हरे रंग के माइलस्टोन या मील के पत्थर लगाए जाते हैं और इन सड़कों की देखभाल पूर्ण रूप से राज्य ही करती हैं-

राज्य राजमार्ग (SH) : राज्य राजमार्गों की लंबाई लगभग 150,000 किमी होती है और राज्यों द्वारा प्रत्येक राज्य में प्रवेश और शहरों में अंतर-संपर्क स्थापित करने के लिए प्रबंधित किया जाता है-

3. मील के पत्थर पर काले, नीले या सफेद रंग की पट्टी

जब आपको सड़क पर काले, नीले या सफेद रंग की पट्टी वाला माइलस्टोन दिखे तो समझ जाइए की आप किसी बड़े शहर या जिले में आ गए हैं- साथ ही वह सड़क आने वाले जिले के नियंत्रण में आती है- इस सड़क की देखभाल उसी शहर के प्रशासन द्वारा ही की जाती है-

4. मील के पत्थर पर नारंगी रंग की पट्टी

जब आपको सड़क के किनारे नारंगी रंग की पट्टी वाला माइलस्टोन या मील का पत्थर दिखता है तो समझ जाइए की आप किसी गाव या फिर गाव की सड़क पर हैं- यह पट्टी प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना रोड का प्रतिनिधित्व करती है-

भारत में हाईवे पर माइलस्टोन या फिर मील के पत्थर का रंगीन होना विभिन्न प्रकार के हाईवे के बारें में बताता हैं और साथ ही सही दिशा का भी ज्ञात कराता हैं

« Previous Next Fact »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

Tricks

Find Tricks That helps You in Remember complicated things on finger Tips.

Learn More

सुझाव और योगदान

अपने सुझाव देने के लिए हमारी सेवा में सुधार लाने और हमारे साथ अपने प्रश्नों और नोट्स योगदान करने के लिए यहाँ क्लिक करें

सहयोग

   

सुझाव

Share